#undefined

bolkar speaker

धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?

Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:18
सवाल ये है कि धरती से गर्म पानी निकलने का क्या रहस्य है हिंदू धर्म ग्रंथों में पता लोक से संबंधित आतंकी घटनाओं का वर्णन मिलता है यह भी कहा गया है कि एक बार माता पार्वती के कान की बाली यहां गिर गई थी और पानी में खो गई थी वह खोज खबर की गई लेकिन मणि नहीं मिली बाद में पता चला कि वह मणि पाताल लोक में शेषनाग के पास पहुंच गई जब शेषनाग को इसकी जानकारी हुई तो उसने पाताल लोक से ही जोरदार उपकार मारी और धरती के अंदर से गर्म जल फूट पड़ा गर्म जल के साथ ही मणि भी निकली थी यहीं रहते हैं धरती से गर्म पानी निकलने का और अगर वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाए तो ज्वालामुखी सक्रियता वाले क्षेत्रों में पाए जाते हैं गर्म ज्वालामुखी पत्थर पानी को गर्म कर देते हैं जो बनकर गर्भ में फव्वारे के रूप में बाहर फूट पड़ता है और यदि गहरा पानी और अधिक गर्म किया जाए तो वह बनकर जाता है आता था उसमें अपने ऊपर से ठंडे पानी को ऊपर की ओर धकेल देता है जिस पर शोषण का निर्माण होता है अमेरिका में स्थित पुराने विश्वास नहीं है उसने गत 80 वर्षों से प्रत्येक 76 मिनट बाद गर्म पानी की धार छोड़ते हैं
Savaal ye hai ki dharatee se garm paanee nikalane ka kya rahasy hai hindoo dharm granthon mein pata lok se sambandhit aatankee ghatanaon ka varnan milata hai yah bhee kaha gaya hai ki ek baar maata paarvatee ke kaan kee baalee yahaan gir gaee thee aur paanee mein kho gaee thee vah khoj khabar kee gaee lekin mani nahin milee baad mein pata chala ki vah mani paataal lok mein sheshanaag ke paas pahunch gaee jab sheshanaag ko isakee jaanakaaree huee to usane paataal lok se hee joradaar upakaar maaree aur dharatee ke andar se garm jal phoot pada garm jal ke saath hee mani bhee nikalee thee yaheen rahate hain dharatee se garm paanee nikalane ka aur agar vaigyaanik drshti se dekha jae to jvaalaamukhee sakriyata vaale kshetron mein pae jaate hain garm jvaalaamukhee patthar paanee ko garm kar dete hain jo banakar garbh mein phavvaare ke roop mein baahar phoot padata hai aur yadi gahara paanee aur adhik garm kiya jae to vah banakar jaata hai aata tha usamen apane oopar se thande paanee ko oopar kee or dhakel deta hai jis par shoshan ka nirmaan hota hai amerika mein sthit puraane vishvaas nahin hai usane gat 80 varshon se pratyek 76 minat baad garm paanee kee dhaar chhodate hain

और जवाब सुनें

bolkar speaker
धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:15
हंसने की धरती से गर्म पानी निकलने के रहस्य क्या है तू दिखे फ्रेंड इसमें क्या होता है ना कि कई जगह क्या होती है कि भौगोलिक गतिविधियों के कारण गर्म पानी के कुंड और झरने पाए जाते हैं जिन्हें हॉट स्प्रिंग कहा जाता है यहां जो पानी होता है वह हमेशा गर्म होता है लेकिन आप सभी जानते होंगे कि जो हमारी धरती है वह गर्म है पहले जो धरती थी आग की गोला की तरह रहती थी और इससे बहुत ज्यादा हाई टेंपरेचर थे लेकिन कई सालों वर्षों क्या हुआ की बारिश होती रही जिसकी वजह से क्या हमारी जो ऊपर ही सताए वह तो हमारे रहने लायक इन्वायरमेंट बनी इसके बाद क्या हुआ कि धीरे-धीरे और ठंडी होती रही और इसके साथ-साथ क्या हुआ कि जो नीचे की अभी भी जाती है वह घर में है तो बहुत सारे ऐसे गतिविधियां