#undefined

bolkar speaker

वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?

Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:30
रविवार तो आज आप का सवाल है कि वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताइए तो देखिए एयर पोलूशन आपका वायु प्रदूषण जल लेकर परेशान है तो सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि जो एयर है जो हमारा होशियार है वह किस वजह से प्रदूषित होता है गर्भवती समय रीजन पता चल जाएगा कॉल पता चल जाएगा तो हम जान पाएंगे कि जिसको फिर कैसे करेंगे तो सबसे पहले देखी रे इतनी सारी जो गाड़ियां चलती है इंसान उपलब्धियों पर साइकिल से आगे चलकर जा सकता वहां पर भी वह गाड़ी से जाता है और जिसके वजह से अपना मतलब ज्यादा गाड़ियां चलती है जिसकी वजह से पलूशन बहुत ज्यादा होता है कार्बन डाई ऑक्साइड कार्बन मोनोऑक्साइड इस हार्मफुल गए थे और यह रिलीज कंटीन्यूअसली हमारे क्यूट होता है दूसरा बहुत सारा जो इंडस्ट्राइलाइजेशन हो गया है मतलब इंडस्ट्रीज है वहां पर इसकी वजह से जो मतलब जो भी काम होता है उस इंडस्ट्रीज में उसके वजह से जो तू माझी चिमनी से निकलता है वह भी कहीं ना कहीं हमारे आसपास केयर परफेक्ट करता है तो इसके वजह से हमारा जो मंदिर है वह में लूट होता है कभी कदार देंगे अभी उड़ीसा में आप देख रहे होंगे कि जो जंगल में आग लग गया कोई भी चीज के बारे में जनरल इतना ध्यान नहीं दे रहा है ऐसे बहुत सारे जगह जंगलों में आग लगता ही रहता है लोग ध्यान नहीं देते जिसके वजह से उतना वास्तव इतना ज्यादा रेट में जो हुआ है वह निकल कर हमारे जो है उसको पहले उठकर तक ऐसी बहुत सारी रिजर्वेशन है जिसकी वजह से हमारा जो है वह होता है तो सबसे पहले हम देंगे तू जो भी आज्ञा से से उसकी मात्रा बैलेंस तो तरीके से रहेगी तो कोई बयान बैलेंस नहीं है फिर भी प्रॉब्लम नहीं होगा जो भी इंडस्ट्रीज की जो चीज नहीं है उसे थोड़ा लंबा डॉल बनाएंगे मेरे को कोई भी मैसेज कोई भी हार्मफुल गैसेस अफेक्ट ना करें वह बहुत ही ऊपर जाकर रिलीज हो हम देख रहे हैं कि हम दूर जा रहे तो पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन का ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए साइकिल या फिर चल कर जा सकते तो चल कर जाना नहीं तो सब चीजों का ध्यान रखेंगे कहीं पर उसमें आग लग गया तो तुरंत उसे कैसे ठीक करना यह सब चीजों का जनरल ध्यान रखेंगे तो हमारा जो वायु प्रदूषण हुआ इतना नहीं होगा काफी हद तक कंट्रोल में रहेगा
Ravivaar to aaj aap ka savaal hai ki vaayu pradooshan niyantran ke upaay bataie to dekhie eyar polooshan aapaka vaayu pradooshan jal lekar pareshaan hai to sabase pahale yah jaanana jarooree hai ki jo eyar hai jo hamaara hoshiyaar hai vah kis vajah se pradooshit hota hai garbhavatee samay reejan pata chal jaega kol pata chal jaega to ham jaan paenge ki jisako phir kaise karenge to sabase pahale dekhee re itanee saaree jo gaadiyaan chalatee hai insaan upalabdhiyon par saikil se aage chalakar ja sakata vahaan par bhee vah gaadee se jaata hai aur jisake vajah se apana matalab jyaada gaadiyaan chalatee hai jisakee vajah se palooshan bahut jyaada hota hai kaarban daee oksaid kaarban monooksaid is haarmaphul gae the aur yah rileej kanteenyooasalee hamaare kyoot hota hai doosara bahut saara jo indastrailaijeshan ho gaya hai matalab indastreej hai vahaan par isakee vajah se jo matalab jo bhee kaam hota hai us indastreej mein usake vajah se jo too maajhee chimanee se nikalata hai vah bhee kaheen na kaheen hamaare aasapaas keyar paraphekt karata hai to isake vajah se hamaara jo mandir hai vah mein loot hota hai kabhee kadaar denge abhee udeesa mein aap dekh rahe honge ki jo jangal mein aag lag gaya koee bhee cheej ke baare mein janaral itana dhyaan nahin de raha hai aise bahut saare jagah jangalon mein aag lagata hee rahata hai log dhyaan nahin dete jisake vajah se utana vaastav itana jyaada ret mein jo hua hai vah nikal kar hamaare jo hai usako pahale uthakar tak aisee bahut saaree rijarveshan hai jisakee vajah se hamaara jo hai vah hota hai to sabase pahale ham denge too jo bhee aagya se se usakee maatra bailens to tareeke se rahegee to koee bayaan bailens nahin hai phir bhee problam nahin hoga jo bhee indastreej kee jo cheej nahin hai use thoda lamba dol banaenge mere ko koee bhee maisej koee bhee haarmaphul gaises aphekt na karen vah bahut hee oopar jaakar rileej ho ham dekh rahe hain ki ham door ja rahe to pablik traansaporteshan ka jyaada istemaal karana chaahie saikil ya phir chal kar ja sakate to chal kar jaana nahin to sab cheejon ka dhyaan rakhenge kaheen par usamen aag lag gaya to turant use kaise theek karana yah sab cheejon ka janaral dhyaan rakhenge to hamaara jo vaayu pradooshan hua itana nahin hoga kaaphee had tak kantrol mein rahega

और जवाब सुनें

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
0:43
क्वेश्चन है वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताएं सुबह से वायु प्रदूषण के लिए हमें इस उद्योग से ज्यादा धुआं निकलता है जिससे वायु प्रदूषित हो रही है उनको शायरी चित्र से थोड़ा बाहर लगाया जाए ऐसी चीजों का इस्तेमाल कर आ जाएगी जो चीजें अब सिस्टम कैसे निकलती है उन को अवशोषित कर दिया जाए और बाकी जो हवा में खो जाए तो और यह जो बहन होते हैं इनका भी ऐसे क्यों बुद्धू बहाने उनको भी वह दुआ रन बनाए जाए हमसे भी ऐसा ज्यादा पोलूशन ना पहले और पटाखों आदि इन सब से इन सब चीजों पर भी प्रतिबंध लगाया जाए जिनसे हमारा वायु प्रदूषण हम दिन तुम खुद रुक सकते जो रास्ता सही तरीके से जो किया जाएगा वह सीधा लगी है जवाब पसंद है तो लाइक करें धन्यवाद
Kveshchan hai vaayu pradooshan niyantran ke upaay bataen subah se vaayu pradooshan ke lie hamen is udyog se jyaada dhuaan nikalata hai jisase vaayu pradooshit ho rahee hai unako shaayaree chitr se thoda baahar lagaaya jae aisee cheejon ka istemaal kar aa jaegee jo cheejen ab sistam kaise nikalatee hai un ko avashoshit kar diya jae aur baakee jo hava mein kho jae to aur yah jo bahan hote hain inaka bhee aise kyon buddhoo bahaane unako bhee vah dua ran banae jae hamase bhee aisa jyaada polooshan na pahale aur pataakhon aadi in sab se in sab cheejon par bhee pratibandh lagaaya jae jinase hamaara vaayu pradooshan ham din tum khud ruk sakate jo raasta sahee tareeke se jo kiya jaega vah seedha lagee hai javaab pasand hai to laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:32
नमस्कार आप सुन रहे हैं आपका पसंद का प्लेटफार्म कॉल करें जो आज हम वायु प्रदूषण के नियंत्रण के उपाय आपको बताएंगे तो इनका उत्तर यह है कि हमें कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है वायु प्रदूषण को पूर्णत समाप्त तो नहीं कर सकते लेकिन हम कुछ नियंत्रित कर सकते हैं इसमें प्रत्येक नागरिक का योगदान होना बहुत ही जरूरी है निर्धन के रूप में यह कुछ स्रोत है जैसे गोबर गैस बायोगैस यह में प्राकृतिक गैस एलपीजी आती को अपनाकर यह भवनों को सुरक्षित रख कर यह वहां पर वृक्षारोपण करके वाहनों का विवेकपूर्ण उपयोग या इंजन के नियमित रूप से जांच करवा कर और ईंधन का बुरा चल रहा है या नहीं बिना लेट पेट्रोल उपयोग में लाकर और सिगरेट तंबाकू को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए जिनसे भी हमारा वायु प्रदूषण होता है उद्योगों में फिल्टर का उपयोग किया जाना चाहिए वृक्षारोपण में वृद्धि की जानी चाहिए और श्लोक के अपशिष्ट समुचित तरीके से प्रबंधन धान की पराली के जलाए जाने प्रवृत्ति पर रोक होना चाहिए तभी हम वायु प्रदूषण को नियंत्रित कर सकते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar aap sun rahe hain aapaka pasand ka pletaphaarm kol karen jo aaj ham vaayu pradooshan ke niyantran ke upaay aapako bataenge to inaka uttar yah hai ki hamen kuchh baaton ka dhyaan rakhana bahut hee jarooree hai vaayu pradooshan ko poornat samaapt to nahin kar sakate lekin ham kuchh niyantrit kar sakate hain isamen pratyek naagarik ka yogadaan hona bahut hee jarooree hai nirdhan ke roop mein yah kuchh srot hai jaise gobar gais baayogais yah mein praakrtik gais elapeejee aatee ko apanaakar yah bhavanon ko surakshit rakh kar yah vahaan par vrkshaaropan karake vaahanon ka vivekapoorn upayog ya injan ke niyamit roop se jaanch karava kar aur eendhan ka bura chal raha hai ya nahin bina let petrol upayog mein laakar aur sigaret tambaakoo ko pratibandhit kiya jaana chaahie jinase bhee hamaara vaayu pradooshan hota hai udyogon mein philtar ka upayog kiya jaana chaahie vrkshaaropan mein vrddhi kee jaanee chaahie aur shlok ke apashisht samuchit tareeke se prabandhan dhaan kee paraalee ke jalae jaane pravrtti par rok hona chaahie tabhee ham vaayu pradooshan ko niyantrit kar sakate hain dhanyavaad doston khush raho

