#जीवन शैली

bolkar speaker

क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?

Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:32
सवाल यह है कि क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो जी हां मनुष्य को हमेशा सोच समझकर बोलना चाहिए बिना सोचे समझे बोली गई बात सामने वाले को अब प्रिय लग सकती है जब तक आपको गलती का एहसास हो तब तक बहुत देर हो चुकी होती है मुंह से निकली बात आंखों से आंखों से निकले आंसू एवं बाढ़ से निकला तीर कभी वापस नहीं आता इसलिए हमेशा सोच समझकर बोलना चाहिए प्रेम और विनम्रता पूर्वक बोलने बोलने पर तू के वृक्ष वृक्ष में भी जीवन का संचार होता है
Savaal yah hai ki kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie to jee haan manushy ko hamesha soch samajhakar bolana chaahie bina soche samajhe bolee gaee baat saamane vaale ko ab priy lag sakatee hai jab tak aapako galatee ka ehasaas ho tab tak bahut der ho chukee hotee hai munh se nikalee baat aankhon se aankhon se nikale aansoo evan baadh se nikala teer kabhee vaapas nahin aata isalie hamesha soch samajhakar bolana chaahie prem aur vinamrata poorvak bolane bolane par too ke vrksh vrksh mein bhee jeevan ka sanchaar hota hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:27
नहीं क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए तू जी हां बिल्कुल अगर आप इस तरीके की समझदारी रखते हैं तो मुझे लगता है कि आप किसी के सामने झुकेंगे नहीं आप सब को झुका के रखेंगे क्योंकि हमारी जो माइंड होता है ना बहुत सार बहुत है बहुत ज्यादा एडवांस होता है इसे एक्स्ट्रा एडवान हम अपनी ही मर्जी से मनाएंगे क्योंकि हम जितना तेज करेंगे उतना ही तेज होगा जितना बेकार करेंगे अपने माइंड पूछा ही बेकार होगा तो इस सबसे अच्छी बात होती है कि हम अपने दिमाग को कितना तेज बना सकते हैं और सबसे बड़ी बात होती कि हमारे माइंड इतना तेज होता है कि अपने 9 सेकंड में हर एक चीज को सोचने समझने की प्रवृत्ति रखता है हम जितनी जल्दी बात सुनते हैं उसका तुरंत को रिस्पांस भी देने के लिए जाहिर एक्टिव रहता है उस एक्टिव में आप कुछ सेकंड सामने 9 सेकंड में आपको उसको आप देखे कि हां यह सही है कि नहीं आप में इतनी ज्यादा काबिलियत होती है इतनी ज्यादा पावर होती है क्या आप गलत सही का निर्णय अपने माइंड में ही कर सकते हैं लेकिन कुछ भी कभी-कभी ऐसी बातें होती है शायद सभी लोग होना पसंद है लेकिन आप गलत नहीं बोल सकते हैं और सबसे बड़ी बात होती है कि आप जब किसी बात को सोच समझकर या हर तरीके से बात करने की कोशिश करेंगे तो मुझे लगता है कि आप सबसे परफेक्ट रहेंगे और आप किसी के आगे झुकेंगे नहीं और हमेशा आप सर्वोपरि रूप में रहेंगे
Nahin kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie too jee haan bilkul agar aap is tareeke kee samajhadaaree rakhate hain to mujhe lagata hai ki aap kisee ke saamane jhukenge nahin aap sab ko jhuka ke rakhenge kyonki hamaaree jo maind hota hai na bahut saar bahut hai bahut jyaada edavaans hota hai ise ekstra edavaan ham apanee hee marjee se manaenge kyonki ham jitana tej karenge utana hee tej hoga jitana bekaar karenge apane maind poochha hee bekaar hoga to is sabase achchhee baat hotee hai ki ham apane dimaag ko kitana tej bana sakate hain aur sabase badee baat hotee ki hamaare maind itana tej hota hai ki apane 9 sekand mein har ek cheej ko sochane samajhane kee pravrtti rakhata hai ham jitanee jaldee baat sunate hain usaka turant ko rispaans bhee dene ke lie jaahir ektiv rahata hai us ektiv mein aap kuchh sekand saamane 9 sekand mein aapako usako aap dekhe ki haan yah sahee hai ki nahin aap mein itanee jyaada kaabiliyat hotee hai itanee jyaada paavar hotee hai kya aap galat sahee ka nirnay apane maind mein hee kar sakate hain lekin kuchh bhee kabhee-kabhee aisee baaten hotee hai shaayad sabhee log hona pasand hai lekin aap galat nahin bol sakate hain aur sabase badee baat hotee hai ki aap jab kisee baat ko soch samajhakar ya har tareeke se baat karane kee koshish karenge to mujhe lagata hai ki aap sabase paraphekt rahenge aur aap kisee ke aage jhukenge nahin aur hamesha aap sarvopari roop mein rahenge

