#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?

Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:32
नमस्कार साथियों आप का सवाल है बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है तो दोस्तों आज हम जानते हैं तो बादलों में पानी की एसएससी और छोटे गूंज होती है जो कुछ बादलों में हिंदुओं की संख्या ज्यादा होती है तो दूसरे में कम होती है कुछ बातों में सफेद रंग दिखाई देता है तो फिर से बाद में में पूरा रंग दिखाई देता है और जब बरसने वाले बादल होते हैं वह आमतौर पर काले ही होते हैं और जो बादलों का रंग है वह काला होता है जब किसी वस्तु पर सूर्य का प्रकाश बढ़ता है तो उसका कुछ भाग परावर्तित रिफ्लेक्ट हो जाता है और कुछ वस्तुओं के द्वारा अवशोषित कर ली चमकीले भोजपुरी अक्षरा अपने ऊपर पड़ने वाले प्रकाश को परावर्तित करते हैं यदि कोई वस्तु उस पर पड़ने वाले प्रकाश को पूरी तरह अवशोषित कर लेती है तो वह काले रंग दिखाई देने लग जाते हैं वास्तव में काला रंग कोई रंग नहीं है प्रकाश के साथ रंग जब किसी वस्तु का द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं तो वह स्वस्तिका रंग काला दिखाई देने लग जाता है जो हमारे बादल सूर्य के प्रकाश को परावर्तित कर देते हैं और वो सफेद दिखाई देने लग जाते हैं लेकिन जो प्रकाश को अवशोषित कर लेते हैं वह काले दिखाई देते हैं और जब बरसने वाले बादल में पानी की है संख्या खून होती है जो प्रकाश के सभी रंगों को अवशोषित कर लेती है इसलिए बसने वाले बादलों का रंग भी काला दिखाई देने लग जाता है आकाश में जैसे बादलों की संख्या अधिक होती है दिन में भी अंधकार छा जाता है क्योंकि यह बादल सूर्य प्रकाश को आश्वस्त कर लेते हैं और धरती पर नहीं आने देते हैं यह बालक बहुत कुछ सेटिंग दोनों में से मिलकर बने होते हैं उनकी ऊंचाई भी बहुत अधिक होती है वर्क के गण प्रकाश के लिए पारदर्शक होते हैं इसलिए काट के बात इनमें से प्रकाश आर-पार निकल आता है जो यह चमकीले भी दिखाई देते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon aap ka savaal hai baarish ke pahale baadal kaala kyon ho jaata hai to doston aaj ham jaanate hain to baadalon mein paanee kee esesasee aur chhote goonj hotee hai jo kuchh baadalon mein hinduon kee sankhya jyaada hotee hai to doosare mein kam hotee hai kuchh baaton mein saphed rang dikhaee deta hai to phir se baad mein mein poora rang dikhaee deta hai aur jab barasane vaale baadal hote hain vah aamataur par kaale hee hote hain aur jo baadalon ka rang hai vah kaala hota hai jab kisee vastu par soory ka prakaash badhata hai to usaka kuchh bhaag paraavartit riphlekt ho jaata hai aur kuchh vastuon ke dvaara avashoshit kar lee chamakeele bhojapuree akshara apane oopar padane vaale prakaash ko paraavartit karate hain yadi koee vastu us par padane vaale prakaash ko pooree tarah avashoshit kar letee hai to vah kaale rang dikhaee dene lag jaate hain vaastav mein kaala rang koee rang nahin hai prakaash ke saath rang jab kisee vastu ka dvaara avashoshit kar lie jaate hain to vah svastika rang kaala dikhaee dene lag jaata hai jo hamaare baadal soory ke prakaash ko paraavartit kar dete hain aur vo saphed dikhaee dene lag jaate hain lekin jo prakaash ko avashoshit kar lete hain vah kaale dikhaee dete hain aur jab barasane vaale baadal mein paanee kee hai sankhya khoon hotee hai jo prakaash ke sabhee rangon ko avashoshit kar letee hai isalie basane vaale baadalon ka rang bhee kaala dikhaee dene lag jaata hai aakaash mein jaise baadalon kee sankhya adhik hotee hai din mein bhee andhakaar chha jaata hai kyonki yah baadal soory prakaash ko aashvast kar lete hain aur dharatee par nahin aane dete hain yah baalak bahut kuchh seting donon mein se milakar bane hote hain unakee oonchaee bhee bahut adhik hotee hai vark ke gan prakaash ke lie paaradarshak hote hain isalie kaat ke baat inamen se prakaash aar-paar nikal aata hai jo yah chamakeele bhee dikhaee dete hain dhanyavaad doston khush raho

