#भारत की राजनीति

bolkar speaker

बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?

Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:52
आपका सवाल है बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपकी क्या विचार है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार कंट्रोल बोर्ड डीजल और गैस की कीमतें लगातार बढ़ रही है 3:00 से आमजन परेशान है और हमारे देश के किसानों की बहुत बड़ी शान है क्योंकि ज्यादातर किसानों की कार्य पेट्रोल डीजल के माध्यम से ही कार्य होता है जो किसानों को बहुत बड़ी उठाना पड़ रहा है इसलिए हमारे देश की सरकार को पेट्रोल और डीजल गैस की सीमाओं को कंट्रोल में करना चाहिए जिससे आमजन को कुछ नहीं मालूम धन्यवाद साथियों खुश रहो
Aapaka savaal hai badhate hue petrol deejal aur gais kee keematon par aapakee kya vichaar hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar kantrol bord deejal aur gais kee keematen lagaataar badh rahee hai 3:00 se aamajan pareshaan hai aur hamaare desh ke kisaanon kee bahut badee shaan hai kyonki jyaadaatar kisaanon kee kaary petrol deejal ke maadhyam se hee kaary hota hai jo kisaanon ko bahut badee uthaana pad raha hai isalie hamaare desh kee sarakaar ko petrol aur deejal gais kee seemaon ko kantrol mein karana chaahie jisase aamajan ko kuchh nahin maaloom dhanyavaad saathiyon khush raho

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:31
हेलो फ्रेंड्स स्वागत है आपका आपका प्रश्न बने हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है तो फ्रेंडशिप तरह से पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतें बढ़ रहे हैं तो यह निश्चित है आम आदमी पर बहुत ज्यादा बोझ बढ़ता जा रहा है लोगों को पेट्रोल खरीदने डीजल लेने और गैस में काफी दिक्कतें हो रही है इसमें रेट लगातार बढ़ते जा रहे हैं आम आदमी का बजट गड़बड़ा रहा है और इतनी तेजी से पेट्रोल-डीजल लगा तो यह ठीक बात नहीं है
Helo phrends svaagat hai aapaka aapaka prashn bane hue petrol deejal aur gais kee keematon par aapake kya vichaar hai to phrendaship tarah se petrol deejal aur gais kee keematen badh rahe hain to yah nishchit hai aam aadamee par bahut jyaada bojh badhata ja raha hai logon ko petrol khareedane deejal lene aur gais mein kaaphee dikkaten ho rahee hai isamen ret lagaataar badhate ja rahe hain aam aadamee ka bajat gadabada raha hai aur itanee tejee se petrol-deejal laga to yah theek baat nahin hai

