#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं?

Vishv Vinash Ke Kya Karan Ho Sakte Hain
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:49
किया गया जिसमें विनाश के क्या कारण हो सकते हैं जो चोट के कारण हो सकते हैं एक कारण हो सकता है उमर और भी ज्यादा थक जाएगी एक दिन ऐसा आएगा कि बच्चा पैदा ही बंद और सब कुछ खत्म हिमालय जी तृतीय विश्व युद्ध होगा और देशों ने परमाणु हमला स्टार्ट कर दिया तो फिर भी विश्व का जो है बनाते हैं जो बिना था इसके वजह से 29 विश्व के विनाश का कारण हो सकती है क्या कारण हो सकते हैं
Kiya gaya jisamen vinaash ke kya kaaran ho sakate hain jo chot ke kaaran ho sakate hain ek kaaran ho sakata hai umar aur bhee jyaada thak jaegee ek din aisa aaega ki bachcha paida hee band aur sab kuchh khatm himaalay jee trteey vishv yuddh hoga aur deshon ne paramaanu hamala staart kar diya to phir bhee vishv ka jo hai banaate hain jo bina tha isake vajah se 29 vishv ke vinaash ka kaaran ho sakatee hai kya kaaran ho sakate hain

और जवाब सुनें

bolkar speaker
विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं?Vishv Vinash Ke Kya Karan Ho Sakte Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:51
जैसा कि दोस्तों आप का सवाल है विश्वनाथ के के कारण हो सकते हैं तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है फिर से विनाश के निम्न कारण हो सकते हैं जो हमें जो खनिज निर्धन के चलाने के जो कार्बन डाइऑक्साइड वायुमंडल में उत्सर्जित हो जाता है और इससे समूचे विश्व के वातावरण पर प्रभाव पड़ता है जो हमारे पर्यावरण को धीरे-धीरे गर्म हो जाता है और दुनिया के कई इलाकों में भयंकर तूफान आना बारिश का वार्ड पर लेकर नजारे देख रहे हैं हमारे भौगोलिक तापमान इतना पड़ेगा कि कृषि क्षेत्र में भी बुनियादी परिवर्तन आने लग जाते हैं इसलिए कुछ इस कारणों की वजह से विश्व विनाश की ओर बढ़ सकते हैं धन्यवाद साथियों खुश रहो
Jaisa ki doston aap ka savaal hai vishvanaath ke ke kaaran ho sakate hain to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se hai phir se vinaash ke nimn kaaran ho sakate hain jo hamen jo khanij nirdhan ke chalaane ke jo kaarban daioksaid vaayumandal mein utsarjit ho jaata hai aur isase samooche vishv ke vaataavaran par prabhaav padata hai jo hamaare paryaavaran ko dheere-dheere garm ho jaata hai aur duniya ke kaee ilaakon mein bhayankar toophaan aana baarish ka vaard par lekar najaare dekh rahe hain hamaare bhaugolik taapamaan itana padega ki krshi kshetr mein bhee buniyaadee parivartan aane lag jaate hain isalie kuchh is kaaranon kee vajah se vishv vinaash kee or badh sakate hain dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं?Vishv Vinash Ke Kya Karan Ho Sakte Hain
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:44
नमस्कार दोस्तों बोलकर आंख में स्वागत का सवाल है कि विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं मेरा मानना यह है कि एक तो घरों में विधान लकड़ियां जलाते हैं उसमें जो कार्बन डाइऑक्साइड गैस होती है वह वायुमंडल में उत्सर्जित हो जाती है जिसके कारण कभी भी संस्था में बाढ़ आ सकती है तूफान आ सकता है और बहुत भयंकर बारिश हो सकती है यह क्योंकि ऐसा होने से प्रति गर्म होगी जिससे कारण यह सभी इलाज संभव है
Namaskaar doston bolakar aankh mein svaagat ka savaal hai ki vishv vinaash ke kya kaaran ho sakate hain mera maanana yah hai ki ek to gharon mein vidhaan lakadiyaan jalaate hain usamen jo kaarban daioksaid gais hotee hai vah vaayumandal mein utsarjit ho jaatee hai jisake kaaran kabhee bhee sanstha mein baadh aa sakatee hai toophaan aa sakata hai aur bahut bhayankar baarish ho sakatee hai yah kyonki aisa hone se prati garm hogee jisase kaaran yah sabhee ilaaj sambhav hai