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:34
मीका सोच समझकर ही बोलना चाहिए यह दोस्तों हमेशा सोच समझकर बोलना चाहिए इसका गाड़ी है कि आप सोच समझकर नहीं बोलेंगे तो उसकी बात को लेकर कोई विवाद हो जाए और वैसे आपको झूठ और सकते दोनों चीज बोलनी चाहिए और वह भी अपने स्पेशल क्योंकि के समय में सच झूठ बोलना है उसका भी चला ले सकते हैं परंतु हमेशा सोच समझकर ही बोले क्योंकि आपकी गलत बोलने से या बिना सोचे समझे बोलने से कोई भी बारिश हो सकता है धन्यवाद
Meeka soch samajhakar hee bolana chaahie yah doston hamesha soch samajhakar bolana chaahie isaka gaadee hai ki aap soch samajhakar nahin bolenge to usakee baat ko lekar koee vivaad ho jae aur vaise aapako jhooth aur sakate donon cheej bolanee chaahie aur vah bhee apane speshal kyonki ke samay mein sach jhooth bolana hai usaka bhee chala le sakate hain parantu hamesha soch samajhakar hee bole kyonki aapakee galat bolane se ya bina soche samajhe bolane se koee bhee baarish ho sakata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
0:49
आप मुझसे बातें कर सकते हैं तुरंत रिप्लाई देने का ऑप्शन रहता है और तुरंत उसका रिप्लाई देते हैं सच बात हो रही है तो आप वहां पर तुरंत रिप्लाई दे सकते हैं और जरूरी नहीं है कि आप सोच समझकर ही हमेशा बोलते हैं सवाल का जवाब चाहिए
Aap mujhase baaten kar sakate hain turant riplaee dene ka opshan rahata hai aur turant usaka riplaee dete hain sach baat ho rahee hai to aap vahaan par turant riplaee de sakate hain aur jarooree nahin hai ki aap soch samajhakar hee hamesha bolate hain savaal ka javaab chaahie

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student
1:13
मना कर दो सोच समझकर बोलना जी बिल्कुल आपको सोच समझकर बोलना चाहिए था ना कि हर वक्त काम को कारण रंजन नहीं पता होता है और आप ऐसे बोलते कुछ सोचते समझती नहीं है कि बाद में कहना कहां तक जाएगी इसके बारे में लोग क्या सोचेंगे कैसे-कैसे भी चलाएंगे तो सोचना पड़ता है कि जो भी बात हम करें तो मतलब से पहले उसे अच्छी तरह से समझ तो आप फालतू बातें नहीं जितना हो सके उतना कम बोलना ही प्रसन्न करें क्योंकि इससे क्या होता है कि आप तो जब जितना कम बोलते तो लोग लोग आपकी बातों को मिला सम्मान देते रिस्पेक्ट देती और उनकी आदत है तुम्हारी बातों का मतलब फालतू की बात बोलते जाते कोई भी टॉपिक नहीं होता उस पर सही तुम बोलते जाते हो तो लोग मुझे तुम्हें समझने लगे सोच समझकर अच्छी तरह से मिली पहली सोच लेकिन मैं बात किया हूं सामने वाला व्यक्ति से कैसे प्रभावित होता कैसे प्रभावित होगा सोच कर ही आपको बोलना है तो उम्मीद करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा धन्यवाद
Mana kar do soch samajhakar bolana jee bilkul aapako soch samajhakar bolana chaahie tha na ki har vakt kaam ko kaaran ranjan nahin pata hota hai aur aap aise bolate kuchh sochate samajhatee nahin hai ki baad mein kahana kahaan tak jaegee isake baare mein log kya sochenge kaise-kaise bhee chalaenge to sochana padata hai ki jo bhee baat ham karen to matalab se pahale use achchhee tarah se samajh to aap phaalatoo baaten nahin jitana ho sake utana kam bolana hee prasann karen kyonki isase kya hota hai ki aap to jab jitana kam bolate to log log aapakee baaton ko mila sammaan dete rispekt detee aur unakee aadat hai tumhaaree baaton ka matalab phaalatoo kee baat bolate jaate koee bhee topik nahin hota us par sahee tum bolate jaate ho to log mujhe tumhen samajhane lage soch samajhakar achchhee tarah se milee pahalee soch lekin main baat kiya hoon saamane vaala vyakti se kaise prabhaavit hota kaise prabhaavit hoga soch kar hee aapako bolana hai to ummeed karata hoon savaal ka javaab achchha laga dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:16
आरा का प्रश्न क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो आपको बता देंगे बिल्कुल इंसान को हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए अन्यथा आप किसी बड़ी मुसीबत को न्योता दे सकते हैं मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Aara ka prashn kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie to aapako bata denge bilkul insaan ko hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie anyatha aap kisee badee museebat ko nyota de sakate hain main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:19
सारे की क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए है जी हम बिल्कुल तो सोच समझकर ही बोलना चाहिए है क्योंकि बिना सोचे समझे बोले गए चीजों में औषधि से गड़बड़ हो जाती है रिश्ते खराब हो जाते हैं आप कुछ अच्छे हो तो बन जाता है तो सामने वाले को बुरा लग जाती हैं जिसकी वजह से और कमेंट भी हो सकते हैं आपका दिन शुभ रहे थे नहीं बात
Saare kee kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie hai jee ham bilkul to soch samajhakar hee bolana chaahie hai kyonki bina soche samajhe bole gae cheejon mein aushadhi se gadabad ho jaatee hai rishte kharaab ho jaate hain aap kuchh achchhe ho to ban jaata hai to saamane vaale ko bura lag jaatee hain jisakee vajah se aur kament bhee ho sakate hain aapaka din shubh rahe the nahin baat