हो गोली गतिविधियां होती रहती है उसकी वजह से कुछ ऐसे स्थान है वहां पर गर्म पानी निकलता है जो हम नॉर्मल पानी पीने लायक पानी नॉर्मल ही 15 डिग्री टेंपरेचर पर हमेशा रहता है अगर ठंडी के दिन में देखें चाहे गर्मी की चाय बरसात के दिन में 15 डिग्री टेंपरेचर पर पानी जो रहता है गर्म रहता है यही कारण है कि हम ठंडी में अक्सर देखते हैं कि गर्म पानी जो हमारे नल नल पंप होते हैं उसे क्या होता है मेरे नाल से गर्म पानी निकलता है तो लोग कहते हैं कि गर्मी ठंडी के दिन में गर्म पानी चलता है वही गर्मी के दिन में करते हैं कि ठंडा पानी निकलता ठंडा पानी इसलिए निकलता है कि जब हमारा 15 डिग्री टेंपरेचर हमारा नॉर्मल रहता है उस पानी का लेकिन हमारा जो इन्वायरमेंट रहता है वह करीब 30 32 डिग्री या कभी-कभी 40 प्लस भी रहता है तो क्या होता है कि उसके एवज में 15 डिग्री टेंपरेचर क्या होता है हमें ठंड महसूस होता है अभी गर्मी के ठंडी के दिन में देखते हैं तो 15 डिग्री टेंपरेचर हमारे पांच छह सात डिग्री और 10 डिग्री टेंपरेचर हो जाता है उस समय क्या होता है कि हमें वह पानी गर्म लगता है तो यही कारण एक नॉर्मल 15 डिग्री पर नहीं पानी मिलता है और कुछ जगहों पर है जो हॉटस्प्रिंग के नाम से जाने जाते हैं वहां पर सर धरती के भौगोलिक गतिविधियों के कारण क्या होता है वहां पर गर्म पानी निकलता है
Hansane kee dharatee se garm paanee nikalane ke rahasy kya hai too dikhe phrend isamen kya hota hai na ki kaee jagah kya hotee hai ki bhaugolik gatividhiyon ke kaaran garm paanee ke kund aur jharane pae jaate hain jinhen hot spring kaha jaata hai yahaan jo paanee hota hai vah hamesha garm hota hai lekin aap sabhee jaanate honge ki jo hamaaree dharatee hai vah garm hai pahale jo dharatee thee aag kee gola kee tarah rahatee thee aur isase bahut jyaada haee temparechar the lekin kaee saalon varshon kya hua kee baarish hotee rahee jisakee vajah se kya hamaaree jo oopar hee satae vah to hamaare rahane laayak invaayarament banee isake baad kya hua ki dheere-dheere aur thandee hotee rahee aur isake saath-saath kya hua ki jo neeche kee abhee bhee jaatee hai vah ghar mein hai to bahut saare aise gatividhiyaan ho golee gatividhiyaan hotee rahatee hai usakee vajah se kuchh aise sthaan hai vahaan par garm paanee nikalata hai jo ham normal paanee peene laayak paanee normal hee 15 digree temparechar par hamesha rahata hai agar thandee ke din mein dekhen chaahe garmee kee chaay barasaat ke din mein 15 digree temparechar par paanee jo rahata hai garm rahata hai yahee kaaran hai ki ham thandee mein aksar dekhate hain ki garm paanee jo hamaare nal nal pamp hote hain use kya hota hai mere naal se garm paanee nikalata hai to log kahate hain ki garmee thandee ke din mein garm paanee chalata hai vahee garmee ke din mein karate hain ki thanda paanee nikalata thanda paanee isalie nikalata hai ki jab hamaara 15 digree temparechar hamaara normal rahata hai us paanee ka lekin hamaara jo invaayarament rahata hai vah kareeb 30 32 digree ya kabhee-kabhee 40 plas bhee rahata hai to kya hota hai ki usake evaj mein 15 digree temparechar kya hota hai hamen thand mahasoos hota hai abhee garmee ke thandee ke din mein dekhate hain to 15 digree temparechar hamaare paanch chhah saat digree aur 10 digree temparechar ho jaata hai us samay kya hota hai ki hamen vah paanee garm lagata hai to yahee kaaran ek normal 15 digree par nahin paanee milata hai aur kuchh jagahon par hai jo hotaspring ke naam se jaane jaate hain vahaan par sar dharatee ke bhaugolik gatividhiyon ke kaaran kya hota hai vahaan par garm paanee nikalata hai

