#undefined

bolkar speaker

हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं?

Hasmukh Vyakti Yadi Serious Rehta Hai To Log Use Beemar Kyun Samajh Lete Hain
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 mission Indian Army🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
1:06
फेसबुक व्यक्ति यदि है तो लोग को समझ लेते हैं टाइप होता अपनी बातें जो वह तो अच्छी तरह से कमेटी टाइम है बोलता और लो उसके बाद उसे काफी खुश रहती है तो वह जाना गलत चीजों से उसने तो जाहिर सी बात है कि उसका जवाब कमी आ जाती है लेकिन लगने लगता उसका वक्त और धन की मशीन जब सोने लगते हैं तो हम लोग समझ सकते हो सकता हूं सेठ को शारीरिक पीड़ा हो इसलिए मैंने उस समय ज्यादा मतलब कॉमेडी टॉप में भेदभाव नहीं बोलता नहीं कि सीरियस ही रहना पसंद करता है तो यही कारण है कि लोगों से बीमार समझ नहीं लगती है क्योंकि जो व्यक्ति अपनी मां यानी कि उसके विभाग में काफी कमी आ जाती है तो उम्मीद करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा धन्यवाद
Phesabuk vyakti yadi hai to log ko samajh lete hain taip hota apanee baaten jo vah to achchhee tarah se kametee taim hai bolata aur lo usake baad use kaaphee khush rahatee hai to vah jaana galat cheejon se usane to jaahir see baat hai ki usaka javaab kamee aa jaatee hai lekin lagane lagata usaka vakt aur dhan kee masheen jab sone lagate hain to ham log samajh sakate ho sakata hoon seth ko shaareerik peeda ho isalie mainne us samay jyaada matalab komedee top mein bhedabhaav nahin bolata nahin ki seeriyas hee rahana pasand karata hai to yahee kaaran hai ki logon se beemaar samajh nahin lagatee hai kyonki jo vyakti apanee maan yaanee ki usake vibhaag mein kaaphee kamee aa jaatee hai to ummeed karata hoon savaal ka javaab achchha laga dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं?Hasmukh Vyakti Yadi Serious Rehta Hai To Log Use Beemar Kyun Samajh Lete Hain
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:32
तो सवाल हंसमुख लगती अभी सीरियस रहता है तो लोगों से बीमार की समझ लेते हैं एक व्यक्ति जो है सीरियस रहता है तो उसे लोग जुड़ चुकी जब व्यक्ति हंसमुख रहता है और वह चुप रहता है तो दोस्तों यह बड़ा एक अजीब सा पॉइंट लगता है कि पता नहीं उसके साथ कुछ ना कुछ हुआ होगा सीरियल आता है तो उसके पीछे का कारण है कि वास्तव में उसके मन के अंदर कोई ना कोई दुविधा है या फिर वह परेशान है
To savaal hansamukh lagatee abhee seeriyas rahata hai to logon se beemaar kee samajh lete hain ek vyakti jo hai seeriyas rahata hai to use log jud chukee jab vyakti hansamukh rahata hai aur vah chup rahata hai to doston yah bada ek ajeeb sa point lagata hai ki pata nahin usake saath kuchh na kuchh hua hoga seeriyal aata hai to usake peechhe ka kaaran hai ki vaastav mein usake man ke andar koee na koee duvidha hai ya phir vah pareshaan hai

bolkar speaker
हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं?Hasmukh Vyakti Yadi Serious Rehta Hai To Log Use Beemar Kyun Samajh Lete Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:46
नमस्कार दोस्तों आपका पसंद है इसमें व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार भी समझ लेते हैं तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार हंसमुख व्यक्ति अपने काम में मतदाता है क्योंकि उन्हें अपने जो भी कार्य करता है वह अपने आप में खुश महसूस करता है इसलिए हंसमुख रहता है इसलिए हमें उनके बारे में गलत सोच नहीं रखनी चाहिए कि वह बीमार है या वह नासमझ है इसलिए उसको बीमार कहना गलत है क्योंकि यह हंस होते हैं वह अपने अलग अलग है सभी का स्वभाव होता है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka pasand hai isamen vyakti yadi seeriyas rahata hai to log use beemaar bhee samajh lete hain to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hansamukh vyakti apane kaam mein matadaata hai kyonki unhen apane jo bhee kaary karata hai vah apane aap mein khush mahasoos karata hai isalie hansamukh rahata hai isalie hamen unake baare mein galat soch nahin rakhanee chaahie ki vah beemaar hai ya vah naasamajh hai isalie usako beemaar kahana galat hai kyonki yah hans hote hain vah apane alag alag hai sabhee ka svabhaav hota hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं?Hasmukh Vyakti Yadi Serious Rehta Hai To Log Use Beemar Kyun Samajh Lete Hain
Rajesh Kumar swami Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajesh जी का जवाब
Student
0:44
हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ आते हैं तो वह इसलिए समझ लेते हैं कि जो व्यक्ति हमेशा हमारे साथ उठता बैठता है हंसता खेलता रहता है और आपका रहता है ऐसी मजाक करता रहता है वह एकदम सही सकता है कभी के साथ बैठना उठना नहीं नायक ना ना और कुछ करना तो लोग सोचते ही आत्मा रोगी को भी मार लग गई है उनको भी मरने लगती है उसको उसकी झोपड़ी से तय होती है प्रतिकृति चाहिए लड़की मानो चाहे बाहर की प्रस्तुति मानो उपस्थिति उनको घेर लेती है तो इसमें से पांच लोगों को लगता है कि मारे मारे सा लगता है
Hansamukh vyakti yadi seeriyas rahata hai to log use beemaar kyon samajh aate hain to vah isalie samajh lete hain ki jo vyakti hamesha hamaare saath uthata baithata hai hansata khelata rahata hai aur aapaka rahata hai aisee majaak karata rahata hai vah ekadam sahee sakata hai kabhee ke saath baithana uthana nahin naayak na na aur kuchh karana to log sochate hee aatma rogee ko bhee maar lag gaee hai unako bhee marane lagatee hai usako usakee jhopadee se tay hotee hai pratikrti chaahie ladakee maano chaahe baahar kee prastuti maano upasthiti unako gher letee hai to isamen se paanch logon ko lagata hai ki maare maare sa lagata hai