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Rohit Rathore Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Student
1:11
बेस्ट स्वागत है हम सबको मिलकर एक प्रोफाइल पर और आप सुन रहे हैं रोहित राठौर को तो बढ़ते पेट्रोल डीजल यहां पर गैस सिलेंडर के दाम दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं कि पीछे क्या कारण है यह तो हमें नहीं पता और यहां तक कि इंडिया में सबसे ज्यादा इन ब्यूटी एंड टैक्स लिया जाता है पेट्रोल-डीजल पर इसी कारण से बढ़ते जा रहे कि पेट्रोल-डीजल पर यह 70 या 60 फ़ीसदी तक टैक्स लिया जाता है इंडिया में उनके पीछे क्या कारण हो सकता क्यों लिए जाते हैं यदि क्योंकि आपको अभी इलेक्ट्रिसिटी या इलेक्ट्रिक वाहनों पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है घर आप देखने इंडिया में इलेक्ट्रॉनिक मार्केट को मोबाइल से बहुत जल्दी बहुत ऊपर उठ रहा है क्योंकि टाटा और जो फैसला हुआ है सभी अपने इलेक्ट्रॉनिक कार सी ए आर एस मोटरसाइकिल से रेस्ट कर रहे हैं आने वाले समय में सब कुछ लिखकर नहीं होने वाला यह डीजल पेट्रोल की जनवरी वाली बात क्या सिलेंडर कि तुम बायोगैस इज ऑलरेडी आ ही रही है सिलेंडर के दाम भी बढ़ बढ़ रहे हैं दलित एक्सप्रेस वगैरह लगाते हैं तो आप लेफ्ट 40 40 पेंटागन स्पिनीफैक्स होता है उसके फोन में सब हो गया है कई जगहों का शो के बाद भी हमें धन्यवाद मिलते हैं आपसे भी सवाल में जब तक के लिए टेक केयर
Best svaagat hai ham sabako milakar ek prophail par aur aap sun rahe hain rohit raathaur ko to badhate petrol deejal yahaan par gais silendar ke daam din-ba-din badhate ja rahe hain ki peechhe kya kaaran hai yah to hamen nahin pata aur yahaan tak ki indiya mein sabase jyaada in byootee end taiks liya jaata hai petrol-deejal par isee kaaran se badhate ja rahe ki petrol-deejal par yah 70 ya 60 feesadee tak taiks liya jaata hai indiya mein unake peechhe kya kaaran ho sakata kyon lie jaate hain yadi kyonki aapako abhee ilektrisitee ya ilektrik vaahanon par jyaada jor diya ja raha hai ghar aap dekhane indiya mein ilektronik maarket ko mobail se bahut jaldee bahut oopar uth raha hai kyonki taata aur jo phaisala hua hai sabhee apane ilektronik kaar see e aar es motarasaikil se rest kar rahe hain aane vaale samay mein sab kuchh likhakar nahin hone vaala yah deejal petrol kee janavaree vaalee baat kya silendar ki tum baayogais ij olaredee aa hee rahee hai silendar ke daam bhee badh badh rahe hain dalit eksapres vagairah lagaate hain to aap lepht 40 40 pentaagan spineephaiks hota hai usake phon mein sab ho gaya hai kaee jagahon ka sho ke baad bhee hamen dhanyavaad milate hain aapase bhee savaal mein jab tak ke lie tek keyar

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Dhiraj Gurjar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dhiraj जी का जवाब
Unknown
1:25

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:17
जी आप का सवाल है कि बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है तो अभी जो बाहर से पेट्रोल आ रहे हैं तो वह कंपनियां अपना भाव लगभग ₹10 में दे रहे हैं अगर राजस्थान राज्य की बात की जाए तो वह राजस्थान की सरकार ने वेट अभी वर्तमान में बढ़ा दी हैं उसके कारण लगातार पेट्रोल और डीजल महंगे होते जा रहे हैं और उधर केंद्र सरकार ने भी अपना वेट बढ़ा दिया है दोनों कम रेट की बात कीजिए तो ₹43 पीछे से कंपनी दे रही है और ₹35 राज्य सरकार ले रहे हो 15 15 20 ₹25 केंद्र सरकार ले रही है दोनों ही यह चाहते हैं कि हम अपनी तरफ से पैसे कम नहीं करेंगे इतना टैक्स तो कंट्रोल पर लगेगा तो मेरे ख्याल से राज्य या केंद्र सरकार दोनों में से एक को या दोनों को थोड़े-थोड़े करके यानी कि टैक्स को कम करके जनता को सेंट्रल की सप्लाई करें तो बेहतर होगा
Jee aap ka savaal hai ki badhate hue petrol deejal aur gais kee keematon par aapake kya vichaar hai to abhee jo baahar se petrol aa rahe hain to vah kampaniyaan apana bhaav lagabhag ₹10 mein de rahe hain agar raajasthaan raajy kee baat kee jae to vah raajasthaan kee sarakaar ne vet abhee vartamaan mein badha dee hain usake kaaran lagaataar petrol aur deejal mahange hote ja rahe hain aur udhar kendr sarakaar ne bhee apana vet badha diya hai donon kam ret kee baat keejie to ₹43 peechhe se kampanee de rahee hai aur ₹35 raajy sarakaar le rahe ho 15 15 20 ₹25 kendr sarakaar le rahee hai donon hee yah chaahate hain ki ham apanee taraph se paise kam nahin karenge itana taiks to kantrol par lagega to mere khyaal se raajy ya kendr sarakaar donon mein se ek ko ya donon ko thode-thode karake yaanee ki taiks ko kam karake janata ko sentral kee saplaee karen to behatar hoga