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Manju Bolkar App
Top Speaker,Level 88
सुनिए Manju जी का जवाब
Unknown
2:04
नमस्कार आप ने सवाल पूछा है क्या हमें सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो बिल्कुल हमने सोच समझकर ही बोलना चाहिए हालांकि हम हमारे घर वालों के साथ या परिवार वालों के साथ इतना ज्यादा नहीं सोचते हैं बोलने से पहले जो मन में आता है कह देते हैं कि कि हम जानते हैं कि वह हमें जानते हैं चित्र जो भी हम कहेंगे उससे हमारे बारे में जो सोच है वह बदलने वाली नहीं हम कह देते हैं लेकिन बाहर वालों के साथ ऐसा नहीं होता है बाहर जनसंपर्क करते हैं हो सकता है हमारी कही सुनी बात उन्हें जो हम बिना सोचे जो भी कहते हैं हो सकता है उससे सुनने वाले को शायद बुरा लग जाए या फिर खुश होता है ना जब हम गुस्सा आ जाता है हम कुछ भी कह देते हैं दोस्ती नहीं है बिना सोचे कुछ भी कह देते हैं और अक्सर ऐसा होता है कि हमारे मुंह से निकले हुए शब्द सामने वाले को बहुत बुरा लगता है और उसका कुछ गलत परिणाम होता है बाद में जब हमें पता चलता है कि उसे इतना बुरा लगा है तो हम अपने आप को माफ नहीं कर पाते हैं तो ऐसे ऐसा ना हो इसलिए कहा जाता है कि सोच समझ कर बात करें दूसरी बात यह कहना चाहूंगी कि लोग जो है बहुत ज्यादा जजमेंटल होते हैं मतलब आपके बारे में एक राय बना लेते हैं तो बिना सोचे समझे जब आप बात करते हो तो जो भी आप अपने मुख से निकली भेजो बातें हैं उससे आपके बारे में एक राय बना लेते हैं हो सकता है वह राय गलत हो लेकिन अगर आप बिना सोचे बात करेंगे तो आपके बारे में एक ही प्रश्न पड़ जाएगा गलत इंप्रेशन पड़ जाएगा कहा जाता है कि सोच समझ कर बात करें तो जब गुस्सा आता है तो गुस्सा कंट्रोल करने को इसलिए कहा जाता है कि हमारे मुख से ऐसी बातें निकल जाती हमें कहना नहीं चाहिए यह सब बातें बिल्कुल अगर आप ध्यान में रखेंगे और लोगों से जब बात करेंगे तो सोच समझ कर ही बात करना चाहिए क्योंकि इससे बुरे परिणाम निकल सकते हैं आशा करती हूं आप मेरा जवाब तो चल रहा होगा
Namaskaar aap ne savaal poochha hai kya hamen soch samajhakar hee bolana chaahie to bilkul hamane soch samajhakar hee bolana chaahie haalaanki ham hamaare ghar vaalon ke saath ya parivaar vaalon ke saath itana jyaada nahin sochate hain bolane se pahale jo man mein aata hai kah dete hain ki ki ham jaanate hain ki vah hamen jaanate hain chitr jo bhee ham kahenge usase hamaare baare mein jo soch hai vah badalane vaalee nahin ham kah dete hain lekin baahar vaalon ke saath aisa nahin hota hai baahar janasampark karate hain ho sakata hai hamaaree kahee sunee baat unhen jo ham bina soche jo bhee kahate hain ho sakata hai usase sunane vaale ko shaayad bura lag jae ya phir khush hota hai na jab ham gussa aa jaata hai ham kuchh bhee kah dete hain dostee nahin hai bina soche kuchh bhee kah dete hain aur aksar aisa hota hai ki hamaare munh se nikale hue shabd saamane vaale ko bahut bura lagata hai aur usaka kuchh galat parinaam hota hai baad mein jab hamen pata chalata hai ki use itana bura laga hai to ham apane aap ko maaph nahin kar paate hain to aise aisa na ho isalie kaha jaata hai ki soch samajh kar baat karen doosaree baat yah kahana chaahoongee ki log jo hai bahut jyaada jajamental hote hain matalab aapake baare mein ek raay bana lete hain to bina soche samajhe jab aap baat karate ho to jo bhee aap apane mukh se nikalee bhejo baaten hain usase aapake baare mein ek raay bana lete hain ho sakata hai vah raay galat ho lekin agar aap bina soche baat karenge to aapake baare mein ek hee prashn pad jaega galat impreshan pad jaega kaha jaata hai ki soch samajh kar baat karen to jab gussa aata hai to gussa kantrol karane ko isalie kaha jaata hai ki hamaare mukh se aisee baaten nikal jaatee hamen kahana nahin chaahie yah sab baaten bilkul agar aap dhyaan mein rakhenge aur logon se jab baat karenge to soch samajh kar hee baat karana chaahie kyonki isase bure parinaam nikal sakate hain aasha karatee hoon aap mera javaab to chal raha hoga

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:29
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए जी आप फ्रेंड्स हमको हमेशा तो समझ कर ही बोलना चाहिए और बोलने से पहले यह देख लेना चाहिए कि हम क्या बोल रहे हैं और हमारे बोलने से किसी का दिल तो नहीं दुख रहा है किसी को चोट तो नहीं पहुंचा रहे हैं तो बोलने से पहले हमेशा सौ बार सोचना चाहिए क्योंकि एक बारे में जो बोल देते हैं कभी वापस नहीं आता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie jee aap phrends hamako hamesha to samajh kar hee bolana chaahie aur bolane se pahale yah dekh lena chaahie ki ham kya bol rahe hain aur hamaare bolane se kisee ka dil to nahin dukh raha hai kisee ko chot to nahin pahuncha rahe hain to bolane se pahale hamesha sau baar sochana chaahie kyonki ek baare mein jo bol dete hain kabhee vaapas nahin aata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:17
बालों की समस्या से समझकर बोलना चाहिए तो मनुष्य को मैसेज सोच समझकर बोलना चाहिए बिना सोच समझकर बोलने वाले प्रियल इसलिए मैं सोच समझकर बोलना चाहिए
Baalon kee samasya se samajhakar bolana chaahie to manushy ko maisej soch samajhakar bolana chaahie bina soch samajhakar bolane vaale priyal isalie main soch samajhakar bolana chaahie