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:12
आयुक्त नियंत्रण के उपाय बताइए सबसे पहले तो आसपास का वातावरण साफ रखिए छोड़ने से पहले पत्रकार कीजिए घर की सफाई करने के बाद भी जल का छिड़काव कीजिए उठा लगाइए आसपास के वातावरण को नमी पर रखिए सूर्य के तापमान पर होने पर उसने मी को जो है आप सबसे अच्छी है कहीं भी आप कागजों को या तो लड्डू है उसको चलाइए मैं और लाइन कार्बन डाइऑक्साइड जैसी गैस को बनाने की कोशिश कीजिए ना कोई आस पास कूड़ा करकट इकठ्ठा कीजिए लकड़ियों का को चलाइए में मिट्टी के तेल से किस स्टोर पर कार्य मत कीजिएगा क्योंकि यह ऐसी छोटी-छोटी गलतियां हैं जिससे वायु के अंदर कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ जाती है और जहरीला बाद बढ़ जाता है अगर हमें छोटी-छोटी गलतियों को सुधारने जो वायु प्रदूषण में निश्चित रूप से नियंत्रण कर सकते हैं
Aayukt niyantran ke upaay bataie sabase pahale to aasapaas ka vaataavaran saaph rakhie chhodane se pahale patrakaar keejie ghar kee saphaee karane ke baad bhee jal ka chhidakaav keejie utha lagaie aasapaas ke vaataavaran ko namee par rakhie soory ke taapamaan par hone par usane mee ko jo hai aap sabase achchhee hai kaheen bhee aap kaagajon ko ya to laddoo hai usako chalaie main aur lain kaarban daioksaid jaisee gais ko banaane kee koshish keejie na koee aas paas kooda karakat ikaththa keejie lakadiyon ka ko chalaie mein mittee ke tel se kis stor par kaary mat keejiega kyonki yah aisee chhotee-chhotee galatiyaan hain jisase vaayu ke andar kaarban daioksaid kee maatra badh jaatee hai aur jahareela baad badh jaata hai agar hamen chhotee-chhotee galatiyon ko sudhaarane jo vaayu pradooshan mein nishchit roop se niyantran kar sakate hain

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Gopal rana Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gopal जी का जवाब
Sales executive
1:51
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के लिए लिखित उपाय हो सकते हैं प्रथम में बता सकता हूं कि विभिन्न प्रकार की जगह गाड़ियों में बहुत अधिक मात्रा में वायु प्रदूषण फैलाती है या हानि कारी के सिंगर उत्सर्जन करती है उसे हम कम से कम उपयोग करें और जहां तक संभव हो वहां तक कंट्रोल करने की कोशिश करेंगे इन वाहनों को और औद्योगिक क्षेत्रों में विभिन्न प्रकार के लगे हैं उस फैक्ट्री में हम नियंत्रण में लाकर के कुछ ऐसी व्यवस्था को दिल से दूर में करना चाहिए जिससे कि जो हानिकारक हानिकारक वायु होती है उसे पूरी कर सके ऐसी व्यवस्था को लगाना चाहिए सबसे लास्ट में महत्वपूर्ण प्रश्न तीन महत्वपूर्ण उपाय जो है एक है वह है पेड़ों की अत्यधिक मात्रा में हम उसकी लगाएं प्रसाद खाने वाला उसका खुद का कटाई ना करें जहां तक संभव हो उसको बचाने की कोशिश करें क्योंकि पेड़ पौधे से हम जी चराचर जीव हैं उपस्थित हैं अन्यथा वह नहीं तो हम नहीं तो हमें पार्क पारिस्थितिकी तंत्र को एक अच्छी नजरिए से देखते हुए हम मानव समाज को अपनी सोच को सही अनुरूप विकसित करना जरूरी है हमें वायु प्रदूषण यार ऐसी घटनाओं को अपनी अपनी मूलभूत आवश्यकताओं को ध्यान करने से बचना है जिससे कि नशे के अधिक मात्रा में फर्नीचर की हद होती है
Vaayu pradooshan niyantran karane ke lie likhit upaay ho sakate hain pratham mein bata sakata hoon ki vibhinn prakaar kee jagah gaadiyon mein bahut adhik maatra mein vaayu pradooshan phailaatee hai ya haani kaaree ke singar utsarjan karatee hai use ham kam se kam upayog karen aur jahaan tak sambhav ho vahaan tak kantrol karane kee koshish karenge in vaahanon ko aur audyogik kshetron mein vibhinn prakaar ke lage hain us phaiktree mein ham niyantran mein laakar ke kuchh aisee vyavastha ko dil se door mein karana chaahie jisase ki jo haanikaarak haanikaarak vaayu hotee hai use pooree kar sake aisee vyavastha ko lagaana chaahie sabase laast mein mahatvapoorn prashn teen mahatvapoorn upaay jo hai ek hai vah hai pedon kee atyadhik maatra mein ham usakee lagaen prasaad khaane vaala usaka khud ka kataee na karen jahaan tak sambhav ho usako bachaane kee koshish karen kyonki ped paudhe se ham jee charaachar jeev hain upasthit hain anyatha vah nahin to ham nahin to hamen paark paaristhitikee tantr ko ek achchhee najarie se dekhate hue ham maanav samaaj ko apanee soch ko sahee anuroop vikasit karana jarooree hai hamen vaayu pradooshan yaar aisee ghatanaon ko apanee apanee moolabhoot aavashyakataon ko dhyaan karane se bachana hai jisase ki nashe ke adhik maatra mein pharneechar kee had hotee hai

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:15
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आप इसमें वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताइए तो फ्रेंड से हर इंसान को मिलकर भाई प्रदूषण के लिए कुछ ना कुछ करना चाहिए जिससे कि हमारे जो वातावरण में है साफ हवा मिल सके सभी को तो वायु प्रदूषण के लिए अपने वाहनों में हमको जांच कराते रहना चाहिए इंजन की भी की ज्यादा पेड़ जो भी इंदन उसमें है तो वह कोई जहरीली गैस तो नहीं फेंक रहे हैं और इंजन के समय-समय पर जांच कराते रहना चाहिए ज्यादा दूंगा तो नहीं निकाल रहा है और बच्चों की कटाई नहीं करनी चाहिए और ज्यादा से ज्यादा जितना हो सके हर व्यक्ति को एक वृक्ष वृक्ष जरुर लगाना चाहिए और कभी भी इसे ग्रीन पीकर या मार दूंगा नहीं उड़ाना चाहिए इससे भी वाइफ प्रदूषण होता है और जो धान होते हैं उसकी जो पराली निकलती है उसको भी ऐसे नहीं जलाना चाहिए उससे भी बहुत वायु प्रदूषण होता है तो उसको फिर बुक करनी चाई औद्योगिक केंद्र होते हैं जो फैक्ट्रियां होती हैं उनकी चीनियों को काफी ऊंचा होना चाहिए जो बहुत ऊंचे मैन का दुआ जा सके और उन्हें फिल्टर लगा होना चाहिए जिससे कि वातावरण में गंदगी ना हो सके धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aap isamen vaayu pradooshan niyantran ke upaay bataie to phrend se har insaan ko milakar bhaee pradooshan ke lie kuchh na kuchh karana chaahie jisase ki hamaare jo vaataavaran mein hai saaph hava mil sake sabhee ko to vaayu pradooshan ke lie apane vaahanon mein hamako jaanch karaate rahana chaahie injan kee bhee kee jyaada ped jo bhee indan usamen hai to vah koee jahareelee gais to nahin phenk rahe hain aur injan ke samay-samay par jaanch karaate rahana chaahie jyaada doonga to nahin nikaal raha hai aur bachchon kee kataee nahin karanee chaahie aur jyaada se jyaada jitana ho sake har vyakti ko ek vrksh vrksh jarur lagaana chaahie aur kabhee bhee ise green peekar ya maar doonga nahin udaana chaahie isase bhee vaiph pradooshan hota hai aur jo dhaan hote hain usakee jo paraalee nikalatee hai usako bhee aise nahin jalaana chaahie usase bhee bahut vaayu pradooshan hota hai to usako phir buk karanee chaee audyogik kendr hote hain jo phaiktriyaan hotee hain unakee cheeniyon ko kaaphee ooncha hona chaahie jo bahut oonche main ka dua ja sake aur unhen philtar laga hona chaahie jisase ki vaataavaran mein gandagee na ho sake dhanyavaad

