#जीवन शैली

Manish Kumar  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Manish जी का जवाब
Defence
4:58
नमस्कार मैं हूं मनीष कुमार और आप मुझे सुन रहे हैं बोलकर एप्लीकेशन पर इसलिए बोल रहा हूं कि हम भारत देश में रहते हैं और हम सभी जानते हैं कि कर्म प्रधान विश्व करि राखा जो 2000 से भारत का प्रधान विश्व करि राखा जो जस करहिं सो तस फल कर्म प्रधान है यहां पर कर्म की प्रधानता होती है कर्म क्या है कोई भी काम करना है हंसना बोलना खाना पीना चलना दोनों सोना तू मंजिल उन्हीं को मिलती है मंजिल उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है मंजिल उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है पंख से कुछ नहीं होता पंख से कुछ नहीं होता हौसलों से उड़ान होती है देखिए अगर आपके लाइफ में पैसा नहीं है आप ऐसा नहीं कमा रहे हो तो यह सोचो कि जो पैसा कमा रहा है उसके पास भी दो हाथ है दो पैर है 206 हड्डियां है आपके पास भी है हम सभी जानते हैं कि हमारे देश के जितने भी अमीर व्यक्ति हैं उनकी पढ़ाई कितनी है यह सबको पता है धीरूभाई अंबानी अनिल अंबानी लक्ष्मी मित्तल मुकेश अंबानी नीता अंबानी तू ही लोग उस जमाने में उनकी पढ़ाई उतनी नहीं थी परंतु करना 1 एकड़ में से पैसा कमा रहे हैं तो उनके भी शरीर में उतना ही हड्डियां है जितना आपके और हमारे यदि आंकड़ों नहीं करोगे तो पैसा तो कोई घर मिलाकर नहीं देगा ना सिर्फ पढ़ाई कर लेना से पैसा नहीं कमा सकते हैं पढ़ाई के साथ-साथ आपके अंदर होनी चाहिए कोई भी हो ना जैसे ड्राइविंग पेंटिंग सिलाई कढ़ाई का काम आना चाहिए या इलेक्ट्रॉनिक्स का काम आना चाहिए हेयर कटिंग करके भी अब पैसे कमा सकते हैं मसाज करके भी अब पैसे कमा सकते हैं पूजा-पाठ कर के भी पैसे कमा सकते हैं आज के जमाने में ऑनलाइन काम हो गया है ऑनलाइन आप कोई भी आर्डर एक जगह से दूसरी जगह डिलीवरी हुआ है कभी काम कर सकते हैं खाना अच्छा बनाने आता है तो आप खाना बना कर भी जो है पैसा कमा सकते हैं आप को पढ़ाने आता है तो आप होम ट्यूशन प्राइवेट ट्यूशन जरूरी नहीं गोमेंट सभी सर को नहीं मिली तब भूखे नहीं मर जाओगे आप जो है पढ़ा कर दीजिए पैसे कमा सकते हो कुछ नहीं है आपके पास जमीन है तो आप जो है बकरी पालन मुर्गी पालन मत्स्य पालन पौधे लगाकर आजकल तो कोई भी अच्छे दामों में बिकने लगे हैं एक गुलाब का फूल का कीमत ₹10 ₹20 हो गया है आप अपनी जमीन में गुलाब लगा दीजिए गेंदा का फूल लगा दीजिए आज क्या करें कुछ भी नहीं ऐसा चीज बचा है जो नहीं दिखता हो ठीक है तो पैसा कमाने के लिए जो है ना चाहिए सिर्फ हाथ पर हाथ रखने से तो पैसा घर पर नहीं आ जाएगा ना एक कुत्ता भी है वह भी जो है अपना दो वक्त की रोटी जुगाड़ कर लेता है और हम सब इंसान हैं हमारे पास दिमाग है और हम सभी जानते हैं कि 8400000 योनियों में जो है सबसे श्रेष्ठ जो योनि है वह मानव योनि है क्योंकि मानव में जो है सोचने समझने की चीज की शक्ति होती है परंतु जानवरों में शक्ति नहीं होती है इसलिए इंसान को सर्वश्रेष्ठ माना गया है क्योंकि इंसान में सोचने विचारने की जो है शक्ति होती है तो क्यों डरे कि जिंदगी में क्या होगा हर वक्त क्यों सोचें कि बुरा होगा बढ़ते रहो बस मंजिल की ओर हमें कुछ मिले या ना मिले तजुर्बा तो नया होगा जय हिंद दोस्तों