bolkar speaker
धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:26
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न धरती से गर्म पानी निकलने का क्या रहस्य है तो फ्रेंड से धरती से जब पानी आता है वह बहुत गहराई से आता है और अंदर का तापमान बहुत गर्म होता है इसलिए धरती से जब हम मोटर चलाते हैं तो पानी गर्म निकलता है क्योंकि वह मोटर बहुत गहरे में पड़ी होती है और गहराई का तापमान बहुत ही गर्म होता है बंद होने के कारण तो गर्मी के कारण वहां से गर्म पानी निकलता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn dharatee se garm paanee nikalane ka kya rahasy hai to phrend se dharatee se jab paanee aata hai vah bahut gaharaee se aata hai aur andar ka taapamaan bahut garm hota hai isalie dharatee se jab ham motar chalaate hain to paanee garm nikalata hai kyonki vah motar bahut gahare mein padee hotee hai aur gaharaee ka taapamaan bahut hee garm hota hai band hone ke kaaran to garmee ke kaaran vahaan se garm paanee nikalata hai dhanyavaad

bolkar speaker
धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
1:36
आपका प्रश्न धरती से गर्म पानी निकलने की क्या रेट है धरती से गर्म पानी भी निकलता है और गर्मी के दिनों में ठंडा पानी भी निकलता है अगर अच्छे तो पौराणिक कथाएं हैं उन्हें खोजें अकादमी उत्तर भी दिया है अनीता है क्या कि जो हमारा पर्यावरण है उसका जो तापमान होता है धरती के अंदर का तापमान सर्दी के दिनों में उससे ज्यादा होता है इसलिए जब सर्दी के दिनों में हम किसी को ऐसे या नल से पानी निकालते हैं जो धरती के अंदर होता है इनकी नदियों के नीचे का जो पानी होता है वह तालाब के नीचे का पानी होता है वह गर्म मिलता है और इसके विपरीत जब गर्मी के दिनों में हम चलते हैं गर्मी में पर्यावरण का तापमान बहुत ज्यादा होता है तब धरती के अंदर का तापमान उससे कुछ कम होता है इसीलिए गर्मी के दिनों में धरती के अंदर से जो पानी निकाला जाता हूं ठंडा होता है शीतल होता है तो यह कि यह प्राकृतिक कारण है समझा अपना धरती के अंदर की जो उस्मा है जो उसका तापमान है वो पर्यावरण का जो ऊपरी भाग है उसकी अपेक्षा न जल्दी ज्यादा गर्म होता ना जल्दी ज्यादा ठंडा होता है इसीलिए जब ऊपर के वातावरण में ठंडक ज्यादा होती तो धरती का पानी में गर्म मिलता है और जब ऊपर के वातावरण में गर्मी ज्यादा होती तो नीचे का पानी में ठंडा मिलता थैंक यू
Aapaka prashn dharatee se garm paanee nikalane kee kya ret hai dharatee se garm paanee bhee nikalata hai aur garmee ke dinon mein thanda paanee bhee nikalata hai agar achchhe to pauraanik kathaen hain unhen khojen akaadamee uttar bhee diya hai aneeta hai kya ki jo hamaara paryaavaran hai usaka jo taapamaan hota hai dharatee ke andar ka taapamaan sardee ke dinon mein usase jyaada hota hai isalie jab sardee ke dinon mein ham kisee ko aise ya nal se paanee nikaalate hain jo dharatee ke andar hota hai inakee nadiyon ke neeche ka jo paanee hota hai vah taalaab ke neeche ka paanee hota hai vah garm milata hai aur isake vipareet jab garmee