#रिश्ते और संबंध

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:11
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया अधिकतर लड़कों को एक से ज्यादा लड़कियों की तरफ अट्रैक्शन क्यों होता है इसके पीछे क्या रीजन है जबकि वह सच्चा लव भी करते हैं तो भी अन्य लड़कियों के साथ अटैच हो जाते हैं तो दोस्तों में बताना चाहता हूं कि यह आकर्षण जो है मनुष्य में चाहे स्त्री हो या पुरुष स्तर प्रदत्त है अगर आकर्षण नहीं आई होगा तो सृष्टि नहीं चलेगी तो विपरीत सेक्स के प्रति आकर्षण बनाया गया है तो लड़का है लड़कियों की सुंदरता के प्रति आकर्षित हो जाता है उसके व्यवहार से आकर्षित हो जाता है उसकी सारी की स्थिति को देखकर आकर्षित हो जाता है ऐसी लड़कियां भी आकर्षित होती है लेकिन लड़कियां को खुलकर बोलने की जैसे भारत में आजादी नहीं रही थी अब धीरे-धीरे शहरों में लड़कियां भी खुल कर बोल रही है लड़कियों के अपने भी मित्र बहुत सारे हैं वह भी आकर्षित होती है तो उत्तर प्रदेश है आकर्षण बना रहेगा तभी प्यार होगा तो यह प्राकृतिक चीज है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya adhikatar ladakon ko ek se jyaada ladakiyon kee taraph atraikshan kyon hota hai isake peechhe kya reejan hai jabaki vah sachcha lav bhee karate hain to bhee any ladakiyon ke saath ataich ho jaate hain to doston mein bataana chaahata hoon ki yah aakarshan jo hai manushy mein chaahe stree ho ya purush star pradatt hai agar aakarshan nahin aaee hoga to srshti nahin chalegee to vipareet seks ke prati aakarshan banaaya gaya hai to ladaka hai ladakiyon kee sundarata ke prati aakarshit ho jaata hai usake vyavahaar se aakarshit ho jaata hai usakee saaree kee sthiti ko dekhakar aakarshit ho jaata hai aisee ladakiyaan bhee aakarshit hotee hai lekin ladakiyaan ko khulakar bolane kee jaise bhaarat mein aajaadee nahin rahee thee ab dheere-dheere shaharon mein ladakiyaan bhee khul kar bol rahee hai ladakiyon ke apane bhee mitr bahut saare hain vah bhee aakarshit hotee hai to uttar pradesh hai aakarshan bana rahega tabhee pyaar hoga to yah praakrtik cheej hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

अभिषेक शुक्ला  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए अभिषेक जी का जवाब
Motivational speaker
1:28
होता क्या है कि लड़कों के जोश एक मनोवैज्ञानिक सोच होती है तो उसको तो क्या होता है जब एक बच्चे के रूप में ले लीजिए 6 बड़े गुरु किसी बच्चे को आपने देखा होगा कि कोई भी अगर नहीं खींची उसके पास आती है तो काफी समय तक जो है तो उसी को ही जो है तो बहुत ज्यादा लगाओ जाता उसके प्रति विशेष और काफी ज्यादा यदि उस खिलौने दे दिया जाए फिर कुछ भी चीज दे दी जाए क्या काफी समय तक उसके साथ समय व्यतीत करता है तो ठीक वैसे ही सोचो मैं तो धीरे-धीरे बढ़ती है दोस्तों और कुछ भी चीज है जो अच्छी दिखने में अच्छी दिखे कहने का मतलब यह है कि शारीरिक रूप से यदि कोई व्यक्ति अच्छे दिख रहा होता है तो उस समय क्या होता है कि लोगों की सोच होती है कि चलो यह अच्छा व्यक्ति है सी दिख रही बदलाव की सुंदरता के ऊपर जो है तू है जो है तो लड्डू बन जाता है और कहने का मतलब यह है कि आकर्षित हो जाता है उनकी सुंदरता को देखकर के अधिकतम जो है लड़कियां जो है तो उसमें कर लेंगे कि एक्शन हो जाता है वह तो इस वजह से जो है तो उनका यदि कोई भी है तो भेजो मैं तो चाह कर भी यह चीजें नहीं कंट्रोल कर पाते हो जो है तो दूसरे के प्रति भी अट्रैक्ट हो जाते हैं यह तो छोटा सो जाओ मिस करता हूं आपको सूचना जो सुझाव पसंद है हेलो
