#जीवन शैली

bolkar speaker

अश्वत्थामा को अमर होने के वरदान किसने दिया था ?

Ashwathama Ko Amar Hone Ka Vardan Kisne Diya Tha
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:23
अश्वत्थामा को अमरता का वरदान किसने दिया था तो देखे अश्वत्थामा को अमरता का वरदान दिया था भगवान शिव ने और कहा जाता है कि सब भगवान के चलते इन्हीं के वरदान से ही ज्योति अमरते और परंतु अंतिम समय में श्रीकृष्ण ने इनके मस्जिद के अंदर 21 बनी थी वह निकाल लेते
Ashvatthaama ko amarata ka varadaan kisane diya tha to dekhe ashvatthaama ko amarata ka varadaan diya tha bhagavaan shiv ne aur kaha jaata hai ki sab bhagavaan ke chalate inheen ke varadaan se hee jyoti amarate aur parantu antim samay mein shreekrshn ne inake masjid ke andar 21 banee thee vah nikaal lete

और जवाब सुनें

bolkar speaker
अश्वत्थामा को अमर होने के वरदान किसने दिया था ?Ashwathama Ko Amar Hone Ka Vardan Kisne Diya Tha
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:28
कामा को अमरता का वरदान किसने दी पहले के जमाने में क्या होते थे कि जितने भी संत ऋषि मुनि महात्मा राजा जितने भी लोगों के दो तपस्या करते थे उनकी आयु भी ज्यादा होती थी वीर होते थे बली होते थे वो किसी न किसी स्तर की सिद्धियां प्राप्त करते थे उनसे उनसे दिनों में उनका इतना महत्व बढ़ जाता था कि ईश्वर उनको जो है उनके उन सिद्धियों के बदले में कुछ ना कुछ तपस्या देते थे तो उसने उन को अमरत्व का वरदान दिया कि उनको अमरत्व का वरदान दिया था और वह सा मृत्यु के बाद दान के कारण ही और यह था कि द्रोणाचार्य के पुत्र थे जून आचार्य की मृत्यु थे कि जब तक आप अपनी मृत्यु बेटे की मृत्यु का समाचार नहीं सुनेंगे आप तब तक आप की मृत्यु नहीं होगी क्योंकि उनको मालूम था कि मेरा बेटा जो है वह तपस्वी है और उसको अमरत्व का वरदान प्राप्त इसीलिए जब वहां कहा कि गुरु द्रोणाचार्य बेईमानी पर उतारा जाएगा और पांडवों के साथ तो यह कहा गया कि भाई अगर ऐसा कर दिया जाए कि उनको मृत्यु का खबर सुना दिया जाए तो भाई देखे सब लोगों ने कहा कि अश्वत्थामा मर गया अश्वत्थामा मर गया अश्वत्थामा मर गया लेकिन उन्होंने कहा कुछ नहीं डिस्ट्रिक्ट सबसे बड़े ज्ञानी हैं और यह सत्यवादी अगले दिन के मौसम में सुन लूंगा तो मैं मान जाऊंगा तूने द्वारा सुदामा मरो मरो या कुंडे अश्वत्थामा नाम का एक हाथी था युद्ध में मारा गया था इसलिए कहा गया कि अश्वत्थामा मरो मरो या कुछ और था मुझे नहीं मालूम कि मनुष्य की बस इतनी सुंदर जो मर गए पुराने छोड़ दिया
Kaama ko amarata ka varadaan kisane dee pahale ke jamaane mein kya hote the ki jitane bhee sant rshi muni mahaatma raaja jitane bhee logon ke do tapasya karate the unakee aayu bhee jyaada hotee thee veer hote the balee hote the vo kisee na kisee star kee siddhiyaan praapt karate the unase unase dinon mein unaka itana mahatv badh jaata tha ki eeshvar unako jo hai unake un siddhiyon ke badale mein kuchh na kuchh tapasya dete the to usane un ko amaratv ka varadaan diya ki unako amaratv ka varadaan diya tha aur vah sa mrtyu ke baad daan ke kaaran hee aur yah tha ki dronaachaary ke putr the joon aachaary kee mrtyu the ki jab tak aap apanee mrtyu bete kee mrtyu ka samaachaar nahin sunenge aap tab tak aap kee mrtyu nahin hogee kyonki unako maaloom tha ki mera beta jo hai vah tapasvee hai aur usako amaratv ka varadaan praapt iseelie jab vahaan kaha ki guru dronaachaary beeemaanee par utaara jaega aur paandavon ke saath to yah kaha gaya ki bhaee agar aisa kar diya jae ki unako mrtyu ka khabar suna diya jae to bhaee dekhe sab logon ne kaha ki ashvatthaama mar gaya ashvatthaama mar gaya ashvatthaama mar gaya lekin unhonne kaha kuchh nahin distrikt sabase bade gyaanee hain aur yah satyavaadee agale din ke mausam mein sun loonga to main maan jaoonga toone dvaara sudaama maro maro ya kunde ashvatthaama naam ka ek haathee tha yuddh mein maara gaya tha isalie kaha gaya ki ashvatthaama maro maro ya kuchh aur tha mujhe nahin maaloom ki manushy kee bas itanee sundar jo mar gae puraane chhod diya

