#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?

Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:36
नमस्कार आपका स्नेह विज्ञान लोगों को इतना कष्ट क्यों करती है तो आपको बता देते कि विज्ञान की एक अपनी अलग ही दुनिया में अपनी अदा की वस्तु विशेष है और यहां पर कोई भी चीज कोई भी वस्तु के साथ से कार्य कर रही है क्यों कार्य कर रही है इसके पीछे क्या रीजन है उसे मैं सब चीजों को यहां पर रिकॉर्ड किया जाता है क्यों इस तरह की चीजें हो रही हैं और फिर उसके पीछे के जॉइन लेडी कलेक्टर से वह फिर दुनिया के सामने रखे जाते हैं इसी वजह से यह दुनिया को इतना नेता आकर्षित करती है मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Namaskaar aapaka sneh vigyaan logon ko itana kasht kyon karatee hai to aapako bata dete ki vigyaan kee ek apanee alag hee duniya mein apanee ada kee vastu vishesh hai aur yahaan par koee bhee cheej koee bhee vastu ke saath se kaary kar rahee hai kyon kaary kar rahee hai isake peechhe kya reejan hai use main sab cheejon ko yahaan par rikord kiya jaata hai kyon is tarah kee cheejen ho rahee hain aur phir usake peechhe ke join ledee kalektar se vah phir duniya ke saamane rakhe jaate hain isee vajah se yah duniya ko itana neta aakarshit karatee hai main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:52
नमस्कार मेरे भाई और बहनों आपका सवाल किस प्रकार से है विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है तो मेरे भाइयों बहनों आपके सवाल कांग्रेस का शहर बहुत ही साधारण सी के बाद होती है एक खूबसूरत लड़की या एक पूरी तरह फैशन की हुई लड़की जो सुंदर नहीं हो मैं दोनों के लोगों का असर करती है या अक्षम का केंद्र बन जाती है और इसमें कोई शक नहीं करना चाहिए विज्ञान ने मानव जीवन को बहुत ही खूबसूरत बना दिया जाए विज्ञान के माध्यम से नहीं नहीं कौन हो ना और कुछ परिवर्तन होना यह सब विज्ञान की ही देन होती है विज्ञान ने लोगों को कितना आरक्षण है धन्यवाद दोस्तों मित्रों
Namaskaar mere bhaee aur bahanon aapaka savaal kis prakaar se hai vigyaan logon ko itana aakarshit kyon karatee hai to mere bhaiyon bahanon aapake savaal kaangres ka shahar bahut hee saadhaaran see ke baad hotee hai ek khoobasoorat ladakee ya ek pooree tarah phaishan kee huee ladakee jo sundar nahin ho main donon ke logon ka asar karatee hai ya aksham ka kendr ban jaatee hai aur isamen koee shak nahin karana chaahie vigyaan ne maanav jeevan ko bahut hee khoobasoorat bana diya jae vigyaan ke maadhyam se nahin nahin kaun ho na aur kuchh parivartan hona yah sab vigyaan kee hee den hotee hai vigyaan ne logon ko kitana aarakshan hai dhanyavaad doston mitron

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:22
कसम वाले की विज्ञान लोगों को इतना कष्ट क्यों करता है विज्ञान अभिशाप तर्क पर आधारित होता है इस तथ्य पर आधारित होता है इसीलिए आप किसी भी चीज को बचाना चाहते हैं विस्तार पूर्वक इसी के बारे में जानना चाहते हैं कि सरकार को आपको हर तरीके के तौर पर तथ्यों के आधार पर ही उसका उत्तर मिलता है और यही वजह है कि वह इतने ज्यादा आकर्षित होती है आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Kasam vaale kee vigyaan logon ko itana kasht kyon karata hai vigyaan abhishaap tark par aadhaarit hota hai is tathy par aadhaarit hota hai iseelie aap kisee bhee cheej ko bachaana chaahate hain vistaar poorvak isee ke baare mein jaanana chaahate hain ki sarakaar ko aapako har tareeke ke taur par tathyon ke aadhaar par hee usaka uttar milata hai aur yahee vajah hai ki vah itane jyaada aakarshit hotee hai aapaka din shubh rahe dhanyavaad