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:22
जी आपका सोयाबीन की बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाते हैं तो जब बारिश के कोई आसार नहीं होते तो हाथ में सफेद बालों से बड़ा होता है लेकिन जैसे ही बारिश होने वाली होती हैं बादल काले नजर आने लगते हैं मानो कि जैसे जैसे किसी ने उसकी पूरी तरह बदल दिया है काले बादल हो जाने के कारण वातावरण भी आंधी कायम हो जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों होता है क्योंकि बादल बारिश से पहले ही काले हो जाते हैं अगर नहीं तो अब बिल्कुल सही जगह है बारिश होने से पहले बादल काले इसलिए हो जाते हैं क्योंकि पानी के वार्षिक के छोटे-छोटे मुद्दों से बना होता है जब धरती पर गर्म जल पास निकलते हैं तो गर्म जलवायु पर आकाश की तरफ उड़ जाते हैं और ऊपर जाते हैं संगीत संगीत होकर बर्फ के छोटे-छोटे एक बड़े बड़े गोले में तब्दील बदल जाते हैं और जब भी बादल का निर्माण होता है उसे हम पृथ्वी पर देख पाते हैं धन्यवाद
Jee aapaka soyaabeen kee baarish ke pahale baadal kaala kyon ho jaate hain to jab baarish ke koee aasaar nahin hote to haath mein saphed baalon se bada hota hai lekin jaise hee baarish hone vaalee hotee hain baadal kaale najar aane lagate hain maano ki jaise jaise kisee ne usakee pooree tarah badal diya hai kaale baadal ho jaane ke kaaran vaataavaran bhee aandhee kaayam ho jaata hai lekin kya aap jaanate hain ki aisa kyon hota hai kyonki baadal baarish se pahale hee kaale ho jaate hain agar nahin to ab bilkul sahee jagah hai baarish hone se pahale baadal kaale isalie ho jaate hain kyonki paanee ke vaarshik ke chhote-chhote muddon se bana hota hai jab dharatee par garm jal paas nikalate hain to garm jalavaayu par aakaash kee taraph ud jaate hain aur oopar jaate hain sangeet sangeet hokar barph ke chhote-chhote ek bade bade gole mein tabdeel badal jaate hain aur jab bhee baadal ka nirmaan hota hai use ham prthvee par dekh paate hain dhanyavaad

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
0:42
गर्ल्स क्वेश्चन पूछा गया कि बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है तो हम सभी जानते हैं कि बारिश जो होता है वह बादल के सम्मेलन के कारण ही होता है कि जब बादल जो होता है जब वह ठंडा होता है तभी जाकर जो है बारिश होती है और पागल जान और बादल बनने की प्रक्रिया हम सभी जानते हैं कि जो समुंदर की पानी होती है वास्तु द्वारा जो है छुपा बादल में जो आता है आसमान में जो है ठंड होने लगती है जहां पर तुरंत बादल का निर्माण होता है तो इस परिस्थिति में जो है बादल ज्योति जब ठंडा होता है तो हमें जो है तो जो है बादल काला दिखाई देता और इस परिस्थिति में जो है बारिश होती है
Garls kveshchan poochha gaya ki baarish ke pahale baadal kaala kyon ho jaata hai to ham sabhee jaanate hain ki baarish jo hota hai vah baadal ke sammelan ke kaaran hee hota hai ki jab baadal jo hota hai jab vah thanda hota hai tabhee jaakar jo hai baarish hotee hai aur paagal jaan aur baadal banane kee prakriya ham sabhee jaanate hain ki jo samundar kee paanee hotee hai vaastu dvaara jo hai chhupa baadal mein jo aata hai aasamaan mein jo hai thand hone lagatee hai jahaan par turant baadal ka nirmaan hota hai to is paristhiti mein jo hai baadal jyoti jab thanda hota hai to hamen jo hai to jo hai baadal kaala dikhaee deta aur is paristhiti mein jo hai baarish hotee hai