Hota kya hai ki ladakon ke josh ek manovaigyaanik soch hotee hai to usako to kya hota hai jab ek bachche ke roop mein le leejie 6 bade guru kisee bachche ko aapane dekha hoga ki koee bhee agar nahin kheenchee usake paas aatee hai to kaaphee samay tak jo hai to usee ko hee jo hai to bahut jyaada lagao jaata usake prati vishesh aur kaaphee jyaada yadi us khilaune de diya jae phir kuchh bhee cheej de dee jae kya kaaphee samay tak usake saath samay vyateet karata hai to theek vaise hee socho main to dheere-dheere badhatee hai doston aur kuchh bhee cheej hai jo achchhee dikhane mein achchhee dikhe kahane ka matalab yah hai ki shaareerik roop se yadi koee vyakti achchhe dikh raha hota hai to us samay kya hota hai ki logon kee soch hotee hai ki chalo yah achchha vyakti hai see dikh rahee badalaav kee sundarata ke oopar jo hai too hai jo hai to laddoo ban jaata hai aur kahane ka matalab yah hai ki aakarshit ho jaata hai unakee sundarata ko dekhakar ke adhikatam jo hai ladakiyaan jo hai to usamen kar lenge ki ekshan ho jaata hai vah to is vajah se jo hai to unaka yadi koee bhee hai to bhejo main to chaah kar bhee yah cheejen nahin kantrol kar paate ho jo hai to doosare ke prati bhee atraikt ho jaate hain yah to chhota so jao mis karata hoon aapako soochana jo sujhaav pasand hai helo

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:56
प्रश्न पूछा कि अधिकतर लड़कों को एक से ज्यादा लड़कियों की तरह टेकचंद क्यों होता है देखिए और यह भी पूछा जाए इसके पीछे रीजन क्या है कि वह एक सच्चा प्यार भी करते हैं और दूसरी लड़की की तरह टेक्शन एक इंसान के साथ ऐसा नहीं होता है कुछ लोग एक सफल होते हैं जो अपनी गर्लफ्रेंड होने की वजह से भी दूसरे के साथ रिलेशन रखना चाहते हैं लेकिन देखा जाए तू जो लड़के होते हैं जो तो कहा जाए कि उनका जो जैनुअल प्यार होता है एक ही प्यार होता है वह अपने लाइफ में और चाहते हैं कि हमारा प्यार हमारे साथ रहे और उनका ही वह जिंदगी के रूप में मानते हैं लेकिन आज के समय में देखा जाए तो बहुत ऐसे लोग हैं या लड़के ही लड़के भी हैं और लड़कियां भी है कि 1 से ज्यादा अपेक्षा रखने की मतलब रिलेशन रखने की कोशिश करते हैं और यही प्रसून की वजह से बहुत लड़कों के साथ धोखा या लड़कियों के साथ धोखा होता है यही कारण होता है कि उल्लू इस वजह से जान भी दे देते हैं सबसे बड़ा रीजन बताएं कि ऐसा अट्रैक्शन होता है कि एक दूसरे के साथ आपका रिलेशन बनता है और इसकी वजह से क्या होता है कि हम अगर देखते हैं कि अट्रैक्शन एक से ज्यादा तू जब आप अगर जैनुअल प्यार करते हैं मैं तो रियल अगर प्यार कर रहे हैं तो देखेंगे अट्रैक्शन होता है लेकिन जो आपकी फ्रेंडली अट्रैक्शन होता है ना कि आप एक रिलेशन में बनने के लिए ट्रैक्शन होते हैं और कुछ लोगों का ऐसा होता है कि वह एक के साथ दूसरा रिलेशन तीसरा चौथा रिलेशन की लड़कियां भी होती है लड़के भी होते हैं लेकिन अक्सर हम जानते हैं लेकिन बस में एक ही चीज खाना चाहिए जो रियल में प्यार होता है वह हकीकत में एक ही के साथ होता है वह बार-बार चेंज नहीं होता अट्रैक्शन नहीं होता है बस हमारी एक देखने की प्रवृत्ति होती है हम उन्हें देखते हैं लेकिन हमारा जो प्यार होता है उनकी प्रति नहीं होता है जिसके प्रति अगर एक बार हो जाता है उसे के प्रति बना रहता है