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
4:18
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करता है हर चीज विज्ञान हमारे आसपास हर चीज विद्यालय और हम स्थिति विज्ञान के दायरे में तब लेकर आए थे जब हमें समझ जाती है और हमें नहीं समझते तो हम लोग बोलते हैं कि हम उनके समझने से पहले तो आप इतने इतने सालों से अभी तक देखिए हर चीज वैज्ञानिक खोज निकाली सबसे पहले मैंने यह बोला जाता था कि सूरज हमारे गोल हमारे ऊपर घूमर सूरज पृथ्वी के अराउंड लेकिन जब विज्ञान के वजह से हम पता चला तब पता चला कि सूरज नहीं घूम रहे हमारी दोस्ती घूम रही है सुरेंद्र यादव अपने विज्ञान विज्ञान पुस्तक राशनलाइजेशन होता है या नहीं पता चलता है तो हम लोग हमें पता चल तुम कभी भी हम लोग एक और भाई नहीं बनाते हैं डेकोरेटेड नहीं बनाते हो कि उसको ही होते हैं विज्ञान विज्ञान हंड्रेड परसेंट एक्सप्लेनेशन दिया होता कि यह एक के वजह से यह होता है अभी विज्ञान तो केवल तक पहुंचा हुआ है जहां पर हम आप हमारे डीएनए को जानने लगेंगे डीएनए के गानों की प्ले कर दो से अधिक तो डीएनए डालने के लिए कैसे होते हैं अपने सुमन बिग एनिमल कारपेट हाउस कलर कोडिंग हुई रहती है कि इंसान कैसे रहे हो तक हम लोग जान चुके हैं इस आदमी को अंदर कौन सी बीमारियां में आ सकती है यदि कौन सांसद कौन है जिस आदमी को किस तरीके तक खाना खाना चाहिए पूरी जिंदगी में था क्योंकि मारना पड़े और ना जाने कितने लेवल पर एक आई जा चुका है एनर्जी के लेवल पर 16 सीट दिल के लेबल में हैंडबॉल से जबलपुर तक हम लोग देखेंगे उसके परिसर चल रहा है इस जहां में होगा कि हम खाली हमारे सपने में देखने से जमीन प्राइवेट गार्ड की नौकरी ड्राइवर भी बन चुकी अनु रियालिटी हो चुके जिसके बारे में कई सालों से चल रही है अभी लैब में अनुष्का एक्सिल प्रैक्टिकली लोग उस को चला रहे हैं और ड्राइवर लेकर उसके वजह से उसके अंदर इतनी क्षमता है कि वह खुद लर्निंग करती है में चलते-चलते उसको समझ में आया देखे रोड कैसे है रोड के अंदर कितने बने वह हर एक चीज कैलकुलेट कर सकती है ड्राइवर पैक कर के कितने घंटे है रोड पर क्या क्या प्रॉब्लम है कार के अंदर में क्या-क्या आर्मी इस तरीके के रोड को चलने के लिए किस तरीके के चौक तक चाहिए किस तरीके के टाइगर चाहिए यह सारे की इंफॉर्मेशन उसके अंदर में मोटा और एक तारे से जब इंफॉर्मेशन नोट डाउन करते तो ऐसे अगर 500 1000 कार्ड चलती है तो सभी कार अपना इंफॉर्मेशन पेंटिंग नोट डाउन करते हैं तो तुम तो रोबोट रोबोट रोबोट कार रियल टेस्ट में कितने चेंज करना आपकी कार और अच्छी मिले तो यह विज्ञान की आकर्षित करेंगे विज्ञान सब चीजों का हाल हमारा बॉडी हमारा माइंड हमारे ऊपर हम जिस तरीके से कर लेते हैं हमारी लाइफ तो ऊपर जो हम संभाल लेते हम जो बोलते हैं वह करते हैं उतना पैसा कमाते हैं उतना चीज हम लोग उसका सेटिंग शो करते हो जी बॉडी हर एक चीज के पीछे भी के हर एक चीज के प्रमोशन आप क्या कहते हो कैसे किस तरीके से आपके शमशेर सिंह के साथ कंप्लेंट लेकिन हर एक चीज मूवी के हर एक चीज में बिके
