#undefined

bolkar speaker

महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं?

Mahaashivaraatri Ka Vrat Kaise Kholate Hain
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
0:30
महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं व्रत करने वाले व्यक्ति को दिन में निंदा नहीं लेनी चाहिए और रात्रि में भी शिव जी का भजन करके जागरण करना टाइम पति और पत्नी को साथ मिलकर शिव जी का भजन करना चाहिए रात के किसी भी पैर में शिव की विधि विधान पूजा कर व्रत कथा जरूर सुने रात भर जागरण करने के पश्चात जो है वह व्रत खोलें
Mahaashivaraatri ka vrat kaise kholate hain vrat karane vaale vyakti ko din mein ninda nahin lenee chaahie aur raatri mein bhee shiv jee ka bhajan karake jaagaran karana taim pati aur patnee ko saath milakar shiv jee ka bhajan karana chaahie raat ke kisee bhee pair mein shiv kee vidhi vidhaan pooja kar vrat katha jaroor sune raat bhar jaagaran karane ke pashchaat jo hai vah vrat kholen

और जवाब सुनें

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं?Mahaashivaraatri Ka Vrat Kaise Kholate Hain
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:21
महाशिवरात्रि के व्हाट्सएप कैसे खोलते हैं दोस्त को खोलने के लिए आपको करना क्या पड़ता है एक दिन तो शिवरात्रि का आपका व्रत रहता है जो दिन पर खुलेगा नहीं अगले दिन सुबह-सुबह मंदिर में शिवलिंग जो है उसके ऊपर जल अर्पण कीजिए या जो भी पूजा पाठ होते हो पूजा पाठ कर दीजिए बस ऐसी कोई रिकॉर्डिंग भेजो वह खुल जाता है
Mahaashivaraatri ke vhaatsep kaise kholate hain dost ko kholane ke lie aapako karana kya padata hai ek din to shivaraatri ka aapaka vrat rahata hai jo din par khulega nahin agale din subah-subah mandir mein shivaling jo hai usake oopar jal arpan keejie ya jo bhee pooja paath hote ho pooja paath kar deejie bas aisee koee rikording bhejo vah khul jaata hai

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं?Mahaashivaraatri Ka Vrat Kaise Kholate Hain
मनोज कुमार यादव Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए मनोज जी का जवाब
कृषक 🌾🌾🌾🌾
1:09
नमस्कार मित्रों जैसे आपके पड़ोस में महाशिवरात्रि का व्रत कैसे पत्ते तो देखिए मित्रों इस का शिव पुराण में वर्णन है आप वहां से जा करके पढ़ भी सकते हैं और इलाहाबाद की ब्लॉक की शिवरात्रि का व्रत करते हैं और इसका नियम विधि है कि पहला दिन आप कोई भी फल फूल या दही खेड़ा का सेवन करें जो कि आपकी और सुधार होना चाहिए जिससे कि शिव जी प्रसन्न होते हैं कि उसके व्रत के नाम पर रहते हैं दूसरा दिन उपवास होते यानी जो कल जब बीत गया उसे उपवास करते थे और उपवास करते हैं रात्रि में शिवजी का विवाह के बाद सुबह फिर उठ करके नहा धो करके फिर पूजा पाठ करके ही व्रत को तोड़ सकते ऐसा परंपरा बनाया गया है और कुछ होता है लेकिन इसके पीछे क्या राज है इतनी तो मुझे मालूम नहीं है लेकिन जो जानकारी था मैं आपके साथ शेयर किया धन्यवाद
Namaskaar mitron jaise aapake pados mein mahaashivaraatri ka vrat kaise patte to dekhie mitron is ka shiv puraan mein varnan hai aap vahaan se ja karake padh bhee sakate hain aur ilaahaabaad kee blok kee shivaraatri ka vrat karate hain aur isaka niyam vidhi hai ki pahala din aap koee bhee phal phool ya dahee kheda ka sevan karen jo ki aapakee aur sudhaar hona chaahie jisase ki shiv jee prasann hote hain ki usake vrat ke naam par rahate hain doosara din upavaas hote yaanee jo kal jab beet gaya use upavaas karate the aur upavaas karate hain raatri mein shivajee ka vivaah ke baad subah phir uth karake naha dho karake phir pooja paath karake hee vrat ko tod sakate aisa parampara banaaya gaya hai aur kuchh hota hai lekin isake peechhe kya raaj hai itanee to mujhe maaloom nahin hai lekin jo jaanakaaree tha main aapake saath sheyar kiya dhanyavaad