Prashn poochha ki adhikatar ladakon ko ek se jyaada ladakiyon kee tarah tekachand kyon hota hai dekhie aur yah bhee poochha jae isake peechhe reejan kya hai ki vah ek sachcha pyaar bhee karate hain aur doosaree ladakee kee tarah tekshan ek insaan ke saath aisa nahin hota hai kuchh log ek saphal hote hain jo apanee garlaphrend hone kee vajah se bhee doosare ke saath rileshan rakhana chaahate hain lekin dekha jae too jo ladake hote hain jo to kaha jae ki unaka jo jainual pyaar hota hai ek hee pyaar hota hai vah apane laiph mein aur chaahate hain ki hamaara pyaar hamaare saath rahe aur unaka hee vah jindagee ke roop mein maanate hain lekin aaj ke samay mein dekha jae to bahut aise log hain ya ladake hee ladake bhee hain aur ladakiyaan bhee hai ki 1 se jyaada apeksha rakhane kee matalab rileshan rakhane kee koshish karate hain aur yahee prasoon kee vajah se bahut ladakon ke saath dhokha ya ladakiyon ke saath dhokha hota hai yahee kaaran hota hai ki ulloo is vajah se jaan bhee de dete hain sabase bada reejan bataen ki aisa atraikshan hota hai ki ek doosare ke saath aapaka rileshan banata hai aur isakee vajah se kya hota hai ki ham agar dekhate hain ki atraikshan ek se jyaada too jab aap agar jainual pyaar karate hain main to riyal agar pyaar kar rahe hain to dekhenge atraikshan hota hai lekin jo aapakee phrendalee atraikshan hota hai na ki aap ek rileshan mein banane ke lie traikshan hote hain aur kuchh logon ka aisa hota hai ki vah ek ke saath doosara rileshan teesara chautha rileshan kee ladakiyaan bhee hotee hai ladake bhee hote hain lekin aksar ham jaanate hain lekin bas mein ek hee cheej khaana chaahie jo riyal mein pyaar hota hai vah hakeekat mein ek hee ke saath hota hai vah baar-baar chenj nahin hota atraikshan nahin hota hai bas hamaaree ek dekhane kee pravrtti hotee hai ham unhen dekhate hain lekin hamaara jo pyaar hota hai unakee prati nahin hota hai jisake prati agar ek baar ho jaata hai use ke prati bana rahata hai

Chandan Kumar bharati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Chandan जी का जवाब
Teacher
1:48
हेलो नमस्कार आपका ब्रोकर में स्वागत है आपका प्रश्न है कि अधिकतर लड़कों को एक से ज्यादा लड़कियों की तरह अटेंडेंस क्यों होता है इसके पीछे क्या रीजन है जबकि वह सच है देखिए बात आप अच्छी का रहते हैं कि यह सच है कि अधिकतर लड़को ज्यादा लड़कियों पर प्रभावित होते हैं लड़कियां भी एक का छोड़कर बहुत से लड़कों पर प्रभावित होती है इसका रिजल्ट होता है किसी के बात करने की तो दुर्वा अलग होती है किसी को देखते ही प्रेम हो जाता है किसी का माना जाए तो प्रेम व्यवहार अच्छा होता है इससे लड़कियां आकर्षित होती है आपकी प्रेम विवाह अच्छे होंगे आपकी तरफ क्या लड़कियां क्या होती है आकर्षित होती है कुछ लड़कियां ऐसी होती है कि पैसे या हो इसके पैसा हो या अच्छा खाना पीना हो दूसरा कि अच्छा इस लड़के के पास आदरणीय तो कुछ लड़कियां उसको छोड़ कर उस लड़कों को पकड़ लेती है जो अधिक पैसे वाले होते हैं क्योंकि आज के डेट में बहुत से 95 परसेंटेज सी लड़की है जो कि पैसे की तरह भागती है उनका जैसी जीवन ही जो है वह मणि इसलिए कहा जाते आदित्य लड़कों से ज्यादा लड़के की तरफ आकर्षित हो जाती या लड़कियां भी अधिकतर लड़कों के साथ एक जगह आकर्षित हो जाते हैं कि 7 अक्टूबर को विराम देता हूं लाइक कीजिए कमेंट कीजिए