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:34
हेलो एवरीवन तो आज आप का सवाल है कि बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है और ज्यादा मतलब बढ़ती जा रही है और मैंने मतलब वहां सवाल पर भी मैंने कमेंट भी किया था कि यह बेसिक सीने में फिर एक जरूरत हो गया इंसान का बिना आप पेट्रोल के बिना गाड़ी के आभारी दूर-दूर तक जानी नहीं कर सकते या फिर नहीं जा सकते तो शायद आपके पास तो दूर नहीं जा सकते हैं उनके नाम नहीं याद है कि दाम बढ़ा देने से इंसान को इंपॉर्टेंट समझ आएगा और फिर वह इंसान इतना ज्यादा यूज नहीं करेंगे मेरे साथ करवाने के लिए इंसान को कठिनाई क्यों देना मम्मी पापा हमारे साथ मतलब उन्हें पता है कि हम करें को लेकर हम पढ़ाई लिखाई को नहीं हमारा बिना बंद कर देते हैं फिर हमारे हमें इस ग्रुप में कैद कर देते यह बहुत जरूरी चीज है और गरीब हो या फिर अमीर से अमीर लोगों को यह सब चीजों से तो नहीं फर्क पड़ता है क्योंकि फ्लोर पर ₹4 ₹5 बढ़ रहे इतनी बड़ी बात होगी लेकिन गरीबों के लिए मिडल क्लास फैमिली के लिए बहुत ज्यादा फर्क पड़ता है इंसान कहां हो रहा है गरीबों को ही पता चल रहा है क्या महंगाई बढ़ रही है और उनको पता चल रहा है कि मैं कम से कम यूज करना इस्तेमाल करना और अमीरों को कुछ नहीं पता चल रहा वह तो जलसा है उनकी लाइफ चल रही है से चल रही तो यह मेरी सबसे सही निर्णय समझाने का तरीका है तो यह सही निर्णय नहीं है कुछ ऐसी चीजों पर आना चाहिए जैसे कि आपके जो मतलब अल्कोहल हो गए हैं आपके तंबाकू हो गई है सब चीजों का दाम बढ़ाना चाहिए जो सरकार के पैसे निकालना चाहिए जो जरूरत की चीजें हैं जिसमें मतलब गरीब इंसान को ज्यादा फर्क पड़ेगा कल को चावल महंगा कर दिया जाएगा समझाने के लिए की फसल कैसे उगता है कैसे समझाने के लिए कल को सब्जी महंगा और ज्यादा कर दिया जाएगा तो इससे अमीरों को कोई फर्क नहीं पड़ेगा ना समझ पाएगा या फिर अगर कटक निकालने का है या फिर अपने जीटीपी को बढ़ाने का है तो यह कोई तरीका नहीं लगता है ऐसी चीजों में बढ़ाना चाहिए जिसका इंसान कम इस्तेमाल करता हूं इतना ज्यादा जरूरत और बेसिक चीज भी नहीं है एक जरूरत की चीजें भी नहीं हमारी जिंदगी के लिए इस अल्कोहल तंबाकू जैसे मैंने कहा तो वह सब चीजों का दाम बढ़ाना चाहिए मेरे हिसाब से
Helo evareevan to aaj aap ka savaal hai ki badhate hue petrol deejal aur gais kee keematon par aapake kya vichaar hai aur jyaada matalab badhatee ja rahee hai aur mainne matalab vahaan savaal par bhee mainne kament bhee kiya tha ki yah besik seene mein phir ek jaroorat ho gaya insaan ka bina aap petrol ke bina gaadee ke aabhaaree door-door tak jaanee nahin kar sakate ya phir nahin ja sakate to shaayad aapake paas to door nahin ja sakate hain unake naam nahin yaad hai ki daam badha dene se insaan ko importent samajh aaega aur phir vah insaan itana jyaada yooj nahin karenge mere saath karavaane ke lie insaan ko kathinaee kyon dena mammee paapa hamaare saath matalab unhen pata hai ki ham karen ko lekar ham padhaee likhaee ko nahin hamaara bina band kar dete hain phir hamaare hamen is grup mein kaid kar dete yah bahut jarooree cheej hai aur gareeb ho ya phir ameer se ameer logon ko yah sab cheejon se to nahin phark padata hai kyonki phlor par ₹4 ₹5 badh rahe itanee badee baat hogee lekin gareebon ke lie midal klaas phaimilee ke lie bahut jyaada phark padata hai insaan kahaan ho raha hai gareebon ko hee pata chal raha hai kya mahangaee badh rahee hai aur unako pata chal raha hai ki main kam se kam yooj karana istemaal karana aur ameeron ko kuchh nahin pata chal raha vah to jalasa hai unakee laiph chal rahee hai se chal rahee to yah meree sabase sahee nirnay samajhaane ka tareeka hai to yah sahee nirnay nahin hai kuchh aisee cheejon par aana chaahie jaise ki aapake jo matalab alkohal ho gae hain aapake tambaakoo ho gaee hai sab cheejon ka daam badhaana chaahie jo sarakaar ke paise nikaalana chaahie jo jaroorat kee cheejen hain jisamen matalab gareeb insaan ko jyaada phark padega kal ko chaaval mahanga kar diya jaega samajhaane ke lie kee phasal kaise ugata hai kaise samajhaane ke lie kal ko sabjee mahanga aur jyaada kar diya jaega to isase ameeron ko koee phark nahin padega na samajh paega ya phir agar katak nikaalane ka hai ya phir apane jeeteepee ko badhaane ka hai to yah koee tareeka nahin lagata hai aisee cheejon mein badhaana chaahie jisaka insaan kam istemaal karata hoon itana jyaada jaroorat aur besik cheej bhee nahin hai ek jaroorat kee cheejen bhee nahin hamaaree jindagee ke lie is alkohal tambaakoo jaise mainne kaha to vah sab cheejon ka daam badhaana chaahie mere hisaab se

