#भारत की राजनीति

TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
1:46
हेलो विपक्षी कांग्रेस ने पूछा महिला पुलिसकर्मी मेट्रो स्टेशन कितना दूरी है आजकल के समय महिला जोधपुर से बिल्कुल कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही है कुछ काम करने में समर्थ भी है और आगरा विरोध करके बात करूंगा तो बिल्कुल महिलाओं को भी रोजगार के बहुत ज्यादा आवश्यकता है सभी जगह देश हमारा बहुत आगे प्रवेश का कार्यक्रम कंपैरिजन देखा जैसे देशों में तो रोजगार के मामले वहां पर जो है महिलाओं को भी मोतीझरा ज्यादा प्रयोग की जाती है बाकी अपने देश में भी अभी बहुत इस चीज में भी महिलाएं में भी आपसे जो हैं पुलिस पद हैं जो बहुत दिन में मिला जिस तरह से काम कर रही हूं बहुत अच्छे से काम करेंगे अगर हमारी सेना मेरी सेना में वास्तु फाइनेंस में लड़कियां थल सेना में भी लड़कियां हैं अभी देखो सीआरपीसी में जो है कमांडो इंग्लिश में तुमको एक महिला को अध्यक्ष बनाया गया मिला के द्वारा ही प्रॉब्लम पूरी कुमार जैन बनाई गई है और पेट्रोल पर महिलाओं को देखा जाए तो वह भी पेट्रोल काम कर रही है रितिका के चलते सब अच्छी बात है और उनके लिए रोजगार देना बहुत जरूरी है क्योंकि जिस प्रकार एक आदमी काम करता था महिला के साथ काम करें तो बहुत बड़ी बात नहीं है वकील को सुरक्षा प्रदान करना और उनके लिए जो 1 जून बना रखी है पहले से हमारे पुराने समय से उस जॉन से निकालने में हमें भी इनकी मदद करनी पड़ेगी तब तक हम अपनी सोच नहीं बदलेंगे तब तक की चीजें पूरी तरह से ठीक नहीं हो पाएंगे आशा करता हूं आपको के सवाल का जवाब मिल गया होगा लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Helo vipakshee kaangres ne poochha mahila pulisakarmee metro steshan kitana dooree hai aajakal ke samay mahila jodhapur se bilkul kandhe se kandha milaakar kaam kar rahee hai kuchh kaam karane mein samarth bhee hai aur aagara virodh karake baat karoonga to bilkul mahilaon ko bhee rojagaar ke bahut jyaada aavashyakata hai sabhee jagah desh hamaara bahut aage pravesh ka kaaryakram kampairijan dekha jaise deshon mein to rojagaar ke maamale vahaan par jo hai mahilaon ko bhee moteejhara jyaada prayog kee jaatee hai baakee apane desh mein bhee abhee bahut is cheej mein bhee mahilaen mein bhee aapase jo hain pulis pad hain jo bahut din mein mila jis tarah se kaam kar rahee hoon bahut achchhe se kaam karenge agar hamaaree sena meree sena mein vaastu phainens mein ladakiyaan thal sena mein bhee ladakiyaan hain abhee dekho seeaarapeesee mein jo hai kamaando inglish mein tumako ek mahila ko adhyaksh banaaya gaya mila ke dvaara hee problam pooree kumaar jain banaee gaee hai aur petrol par mahilaon ko dekha jae to vah bhee petrol kaam kar rahee hai ritika ke chalate sab achchhee baat hai aur unake lie rojagaar dena bahut jarooree hai kyonki jis prakaar ek aadamee kaam karata tha mahila ke saath kaam karen to bahut badee baat nahin hai vakeel ko suraksha pradaan karana aur unake lie jo 1 joon bana rakhee hai pahale se hamaare puraane samay se us jon se nikaalane mein hamen bhee inakee madad karanee padegee tab tak ham apanee soch nahin badalenge tab tak kee cheejen pooree tarah se theek nahin ho paenge aasha karata hoon aapako ke savaal ka javaab mil gaya hoga laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

