#जीवन शैली

bolkar speaker

क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?

Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
रंगन Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए रंगन जी का जवाब
Business,Student🤓
1:32
लोगों के कारण सब कुछ होना चाहिए मैं आपको एडमिन आप तो जरूर देखा होगा शायद माउंटेन होगा एक डायलॉग है डर के आगे जीत है तो गब्बर आ पाऊंगा उतर सकता के ग्रामीण तक पहुंचाने की कोशिश करें तो आप उचित निर्णय लें अगर आप बैठ जाओगे पहले ही तो फिर कभी भी कुछ खा लिया बताया कि 1 हफ्ते बाद आपका एग्जाम है उसका मुझे ना हो अगर आप सोचो तो पहली चीज से नहीं हो सकता आप डर जाओगे तो फिर या फिर कभी नहीं होगा एग्जांपल थे कुछ अच्छा आप कोशिश करो और कोशिश करो इतना खुश करो कि जब खुद डर जाए और आप डर को खराब कर अभी तक पहुंच जाऊं तो अगर आप भीतर पाउडर तो गडर आपको तो फिर आप कभी कुछ नहीं हो सकता अगर आप हमेशा नेगेटिव सोचोगे तो सब कुछ जरूर हो जाओगी विकृति का बात पर अगर आप कोशिश करोगे ना तो आप कामयाबी तक जरूर पहुंच पाओगे लेकिन अब डर नहीं सकते आपको सबसे पहले दिमाग के दिल के दर्द को पूरी तरीके से कराना होगा करके दिखाता ना तब जाकर काम है
Logon ke kaaran sab kuchh hona chaahie main aapako edamin aap to jaroor dekha hoga shaayad maunten hoga ek daayalog hai dar ke aage jeet hai to gabbar aa paoonga utar sakata ke graameen tak pahunchaane kee koshish karen to aap uchit nirnay len agar aap baith jaoge pahale hee to phir kabhee bhee kuchh kha liya bataaya ki 1 haphte baad aapaka egjaam hai usaka mujhe na ho agar aap socho to pahalee cheej se nahin ho sakata aap dar jaoge to phir ya phir kabhee nahin hoga egjaampal the kuchh achchha aap koshish karo aur koshish karo itana khush karo ki jab khud dar jae aur aap dar ko kharaab kar abhee tak pahunch jaoon to agar aap bheetar paudar to gadar aapako to phir aap kabhee kuchh nahin ho sakata agar aap hamesha negetiv sochoge to sab kuchh jaroor ho jaogee vikrti ka baat par agar aap koshish karoge na to aap kaamayaabee tak jaroor pahunch paoge lekin ab dar nahin sakate aapako sabase pahale dimaag ke dil ke dard ko pooree tareeke se karaana hoga karake dikhaata na tab jaakar kaam hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:24
डर के कारण सब कुछ होना चाहिए देखें दोस्तों मैं तो यह कहता हूं कि माउंटेन दूध का जो ऐड चलता है डर के आगे जीत है बिल्कुल सही है कि डर के कारण दो यार कुछ होना नहीं चाहिए दल के डर से लव करके आपको अपने टारगेट पहुंचना चाहिए डर के आगे जीत है डर के कारण आपको कुछ होना नहीं चाहिए और कुछ नहीं
Dar ke kaaran sab kuchh hona chaahie dekhen doston main to yah kahata hoon ki maunten doodh ka jo aid chalata hai dar ke aage jeet hai bilkul sahee hai ki dar ke kaaran do yaar kuchh hona nahin chaahie dal ke dar se lav karake aapako apane taaraget pahunchana chaahie dar ke aage jeet hai dar ke kaaran aapako kuchh hona nahin chaahie aur kuchh nahin

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Vijay shankar pal Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Vijay जी का जवाब
My youtube channel - Tech with vijay
0:49