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:37
एक ही बढ़ती है पेट्रोल डीजल की कीमत खराब थी क्या विचार है तो मेरे विचार यह है कि इस टाइम ऐसा है जो जो साइकिल चलाना पसंद करेंगे और साइकिल खरीदारी हो जाएगा नीचे वीडियो साइकिल 3000 में मिली थी वह आगे जाकर 5000 में लिखने से ज्यादा खाने से फायदे पर्यावरण अच्छा हो जाएगा हम लोगों का साथ ही अच्छा न लगे मेरे सबसे फेमस करना गलत व्यवहार गैस की कीमतों पर आप बोलते हैं तो इलेक्ट्रिक को करीब होंगे इलेक्ट्रिक आइटम होंगे सबसे
Ek hee badhatee hai petrol deejal kee keemat kharaab thee kya vichaar hai to mere vichaar yah hai ki is taim aisa hai jo jo saikil chalaana pasand karenge aur saikil khareedaaree ho jaega neeche veediyo saikil 3000 mein milee thee vah aage jaakar 5000 mein likhane se jyaada khaane se phaayade paryaavaran achchha ho jaega ham logon ka saath hee achchha na lage mere sabase phemas karana galat vyavahaar gais kee keematon par aap bolate hain to ilektrik ko kareeb honge ilektrik aaitam honge sabase

