#undefined

bolkar speaker

क्या यह सच है कि चिंता से बुद्धि घटती और दुख से शरीर घटता है?

Kya Yah Sach Hai Ki Chinta Se Buddhi Ghatati Aur Dukh Se Shareer Ghatata Hai
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 mission Indian Army🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
0:51
नमस्कार दोस्तों कैसे सवाल क्यों सोचेंगे चिंता से बुद्धि घटती और दुख से शरीर घटना जी बिल्कुल ऐसी बातों से सच्चा क्योंकि अधिक चिंता करते तो आप उसके बारे में सोचते रहते तो परिणाम स्वरूप आपकी जॉब का काम करना बंद कर देती है यानी कि आप जो सोच विचार नहीं सकते हमेशा चिंता में डूबे रहते इससे आपकी बहुत दिखानी थी और दूसरों के दुख जब भी आपके कोई दुख पड़ता है तो मैं सब दुख में ही डूबे रहते हैं खाना वाना नहीं खाते तो प्रणाम आप का मतलब जो है अभी तो घर पर आते तो आप बना जाता है हां तुमको मैं कुछ भी काम करने का मन नहीं करता सिर्फ और सिर्फ दुख दुख में ही डूबे रहते और कुछ भी नहीं करते खाना पीना भी छोड़ देते तो हम बचपन से घटने लगता है तो वहां पर उम्मीद करता हूं सर का जवाब अच्छा लगा होगा धन्यवाद
Namaskaar doston kaise savaal kyon sochenge chinta se buddhi ghatatee aur dukh se shareer ghatana jee bilkul aisee baaton se sachcha kyonki adhik chinta karate to aap usake baare mein sochate rahate to parinaam svaroop aapakee job ka kaam karana band kar detee hai yaanee ki aap jo soch vichaar nahin sakate hamesha chinta mein doobe rahate isase aapakee bahut dikhaanee thee aur doosaron ke dukh jab bhee aapake koee dukh padata hai to main sab dukh mein hee doobe rahate hain khaana vaana nahin khaate to pranaam aap ka matalab jo hai abhee to ghar par aate to aap bana jaata hai haan tumako main kuchh bhee kaam karane ka man nahin karata sirph aur sirph dukh dukh mein hee doobe rahate aur kuchh bhee nahin karate khaana peena bhee chhod dete to ham bachapan se ghatane lagata hai to vahaan par ummeed karata hoon sar ka javaab achchha laga hoga dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या यह सच है कि चिंता से बुद्धि घटती और दुख से शरीर घटता है?Kya Yah Sach Hai Ki Chinta Se Buddhi Ghatati Aur Dukh Se Shareer Ghatata Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:27
क्या सच है कि चिंता से बुद्धि घटती है उद्योग से शरीर के अंदर बिल्कुल बिल्कुल बिल्कुल चिंता करोगी तो बुद्धि विवेक बुद्धि घटने का मतलब है मस्ती डिस्टर्ब रहेगा तो याददाश्त बिल्कुल खराब हो जाएगी आदमी चिड़चिड़ा हो जाएगा और तुम करोगे तो शरीर में थे क्या दुख और चिंता है क्या लेकिन दुख का मतलब था जब किसी एक चीज को लेकर लगातार उसी के बारे में उससे फिर शारीरिक कमजोरी आ जाती है धन्यवाद
Kya sach hai ki chinta se buddhi ghatatee hai udyog se shareer ke andar bilkul bilkul bilkul chinta karogee to buddhi vivek buddhi ghatane ka matalab hai mastee distarb rahega to yaadadaasht bilkul kharaab ho jaegee aadamee chidachida ho jaega aur tum karoge to shareer mein the kya dukh aur chinta hai kya lekin dukh ka matalab tha jab kisee ek cheej ko lekar lagaataar usee ke baare mein usase phir shaareerik kamajoree aa jaatee hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • चिंता से चतुराई घटे दुःख से घटे शरीर, चिंता से चतुराई घटे, घटे रूप और ज्ञान, चिंता से चतुराई घटे दुख से घटे शरीर
URL copied to clipboard