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं?Mahaashivaraatri Ka Vrat Kaise Kholate Hain
मनीष कुमार Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए मनीष जी का जवाब
किसान
0:50
राम-राम अपने अस्तित्व को महाशिवरात्रि का भरता है बुक किया खोला तो मैं आपने बताना चाहूंगा भगवान शिव जी की पूजा कर और म्यूजिक आप मुझे और पूर्वज हैं बता रहा है कि हमारे गांव री और मारीला कि हमारे बुजुर्ग आईजी की परंपरा है फिर मैं अपना बताना चाहिए कि महाशिवरात्रि का व्रत है वह शंकर भगवान की पूजा कर जल अभिषेक कर और शाम रिटर्न खोलिए मारे गांव पड़ता है और बाकी जगह रख दो अलग-अलग नियम है लेकिन हमेशा क्या में टाइम है माया भगवान शंकर भगवान ने बाबा गोरखनाथ जी की धूनी रमाते जार प्रसाद और भगवान शंकर की पूजा करने बाद में युवक खोलिए
Raam-raam apane astitv ko mahaashivaraatri ka bharata hai buk kiya khola to main aapane bataana chaahoonga bhagavaan shiv jee kee pooja kar aur myoojik aap mujhe aur poorvaj hain bata raha hai ki hamaare gaanv ree aur maareela ki hamaare bujurg aaeejee kee parampara hai phir main apana bataana chaahie ki mahaashivaraatri ka vrat hai vah shankar bhagavaan kee pooja kar jal abhishek kar aur shaam ritarn kholie maare gaanv padata hai aur baakee jagah rakh do alag-alag niyam hai lekin hamesha kya mein taim hai maaya bhagavaan shankar bhagavaan ne baaba gorakhanaath jee kee dhoonee ramaate jaar prasaad aur bhagavaan shankar kee pooja karane baad mein yuvak kholie

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं?Mahaashivaraatri Ka Vrat Kaise Kholate Hain
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:15
रात्रि का व्रत कैसे खोलें तो सबसे पहले आप नहा धोकर फ्रेश होकर बंद हो जाए पूजा करें देना आकर घर पर आप किसी भी शादी की सेहत आ जा खाना खा कर अपना व्रत खोल सकते हैं इतनी ज्यादा चिंता की बात नहीं है
Raatri ka vrat kaise kholen to sabase pahale aap naha dhokar phresh hokar band ho jae pooja karen dena aakar ghar par aap kisee bhee shaadee kee sehat aa ja khaana kha kar apana vrat khol sakate hain itanee jyaada chinta kee baat nahin hai

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का व्रत कैसे खोलते हैं?Mahaashivaraatri Ka Vrat Kaise Kholate Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:26
ऑल फ्रेंड स्वागत है आपका आपका फैसला महाशिवरात्रि का व्रत खोलते हैं तो फ्रेंडशिप महाशिवरात्रि के दिन तो हम लोग चले फलाहारी करते हैं फल फ्रूट खाते हैं और महाशिवरात्रि के व्रत में नहीं खाया जाता है फल फ्रूट यह सब खाते हैं साबूदाना और महाशिवरात्रि का व्रत दूसरे दिन खोलते हैं तब से मैं नहा धोकर खाना खा सकते हैं धन्यवाद

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • महाशिवरात्रि कब है, महाशिवरात्रि का व्रत क्यो रखा जाता है, महाशिवरात्रि के व्रत की विशेषताएं
URL copied to clipboard