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
1:54
छा गया है वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताओ तो देखिए जैसे अगर आप बात कर रहे हैं कि वायु प्रदूषण के साथ तक हमारे इंडिया में बढ़ चुका है तो हमको इस को कंट्रोल करने के लिए भी बहुत सारे काम करने की आवश्यकता है और एक जिम्मेदार नागरिक के तौर पर हमारे पास भी है कि हम अपनी तरफ से कुछ ऐसा करो जिससे वायु प्रदूषण को नियंत्रित किया जा सके तो सबसे अच्छा तरीका यह है कि अगर जरूरत ना हो तो अपना पर्सनल व्हीकल ना निकाले पब्लिक व्हीकल से आप टेबल करें उसके अलावा अगर हम बात कर रहे हैं घर में रहने पर और यहां के अपने तौर पर जब हमारा वायु प्रदूषण को कम करने के बाद कर रहे हैं तो सबसे अच्छा यह है कि आप अपने घर में इनडोर प्लांट्स आ जाइए जितने ज्यादा हो सके इंदौर प्लांट के क्वालिटी क्योंकि एक तो उसको बहुत ज्यादा तेरी जगह में होता है फ्रेश एयर की जरूरत नहीं पड़ती बाप के कमरे के अंदर भी आसानी से ग्रुप कर देते हैं यह लो मेंटेनेंस प्लान सोते हैं मतलब इनको मेंटेनेंस करने की आवश्यकता नहीं होती ज्यादा नवीन को कम लगता है तो पानी की भी बचत होती है उसके अलावा एडिफिकेशन का अच्छा काम करते हैं तो कम से कम अपने घर पर आपको प्योर एयर मिलेगी सांस लेने के लिए तो यह आपके लिए काफी बेहतर है अगर हर घर में व्यक्ति पांच से या उससे अधिक इनडोर प्लांट्स लगाता है तो काफी हद तक वायु प्रदूषण को हम अपने तौर पर अपने-अपने मतलब अपनी बेस्ट पर आप पर यश को ठीक कर सकते हैं बाकी अगर हम और और बात करें तो उसके लिए हम को ढेर सारे ऐसे काम करने होंगे तो उसे कि अगर आपको कहीं आपके पास खाली जमीन है या फिर आपके घर के आस पास ऐसा कोई ऑप्शन है क्या पेड़ पौधे लगा सके तो आप पेड़ पौधे लगाइए अपने पर्सनल व्हीकल की जगह पब्लिक ट्रांसपोर्ट यूज कीजिए यह सब तो आप कर ही सकते लेकिन घर के लिए इनडोर प्लांट बेस्ड है उम्मीद करता हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Chha gaya hai vaayu pradooshan niyantran ke upaay batao to dekhie jaise agar aap baat kar rahe hain ki vaayu pradooshan ke saath tak hamaare indiya mein badh chuka hai to hamako is ko kantrol karane ke lie bhee bahut saare kaam karane kee aavashyakata hai aur ek jimmedaar naagarik ke taur par hamaare paas bhee hai ki ham apanee taraph se kuchh aisa karo jisase vaayu pradooshan ko niyantrit kiya ja sake to sabase achchha tareeka yah hai ki agar jaroorat na ho to apana parsanal vheekal na nikaale pablik vheekal se aap tebal karen usake alaava agar ham baat kar rahe hain ghar mein rahane par aur yahaan ke apane taur par jab hamaara vaayu pradooshan ko kam karane ke baad kar rahe hain to sabase achchha yah hai ki aap apane ghar mein inador plaants aa jaie jitane jyaada ho sake indaur plaant ke kvaalitee kyonki ek to usako bahut jyaada teree jagah mein hota hai phresh eyar kee jaroorat nahin padatee baap ke kamare ke andar bhee aasaanee se grup kar dete hain yah lo mentenens plaan sote hain matalab inako mentenens karane kee aavashyakata nahin hotee jyaada naveen ko kam lagata hai to paanee kee bhee bachat hotee hai usake alaava ediphikeshan ka achchha kaam karate hain to kam se kam apane ghar par aapako pyor eyar milegee saans lene ke lie to yah aapake lie kaaphee behatar hai agar har ghar mein vyakti paanch se ya usase adhik inador plaants lagaata hai to kaaphee had tak vaayu pradooshan ko ham apane taur par apane-apane matalab apanee best par aap par yash ko theek kar sakate hain baakee agar ham aur aur baat karen to usake lie ham ko dher saare aise kaam karane honge to use ki agar aapako kaheen aapake paas khaalee jameen hai ya phir aapake ghar ke aas paas aisa koee opshan hai kya ped paudhe laga sake to aap ped paudhe lagaie apane parsanal vheekal kee jagah pablik traansaport yooj keejie yah sab to aap kar hee sakate lekin ghar ke lie inador plaant besd hai ummeed karata hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Bhavesh Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Bhavesh जी का जवाब
West Bengal India is Great
0:28
आप जरूरत से ज्यादा बाहर ना निकले हमेशा मस्त लगा कर रखें और ऐसा कुछ लग रहा है कि अपना आप तो यह फ्रेश हवा आता है तो वह आपको मिलता रहे आप कहीं बाहर से आ जाए
Aap jaroorat se jyaada baahar na nikale hamesha mast laga kar rakhen aur aisa kuchh lag raha hai ki apana aap to yah phresh hava aata hai to vah aapako milata rahe aap kaheen baahar se aa jae

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
2:26
सवाल ये है कि वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के कुछ उपाय बताइए तो मैं कुछ उपाय बता देती हूं निजी वाहनों की जगह सार्वजनिक वाहनों का इस्तेमाल करें क्योंकि सड़क पर जितनी कम गाड़ियां रहेंगे उतना कम प्रदूषण भी होगा अपने बच्चों को निजी वाहन को स्कूल छोड़ने की जगह उन्हें स्कूल की बस में जाने के लिए प्रोत्साहित करें जहां तक मुमकिन हो खुद भी ऑफिस जाने के लिए सार्वजनिक वाहनों को संभाल करें आप कर सकते हैं क्योंकि साइकिल से पर्यावरण को नुकसान नहीं होता स्वास्थ्य ठीक रहेगा हमारी दैनिक जरूरतों को पूरी करने के लिए होने वाली बिजली उत्पन्न करने के लिए जीवाश्म ईंधन का प्रयोग किया जाता है और इससे निकलने वाला धुआं हमारे वातावरण के लिए बेहद खतरनाक होता है इस तरह के प्रदूषण से बचने के लिए आपको सौर ऊर्जा का इस्तेमाल करना चाहिए जिससे जिससे आपको पैसे भी बचेंगे और पर्यावरण को नुकसान भी नहीं होगा घरों में सौर सोलर पैनल लगाने के साथ-साथ आप सौरव जाम पर चलने वाले वाहनों का इस्तेमाल कर सकते हैं जिसमें डीजल या पेट्रोल की भी जरूरत नहीं होती सौर ऊर्जा पर चलने वाले वाहनों से दूषित गैस उत्सर्जन की भी समस्या नहीं होती और पर्यावरण के लिए साइकिल के बाद डॉलर वाहन की सबसे ज्यादा फायदेमंद होती है अगर आपको निजी वाहनों का उपयोग करते हैं तो आपको कॉलिंग करनी चाहिए कार कॉलिंग में आप एक ही कार में अन्य लोगों को भी बैठा कर ले जा सकते हैं ताकि आपको अपने निजी वाहनों का इस्तेमाल ना करना पड़े प्रदूषण भी कम हो सके अपने बगीचे की सूखी पत्तियों को जलाने की जगह को खाद बनाकर बगीचे में इस्तेमाल करें इसके पेड़ पौधों को भी फायदा होगा और पत्तियां जलाने से दुआ भी नहीं होगा केंद्र और राज्य सरकारों को पर्यावरण संरक्षण से संबंधित कानून बनाने चाहिए ताकि शादीशुदा में जनता प्रदूषण की समस्या को गंभीरता से ले सके और वायु प्रदूषण का निवारण हो सके दिल्ली सरकार द्वारा एडमिन वाली स्कीम हर साल ख्वाब दिखाती है ख्वाब बनकर रह गया है हम इन सब को ध्यान में रखते हुए हम प्रदूषण को रोक सकते हैं और ऐसे भारत का निर्माण कर सकते हैं जहां खुली हवा में सांस लेना स्वास्थ्य पर भारी ना पड़े
Savaal ye hai ki vaayu pradooshan niyantran karane ke kuchh upaay bataie to main kuchh upaay bata detee hoon nijee vaahanon kee jagah saarvajanik vaahanon ka istemaal karen kyonki sadak par jitanee kam gaadiyaan rahenge utana kam pradooshan bhee hoga apane bachchon ko nijee vaahan ko skool chhodane kee jagah unhen skool kee bas mein jaane ke lie protsaahit karen jahaan tak mumakin ho khud bhee ophis jaane ke lie saarvajanik vaahanon ko sambhaal karen aap kar sakate hain kyonki saikil se paryaavaran ko nukasaan nahin hota svaasthy theek rahega hamaaree dainik jarooraton ko pooree karane ke lie hone vaalee bijalee utpann karane ke lie jeevaashm eendhan ka prayog kiya jaata hai aur isase nikalane vaala dhuaan hamaare vaataavaran ke lie behad khataranaak hota hai is tarah ke pradooshan se bachane ke lie aapako saur oorja ka istemaal karana chaahie jisase jisase aapako paise bhee bachenge aur paryaavaran ko nukasaan bhee nahin hoga gharon mein saur solar painal lagaane ke saath-saath aap saurav jaam par chalane vaale vaahanon ka istemaal kar sakate hain jisamen deejal ya petrol kee bhee jaroorat nahin hotee saur oorja par chalane vaale vaahanon se dooshit gais utsarjan kee bhee samasya nahin hotee aur paryaavaran ke lie saikil ke baad dolar vaahan kee sabase jyaada phaayademand hotee hai agar aapako nijee vaahanon ka upayog karate hain to aapako koling karanee chaahie kaar koling mein aap ek hee kaar mein any logon ko bhee baitha kar le ja sakate hain taaki aapako apane nijee vaahanon ka istemaal na karana pade pradooshan bhee kam ho sake apane bageeche kee sookhee pattiyon ko jalaane kee jagah ko khaad banaakar bageeche mein istemaal karen isake ped paudhon ko bhee phaayada hoga aur pattiyaan jalaane se dua bhee nahin hoga kendr aur raajy sarakaaron ko paryaavaran sanrakshan se sambandhit kaanoon banaane chaahie taaki shaadeeshuda mein janata pradooshan kee samasya ko gambheerata se le sake aur vaayu pradooshan ka nivaaran ho sake dillee sarakaar dvaara edamin vaalee skeem har saal khvaab dikhaatee hai khvaab banakar rah gaya hai ham in sab ko dhyaan mein rakhate hue ham pradooshan ko rok sakate hain aur aise bhaarat ka nirmaan kar sakate hain jahaan khulee hava mein saans lena svaasthy par bhaaree na pade