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Md Mahmud Alam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Md जी का जवाब
स्टूडेंट विद्यार्थी
0:33
आज का सवाल है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए हां यह बात सही बात है कि आप कोई भी चीज करें या कुछ भी करें तो आपको सोच समझकर ही बोलना चाहिए क्योंकि कहा जाता है कि इंसान को अच्छा बनने के लिए पूरी जिंदगी लग जाता है वह पूरी तरह से अच्छा इंसान नहीं बन पाता लेकिन बुरा इंसान बनने के लिए 1 सेकंड भी बहुत काफी कुछ लिए हुए इसलिए कोई भी शब्द बोलेंगे कहीं भी जाएं या कोई भी चीज करें तो हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए धन्यवाद
Aaj ka savaal hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie haan yah baat sahee baat hai ki aap koee bhee cheej karen ya kuchh bhee karen to aapako soch samajhakar hee bolana chaahie kyonki kaha jaata hai ki insaan ko achchha banane ke lie pooree jindagee lag jaata hai vah pooree tarah se achchha insaan nahin ban paata lekin bura insaan banane ke lie 1 sekand bhee bahut kaaphee kuchh lie hue isalie koee bhee shabd bolenge kaheen bhee jaen ya koee bhee cheej karen to hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:54
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो दोस्तों बिल्कुल अपने राइट बात कही है हमेशा हमें सोच समझकर ही काम करना चाहिए या कोई भी भोपाल जब भी हम बोले तो सोच समझकर बोलना चाहिए क्योंकि दोस्तों बिना सोचे सोचे समझे यदि कोई हम काम करते हैं तो उसमें अस्सी परसेंट काम की हानि होने की लॉस होने की संभावना रहती है और हनी हो भी जाती है क्योंकि दोस्तों जिस काम के लिए हमें पता नहीं होता है और हम बिना इधर उधर से पूछा है बिना सोचे समझे काम करते हैं तो मैं अब मैं बहुत बड़ा राज होता ही है और बड़ी हानि उठानी पड़ती है और अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है इसलिए कोई काम कर रही हो क्या कुछ बोल रहे हो तो सबसे पहले उसके बारे में सोच ले समझ लें उसके बाद यदि हम बोलते हैं तो बहुत ही अच्छा बोला था सामने वाले को पसंद आता है यदि हम काम के बारे में ऐसा कर रहे हैं तो इधर उधर से अनुभवी आदमी उससे पूछ लेते हैं हम क्या फिर सोच समझ कर अपनी प्लान बनाकर भविष्य के बारे में सोच कर के खिलाफ हमारे लाभ और हानियों के बारे में सोचते हैं और तब एक प्लान बना करके हम कार्य करते हैं कोई व्यवसाय कोई काम धंधा करते हैं तो उसमें लाभ होता है अन्यथा हमें हनी करनी पड़ती है और अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है तो इसलिए हमें सोच समझकर ही बोलना चाहिए मृदुभाषी होना मौन रहकर प्रदर्शन करना मानता के गुणों में आते हैं दोस्तों हमारे द्वारा किया गया व्यवहार और मधुर भाषा ही हमारे पूरे जीवन तक काम में आती है और हमारी एक अच्छी इमेज हमारे सभी लोगों के सामने अच्छी बन पाती है हमारी अच्छी अच्छा चरित्र बन पाता है हमें भी अच्छा नहीं बोलते हैं कड़वा बोलते हैं तो दूसरे लोगों के सामने हमारी जो छवि है कृति है जो बहुत ही बुरी सब जाती है दूसरे लोगों के हृदय में हमारी जो इमेज है वह बुरी बन जाती है हमसे लोग भी मिल नहीं पाते हैं और मिलते हुए कतराते हैं और पीठ पीछे हो सकता है कि बुरा भला भी कहीं और यदि लोगों के दिलों में बसना है राज करना है सभी लोगों के दिलों को जीतना है और उनसे मिलजुल के आगे बढ़ो और उनका सहयोग करना है तो आपको क्या जानना है कि हमसे अच्छा बोलने मधुर बोलने सोच समझकर बोलना क्योंकि दोस्तों इस दुनिया में अच्छे कर्म अच्छा बोलना मृदुभाषी होना ही सर्वोपरि माना जाता है
Namaskaar doston aapaka prashn hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie to doston bilkul apane rait baat kahee hai hamesha hamen soch samajhakar hee kaam karana chaahie ya koee bhee bhopaal jab bhee ham bole to soch samajhakar bolana chaahie kyonki doston bina soche soche samajhe yadi koee ham kaam karate hain to usamen assee parasent kaam kee haani hone kee los hone kee sambhaavana rahatee hai aur hanee ho bhee jaatee hai kyonki doston jis kaam ke lie hamen pata nahin hota hai aur ham bina idhar udhar se poochha hai bina soche samajhe kaam karate hain to main ab main bahut bada raaj hota hee hai aur badee haani uthaanee padatee hai aur anek samasyaon ka saamana karana padata hai isalie koee kaam kar rahee ho kya kuchh bol rahe ho to sabase pahale usake baare mein soch le samajh len usake baad yadi ham bolate hain to bahut hee achchha bola tha saamane vaale ko pasand aata hai yadi ham kaam ke baare mein aisa kar rahe hain to idhar udhar se anubhavee aadamee usase poochh lete hain ham kya phir soch samajh kar apanee plaan banaakar bhavishy ke baare mein soch kar ke khilaaph hamaare laabh aur haaniyon ke baare mein sochate hain aur tab ek plaan bana karake ham kaary karate hain koee vyavasaay koee kaam dhandha karate hain to usamen laabh hota hai anyatha hamen hanee karanee padatee hai aur anek samasyaon ka saamana karana padata hai to isalie hamen soch samajhakar hee bolana chaahie mrdubhaashee hona maun rahakar pradarshan karana maanata ke gunon mein aate hain doston hamaare dvaara kiya gaya vyavahaar aur madhur bhaasha hee hamaare poore jeevan tak kaam mein aatee hai aur hamaaree ek achchhee imej hamaare sabhee logon ke saamane achchhee ban paatee hai hamaaree achchhee achchha charitr ban paata hai hamen bhee achchha nahin bolate hain kadava bolate hain to doosare logon ke saamane hamaaree jo chhavi hai krti hai jo bahut hee buree sab jaatee hai doosare logon ke hrday mein hamaaree jo imej hai vah buree ban jaatee hai hamase log bhee mil nahin paate hain aur milate hue kataraate hain aur peeth peechhe ho sakata hai ki bura bhala bhee kaheen aur yadi logon ke dilon mein basana hai raaj karana hai sabhee logon ke dilon ko jeetana hai aur unase milajul ke aage badho aur unaka sahayog karana hai to aapako kya jaanana hai ki hamase achchha bolane madhur bolane soch samajhakar bolana kyonki doston is duniya mein achchhe karm achchha bolana mrdubhaashee hona hee sarvopari maana jaata hai

