#undefined

bolkar speaker

क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?

Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
1:42
रवि बनाई हो पर सब ठीक हो गई योजना पूछा क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती है देखिए बताना चाहूंगा अगर हम इन चीजों पर विश्वास करते हैं तो बिल्कुल आप इस चीज को जो है एक अलग नजरिए से देखते होंगे लेकिन अगर हम इसे साइंटिफिक ली लेकर चले गए तो उसके बहुत से अन्य कारण भी हैं जिसकी वजह किस चीज में विश्वास करना शुरू कर देंगे समझ ले समझ के अनुसार काला रंग नजर लगाने वाले की एकाग्रता को भंग कर देता है इसके कारण नकारात्मक ऊर्जा संबंधित व्यक्ति को प्रभावित नहीं कर पाते छोटे बच्चों में लड़कियों की सुंदरता को किसी की भी नजर ना लगने से बचाने से कला धागा बांधा जाता है तंत्र मंत्र ज्योतिष विश्लेषण के अनुसार काला धागा बांधने का काला टीका लगाने के पीछे कुछ वैज्ञानिक कारण है क्योंकि हमारे शरीर जो है पंच तत्वों से मिलकर बना होता है यह पंचतत्व पृथ्वी वायु अग्नि जल और आकाश उनसे मिलने वाली ऊर्जा मार्शल के संचालन करती है उनसे मिलने वाली ऊर्जा से ही हम सभी सुविधाओं को प्राप्त कर पाते हैं जबकि इंसान को बुरी नजर हमारी सुविधाओं को लगता है तो उन पांच तत्वों को मिलने वाले संबंधित सकारात्मक जाने की पोस्टिंग गुर्जर होती हम तक नहीं पहुंच पाते इसलिए गले में काला धागा बांधा जाता है अगर बुरी नजर से बात करनी बात करे तो काला धागा और कल टीके का उपयोग किया जाता है वैज्ञानिक मान्यता यह भी है कि काला रंग जो है उसमें का आवश्यक होता है और यह माना जाता है काला धागा काला टीका जहां बुरी नजर और बुरी ऊर्जा उसे को चेक कर ले फिर बाद में उनका प्रभाव हम पर नहीं पढ़ लेते हैं तो सेंटिफिक लेकर हम देखे तो बिल्कुल लगना चाहिए अगर आप पर विश्वास रखते हैं तो बिल्कुल आप सही है कि काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती है आशा करता हूं आपको कुछ सवाल का जवाब मिलकर होगा लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Ravi banaee ho par sab theek ho gaee yojana poochha kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee hai dekhie bataana chaahoonga agar ham in cheejon par vishvaas karate hain to bilkul aap is cheej ko jo hai ek alag najarie se dekhate honge lekin agar ham ise saintiphik lee lekar chale gae to usake bahut se any kaaran bhee hain jisakee vajah kis cheej mein vishvaas karana shuroo kar denge samajh le samajh ke anusaar kaala rang najar lagaane vaale kee ekaagrata ko bhang kar deta hai isake kaaran nakaaraatmak oorja sambandhit vyakti ko prabhaavit nahin kar paate chhote bachchon mein ladakiyon kee sundarata ko kisee kee bhee najar na lagane se bachaane se kala dhaaga baandha jaata hai tantr mantr jyotish vishleshan ke anusaar kaala dhaaga baandhane ka kaala teeka lagaane ke peechhe kuchh vaigyaanik kaaran hai kyonki hamaare shareer jo hai panch tatvon se milakar bana hota hai yah panchatatv prthvee vaayu agni jal aur aakaash unase milane vaalee oorja maarshal ke sanchaalan karatee hai unase milane vaalee oorja se hee ham sabhee suvidhaon ko praapt kar paate hain jabaki insaan ko buree najar hamaaree suvidhaon ko lagata hai to un paanch tatvon ko milane vaale sambandhit sakaaraatmak jaane kee posting gurjar hotee ham tak nahin pahunch paate isalie gale mein kaala dhaaga baandha jaata hai agar buree najar se baat karanee baat kare to kaala dhaaga aur kal teeke ka upayog kiya jaata hai vaigyaanik maanyata yah bhee hai ki