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
4:10
वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताइए वायु प्रदूषण का नियंत्रण के सबसे बेहतरीन उपाय क्यों जो भी हमारी खाली जगह है और जो अनियोजित सी जगह है सड़क के किनारे हैं पर फिर ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगा यानी कि अगर पूरे भारत की आबादी में 40 से 50 पर्सेंट आबादी पर ग्रेटली हो जाए तो निश्चित तौर पर प्रदूषण को कम किया जा सकता है जो लार्ज स्केल इंडस्ट्रीज हो और भी ज्यादा है उनकी टिप्पणियों को ज्यादा ऊपर तक ले जाए तीसरा सबसे ज्यादा प्रदूषण का कारण वायु का जो हमारे कंस्ट्रक्शन है और इन सब चीजों का है चाहे रोड बन रहे हो हाईवेज बन रहा है बड़ी बड़ी बिल्डिंग हैं इनको भी नई तकनीक के साथ किया जाए ताकि ज्यादा डस्ट वगैरह दो जो है वह हवा में ना पहुंचे और उसका निर्माण अंधाधुंध हो जाएगी गया है नई तकनीक के साथ किया जाए और उसको प्रोडक्टिव ढंग से किया जाए मेमोरी की मान लीजिए जहां पर मिक्सिंग का काम और आ रही टूट रही है उन सब को बेहतर का वध करके या उसके इर्द-गिर्द इस तरह का बनाया जाए तो बता देना और उसके बाद सबसे प्रमुख कारण है लेकिन हमारे वायु प्रदूषण का प्रमुख कारण लगभग साठ से सत्तर परसेंट वकील का नंबर वन टू व्हीलर फोर व्हीलर जहां पर एक दो लोगों की सवारियां है उनको पूरी तरह से इलेक्ट्रीफाइड कर दिया जाए या बायो गैस से चलने के लिए हाइड्रोजन से चलने वाली इन गाड़ियों को और इंसान निर्धारण भी कर दिया जाए कि कि परिवार में एक गाड़ी के सिवा ना हो या नहीं सेंट्रल गवर्नमेंट राज्य सरकारों का बहुत बड़ा योगदान होना चाहिए और मॉनेटरी करें पब्लिक ट्रांसपोर्ट जो भी है जो भी स्टेट का है उसको रेक्टिफायर पढ़ लेना चाहिए निश्चित तौर पर इससे आप देखेंगे आज बायोफ्यूल्स की बहुत तेजी से टेक्निक वोट रही है उसको ज्यादा से ज्यादा प्रमोट करना चाहिए और जो थर्मल पावर पर चलने वाले हैं उनको पूरी तरह से रोक करके ज्यादा एनर्जी के लिए हमें सोलर सिस्टम को डर लग करना चाहिए बड़ी गाड़ियां जो भी है खास करके जो ट्रांसपोर्ट से संबंधित है उनका इस्तेमाल सही ढंग से हो और व्यंजनों की सीसीएनसी को बढ़ाया जाए तो ज्यादा बेहतर कुल मिलाकर अगर आम जनता का सहयोग मिले और सरकार की सही और सटीक और सख्त नीतियां हो तो निश्चित तौर पर हम प्रदूषण को रोकने खासकर वायु प्रदूषण हम भी पी लीजिए कि हम अपने फ्यूल सोया कुछ भी चीजों को कष्ट इसको कहीं भी जला देते हैं जबकि ऐसा नहीं होना चाहिए गाड़ियां को लाइफ 15 साल की है तो हम तो 20 साल चलाते जाते हैं फिर उसको सिर्फ इस्तेमाल करते जाते हैं उसकी सही देखरेख नहीं करते पेड़ों की कटाई क्योंकि सबसे ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड पर चार पांच पेड़ करते हैं उनको अंधाधुन काट रहे हैं कंस्ट्रक्शन को वैज्ञानिक तरीके की वजह खुलेआम करते हैं नतीजा क्या है जिसके कारण बढ़ता चला जा रहा करने की जरूरत है जब तक सरकार की सही नहीं पहने वाली और उसमें जनभागीदारी नहीं होगी तब तक नहीं किया जा सकता
Vaayu pradooshan niyantran ke upaay bataie vaayu pradooshan ka niyantran ke sabase behatareen upaay kyon jo bhee hamaaree khaalee jagah hai aur jo aniyojit see jagah hai sadak ke kinaare hain par phir jyaada se jyaada ped laga yaanee ki agar poore bhaarat kee aabaadee mein 40 se 50 parsent aabaadee par gretalee ho jae to nishchit taur par pradooshan ko kam kiya ja sakata hai jo laarj skel indastreej ho aur bhee jyaada hai unakee tippaniyon ko jyaada oopar tak le jae teesara sabase jyaada pradooshan ka kaaran vaayu ka jo hamaare kanstrakshan hai aur in sab cheejon ka hai chaahe rod ban rahe ho haeevej ban raha hai badee badee bilding hain inako bhee naee takaneek ke saath kiya jae taaki jyaada dast vagairah do jo hai vah hava mein na pahunche aur usaka nirmaan andhaadhundh ho jaegee gaya hai naee takaneek ke saath kiya jae aur usako prodaktiv dhang se kiya jae memoree kee maan leejie jahaan par miksing ka kaam aur aa rahee toot rahee hai un sab ko behatar ka vadh karake ya usake ird-gird is tarah ka banaaya jae to bata dena aur usake baad sabase pramukh kaaran hai lekin hamaare vaayu pradooshan ka pramukh kaaran lagabhag saath se sattar parasent vakeel ka nambar van too vheelar phor vheelar jahaan par ek do logon kee savaariyaan hai unako pooree tarah se ilektreephaid kar diya jae ya baayo gais se chalane ke lie haidrojan se chalane vaalee in gaadiyon ko aur insaan nirdhaaran bhee kar diya jae ki ki parivaar mein ek gaadee ke siva na ho ya nahin sentral gavarnament raajy sarakaaron ka bahut bada yogadaan hona chaahie aur monetaree karen pablik traansaport jo bhee hai jo bhee stet ka hai usako rektiphaayar padh lena chaahie nishchit taur par isase aap dekhenge aaj baayophyools kee bahut tejee se teknik vot rahee hai usako jyaada se jyaada pramot karana chaahie aur jo tharmal paavar par chalane vaale hain unako pooree tarah se rok karake jyaada enarjee ke lie hamen solar sistam ko dar lag karana chaahie badee gaadiyaan jo bhee hai khaas karake jo traansaport se sambandhit hai unaka istemaal sahee dhang se ho aur vyanjanon kee seeseeenasee ko badhaaya jae to jyaada behatar kul milaakar agar aam janata ka sahayog mile aur sarakaar kee sahee aur sateek aur sakht neetiyaan ho to nishchit taur par ham pradooshan ko rokane khaasakar vaayu pradooshan ham bhee pee leejie ki ham apane phyool soya kuchh bhee cheejon ko kasht isako kaheen bhee jala dete hain jabaki aisa nahin hona chaahie gaadiyaan ko laiph 15 saal kee hai to ham to 20 saal chalaate jaate hain phir usako sirph istemaal karate jaate hain usakee sahee dekharekh nahin karate pedon kee kataee kyonki sabase jyaada kaarban daioksaid par chaar paanch ped karate hain unako andhaadhun kaat rahe hain kanstrakshan ko vaigyaanik tareeke kee vajah khuleaam karate hain nateeja kya hai jisake kaaran badhata chala ja raha karane kee jaroorat hai jab tak sarakaar kee sahee nahin pahane vaalee aur usamen janabhaageedaaree nahin hogee tab tak nahin kiya ja sakata