Namaskaar main hoon maneesh kumaar aur aap mujhe sun rahe hain bolakar epleekeshan par isalie bol raha hoon ki ham bhaarat desh mein rahate hain aur ham sabhee jaanate hain ki karm pradhaan vishv kari raakha jo 2000 se bhaarat ka pradhaan vishv kari raakha jo jas karahin so tas phal karm pradhaan hai yahaan par karm kee pradhaanata hotee hai karm kya hai koee bhee kaam karana hai hansana bolana khaana peena chalana donon sona too manjil unheen ko milatee hai manjil unheen ko milatee hai jinake sapanon mein jaan hotee hai manjil unheen ko milatee hai jinake sapanon mein jaan hotee hai pankh se kuchh nahin hota pankh se kuchh nahin hota hausalon se udaan hotee hai dekhie agar aapake laiph mein paisa nahin hai aap aisa nahin kama rahe ho to yah socho ki jo paisa kama raha hai usake paas bhee do haath hai do pair hai 206 haddiyaan hai aapake paas bhee hai ham sabhee jaanate hain ki hamaare desh ke jitane bhee ameer vyakti hain unakee padhaee kitanee hai yah sabako pata hai dheeroobhaee ambaanee anil ambaanee lakshmee mittal mukesh ambaanee neeta ambaanee too hee log us jamaane mein unakee padhaee utanee nahin thee parantu karana 1 ekad mein se paisa kama rahe hain to unake bhee shareer mein utana hee haddiyaan hai jitana aapake aur hamaare yadi aankadon nahin karoge to paisa to koee ghar milaakar nahin dega na sirph padhaee kar lena se paisa nahin kama sakate hain padhaee ke saath-saath aapake andar honee chaahie koee bhee ho na jaise draiving penting silaee kadhaee ka kaam aana chaahie ya ilektroniks ka kaam aana chaahie heyar kating karake bhee ab paise kama sakate hain masaaj karake bhee ab paise kama sakate hain pooja-paath kar ke bhee paise kama sakate hain aaj ke jamaane mein onalain kaam ho gaya hai onalain aap koee bhee aardar ek jagah se doosaree jagah dileevaree hua hai kabhee kaam kar sakate hain khaana achchha banaane aata hai to aap khaana bana kar bhee jo hai paisa kama sakate hain aap ko padhaane aata hai to aap hom tyooshan praivet tyooshan jarooree nahin goment sabhee sar ko nahin milee tab bhookhe nahin mar jaoge aap jo hai padha kar deejie paise kama sakate ho kuchh nahin hai aapake paas jameen hai to aap jo hai bakaree paalan murgee paalan matsy paalan paudhe lagaakar aajakal to koee bhee achchhe daamon mein bikane lage hain ek gulaab ka phool ka keemat ₹10 ₹20 ho gaya hai aap apanee jameen mein gulaab laga deejie genda ka phool laga deejie aaj kya karen kuchh bhee nahin aisa cheej bacha hai jo nahin dikhata ho theek hai to paisa kamaane ke lie jo hai na chaahie sirph haath par haath rakhane se to paisa ghar par nahin aa jaega na ek kutta bhee hai vah bhee jo hai apana do vakt kee rotee jugaad kar leta hai aur ham sab insaan hain hamaare paas dimaag hai aur ham sabhee jaanate hain ki 8400000 yoniyon mein jo hai sabase shreshth jo yoni hai vah maanav yoni hai kyonki maanav mein jo hai sochane samajhane kee cheej kee shakti hotee hai parantu jaanavaron mein shakti nahin hotee hai isalie insaan ko sarvashreshth maana gaya hai kyonki insaan mein sochane vichaarane kee jo hai shakti hotee hai to kyon dare ki jindagee mein kya hoga har vakt kyon sochen ki bura hoga badhate raho bas manjil kee or hamen kuchh mile ya na mile tajurba to naya hoga jay hind doston

और जवाब सुनें

रंगन Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए रंगन जी का जवाब