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Deepak Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Deepak जी का जवाब
संस्कृतप्रचारक:
1:28
नमस्कार मित्र अपने प्रश्न किया है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो मित्र मेरा विचार यह है कि हमेशा सोच समझ कर के ही बोलना चाहिए बिल्कुल सही बात है क्यों किया कि यदि आप बिना सोचे समझे कहेंगे तो या तो लोग आपको यह सोचेंगे कि यह तो पागल है कुछ भी कहता रहता है गलत बात का आपने समझा नहीं सोचा नहीं विचार नहीं किया उस पर कि यह जो बात है इस पर मैं अपनी तरफ से क्या प्रतिक्रिया दो जरा अपने बिना सोचे समझे कुछ भी कह दिया तो लोग आपको एक तरीके से यही समझेंगे कि पागल है दूसरी एक बात कि आपके द्वारा जो बात कही गई है उससे बात तब उससे बात के कहने पर सामने वाले पर क्या फर्क पड़ेगा या तो उसे बात को सही अर्थ में ले सकता है या फिर वह से गलत अर्थ में भी ले सकता है उसके हाथ में है परंतु यदि आप सोच समझकर के सही बात कह रहे हैं तो सामने वाला उसको सही अर्थों में ही लेगा ऐसा नहीं कि वह फिर उसको गलत अर्थ में लेकर कुछ और सोचेगा यह आपसे बात करना ही बंद कर देगा इसके लिए ही हमेशा जब भी कोई हम बात करते हैं चाय फैमिली में हो जाए दोस्तों के साथ हो तो हमें हमेशा कब कहां पर क्या बात करनी है कहनी है किसको क्या कहना है यह सब कुछ सोच विचार करके ही बात करनी चाहिए बोलना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar mitr apane prashn kiya hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie to mitr mera vichaar yah hai ki hamesha soch samajh kar ke hee bolana chaahie bilkul sahee baat hai kyon kiya ki yadi aap bina soche samajhe kahenge to ya to log aapako yah sochenge ki yah to paagal hai kuchh bhee kahata rahata hai galat baat ka aapane samajha nahin socha nahin vichaar nahin kiya us par ki yah jo baat hai is par main apanee taraph se kya pratikriya do jara apane bina soche samajhe kuchh bhee kah diya to log aapako ek tareeke se yahee samajhenge ki paagal hai doosaree ek baat ki aapake dvaara jo baat kahee gaee hai usase baat tab usase baat ke kahane par saamane vaale par kya phark padega ya to use baat ko sahee arth mein le sakata hai ya phir vah se galat arth mein bhee le sakata hai usake haath mein hai parantu yadi aap soch samajhakar ke sahee baat kah rahe hain to saamane vaala usako sahee arthon mein hee lega aisa nahin ki vah phir usako galat arth mein lekar kuchh aur sochega yah aapase baat karana hee band kar dega isake lie hee hamesha jab bhee koee ham baat karate hain chaay phaimilee mein ho jae doston ke saath ho to hamen hamesha kab kahaan par kya baat karanee hai kahanee hai kisako kya kahana hai yah sab kuchh soch vichaar karake hee baat karanee chaahie bolana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:46
आपका सवाल है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए जिससे एक दूसरे को यह पता चलता है कि आप कितने समझदार हो या आप कितने ना समझदार हो इससे आपकी सोच का पता चलता है इसलिए हमेशा पॉजिटिव बकरी और सोच समझकर कि एक दूसरे के साथ अपने विचारों को रखना चाहिए धन्यवाद साथियों खुश रहो
Aapaka savaal hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie jisase ek doosare ko yah pata chalata hai ki aap kitane samajhadaar ho ya aap kitane na samajhadaar ho isase aapakee soch ka pata chalata hai isalie hamesha pojitiv bakaree aur soch samajhakar ki ek doosare ke saath apane vichaaron ko rakhana chaahie dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
pari Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए pari जी का जवाब
Unknown
0:21
से निकली बात आंखों से निकले आंसू बाढ़ से निकला कि कभी वापस नहीं जाता ऐसे ही हमारे मैंने अभी बिजी ना मुंह से निकली बात कभी वापस नहीं जाती और अगर हमने किसी को कुछ गलत कह दिया तो शायद उसे बुरा लग सकता है इसलिए हमेशा हमें सोच समझकर ही बोलना चाहिए