kaala rang jo hai usamen ka aavashyak hota hai aur yah maana jaata hai kaala dhaaga kaala teeka jahaan buree najar aur buree oorja use ko chek kar le phir baad mein unaka prabhaav ham par nahin padh lete hain to sentiphik lekar ham dekhe to bilkul lagana chaahie agar aap par vishvaas rakhate hain to bilkul aap sahee hai ki kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee hai aasha karata hoon aapako kuchh savaal ka javaab milakar hoga laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:32
ऑफिस वाले की क्या काला टीका लगाने से नीचे नहीं लेते हैं तो सामान्य समझ के अनुसार काला रंग नजर लगने वाले की एकाग्रता को भंग कर देता है इसके कारण नकारात्मक ऊर्जा से संबंधित सूची को प्रभावित नहीं कर पाते हैं जब किसी इंसान की बुरी नजर हमारी सुविधा को लगती है तब पर तत्वों से मिलने वाली संबंधित सरकार मुआवजा हम तक नहीं पहुंच पाती हैं इसलिए कल टिकट भेज दो
Ophis vaale kee kya kaala teeka lagaane se neeche nahin lete hain to saamaany samajh ke anusaar kaala rang najar lagane vaale kee ekaagrata ko bhang kar deta hai isake kaaran nakaaraatmak oorja se sambandhit soochee ko prabhaavit nahin kar paate hain jab kisee insaan kee buree najar hamaaree suvidha ko lagatee hai tab par tatvon se milane vaalee sambandhit sarakaar muaavaja ham tak nahin pahunch paatee hain isalie kal tikat bhej do

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
0:19
क्वेश्चन है क्या काला टीका लगाने की नजर नहीं लगती थी किस तो कोई मुझे साइंटिफिक नहीं सुन तो नहीं पता लेकिन हां बड़े बुजुर्गों की मालिश पुराना पुरानी बुजुर्गों सब ने ऐसे ही बोला है कि काला टीका लगाने की नजर नहीं लगती तो बड़े बुजुर्ग भी जो कहते हैं वह बात काफी हद तक ठीक होती है तो यह सही होगा जवाब पसंद है तो लाइक सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Kveshchan hai kya kaala teeka lagaane kee najar nahin lagatee thee kis to koee mujhe saintiphik nahin sun to nahin pata lekin haan bade bujurgon kee maalish puraana puraanee bujurgon sab ne aise hee bola hai ki kaala teeka lagaane kee najar nahin lagatee to bade bujurg bhee jo kahate hain vah baat kaaphee had tak theek hotee hai to yah sahee hoga javaab pasand hai to laik sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:05
आपका सवाल है क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार हमारे देश में कुछ धारणा होती है और कुछ जो भी छोटा बच्चा होता है तो उनके काला टीका किया जाता है किसी की नजर न पड़े और नए मकान बनाते हैं तो काला साथिया बनाया जाता है जो इससे दूसरे की नजर न लगे इसलिए काला टीका शुभ कार्य होता है और उसमें नंदिनी लेकिन जब कार्य पूरा हो जाता है तब काला टीका लगाया जाता है लेकिन उस पर नजर ना लगे काला टीका लगाया जाता है निवासियों खुश रहो
Aapaka savaal hai kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hamaare desh mein kuchh dhaarana hotee hai aur kuchh jo bhee chhota bachcha hota hai to unake kaala teeka kiya jaata hai kisee kee najar na pade aur nae makaan banaate hain to kaala saathiya banaaya jaata hai jo isase doosare kee najar na lage isalie kaala teeka shubh kaary hota hai aur usamen nandinee lekin jab kaary poora ho jaata hai tab kaala teeka lagaaya jaata hai lekin us par najar na lage kaala teeka lagaaya jaata hai nivaasiyon khush raho

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:39