Vigyaan logon ko itana aakarshit kyon karata hai har cheej vigyaan hamaare aasapaas har cheej vidyaalay aur ham sthiti vigyaan ke daayare mein tab lekar aae the jab hamen samajh jaatee hai aur hamen nahin samajhate to ham log bolate hain ki ham unake samajhane se pahale to aap itane itane saalon se abhee tak dekhie har cheej vaigyaanik khoj nikaalee sabase pahale mainne yah bola jaata tha ki sooraj hamaare gol hamaare oopar ghoomar sooraj prthvee ke araund lekin jab vigyaan ke vajah se ham pata chala tab pata chala ki sooraj nahin ghoom rahe hamaaree dostee ghoom rahee hai surendr yaadav apane vigyaan vigyaan pustak raashanalaijeshan hota hai ya nahin pata chalata hai to ham log hamen pata chal tum kabhee bhee ham log ek aur bhaee nahin banaate hain dekoreted nahin banaate ho ki usako hee hote hain vigyaan vigyaan handred parasent eksapleneshan diya hota ki yah ek ke vajah se yah hota hai abhee vigyaan to keval tak pahuncha hua hai jahaan par ham aap hamaare deeene ko jaanane lagenge deeene ke gaanon kee ple kar do se adhik to deeene daalane ke lie kaise hote hain apane suman big enimal kaarapet haus kalar koding huee rahatee hai ki insaan kaise rahe ho tak ham log jaan chuke hain is aadamee ko andar kaun see beemaariyaan mein aa sakatee hai yadi kaun saansad kaun hai jis aadamee ko kis tareeke tak khaana khaana chaahie pooree jindagee mein tha kyonki maarana pade aur na jaane kitane leval par ek aaee ja chuka hai enarjee ke leval par 16 seet dil ke lebal mein haindabol se jabalapur tak ham log dekhenge usake parisar chal raha hai is jahaan mein hoga ki ham khaalee hamaare sapane mein dekhane se jameen praivet gaard kee naukaree draivar bhee ban chukee anu riyaalitee ho chuke jisake baare mein kaee saalon se chal rahee hai abhee laib mein anushka eksil praiktikalee log us ko chala rahe hain aur draivar lekar usake vajah se usake andar itanee kshamata hai ki vah khud larning karatee hai mein chalate-chalate usako samajh mein aaya dekhe rod kaise hai rod ke andar kitane bane vah har ek cheej kailakulet kar sakatee hai draivar paik kar ke kitane ghante hai rod par kya kya problam hai kaar ke andar mein kya-kya aarmee is tareeke ke rod ko chalane ke lie kis tareeke ke chauk tak chaahie kis tareeke ke taigar chaahie yah saare kee imphormeshan usake andar mein mota aur ek taare se jab imphormeshan not daun karate to aise agar 500 1000 kaard chalatee hai to sabhee kaar apana imphormeshan penting not daun karate hain to tum to robot robot robot kaar riyal test mein kitane chenj karana aapakee kaar aur achchhee mile to yah vigyaan kee aakarshit karenge vigyaan sab cheejon ka haal hamaara bodee hamaara maind hamaare oopar ham jis tareeke se kar lete hain hamaaree laiph to oopar jo ham sambhaal lete ham jo bolate hain vah karate hain utana paisa kamaate hain utana cheej ham log usaka seting sho karate ho jee bodee har ek cheej ke peechhe bhee ke har ek cheej ke pramoshan aap kya kahate ho kaise kis tareeke se aapake shamasher sinh ke saath kamplent lekin har ek cheej moovee ke har ek cheej mein bike