नमस्कार साथियों क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है तो साथियों अगर डर के कारण हो अपना कुछ खो देते हैं खो देने का मतलब कि हम कहीं काम करने नहीं जाते हैं या फिर हम अपने समय को बर्बाद कर देते हैं हम यह सोचते हैं कि डर लग रहा है मैं काम न करे अपना घर छोड़ दे उन से डर लग रहा है तो फिर आप कुछ नहीं कर सकते जीवन है साथियों यहां पर दुख सुख तो आता रहता लेकिन डालना गलत बात है आप डरो मत आप सिर उठाकर रहो गलत मत करो अगर गलत करते हो तो फिर डरना तो डरो या फिर कुछ भी करो फिर कोई साथ नहीं दे सकता आप गलत मत करो और डर अपने अंदर से खत्म कर दो क्योंकि जो डर आओ मारा अगर आप डर जाओगे तो फिर आप जिंदगी में बहुत पीछे रह जाओगे साथियों डरना अपने अंदर से हटा लो
Namaskaar saathiyon kya dar ke kaaran sab kuchh khona sahee hai to saathiyon agar dar ke kaaran ho apana kuchh kho dete hain kho dene ka matalab ki ham kaheen kaam karane nahin jaate hain ya phir ham apane samay ko barbaad kar dete hain ham yah sochate hain ki dar lag raha hai main kaam na kare apana ghar chhod de un se dar lag raha hai to phir aap kuchh nahin kar sakate jeevan hai saathiyon yahaan par dukh sukh to aata rahata lekin daalana galat baat hai aap daro mat aap sir uthaakar raho galat mat karo agar galat karate ho to phir darana to daro ya phir kuchh bhee karo phir koee saath nahin de sakata aap galat mat karo aur dar apane andar se khatm kar do kyonki jo dar aao maara agar aap dar jaoge to phir aap jindagee mein bahut peechhe rah jaoge saathiyon darana apane andar se hata lo

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:46
क्या डर के कारण सब कुछ खबर सही है यह गलत बात है जो आदमी डर जाता है फिर कुछ कर नहीं सकता डर के कारण अब बड़ी-बड़ी अपॉर्चुनिटी खत्म कर देता है इसलिए जो व्यक्ति अंदर से भयभीत रहता है वह जीवन में कुछ भी नहीं कर सकता अगर अर्जुन अपने गुरु के बाणों से डर जाते उसके भाषा से उनके सिद्धांत से और उनके तर्क शक्ति से डर जाते हैं तो उनके जो और तीन भाई आगे जाकर दे युधिष्ठिर और उसके बड़े से भीम जो थे यह जब वहां गए थे दोनों ने पूछा जब गुरु जी ने की भाई आपको क्या दिखाई दे रहा है दोनों का भजन को पूरा पेड़ दिखा रहा है काजू का हुआ दिखाई दे रहा पक्षी दिखाई दे रहा सब दिखाई दे रहा है तो क्या बच्चों तुम लौट आओ लेकिन अर्जुन से जब पूछा गया कि तुम्हें क्या दिखाई दे रहा है तोड़ने का मुझे केवल चिड़िया की आंख दिखाई दे रही थी उस का प्रमुख उद्देश्य जिसे उसे भेज देना भेज देना अभी अगर वह भी डर जाते तो जब घर जाएंगे तो परीक्षा कैसे पास करें जानू कैसे प्राप्त करेंगे अरे ठीक है सफलता सफलता जीवन में आती रहती है दोनों एक सिक्के के दो पहलू हैं उन दोनों पहलुओं में हमारा जो उद्देश्य है मुद्दे से पूरा करेंगे आज अगर दौड़ेंगे तो हम सफलता के बाद करेंगे नहीं सफल होते हैं तो हमको से ज्ञान होगा कि हम थोड़ी अगर आउट तेज गति से दौड़ सच्चे होते तो हमको सफलता प्राप्त हो जाती है इसलिए केवल भाई की रात में सफलता को आप छोड़ दें सफलता को खोजें यह तो आप की सबसे बड़ी मूर्खता है इसलिए भाई के आगे कहते हैं जीत होती है इसलिए भाई को त्यागी है और अपने उद्देश्य की पूर्ति के लिए सतत प्रयास कीजिए कड़ी मेहनत दूर दृष्टि पक्का इरादा अनुशासन के साथ अपने लक्ष्य को भेजिए और आप बिजी होंगे डरने का कोई कारण समझ में नहीं आ रहा