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
0:26
बारिश की पहली बादल काला क्यों हो जाता तो देखी और बारिश के आने से पहले गर्मी लगी रहती है और गर्मियों में जो है जो जल के कारण होते हैं वह अधिक मात्रा में वास्तविक हो जाते हैं और यह बात पकड़ होता ही अधिक मात्रा में हो जाता है जिससे पागल जो है वह घने और काले दिखाई पड़ते हो सूर्य की किरण भी इनके द्वारा नीचे नहीं आ पाती है इसलिए इनका कलर चूहे एकदम काला दिखाई देना पड़ता है जवाब पसंद है तो लाइक करें बोलकर से जुड़े रहे हैं
Baarish kee pahalee baadal kaala kyon ho jaata to dekhee aur baarish ke aane se pahale garmee lagee rahatee hai aur garmiyon mein jo hai jo jal ke kaaran hote hain vah adhik maatra mein vaastavik ho jaate hain aur yah baat pakad hota hee adhik maatra mein ho jaata hai jisase paagal jo hai vah ghane aur kaale dikhaee padate ho soory kee kiran bhee inake dvaara neeche nahin aa paatee hai isalie inaka kalar choohe ekadam kaala dikhaee dena padata hai javaab pasand hai to laik karen bolakar se jude rahe hain

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:24
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है बारिश के मेले बादल काला क्यों हो जाता है तो फ्रेंडशिप बारिश के पहले बादल के काला हो जाता है क्योंकि वह मानसून के बादल है जो काले काले छा जाते हैं आंखें और भाई वर्षा वाले बादल होते हैं जो काले कलर के होते हैं तो है आसमान में छा जाते हैं तो हमें वही मानसून वाले बादल काले दिखते हैं धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai baarish ke mele baadal kaala kyon ho jaata hai to phrendaship baarish ke pahale baadal ke kaala ho jaata hai kyonki vah maanasoon ke baadal hai jo kaale kaale chha jaate hain aankhen aur bhaee varsha vaale baadal hote hain jo kaale kalar ke hote hain to hai aasamaan mein chha jaate hain to hamen vahee maanasoon vaale baadal kaale dikhate hain dhanyavaad