ke dinon mein ham chalate hain garmee mein paryaavaran ka taapamaan bahut jyaada hota hai tab dharatee ke andar ka taapamaan usase kuchh kam hota hai iseelie garmee ke dinon mein dharatee ke andar se jo paanee nikaala jaata hoon thanda hota hai sheetal hota hai to yah ki yah praakrtik kaaran hai samajha apana dharatee ke andar kee jo usma hai jo usaka taapamaan hai vo paryaavaran ka jo ooparee bhaag hai usakee apeksha na jaldee jyaada garm hota na jaldee jyaada thanda hota hai iseelie jab oopar ke vaataavaran mein thandak jyaada hotee to dharatee ka paanee mein garm milata hai aur jab oopar ke vaataavaran mein garmee jyaada hotee to neeche ka paanee mein thanda milata thaink yoo

bolkar speaker
धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
Nidhi Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Nidhi जी का जवाब
Unknown
3:45
कार जैसे कि आपने क्वेश्चन पूछा है कि धरती से गर्म पानी निकलने का क्या रहस्य है देखिए पहले क्या होता था कि लोग जो है क्या करते थे कि भगवान के नाम पर या फिर कोई भी चीज को लेकर लोग क्या करते थे कि भाड़ में फैला देते थे और कहते थे कि यह भगवान कर रहा है उसके बाद जैसे कि चंद्रमा निकला तो फिर आधा हुआ फिर ऐसा कर कर के तो हाथ हो गया तो उसको लोग बनाते हैं भगवान कर रहा है बिजली चमक रहा है तो भगवान ने राज है या फिर कोई बुरी आत्मा जो है वह नजर मतलब धरती पर दे रहा है यह वह सब करते थे लेकिन जब लगाना शुरू कर दी जनजाति पिछड़ी जल जाए तो जरूर कोई साइड इफेक्ट रीजन मिलेगा तो सेंड ट्रेन पता करने के लिए तो ऐसे करके धीरे धीरे धीरे धीरे पहले लोग बेवकूफ बनाते थे नाम पर भी बहुत ज्यादा बेवकूफ बनाया जाता है इंसान को आज भी हमको हम लोग क्वेश्चन में करते हैं और हम लोगों को क्षण हर बात पर करना चाहिए ऐसा क्यों है ऐसा क्यों रीज़न इतना धर्म बनाया गया इतना मतलब रीति-रिवाज बनाया गया है तो इसमें क्यों हर इंसान को यह प्रश्न करना चाहिए तो इसके पीछे का लॉजिक दिन हो जाएगा तुझे से और जैसे कि इनलाइटनमेंट जैसे कि रेल क्या हुआ कि जैसे कि इंग्लैंड में ऐसे ही कर करके धीरे-धीरे लगाने लगे तो फिर क्या हुआ कि मां पर मतलब पूरे जागरण आ गया है या फिर वहां के लोग जागरुक होने लगे बहुत कुछ हुआ तुझे अपनी क्वेश्चन पूछा है आप की पोस्टिंग पर आते हैं कि धरती से गर्म पानी निकलने का रहस्य क्या है तो देखो मैं आपको बता दूं सॉलि़ड टो लिक्विड और प्लेट सर जैसे कि आपको पता है कि जो हमारे जो प्लेट है हमारे वह क्या हुआ है कि लिक्विड फॉर्म में है और लिक्विड फॉर्म में वह आम मेघमा मन की वो हमारी जमीन के अंदर धरती के अंदर बता रहा था और उसके बाद एकॉड्स लिया है बहुत सारे लिया था उसमें पानी भी तो क्या होता है कि जो पानी में घुमा के टच में आता है मतलब मैडम आपको पता कि बहुत ज्यादा गर्म होता है बहुत ज्यादा टेंपरेचर होता है उसका तो क्या होता है कि जब पानी है उसके मतलब कनेक्ट में आता है तो क्या होता है जो पानी होता है तो उसके गेट से वह गर्म होने लगता है और वह धीरे-धीरे पानी ऊपर आने लगता है और वह कई निकलने लगता है यह नदी के फोन में निकलने लगता है तो क्या होता है कि जो मुंह पानी निकलता है उसके थ्रो निकालता है गीजर के फॉर्म में निकलता है स्प्रिंग के फॉर्म में निकलता है तो वह घर में निकलता है यह कोई नदी निकल गई है उस स्थान से लेकर जहां से बेटमा से कनेक्टेड है अरुण पानी गर्म हो क्या रहा है तो जाहिर सी बात है कि वह पानी गर्म ही निकलेगा ठंडा नहीं निकलेगा क्योंकि जैसे