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:36
प्रश्न 1 बाय प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताइए तो देखिए वायु प्रदूषण फैलता है वह हम पूरा कचरा ऐसे ही बाहर फेंक देते हैं तो उसे क्या होना चाहिए कि सही ढंग से या डस्टबिन में रखना चाहिए और इसका जब आप को इकट्ठा हो जाए तो एक बड़े गड्ढे में ले जाकर हमें डाल देना चाहिए इसके अलावा जो होता है कि खुले में शौच करने से भी वायु प्रदूषण होता है इस पर भी हमें लगा पर रोक लगानी चाहिए और क्या है कि हमें शौचालय का इस्तेमाल करना चाहिए इसके अलावा जो हमारी नालियां होती हैं गटर होते हैं वह क्या होते हैं खुले होते हैं उसमें क्या होता है कि पानी और कचरा एक ही साथ ही आपत्ति जो भी हमारी पेड़ पौधे की पत्तियों से जिनकी भट्ठा चली जाती हैं और क्या होती उसे चढ़ने से बहुत सारी ऐसी हानिकारक गैसें निकलती है जो हमारी आवाज को प्रदूषित कर दिया इसे भी हम क्या करना चाहिए जो भी नाले हैं जो भी गटर है उसे सीवर है उसे क्या करना चाहिए ढक के रखना चाहिए और उसे गांव से आपके मोहल्ले से दूर कहीं जो बड़ा सांप सूख रहा है वहां पर उसका उस पानी को ले जाना चाहिए जिससे कि हम क्या करें वातावरण जो हमारे आसपास का वादा रहा था और है उसे सहयोग उसके साथ-साथ वायु प्रदूषण जो हमारी गाड़ियां हैं जो भी आशा पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियां है उसे भी क्या होता है वायु प्रदूषण बहुत ज्यादा तेजी से होता है इसका भी कंट्रोल करना चाहिए और हमें जब प्रतिदिन क्या होता है कि एक मानक तैयार होना चाहिए और इसके टेस्टिंग गाड़ियों की सेटिंग बराबर होनी चाहिए जिससे कि वह प्रदूषण पर नियंत्रण
Prashn 1 baay pradooshan niyantran ke upaay bataie to dekhie vaayu pradooshan phailata hai vah ham poora kachara aise hee baahar phenk dete hain to use kya hona chaahie ki sahee dhang se ya dastabin mein rakhana chaahie aur isaka jab aap ko ikattha ho jae to ek bade gaddhe mein le jaakar hamen daal dena chaahie isake alaava jo hota hai ki khule mein shauch karane se bhee vaayu pradooshan hota hai is par bhee hamen laga par rok lagaanee chaahie aur kya hai ki hamen shauchaalay ka istemaal karana chaahie isake alaava jo hamaaree naaliyaan hotee hain gatar hote hain vah kya hote hain khule hote hain usamen kya hota hai ki paanee aur kachara ek hee saath hee aapatti jo bhee hamaaree ped paudhe kee pattiyon se jinakee bhattha chalee jaatee hain aur kya hotee use chadhane se bahut saaree aisee haanikaarak gaisen nikalatee hai jo hamaaree aavaaj ko pradooshit kar diya ise bhee ham kya karana chaahie jo bhee naale hain jo bhee gatar hai use seevar hai use kya karana chaahie dhak ke rakhana chaahie aur use gaanv se aapake mohalle se door kaheen jo bada saamp sookh raha hai vahaan par usaka us paanee ko le jaana chaahie jisase ki ham kya karen vaataavaran jo hamaare aasapaas ka vaada raha tha aur hai use sahayog usake saath-saath vaayu pradooshan jo hamaaree gaadiyaan hain jo bhee aasha petrol aur deejal se chalane vaalee gaadiyaan hai use bhee kya hota hai vaayu pradooshan bahut jyaada tejee se hota hai isaka bhee kantrol karana chaahie aur hamen jab pratidin kya hota hai ki ek maanak taiyaar hona chaahie aur isake testing gaadiyon kee seting baraabar honee chaahie jisase ki vah pradooshan par niyantran

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:59
प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताएं बहुत अच्छा क्वेश्चन में चाहूंगी कि सब लोग इस को सुनें वायु प्रदूषण होता है इसलिए है क्योंकि हम लोग ध्यान नहीं देते पटाखे फोड़ते हैं या फिर ऐसी चीजें करते हैं जिससे दुआ हो तो ऐसी बहुत सी जगह से गांव में शक्ति होती है इस कारण वहां पर बहुत धुआं निकलता हुआ बहुत प्रदूषण होता है उन सब ग्रुप में हर जगह से इन सब चीजों का ध्यान रखना चाहिए सितम वायु प्रदूषण पर ध्यान नहीं दिया जाता है उस कह दिया जाता है हम लोग भी ऊपर वर्क ऑफिस में पढ़ लेते हैं एग्जाम में क्वेश्चन आता है तो उसका आंसर दे दे तेरी चाची के पटाखे पटाखे प्रदूषण नहीं चामुंडी तो 5 किलो से कब होगा
Pradooshan niyantran ke upaay bataen bahut achchha kveshchan mein chaahoongee ki sab log is ko sunen vaayu pradooshan hota hai isalie hai kyonki ham log dhyaan nahin dete pataakhe phodate hain ya phir aisee cheejen karate hain jisase dua ho to aisee bahut see jagah se gaanv mein shakti hotee hai is kaaran vahaan par bahut dhuaan nikalata hua bahut pradooshan hota hai un sab grup mein har jagah se in sab cheejon ka dhyaan rakhana chaahie sitam vaayu pradooshan par dhyaan nahin diya jaata hai us kah diya jaata hai ham log bhee oopar vark ophis mein padh lete hain egjaam mein kveshchan aata hai to usaka aansar de de teree chaachee ke pataakhe pataakhe pradooshan nahin chaamundee to 5 kilo se kab hoga