Business,Student🤓
1:04
आपके सवाल के अंदर ही जवाब छुपा हुआ है कि सबकुछ आसानी से मिलता है ज्यादा मेहनत नहीं करना पड़ता है ना कुछ ऑनलाइन हो ना करना चाहती है जी घर बैठे मिल जाता है वो गाड़ी वाली टैक्सी वगैरह हम लोग को बजट हाथी का के रूप में नहीं पता लग जाए तो क्या वगैरह कर सकते हैं और बहुत आसानी से मान लीजिए दुकान में जाके हम लोग को भी नहीं पता भी चाहे तो ऑनलाइन हो तो मुझसे इतना आसान हो चुका है अगर इतना आसानी होगी चुका है तो फिर भी इंसान का काम काम काम कम हो जाएगा ऑटोमेटिक वर्कर भी कम होते जाएंगे अगर वर्कर कम होते जाएगा ऑटोमेटिक माय था इनकम करने का शोर भी कम होता जाएगा वही तो समझ में आता है तो पैसा कमाने के लिए मुश्किल होता है इंसान बहुत बढ़ चुके हैं पूरा वर्ल्ड में ठीक है और उसी हिसाब से काम वही बचा नहीं है जब काम ज्यादा बचेगा नहीं यह तो फिर कैसे हम लोग ज्यादा पहनते हैं

Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:36
मैंने इतनी मुश्किल से होता जो कि आज के आदमी है अबला नारी सफल हुई थी जरुरी नहीं हर हर कोई चीज है जिसके बारे में प्राइस समस्तीपुर बिहार बोर्ड क्वेश्चन पेपर जीके आंसर दीजिए
Mainne itanee mushkil se hota jo ki aaj ke aadamee hai abala naaree saphal huee thee jaruree nahin har har koee cheej hai jisake baare mein prais samasteepur bihaar bord kveshchan pepar jeeke aansar deejie

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:40
स्वागत है आपका आपका फेसबुक पैसा कमाना है इतना तो होता है कि आज कि आदमी के रूप में हमारे पास हर चीज लेबल है 25 हमारे पास है फिर भी पैसा कमाना कठिन क्यों है तो यह प्रश्न बैंक से पैसा कमाना कठिन होता है क्योंकि पैसे आसानी से नहीं मिलते हैं जब कोई मेहनत करता है कोई नौकरी करता है और दिन-रात अपना खून पसीना एक करता है तभी पैसे मिलते हैं ऐसे इतनी आसानी से नहीं मिलती हमें काम धंधा करना पड़ता है भले हमारे पास कितनी ही साधन हो कितनी अच्छी लाइफ स्टाइल हो लेकिन फिर भी पैसा कमाना भाटी मेला भरा काम होता है धन्यवाद
Svaagat hai aapaka aapaka phesabuk paisa kamaana hai itana to hota hai ki aaj ki aadamee ke roop mein hamaare paas har cheej lebal hai 25 hamaare paas hai phir bhee paisa kamaana kathin kyon hai to yah prashn baink se paisa kamaana kathin hota hai kyonki paise aasaanee se nahin milate hain jab koee mehanat karata hai koee naukaree karata hai aur din-raat apana khoon paseena ek karata hai tabhee paise milate hain aise itanee aasaanee se nahin milatee hamen kaam dhandha karana padata hai bhale hamaare paas kitanee hee saadhan ho kitanee achchhee laiph stail ho lekin phir bhee paisa kamaana bhaatee mela bhara kaam hota hai dhanyavaad

DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
4:00
आपने का पैसा कमाना इतना मुश्किल क्यों होते हैं जबकि आज के आधुनिक युग में हमारे पास हर व्यक्ति जवाई बने हर वह साधन है जिससे पैसा कमा सकते हैं बिल्कुल सही आपने कहा क्या आप जानते हैं कि पैसा कमाना आप कुछ कह रहे हैं कि बहुत मुश्किल है उसके मूल कारण क्या है मूल कारण यह है कि हर इंसान पैसे की तरफ भागने लगा जब पैसे की तरफ भागने लगा है तो पैसा तू इतनी ही है ना घटना की सीमित है अब सीमित पैसे को पानी के लिए हजारों लाखों करोड़ों लोग दौड़ रहे हैं तो किसकी हिस्से आएगा पहले लोग इज्जत पाने की कोशिश करते थे मर्यादा कमाने की कोशिश करते थे सम्मान कमाने की कोशिश करते थे