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:44
सवाल है कि बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता तो हम जानते हैं कि बादल हुए पानी के असंख्य छोटी-छोटी बूंदे होती कुछ बादलों में इन बूंदों की संख्या बहुत अधिक होती है तो दूसरों में बहुत कम कुछ बादल सफेद रंग के दिखाई देते हैं तो कुछ भूरे रंग के दिखाई देते हैं बरसने वाले बादल आमतौर पर काले दिखाई देते हैं तो चलिए जानते हैं कि बादलों का रंग काला क्यों दिखाई थी जब किसी वस्तु पर सूर्य का पकड़ा प्रकाश पड़ता है तो उसका कुछ भाग परावर्तित यानी रिफ्लेक्ट हो जाता है और कुछ वस्तु द्वारा अवशोषित कर लिया जाता है चमकीली वस्तुएं अक्सर अपने ऊपर पड़ने वाले प्रकाश को प्रयोग परावर्तित करती हैं यदि कोई वस्तु उस पर पड़ने वाले प्रकाश को पूरी तरह अवशोषित कर लेती है तो वह काले रंग की दिखाई देती हैं वास्तव में काले रंग कोई रंग नहीं प्रकाश के साथ रंग जब किसी वस्तु द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं तो उस वस्तु कर्म काला दिखाई देता है जो बादल सूर्य के प्रकाश को परावर्तित कर देते हैं फिर सफाई सफेद दिखाई देते हैं लेकिन जो प्रकाश को अवशोषित कर लेते हैं वे काले दिखाई देते हैं बरसने वाले बादल में पानी के असंख्य बूंद होती है जो प्रकाश के सभी रंगों को अवशोषित कर लेती है इसलिए बरसने वाले बादलों का रंग काला दिखाई देता है आकाश में जैसे बादलों की संख्या अधिक होती है तो दिन में भी अंधकार हो जाता है क्योंकि यह बादल का सूर्य के प्रकाश को अवशोषित कर लेते हैं और उससे धरती पर नहीं आने देती यह बाल बर्फ के बहुत छोटे-छोटे कणों से मिलकर बनते हैं और इनकी ऊंचाई भी बहुत अधिक होती है बर्फ के कारण प्रकाश के लिए पारदर्शक होते हैं इसलिए कांच की भांति इनमें से प्रकाश आर-पार निकल जाता है इसलिए यह चमकीले दिखाई देते हैं
Savaal hai ki baarish ke pahale baadal kaala kyon ho jaata to ham jaanate hain ki baadal hue paanee ke asankhy chhotee-chhotee boonde hotee kuchh baadalon mein in boondon kee sankhya bahut adhik hotee hai to doosaron mein bahut kam kuchh baadal saphed rang ke dikhaee dete hain to kuchh bhoore rang ke dikhaee dete hain barasane vaale baadal aamataur par kaale dikhaee dete hain to chalie jaanate hain ki baadalon ka rang kaala kyon dikhaee thee jab kisee vastu par soory ka pakada prakaash padata hai to usaka kuchh bhaag paraavartit yaanee riphlekt ho jaata hai aur kuchh vastu dvaara avashoshit kar liya jaata hai chamakeelee vastuen aksar apane oopar padane vaale prakaash ko prayog paraavartit karatee hain yadi koee vastu us par padane vaale prakaash ko pooree tarah avashoshit kar letee hai to vah kaale rang kee dikhaee detee hain vaastav mein kaale rang koee rang nahin prakaash ke saath rang jab kisee vastu dvaara avashoshit kar lie jaate hain to us vastu karm kaala dikhaee deta hai jo baadal soory ke prakaash ko paraavartit kar dete hain phir saphaee saphed dikhaee dete hain lekin jo prakaash ko avashoshit kar lete hain ve kaale dikhaee dete hain barasane vaale baadal mein paanee ke asankhy boond hotee hai jo prakaash ke sabhee rangon ko avashoshit kar letee hai isalie barasane vaale baadalon ka rang kaala dikhaee deta hai aakaash mein jaise baadalon kee sankhya adhik hotee hai to din mein bhee andhakaar ho jaata hai kyonki yah baadal ka soory ke prakaash ko avashoshit kar lete hain aur usase dharatee par nahin aane detee yah baal barph ke bahut chhote-chhote kanon se milakar banate hain aur inakee oonchaee bhee bahut adhik hotee hai barph ke kaaran prakaash ke lie paaradarshak hote hain isalie kaanch kee bhaanti inamen se prakaash aar-paar nikal jaata hai isalie yah chamakeele dikhaee dete hain

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College
0:45
बादलों में पानी की असंख्य छोटी छोटी बन जाती है अगर हम हुआ है तो कोई ढंग नहीं है जबकि प्रकाश के साथ जब किसी वस्तु द्वारा अवशोषित कर लिया ऑफ कर जाते तो उस वस्तु का रंग काला दिखाई देता है कार्तिक का नियम ऑफिस फेंक देते हुए दिखाई देते हैं प्रकाशित कर लेते हैं उनके असंख्य बूंदे को इंदु प्रकाश की सभी लोगों को आप जॉब पर बरसने वाले बादल का गाना दिखाएं धन्यवाद
Baadalon mein paanee kee asankhy chhotee chhotee ban jaatee hai agar ham hua hai to koee dhang nahin hai jabaki prakaash ke saath jab kisee vastu dvaara avashoshit kar liya oph kar jaate to us vastu ka rang kaala dikhaee deta hai kaartik ka niyam ophis phenk dete hue dikhaee dete hain prakaashit kar lete hain unake asankhy boonde ko indu prakaash kee sabhee logon ko aap job par barasane vaale baadal ka gaana dikhaen dhanyavaad