Helo namaskaar aapaka brokar mein svaagat hai aapaka prashn hai ki adhikatar ladakon ko ek se jyaada ladakiyon kee tarah atendens kyon hota hai isake peechhe kya reejan hai jabaki vah sach hai dekhie baat aap achchhee ka rahate hain ki yah sach hai ki adhikatar ladako jyaada ladakiyon par prabhaavit hote hain ladakiyaan bhee ek ka chhodakar bahut se ladakon par prabhaavit hotee hai isaka rijalt hota hai kisee ke baat karane kee to durva alag hotee hai kisee ko dekhate hee prem ho jaata hai kisee ka maana jae to prem vyavahaar achchha hota hai isase ladakiyaan aakarshit hotee hai aapakee prem vivaah achchhe honge aapakee taraph kya ladakiyaan kya hotee hai aakarshit hotee hai kuchh ladakiyaan aisee hotee hai ki paise ya ho isake paisa ho ya achchha khaana peena ho doosara ki achchha is ladake ke paas aadaraneey to kuchh ladakiyaan usako chhod kar us ladakon ko pakad letee hai jo adhik paise vaale hote hain kyonki aaj ke det mein bahut se 95 parasentej see ladakee hai jo ki paise kee tarah bhaagatee hai unaka jaisee jeevan hee jo hai vah mani isalie kaha jaate aadity ladakon se jyaada ladake kee taraph aakarshit ho jaatee ya ladakiyaan bhee adhikatar ladakon ke saath ek jagah aakarshit ho jaate hain ki 7 aktoobar ko viraam deta hoon laik keejie kament keejie

Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:28
लड़कों को एक से ज्यादा लड़कियों की तरफ अट्रैक्शन क्यों होता है और उसके पीछे क्यों ऐसे हैं जिनकी बस अच्छे लोग ही करती है क्या करती फिल्मी गाने टेंशन अलग-अलग लोगों के क्या कारण है कि दवा कुछ समझने की कोई वैल्यू नहीं है हमेशा विपरीत लिंग की तरफ रहता है और हंड्रेड परसेंट का प्रभाव रहेगा तो हर विपरीत लिंग का एक दूसरे के कंट्रक्शन बनाई मानव सेंटर जागरुक है तय है कि नहीं क्यों है हमने क्या कारण है या जो भी है दोपहर में तो यही जानना चाहता हूं कि जो लड़के या लड़कियां क्या लड़कियों का टेंशन लड़कों को दर्द नहीं होता बिल्कुल होता है इससे आपको क्या जानना चाहते रीजन ने बताया कि लिंग का यानी कि एक दूसरे सेक्स की तरफ देखो बाबू गलत मत सोचना कि मेरा कहने का मतलब है कि दो अलग-अलग सेंटर होने के कारण एक दूसरे को बनना चाहते हैं और आप लोग आज के आधुनिक वीडियो से सच्चे प्यार की उम्मीद की जा सकती है मुझे नहीं कमीनी चीज है वरना मैं ईश्वर को मानने को तैयार हूं तो वह स्वभाव है नीचे है मनुष्य का के विपरीत लिंग की तरफ अट्रैक्शन बना रहा था और वही चीजें हैं जो चलती जा रहे 22446 करो अगर आप की निगाहें इस तरह का होता है शायद यही कारण हो सकता है
Ladakon ko ek se jyaada ladakiyon kee taraph atraikshan kyon hota hai aur usake peechhe kyon aise hain jinakee bas achchhe log hee karatee hai kya karatee philmee gaane tenshan alag-alag logon ke kya kaaran hai ki dava kuchh samajhane kee koee vailyoo nahin hai hamesha vipareet ling kee taraph rahata hai aur handred parasent ka prabhaav rahega to har vipareet ling ka ek doosare ke kantrakshan banaee maanav sentar jaagaruk hai tay hai ki nahin kyon hai hamane kya kaaran hai ya jo bhee hai dopahar mein to yahee jaanana chaahata hoon ki jo ladake ya ladakiyaan kya ladakiyon ka tenshan ladakon ko dard nahin hota bilkul hota hai isase aapako kya jaanana chaahate reejan ne bataaya ki ling ka yaanee ki ek doosare