और जवाब सुनें

Nidhi Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Nidhi जी का जवाब
Unknown
3:00
जैसे कि आपने क्वेश्चन किया है कि क्या महिला सुरक्षा के लिए महिला पुलिस की भर्ती और सार्वजनिक स्थानों से पेट्रोल पंप आदि पर महिलाओं को रोजगार देने से नहीं है यह तो बहुत मतलब छोटे लेवल की बात हो गई मतलब यह भी सही है कि जरूरी है यह सब लेकिन मेरे हिसाब से जहां तक मैं सोचती हूं जैसे कि हमारे जैसे कि संविधान जैसे कि हमारा पार्लियामेंट परसेंट औरतों के लिए सीट रिजर्व जो अभी तक नहीं हुआ तो मेरे हिसाब से महिलाओं को पॉलिटिक्स में रहना जरूरी है क्योंकि जब महिलाएं पॉलिटिक्स में रहती है तो जो यह चांद से जो होता है वह बहुत कम हो जाता है और जो महिलाएं हैं जितनी भी औरतें हैं महिला हैं लड़कियां हैं उनके अंदर कॉन्फिडेंस रहता है फिर बोलती भी रहती हो जितना भी रूल रेगुलेशन बनता है उस पर महिला जो रहती है अगर संसद में तो वह दर्द को अटेंड समझती है और उस पर कानून जो बनता है वह बहुत सही बनता है तो मेरे हिसाब से जो पार्लियामेंट है उसमें 4:30 पर्सेंट तो महिला होनी चाहिए और इस सीट को मतलब कैसे भी रिजल्ट कितना फिल करना ही चाहिए जैसे हमारा एक डेट अफ्रीका है वहां से हमें सीखना चाहिए कि वहां पर जो महिलाओं के लिए सीट रिजर्व था वहां पर वह चीज नहीं भरा गया तो फिर क्या हुआ सीमा पर सिलेक्शन कर आएगा तो देखिए इतना मतलब हमें उस देश से सीखना चाहिए फिर जैसे कि आपने बताया है कि पुलिस में भर्ती हुआ यह भी बहुत ज्यादा जरूरी है और सबसे ज्यादा जरूरी है इंसान का माइंड से चेंज करना जो बहुत ज्यादा जरूरी है हर एक फैमिली मेंबर का माइंड से चेंज करना कि लड़की एक बर्थडे नहीं है बल्कि एक लड़की एक लड़की नहीं बल्कि एक ऐसा था और वो एक रिस्पांसिबिलिटी नहीं है क्या होता है कि अक्सर मुंबई में जो होता है कि लड़का और लड़की में भेदभाव स्टार्ट होने लगता है तो फिर तो जहां तक कब बोला जाता है कि लड़कियों को यह करना चाहिए लड़कियों को इतना काम सीखना चाहिए वहां पर लड़कों को कुछ नहीं बोला जाता है क्योंकि वह कह रहा था कि तुम तो अपने घर के घर पर ही रहोगे लेकिन उसको दूसरे घर जाना तो यह सारा माइंडसेट फैमिली में मतलब यह जो लेबल है वहां से चेंज करना चाहिए क्योंकि अक्सर क्यों होता है कि जब बचपन से ही अगर ऐसी भावनाएं बच्चों में डाल दी जाती है तो क्या होता है कि वह जो लड़के होते हैं छोटे वाले तो उनको लगता है कि वह उनका कोई मतलब ही नहीं है लड़की का या फिर कोई पेन ही नहीं है कब चैट की तरह फिट होता है तो फिर रेप करते हैं तो फिर उन्हें कोई फीलिंग नहीं होती है या फिर उनको उनका दर्द का एहसास नहीं होता तो मेरे हिसाब से यह हर चीज एक घर से स्टार्ट होने से हर घर
Jaise ki aapane kveshchan kiya hai ki kya mahila suraksha ke lie mahila pulis kee bhartee aur saarvajanik sthaanon se petrol pamp aadi par mahilaon ko rojagaar dene se nahin hai yah to bahut matalab chhote leval kee baat ho gaee matalab yah bhee sahee hai ki jarooree hai yah sab lekin mere hisaab se jahaan tak main sochatee hoon jaise ki hamaare jaise ki sanvidhaan jaise ki hamaara paarliyaament parasent auraton ke lie seet rijarv jo abhee tak nahin hua to mere hisaab se mahilaon ko politiks mein rahana jarooree hai kyonki jab mahilaen politiks mein rahatee hai to jo yah chaand se jo hota hai vah bahut kam ho jaata hai aur jo mahilaen hain jitanee bhee auraten hain mahila hain ladakiyaan hain unake andar konphidens rahata hai phir bolatee bhee rahatee ho jitana bhee rool reguleshan banata hai us par mahila jo rahatee hai agar sansad mein to vah dard ko atend samajhatee hai aur us par kaanoon jo banata hai vah bahut sahee banata hai to mere hisaab se jo paarliyaament hai usamen 4:30 parsent to mahila honee chaahie aur is seet ko matalab kaise bhee rijalt kitana phil karana hee chaahie jaise hamaara ek det aphreeka hai vahaan se hamen seekhana chaahie ki vahaan par jo mahilaon ke lie seet rijarv tha vahaan par vah cheej nahin bhara gaya to phir kya hua seema par silekshan kar aaega to dekhie itana matalab hamen us desh se seekhana chaahie phir jaise ki aapane bataaya hai ki pulis mein bhartee hua yah bhee bahut jyaada jarooree hai aur sabase jyaada jarooree hai insaan ka maind se chenj karana jo bahut jyaada jarooree hai har ek phaimilee membar ka maind se chenj karana ki ladakee ek barthade nahin hai balki ek ladakee ek ladakee nahin balki ek aisa tha aur vo ek rispaansibilitee nahin hai kya hota hai ki aksar mumbee mein jo hota hai ki ladaka aur ladakee mein bhedabhaav staart hone lagata hai to phir to jahaan tak kab bola jaata hai ki ladakiyon ko yah karana chaahie ladakiyon ko itana kaam seekhana chaahie vahaan par ladakon ko kuchh nahin bola jaata hai kyonki vah kah raha tha ki tum to apane ghar ke ghar par hee rahoge lekin usako doosare ghar jaana to yah saara maindaset phaimilee mein matalab yah jo lebal hai vahaan se chenj karana chaahie kyonki aksar kyon hota hai ki jab bachapan se hee agar aisee bhaavanaen bachchon mein daal dee jaatee hai to kya hota hai ki vah jo ladake hote hain chhote vaale to unako lagata hai ki vah unaka koee matalab hee nahin hai ladakee ka ya phir koee pen hee nahin hai kab chait kee tarah phit hota hai to phir rep karate hain to phir unhen koee pheeling nahin hotee hai ya phir unako unaka dard ka ehasaas nahin hota to mere hisaab se yah har cheej ek ghar se staart hone se har ghar