Kya dar ke kaaran sab kuchh khabar sahee hai yah galat baat hai jo aadamee dar jaata hai phir kuchh kar nahin sakata dar ke kaaran ab badee-badee aporchunitee khatm kar deta hai isalie jo vyakti andar se bhayabheet rahata hai vah jeevan mein kuchh bhee nahin kar sakata agar arjun apane guru ke baanon se dar jaate usake bhaasha se unake siddhaant se aur unake tark shakti se dar jaate hain to unake jo aur teen bhaee aage jaakar de yudhishthir aur usake bade se bheem jo the yah jab vahaan gae the donon ne poochha jab guru jee ne kee bhaee aapako kya dikhaee de raha hai donon ka bhajan ko poora ped dikha raha hai kaajoo ka hua dikhaee de raha pakshee dikhaee de raha sab dikhaee de raha hai to kya bachchon tum laut aao lekin arjun se jab poochha gaya ki tumhen kya dikhaee de raha hai todane ka mujhe keval chidiya kee aankh dikhaee de rahee thee us ka pramukh uddeshy jise use bhej dena bhej dena abhee agar vah bhee dar jaate to jab ghar jaenge to pareeksha kaise paas karen jaanoo kaise praapt karenge are theek hai saphalata saphalata jeevan mein aatee rahatee hai donon ek sikke ke do pahaloo hain un donon pahaluon mein hamaara jo uddeshy hai mudde se poora karenge aaj agar daudenge to ham saphalata ke baad karenge nahin saphal hote hain to hamako se gyaan hoga ki ham thodee agar aaut tej gati se daud sachche hote to hamako saphalata praapt ho jaatee hai isalie keval bhaee kee raat mein saphalata ko aap chhod den saphalata ko khojen yah to aap kee sabase badee moorkhata hai isalie bhaee ke aage kahate hain jeet hotee hai isalie bhaee ko tyaagee hai aur apane uddeshy kee poorti ke lie satat prayaas keejie kadee mehanat door drshti pakka iraada anushaasan ke saath apane lakshy ko bhejie aur aap bijee honge darane ka koee kaaran samajh mein nahin aa raha

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:07
सवाल यह है कि क्या डर के कारण सब कुछ होना सही है और डर भी हमारे क्रमिक विकास का ही एक हिस्सा है हमारा मस्तिष्क जितने भी प्रतिक्रिया है देता है तब एक दिन में नहीं आती है यह सब हम बचपन से नहीं सीख कर आते आप देख लीजिए बंदर का एक बच्चा हो और उसको बोले दिखाएंगे आप तो वह तुरंत भाग जाएगा लेकिन उसको उसकी जगह गर्गन दिखाएंगे तो वह नहीं डरेगा मतलबी डर कहीं ना कहीं आनुवंशिक है तो आपका डर भी बेबुनियाद नहीं है डर हम को सावधान रहना सिखाता है और बताता है कि कहीं ना कहीं सामने वाली चीज का सामना हितकर नहीं है और आपको उस स्थिति से दूर रहना चाहिए डर गलत नहीं है और तब तक नहीं जब तक आप ही मानसिक स्थिति नॉर्मल है करेंगे नहीं तो उसका सामना करने के लिए हिम्मत और ताकत ताकत कहां से आएगी डर के कारण सब कुछ खोना सही नहीं है बल्कि डर के कारण गलत काम नहीं करने चाहिए डर से लोगों को अपने मान सम्मान होना पड़ता है डर के साए में रह रह कर सामाजिक अपमान सहना पड़ता है तो अपने आप पर विश्वास रखिए और डरिए नहीं