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
3:56
आपका सवाल है कि वायु प्रदूषण नियंत्रण के क्या उपाय है तो वायु प्रदूषण रोकने के लिए वनों को काटकाटना रोकना चाहिए अर्थात वृक्षारोपण आवश्यक है यह एक सामान्य मत है यदि एक क्षेत्र का प्रतिशत भाग वनों से युक्त हैं तो वहां पर प्रदूषण से हानि इनकम होगी वाहनों के माध्यम से प्रीति संतुलन बना बनाया जा सकते हैं प्रत्येक नगर एवं गांव के चारों ओर हरित बेटी का विकास किया जाना चाहिए जाना आवश्यक है इसी प्रकार योग के चारों ओर भी यदि हरित करती होगी तो उसमें प्रदूषण कम होगा वाहनों के संबंध में अनेक तथ्यों पर ध्यान देना आवश्यक है जिससे वाहनों का इंजन पुराने भवनों में उत्पन्न हुए हैं वह चलने तथा परिजनों से लगाए जाए वाहनों का हिंद भली-भांति ट्विंस किया जाना चाहिए वनों में इस प्रकार का सुधार किया जाना चाहिए कि इनके निकलने वाला प्रदूषण पदार्थ नहीं हो और ना ही न्यूज़ टर्बो डीजल में संयोजक पदार्थ मिला करता पेट्रोल में लैंड और सल्फर को निकालकर वजन कम किया जा सकता है रेल वाहनों में जा कोयले का अधिकतम उपयोग होता है कि रिश्ता बड़ा विद्युत चालित इन दिनों का प्रयोग किया जाना चाहिए परंपरागत इंजन लकड़ी कोयला गोबरी आदि का प्रयोग समाप्त करना चाहिए अभी यह हम सब अपने हो तो तुम कहीं चूल्हे का काम में लेना चाहिए अनेक उद्योग जैसे ईटो का भट्टा मिट्टी के बर्तन पुराना जियाजी को आबादी से दूर है स्थापित करना चाहिए वनों में लगने वाली आग था अग्निकुंड ऑन पर तुरंत नियंत्रण की व्यवस्था होना चाहिए उद्योग प्रदूषण का एक प्रमुख कारण है इसके संबंध में कितने उपाय करना चाहिए उद्योगों की स्थापना गाने बसेज भाग और नगरों से दूर होनी चाहिए उद्योगों की स्थापना से पूर्व वायु की दिशा पर ध्यान देना चाहिए यह ई मित्र सेवा अवधि की औरतों नहीं आ रही हैं युवाओं के प्रारंभ होने से पूर्व समस्त विधियों की जानकारी कर लेनी चाहिए जिसमें प्रदूषण को निवेदन करें क्योंकि चंपू की ऊंचाई निर्धारित मापदंड के अनुसार हमें चाहिए क्यों में कम प्रदूषण कारी प्रयोग इसका प्रयोग होना चाहिए युवाओं से निकलने वाले हानिकारक पदार्थ का संशोधन होना चाहिए जिससे वे प्रदर्शन ना करें रूपांतर दोबारा और दूसरों का नियंत्रण किया जा सकता है अनेक अनेक रासायनिक क्रिया द्वारा हानिकारक रसायनों की प्रकृति को बदला जा सकेंगी किस समय तक सोते सा सा सा सा साधन निकलना अरे भाई फल इसी को कहते प्रदर्शन से अलग करके काम किया जा सकता है जिसे जानकर यह स्वाद और आप बोलकर अधिशोषण दोबारा इन सभी के लिए कुछ भी दे विकसित की जा चुकी है किंतु इस दिशा में सबसे सस्ती और सरलता में उपलब्ध तकनीक की आवश्यकता है अगर हमें ऊपर जो भी बताएं उसे अतिरिक्त स्थानी दृष्टि में उपलब्ध संसाधनों का प्रयोग होता है आज तक देश में और प्रदूषण नियंत्रण क्यों नहीं मन था उन्होंने हमारे देश में उद्योगों के लिए कठोर नियम है कि वह वाईफाई टर्न रखें इन सभी नियमों का कठोरता से पालन होना चाहिए क्योंकि इसके साथ मानव जाति का रौशनी जुड़ा हुआ है यदि हम किसी को समझाना चाहते हैं तो हमने वायु प्रदूषण को नियंत्रण करना होगा
Aapaka savaal hai ki vaayu pradooshan niyantran ke kya upaay hai to vaayu pradooshan rokane ke lie vanon ko kaatakaatana rokana chaahie arthaat vrkshaaropan aavashyak hai yah ek saamaany mat hai yadi ek kshetr ka pratishat bhaag vanon se yukt hain to vahaan par pradooshan se haani inakam hogee vaahanon ke maadhyam se preeti santulan bana banaaya ja sakate hain pratyek nagar evan gaanv ke chaaron or harit betee ka vikaas kiya jaana chaahie jaana aavashyak hai isee prakaar yog ke chaaron or bhee yadi harit karatee hogee to usamen pradooshan kam hoga vaahanon ke sambandh mein anek tathyon par dhyaan dena aavashyak hai jisase vaahanon ka injan puraane bhavanon mein utpann hue hain vah chalane tatha parijanon se lagae jae vaahanon ka hind bhalee-bhaanti tvins kiya jaana chaahie vanon mein is prakaar ka sudhaar kiya jaana chaahie ki inake nikalane vaala pradooshan padaarth nahin ho aur na hee nyooz tarbo deejal mein sanyojak padaarth mila karata petrol mein laind aur salphar ko nikaalakar vajan kam kiya ja sakata hai rel vaahanon mein ja koyale ka adhikatam upayog hota hai ki rishta bada vidyut chaalit in dinon ka prayog kiya jaana chaahie paramparaagat injan lakadee koyala gobaree aadi ka prayog samaapt karana chaahie abhee yah ham sab apane ho to tum kaheen choolhe ka kaam mein lena chaahie anek udyog jaise eeto ka bhatta mittee ke bartan puraana jiyaajee ko aabaadee se door hai sthaapit karana chaahie vanon mein lagane vaalee aag tha agnikund on par turant niyantran kee vyavastha hona chaahie udyog pradooshan ka ek pramukh kaaran hai isake sambandh mein kitane upaay karana chaahie udyogon kee sthaapana gaane basej bhaag aur nagaron se door honee chaahie udyogon kee sthaapana se poorv vaayu kee disha par dhyaan dena chaahie yah ee mitr seva avadhi kee auraton nahin aa rahee hain yuvaon ke praarambh hone se poorv samast vidhiyon kee jaanakaaree kar lenee chaahie jisamen pradooshan ko nivedan karen kyonki champoo kee oonchaee nirdhaarit maapadand ke anusaar hamen chaahie kyon mein kam pradooshan kaaree prayog isaka prayog hona chaahie yuvaon se nikalane vaale haanikaarak padaarth ka sanshodhan hona chaahie jisase ve pradarshan na karen roopaantar dobaara aur doosaron ka niyantran kiya ja sakata hai anek anek raasaayanik kriya dvaara haanikaarak rasaayanon kee prakrti ko badala ja sakengee kis samay tak sote sa sa sa sa saadhan nikalana are bhaee phal isee ko kahate pradarshan se alag karake kaam kiya ja sakata hai jise jaanakar yah svaad aur aap bolakar adhishoshan dobaara in sabhee ke lie kuchh bhee de vikasit kee ja chukee hai kintu is disha mein sabase sastee aur saralata mein upalabdh takaneek kee aavashyakata hai agar hamen oopar jo bhee bataen use atirikt sthaanee drshti mein upalabdh sansaadhanon ka prayog hota hai aaj tak desh mein aur pradooshan niyantran kyon nahin man tha unhonne hamaare desh mein udyogon ke lie kathor niyam hai ki vah vaeephaee tarn rakhen in sabhee niyamon ka kathorata se paalan hona chaahie kyonki isake saath maanav jaati ka raushanee juda hua hai yadi ham kisee ko samajhaana chaahate hain to hamane vaayu pradooshan ko niyantran karana hoga

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Berojgar
1:36
प्रश्न 1 बाय प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताइए तो देखिए वायु प्रदूषण फैलता है वह हम पूरा कचरा ऐसे ही बाहर फेंक देते हैं तो उसे क्या होना चाहिए कि सही ढंग से या डस्टबिन में रखना चाहिए और इसका जब आप को इकट्ठा हो जाए तो एक बड़े गड्ढे में ले जाकर हमें डाल देना चाहिए इसके अलावा जो होता है कि खुले में शौच करने से भी वायु प्रदूषण होता है इस पर भी हमें लगा पर रोक लगानी चाहिए और क्या है कि हमें शौचालय का इस्तेमाल करना चाहिए इसके अलावा जो हमारी नालियां होती हैं गटर होते हैं वह क्या होते हैं खुले होते हैं उसमें क्या होता है कि पानी और कचरा एक ही साथ ही आपत्ति जो भी हमारी पेड़ पौधे की पत्तियों से जिनकी भट्ठा चली जाती हैं और क्या होती उसे चढ़ने से बहुत सारी ऐसी हानिकारक गैसें निकलती है जो हमारी आवाज को प्रदूषित कर दिया इसे भी हम क्या करना चाहिए जो भी नाले हैं जो भी गटर है उसे सीवर है उसे क्या करना चाहिए ढक के रखना चाहिए और उसे गांव से आपके मोहल्ले से दूर कहीं जो बड़ा सांप सूख रहा है वहां पर उसका उस पानी को ले जाना चाहिए जिससे कि हम क्या करें वातावरण जो हमारे आसपास का वादा रहा था और है उसे सहयोग उसके साथ-साथ वायु प्रदूषण जो हमारी गाड़ियां हैं जो भी आशा पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियां है उसे भी क्या होता है वायु प्रदूषण बहुत ज्यादा तेजी से होता है इसका भी कंट्रोल करना चाहिए और हमें जब प्रतिदिन क्या होता है कि एक मानक तैयार होना चाहिए और इसके टेस्टिंग गाड़ियों की सेटिंग बराबर होनी चाहिए जिससे कि वह प्रदूषण पर नियंत्रण
Prashn 1 baay pradooshan niyantran ke upaay bataie to dekhie vaayu pradooshan phailata hai vah ham poora kachara aise hee baahar phenk dete hain to use kya hona chaahie ki sahee dhang se ya dastabin mein rakhana chaahie aur isaka jab aap ko ikattha ho jae to ek bade gaddhe mein le jaakar hamen daal dena chaahie isake alaava jo hota hai ki khule mein shauch karane se bhee vaayu pradooshan hota hai is par bhee hamen laga par rok lagaanee chaahie aur kya hai ki hamen shauchaalay ka istemaal karana chaahie isake alaava jo hamaaree naaliyaan hotee hain gatar hote hain vah kya hote hain khule hote hain usamen kya hota hai ki paanee aur kachara ek hee saath hee aapatti jo bhee hamaaree ped paudhe kee pattiyon se jinakee bhattha chalee jaatee hain aur kya hotee use chadhane se bahut saaree aisee haanikaarak gaisen nikalatee hai jo hamaaree aavaaj ko pradooshit kar diya ise bhee ham kya karana chaahie jo bhee naale hain jo bhee gatar hai use seevar hai use kya karana chaahie dhak ke rakhana chaahie aur use gaanv se aapake mohalle se door kaheen jo bada saamp sookh raha hai vahaan par usaka us paanee ko le jaana chaahie jisase ki ham kya karen vaataavaran jo hamaare aasapaas ka vaada raha tha aur hai use sahayog usake saath-saath vaayu pradooshan jo hamaaree gaadiyaan hain jo bhee aasha petrol aur deejal se chalane vaalee gaadiyaan hai use bhee kya hota hai vaayu pradooshan bahut jyaada tejee se hota hai isaka bhee kantrol karana chaahie aur hamen jab pratidin kya hota hai ki ek maanak taiyaar hona chaahie aur isake testing gaadiyon kee seting baraabar honee chaahie jisase ki vah pradooshan par niyantran