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:53
उसमें के बढ़ते पेट्रोल डीजल की कीमतों पर आपके क्या विचार हैं तो मेरा विचार यही है कि महंगाई दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है दुनिया के बहुत सारे देशों में पेट्रोल और डीजल के भाव ₹2 किलो सूखी है तो इसलिए यह कोई अतिशयोक्ति नहीं है कि वही भाव बढ़ रही है लेकिन सरकार इस में बस इतना निर्णय ले ले कि आम जनता पर भजन कंपनी इस कुछ ऐसे डिसीजन ले दिल से जनता को छूट मिले या जो उन वाहनों का भाड़ा है कब बैठेगा तो हरियाली हर वस्तु महंगी होगी तो इसलिए ट्रांसपोर्टेशन को संपन्न करने के लिए पेट्रोल और डीजल को सस्ता करने की ओर कदम उठाने चाहिए यह सरकार को सूचना
Usamen ke badhate petrol deejal kee keematon par aapake kya vichaar hain to mera vichaar yahee hai ki mahangaee din pratidin badhatee ja rahee hai duniya ke bahut saare deshon mein petrol aur deejal ke bhaav ₹2 kilo sookhee hai to isalie yah koee atishayokti nahin hai ki vahee bhaav badh rahee hai lekin sarakaar is mein bas itana nirnay le le ki aam janata par bhajan kampanee is kuchh aise diseejan le dil se janata ko chhoot mile ya jo un vaahanon ka bhaada hai kab baithega to hariyaalee har vastu mahangee hogee to isalie traansaporteshan ko sampann karane ke lie petrol aur deejal ko sasta karane kee or kadam uthaane chaahie yah sarakaar ko soochana