समाज में अपनापन कमाने की कोशिश करते थे मैट्रिक्स संबंध बनाने की कोशिश करते थे आज रात अध्यात्मिक ज्ञान प्राप्ति की कोशिश करते थे शेल्टर योग्यता से भागता की कोशिश करते थे तो वहां के पास होता था क्योंकि उसके पीछे नहीं दौड़ते थे आज आधुनिक संचार में साधन होते हुए सुविधाएं होते हुए भी पैसा कमाना मुश्किल हो गया है क्योंकि हर व्यक्ति अपने आपको कलाकार अपने आपको स्मार्ट अपने आप को जो कि अपने आप को जो है बहुत ज्यादा कुशल मानता की दौड़ में लाखों लोग को मिल जाता है वह पैसा कमाने का अचूक कुशलता की दौड़ में सिर्फ दौड़ता रहता दौड़ता रहता है पीछे छूट जाता है और वह इंसान वही काम ही खड़ा रहता है उसे ऐसा लगता है कि वह दौड़ रहा है वह दौड़ रहा है वह दौड़ रहा है जबकि समय दौड़ रहा है वह महान मत समझ उसके उत्तर को भी साधन मत समझिए मैं इस उत्तर के पीछे दार्शनिक था मनोवैज्ञानिक था और आज भी समाज एकता का परिचय दे रहा हूं आज हर इंसान बिना सनम के पैसा कमाने की कोशिश करता है जिसको अपना कर पैसा कमाना चाहता है तकनीक में अधिकांश तकनीकी अवैध अनैतिक है ऐसा सीमित नहीं नहीं कहूंगा कि खरबों रुपया छाप लो तो कमा लो नहीं उसे पैसा कमाना नहीं करते शर्म के बदले मिलने वाला प्रतिफल पैसा कमाना है हमारी योग्यता के बदले में मिलने वाला हमारा वेतन पैसा कमाना है हमारी व्यवसाय के बदले में मिलने वाला लाभ पैसा कमाना पैसा कमाना पैसा कमाना सभी लोग भाग रहे आप सभी लोग देख रहे हैं एक को देखकर दूसरा पीछे भाग रहा है लेकिन भागने से पहले ही सोचती कि आगे वाला क्यों भाग रहे और उसके भागने सूची क्या मिलाए जो मैं भी उसके पीछे भाग रहा हूं पहले सोचो कि आगे वाले को भागने से क्या मिला अगर उसको भागने से कुछ मिला तो मैं उसका नुकसान जरूर करूंगा बस यही जिस दिन बल बुद्धि विवेक जैन प्रयोग कर देगा पैसा आएगा पैसे के पीछे भागना नहीं पड़ेगा
Aapane ka paisa kamaana itana mushkil kyon hote hain jabaki aaj ke aadhunik yug mein hamaare paas har vyakti javaee bane har vah saadhan hai jisase paisa kama sakate hain bilkul sahee aapane kaha kya aap jaanate hain ki paisa kamaana aap kuchh kah rahe hain ki bahut mushkil hai usake mool kaaran kya hai mool kaaran yah hai ki har insaan paise kee taraph bhaagane laga jab paise kee taraph bhaagane laga hai to paisa too itanee hee hai na ghatana kee seemit hai ab seemit paise ko paanee ke lie hajaaron laakhon karodon log daud rahe hain to kisakee hisse aaega pahale log ijjat paane kee koshish karate the maryaada kamaane kee koshish karate the sammaan kamaane kee koshish karate the samaaj mein apanaapan kamaane kee koshish karate the maitriks sambandh banaane kee koshish karate the aaj raat adhyaatmik gyaan praapti kee koshish karate the sheltar yogyata se bhaagata kee koshish karate the to vahaan ke paas hota tha kyonki usake peechhe nahin daudate the aaj aadhunik sanchaar mein saadhan hote hue suvidhaen hote hue bhee paisa kamaana mushkil ho gaya hai kyonki har vyakti apane aapako kalaakaar apane aapako smaart apane aap ko jo ki apane aap ko jo hai bahut jyaada kushal maanata kee daud mein laakhon log ko mil jaata hai vah paisa kamaane ka achook kushalata kee daud mein sirph daudata rahata daudata rahata hai peechhe chhoot jaata hai aur vah insaan vahee kaam hee khada rahata hai use aisa lagata hai ki vah daud raha hai vah daud raha