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
priyanka kumari Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए priyanka जी का जवाब
Unknown
1:12
नमस्कार क्वेश्चन है वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताओ अभी वायु प्रदूषण क्या समस्या सबसे बड़ी हो गई है जहां भी देखो कश्यप है कि रतनपुरा बहुत ज्यादा ही हो गया है इसके उपाय के लिए हमें लोगों को आगे आना पड़ेगा और कचरा काम करना पड़ेगा वायु प्रदूषण को कम करना पड़ेगा इसके उपाय हेतु जानकारी उद्योगों के लिए सहेली क्षेत्र से दूर अलग से क्लस्टर बनाना ऐसी तकनीक इस्तेमाल करना जिससे धोने का अधिकतर भाग अवशोषित हो जाए और अपशिष्ट पदार्थ भाग्य से अधिक मात्रा में वायु में ना मिलने पर वाहनों में ईंधन से निकले वाले धरने पर नियंत्रण पा रही थी उन्हें हुआ सौर ऊर्जा को प्रोत्साहन जीवाश्म ईंधन का न्यूनतम इस्तेमाल मनु की अनियंत्रित कटाई पर रोक लगाने के साथ नियंत्रण चलने वाले वृक्षारोपण कार्यक्रम अगर हो सके तो आप लोग इधर उधर करते नहीं थे कि कब तक भी नहीं कर सकते कि और सूखा कचरा को अलग गिला करता को अलग करें थैंक यू
Namaskaar kveshchan hai vaayu pradooshan niyantran ke upaay batao abhee vaayu pradooshan kya samasya sabase badee ho gaee hai jahaan bhee dekho kashyap hai ki ratanapura bahut jyaada hee ho gaya hai isake upaay ke lie hamen logon ko aage aana padega aur kachara kaam karana padega vaayu pradooshan ko kam karana padega isake upaay hetu jaanakaaree udyogon ke lie sahelee kshetr se door alag se klastar banaana aisee takaneek istemaal karana jisase dhone ka adhikatar bhaag avashoshit ho jae aur apashisht padaarth bhaagy se adhik maatra mein vaayu mein na milane par vaahanon mein eendhan se nikale vaale dharane par niyantran pa rahee thee unhen hua saur oorja ko protsaahan jeevaashm eendhan ka nyoonatam istemaal manu kee aniyantrit kataee par rok lagaane ke saath niyantran chalane vaale vrkshaaropan kaaryakram agar ho sake to aap log idhar udhar karate nahin the ki kab tak bhee nahin kar sakate ki aur sookha kachara ko alag gila karata ko alag karen thaink yoo

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Divya Singh  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Divya जी का जवाब
Mentor teacher at DoE, Delhi
4:49
नमस्कार साथियों प्रश्न है वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताओ बिल्कुल यह बहुत ही जरूरी है वायु प्रदूषण पर नियंत्रण करना और हम कैसे इसको एक व्यक्तिगत तौर पर हम कैसे इसको नियंत्रित कर सकते हैं इसके कुछ उपाय इस प्रकार हैं वाहन का कम प्रयोग करके क्योंकि वाहन में जब इंसान जलता है तो उसे पोलूशन होता है तो डीजल और पेट्रोल का प्रयोग जितना कम होगा उतना ही वायु प्रदूषण कम होगा इसके लिए हम यह देख सकते हैं कि जब बहुत ही आवश्यक हो लंबी दूरी को तय करने के लिए यदि हम सार्वजनिक यातायात के साधन का प्रयोग नहीं कर रहे हैं तो हम निजी बाद यातायात के साधन से यानी अपनी कार्रवाई के स्कूटर से कहीं जा रहे हैं तो हम उसमें एक निश्चय कर सकते हैं कि वह और दो-तीन किलोमीटर की दूरी के लिए हम साइकिल का प्रयोग कर सकते हैं अकेले यदि मुझे याद करनी है हम कई बार देखते हैं कि हम अपने घर के आस-पास एक दुकान से कुछ सामान लेने भी निकलते हैं तो हम स्कूटर या बाइक निकल निकल पड़ते हैं तो इस प्रकार से हम इंधन को बचा सकते हैं सार्वजनिक यातायात के साधन यानी कि सरकारी बस की मेट्रो ट्रेन का प्रयोग करके हम वाहन के प्रयोग को मिनिमाइज कर सकते हैं यानी के वाहन से जलने वाले ईंधन से होने वाली वायु प्रदूषण पर कंट्रोल या नियंत्रण कर सकते हैं तो यह एक उपाय हुआ इससे कम दूरी के लिए साइकिल का प्रयोग और अधिक दूरी के लिए सार्वजनिक यातायात के साधन का प्रयोग करें अत्यंत आवश्यक होने पर या परिवार सहित जाना है याद तरह की स्थिति बन रही है तो हम बिल्कुल अति आवश्यक होने पर ही अपने वाहन का प्रयोग करें तो इससे सड़कों पर ट्रैफिक जाम भी कम होगा हमारी सेहत भी अच्छी रहेगी वह दूसरे आयाम बनते हैं और वायु क्या बात करें तो यह उसका एक उपाय है दूसरा उपाय है कूड़े को जलाने की बजाय मिट्टी या मतलब गड्ढे में दबा और डिस्पोजल है जो गार वेज को हम फेंकते हैं तो वह जो सारा कूड़ा कचरा है उसको जलाया ना जाए बल्कि किसी ऐसी जगह पर डंप किया जाए जिससे वह स्वयं ही उसे गर्ल करो हूं डिग्रेडेबल जो मारा होता है अजनबी करनी है जो यह होते हैं स्रोत जिससे कि वह से पत्ते हैं उड़ा है ऐसा सब्जी का पूरा है फलों का पूरा है तो उसे जमीन में दबा दिया जाए ना कि उसको लोग प्लास्टिक और कागज को से जला देते वह ना किया जाए तो वायु प्रदूषण उससे भी काफी हद तक रुकता है उपाय इसके जो है वह हो सकते हैं कि घरों में प्रयोग होने वाला जो इन्हें तो हम कौन सी गैस का प्रयोग कर रहे हैं किस ईंधन का प्रयोग कर रहे हैं तो कुछ इंधन है जिसमें कि तू आज अधिक निकलता है जबकि यह पीएनजी है या एंटीची है तो इसका प्रयोग हम करते हैं तो इस तरह का वायु प्रदूषण नहीं होता है तू यह कुछ उपाय हैं मेरे विचार में जिससे हम वायु प्रदूषण को नियंत्रित कर सकते हैं अब बात आती हैं उन फैक्ट्री की उत्पादन क्षेत्रों की जिनकी वजह से वायु प्रदूषण होता है बहुत सी ऐसी फैक्ट्री आऊंगी जहां पर प्लास्टिक का सामान बनता है या कुछ ऐसी जहां पर जरूरत भी ऐसे वायरस होती है तो वायर यहां पर हम बिजली के तार ऐसी चीज जहां पर की आवश्यक यही है कि रमणिया वायर से बनी चीजें प्लास्टिक से बनी चीजों का प्रयोग जहां पर कि हमें इलेक्ट्रिक से बचने के लिए यानी कि गुड कंडक्टर आफ इलेक्ट्रिसिटी का तो वहां पर हमें वायर या रबड़ प्लास्टिक का इस्तेमाल हमें चाहिए को अवश्य तू वहां पर जब इस तरह की जहां पर मन करे होती है इन फैक्ट्री में यह काम होता है तो वहां पर भी उस प्रोसेस में काफी धुआं निकलता है तो उसको भी मिनिमाइज करने के लिए मैं उपाय तो मेरे पास नहीं है क्योंकि मैं इतनी जानकारी नहीं रखती कि हम फैक्ट्री से निकलने वाले लोगों को कैसे कंट्रोल करें बट हां यह इस पर विचार किया जाना चाहिए कि कम से कम वायु प्रदूषण और इसके उपाय इसकी टेक्नोलॉजी यदि है तो इन पर एक जिम्मेदारी हो एक अकाउंटेबिलिटी हो जवाबदेही हो ऐसी कंपनी इसकी ऐसी फैक्ट्रियों की कि उनकी वजह से वायु प्रदूषण जो हो रहा है कुत्ते कैसे रोक यक्ष यक्ष लगाया जाए तो यह कुछ उपाय हैं जिनसे हम वायु प्रदूषण को कम कर सकता
Namaskaar saathiyon prashn hai vaayu pradooshan niyantran ke upaay batao bilkul yah bahut hee jarooree hai vaayu pradooshan par niyantran karana aur ham kaise isako ek vyaktigat taur par ham kaise isako niyantrit kar sakate hain isake kuchh upaay is prakaar hain vaahan ka kam prayog karake kyonki vaahan mein jab insaan jalata hai to use polooshan hota hai to deejal aur petrol ka prayog jitana kam hoga utana hee vaayu pradooshan kam hoga isake lie ham yah dekh sakate hain ki jab bahut hee aavashyak ho lambee dooree ko tay karane ke lie yadi ham saarvajanik yaataayaat ke saadhan ka prayog nahin kar rahe hain to ham nijee baad yaataayaat ke saadhan se yaanee apanee kaarravaee ke skootar se kaheen ja rahe hain to ham usamen ek nishchay kar sakate hain ki vah aur do-teen kilomeetar kee dooree ke lie ham saikil ka prayog kar sakate hain akele yadi mujhe yaad karanee hai ham kaee baar dekhate hain ki ham apane ghar ke aas-paas ek dukaan se kuchh saamaan lene bhee nikalate hain to ham skootar ya baik nikal nikal padate hain to is prakaar se ham indhan ko bacha sakate hain saarvajanik yaataayaat ke saadhan yaanee ki sarakaaree bas kee metro tren ka prayog karake ham vaahan ke prayog ko minimaij kar sakate hain yaanee ke vaahan se jalane vaale eendhan se hone vaalee vaayu pradooshan par kantrol ya niyantran kar sakate hain to yah ek upaay hua isase kam dooree ke lie saikil ka prayog aur adhik dooree ke lie saarvajanik yaataayaat ke saadhan ka prayog karen atyant aavashyak hone par ya parivaar sahit jaana hai yaad tarah kee sthiti ban rahee hai to ham bilkul ati aavashyak hone par hee apane vaahan ka prayog karen to isase sadakon par traiphik jaam bhee kam hoga hamaaree sehat bhee achchhee rahegee vah doosare aayaam banate hain aur vaayu kya baat karen to yah usaka ek upaay hai doosara upaay hai koode ko jalaane kee bajaay mittee ya matalab gaddhe mein daba aur dispojal hai jo gaar vej ko ham phenkate hain to vah jo saara kooda kachara hai usako jalaaya na jae balki kisee aisee jagah par damp kiya jae jisase vah svayan hee use garl karo hoon digredebal jo maara hota hai ajanabee karanee hai jo yah hote hain srot jisase ki vah se patte hain uda hai aisa sabjee ka poora hai phalon ka poora hai to use jameen mein daba diya jae na ki usako log plaastik aur kaagaj ko se jala dete vah na kiya jae to vaayu pradooshan usase bhee kaaphee had tak rukata hai upaay isake jo hai vah ho sakate hain ki gharon mein prayog hone vaala jo inhen to ham kaun see gais ka prayog kar rahe hain kis eendhan ka prayog kar rahe hain to kuchh indhan hai jisamen ki too aaj adhik nikalata hai jabaki yah peeenajee hai ya enteechee hai to isaka prayog ham karate hain to is tarah ka vaayu pradooshan nahin hota hai too yah kuchh upaay hain mere vichaar mein jisase ham vaayu pradooshan ko niyantrit kar sakate hain ab baat aatee hain un phaiktree kee utpaadan kshetron kee jinakee vajah se vaayu pradooshan hota hai bahut see aisee phaiktree aaoongee jahaan par plaastik ka saamaan banata hai ya kuchh aisee jahaan par jaroorat bhee aise vaayaras hotee hai to vaayar yahaan par ham bijalee ke taar aisee cheej jahaan par kee aavashyak yahee hai ki ramaniya vaayar se banee cheejen plaastik se banee cheejon ka prayog jahaan par ki hamen ilektrik se bachane ke lie yaanee ki gud kandaktar aaph ilektrisitee ka to vahaan par hamen vaayar ya rabad plaastik ka istemaal hamen chaahie ko avashy too vahaan par jab is tarah kee jahaan par man kare hotee hai in phaiktree mein yah kaam hota hai to vahaan par bhee us proses mein kaaphee dhuaan nikalata hai to usako bhee minimaij karane ke lie main upaay to mere paas nahin hai kyonki main itanee jaanakaaree nahin rakhatee ki ham phaiktree se nikalane vaale logon ko kaise kantrol karen bat haan yah is par vichaar kiya jaana chaahie ki kam se kam vaayu pradooshan aur isake upaay isakee teknolojee yadi hai to in par ek jimmedaaree ho ek akauntebilitee ho javaabadehee ho aisee kampanee isakee aisee phaiktriyon kee ki unakee vajah se vaayu pradooshan jo ho raha hai kutte kaise rok yaksh yaksh lagaaya jae to yah kuchh upaay hain jinase ham vaayu pradooshan ko kam kar sakata