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
4:56
आपका प्रश्न है कि बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है देखिए मैं बहुत सारे मुद्दों पर मोदी सरकार का पत्थर रहा हूं लेकिन जहां पर विरोध करने लायक कोई बात है तो मैं विरोध भी करता हूं और पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर मैं मोदी सरकार और राज्य सरकार दोनों की भरपूर आलोचना करना चाहिए मेरे विचार स्पष्ट है आप चाहे कोई सी भी सरकार राज्य सरकार कहती है कि उनके आय का कोई जरिया नहीं है और उनको सरकार चलाने के लिए खर्चों की जरूरत है वह पेट्रोल डीजल से प्राप्त करना चाहते हैं केंद्र सरकार भी कहती है कि उनको भी खर्चे चलाने के लिए जरूरत है और पेट्रोल डीजल और गैस भेजो टैक्स लगाते हैं उससे उनका खर्चा चलता है अरे साहब आपका सब का खर्चा चलता है लेकिन एक गरीब अपने घर का खर्चा कैसे चलेगा यह भी तो इन सरकारों को देखना पड़ेगा एक गरीब के चुप बड़ी मुश्किल से इस कोरोना का हाल के अंदर जिस जिस में कोल्डड्रिंक पहले ही व्यक्ति बहुत सारी आर्थिक समस्याओं से जूझ रहा है काम ना कर रहा है लड़ रहा ऐसे में 9095 100 रेट पेट्रोल और डीजल की कैसे आम व्यक्ति इस को सहन कर सकता है और जब पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतें बढ़ती है तो यह स्पष्ट बात है कि 12 खर्चा कहीं न कहीं इसके इर्द-गिर्द घूमता है क्योंकि जितना भी एक दूसरी जगह से ट्रांसपोर्टेशन होता है उस में पेट्रोल और डीजल तो लगता ही है मुझे भाड़े की वृद्धि होगी तो बाकी चीजों में भी सामान में प्रति होगी तब जो हमें आना आज में हर जगह इसकी प्रति होगी ऐसे में मेरा स्पष्ट मानना है कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों को अपने टैक्स में कटौती करनी चाहिए ठीक है जो अगर आपकी जो जायज आवश्यकता है हम समझते हैं कि देश चलाने के लिए सरकारें चलाने के लिए राष्ट्र चलाने के लिए और बहुत सारे जनकल्याण के कार्यों को चलाने के लिए पैसे की जरूरत होती है लेकिन हर चीज सीमा में ठीक लगती है अगर आप 35 ₹40 का जो वास्तविक कीमत है तेल की अगर आप उस पर ₹50 ₹55 से ₹60 प्रति लीटर अगर आप उस पर टेक्स्ट लगाना चाह रहे हैं तो यह भी नियम के विरुद्ध है यह गलत है एक निम्न वर्गीय व्यक्ति एक मध्यमवर्गीय व्यक्ति इन खर्चों का बोझ उठाने में सक्षम नहीं है और निश्चित रूप से राज्य सरकारें भी फार्म भर कर के टैक्स वसूल कर रही है केंद्र सरकार भी भर भर के टैक्स वसूल कर रही है भाई साहब महान व्यक्ति कहां जाएगा आपको अपना खर्चा चलाना है तो एक गरीब को एक मध्यमवर्गीय परिवार को भी तो अपने घर का खर्चा चलाना है उसकी भी तो आए और सीमित नहीं हैं उसकी इनकम भी तो सीमित है और उसे सीमित इनकम में उसे अपने घर का खर्चा भी चलाना है उसे यातायात का खर्चा भी चलाना है उसके अपनी मोटरसाइकिल के अंदर तिल भी डलवाना है उसको अपने ट्रैक्टर में भी तेल भी तेजल डलवाना है उसको किसी को कार है उसमें भी डिटेल डलवाना है पेट्रोल डलवाना है वह अपने घर का खर्चा कैसे चलाएं पर यह मानने में कोई तकलीफ नहीं है तो सरकार कहती है कि 85% तेल हम विदेशों से आयात करते हैं और आज तक की सरकारों ने इस पर ध्यान नहीं दिया कि हम कैसे आयात कम करें और अपने देश में ही या तेल के उत्पादन को बढ़ावा देकर के खर्चे को कम करें लेकिन अब इस पर विचार करने की जरूरत है और पेट्रोल और डीजल किसी भी किसी भी स्थिति में ₹80 प्रति से ज्यादा का भाव नहीं होना चाहिए वरना यह आम व्यक्ति के जो आर्थिक उसका बजट है उसको पूरा घर बढ़ा दिया है और सरकारों को इस पर सोचने की जरूरत है और तुरंत इसकी रेट कम धन्यवाद
Aapaka prashn hai ki badhate hue petrol deejal aur gais kee keematon par aapake kya vichaar hai dekhie main bahut saare muddon par modee sarakaar ka patthar raha hoon lekin jahaan par virodh karane laayak koee baat hai to main virodh bhee karata hoon aur petrol deejal aur gais kee keematon par main modee sarakaar aur raajy sarakaar donon kee bharapoor aalochana karana chaahie mere vichaar spasht hai aap chaahe koee see bhee sarakaar raajy sarakaar kahatee hai ki unake aay ka koee jariya nahin hai aur unako sarakaar chalaane ke lie kharchon kee jaroorat hai vah