hai vah daud raha hai jabaki samay daud raha hai vah mahaan mat samajh usake uttar ko bhee saadhan mat samajhie main is uttar ke peechhe daarshanik tha manovaigyaanik tha aur aaj bhee samaaj ekata ka parichay de raha hoon aaj har insaan bina sanam ke paisa kamaane kee koshish karata hai jisako apana kar paisa kamaana chaahata hai takaneek mein adhikaansh takaneekee avaidh anaitik hai aisa seemit nahin nahin kahoonga ki kharabon rupaya chhaap lo to kama lo nahin use paisa kamaana nahin karate sharm ke badale milane vaala pratiphal paisa kamaana hai hamaaree yogyata ke badale mein milane vaala hamaara vetan paisa kamaana hai hamaaree vyavasaay ke badale mein milane vaala laabh paisa kamaana paisa kamaana paisa kamaana sabhee log bhaag rahe aap sabhee log dekh rahe hain ek ko dekhakar doosara peechhe bhaag raha hai lekin bhaagane se pahale hee sochatee ki aage vaala kyon bhaag rahe aur usake bhaagane soochee kya milae jo main bhee usake peechhe bhaag raha hoon pahale socho ki aage vaale ko bhaagane se kya mila agar usako bhaagane se kuchh mila to main usaka nukasaan jaroor karoonga bas yahee jis din bal buddhi vivek jain prayog kar dega paisa aaega paise ke peechhe bhaagana nahin padega

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:59
नमस्कार दोस्त लेकिन पैसा कमाना इतनी मुख इतना मुश्किल क्यों होता है जबकि आज के आधुनिक युग में हमारे पास हर वह चीज अवेलेबल है हर चीज आसान है लेकिन पैसा कमाना मुश्किल नहीं है मुश्किल है कि पैसे के प्रति हमारा नजरिया हमारा माइंड सहित पॉजिटिव नहीं होता है इसलिए हम पैसा नहीं कमा पाते हैं हमारे पास एक कमेंट और की कमी होती है हमारे पास एक रणनीति की कमी होती है हमें यह नहीं पता होता कि पैसा कैसे कमाया जाता है बहुत सारे लोग हैं जिनके पास बहुत कम ऑडियंस होती है फिर भी वह सोशल मीडिया से बहुत सारा पैसा जनरेट करते हैं इसके विपरीत बहुत सारे लोग मैंने ऐसे देखे हैं जिनके फॉलो वर्ष लाखों में होते हैं लेकिन उन्हें पता ही नहीं है कि पैसा आएगा कैसे इसलिए पहले यह पता करना पड़ता है कि पैसा कमाना किस प्रकार से पैसा कमाया जाता है उसके बाद पैसा कमाना बहुत आसान हो जाएगा धन्यवाद
Namaskaar dost lekin paisa kamaana itanee mukh itana mushkil kyon hota hai jabaki aaj ke aadhunik yug mein hamaare paas har vah cheej avelebal hai har cheej aasaan hai lekin paisa kamaana mushkil nahin hai mushkil hai ki paise ke prati hamaara najariya hamaara maind sahit pojitiv nahin hota hai isalie ham paisa nahin kama paate hain hamaare paas ek kament aur kee kamee hotee hai hamaare paas ek rananeeti kee kamee hotee hai hamen yah nahin pata hota ki paisa kaise kamaaya jaata hai bahut saare log hain jinake paas bahut kam odiyans hotee hai phir bhee vah soshal meediya se bahut saara paisa janaret karate hain isake vipareet bahut saare log mainne aise dekhe hain jinake pholo varsh laakhon mein hote hain lekin unhen pata hee nahin hai ki paisa aaega kaise isalie pahale yah pata karana padata hai ki paisa kamaana kis prakaar se paisa kamaaya jaata hai usake baad paisa kamaana bahut aasaan ho jaega dhanyavaad

Rakesh Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Rakesh जी का जवाब
👨‍🏫 Teacher.
