#जीवन शैली

अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:20
पूछा गया है कि अगर किसी व्यक्ति को अचानक नकारात्मक विचार आने लग जाए तो इसका क्या मतलब हो सकता है देखिए मैं तो यही कहूंगा कि नकारात्मक जो विचार है उसका जो मुख्य कारण हमारी मानसिक स्थित होती है हम देखें अक्सर स्थितियों के प्रति धारणा बना कर अपने विचार उत्पन्न करते हैं ऐसे विचार रखे हमेशा हमारे विरुद्ध जाते हैं किसी एक घटना व्यक्ति या स्थित को आधार मानकर हम उसी आधार पर देखिए पूर्वाग्रह बना लेते हैं ऐसे विचारों के साथ दिखी हमेशा मेरे साथ क्यों होता है मैं कभी सही काम नहीं करता मैं हमेशा अकेला रहूंगा इस प्रकार के वाक्य जुड़े रहते हैं नवरात्रों में चार और भाव दिमाग को देखिए खास निर्णय लेने के लिए एप्स आते हैं यह विचार मंच के कब्जा करके दूसरे विचारों को आने से रोक देते हैं हम केवल देखो खुद को बचाने पर फोकस होकर फैसला नहीं लगते हैं यह नकारात्मक विचार के हावी होने के कारण हम संकट के समय जान नहीं पाते कि स्थितियां इतनी बुरी नहीं है जितनी दिख रही हैं संकट को पहचानने या से बचने के लिए नशा का विकास जरूरी होते हैं क्योंकि हमारे विशेष जैविक विकास क्रम का हीरे के साथ चार बातें देखिए हमारे शरीर और हमारे जीवन में नकारात्मक विचार उत्पन्न करते हैं यह भावनाएं दूसरों पर दोषारोपण करने और अपने अनुभव के लिए स्वयं को जिम्मेदार ठहराने से आती है कि यदि हम सभी अपने जीवन में हर बात के लिए जिम्मेदार है तो हम किसी प्रति के दोषारोपण नहीं कर सकते बाहर जो भी घट रहा है वह केवल देखिए हमारे आंतरिक विचारों का एक फायदा है हमारे विश्वास ही लोगों को देखिए हमसे किसी प्रकार का व्यवहार करने के लिए आमंत्रित करता है यदि आप खुद को यह कहते पाए हर कोई मेरे साथ ऐसा करता है मेरी आलोचना करता है कभी मेरी मदद नहीं करता मुझे पायदान की तरह संभाल करता है मेरे साथ दीवार करता है तो देखिए यह नहीं कहूंगा कि आप की प्रवृत्ति है आपके अंदर ऐसे विचार है जो ऐसे व्यवहार प्रदर्शित करने के लिए लोगों को आकर्षित करते हैं तो इसका मतलब आप ऐसे ही समझ सकते हैं जय हिंद जय भारत

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • नकारात्मक सोच से छुटकारा,नकारात्मक विचारों को दूर करने के लिए,मन में नकारात्मक विचार क्यों आते है
URL copied to clipboard