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
srikant pal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए srikant जी का जवाब
Student
0:43

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:42
सवाल है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए देखिए मनुष्य को हमेशा सोच समझकर बोलना चाहिए बिना सोचे समझे बोली गई बात सामने वाले को अपनी लग सकती है जब तक आपको गलती का एहसास हो तब तक बहुत देर हो चुकी होती है मुंह से निकली बात आंखों से निकले आंसू कमान से निकला तीर वापस नहीं आता इसलिए हमेशा सोच समझकर बोलना चाहिए प्रेम और विनय पूर्वक बोलने पर सूखे वृक्षों में भी जीवन का संचार हो जाता है अतः हमें सोच समझकर मीठी वाणी में ही बोलना चाहिए अपने वाक्यों में कटु शब्दों का प्रयोग कभी नहीं करना चाहिए धन्यवाद
Savaal hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie dekhie manushy ko hamesha soch samajhakar bolana chaahie bina soche samajhe bolee gaee baat saamane vaale ko apanee lag sakatee hai jab tak aapako galatee ka ehasaas ho tab tak bahut der ho chukee hotee hai munh se nikalee baat aankhon se nikale aansoo kamaan se nikala teer vaapas nahin aata isalie hamesha soch samajhakar bolana chaahie prem aur vinay poorvak bolane par sookhe vrkshon mein bhee jeevan ka sanchaar ho jaata hai atah hamen soch samajhakar meethee vaanee mein hee bolana chaahie apane vaakyon mein katu shabdon ka prayog kabhee nahin karana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
RAM NIWASH AWASTHI Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAM जी का जवाब
विद्यार्थी
0:39
जंगल का सवाल है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए कि दोस्तों मैं आपको बताना चाहूंगा कि मनुष्य को हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए बिना सोचे समझे बोली गई बात करने वाले को अपनी अलग सकती है जब तक कि आपको अपनी गलती का एहसास हो तब तक बहुत देर हो चुकी होती है मुंह से निकली हुई बात आंखों से निकले हुए आंसू एवं कमान से निकला हुआ तीर वापस नहीं आता है इसीलिए हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए प्रेम और विनम्रता पूर्वक बोलने पर सूखे वृक्षों में भी जीवन का संचार हो जाता है धन्यवाद
Jangal ka savaal hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie ki doston main aapako bataana chaahoonga ki manushy ko hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie bina soche samajhe bolee gaee baat karane vaale ko apanee alag sakatee hai jab tak ki aapako apanee galatee ka ehasaas ho tab tak bahut der ho chukee hotee hai munh se nikalee huee baat aankhon se nikale hue aansoo evan kamaan se nikala hua teer vaapas nahin aata hai iseelie hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie prem aur vinamrata poorvak bolane par sookhe vrkshon mein bhee jeevan ka sanchaar ho jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:10
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है क्या हमें सोच समझकर ही बोलना चाहिए तो दोस्तों यह निर्भर करता है कि आप किस से बातचीत कर रहे हैं और कहां बातचीत कर रहे हैं जहां आप अपने ऑफिस में बात कर रहे हैं या किसी ऑफिस में गए हैं वहां पर वह बात कर रहे हैं कोई व्यापार के रूप में बात कर रहे हैं तो आपको सोच समझकर ही बोलना चाहिए या अपने माता-पिता से बात कर रहे हैं बड़े से बात कर रहे तो सोच समझ कर बात करना चाहिए लेकिन आप अपने दोस्तों से बात कर रहे मित्रों से बात कर रहे हैं तो आप मजाक में भी बात कर सकते हैं क्योंकि ज्यादा सोच सोच के रहना बात करना वह भी एक नकारात्मकता की ओर ले जाता है आप खुलकर बोले फुल के हंसे तो आप दोस्तों में संकोच ना करें दोस्ती कैसे होते तो मजाक में कुछ नहीं कहते ना ही कोई प्रतिक्रिया देते तो आपको वहां खुल कर बोलना चाहिए और जहां जैसी आपकी कई ऐसे लोग होते हैं मजाकिया किस्म के होते हैं बुरा नहीं मानते तो वहां पर भी आप खुल कर बोल सकते हैं तो बात आपको यह ध्यान रखना है कि बोलना कहां पर है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai kya hamen soch samajhakar hee bolana chaahie to doston yah nirbhar karata hai ki aap kis se baatacheet kar rahe hain aur kahaan baatacheet kar rahe hain jahaan aap apane ophis mein baat kar rahe hain ya kisee ophis mein gae hain vahaan par vah baat kar rahe hain koee vyaapaar ke roop mein baat kar rahe hain to aapako soch samajhakar hee bolana chaahie ya apane maata-pita se baat kar rahe hain bade se baat kar rahe to soch samajh kar baat karana chaahie lekin aap apane doston se baat kar rahe mitron se baat kar rahe hain to aap majaak mein bhee baat kar sakate hain kyonki jyaada soch soch ke rahana baat karana vah bhee ek nakaaraatmakata kee or le jaata hai aap khulakar bole phul ke hanse to aap doston mein sankoch na karen dostee kaise hote to majaak mein kuchh nahin kahate na hee koee pratikriya dete to aapako vahaan khul kar bolana chaahie aur jahaan jaisee aapakee kaee aise log hote hain majaakiya kism ke hote hain bura nahin maanate to vahaan par bhee aap khul kar bol sakate hain to baat aapako yah dhyaan rakhana hai ki bolana kahaan par hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