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती देखिए जब भी कोई तरक्की करता है या खुश होता है तो उसे जलने वाले लोग सैकड़ों पैदा हो जाते हैं उनसे दूसरों की खुशी बर्दाश्त नहीं होती है ऐसे में वह आपको बद्दुआ देते हैं नीचे गिराने की कोशिश करते हैं और कुछ तो साजिश रच कर आपको नुकसान जी पहुंचाते ही चीज को हम बुरी नजर लगना भी कहते हैं लोगों की बुरी नजर कई बार आपके लिए बेहद नुकसानदायक भी साबित हो सकती है वैसे इस बुरी नजर में एक और कैटेगरी होती है जिसमें लोग जादू टोने या टोटका का सहारा लेकर आप को दुख पहुंचाने का प्रयास करते हैं इस तरह की बुरी नजरों से बचना बेहद जरूरी हो जाता है इससे बचने हेतु लोग कई तरह के ऊपर करते हैं जैसे घर के बाहर नींबू मिर्ची लटकाना घर में कथा या हवन करवाना यह घोड़े की नाल का इस्तेमाल करना इन सभी तरीकों में एक उपाय पिछले कई सालों से काफी फेमस है यह उपाय काला टीका लगाना आपने अक्सर देखा होगा कि लोग बुरी नजर से बचने के लिए शरीर के विभिन्न हिस्सों में काला टीका लगाते हैं यह परंपरा बरसों से घर के बड़े बुजुर्ग बनाते हैं जिस पर थम थम जाएगा इसके पीछे उनका दृढ़ विश्वास काम करता है वैसे देखा जाए तो यह एक प्रकार का अंधविश्वास सही है धन्यवाद
Kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee dekhie jab bhee koee tarakkee karata hai ya khush hota hai to use jalane vaale log saikadon paida ho jaate hain unase doosaron kee khushee bardaasht nahin hotee hai aise mein vah aapako baddua dete hain neeche giraane kee koshish karate hain aur kuchh to saajish rach kar aapako nukasaan jee pahunchaate hee cheej ko ham buree najar lagana bhee kahate hain logon kee buree najar kaee baar aapake lie behad nukasaanadaayak bhee saabit ho sakatee hai vaise is buree najar mein ek aur kaitegaree hotee hai jisamen log jaadoo tone ya totaka ka sahaara lekar aap ko dukh pahunchaane ka prayaas karate hain is tarah kee buree najaron se bachana behad jarooree ho jaata hai isase bachane hetu log kaee tarah ke oopar karate hain jaise ghar ke baahar neemboo mirchee latakaana ghar mein katha ya havan karavaana yah ghode kee naal ka istemaal karana in sabhee tareekon mein ek upaay pichhale kaee saalon se kaaphee phemas hai yah upaay kaala teeka lagaana aapane aksar dekha hoga ki log buree najar se bachane ke lie shareer ke vibhinn hisson mein kaala teeka lagaate hain yah parampara barason se ghar ke bade bujurg banaate hain jis par tham tham jaega isake peechhe unaka drdh vishvaas kaam karata hai vaise dekha jae to yah ek prakaar ka andhavishvaas sahee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
sanjay kumar pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए sanjay जी का जवाब
Writer, Teacher, motivational youtuber
2:29
गुड इवनिंग सवाल यह है कि क्या काला टीका लगाना सजन नजर नहीं लगती यह मान्यता है मुझे लगता है कि यह धारणा बन गई है लोगों में की काला टीका लगा दे तो नजर नहीं लगती हो सकता है हो कुछ ना कुछ जो भी बना हुआ है उसे कुछ न कुछ तत्व होते कुछ और कुछ उसमे जरूर मेरा ख्याल यह है कि कहीं ना कहीं उसका कुछ ना कुछ जरूर मतलब होता है जो भी पुरानी बातें कहीं बताई गई उसमें कुछ ना कुछ तख्त जरूर होता है तो हो सकता है नजर लग ना नजर लगता है ऐसा कोई लोग महसूस करते हैं मैंने भी कभी कभी किया है मुझे लगता है तो इसलिए हमें खुद की भी नजर लग जाती हम खुद किसी चीज पर बहुत अधिक है खुश हो जाते हैं और फिर आग नहीं हेलो खुशी के गम में बदल जाती है तो उसको बोलते हैं कि नजर लग गई खुद कि हम अपने ही संतानों की बहुत अधिक प्रशंसा कर