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
0:51
हेलो दोस्तों आपका स्वागत है हमारे चैनल पर आप का सवाल है बारिश से पहले बादल काले क्यों हो जाते हैं तो बारिश से पहले पढ़ने वाले बादलों में पानी की टंकी बोली होती हैं जो प्रकाश के सभी रंगों को अवशोषित कर लेती हैं इसलिए पढ़ने वाले बालों का रंग काला दिखाई देता है आकाश में जब भी ऐसे बादलों की संख्या अधिक होती है तो दिन में भी अंधकार हो जाता है क्योंकि यह बादल सूर्य के प्रकाश को भी अवशोषित कर देते हैं और रूस धरती पर नहीं चाहती मधुर की नर्सरी पर नहीं जाने देती है इससे हमें दिन में भी अंधेरा लगने लगता है जो बादल सूर्य और प्रकाश को प्रेरित करते हैं वह सफेद दिखाई देते लेकिन यह जो प्रकाशित कर लेते हैं वह खाली दिखाई देने लगते हैं धन्यवाद दोस्तों
Helo doston aapaka svaagat hai hamaare chainal par aap ka savaal hai baarish se pahale baadal kaale kyon ho jaate hain to baarish se pahale padhane vaale baadalon mein paanee kee tankee bolee hotee hain jo prakaash ke sabhee rangon ko avashoshit kar letee hain isalie padhane vaale baalon ka rang kaala dikhaee deta hai aakaash mein jab bhee aise baadalon kee sankhya adhik hotee hai to din mein bhee andhakaar ho jaata hai kyonki yah baadal soory ke prakaash ko bhee avashoshit kar dete hain aur roos dharatee par nahin chaahatee madhur kee narsaree par nahin jaane detee hai isase hamen din mein bhee andhera lagane lagata hai jo baadal soory aur prakaash ko prerit karate hain vah saphed dikhaee dete lekin yah jo prakaashit kar lete hain vah khaalee dikhaee dene lagate hain dhanyavaad doston

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:31
वाले भारत के पहले बादल काला क्यों हो जाता है देखिए बारिश का मौसम आने से पहले गर्मी का मौसम आता है इसलिए गर्मी के मौसम में जल के कट अधिक मात्रा में पौष्टिक हो जाते हैं वह पकड़ अधिक मात्रा में बनने के कारण बादल अधिक घने हो जाते हैं और उस सूर्य का प्रकाश इन व्हाट्सएप करो से नहीं गुजर पाता है इसलिए बादलों का रंग काला दिखाई देता है धन्यवाद
Vaale bhaarat ke pahale baadal kaala kyon ho jaata hai dekhie baarish ka mausam aane se pahale garmee ka mausam aata hai isalie garmee ke mausam mein jal ke kat adhik maatra mein paushtik ho jaate hain vah pakad adhik maatra mein banane ke kaaran baadal adhik ghane ho jaate hain aur us soory ka prakaash in vhaatsep karo se nahin gujar paata hai isalie baadalon ka rang kaala dikhaee deta hai dhanyavaad