bolkar speaker
विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं?Vishv Vinash Ke Kya Karan Ho Sakte Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:58
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं तो फ्रेंड से विश्वनाथ के बहुत सारे कारण हो सकते हैं जो मनुष्य द्वारा यह जो हमारी प्रकृति है इसके साथ छेड़छाड़ की जा रही है और इतना प्रदूषण फैलाया जा रहा है कि ग्लोबल वार्मिंग हो रही है इतना प्रदूषण बढ़ गया है और वातावरण में इतनी अधिक गर्मी हो गई है कि सर्दियों के मौसम में भी गर्मियों का एहसास होने लगा है अभी जो उत्तराखंड में त्रासदी हुई है वह ग्लेशियर टूटा है वह भी गर्मी की वजह से हुआ है जो कि अभी फरवरी में ही इतनी ज्यादा गर्मी हो गई है तो ग्लेशियर टूट गया और बहुत सारे जान माल का भी नुकसान हुआ तो मनुष्य प्राकृतिक संसाधनों के साथ छेड़छाड़ कर रहा है पेड़ पौधों की कटाई करता है जिसे वर्षा नहीं होती है और कार्बन डाइऑक्साइड ज्यादा पड़ रही है और ऑक्सीजन कम हो रही है पेड़ पौधों के काटने से तो ऐसे बहुत सारे कारण हैं जिस जो विश्व विनाश की ओर ले जा रहे हैं धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai vishv vinaash ke kya kaaran ho sakate hain to phrend se vishvanaath ke bahut saare kaaran ho sakate hain jo manushy dvaara yah jo hamaaree prakrti hai isake saath chhedachhaad kee ja rahee hai aur itana pradooshan phailaaya ja raha hai ki global vaarming ho rahee hai itana pradooshan badh gaya hai aur vaataavaran mein itanee adhik garmee ho gaee hai ki sardiyon ke mausam mein bhee garmiyon ka ehasaas hone laga hai abhee jo uttaraakhand mein traasadee huee hai vah gleshiyar toota hai vah bhee garmee kee vajah se hua hai jo ki abhee pharavaree mein hee itanee jyaada garmee ho gaee hai to gleshiyar toot gaya aur bahut saare jaan maal ka bhee nukasaan hua to manushy praakrtik sansaadhanon ke saath chhedachhaad kar raha hai ped paudhon kee kataee karata hai jise varsha nahin hotee hai aur kaarban daioksaid jyaada pad rahee hai aur okseejan kam ho rahee hai ped paudhon ke kaatane se to aise bahut saare kaaran hain jis jo vishv vinaash kee or le ja rahe hain dhanyavaad