देते हैं कभी-कभी या किसी खास व्यक्ति एक खास मित्र क्या या कुछ किसी का भी प्रशंसा कर देते हैं और फिर पता चलता है कि वह प्रशंसा के पात्र नहीं था या कुछ हो गया उसको कुछ उसके साथ दुर्घटना हो गई इस तरह की बातें हो जाती है तो उसी को बोलते हैं कि नजर लग गया तो इसीलिए इस चीज को हमने हम सब ने अनुभव किया है सपने कभी न कभी इस चीज को परखा है तभी यह कहा जाता है कि नजर लग जाती है तो इसीलिए उसका एक ग्रुप बनाया गया है की काला टीका लगा दीजिए काला टीका लगा देने से नजर नहीं लगती किसी को कोई बहुत अधिक सुंदर दिख रहा है या कुछ हो रहा है उस तरह से तो उसको काला टीका लगाते रहता है ताकि उसको नजर ना लगे एक मान्यता है तो अब इसमें ज्यादा मान्यताओं पर बहुत अधिक नहीं कहा जा सकता है इसमें मैं इसे सिरे से नहीं खरीद कर सकता हूं यह निश्चित ही कुछ न कुछ इस तरह से होता है थैंक यू
Gud ivaning savaal yah hai ki kya kaala teeka lagaana sajan najar nahin lagatee yah maanyata hai mujhe lagata hai ki yah dhaarana ban gaee hai logon mein kee kaala teeka laga de to najar nahin lagatee ho sakata hai ho kuchh na kuchh jo bhee bana hua hai use kuchh na kuchh tatv hote kuchh aur kuchh usame jaroor mera khyaal yah hai ki kaheen na kaheen usaka kuchh na kuchh jaroor matalab hota hai jo bhee puraanee baaten kaheen bataee gaee usamen kuchh na kuchh takht jaroor hota hai to ho sakata hai najar lag na najar lagata hai aisa koee log mahasoos karate hain mainne bhee kabhee kabhee kiya hai mujhe lagata hai to isalie hamen khud kee bhee najar lag jaatee ham khud kisee cheej par bahut adhik hai khush ho jaate hain aur phir aag nahin helo khushee ke gam mein badal jaatee hai to usako bolate hain ki najar lag gaee khud ki ham apane hee santaanon kee bahut adhik prashansa kar dete hain kabhee-kabhee ya kisee khaas vyakti ek khaas mitr kya ya kuchh kisee ka bhee prashansa kar dete hain aur phir pata chalata hai ki vah prashansa ke paatr nahin tha ya kuchh ho gaya usako kuchh usake saath durghatana ho gaee is tarah kee baaten ho jaatee hai to usee ko bolate hain ki najar lag gaya to iseelie is cheej ko hamane ham sab ne anubhav kiya hai sapane kabhee na kabhee is cheej ko parakha hai tabhee yah kaha jaata hai ki najar lag jaatee hai to iseelie usaka ek grup banaaya gaya hai kee kaala teeka laga deejie kaala teeka laga dene se najar nahin lagatee kisee ko koee bahut adhik sundar dikh raha hai ya kuchh ho raha hai us tarah se to usako kaala teeka lagaate rahata hai taaki usako najar na lage ek maanyata hai to ab isamen jyaada maanyataon par bahut adhik nahin kaha ja sakata hai isamen main ise sire se nahin khareed kar sakata hoon yah nishchit hee kuchh na kuchh is tarah se hota hai thaink yoo

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:18
स्वागत आपका आपका फेसबुक के काला टीका लगाने से जल्दी लगती तो फ्रेंड सा मारे घर के बड़े बुजुर्ग तो यही कहते हैं कि काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती है अरे अपने अपने मरने की पता है लेकिन काला टीका बच्चों को लगाया जाता है धन्यवाद
Svaagat aapaka aapaka phesabuk ke kaala teeka lagaane se jaldee lagatee to phrend sa maare ghar ke bade bujurg to yahee kahate hain ki kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee hai are apane apane marane kee pata hai lekin kaala teeka bachchon ko lagaaya jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Manju Bolkar App