Savaal yah hai ki kya dar ke kaaran sab kuchh hona sahee hai aur dar bhee hamaare kramik vikaas ka hee ek hissa hai hamaara mastishk jitane bhee pratikriya hai deta hai tab ek din mein nahin aatee hai yah sab ham bachapan se nahin seekh kar aate aap dekh leejie bandar ka ek bachcha ho aur usako bole dikhaenge aap to vah turant bhaag jaega lekin usako usakee jagah gargan dikhaenge to vah nahin darega matalabee dar kaheen na kaheen aanuvanshik hai to aapaka dar bhee bebuniyaad nahin hai dar ham ko saavadhaan rahana sikhaata hai aur bataata hai ki kaheen na kaheen saamane vaalee cheej ka saamana hitakar nahin hai aur aapako us sthiti se door rahana chaahie dar galat nahin hai aur tab tak nahin jab tak aap hee maanasik sthiti normal hai karenge nahin to usaka saamana karane ke lie himmat aur taakat taakat kahaan se aaegee dar ke kaaran sab kuchh khona sahee nahin hai balki dar ke kaaran galat kaam nahin karane chaahie dar se logon ko apane maan sammaan hona padata hai dar ke sae mein rah rah kar saamaajik apamaan sahana padata hai to apane aap par vishvaas rakhie aur darie nahin

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
srikant pal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए srikant जी का जवाब
Student
0:38

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:51
क्या डर के कारण सब कुछ खोना यही है दोस्तों लाइक कीजिए सब्सक्राइब कीजिए गा डर के कारण सब कुछ खोना कैसे चाहिए हो सकता है क्योंकि डर ही जब तू ही नहीं है तो डर के कारण सब कुछ हो जाए तो ऐसी चीजें तो ऐसी चीज होगी कि जो चीज पता है कि है ही नहीं और उस वजह से हमने जो कुछ है वह भी छोड़ दिया तो इसके वजह से डर के कारण सब कुछ होना सही नहीं है क्योंकि हम जो बोलते डर तो इसके अगर पेड़ भी चलते की है क्या धड़के है दरअसल इज्जत नहीं करता है यह तो हमें फील होता है अगर अगर हेलो की हाल है आज के आगे चल रही है और आप के अंदर नहीं जाना चाहते और आप और आपको कोई धकेलने की कोशिश कर रहा है उससे मगर आप को डर लगता है तो वह दरवाजे में क्योंकि वहां पर फिजिकली आ गए हो जो आपको जला देगी इलेक्ट्रिक करंट है अगर कहीं पर और इलेक्ट्रिक करंट में लगातार किंग हो रहा पर आप खड़े हो रखा हाथ लग सकता है आपको डर लग रहा है तो या फिर एक खाली रास्ते पर जो कि एक एक सुनसान सी जगह हो जहां पर ऑलरेडी कुछ ऐसी घटनाएं हुई वह चोरी किया लूटपाट की और ऐसे रोड से अगर रात को आप पैदल चल रहे हो तो डर लग सकता है वाजिब है क्योंकि प्रोटेक्टेड नहीं है लेकिन अगर मैं घर बैठे बैठे सोच लो कि मेरा बिजनेस में यह कामयाब होगा क्या मैं यह रिलेशनशिप में कामयाब रहेंगे कि नहीं रहेंगे या अब मुझे इसमें मार्स मिलेंगे नहीं मिलेंगे यह दिल नहीं है क्योंकि इसके अंदर दोस्त खाली पिक्चर बनी हुई है और उस पिक्चर को आप डर रहे हो समझ रहे हो दोनों दोनों कंपैरिजन ध्यान में रखिए कि पहला जो डर है फिर मेरे सामने आ जाए तो मुझे डरना चाहिए को किसी ने मेरे मुझे धोखा हो सकता है लेकिन बाकी चीजों में अपने डरने से डरने की जरूरत नहीं आपको क्या डर आ रहा है आपको डराने आपका हाल है और आपका आपकी जो काम करने की करतूत वन बनने की क्षमता है वह काम होने की वजह से आपको आपके ऊपर डाउट आ रहा है कि आप उसको कंप्लीट कर पाओगे या नहीं कर पाऊंगी लेकिन हाल ही में अगर किसी भी चीज को कंपटीशन पर लेकर जाना है सीधी सीधी प्रोसेस उसके लिए वह प्रोसेस फॉलो करना है ग्रुप प्रोसेस फॉलो करने में हिम्मत जुटा नहीं होती है और करना पड़ता है अगले स्टेट लेने पड़ते हैं क्योंकि यह डर होता है आंसर ट्रिनिटी के कारण हां बैठा होता है कि धीरे-धीरे बढ़ता है तो नेट पैक लेने के लिए यह रोकता है मैं क्या हमें इसकी और हमेशा ध्यान रखने की जगह जो है वह पिक्चर के रूप में है और ऑफ फ्यूचर के टाइम में भी नहीं करता तो उसको हमेशा माइंड में रखो कि अगर ऐसा कुछ डर लगे तो तुरंत दिया बता दो मैं इनको की एग्जिट नहीं करता यह ही नहीं सकते प्लीज कभी नहीं तेरे बाप के प्लान होने चाहिए तभी यह सिर्फ लेनी है