1:08
बहुत अच्छा अपने है प्रश्न किया है कि आजकल इतना मुश्किल क्यों है जबकि सारे चीज अवेलेबल है तो देखिए यह तो बात जरूर है लेकिन अगर कहीं भी या किसी भी काम को अगर आपको करना है तो आपके पास तरकीब हुनर होना चाहिए और यह भी है कि दुनिया में बहुत सारे चीज है कि हम उसको कैसे करें और किस तरीके से करें कई बार ऐसा होता है कि हमारे आसपास भी बहुत सारा टैलेंट होता है या हुनर होता है बहुत सारा जब होता है बशर्ते कि हम उससे जॉब के लिए हम पर्फेक्ट है या नहीं है और यही वजह है कि कुछ लोग परफेक्ट नहीं हो पाते हैं तो देश विदेश या अन्य जगह जाते हैं या अपने घरों से बहुत दूर जाते हैं काम की तलाश में और एक यह भी समस्या हमारे देश में है कि हुनर आते हुए भी उस तरह की जॉब नहीं मिल पाती हैं तक कई चीजों का मिश्रण है जिसके वजह से नौकरियां जो है खोजना आसान नहीं होता है जिसकी वजह से इस प्रश्न के अनुरूप समस्या हमारे साथ या आपके साथ उत्पन्न होती है
Bahut achchha apane hai prashn kiya hai ki aajakal itana mushkil kyon hai jabaki saare cheej avelebal hai to dekhie yah to baat jaroor hai lekin agar kaheen bhee ya kisee bhee kaam ko agar aapako karana hai to aapake paas tarakeeb hunar hona chaahie aur yah bhee hai ki duniya mein bahut saare cheej hai ki ham usako kaise karen aur kis tareeke se karen kaee baar aisa hota hai ki hamaare aasapaas bhee bahut saara tailent hota hai ya hunar hota hai bahut saara jab hota hai basharte ki ham usase job ke lie ham parphekt hai ya nahin hai aur yahee vajah hai ki kuchh log paraphekt nahin ho paate hain to desh videsh ya any jagah jaate hain ya apane gharon se bahut door jaate hain kaam kee talaash mein aur ek yah bhee samasya hamaare desh mein hai ki hunar aate hue bhee us tarah kee job nahin mil paatee hain tak kaee cheejon ka mishran hai jisake vajah se naukariyaan jo hai khojana aasaan nahin hota hai jisakee vajah se is prashn ke anuroop samasya hamaare saath ya aapake saath utpann hotee hai

अभिषेक शुक्ला  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए अभिषेक जी का जवाब
Motivational speaker
1:54
दोस्तों आपको सवाल बहुत अच्छा है कि पैसे कमाना आज के समय में कितना मुश्किल है लेकिन यदि कोई भी चीज हमें खरीद नहीं होती है उस में टाइम नहीं लगता तो तुम्हें नहीं लगता लेकिन आज के युग में जो है तो पैसे कमाने इतना मुश्किल क्यों हो गया लेकिन पैसे कमाना बड़ी बात नहीं है दोस्तों ऐसे का संजोए रखना बड़ी बात होती है उसे किस प्रकार कमाना है मैं आप पर निर्भर करता है सही गलत कार्य किस प्रकार आप जिस पैसे कमा रहे हैं उस पर निर्भर करता है दोस्तों पैसे कमाने इतना मुश्किल नहीं है ऐसे देखिए मेहनत के बल पर कमाए जाते हैं बुद्धि माता के बल पर कमाए जाते हैं यदि मेहनत के बल पर कोई इंसान को मार रहा है तो उसके पास हो सकती है बुद्धिमता की कमी नहीं होगी होगी तो भी वह मेहनत करके उसे बल पर बलवान व्यक्ति है तुम्हें बंद करके काम आ रहा है जो व्यक्ति के पास बाल नहीं है कहने का मतलब बल है थोड़ा बहुत भी मैं अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करके आज पैसे कमा रहा तो देखिए भगवान ने सभी को जो है तो उससे सब चीज को जो है तो उन्हें हर एक गुण को दिया है जिससे कि वह यह ना समझे अपने आपको कि वह पैसे नहीं कमा सकते हैं लेकिन हां अगर किसी व्यक्ति में यदि आलस्य की भावना याद उसका कुछ निवारण नहीं