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
1:50
रवि वन एवं आप सब ठीक हो गई उसने पूछा कार्य से पहले बादल का काला रंग क्यों हो जाता है देखिए हम जानते हैं कि बादल में पानी की बहुत सारी छोटी छोटी बातें होती हैं जिनको हम कह नहीं सकते नहीं होती है कुछ बादलों में 1 बूथों की संख्या बहुत अधिक हो तो दूसरों में बहुत कम कुछ बादल चूहा सफेद रंग के दिखा देते हैं तो कुछ भूरे रंग के दिखा देते हैं बरसने वाले बादल आमतौर पर काले दिखाई देते हैं उनका कर काले रंग के बारे में बात करें क्योंकि होता क्या है जब किसी वस्तु पर सूर्य का प्रकाश पड़ता है तो कुछ भाग उसका परिवर्तन रिफ्लेक्ट हो जाता है और कुछ बस द्वारा घोषित कर ले जाता है जम के लिए बस तू अक्षर आप अपने ऊपर उड़ने वाले प्रकाश को परिवर्तित कर देते जाने के लिए सिलेक्ट कर देते हैं यदि कोई वस्तु उस पर पड़ने वाले प्रकाश को पूरी तरह से आप सूचित कर ले तो काले धन की दिखाई देना शुरू हो जाती है वास्तव में काला रंग कोई रंग नहीं होता प्रकाश के साथ रंग जब किसी वस्तु द्वारा प्रेषित कर लिया था तो उस वस्तु का जो रहता है वह काला दिखाई देना होता है जो बादल सूर्य के प्रकाश को परिवर्तित कर देते हैं वह सफेद दिखाए थे लेकिन जो प्रकाश को सूचित कर लेते हैं वह कॉलेज में के दिखाई देना शुरू हो जाते हैं बरसने वाले बादलों को पानी की बहुत सारी बुरी होती है जो प्रकाश के सभी रंगों को सूचित कर लेते हैं इसलिए बरसने वाले बादल जी काला रंग दिखाई देते हैं जब बरसने वाले बादल से काले रंग के देखते हैं आकाश में जब ऐसी बातों की संख्या अधिक होती है तो दिन में अधिकार सा हो जाता है क्योंकि यह बदल सूर्य के प्रकाश को सूचित कर लेते हैं और धरती पर आने नहीं देते यही जोशी बाल वर्क के छोटे-छोटे कणों से मिलकर बनते हुए इनकी ऊंचाई भी बहुत अधिक होती है वर्क के करण प्रकाश के लिए प्रदर्शित होते हैं इसलिए कांच के बाद तीन में प्रकाश आर-पार निकल गए थे इसलिए चमकीले दिखाई देते हैं आशा करता हूं आपको कुछ सवाल का जवाब जी के बालक को सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Ravi van evan aap sab theek ho gaee usane poochha kaary se pahale baadal ka kaala rang kyon ho jaata hai dekhie ham jaanate hain ki baadal mein paanee kee bahut saaree chhotee chhotee baaten hotee hain jinako ham kah nahin sakate nahin hotee hai kuchh baadalon mein 1 boothon kee sankhya bahut adhik ho to doosaron mein bahut kam kuchh baadal chooha saphed rang ke dikha dete hain to kuchh bhoore rang ke dikha dete hain barasane vaale baadal aamataur par kaale dikhaee dete hain unaka kar kaale rang ke baare mein baat karen kyonki hota kya hai jab kisee vastu par soory ka prakaash padata hai to kuchh bhaag usaka parivartan riphlekt ho jaata hai aur kuchh bas dvaara ghoshit kar le jaata hai jam ke lie bas too akshar aap apane oopar udane vaale prakaash ko parivartit kar dete jaane ke lie silekt kar dete hain yadi koee vastu us par padane vaale prakaash ko pooree tarah se aap soochit kar le to kaale dhan kee dikhaee dena shuroo ho jaatee hai vaastav mein kaala rang koee rang nahin hota prakaash ke saath rang jab kisee vastu dvaara preshit kar liya tha to us vastu ka jo rahata hai vah kaala dikhaee dena hota hai jo baadal soory ke prakaash ko parivartit kar dete hain vah saphed dikhae the lekin jo prakaash ko soochit kar lete hain vah kolej mein ke dikhaee dena shuroo ho jaate hain barasane vaale baadalon ko paanee kee bahut saaree buree hotee hai jo prakaash ke sabhee rangon ko soochit kar lete hain isalie barasane vaale baadal jee kaala rang dikhaee dete hain jab barasane vaale baadal se kaale rang ke dekhate hain aakaash mein jab aisee baaton kee sankhya adhik hotee hai to din mein adhikaar sa ho jaata hai kyonki yah badal soory ke prakaash ko soochit kar lete hain aur dharatee par aane nahin dete yahee joshee baal vark ke chhote-chhote kanon se milakar banate hue inakee oonchaee bhee bahut adhik hotee hai vark ke karan prakaash ke lie pradarshit hote hain isalie kaanch ke baad teen mein prakaash aar-paar nikal gae the isalie chamakeele dikhaee dete hain aasha karata hoon aapako kuchh savaal ka javaab jee ke baalak ko sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
0:36
बारिश की पहली बार जल गाना क्यों हो जाता है कि नहीं पागल जो है राजीव श्री चरणों से या जल के स्रोत से पानी उठाकर जाते हैं अजब पानी की मात्रा बहुत अधिक बाद में में घनिष्ठ हो जाती है तो उनके घनत्व के कारण पानी की अधिकता के कारण जो बादल ने उनका रंग पूरा सलेटी उसके पश्चात कलर धारण करने का
Baarish kee pahalee baar jal gaana kyon ho jaata hai ki nahin paagal jo hai raajeev shree charanon se ya jal ke srot se paanee uthaakar jaate hain ajab paanee kee maatra bahut adhik baad mein mein ghanishth ho jaatee hai to unake ghanatv ke kaaran paanee kee adhikata ke kaaran jo baadal ne unaka rang poora saletee usake pashchaat kalar dhaaran karane ka