Kya dar ke kaaran sab kuchh khona yahee hai doston laik keejie sabsakraib keejie ga dar ke kaaran sab kuchh khona kaise chaahie ho sakata hai kyonki dar hee jab too hee nahin hai to dar ke kaaran sab kuchh ho jae to aisee cheejen to aisee cheej hogee ki jo cheej pata hai ki hai hee nahin aur us vajah se hamane jo kuchh hai vah bhee chhod diya to isake vajah se dar ke kaaran sab kuchh hona sahee nahin hai kyonki ham jo bolate dar to isake agar ped bhee chalate kee hai kya dhadake hai darasal ijjat nahin karata hai yah to hamen pheel hota hai agar agar helo kee haal hai aaj ke aage chal rahee hai aur aap ke andar nahin jaana chaahate aur aap aur aapako koee dhakelane kee koshish kar raha hai usase magar aap ko dar lagata hai to vah daravaaje mein kyonki vahaan par phijikalee aa gae ho jo aapako jala degee ilektrik karant hai agar kaheen par aur ilektrik karant mein lagaataar king ho raha par aap khade ho rakha haath lag sakata hai aapako dar lag raha hai to ya phir ek khaalee raaste par jo ki ek ek sunasaan see jagah ho jahaan par olaredee kuchh aisee ghatanaen huee vah choree kiya lootapaat kee aur aise rod se agar raat ko aap paidal chal rahe ho to dar lag sakata hai vaajib hai kyonki protekted nahin hai lekin agar main ghar baithe baithe soch lo ki mera bijanes mein yah kaamayaab hoga kya main yah rileshanaship mein kaamayaab rahenge ki nahin rahenge ya ab mujhe isamen maars milenge nahin milenge yah dil nahin hai kyonki isake andar dost khaalee pikchar banee huee hai aur us pikchar ko aap dar rahe ho samajh rahe ho donon donon kampairijan dhyaan mein rakhie ki pahala jo dar hai phir mere saamane aa jae to mujhe darana chaahie ko kisee ne mere mujhe dhokha ho sakata hai lekin baakee cheejon mein apane darane se darane kee jaroorat nahin aapako kya dar aa raha hai aapako daraane aapaka haal hai aur aapaka aapakee jo kaam karane kee karatoot van banane kee kshamata hai vah kaam hone kee vajah se aapako aapake oopar daut aa raha hai ki aap usako kampleet kar paoge ya nahin kar paoongee lekin haal hee mein agar kisee bhee cheej ko kampateeshan par lekar jaana hai seedhee seedhee proses usake lie vah proses pholo karana hai grup proses pholo karane mein himmat juta nahin hotee hai aur karana padata hai agale stet lene padate hain kyonki yah dar hota hai aansar trinitee ke kaaran haan baitha hota hai ki dheere-dheere badhata hai to net paik lene ke lie yah rokata hai main kya hamen isakee aur hamesha dhyaan rakhane kee jagah jo hai vah pikchar ke roop mein hai aur oph phyoochar ke taim mein bhee nahin karata to usako hamesha maind mein rakho ki agar aisa kuchh dar lage to turant diya bata do main inako kee egjit nahin karata yah hee nahin sakate pleej kabhee nahin tere baap ke plaan hone chaahie tabhee yah sirph lenee hai

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:26
