#undefined

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:53
प्रश्न है कि क्या सच में मनुष्य महीने में एक बार होता है तो उसकी मानसिक स्थिति अच्छी रहती है देखिए यह निर्भर करता है व्यक्ति के दिमाग में क्या चल रहे हैं अगर पति परेशान है समस्याओं से ग्रस्त हैं और उसको लगता है कि उसे दिक्कतें हैं उसे दुख है तो उसे रो लेना चाहिए क्योंकि इससे मन वास्तव में हल्का होता है उसे खुशी मिलती है उसका जो दिल्ली से नहीं हो कम होता है लेकिन इसमें प्रॉब्लम ही नहीं है जिसको दिक्कत नहीं है जो खुश है वही तो उसको रोने की जरूरत नहीं है इसलिए अगर आपको लगता मुझे परेशानी है मुझे तू कब आ सकता है कि रोना तो आराम से रोए कोई दिक्कत नहीं है तो जरूर आपकी आंखों से आंसू निकलेंगे मंत्री का मस्तिष्क नई उड़ जाए
Prashn hai ki kya sach mein manushy maheene mein ek baar hota hai to usakee maanasik sthiti achchhee rahatee hai dekhie yah nirbhar karata hai vyakti ke dimaag mein kya chal rahe hain agar pati pareshaan hai samasyaon se grast hain aur usako lagata hai ki use dikkaten hain use dukh hai to use ro lena chaahie kyonki isase man vaastav mein halka hota hai use khushee milatee hai usaka jo dillee se nahin ho kam hota hai lekin isamen problam hee nahin hai jisako dikkat nahin hai jo khush hai vahee to usako rone kee jaroorat nahin hai isalie agar aapako lagata mujhe pareshaanee hai mujhe too kab aa sakata hai ki rona to aaraam se roe koee dikkat nahin hai to jaroor aapakee aankhon se aansoo nikalenge mantree ka mastishk naee ud jae

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या सच में मनुष्य महीने में एक बार रोता है तो उसकी मानसिक स्थिति अच्छी रहती है, वैज्ञानिकों ने रोने को भी मानसिक स्वास्थ्य से जोड़ दिया है
URL copied to clipboard