petrol deejal se praapt karana chaahate hain kendr sarakaar bhee kahatee hai ki unako bhee kharche chalaane ke lie jaroorat hai aur petrol deejal aur gais bhejo taiks lagaate hain usase unaka kharcha chalata hai are saahab aapaka sab ka kharcha chalata hai lekin ek gareeb apane ghar ka kharcha kaise chalega yah bhee to in sarakaaron ko dekhana padega ek gareeb ke chup badee mushkil se is korona ka haal ke andar jis jis mein koldadrink pahale hee vyakti bahut saaree aarthik samasyaon se joojh raha hai kaam na kar raha hai lad raha aise mein 9095 100 ret petrol aur deejal kee kaise aam vyakti is ko sahan kar sakata hai aur jab petrol deejal aur gais kee keematen badhatee hai to yah spasht baat hai ki 12 kharcha kaheen na kaheen isake ird-gird ghoomata hai kyonki jitana bhee ek doosaree jagah se traansaporteshan hota hai us mein petrol aur deejal to lagata hee hai mujhe bhaade kee vrddhi hogee to baakee cheejon mein bhee saamaan mein prati hogee tab jo hamen aana aaj mein har jagah isakee prati hogee aise mein mera spasht maanana hai ki raajy sarakaar aur kendr sarakaar donon ko apane taiks mein katautee karanee chaahie theek hai jo agar aapakee jo jaayaj aavashyakata hai ham samajhate hain ki desh chalaane ke lie sarakaaren chalaane ke lie raashtr chalaane ke lie aur bahut saare janakalyaan ke kaaryon ko chalaane ke lie paise kee jaroorat hotee hai lekin har cheej seema mein theek lagatee hai agar aap 35 ₹40 ka jo vaastavik keemat hai tel kee agar aap us par ₹50 ₹55 se ₹60 prati leetar agar aap us par tekst lagaana chaah rahe hain to yah bhee niyam ke viruddh hai yah galat hai ek nimn vargeey vyakti ek madhyamavargeey vyakti in kharchon ka bojh uthaane mein saksham nahin hai aur nishchit roop se raajy sarakaaren bhee phaarm bhar kar ke taiks vasool kar rahee hai kendr sarakaar bhee bhar bhar ke taiks vasool kar rahee hai bhaee saahab mahaan vyakti kahaan jaega aapako apana kharcha chalaana hai to ek gareeb ko ek madhyamavargeey parivaar ko bhee to apane ghar ka kharcha chalaana hai usakee bhee to aae aur seemit nahin hain usakee inakam bhee to seemit hai aur use seemit inakam mein use apane ghar ka kharcha bhee chalaana hai use yaataayaat ka kharcha bhee chalaana hai usake apanee motarasaikil ke andar til bhee dalavaana hai usako apane traiktar mein bhee tel bhee tejal dalavaana hai usako kisee ko kaar hai usamen bhee ditel dalavaana hai petrol dalavaana hai vah apane ghar ka kharcha kaise chalaen par yah maanane mein koee takaleeph nahin hai to sarakaar kahatee hai ki 85% tel ham videshon se aayaat karate hain aur aaj tak kee sarakaaron ne is par dhyaan nahin diya ki ham kaise aayaat kam karen aur apane desh mein hee ya tel ke utpaadan ko badhaava dekar ke kharche ko kam karen lekin ab is par vichaar karane kee jaroorat hai aur petrol aur deejal kisee bhee kisee bhee sthiti mein ₹80 prati se jyaada ka bhaav nahin hona chaahie varana yah aam vyakti ke jo aarthik usaka bajat hai usako poora ghar badha diya hai aur sarakaaron ko is par sochane kee jaroorat hai aur turant isakee ret kam dhanyavaad

bolkar speaker
बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल और गैस की कीमतों पर आपके क्या विचार है?Badhate Huye Petrol Diesel Aur Gas Ki Keemto Par Apke Kya Vichar Hai
Abhishek Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Abhishek जी का जवाब
आपके सवालो का जवाब देना ही मेरा काम है..👩‍💻😊🙂😊🙂😊🙂
0:05
हमें विचार बाहर जाकर दान घंटे के चाहिए और कुछ सुना
Hamen vichaar baahar jaakar daan ghante ke chaahie aur kuchh suna

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • पेट्रोल डीजल के दाम क्यों बढ़ रहे है, पेट्रोल डीजल के दाम कब घटेंगे
URL copied to clipboard