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Reetoo singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Reetoo जी का जवाब
Unknown
0:28
नियंत्रण के उपाय पर्याप्त वृक्षारोपण आनंद मंगल विद्युत चलित कमीनों का प्रयोग किया जाना चाहिए
Niyantran ke upaay paryaapt vrkshaaropan aanand mangal vidyut chalit kameenon ka prayog kiya jaana chaahie

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
1:30
प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताइए तू वायु प्रदूषण नियंत्रण का में पाया जाने दो तरीकों से कर सकते हैं यहां तक कि हम सभी जानते हैं कि वायु प्रदूषण जो आता है वही का प्रदर्शन होता है जिसके द्वारा हम अपने ₹1 भाइयों को जो है नष्ट कर देते हैं था उसकी उसके गुणवत्ता को कम कर देते हैं जिससे क्या होता है कि हानि तो हमें ही होती है इतनी जरूरी होता है कि हम भाइयों को जो हैं शुद्ध करके रखें इसके लिए हैं जितने भी मोटर गाड़ी है जिससे वहां से जुड़े धुआं निकलता है उस दुआ में जो बताए अनेक तरह के जहरीले गैस होते हैं क्योंकि भाइयों ने मिलकर जो है वायु को प्रदूषित कर देती हैं इसके लिए सबसे जरूरी है कि मैं बाल विज्ञान प्रदूषण कम करने के लिए अनेक तरह से निकलने वाले मोटर गाड़ियों के 2 से 25 दूसरा कारण कल कारखानों से निकलने वाली जितनी भी तुम्हें होते हैं या फिर चिमनी से निकलने वाले खतरनाक कैसे हैं हमारे भाइयों को और भी प्रदूषित कर दी इसके लिए जो है ना नियंत्रण करने के लिए कम से कम इसका प्रयोग करना चाहिए और दूसरी बात है कि हमें अत्याधिक मात्रा में जाएं पेड़ पौधों को लगाना चाहिए कि पेड़ पौधे जो होते हैं वह कहीं ना कहीं वायु प्रदूषण को कम करते हैं

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
lalit Netam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए lalit जी का जवाब
Unknown
1:26
आपका सवाल है वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय बताओ इसका जवाब है वायु प्रदूषण किन-किन चीजों से जब से ज्यादा होता है बाबू प्रदर्शन बहुत सारे चीजों के कारण होते जैसे कारखाने हो गया फैक्ट्री एजेंसी भाई प्रदूषण होता है और बी कल्याणी की जो आप गाड़ी चलाते हो बाइक चलाते हो पर मोटर जो भी गाड़ी चलती है उन से जोड़ दूंगा निकलता है उससे वायु प्रदूषण होता है ठीक है भेज दो चीजें कारखानों के लिए निकलना दुधवा उससे बाय प्रदूषण होता है और गाड़ी को चलाते हैं उसे बाय प्रदर्शन होता है और जो चलते ने जल प्रदूषण भी होता है उसके हवाई जहाज लेकिन जो समुद्री जहाज होते हैं उनसे जल प्रदूषण होता है और प्रदूषण हुआ जिसे नियंत्रण कैसे कर सकते इसके बारे में बात कर सकता हूं नियंत्रण करने के लिए पहले तो इलेक्ट्रिक व्हीकल चलाना होगा आने का टाइम इलेक्ट्रिकल आने वाले हैं अभी स्वर कामकाज बहुत बड़ी बड़ी कंपनी स्वीटेस्ट लव कैसे कंपनी काम करिए इलेक्ट्रिक कार दिखेंगे आपको इलेक्ट्रिक व्हीकल लिखेंगे आनंद फ्यूचर की चर्चा में रहती है तो यह आशा जाने कि आप अग्रवाल गुलशन कंपनी चाहते तो इलेक्ट्रिक वाहन का उपयोग करना है इलेक्ट्रिक वाहन का उपयोग करना है वहां पर खंड की चिमनी को ऊपर सबसे ऊपर या नीचे नीचे ऊपर बनाना चाहिए लंबा करना चाहिए और वायु प्रदूषण जहां पर भी हो रहा है उसे रोकने के लिए सरकार को नियंत्रण करना चाहिए कुछ न कुछ रोकथाम करनी चाहिए ठीक है

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Bhanu Prakash jha  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Bhanu जी का जवाब
Students
0:28

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
Anand Kumar Rai Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Anand जी का जवाब
Job
1:40

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • वायु प्रदूषण पर नियंत्रण कैसे पाएं, वायु प्रदूषण क्या है
URL copied to clipboard