bolkar speaker
अश्वत्थामा को अमर होने के वरदान किसने दिया था ?Ashwathama Ko Amar Hone Ka Vardan Kisne Diya Tha
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:40
सवाल यह है कि अश्वत्थामा को अमरता का वरदान किसने दिया था अब वह एक-एक मान्यता के अनुसार अश्वत्थामा ने एक बार अपनी माता से दुग्ध पान कराने की जिद की लेकिन उन्हें दूध पिलाने में असमर्थ थी तब अश्वत्थामा ने घोर तप किया और भोलेनाथ ने उनके लिए वरदान के रूप में गुफा से दुग्ध की धारा बहा दी उस समय गुफा से शिवलिंग पर लगातार दूध दूध की धार टपकती रही और कलयुग में इसने जल का रुपया लगातार शिवलिंग पर जल टपकते रहने के कारण इस मंदिर का नाम टपकेश्वर महादेव मंदिर पड़ गया यह माना जाता है कि अश्वत्थामा को भगवान शिव से अमरता का वरदान मिला था
Savaal yah hai ki ashvatthaama ko amarata ka varadaan kisane diya tha ab vah ek-ek maanyata ke anusaar ashvatthaama ne ek baar apanee maata se dugdh paan karaane kee jid kee lekin unhen doodh pilaane mein asamarth thee tab ashvatthaama ne ghor tap kiya aur bholenaath ne unake lie varadaan ke roop mein gupha se dugdh kee dhaara baha dee us samay gupha se shivaling par lagaataar doodh doodh kee dhaar tapakatee rahee aur kalayug mein isane jal ka rupaya lagaataar shivaling par jal tapakate rahane ke kaaran is mandir ka naam tapakeshvar mahaadev mandir pad gaya yah maana jaata hai ki ashvatthaama ko bhagavaan shiv se amarata ka varadaan mila tha

bolkar speaker
अश्वत्थामा को अमर होने के वरदान किसने दिया था ?Ashwathama Ko Amar Hone Ka Vardan Kisne Diya Tha
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:42
नमस्कार दोस्तों बोलकर आप में स्वागत है हवा लकी अश्वत्थामा को अमरता का वरदान किसने दिया तो अमरता का वरदान भगवान शिव ने दिया क्योंकि अश्वथामा भगवान शिव के शिवलिंग की पूजा पूजा पाठ साधना कर रहे थे और अब एक एक्सीडेंट हुआ उसके ऊपर गोंद गोंद पानी टपक रहा था जिसके उस शिवलिंग का नाम सफेद कलर टपकेश्वर नाम रखा गया और जिसकी पूजा पाठ में सफलता पा गई तो उसे भगवान शिव ने यह वरदान दिया था
Namaskaar doston bolakar aap mein svaagat hai hava lakee ashvatthaama ko amarata ka varadaan kisane diya to amarata ka varadaan bhagavaan shiv ne diya kyonki ashvathaama bhagavaan shiv ke shivaling kee pooja pooja paath saadhana kar rahe the aur ab ek ekseedent hua usake oopar gond gond paanee tapak raha tha jisake us shivaling ka naam saphed kalar tapakeshvar naam rakha gaya aur jisakee pooja paath mein saphalata pa gaee to use bhagavaan shiv ne yah varadaan diya tha

bolkar speaker
अश्वत्थामा को अमर होने के वरदान किसने दिया था ?Ashwathama Ko Amar Hone Ka Vardan Kisne Diya Tha
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:40
आलोचना स्वागत है आपका आपका प्रश्न अश्वत्थामा को अमरता का वरदान किसने दिया था तो फ्रेंड अश्वत्थामा को अमरता का वरदान भगवान शिव ने दिया था भगवान शिव की पूजा से काफी परेशान हो गए थे इसलिए उन्होंने अश्वत्थामा को अमरता का वरदान दिया था अश्वत्थामा भगवान शिव की बहुत ही पूजा आराधना करते थे बहुत दुखी करते थे मंदिर में पूजा करते थे वहां पर शंकर जी के सर के ऊपर पानी टपके फोन करके टपकता था तो उस धाम का नाम केशव धाम भी है शंकर जी का शिव के कारण अनियमितता का वरदान मिला था धन्यवाद
Aalochana svaagat hai aapaka aapaka prashn ashvatthaama ko amarata ka varadaan kisane diya tha to phrend ashvatthaama ko amarata ka varadaan bhagavaan shiv ne diya tha bhagavaan shiv kee pooja se kaaphee pareshaan ho gae the isalie unhonne ashvatthaama ko amarata ka varadaan diya tha ashvatthaama bhagavaan shiv kee bahut hee pooja aaraadhana karate the bahut dukhee karate the mandir mein pooja karate the vahaan par shankar jee ke sar ke oopar paanee tapake phon karake tapakata tha to us dhaam ka naam keshav dhaam bhee hai shankar jee ka shiv ke kaaran aniyamitata ka varadaan mila tha dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अश्वत्थामा कौन था.. अश्वत्थामा का रहस्य
URL copied to clipboard