है बस केवल इतना ही है कि वह अपने कठिन परिश्रम से जो है तुम पैसे कमा सकते हैं कई हाल ही में ऐसे भी हमें लोग दिखते हैं जो गलत है वह पैसे नहीं कमाना चाहते उनके पास हाथ पैर सब कुछ है सही सलामत सब कुछ है लेकिन फिर भी वाला स्टेशन पर भीख मांगते में कैसे चलेगा दोस्तों कई ऐसे भी होते हैं जो विकलांग होते हैं और वह जुझारू होते हैं अपने काम के प्रति काम से प्यार कीजिए दोस्तों पैसे तो नहीं कब जब आपका हमसे प्यार करेंगे तो पैसे आपके आप अपने आप आएंगे तो इन चीजों को ध्यान रखें खुश रहे दोस्तों धन्यवाद
Doston aapako savaal bahut achchha hai ki paise kamaana aaj ke samay mein kitana mushkil hai lekin yadi koee bhee cheej hamen khareed nahin hotee hai us mein taim nahin lagata to tumhen nahin lagata lekin aaj ke yug mein jo hai to paise kamaane itana mushkil kyon ho gaya lekin paise kamaana badee baat nahin hai doston aise ka sanjoe rakhana badee baat hotee hai use kis prakaar kamaana hai main aap par nirbhar karata hai sahee galat kaary kis prakaar aap jis paise kama rahe hain us par nirbhar karata hai doston paise kamaane itana mushkil nahin hai aise dekhie mehanat ke bal par kamae jaate hain buddhi maata ke bal par kamae jaate hain yadi mehanat ke bal par koee insaan ko maar raha hai to usake paas ho sakatee hai buddhimata kee kamee nahin hogee hogee to bhee vah mehanat karake use bal par balavaan vyakti hai tumhen band karake kaam aa raha hai jo vyakti ke paas baal nahin hai kahane ka matalab bal hai thoda bahut bhee main apanee buddhi ka istemaal karake aaj paise kama raha to dekhie bhagavaan ne sabhee ko jo hai to usase sab cheej ko jo hai to unhen har ek gun ko diya hai jisase ki vah yah na samajhe apane aapako ki vah paise nahin kama sakate hain lekin haan agar kisee vyakti mein yadi aalasy kee bhaavana yaad usaka kuchh nivaaran nahin hai bas keval itana hee hai ki vah apane kathin parishram se jo hai tum paise kama sakate hain kaee haal hee mein aise bhee hamen log dikhate hain jo galat hai vah paise nahin kamaana chaahate unake paas haath pair sab kuchh hai sahee salaamat sab kuchh hai lekin phir bhee vaala steshan par bheekh maangate mein kaise chalega doston kaee aise bhee hote hain jo vikalaang hote hain aur vah jujhaaroo hote hain apane kaam ke prati kaam se pyaar keejie doston paise to nahin kab jab aapaka hamase pyaar karenge to paise aapake aap apane aap aaenge to in cheejon ko dhyaan rakhen khush rahe doston dhanyavaad

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:14
हिंदी गाना जाता सवाल है कि पैसा कमाना है इतना में क्यों होता है जबकि आजकल के जमाने में हर एक चीज हमारे पास अवेलेबल है आपने पूछा तो देखिए अगर सपोज आपको कोई काम करना वहां पर 10 सीट है आप तो 10 लोग यहां पर मतलबी लोग आप लोग प्रिपेयर होकर जा रही थी उसके पास आपने कहा कि सबके पास है रक्षिता में लोगों के पास हो छठी के बीच के पास के पास अवेलेबल है तो क्या होगा इसके अलावा जितने लोग उठ गए उनका उनके साथ क्या होगा तेरी बात है बहुत ज्यादा है बढ़ती जा रही है हिसाब से नहीं बढ़ रहा है आप आपका आपकी इन द पॉपुलेशन होता ज्यादा बढ़ गई है और काम आपका बहुत ही कम है काम को नहीं है पर बढ़ाए जा रहा है तुझे इसकी वजह से यह बेरोजगारी नॉलेज में ललित फ्लाइट में 1 पॉइंट के लिए एक मांस के लिए छूट जा रहे हैं आपको वह काम नहीं मिल पा रहा जात्रा पूछना चाहते तो यही सब कारण है जिसकी वजह से बेरोजगारी बहुत ज्यादा बढ़ गई