Top Speaker,Level 88
सुनिए Manju जी का जवाब
Unknown
0:42
नमस्कार आपने पूछा है कि क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती तो लेके मेरे ख्याल से यह एक तरह का अंधविश्वास है अक्सर छोटे बच्चों को नजर ना लगने के लिए हम काला टीका अवश्य लगाते हैं कि हम चांस नहीं लेना चाहते हैं हम नहीं चाहते कि छोटे से बच्चे को किसी की नजर लगी और कुछ अधूरा हो इसीलिए काला टीका अवश्य लगाते हैं कि घर में हो एक अंधविश्वास है मुझे नहीं लगता कि उसके पीछे कोई वजह है या बड़े बुजुर्ग कहते हैं लेकिन यह पूरी तरह अंधविश्वासी है इसके पीछे कोई साइंटिफिक रीजन नजर नहीं आता है धन्यवाद
Namaskaar aapane poochha hai ki kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee to leke mere khyaal se yah ek tarah ka andhavishvaas hai aksar chhote bachchon ko najar na lagane ke lie ham kaala teeka avashy lagaate hain ki ham chaans nahin lena chaahate hain ham nahin chaahate ki chhote se bachche ko kisee kee najar lagee aur kuchh adhoora ho iseelie kaala teeka avashy lagaate hain ki ghar mein ho ek andhavishvaas hai mujhe nahin lagata ki usake peechhe koee vajah hai ya bade bujurg kahate hain lekin yah pooree tarah andhavishvaasee hai isake peechhe koee saintiphik reejan najar nahin aata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
रंगन Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए रंगन जी का जवाब
Business,Student🤓
0:54
क्या काला टीका लगाने की नजर नहीं लगती बहुत अच्छा सवाल है तो दीजिए भरोसे के ऊपर डिपेंड होगा अगर हम लोग सोचेंगे कि भगवान है तो है अगर कोई सोचेगा कि नहीं आता तो मुझे बहुत सारी बातें तो होती है ना तो वह भगवान को नहीं मानते लेकिन वह अभी भी सही सलामत रहे थे तो इतने भरोसे के ऊपर डिपेंड अगर आप मानते हो कि काला टीका लगाने से नजर नहीं लगता तो नहीं है ठीक है किसी चीज में आपको अगर विश्वास है कि चीज में अगर आपको बिलीव है तो वह चीज में तक कारगर सिद्ध होता शराब चीज ही नहीं है सब नहीं होता तो ठीक है ना अगर आप विश्वास कर चुकी काला टीका कर नजर नहीं लगती तो अब लगाइए बहुत बढ़िया और देखना आपको नजर लगेगी ना
Kya kaala teeka lagaane kee najar nahin lagatee bahut achchha savaal hai to deejie bharose ke oopar dipend hoga agar ham log sochenge ki bhagavaan hai to hai agar koee sochega ki nahin aata to mujhe bahut saaree baaten to hotee hai na to vah bhagavaan ko nahin maanate lekin vah abhee bhee sahee salaamat rahe the to itane bharose ke oopar dipend agar aap maanate ho ki kaala teeka lagaane se najar nahin lagata to nahin hai theek hai kisee cheej mein aapako agar vishvaas hai ki cheej mein agar aapako bileev hai to vah cheej mein tak kaaragar siddh hota sharaab cheej hee nahin hai sab nahin hota to theek hai na agar aap vishvaas kar chukee kaala teeka kar najar nahin lagatee to ab lagaie bahut badhiya aur dekhana aapako najar lagegee na

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती ना कभी किसी को किसी की नजर लगती है और ना नजर में या आंखों में ऐसी कोई शक्ति है कि वो किसी का पूरा कर सकती है या अच्छा कर सकती है और आप जो ब्रेन से जुड़ी हुई होती है उसके पास भी केवल देखने के देखने से किसी का अच्छा या बुरा करने की या उसके कारण होने की कोई भी क्षमता नहीं है लेकिन इंसान का मानव घबराया हुआ है और वह हमेशा रहेगा जब तक उसको मुक्तिका भरे हैं मृत्यु के भय के कारण दुनिया ने क्या नहीं किया क्या नहीं किया क्या नहीं किया भगवान को बनाया धर्म संस्था बनाई विज्ञान भी बना के