seks kee taraph dekho baaboo galat mat sochana ki mera kahane ka matalab hai ki do alag-alag sentar hone ke kaaran ek doosare ko banana chaahate hain aur aap log aaj ke aadhunik veediyo se sachche pyaar kee ummeed kee ja sakatee hai mujhe nahin kameenee cheej hai varana main eeshvar ko maanane ko taiyaar hoon to vah svabhaav hai neeche hai manushy ka ke vipareet ling kee taraph atraikshan bana raha tha aur vahee cheejen hain jo chalatee ja rahe 22446 karo agar aap kee nigaahen is tarah ka hota hai shaayad yahee kaaran ho sakata hai

DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:15
इतनी ठंड लगती है उसमें कुछ हद तक उचित है लेकिन सर बताने में डर के सच्चे दिल से लड़कियों के प्यार करते हैं प्यार का मतलब उन्हें पसंद करते हैं उनके आचरण को उनके हाव-भाव उनकी टेंशन थी उनकी सोच विचार को और इस पर्सेंट को वोट ना जीवनसाथी के रूप में चुनना चाहते हैं उनका शायद यह पसंद सबको तूफान हो परिवार वालों को छुपाना दोनों पक्षों को शुभकामना उसके बावजूद भी कुछ लड़कों में यह जत्था जाते हैं कि वह इस लड़की से दोस्ती करते हैं सच्चे दिल से दोस्ती करते हैं उसके बाद उनका ध्यान दूसरी लड़कियों की तरह है क्योंकि कई बार देखा जाता है कि लड़कों का लड़कियों के पास नहीं होता चलता हूं जब आपको देखते हैं और उनकी यह सोच होती है कि आम लड़की जो है वह समय चीज होती है इसलिए खड़ा किस सोच अरे की प्रवृत्ति का शिकार हो जाते
Itanee thand lagatee hai usamen kuchh had tak uchit hai lekin sar bataane mein dar ke sachche dil se ladakiyon ke pyaar karate hain pyaar ka matalab unhen pasand karate hain unake aacharan ko unake haav-bhaav unakee tenshan thee unakee soch vichaar ko aur is parsent ko vot na jeevanasaathee ke roop mein chunana chaahate hain unaka shaayad yah pasand sabako toophaan ho parivaar vaalon ko chhupaana donon pakshon ko shubhakaamana usake baavajood bhee kuchh ladakon mein yah jattha jaate hain ki vah is ladakee se dostee karate hain sachche dil se dostee karate hain usake baad unaka dhyaan doosaree ladakiyon kee tarah hai kyonki kaee baar dekha jaata hai ki ladakon ka ladakiyon ke paas nahin hota chalata hoon jab aapako dekhate hain aur unakee yah soch hotee hai ki aam ladakee jo hai vah samay cheej hotee hai isalie khada kis soch are kee pravrtti ka shikaar ho jaate

nav kishor aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nav जी का जवाब
Service
1:35
नमस्कार आपका सवाल है कि अधिकतर लड़कों के एक से ज्यादा लड़कियों की तरफ आरक्षण क्यों होता है इसके पीछे क्या रीजन है जबकि वह सच्चा प्यार भी करते हैं तब भी मैंने लड़कियों के पीछे भागते दिखे दोस्त ऐसा होता है कि लड़का जो होता है एक मास्टर चाबी होता है वह किसी भी ताले को खोल सकता है जो कि लड़कियां जो होती है वह खराब ताले की दवा होती है वो किसी भी चाबी से खुल जाती है तो जैसे कोई ताला खराब हो तो किसी भी चाबी से खुल जाता है और जो मास्टर की होती है वह किसी भी ताले को खोल देती है तो यही फर्क होता है अब वह ठीक है लड़का सच्चा प्यार करता है सच्चा लव करता लेकिन कहीं ना कहीं उसकी नजरें दूसरी तरफ घूमती रहती है और यह तो मनु गिरती है लड़कों की यह तो पूछो कि मनु गिरती है कि वह जहां भी अच्छी चीज देखे हैं या उन्हें थोड़ा सा अट्रैक्शन होती है तो वह तुरंत ही उधर भागने लग जाते हैं तो इस बात को हम ना तो कंट्रोल कर सकते हैं ना