1:07
नमस्कार दोस्तों आयोजन में पूछा है क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए देखिए बिल्कुल जो हमेशा हमें कोई भी हम बात रखते तो बिल्कुल सोच समझकर ही बोलना चाहिए क्योंकि हम नहीं जानते कि हमारे द्वारा कही गई जो बातें हैं वह दूसरे इंसान पर किस तरह का प्रभाव डालते हैं क्योंकि हर इंसान की जरूरत सोच अलग-अलग होती है तो अगर आपने नॉर्मल वैसे भी किसी को कुछ बिना सोचे समझे आपने बोल दिया है बिना तो ले हुए चीजों को बोल दिया है तो अगले बंदा उस चीज को किस हिसाब से लेता आप उस चीज के कोई गारंटी नहीं ले सकते हैं और उस पर क्या उस चीज का प्रभाव पड़ता है इसके बारे में आप जो है बिल्कुल भी सोच नहीं सकते हैं क्योंकि आपके द्वारा के बोले गए शब्दों के आधार पर ही कुछ लोग जो है आपके व्यक्तित्व या आपके बारे में जो हैं अपना जो है अंदाजा लगाते हैं और चीजों को समझते हैं तो इसलिए हमेशा जो है सोच समझ कर ही बुलाया था इसलिए पहले हमारे कहावत एक बोली जाती थी कि पहले तोलो फिर बोलो तू बिल्कुल सोच समझकर बोलना ही बहुत अच्छा रहता है आशा करता हूं आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Namaskaar doston aayojan mein poochha hai kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie dekhie bilkul jo hamesha hamen koee bhee ham baat rakhate to bilkul soch samajhakar hee bolana chaahie kyonki ham nahin jaanate ki hamaare dvaara kahee gaee jo baaten hain vah doosare insaan par kis tarah ka prabhaav daalate hain kyonki har insaan kee jaroorat soch alag-alag hotee hai to agar aapane normal vaise bhee kisee ko kuchh bina soche samajhe aapane bol diya hai bina to le hue cheejon ko bol diya hai to agale banda us cheej ko kis hisaab se leta aap us cheej ke koee gaarantee nahin le sakate hain aur us par kya us cheej ka prabhaav padata hai isake baare mein aap jo hai bilkul bhee soch nahin sakate hain kyonki aapake dvaara ke bole gae shabdon ke aadhaar par hee kuchh log jo hai aapake vyaktitv ya aapake baare mein jo hain apana jo hai andaaja lagaate hain aur cheejon ko samajhate hain to isalie hamesha jo hai soch samajh kar hee bulaaya tha isalie pahale hamaare kahaavat ek bolee jaatee thee ki pahale tolo phir bolo too bilkul soch samajhakar bolana hee bahut achchha rahata hai aasha karata hoon aapako aapake savaal ka javaab mil gaya hoga laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
1:10
बेटा मत का प्रश्न क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए बिल्कुल सही है भैया आज तो बहुत ज्यादा क्योंकि अब लोग जो है बहुत कनिंग हो गए हैं मैं अपना औरत और छोड़ दीजिए पति पत्नी और बच्चे भी किसी बात को बहुत गहराई से समझने की कोशिश करते हैं समझा आपने इसलिए बहुत सोच समझकर बोलना चाहिए क्योंकि आज मैं मानता हूं कि संसाधन चाहे जितना बढ़ गया भोग विलास के सामग्री चाहे जितनी बढ़ गई है लोगों का इतना बढ़ गया है लेकिन जो अनुराग का सबसे था वह कहीं ना कहीं शिथिल हो गया है अब अनुराग जो हार्दिक शुभ होता था संवेदना का पक्ष होता था वह भोग विलास का माध्यम बन गया है इसलिए मेरा तो यही निवेदन है कि अब किसी भी रिश्ते में किसी भी धरातल पर बहुत सोच समझकर बोलना चाहिए इनकी अपने आप से भी आदमी कभी-कभी बातें करता है तो मैं निवेदन करूंगा कि यहां भी सोच समझकर आदमी को बोलना चाहिए थैंक यू
Beta mat ka prashn kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie bilkul sahee hai bhaiya aaj to bahut jyaada kyonki ab log jo hai bahut kaning ho gae hain main apana aurat aur chhod deejie pati patnee aur bachche bhee kisee baat ko bahut gaharaee se samajhane kee koshish karate hain samajha aapane isalie bahut soch samajhakar bolana chaahie kyonki aaj main maanata hoon ki sansaadhan chaahe jitana badh gaya bhog vilaas ke saamagree chaahe jitanee badh gaee hai logon ka itana badh gaya hai lekin jo anuraag ka sabase tha vah kaheen na kaheen shithil ho gaya hai ab anuraag jo haardik shubh hota tha sanvedana ka paksh hota tha vah bhog vilaas ka maadhyam ban gaya hai isalie mera to yahee nivedan hai ki ab kisee bhee rishte mein kisee bhee dharaatal par bahut soch samajhakar bolana chaahie inakee apane aap se bhee aadamee kabhee-kabhee baaten karata hai to main nivedan karoonga ki yahaan bhee soch samajhakar aadamee ko bolana chaahie thaink yoo

