#भारत की राजनीति

bolkar speaker

राकेश टिकैत क्या किसान आंदोलन के एजेंडे से अलग चल रहे हैं?

Rakesh Tikait Kya Kisaan Andolan Ke Agenda Se Alag Chal Rahe Hain
Rahul chaudhary Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
2:19
आपका सवाल है कि क्या राकेश टिकैत किसान आंदोलन के एजेंडे से अलग से नहीं देखी ऐसा है किसान आंदोलन 26 जनवरी के बाद ऐसी स्थिति में आ गया था कि जान लगभग लगभग समाप्ति की तरफ जा रहा था लेकिन राकेश टिकैत के वह अनसूया उसका जो भावनात्मक अपील थी उसका असर है कि अब आंदोलन पहले से भी तेज गति से चल रहा है और उससे बड़ा रूप धारण कर चुका है ऐसा होता है कि उसमें हम मानते हैं कि एक दो गलतियां राकेश टिकैत जी से हुई हैं जैसे कि उन्होंने बिना संयुक्त मोर्चा से पूछे मैं 8 अक्टूबर तक आंदोलन चलाने की बात कह दी कि 8 अक्टूबर तक देखेंगे तो ऐसा है जब आदमी इतने बड़े इतनी शोहरत एकदम मिल जाती है तो स्थिति थोड़ा फर्क पड़ता है उसको और भाई की जो उनके साथ हुई लेकिन अब वह परिस्थितियों के अनुसार और जो संयुक्त किसान मोर्चा है उसके अनुसार चल रहे हैं स्थितियां जल्द ही किसानों के पक्ष में होंगे ऐसा मोहित करते हैं बाकी सरकार अभी फुल मेजॉरिटी में है तो उस पर से कोई प्रेशर है नहीं कि वह भाई बात मान नहीं माने लेकिन यह चीजें जब भी आंदोलन होते हैं तो वह अगर नहीं माने जाते तो सत्ता परिवर्तन कर देते हैं यही बात राकेश टिकैत कई अपने भाषणों में भी कह चुके हैं कि अभी तो हम सिर्फ बिल वापसी की बात कर रहे हैं जिस दिन सत्ता वापसी की बात कर दी उस समय यह सरकारें कहां जाएंगे तो ऐसा मानना है कि सरकार को किसानों की बात मानने नहीं चाहिए और उनकी जो जायज मांगे हैं उनको पूरा करना चाहिए अगर ऐसा नहीं करेंगे तो आने वाले समय में बीजेपी को नुकसान अवश्य होगा और जो एक इच्छा भी हर चीज में आप राष्ट्रवाद को ले आते हैं रोजगार मांगे तो आप राष्ट्रवाद को हु सेड देते हैं तो ऐसे सही काम नहीं चलेगा देश है देश को देश की सबसे चलाना पेट्रोल की प्राइस कहां पहुंच गए तो वह हमें उम्मीद है कि राकेश टिकैत ही अच्छा काम कर रही है और उसे उक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में किसानों की मांगे जल्दी पूरी हो जाएंगी ताकि वह भी अपने घर जा सके अच्छे से फसल काट सके और देश को उन्नति की तरफ ले जा सके धन्यवाद
Aapaka savaal hai ki kya raakesh tikait kisaan aandolan ke ejende se alag se nahin dekhee aisa hai kisaan aandolan 26 janavaree ke baad aisee sthiti mein aa gaya tha ki jaan lagabhag lagabhag samaapti kee taraph ja raha tha lekin raakesh tikait ke vah anasooya usaka jo bhaavanaatmak apeel thee usaka asar hai ki ab aandolan pahale se bhee tej gati se chal raha hai aur usase bada roop dhaaran kar chuka hai aisa hota hai ki usamen ham maanate hain ki ek do galatiyaan raakesh tikait jee se huee hain jaise ki unhonne bina sanyukt morcha se poochhe main 8 aktoobar tak aandolan chalaane kee baat kah dee ki 8 aktoobar tak dekhenge to aisa hai jab aadamee itane bade itanee shoharat ekadam mil jaatee hai to sthiti thoda phark padata hai usako aur bhaee kee jo unake saath huee lekin ab vah paristhitiyon ke anusaar aur jo sanyukt kisaan morcha hai usake anusaar chal rahe hain sthitiyaan jald hee kisaanon ke paksh mein honge aisa mohit karate hain baakee sarakaar abhee phul mejoritee mein hai to us par se koee preshar hai nahin ki vah bhaee baat maan nahin maane lekin yah cheejen jab bhee aandolan hote hain to vah agar nahin maane jaate to satta parivartan kar dete hain yahee baat raakesh tikait kaee apane bhaashanon mein bhee kah chuke hain ki abhee to ham sirph bil vaapasee kee baat kar rahe hain jis din satta vaapasee kee baat kar dee us samay yah sarakaaren kahaan jaenge to aisa maanana hai ki sarakaar ko kisaanon kee baat maanane nahin chaahie aur unakee jo jaayaj maange hain unako poora karana chaahie agar aisa nahin karenge to aane vaale samay mein beejepee ko nukasaan avashy hoga aur jo ek ichchha bhee har cheej mein aap raashtravaad ko le aate hain rojagaar maange to aap raashtravaad ko hu sed dete hain to aise sahee kaam nahin chalega desh hai desh ko desh kee sabase chalaana petrol kee prais kahaan pahunch gae to vah hamen ummeed hai ki raakesh tikait hee achchha kaam kar rahee hai aur use ukt kisaan morcha ke netrtv mein kisaanon kee maange jaldee pooree ho jaengee taaki vah bhee apane ghar ja sake achchhe se phasal kaat sake aur desh ko unnati kee taraph le ja sake dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • राकेश टिकैत क्या किसान आंदोलन के एजेंडे से अलग चल रहे हैं,राकेश टिकैत किसान आंदोलन
  • किसान नेता राकेश टिकैत, Kisan Andolan, भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत
URL copied to clipboard