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:33
नए की विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है तो विज्ञान इसलिए अमित कश्यप कहती है क्योंकि विज्ञान में नयापन होता है विज्ञान में लॉजिक होते हैं विज्ञान में तार्किकता होती है विज्ञान के अंदर आवश्यकता होती है तो विज्ञान मतलब साबित करता है जो लिखित करता है विज्ञान में प्रश्न उत्तर होते हैं विज्ञान में जिज्ञासाओं की जो क्या है कि की जिज्ञासाओं के जवाब होते हैं तो इसीलिए लोग विज्ञान की ओर आकर्षित होती है
Nae kee vigyaan logon ko itana aakarshit kyon karatee hai to vigyaan isalie amit kashyap kahatee hai kyonki vigyaan mein nayaapan hota hai vigyaan mein lojik hote hain vigyaan mein taarkikata hotee hai vigyaan ke andar aavashyakata hotee hai to vigyaan matalab saabit karata hai jo likhit karata hai vigyaan mein prashn uttar hote hain vigyaan mein jigyaasaon kee jo kya hai ki kee jigyaasaon ke javaab hote hain to iseelie log vigyaan kee or aakarshit hotee hai

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:35
लोगों को इतना आकर्षित क्यों करता है यह बहुत अच्छा प्रश्न है आपके पास सुरेश अवधारणा को अपने बच्चों को देखिए अब कुछ भी करते हैं तो उनके लिए बोलना है वह किसकी उत्सुकता से पहुंचते तो वैसी विज्ञान में तो भाई कुछ नया लेकर आता है तो हम भी उसी टाइम पर बच्चे बन जाते हैं उन चीजों को जाना चाहते जैसे कि स्मार्टफोन स्मार्ट वॉच लेटेस्ट इन बच्चों के जैसे किसी मोबाइल देखना स्मार्ट वॉच मोबाइल के फंक्शन
Logon ko itana aakarshit kyon karata hai yah bahut achchha prashn hai aapake paas suresh avadhaarana ko apane bachchon ko dekhie ab kuchh bhee karate hain to unake lie bolana hai vah kisakee utsukata se pahunchate to vaisee vigyaan mein to bhaee kuchh naya lekar aata hai to ham bhee usee taim par bachche ban jaate hain un cheejon ko jaana chaahate jaise ki smaartaphon smaart voch letest in bachchon ke jaise kisee mobail dekhana smaart voch mobail ke phankshan

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:50
हिमांशु आज आपके सवाल है कि विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करते हैं विज्ञान और जहां पर हर एक चीज आपको बुझाने के लिए मिलता है बहुत सारे ज्योति वह साथ में रहते हैं रहता है सच्चाई रहती है जित्तू खरे की जान जान पाते आप अपने आसपास जो भी चीज देखते रहिए यह कैसे रहोगी रात को वहां पर दिखता है क्या फुल डिटेल में मिलता है हर चीज होती है आश्चर्यचकित करने वाला मतलब चीज वहां पर बताने से इंसान कैसे बनाएं इंसान कैसे पेड़ पौधे कैसे कैसे हो मित्र क्या तुझे यह सब कैसे आया तो तू कहां पर रहता है
Himaanshu aaj aapake savaal hai ki vigyaan logon ko itana aakarshit kyon karate hain vigyaan aur jahaan par har ek cheej aapako bujhaane ke lie milata hai bahut saare jyoti vah saath mein rahate hain rahata hai sachchaee rahatee hai jittoo khare kee jaan jaan paate aap apane aasapaas jo bhee cheej dekhate rahie yah kaise rahogee raat ko vahaan par dikhata hai kya phul ditel mein milata hai har cheej hotee hai aashcharyachakit karane vaala matalab cheej vahaan par bataane se insaan kaise banaen insaan kaise ped paudhe kaise kaise ho mitr kya tujhe yah sab kaise aaya to too kahaan par rahata hai

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
shubham kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shubham जी का जवाब
Study
0:27
क्योंकि जान तुम्हारा ही हम आपके जन्मदिन हो जाते हैं
Kyonki jaan tumhaara hee ham aapake janmadin ho jaate hain

bolkar speaker
विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है?Vigyan Logon Ko Itna Aakarshit Kyun Karti Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:20
विज्ञान लोगों को इतना पर शक नहीं करती है तो फ्रेंड से ज्ञान में में बहुत सारी जानकारियां मिलती हैं विज्ञान लोगों को आकर्षित करती है और विज्ञान के द्वारा हमारे देश में क्या-क्या खोज हुई है और क्या हो रही है सब पता चल जाता है इसलिए लोगों को पसंद करती हैं धन्यवाद
Vigyaan logon ko itana par shak nahin karatee hai to phrend se gyaan mein mein bahut saaree jaanakaariyaan milatee hain vigyaan logon ko aakarshit karatee hai aur vigyaan ke dvaara hamaare desh mein kya-kya khoj huee hai aur kya ho rahee hai sab pata chal jaata hai isalie logon ko pasand karatee hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है,विज्ञान लोगों को इतना आकर्षित क्यों करती है
URL copied to clipboard