समझा सकते हैं जबकि लड़कियों को अपनी सामाजिक मर्यादा का ध्यान होता है लाज लज्जा का ध्यान होता है उन्हें पता है कि अगर हम किसी ज्यादा लड़के की तरह भागेंगे तो हमारी बदनामी होगी हमारे संस्कार खराब होंगे हमारे मां-बाप का नाम खराब होगा लड़कों को इस बात की कोई चिंता नहीं है उन्हें तो कोई फर्क ही नहीं पड़ता वह चाहे एक लड़की से लोग करें सदस्य लड़कियों से लोग करें उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता ना उन्हें अपने संस्कारों की चिंता है ना उन्हें अपने बेज्जती की चिंता नॉन अपने मां बाप के नाम खराब होने की चिंता होती है तो यह सब चीज है कारण होती है टीवी लड़के जो है एक से अधिक लड़कियों की तरफ भागते हैं उनकी तरफ अट्रैक्शन उनका हो जाता है धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki adhikatar ladakon ke ek se jyaada ladakiyon kee taraph aarakshan kyon hota hai isake peechhe kya reejan hai jabaki vah sachcha pyaar bhee karate hain tab bhee mainne ladakiyon ke peechhe bhaagate dikhe dost aisa hota hai ki ladaka jo hota hai ek maastar chaabee hota hai vah kisee bhee taale ko khol sakata hai jo ki ladakiyaan jo hotee hai vah kharaab taale kee dava hotee hai vo kisee bhee chaabee se khul jaatee hai to jaise koee taala kharaab ho to kisee bhee chaabee se khul jaata hai aur jo maastar kee hotee hai vah kisee bhee taale ko khol detee hai to yahee phark hota hai ab vah theek hai ladaka sachcha pyaar karata hai sachcha lav karata lekin kaheen na kaheen usakee najaren doosaree taraph ghoomatee rahatee hai aur yah to manu giratee hai ladakon kee yah to poochho ki manu giratee hai ki vah jahaan bhee achchhee cheej dekhe hain ya unhen thoda sa atraikshan hotee hai to vah turant hee udhar bhaagane lag jaate hain to is baat ko ham na to kantrol kar sakate hain na samajha sakate hain jabaki ladakiyon ko apanee saamaajik maryaada ka dhyaan hota hai laaj lajja ka dhyaan hota hai unhen pata hai ki agar ham kisee jyaada ladake kee tarah bhaagenge to hamaaree badanaamee hogee hamaare sanskaar kharaab honge hamaare maan-baap ka naam kharaab hoga ladakon ko is baat kee koee chinta nahin hai unhen to koee phark hee nahin padata vah chaahe ek ladakee se log karen sadasy ladakiyon se log karen unhen koee phark nahin padata na unhen apane sanskaaron kee chinta hai na unhen apane bejjatee kee chinta non apane maan baap ke naam kharaab hone kee chinta hotee hai to yah sab cheej hai kaaran hotee hai teevee ladake jo hai ek se adhik ladakiyon kee taraph bhaagate hain unakee taraph atraikshan unaka ho jaata hai dhanyavaad

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:32
जीवन साथी आपका अधिकतर लड़कों के बीच सुंदर लड़कियों की तरफ से टेंशन क्यों होता है इसके पीछे क्या रीजन है सच्चा प्यार करते हैं इसलिए तो भी उसे दूसरे की तरक्की हो जाता है तो फ्रेंड से इसका जवाब यह है आप सच्चा प्यार करती है तो आप एक लड़की से मिलेंगे नंबर दूसरे की तरफ आपका टेंशन हो रहा है तो आपका प्यार सच्चा नहीं है आपको अपने मन पर काबू रखना प्यार करते हैं उसी से घुलना मिलना है बातें करना है आपको सबके ऊपर टेंशन नहीं करना है

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • प्रेम का मनोविज्ञान, पुरुष स्त्री प्रेम का मनोविज्ञान, आकर्षण का मनोविज्ञान
URL copied to clipboard