बस्ती के भाई के कारण लेकर आज तक को मृत्यु पर विजय नहीं पा सका है उसको हारा नहीं सका लेकिन लगातार उसकी कोशिश जारी है तो छोटे-छोटे बच्चों के प्रति माता-पिता और तुम भूखे लोग बहुत संवेदनशील होते हैं छोटे बच्चों को सभी प्यार करते हैं वह करते हैं तो अपने ही घर के दिलों में तो वह तो बहुत ज्यादा प्यार करते हैं छोटे बच्चे प्यार करने के लायक बड़े लोग लायक नहीं होते हैं इसलिए कई लोग बच्चों में खेलना ज्यादा पसंद करते हैं बड़ों से ज्यादा संबंध बनाए बनाते नहीं ऐसी ब्लॉक महीने देखें और यही कारण बताते हैं कि बड़े लोग बिगड़ चुके होते हैं क्योंकि वह बड़े हुए होते हैं छोटे नहीं रहते रहते और छोटा जो बच्चा है भगवान का रूप है ऐसे शब्द में कहो तो उसमें इमोशंस होता है बड़े लोगों की नस्ल गायब हो जाता है और यह रिश्ता स्वास्थ मदर मोहम्मद माया तिरस्कार कौन सा अधिकार भरे हुए प्रमाणिकता ज्यादा करके जो होते हैं वैसे स्थिति को एडजस्ट नहीं कर पाते हैं उनको जोड़ वरना जनता नहीं पता लेकिन यह जैसे बड़े लोगों के जीने का एक आवश्यक अंग है इसे बना हुआ है तो अपने मन को बहलाने के लिए उस बच्चे को कभी कुछ तकलीफ ना हो बीमारी ना हो इसलिए प्राणी से क्या की तो कोशिश प्रादुर्भाव ना वह हमेशा हंसते खेलते हैं और हिंदी रहे ऐसी इच्छा होती है परिवार वालों की तो भावनात्मक रूप से उनको ऐसे लगता है कि बच्चे वसा दुनिया की सबसे सुंदर सूरत है और अगर मुझे किसी ने उसको देखा तो इसको पाने की कोशिश करेगा और ना जाने हम से चीनी मिल जाए ऐसी भावना उत्पन्न होती भक्तों में ऐसा कुछ नहीं होता है यह घर वाले भी जानते हैं लेकिन अपने मन को उनके साथ कौन से स्थान पर बैठा हुआ है उसके कारण वह छोटी मोटी चीजें करते हैं चेहरे पर काला टीका लगाने से परिवार वालों को और अच्छा दिखाई भी देता है और कई लोगों को थोड़ा कम अच्छा सुंदर दिखाई दे सकता है और वैसा ही लोग और उनकी नजर ना लग जाए इसलिए काला टीका लगा दे कल का कोई अर्थ नहीं है लेकिन बहुत बड़ा तो कुदरत का नियम है हर कोई चीज परिवर्तनशील है
Kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee na kabhee kisee ko kisee kee najar lagatee hai aur na najar mein ya aankhon mein aisee koee shakti hai ki vo kisee ka poora kar sakatee hai ya achchha kar sakatee hai aur aap jo bren se judee huee hotee hai usake paas bhee keval dekhane ke dekhane se kisee ka achchha ya bura karane kee ya usake kaaran hone kee koee bhee kshamata nahin hai lekin insaan ka maanav ghabaraaya hua hai aur vah hamesha rahega jab tak usako muktika bhare hain mrtyu ke bhay ke kaaran duniya ne kya nahin kiya kya nahin kiya kya nahin kiya bhagavaan ko banaaya dharm sanstha banaee vigyaan bhee bana ke bastee ke bhaee ke kaaran lekar aaj tak ko mrtyu par vijay nahin pa saka hai usako haara nahin saka lekin lagaataar usakee koshish jaaree hai to chhote-chhote bachchon ke prati maata-pita aur tum bhookhe log bahut sanvedanasheel hote hain chhote bachchon ko sabhee pyaar karate hain vah karate hain to apane hee ghar ke dilon mein to vah to bahut jyaada pyaar karate hain chhote bachche pyaar karane ke laayak bade log laayak nahin hote hain isalie kaee log bachchon mein khelana jyaada pasand karate hain badon se jyaada sambandh banae banaate nahin aisee blok maheene dekhen aur yahee kaaran bataate hain ki bade log bigad chuke hote hain kyonki vah bade hue hote hain chhote nahin rahate rahate aur chhota jo bachcha hai bhagavaan ka roop hai aise shabd mein kaho to usamen imoshans hota hai bade logon kee nasl gaayab ho jaata hai aur yah