#undefined

Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:17
लिकोरिया की साइड इफेक्ट्स ज्यादा देखने को मिल रहे हैं नहीं तो कल मिल रहा है मूवी सकता है क्योंकि महिलाएं रेस्ट नहीं कर पाती वह घर आती है किचन के काम में लग जाते हैं तो सोते हैं कि मैं गश्त करने का मौका मिल जाता है
Likoriya kee said iphekts jyaada dekhane ko mil rahe hain nahin to kal mil raha hai moovee sakata hai kyonki mahilaen rest nahin kar paatee vah ghar aatee hai kichan ke kaam mein lag jaate hain to sote hain ki main gasht karane ka mauka mil jaata hai

और जवाब सुनें

Manish Kumar  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Manish जी का जवाब
Defence
4:57
नमस्कार मैडम आपका मनीष और आज का प्रश्न है क्या महिलाओं में कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट ज्यादा दिखाई दे रहे हैं हां ज्यादा दिखाई दे क्यों तो चलिए हम जानते हैं कि क्यों महिलाओं में जो है कोरोनावायरस के साइड इफेक्ट ज्यादा दिखाई दे रहे हैं लेकिन सभी जानते हैं कि करो ना मैं प्रति अत्यधिक संवेदनशील इसका कारण है कि महिलाओं में वैक्सीन के प्रति उनकी संवेदनशीलता अत्यधिक है क्योंकि महिलाओं का इम्यून सिस्टम तेज और यूटीवी एक्शन देता है चाहे वह कोरोनावायरस वैक्सीन हो महिलाओं का इम्यून सिस्टम हमेशा ही तेज और टीवी एक्शन देता है पुरुषों की तुलना में उसके बाद महिलाओं में पुरुषों की तुलना में एंटीबॉडी का निर्माण ज्यादा होता है महिलाओं की योनि की पावर प्रतिरक्षा तंत्र पुरुषों की तुलना में कहीं बेहतर होता है और हम तो जानते हैं कि महिलाओं में जो है एस्ट्रोजन हार्मोन पाया जाता है जो उनके ओरिजिनल से सिगरेट होता है जो उनके शरीर की कोशिकाओं को वायरस से लड़ने के लिए एक्टिवेट करता है और महिलाओं का शरीर में बीमारियों से लड़ने के लिए रिस्पांस तेज होता है इसलिए उनका इम्यून सिस्टम ताकतवर और रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है और कारण है कि कोरोनावायरस है वह पुरुष के एक्स क्रोमोजोम के इम्यून जींस जो tlr4 होता है उसी पर अटैक करता है और साथ ही साथ पुरुषों के फेफड़े और हिलता है साथ ही साथ उनके उड़ीसा टेस्टिस में मौजूद ace2 नामक एक प्रोटीन होता है उसी पर यह कोरोनावायरस अटैक करता है और यह जो है ace2 प्रोटीन महिलाओं में कम पाया जाता है तो जाहिर सी बात है कि कोरोनावायरस जो है पुरुषों की तुलना में महिलाओं के ace2 प्रोटीन पर कमेंट है खड़े जब वैक्सिंग वैक्सीन क्या है वैक्सीन जिस चीज का हम देते हैं उसी के वायरस को 1000000 मार कर दे दिया जाता है मतलब उसको हम बायोटेक्नोलॉजी भाषा में जो है अटैंयूएटेड वायरस को उसको बायोटेक्नोलॉजी मेथड से जो है उसको कमजोर करके भी करके वैक्सिंग के फोन में हमारे शरीर के शरीर के अंदर इंजेक्ट करते डाल देता है जो यही जो है वायरस हमारे शरीर में जाकर तेजो है अपना प्रिया करते हैं इसी के खिलाफ जो है हमारे शरीर के एंटीबॉडीज इनके खिलाफ प्रतिक्रिया करता है और यही क्रिया प्रतिक्रिया के दौरान जो है हमारे शरीर जो है एक सिम्टम्स पैदा करता है जो किसी ने कब का पी के रूप में तो किसी ने हल्का बुखार के रूप में तो किसी में जो है सर दर्द के रूप में तो किसी में बदन दर्द के रूप में तो किसी में कमजोरी के रूप में देखिए कि इसका हम अगर सिंपल सी यह तो हमने अभी तक जो भी बताया वह बायोलॉजी के अनुसार संघ के अनुसार बताया कि पुरुष जो है बाहर में ज्यादा घूमते हैं तो कोरोनावायरस का जो है अटैक महिलाओं से पहले यह पुरुष पर होगा और यह भी खराब होता है कि कभी-कभी जैसे हमें ऑलरेडी कोरोनावायरस बॉडीज तैयार है हमको पता नहीं जब तक टेस्ट अभी मैं तो होता नहीं पता नहीं चलता है कि हमारे शरीर में कोरोनावायरस आया कि नहीं तो यह भी हो सकता है कि पुरुषों में जो है कोरोनावायरस की है तो पुरुषों से प्रभावित होंगे तो उसमें जो है पहले से एंटीबॉडीज बन गया है तो यह भी हो सकता है कि उनके जो है खिलाफ वैक्सीन जो है ज्यादा असर नहीं दिखा रहा है परंतु स्त्रियों में जो है या ज्यादा दिखा रहा है और उसके हमेशा डालते रहते हैं घूमते फिरते रहते हैं तुम कश्मीर में जो मजबूत रहता है और यह भी हो सकता है कि इसलिए जो है घर में जाकर के लिए शारीरिक और आंतरिक रूप से कमजोर हो जाती है

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स क्या हैं,महिलाओं में साइड इफेक्‍ट ,Corona Vaccine Shows Dangerous Side Effects
URL copied to clipboard