Hindee gaana jaata savaal hai ki paisa kamaana hai itana mein kyon hota hai jabaki aajakal ke jamaane mein har ek cheej hamaare paas avelebal hai aapane poochha to dekhie agar sapoj aapako koee kaam karana vahaan par 10 seet hai aap to 10 log yahaan par matalabee log aap log pripeyar hokar ja rahee thee usake paas aapane kaha ki sabake paas hai rakshita mein logon ke paas ho chhathee ke beech ke paas ke paas avelebal hai to kya hoga isake alaava jitane log uth gae unaka unake saath kya hoga teree baat hai bahut jyaada hai badhatee ja rahee hai hisaab se nahin badh raha hai aap aapaka aapakee in da populeshan hota jyaada badh gaee hai aur kaam aapaka bahut hee kam hai kaam ko nahin hai par badhae ja raha hai tujhe isakee vajah se yah berojagaaree nolej mein lalit phlait mein 1 point ke lie ek maans ke lie chhoot ja rahe hain aapako vah kaam nahin mil pa raha jaatra poochhana chaahate to yahee sab kaaran hai jisakee vajah se berojagaaree bahut jyaada badh gaee

मोहित कुमार Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए मोहित जी का जवाब
बिजनेस
0:22
मस्त सवाल है पैसा कमाना इतना मुश्किल क्यों होता है क्योंकि आज के आधुनिक युग में हमारे पास हर वह चीज अवेलेबल है और हर चीज पैसा कमाने के लिए आज के युग में पैसा लगाना भी बहुत जरूरी होता है क्योंकि आप पैसा लगाएंगे नहीं तो पैसा कमाएंगे कैसे धन्यवाद

neelam mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए neelam जी का जवाब
I am nurse
2:16
नमस्कार दोस्तों गुड मॉर्निंग में निलंबित आप सभी का स्वागत करती हूं भारत के नंबर वन सवाल पर सरकार घूम बोल कर एक बार सवाल है कि पैसा कमाना इतना मुश्किल क्यों होता है जबकि आज के तकनीकी युग में हमारे पास हर चीज हर चीज अवेलेबल है और हर चीज आसानी से मिल जाती है तो पैसा कमाना इतना मुश्किल क्यों हो तो पैसा कमाना मुश्किल नहीं है पैसे की कीमत बढ़ गई है पैसे की कीमत से बढ़ गई है कि हमारे देश में जनसंख्या बहुत ज्यादा हो गई है और उसी हिसाब से वर्ग और बिजनेस कम पड़ गए तमाम तरह के जैसे मतलब लोगों को साफ नहीं मिलती है घर में सब तो लोगों के जो थॉट है वह बिजनेस की तरफ जा रहे और इतनी एक ही चीज की इतनी सारी अगली हो चुकी है वहां पर अपने आप को मुश्किल से खड़ा कर पाना और उसे मार्केटिंग पैलेस में अपने आपको बैलेंस करना कि खाना बनाना और अपने आपको वहां पर लिखा पाना बहुत ही प्यारे दोस्तों सब कुछ ना कुछ हो ना रहे लेकिन उस हुनर को कहां दिखाया जाए किस जगह दिखाया जाए कि वहां से पैसे आए और हमारा काम चले यह बहुत मुश्किल हो गया इस जमाने में लोग ज्यादा है काम कम हो गए हैं और वर्ग का मोबाइल में पैसे कम है इस तरह से देखा जाए तो हमारे देश में शिक्षा की भी थोड़ी कमी होने के नाते दोस्तों हमारे जगदीश के लोग हैं जो हमारे देश की शिक्षा एवं बाहर जा रही हैं तो उससे थोड़ी सी प्रॉब्लम हो रही है उनके साथ भी ऐसा होता है कि पढ़ने के बाद जिसकी वजह से वह आगे बढ़ाने मुश्किल कर देते

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • पैसा कैसे कमाए, पैसा कैसे कमाया जाता है, ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए
URL copied to clipboard