क्या ग्यारस पर पानी गर्म करते हो तो नीचे से पानी गर्म होता है तुम वैसे ही जैसे हमारे धरती के नीचे तो क्या मेघमा है तुझे मेघमा है तो वह क्या होता है कि वह हमारे मतलब 8 में वह रोटेट करता रहता है घूमता रहता तो क्या होता है क्या जयपुर से पानी से थोड़ा कनेक्ट होता है तो क्या होता है कि वह गर्म होने लगता है और वह गर्म होने लगता है पानी तो फिर वह कैसे भी मतलब निकल गया किसी के थ्रू या फिर क्या होता है कि वह पानी निकलता है मोबाइल जो पानी होता है वह गर्म होता है तो आशा करती हूं आपका मैं उत्तर दे पाई होंगी थैंक यू
Kaar jaise ki aapane kveshchan poochha hai ki dharatee se garm paanee nikalane ka kya rahasy hai dekhie pahale kya hota tha ki log jo hai kya karate the ki bhagavaan ke naam par ya phir koee bhee cheej ko lekar log kya karate the ki bhaad mein phaila dete the aur kahate the ki yah bhagavaan kar raha hai usake baad jaise ki chandrama nikala to phir aadha hua phir aisa kar kar ke to haath ho gaya to usako log banaate hain bhagavaan kar raha hai bijalee chamak raha hai to bhagavaan ne raaj hai ya phir koee buree aatma jo hai vah najar matalab dharatee par de raha hai yah vah sab karate the lekin jab lagaana shuroo kar dee janajaati pichhadee jal jae to jaroor koee said iphekt reejan milega to send tren pata karane ke lie to aise karake dheere dheere dheere dheere pahale log bevakooph banaate the naam par bhee bahut jyaada bevakooph banaaya jaata hai insaan ko aaj bhee hamako ham log kveshchan mein karate hain aur ham logon ko kshan har baat par karana chaahie aisa kyon hai aisa kyon reezan itana dharm banaaya gaya itana matalab reeti-rivaaj banaaya gaya hai to isamen kyon har insaan ko yah prashn karana chaahie to isake peechhe ka lojik din ho jaega tujhe se aur jaise ki inalaitanament jaise ki rel kya hua ki jaise ki inglaind mein aise hee kar karake dheere-dheere lagaane lage to phir kya hua ki maan par matalab poore jaagaran aa gaya hai ya phir vahaan ke log jaagaruk hone lage bahut kuchh hua tujhe apanee kveshchan poochha hai aap kee posting par aate hain ki dharatee se garm paanee nikalane ka rahasy kya hai to dekho main aapako bata doon solida to likvid aur plet sar jaise ki aapako pata hai ki jo hamaare jo plet hai hamaare vah kya hua hai ki likvid phorm mein hai aur likvid phorm mein vah aam meghama man kee vo hamaaree jameen ke andar dharatee ke andar bata raha tha aur usake baad ekods liya hai bahut saare liya tha usamen paanee bhee to kya hota hai ki jo paanee mein ghuma ke tach mein aata hai matalab maidam aapako pata ki bahut jyaada garm hota hai bahut jyaada temparechar hota hai usaka to kya hota hai ki jab paanee hai usake matalab kanekt mein aata hai to kya hota hai jo paanee hota hai to usake get se vah garm hone lagata hai aur vah dheere-dheere paanee oopar aane lagata hai aur vah kaee nikalane lagata hai yah nadee ke phon mein nikalane lagata hai to kya hota hai ki jo munh paanee nikalata hai usake thro nikaalata hai geejar ke phorm mein nikalata hai spring ke phorm mein nikalata hai to vah ghar mein nikalata hai yah koee nadee nikal gaee hai us sthaan se lekar jahaan se betama se kanekted