rishta svaasth madar mohammad maaya tiraskaar kaun sa adhikaar bhare hue pramaanikata jyaada karake jo hote hain vaise sthiti ko edajast nahin kar paate hain unako jod varana janata nahin pata lekin yah jaise bade logon ke jeene ka ek aavashyak ang hai ise bana hua hai to apane man ko bahalaane ke lie us bachche ko kabhee kuchh takaleeph na ho beemaaree na ho isalie praanee se kya kee to koshish praadurbhaav na vah hamesha hansate khelate hain aur hindee rahe aisee ichchha hotee hai parivaar vaalon kee to bhaavanaatmak roop se unako aise lagata hai ki bachche vasa duniya kee sabase sundar soorat hai aur agar mujhe kisee ne usako dekha to isako paane kee koshish karega aur na jaane ham se cheenee mil jae aisee bhaavana utpann hotee bhakton mein aisa kuchh nahin hota hai yah ghar vaale bhee jaanate hain lekin apane man ko unake saath kaun se sthaan par baitha hua hai usake kaaran vah chhotee motee cheejen karate hain chehare par kaala teeka lagaane se parivaar vaalon ko aur achchha dikhaee bhee deta hai aur kaee logon ko thoda kam achchha sundar dikhaee de sakata hai aur vaisa hee log aur unakee najar na lag jae isalie kaala teeka laga de kal ka koee arth nahin hai lekin bahut bada to kudarat ka niyam hai har koee cheej parivartanasheel hai

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
0:55
काला टीका लगाने से नजर नहीं हटती इंसान की सोच है यह गाना टीका लगाने से सुंदरता से कोई प्रभाव नहीं पड़ता किसी इंसान की कड़ी नजर उसको अपनी दोस्त में अपने होश में नहीं देती या काला टीका लगाने से इंसान बुरी नजरों से पहचानता है एक इंसान की मानसिक रोग है अबकी बार छुट्टी ऐसा नहीं है लखनऊ से राजस्थान भी कभी-कभी का वह काजल होता है वह दिखाओ नए मोकालावास सुल्तान की सुंदरता में चार चांद लगा देता है जो संभवत कालिस्ता के कारण वीरेंद्र सकती है
Kaala teeka lagaane se najar nahin hatatee insaan kee soch hai yah gaana teeka lagaane se sundarata se koee prabhaav nahin padata kisee insaan kee kadee najar usako apanee dost mein apane hosh mein nahin detee ya kaala teeka lagaane se insaan buree najaron se pahachaanata hai ek insaan kee maanasik rog hai abakee baar chhuttee aisa nahin hai lakhanoo se raajasthaan bhee kabhee-kabhee ka vah kaajal hota hai vah dikhao nae mokaalaavaas sultaan kee sundarata mein chaar chaand laga deta hai jo sambhavat kaalista ke kaaran veerendr sakatee hai

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:49
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती तो दोस्तों पहले के लोग बच्चों की आंख बड़ी करने के लिए भी काला काजल का प्रयोग करते थे और वह घर पर बनाया जाता था और जो आजकल ग्रामीण क्षेत्रों में अभी भी बनाया जाता है और उसको माथे पर भी लगाया जाता है कि लोग साइड में लगाते हैं कई लोग बीच में लगाती हैं माताएं लेकिन डॉक्टर इसका खंडन करता है कि इससे आंखों को नुकसान पहुंचता है लेकिन निश्चित रूप से आप देखेंगे कि बच्चे पर काजल लगाया होता है तो खूबसूरत में आता है और बात है नजर लगने की तो यह मान्यता है कि नजर नहीं लगती इसलिए काला चीजों का प्रयोग होता है जगह-जगह काले धागे का काले टीके का मेरे को नहीं लगता कि ऐसा इससे कुछ फायदा होता होगा लेकिन नजर अवश्य लगती है यह महसूस किया जाता है सभी माताओं द्वारा और अच्छा भी है कई बार ऐसा देखा है लोग कोर्ट के करते हैं कि उसको रुई का बत्ती बनाकर घुमाकर जलाते हैं जूतों से मारते हैं तो टोटकों से भी मन शांत हो जाए तो कोई