bolkar speaker
विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं?Vishv Vinash Ke Kya Karan Ho Sakte Hain
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
2:13
सवाल ये है कि विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं प्रकृति ने मानव को पता भी वस्तु ऐसी प्रदान की है जिससे वह किसी ना किसी रूप से लाभान्वित होता रहा है परंतु आज आधुनिकता की दौड़ में इंसान प्राकृतिक स्रोतों को अनजाने में स्वयं ही खत्म कर रहा है जीव जंतु वनस्पति तेजी से खत्म हो रहे हैं और उनका प्रभाव मानव जीवन पर पड़ रहा है नतीजा सामने है ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है सता ग्लेशियर पिघल रहे हैं इसी समय रहते संजीदगी से नहीं लेके आ गया तो मानव जीवन ज्यादा प्रभावित हो सकता है ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है उसके परिणाम भी सबके सामने हैं इसके लिए हम खुद जिम्मेदार हैं जनसंख्या बढ़ने के लिए संकट पैदा हो रहा है प्रकृति के मित्रों जीव जंतु व वनस्पति खत्म हो रहे हैं या मानव जाति के लिए नुकसानदायक है यदि लोगों ने विलासिता का जीवन छोड़कर प्रकृति को साथ ही नहीं बनाया तो आने वाला समय ठीक नहीं है बड़े पेड़ पौधों की रक्षा करना और प्रकृति स्रोतों के उपयोग करने की आदत डालनी होगी अब लुप्त होते हुए जीव जंतुओं का वातावरण पर भी काफी गहरा प्रभाव पड़ता है इस वातावरण में होने वाली खाद्य श्रंखला प्रभावित होती है उदाहरण के तौर पर देखें कि गीत जो कि वातावरण के लिए सफाई कर्मी है एकदम विलुप्त हो चुका है अगर है या भी विलुप्त होने के कगार पर है यह कब पर्यावरण प्रदूषण के कारण हो रहा है लिहाजा हमें विलुप्त हो रहे जीव जंतुओं को बचाने का संकल्प लेना चाहिए साथ ही इनके लिए पर्याप्त वातावरण तैयार करना चाहिए ताकि कोतवाल बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण के लिए हम लोग खुद जिम्मेदार हैं जिस प्रकार से तेजी के साथ पेड़ों का कटान हो रहा है कुत्ते वातावरण प्रदूषित हो रहा है रनस्पेस मानव जीवन को प्रभावित कर रहा है बल्कि जीव-जंतु भी इससे प्रभावित हो रहे हैं मानव के मित्र कहे जाने वाले तमाम जीव जंतु विलुप्त हो रहे हैं वनस्पति खत्म हो रही है लिहाजा लोगों को पर्यावरण बचाने के लिए आगे आना होगा कोरोना संक्रमण ई चुनौती और बहुत बड़ा उदाहरण है हमारे सामने पर यह सब लोगों की लापरवाही से ही है
Savaal ye hai ki vishv vinaash ke kya kaaran ho sakate hain prakrti ne maanav ko pata bhee vastu aisee pradaan kee hai jisase vah kisee na kisee roop se laabhaanvit hota raha hai parantu aaj aadhunikata kee daud mein insaan praakrtik sroton ko anajaane mein svayan hee khatm kar raha hai jeev jantu vanaspati tejee se khatm ho rahe hain aur unaka prabhaav maanav jeevan par pad raha hai nateeja saamane hai global vaarming badh rahee hai sata gleshiyar pighal rahe hain isee samay rahate sanjeedagee se nahin leke aa gaya to maanav jeevan jyaada prabhaavit ho sakata hai global vaarming badh rahee hai usake parinaam bhee sabake saamane hain isake lie ham khud jimmedaar hain janasankhya badhane ke lie sankat paida ho raha hai prakrti ke mitron jeev jantu va vanaspati khatm ho rahe hain ya maanav jaati ke lie nukasaanadaayak hai yadi logon ne vilaasita ka jeevan chhodakar prakrti ko saath hee nahin banaaya to aane vaala samay theek nahin hai bade ped paudhon kee raksha karana aur prakrti sroton ke upayog karane kee aadat daalanee hogee ab lupt hote hue jeev jantuon ka vaataavaran par bhee kaaphee gahara prabhaav padata hai is vaataavaran mein hone vaalee khaady shrankhala prabhaavit hotee hai udaaharan ke taur par dekhen ki geet jo ki vaataavaran ke lie saphaee karmee hai ekadam vilupt ho chuka hai agar hai ya bhee vilupt hone ke kagaar par hai yah kab paryaavaran pradooshan ke kaaran ho raha hai lihaaja hamen vilupt ho rahe jeev jantuon ko bachaane ka sankalp lena chaahie saath hee inake lie paryaapt vaataavaran taiyaar karana chaahie taaki kotavaal badhate paryaavaran pradooshan ke lie ham log khud jimmedaar hain jis prakaar se tejee ke saath pedon ka kataan ho raha hai kutte vaataavaran pradooshit ho raha hai ranaspes maanav jeevan ko prabhaavit kar raha hai balki jeev-jantu bhee isase prabhaavit ho rahe hain maanav ke mitr kahe jaane vaale tamaam jeev jantu vilupt ho rahe hain vanaspati khatm ho rahee hai lihaaja logon ko paryaavaran bachaane ke lie aage aana hoga korona sankraman ee chunautee aur bahut bada udaaharan hai hamaare saamane par yah sab logon kee laaparavaahee se hee hai

bolkar speaker
विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं?Vishv Vinash Ke Kya Karan Ho Sakte Hain
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:31
आरा कपास ने विश्वनाथ के क्या कारण हो सकते हैं तो आपको बता दें कि देखे बहुत सारे कारण हैं जिसके कारण मुझको ना हो सकता है इसमें कोई अलका बनाकर भी टकरा सकता है या फिर यहां पर कोई इतना बड़ा भूकंप भी उत्पन्न हो सकता है जिससे पूरी दुनिया को सुना नहीं आ जाए या फिर यहां पर ब्लू पर्ल फार्मिंग का जो खतरा है वह भी धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है उसके कारण पूरी दुनिया का नाश हो सकता है मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Aara kapaas ne vishvanaath ke kya kaaran ho sakate hain to aapako bata den ki dekhe bahut saare kaaran hain jisake kaaran mujhako na ho sakata hai isamen koee alaka banaakar bhee takara sakata hai ya phir yahaan par koee itana bada bhookamp bhee utpann ho sakata hai jisase pooree duniya ko suna nahin aa jae ya phir yahaan par bloo parl phaarming ka jo khatara hai vah bhee dheere-dheere badhata ja raha hai usake kaaran pooree duniya ka naash ho sakata hai main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • विश्व विनाश के क्या कारण हो सकते हैं विश्व विनाश के कारण
URL copied to clipboard