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
pari Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए pari जी का जवाब
Unknown
0:48
क्यों किया था बारिश के पहले बादल काले क्यों हो जाते हैं तो मैं आपको बताऊंगी मैं आपको पूरी डिटेल में बताऊंगा देखते हैं तो इसका आंसर यह है कि जब किसी वस्तु पर सूर्य का प्रकाश पड़ता है तो उसका कुछ बात परिवर्तन हो जाता है टेंस मुझे समझाने की जरूरत नहीं पड़ेगी मुझे पता है कि आप लोग समझ जाएंगे ना तो मैं आपको बाकी के भागा आधा और आंसर बताती हो जाता है और कुछ वस्तुओं द्वारा अवशोषित कर लिया जाता है बरसने वाले बादल में पानी की संख्या बूंदे होती है जो प्रकाश के सभी रंगों को आवश्यक आग सूचित कर लेती हैं इसलिए बरसने वाले बादलों का रंग काला दिखाई देता है
Kyon kiya tha baarish ke pahale baadal kaale kyon ho jaate hain to main aapako bataoongee main aapako pooree ditel mein bataoonga dekhate hain to isaka aansar yah hai ki jab kisee vastu par soory ka prakaash padata hai to usaka kuchh baat parivartan ho jaata hai tens mujhe samajhaane kee jaroorat nahin padegee mujhe pata hai ki aap log samajh jaenge na to main aapako baakee ke bhaaga aadha aur aansar bataatee ho jaata hai aur kuchh vastuon dvaara avashoshit kar liya jaata hai barasane vaale baadal mein paanee kee sankhya boonde hotee hai jo prakaash ke sabhee rangon ko aavashyak aag soochit kar letee hain isalie barasane vaale baadalon ka rang kaala dikhaee deta hai

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
Vicky Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vicky जी का जवाब
अभी हम पढ़ाई करते हैं
0:46
गर्मी के समय जब अधिकतर ओवासपी 22 तारीख को व्हाट्सएप ओपन जाता है फिर वहां पर सूर्य की किरने पर क्यों नहीं आती तो बादल काला काला दिखाई देता है जितना का वास होता है उसके 8203 पर क्यों नहीं हो सकता दोनों दोनों अलग-अलग घंटे में

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बारिश के पहले बादल काले क्यों दिखाई देता है, बादल काले क्यों दिखाई देते हैं, बारिश के पहले बादल काले क्यों होते हैं
URL copied to clipboard