गलत बात नहीं है माता का महत्त्व इतना रहता है कि बच्चे को थोड़ा सा भी कुछ हो जाए तो वह चिंतित हो जाती है लेकिन नजर से इसका कोई रंग कार लेना देना नहीं है लेकिन दोस्तों बहुत सारी चीजें मान्यताओं पर आधारित होती है अनुभव पर आधारित होती है वह प्रथा निरंतर चलती रहती है आप चेहरों में देखेंगे तो ऐसा काला टीका नहीं लगाया था बच्चों को पूर्वांचल क्षेत्रों में काफी लगाया जाता है तो सबकी अपनी मिनी मान्यताएं हैं अगर ऐसा होता तो हर जगह काला टीका लगाया जाता धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee to doston pahale ke log bachchon kee aankh badee karane ke lie bhee kaala kaajal ka prayog karate the aur vah ghar par banaaya jaata tha aur jo aajakal graameen kshetron mein abhee bhee banaaya jaata hai aur usako maathe par bhee lagaaya jaata hai ki log said mein lagaate hain kaee log beech mein lagaatee hain maataen lekin doktar isaka khandan karata hai ki isase aankhon ko nukasaan pahunchata hai lekin nishchit roop se aap dekhenge ki bachche par kaajal lagaaya hota hai to khoobasoorat mein aata hai aur baat hai najar lagane kee to yah maanyata hai ki najar nahin lagatee isalie kaala cheejon ka prayog hota hai jagah-jagah kaale dhaage ka kaale teeke ka mere ko nahin lagata ki aisa isase kuchh phaayada hota hoga lekin najar avashy lagatee hai yah mahasoos kiya jaata hai sabhee maataon dvaara aur achchha bhee hai kaee baar aisa dekha hai log kort ke karate hain ki usako ruee ka battee banaakar ghumaakar jalaate hain jooton se maarate hain to totakon se bhee man shaant ho jae to koee galat baat nahin hai maata ka mahattv itana rahata hai ki bachche ko thoda sa bhee kuchh ho jae to vah chintit ho jaatee hai lekin najar se isaka koee rang kaar lena dena nahin hai lekin doston bahut saaree cheejen maanyataon par aadhaarit hotee hai anubhav par aadhaarit hotee hai vah pratha nirantar chalatee rahatee hai aap cheharon mein dekhenge to aisa kaala teeka nahin lagaaya tha bachchon ko poorvaanchal kshetron mein kaaphee lagaaya jaata hai to sabakee apanee minee maanyataen hain agar aisa hota to har jagah kaala teeka lagaaya jaata dhanyavaad

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:47
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती दोस्तों पुरानी मान्यताओं के आधार पर बच्चे को काला टीका लगाया जाता है कहा जाता है इससे बच्चे को नजर नहीं लगती या यूं कहें की बुरी नजर का प्रभाव नहीं पड़ता यह प्रथा कई वर्षों से चली आ रही है अक्सर बच्चों को काला टीका नजर ना लगने की वजह से लगा जा और 20 के उपाय हैं कुछ लोग मंगल इतवार के दिन आटा नमक फ्राई मिर्चा बच्चे के ऊपर से उतार के आगे में डाल देते हैं यह भी पुरानी मान्यताओं के आधार पर किया जाता है
Kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee doston puraanee maanyataon ke aadhaar par bachche ko kaala teeka lagaaya jaata hai kaha jaata hai isase bachche ko najar nahin lagatee ya yoon kahen kee buree najar ka prabhaav nahin padata yah pratha kaee varshon se chalee aa rahee hai aksar bachchon ko kaala teeka najar na lagane kee vajah se laga ja aur 20 ke upaay hain kuchh log mangal itavaar ke din aata namak phraee mircha bachche ke oopar se utaar ke aage mein daal dete hain yah bhee puraanee maanyataon ke aadhaar par kiya jaata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती, काला टीका
URL copied to clipboard