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:30
पूछा था क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए थी बिल्कुल देखकर कभी भी बोले थे कि सोच समझकर ही बोले कभी-कभी क्या होता है इंसान सोचता समझता नहीं है और बोल देता है इसी सब बातों में क्या इस झगड़े में हो जाते दिखे आगे दिल में दोस्ती यारी में क्या हो रहा है सोचता समझता नहीं है और कौन खड़ा है सामने कैसे लोग हैं कुछ भी बोल देती की लड़ाइयां हो जाती है आपसे तो सोच समझकर बोलेंगे तो अच्छा रहेगा कभी-कभी लोग मस्ती मजाक में क्या है कि जो रिश्ते होते हैं उसको खत्म कर देते तो मेरा मानना देखी गई है कि सोच समझ कर ही इंसान को बोलना चाहिए कुछ कार्य करना चाहिए लेकिन बहुत से लोग हैं बिजनेस करना चाहते हैं सोचते समझते नहीं है पैसे हैं पैसे लगा दिया कस्टमर नहीं आ रहे हैं लोकेशन गलत उसने चाहा भी बिजनेस चालू किया वह गलत तो यह सब चीज है सोचना समझना बहुत जरूरी जिंदगी में कभी देखे आप कदम बढ़ाए रखी जम्मू कहीं लिखा है कि गई आप जा रहे तो प्रतिनिधि का खतरा खतरा लिखा है तो आप उसे के ना जाए सोचे समझे अगल बगल से पूछा कि क्यों है यहां पर क्या दिक्कत है तो वह बताएगा तो अपने तरीके से देखे कभी कभी सोचना समझना बहुत जरूरी होता है लोग क्या है बिना सोचे समझे बहुत कुछ कर जाते हैं और फिर बाद में वक्त तो अपने पैर में कुल्हाड़ी ना मारे सोचे समझे वह ज्यादा बेहतर रहेगा जय हिंद जय भारत
Poochha tha kya hamesha soch samajhakar hee bolana chaahie thee bilkul dekhakar kabhee bhee bole the ki soch samajhakar hee bole kabhee-kabhee kya hota hai insaan sochata samajhata nahin hai aur bol deta hai isee sab baaton mein kya is jhagade mein ho jaate dikhe aage dil mein dostee yaaree mein kya ho raha hai sochata samajhata nahin hai aur kaun khada hai saamane kaise log hain kuchh bhee bol detee kee ladaiyaan ho jaatee hai aapase to soch samajhakar bolenge to achchha rahega kabhee-kabhee log mastee majaak mein kya hai ki jo rishte hote hain usako khatm kar dete to mera maanana dekhee gaee hai ki soch samajh kar hee insaan ko bolana chaahie kuchh kaary karana chaahie lekin bahut se log hain bijanes karana chaahate hain sochate samajhate nahin hai paise hain paise laga diya kastamar nahin aa rahe hain lokeshan galat usane chaaha bhee bijanes chaaloo kiya vah galat to yah sab cheej hai sochana samajhana bahut jarooree jindagee mein kabhee dekhe aap kadam badhae rakhee jammoo kaheen likha hai ki gaee aap ja rahe to pratinidhi ka khatara khatara likha hai to aap use ke na jae soche samajhe agal bagal se poochha ki kyon hai yahaan par kya dikkat hai to vah bataega to apane tareeke se dekhe kabhee kabhee sochana samajhana bahut jarooree hota hai log kya hai bina soche samajhe bahut kuchh kar jaate hain aur phir baad mein vakt to apane pair mein kulhaadee na maare soche samajhe vah jyaada behatar rahega jay hind jay bhaarat

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
J K RATHORE Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए J जी का जवाब
Unknown
0:23
बोलने से पहले थोड़ा सा सोचना पड़ता है लेकिन सोचने के कारण इतना समय चला जाता है कि बोलने वाला एक हमको पैसे गुप्ता समझता है इसलिए अपना अपना मस्तिष्क का जो गति है उसको बढ़ाने का प्रयास करना चाहिए नहीं तो बोलने से पहले अगर सोचेंगे तो फिर बोलेंगे कब धन्यवाद

bolkar speaker
क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए?Kya Humesha Soch Samajhkar He Bolna Chaiye
ABHIMANYU KUMAR SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ABHIMANYU जी का जवाब
Part time teaching
0:53

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या हमेशा सोच समझकर ही बोलना चाहिए क्या सोच समझकर बोलना चाहिए
URL copied to clipboard