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न क्या डर के कारण सब कुछ होना सही है नहीं ऐसा नहीं होना चाहिए हमें कर किसी से इतना नहीं डरना चाहिए कि मैं अपने जीवन में सब कुछ खो दें अगर आपने कोई गलत काम नहीं किया है तो आपको किसी से डरने की कोई भी जरूरत नहीं है और किसी से इतना भी नहीं डरना चाहिए कि हम उनकी जिंदगी ही बर्बाद कर ले हमें अगर कोई बात है तो उसका खुलकर सामना करना चाहिए किसी से डर डर कर नहीं जीना चाहिए धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn kya dar ke kaaran sab kuchh hona sahee hai nahin aisa nahin hona chaahie hamen kar kisee se itana nahin darana chaahie ki main apane jeevan mein sab kuchh kho den agar aapane koee galat kaam nahin kiya hai to aapako kisee se darane kee koee bhee jaroorat nahin hai aur kisee se itana bhee nahin darana chaahie ki ham unakee jindagee hee barbaad kar le hamen agar koee baat hai to usaka khulakar saamana karana chaahie kisee se dar dar kar nahin jeena chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:29
नमस्कार दोस्तों पर्स में क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है तो दोस्तों जब डर आपके प्राण पर आ जाए तो सब कुछ होना निश्चित रूप से सही है क्योंकि जब तक हम तक जीवित ही नहीं रहेंगे तो ऐसा जो है संभव नहीं है कई लोग मैं देखा है कि मोबाइल कई लोग रास्ते में चोर उचक्के खेलने लग जाते हैं कई ऐसे होते हैं उदंड व्यक्ति जो आपको आगाह करते हैं सामान दे दो नहीं तो मैं चाकू मार दूंगा गोली मार दूंगा लेकिन लोग उसमें जाबाजी दिखा देते हैं तो दोस्तों ऐसा नहीं करना है वह अपने हाथ धोने के बाद जान से हाथ धोने के बाद सब कुछ खत्म है आपके पीछे बहुत लोग पूरी आते हैं माता-पिता पत्नी बच्चे हो सकते हैं तो जहां पर प्राण की रक्षा की बात है पहले प्राण आपके महत्वपूर्ण है आपने जीवित रखा रहना है कोई बात नहीं आपको डरा इतना नहीं डरना है लेकिन आपको ऐसा लगे वह आभास हो जाए यह मेरे को जानमाल की क्षति कर सकता है तो आपके पीछे हटने में समझदारी रहती है मैं बताता हूं आपको एक छोटी सी घटना हमारे यहां कुछ विवाद हो गया कुछ स्कूटर वाला जा रहा है लड़के उसको किसी व्यक्ति ने कुछ कह दिया और कॉलोनी के पास तो बात आगे बढ़ गई और उसने बंदूक निकाल ली तो जो व्यक्ति था वहां पर उसने बोला कि खिलौने किससे में डर नहीं लगता है खिलौना है तो तो उसने गोली चला दी उसके लड़के पर और अंत में वो लड़का मर गया तो ऐसे से कोई फायदा नहीं है मैंने किसी भी घटना देखी जहां पे एक रिक्शेवाले तो कुछ लड़के बैठे हुए थे और रिक्शे के पैसे नहीं दे रहे थे वह उसे दो-तीन बार जोर से बोला रिक्शे के पैसे दो तो उसने जेब में से एक बहुत बड़ा जो सवारी थी चाकू दिखाया तो शिक्षा छोड़कर भाग गया तो इसी को कहते हैं समझदार है अगर वह जान नहीं रहता तो हो सकता है उसको मार देते या चोट पहुंचा दे तो इसे समझदारी एक रिश्ता तो आता जाता रहेगा प्राण बचाना बहुत जरूरी है तो कभी भी आए जोश में आकर नहीं करना चाहिए कदम नहीं लेना चाहिए डर को भी रखना चाहिए लेकिन जहां पर कई जगह ऐसा होता है कि मैं निकटता से भी बात करनी पड़ती है दमू नहीं रहना चाहिए वहां पर हमें अपना खुलकर अपने विचार रखने चाहिए धन्यवाद