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:29
कैलाश से चले महिला पुलिस की भर्ती शारीरिक थाने से पेट्रोल पंप मेला आदि पर होनी चाहिए बिल्कुल मिलना चाहिए पेट्रोल पंप चाहिए कोई भी हो तो सिर्फ महिलाओं की उपस्थिति होनी चाहिए ताकि महिलाएं जो अन्य महिलाएं हैं वह अपने आप को सुरक्षित महसूस करें हेल्प मांग सके बातचीत कर सकें महिलाओं को सुरक्षा देने का और महिलाओं को रोजगार देने का धन्यवाद
Kailaash se chale mahila pulis kee bhartee shaareerik thaane se petrol pamp mela aadi par honee chaahie bilkul milana chaahie petrol pamp chaahie koee bhee ho to sirph mahilaon kee upasthiti honee chaahie taaki mahilaen jo any mahilaen hain vah apane aap ko surakshit mahasoos karen help maang sake baatacheet kar saken mahilaon ko suraksha dene ka aur mahilaon ko rojagaar dene ka dhanyavaad

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:26
लैट्रिन स्वागत है आपका आपका प्रश्न है यह महिला सुरक्षा के लिए महिला पुलिस की भर्ती और सार्वजनिक स्थान जैसे पेट्रोल पंप आदि पर महिलाओं को रोजगार रोजगार देना उचित है जी हां फ्रेंड्स महिलाओं को भी हर क्षेत्र में रोजगार देना चाहिए और हर चीज में उनको भी अवसर देना चाहिए यह क्षेत्र में अच्छा काम कर रही है और पेट्रोल पंप में सब जगह भी अच्छा रोल करेंगे तो उनको मौका जरूर देना चाहिए धन्यवाद
Laitrin svaagat hai aapaka aapaka prashn hai yah mahila suraksha ke lie mahila pulis kee bhartee aur saarvajanik sthaan jaise petrol pamp aadi par mahilaon ko rojagaar rojagaar dena uchit hai jee haan phrends mahilaon ko bhee har kshetr mein rojagaar dena chaahie aur har cheej mein unako bhee avasar dena chaahie yah kshetr mein achchha kaam kar rahee hai aur petrol pamp mein sab jagah bhee achchha rol karenge to unako mauka jaroor dena chaahie dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

URL copied to clipboard