#undefined

bolkar speaker

मानसिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वच्छता क्या है?

Mansik Svasthya Aur Mansik Svachta Kya Hai
Rakesh Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Rakesh जी का जवाब
👨‍🏫 Teacher.
1:18
सुना है कि मानसिक स्वास्थ्य और मानसिक के स्वच्छता क्या है तो मैं बात कर लूंगा मानसिक स्वास्थ्य के बारे में अगर हमारा मानसिक स्वास्थ रहेगा तभी हम भी कोई काम जो है बेहतर तरीके से कर पाएंगे जैसे इतना मूर्तियां खुश रहना यह सब मानसिक स्वास्थ्य का ही कारण है अगर आपका मानसिक स्वास्थ्य अच्छा है तो आप बिल्कुल यह तनाव मुक्त रहेंगे खुश रहेंगे और वही बात कर एक दूसरा पहलू मानसिक स्वच्छता का तो यदि हमारा मानसिक स्वक्ष नहीं है तक कई तरह की बातें अनुसुइया चीज हमारे मन में आते हैं और कभी-कभी होता है कि मन और बुद्धि में टक्कर होती है मन कहता है कि यह काम करे लेकिन बुझी कहता है कि नहीं यह काम करना हमारे फेवर में नहीं है तो कभी-कभी इसमें लड़ाई होती है और जो प्रबल होता है उसकी जीत होती है तो हम सभी यह भी जानते हैं कि हर खुश रहने की कोशिश करता है लेकिन जिंदगी की आपाधापी ना चाहते हुए भी तनाव का सामना करना पड़ता है जो मानसिक स्वास्थ्य संबंधित हो सकता है कि मानसिक के स्वास्थ्य जो है अच्छा नहीं है तनाव परिवार के सामाजिक सरोकार की वजह से ही नहीं छोटी-छोटी बातों को भी हो सकता है
Suna hai ki maanasik svaasthy aur maanasik ke svachchhata kya hai to main baat kar loonga maanasik svaasthy ke baare mein agar hamaara maanasik svaasth rahega tabhee ham bhee koee kaam jo hai behatar tareeke se kar paenge jaise itana moortiyaan khush rahana yah sab maanasik svaasthy ka hee kaaran hai agar aapaka maanasik svaasthy achchha hai to aap bilkul yah tanaav mukt rahenge khush rahenge aur vahee baat kar ek doosara pahaloo maanasik svachchhata ka to yadi hamaara maanasik svaksh nahin hai tak kaee tarah kee baaten anusuiya cheej hamaare man mein aate hain aur kabhee-kabhee hota hai ki man aur buddhi mein takkar hotee hai man kahata hai ki yah kaam kare lekin bujhee kahata hai ki nahin yah kaam karana hamaare phevar mein nahin hai to kabhee-kabhee isamen ladaee hotee hai aur jo prabal hota hai usakee jeet hotee hai to ham sabhee yah bhee jaanate hain ki har khush rahane kee koshish karata hai lekin jindagee kee aapaadhaapee na chaahate hue bhee tanaav ka saamana karana padata hai jo maanasik svaasthy sambandhit ho sakata hai ki maanasik ke svaasthy jo hai achchha nahin hai tanaav parivaar ke saamaajik sarokaar kee vajah se hee nahin chhotee-chhotee baaton ko bhee ho sakata hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
मानसिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वच्छता क्या है?Mansik Svasthya Aur Mansik Svachta Kya Hai
Manju Bolkar App
Top Speaker,Level 88
सुनिए Manju जी का जवाब
Unknown
1:47
बहुत ही खूब आपने पर प्रश्न पूछा है कि मानसिक स्वास्थ्य मानसिक स्वच्छता क्या है तो दिखी शरीर को चुस्त बनाने के लिए हम कसरत करते हैं शारीरिक व्यायाम करते हैं तो इससे शरीर तो फिट रहता है लेकिन मांग बंद करके मानसिंह की भी जरूरत होती है तो एक व्यक्ति को सही तरीके से सोच अच्छी जिंदगी जीने के लिए मानसिक स्वास्थ्य और स्वच्छता होना बेहद जरूरी है या मानसिक स्वास्थ्य मतलब आप अगर बहुत ज्यादा तनाव की शिकार है तो आप सही तरीके से कार्य नहीं कर पाओगे आप सही ढंग से आप सोच नहीं पाओगे रात को नींद भी नहीं आएगी अगर बहुत ज्यादा तनाव हो जाता है तो इससे मुक्त होना ही मानसिक स्वस्थ रहना होता है इसके लिए आपको मेडिटेशन योगा यह सब चीज है जो मानसिक स्वस्थ स्वास्थ्य प्रदान करती है अच्छी बातें सोचना भी मानसिक स्वच्छता के बारे में बात करते हैं तो देखी बहुत से लोग हैं जो अपने मन में गलत भावनाएं लेकर घूमते हैं यह कहीं ना कहीं वह खुद को परेशानी में डाल देते हैं तो दूसरों के लिए गलत भावनाएं और बहुत सारी ऐसी चीजें सोचते हैं जो उनको सोचना नहीं चाहिए गलत होता है तो यह होने की वजह से उनका मन जो है और शुद्ध नहीं होता है तो यह साफ करना जरूरी होता है इसे ही मानसिक स्वच्छता कहते हैं तो मन को साफ रखना ही मानसिक स्वच्छता कहते हैं आशा करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया धन्यवाद
Bahut hee khoob aapane par prashn poochha hai ki maanasik svaasthy maanasik svachchhata kya hai to dikhee shareer ko chust banaane ke lie ham kasarat karate hain shaareerik vyaayaam karate hain to isase shareer to phit rahata hai lekin maang band karake maanasinh kee bhee jaroorat hotee hai to ek vyakti ko sahee tareeke se soch achchhee jindagee jeene ke lie maanasik svaasthy aur svachchhata hona behad jarooree hai ya maanasik svaasthy matalab aap agar bahut jyaada tanaav kee shikaar hai to aap sahee tareeke se kaary nahin kar paoge aap sahee dhang se aap soch nahin paoge raat ko neend bhee nahin aaegee agar bahut jyaada tanaav ho jaata hai to isase mukt hona hee maanasik svasth rahana hota hai isake lie aapako mediteshan yoga yah sab cheej hai jo maanasik svasth svaasthy pradaan karatee hai achchhee baaten sochana bhee maanasik svachchhata ke baare mein baat karate hain to dekhee bahut se log hain jo apane man mein galat bhaavanaen lekar ghoomate hain yah kaheen na kaheen vah khud ko pareshaanee mein daal dete hain to doosaron ke lie galat bhaavanaen aur bahut saaree aisee cheejen sochate hain jo unako sochana nahin chaahie galat hota hai to yah hone kee vajah se unaka man jo hai aur shuddh nahin hota hai to yah saaph karana jarooree hota hai ise hee maanasik svachchhata kahate hain to man ko saaph rakhana hee maanasik svachchhata kahate hain aasha karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मानसिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वच्छता क्या है मानसिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वच्छता
URL copied to clipboard