hai arun paanee garm ho kya raha hai to jaahir see baat hai ki vah paanee garm hee nikalega thanda nahin nikalega kyonki jaise kya gyaaras par paanee garm karate ho to neeche se paanee garm hota hai tum vaise hee jaise hamaare dharatee ke neeche to kya meghama hai tujhe meghama hai to vah kya hota hai ki vah hamaare matalab 8 mein vah rotet karata rahata hai ghoomata rahata to kya hota hai kya jayapur se paanee se thoda kanekt hota hai to kya hota hai ki vah garm hone lagata hai aur vah garm hone lagata hai paanee to phir vah kaise bhee matalab nikal gaya kisee ke throo ya phir kya hota hai ki vah paanee nikalata hai mobail jo paanee hota hai vah garm hota hai to aasha karatee hoon aapaka main uttar de paee hongee thaink yoo

bolkar speaker
धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:52
ऐश्वर्या की धरती से गर्म पानी निकलने के कारण यह तो उसने या गीजर गर्म पानी अथवा भारत का तेजी से निकलना फरमा रहे हैं ज्वालामुखी सक्रिय तक बनने वाली चित्र में पाए जाते हैं गरम ज्वालामुखी पत्थर पानी को गर्म कर देते हैं जो कि उबल कर ब्रह्मकुमारी के रूप में बाहर फूट जाता है यदि गहरा पानी और अधिक गर्म किया जाए तो बाप बन जाता है तथा इसे ऊपर के ठंडे पानी को ऊपर की ओर दर चलता है जिसमें पोषण तत्व का निर्माण अमेरिका में स्थित पुराने विश्व में गत 80 वर्ष में प्रत्येक क्षेत्र में ठंडा गरम पानी की धार छोड़ते हैं
Aishvarya kee dharatee se garm paanee nikalane ke kaaran yah to usane ya geejar garm paanee athava bhaarat ka tejee se nikalana pharama rahe hain jvaalaamukhee sakriy tak banane vaalee chitr mein pae jaate hain garam jvaalaamukhee patthar paanee ko garm kar dete hain jo ki ubal kar brahmakumaaree ke roop mein baahar phoot jaata hai yadi gahara paanee aur adhik garm kiya jae to baap ban jaata hai tatha ise oopar ke thande paanee ko oopar kee or dar chalata hai jisamen poshan tatv ka nirmaan amerika mein sthit puraane vishv mein gat 80 varsh mein pratyek kshetr mein thanda garam paanee kee dhaar chhodate hain

bolkar speaker
धरती से गर्म पानी निकलने के क्या रहस्य है?Dharti Se Garm Paani Nikalne Ke Kya Rahasya Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:31
धरती से गर्म पानी निकलने का रहस्य है किसी के अंदर जो सत्ता में है या पक्षी है जो घोंसला हिस्सा है वह बहुत गर्म है क्योंकि बाकी है वह गर्म है अब इसके कई कारण है जैसे अंदर पृथ्वी के अंदर ज्वालामुखी पीछे बहुत तरह के रसायन है बहुत तरह के लोग काम आ सके तो जिसकी वजह से नीचे जो है घर में गर्मी की वजह से पानी गर्म हो जाता है
Dharatee se garm paanee nikalane ka rahasy hai kisee ke andar jo satta mein hai ya pakshee hai jo ghonsala hissa hai vah bahut garm hai kyonki baakee hai vah garm hai ab isake kaee kaaran hai jaise andar prthvee ke andar jvaalaamukhee peechhe bahut tarah ke rasaayan hai bahut tarah ke log kaam aa sake to jisakee vajah se neeche jo hai ghar mein garmee kee vajah se paanee garm ho jaata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारत के गर्म जल स्रोत, गर्म जल का प्रपात कौन है, इनमें से गर्म जल का जलप्रपात कौन है
  • धरती से गर्म पानी क्यों निकलता है, धरती से गर्म पानी निकलने के कारण, धरती से गर्म पानी क्यों निकलता है बताइए
URL copied to clipboard