bolkar speaker
हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं?Hasmukh Vyakti Yadi Serious Rehta Hai To Log Use Beemar Kyun Samajh Lete Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:22
नमस्कार दोस्तों प्रार्थना है कि हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग से बीमार क्यों समझ लेते हैं दोस्तों बहुत लोगों की आदत होती है कि हर छोटी-बड़ी चीजों को मजाक में बात करते हैं मजाक में डाल देते हैं ऐसे ही मेरा स्वभाव भी है मैं हंसमुख व्यक्ति हूं और काफी चीजों को सीरियस नहीं लेता हूं लेकिन अगर थोड़ा सीरियस बैठा हूं सीरियस बात कर रहा हूं तो हो सकता है कि मेरे को पीछे कोई परेशानी हो कोई मानसिक दबाव या वैसे ही बैठे तो क्योंकि जो आपके देखने वाले व्यक्तियों से परिवार के सदस्य मित्र हैं चाय ऑफिस में कर्मचारी हैं चाय व्यापार में आप के व्यापारी भाई हैं चाय ग्राहक हैं क्योंकि आपको देखते हैं कि आप रहते हो तो सोचते हैं कि आपको कोई बीमारी है और होती भी है कई बार आपको बुखार हो जाता या कुछ हो जाता है स्वास्थ्य कमजोर रहता है नाक चढ़ा दे बात करते हैं तू कभी वह हंस देंगे तो आप कहेंगे कि भाई इसको आज क्या हो गया तो कई होगा सबका अपना-अपना स्वभाव होता है तो इसीलिए हंसमुख व्यक्ति कोशिश करता है कि जब तक कोई गंभीर परेशानी ना हो कोई पास में कोई गिरावट ना हो तब तक वह हंसमुख ही रहता है उसकी आदत होती है और सुबह होता है धन्यवाद
Namaskaar doston praarthana hai ki hansamukh vyakti yadi seeriyas rahata hai to log se beemaar kyon samajh lete hain doston bahut logon kee aadat hotee hai ki har chhotee-badee cheejon ko majaak mein baat karate hain majaak mein daal dete hain aise hee mera svabhaav bhee hai main hansamukh vyakti hoon aur kaaphee cheejon ko seeriyas nahin leta hoon lekin agar thoda seeriyas baitha hoon seeriyas baat kar raha hoon to ho sakata hai ki mere ko peechhe koee pareshaanee ho koee maanasik dabaav ya vaise hee baithe to kyonki jo aapake dekhane vaale vyaktiyon se parivaar ke sadasy mitr hain chaay ophis mein karmachaaree hain chaay vyaapaar mein aap ke vyaapaaree bhaee hain chaay graahak hain kyonki aapako dekhate hain ki aap rahate ho to sochate hain ki aapako koee beemaaree hai aur hotee bhee hai kaee baar aapako bukhaar ho jaata ya kuchh ho jaata hai svaasthy kamajor rahata hai naak chadha de baat karate hain too kabhee vah hans denge to aap kahenge ki bhaee isako aaj kya ho gaya to kaee hoga sabaka apana-apana svabhaav hota hai to iseelie hansamukh vyakti koshish karata hai ki jab tak koee gambheer pareshaanee na ho koee paas mein koee giraavat na ho tab tak vah hansamukh hee rahata hai usakee aadat hotee hai aur subah hota hai dhanyavaad

bolkar speaker
हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं?Hasmukh Vyakti Yadi Serious Rehta Hai To Log Use Beemar Kyun Samajh Lete Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:29
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं तो फ्रेंड जो हंसमुख व्यक्ति होते हैं वह हमेशा हंसते बोलते रहते हैं हंसी मजाक करते रहते हैं और अगर एकदम से वे सीरियस हो जाए तो लोग उसे बीमार समझेंगे क्योंकि वह सब को हंसाता है बोलता है और एकदम से वह अगर चुप हो जाए तो उसकी चुप होने में लोग यही समझेंगे कि मैं बीमार हो गया है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai hansamukh vyakti yadi seeriyas rahata hai to log use beemaar kyon samajh lete hain to phrend jo hansamukh vyakti hote hain vah hamesha hansate bolate rahate hain hansee majaak karate rahate hain aur agar ekadam se ve seeriyas ho jae to log use beemaar samajhenge kyonki vah sab ko hansaata hai bolata hai aur ekadam se vah agar chup ho jae to usakee chup hone mein log yahee samajhenge ki main beemaar ho gaya hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • हंसमुख व्यक्ति यदि सीरियस रहता है तो लोग उसे बीमार क्यों समझ लेते हैं
URL copied to clipboard