Namaskaar doston pars mein kya dar ke kaaran sab kuchh khona sahee hai to doston jab dar aapake praan par aa jae to sab kuchh hona nishchit roop se sahee hai kyonki jab tak ham tak jeevit hee nahin rahenge to aisa jo hai sambhav nahin hai kaee log main dekha hai ki mobail kaee log raaste mein chor uchakke khelane lag jaate hain kaee aise hote hain udand vyakti jo aapako aagaah karate hain saamaan de do nahin to main chaakoo maar doonga golee maar doonga lekin log usamen jaabaajee dikha dete hain to doston aisa nahin karana hai vah apane haath dhone ke baad jaan se haath dhone ke baad sab kuchh khatm hai aapake peechhe bahut log pooree aate hain maata-pita patnee bachche ho sakate hain to jahaan par praan kee raksha kee baat hai pahale praan aapake mahatvapoorn hai aapane jeevit rakha rahana hai koee baat nahin aapako dara itana nahin darana hai lekin aapako aisa lage vah aabhaas ho jae yah mere ko jaanamaal kee kshati kar sakata hai to aapake peechhe hatane mein samajhadaaree rahatee hai main bataata hoon aapako ek chhotee see ghatana hamaare yahaan kuchh vivaad ho gaya kuchh skootar vaala ja raha hai ladake usako kisee vyakti ne kuchh kah diya aur kolonee ke paas to baat aage badh gaee aur usane bandook nikaal lee to jo vyakti tha vahaan par usane bola ki khilaune kisase mein dar nahin lagata hai khilauna hai to to usane golee chala dee usake ladake par aur ant mein vo ladaka mar gaya to aise se koee phaayada nahin hai mainne kisee bhee ghatana dekhee jahaan pe ek rikshevaale to kuchh ladake baithe hue the aur rikshe ke paise nahin de rahe the vah use do-teen baar jor se bola rikshe ke paise do to usane jeb mein se ek bahut bada jo savaaree thee chaakoo dikhaaya to shiksha chhodakar bhaag gaya to isee ko kahate hain samajhadaar hai agar vah jaan nahin rahata to ho sakata hai usako maar dete ya chot pahuncha de to ise samajhadaaree ek rishta to aata jaata rahega praan bachaana bahut jarooree hai to kabhee bhee aae josh mein aakar nahin karana chaahie kadam nahin lena chaahie dar ko bhee rakhana chaahie lekin jahaan par kaee jagah aisa hota hai ki main nikatata se bhee baat karanee padatee hai damoo nahin rahana chaahie vahaan par hamen apana khulakar apane vichaar rakhane chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:59
जैसा कि दोस्तों आपका ख्याल है क्या डर के कारण सब कुछ होना सही है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है इधर हमारे क्रमिक विकास का देख ऐसा होता है तो हमारे मस्तिष्क जितने भी प्रतिक्रिया देता है सब एक दिन में हरे अंदर नहीं आ गई हम सब बचपन से सीखे है नहीं बंदर का हाल पैदा हुआ बच्चा कभी उसे पुनः दिखा कर देने की कोशिश करेगा तो तुरंत डर कर भागेगा जबकि गुलेल का डर पता ही नहीं उसको गन दिखाएगा तो नहीं डरेगा मतलब मुझे डर कहीं ना कहीं एक आनुवांशिक है आपको डर भी पर बुनाद नहीं है पर हम को सावधान होना सिखाता है और यह भी बताता है कहीं ना कहीं सामने वाली चीज का सामना हितकर नहीं है आपको अभी उसकी स्थिति को दूर रहना नहीं है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Jaisa ki doston aapaka khyaal hai kya dar ke kaaran sab kuchh hona sahee hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai idhar hamaare kramik vikaas ka dekh aisa hota hai to hamaare mastishk jitane bhee pratikriya deta hai sab ek din mein hare andar nahin aa gaee ham