#undefined

bolkar speaker

तुलसी के सेवन क्या-क्या फायदे होते हैं?

Tulsi Ke Sevan Se Kya Kya Fayde Hote Hai
pooja Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pooja जी का जवाब
Student
1:50
नमस्कार प्रश्न है तुलसी के सेवन से क्या-क्या फायदे होते हैं इससे पहले आइए जान लेते हैं तुलसी क्या है तो तुलसी एक औषधीय पौधा है जिसमें वाइट मनोहर खनिज प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं तभी रोगों को दूर करने और शारीरिक शक्ति बढ़ाने वाले गुणों से भरपूर एक औषधीय पौधे को प्रत्यक्ष देवी कहा गया है क्योंकि इससे ज्यादा उपयोगी औषधि मनुष्य जाति के लिए दूसरी कोई नहीं है तुलसी के धार्मिक महत्व के कारण हर घर आंगन में के पौधे लगाए जाते हैं तुलसी की कई प्रजातियां मिलती हैं जिनमें सुबह तो कृष्ण प्रमुख ने इन्हीं राम तुलसी और कृष्ण तुलसी भी कहा जाता है जान लेते हैं तुलसी का सेवन करने के कुछ फायदे सबसे पहले तो अगर आपको अपनी याददाश्त तेज करनी है मस्तिष्क को स्वस्थ रखना है तो आप पानी के साथ रोजाना तीन से चार पत्ते तुलसी का सेवन करें इसके बाद अगर आपको सर दर्द रहता है तो आप तुलसी का तेल जो है उसकी दो तीन बंदे नाक में डाल सकते हैं तो आप देखेंगे कि बहुत पुराने से पुराना सर दर्द में भी यह लाभ करता है आपके साथ अगर आपको कान में दर्द रहता है तो भी आप तुलसी के तेल का इस्तेमाल अपने कान में कर सकते हैं इसके अलावा अगर आपको अपच की तकलीफ है तो भी आप तुलसी के पत्तों का सेवन कर सकते हैं तुलसी के पत्ते जो है वह जल में डालकर रख दें और इस जल को जो है अगर आप सेवन करते हैं तो यह आपकी शरीर को डिटॉक्सिफाई भी करता है तो यह थे तो उसी का सेवन करने के कुछ गिने-चुने फायदे शुक्रिया
Namaskaar prashn hai tulasee ke sevan se kya-kya phaayade hote hain isase pahale aaie jaan lete hain tulasee kya hai to tulasee ek aushadheey paudha hai jisamen vait manohar khanij prachur maatra mein pae jaate hain tabhee rogon ko door karane aur shaareerik shakti badhaane vaale gunon se bharapoor ek aushadheey paudhe ko pratyaksh devee kaha gaya hai kyonki isase jyaada upayogee aushadhi manushy jaati ke lie doosaree koee nahin hai tulasee ke dhaarmik mahatv ke kaaran har ghar aangan mein ke paudhe lagae jaate hain tulasee kee kaee prajaatiyaan milatee hain jinamen subah to krshn pramukh ne inheen raam tulasee aur krshn tulasee bhee kaha jaata hai jaan lete hain tulasee ka sevan karane ke kuchh phaayade sabase pahale to agar aapako apanee yaadadaasht tej karanee hai mastishk ko svasth rakhana hai to aap paanee ke saath rojaana teen se chaar patte tulasee ka sevan karen isake baad agar aapako sar dard rahata hai to aap tulasee ka tel jo hai usakee do teen bande naak mein daal sakate hain to aap dekhenge ki bahut puraane se puraana sar dard mein bhee yah laabh karata hai aapake saath agar aapako kaan mein dard rahata hai to bhee aap tulasee ke tel ka istemaal apane kaan mein kar sakate hain isake alaava agar aapako apach kee takaleeph hai to bhee aap tulasee ke patton ka sevan kar sakate hain tulasee ke patte jo hai vah jal mein daalakar rakh den aur is jal ko jo hai agar aap sevan karate hain to yah aapakee shareer ko ditoksiphaee bhee karata hai to yah the to usee ka sevan karane ke kuchh gine-chune phaayade shukriya

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • तुलसी सेवन के फायदे, तुलसी किन किन चीजों में इस्तेमाल होती है, तुलसी का पौधा केसा माना जाता है
  • तुलसी के सेवन के फायदे नुकसान, तुलसी के सेवन फायदे और नुकसान, तुलसी के सेवन के फायदे और नुकसान क्या क्या है
  • तुलसी के फायदे,तुलसी के पत्ते के 17 फायदे,तुलसी के पत्ते के 17 फायदे
URL copied to clipboard