sab bachapan se seekhe hai nahin bandar ka haal paida hua bachcha kabhee use punah dikha kar dene kee koshish karega to turant dar kar bhaagega jabaki gulel ka dar pata hee nahin usako gan dikhaega to nahin darega matalab mujhe dar kaheen na kaheen ek aanuvaanshik hai aapako dar bhee par bunaad nahin hai par ham ko saavadhaan hona sikhaata hai aur yah bhee bataata hai kaheen na kaheen saamane vaalee cheej ka saamana hitakar nahin hai aapako abhee usakee sthiti ko door rahana nahin hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है?Kya Dar Ke Karan Sab Kuch Khona Sahi Hai
Dukh mitane ka upay Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dukh जी का जवाब
Unknown
1:27
कृष्णा आपने पूछा क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है कुछ भी खोने की आवश्यकता नहीं है जो कोई सुन ना हमें जन्म से पहले ही हो सकती और रात में जिए मुझे मृत्यु का भय लगता था कि वह मेरी जमीन हड़पने के लिए मेरे गांव के लोग वकील राजनेता और हिस्ट्रीशीटर हुआ कि हर दो-तीन मिनट धमकी दी थी कि 2 महीने में एक बार का नियम बना लिया था कि हम यह जमीन भेज दो हमें दे दो तो फिर बच्चों को भी तो लगता ही है तो मेरा दर्द कैसे मिटा कैसे मेरी सहायता की मदद की मैंने वाकई में काफी ऑडियो अपलोड किए एक-एक करके आप ध्यान से सुने और अपना धैर्य समाप्त करें कुछ भी त्याग नहीं झूठ नहीं है सिर्फ भक्ति और प्राथमिक संस्कृत अरे जब भक्ति प्रार्थना करेंगे तो आप उनके साथ हो जाएंगे आत्मा की तरह निकल जाएगी आपकी मस्ती करो कि उनके पास पहुंच जाएगी फिर आपको दुख हो जान नहीं खोज किसने की थी क्या साधना करनी होगी मैं नहीं पता है इनके लिए क्या नियम पालन करना बताएं तो आप मौके पर चाहिए वह आप एक-एक करके सब सुनी और अपना सब से मिठाई है कुछ भी सच पूछिए तो कल है पर मैं आपको बताऊंगा और भक्ति भाभी भोजपुरी में भोजपुरी गीत
Krshna aapane poochha kya dar ke kaaran sab kuchh khona sahee hai kuchh bhee khone kee aavashyakata nahin hai jo koee sun na hamen janm se pahale hee ho sakatee aur raat mein jie mujhe mrtyu ka bhay lagata tha ki vah meree jameen hadapane ke lie mere gaanv ke log vakeel raajaneta aur histreesheetar hua ki har do-teen minat dhamakee dee thee ki 2 maheene mein ek baar ka niyam bana liya tha ki ham yah jameen bhej do hamen de do to phir bachchon ko bhee to lagata hee hai to mera dard kaise mita kaise meree sahaayata kee madad kee mainne vaakee mein kaaphee odiyo apalod kie ek-ek karake aap dhyaan se sune aur apana dhairy samaapt karen kuchh bhee tyaag nahin jhooth nahin hai sirph bhakti aur praathamik sanskrt are jab bhakti praarthana karenge to aap unake saath ho jaenge aatma kee tarah nikal jaegee aapakee mastee karo ki unake paas pahunch jaegee phir aapako dukh ho jaan nahin khoj kisane kee thee kya saadhana karanee hogee main nahin pata hai inake lie kya niyam paalan karana bataen to aap mauke par chaahie vah aap ek-ek karake sab sunee aur apana sab se mithaee hai kuchh bhee sach poochhie to kal hai par main aapako bataoonga aur bhakti bhaabhee bhojapuree mein bhojapuree geet

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या डर के कारण सब कुछ खोना सही है डर के कारण सब कुछ खोना
URL copied to clipboard