#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?

Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:01
अगर सबकुछ मोह माया है तो लोग किसी क्यों फंसाया जाता है और जब हमारा लगाओ अपनी दौलत से अपने घर से परिवार से इन सब चीजों से हो जाता है तो निश्चित तौर पर हम एक दूसरे के प्रति आकर्षित हो जाते हैं लालायित हो जाते हैं और उसे जीवन के यथार्थ को आप जानते हैं कि मनुष्य अपने जीवन में धन का बर्थडे बना रहा हूं तो छोड़ कर जा रहा तो कहीं अपने कर्तव्यों को क्यों को अपने पुश्तैनी जमीनों को यार बहुत सारी चीजों को मानता है कि वह मेरा है तो छोड़ कर क्यों जा रहा है स्कोर जानना चाहता था और इससे अलग नहीं हो सकता एक पशु को मालूम है कि जो है यह हमारा नहीं है लेकिन फिर भी देख लो अपने बच्चों को कैसे पालता कैसे भेज दो बड़ा होने के बाद वही तो सभी को है और जो कहते हैं कि हमारा एक ही कस्टम जिसको है और इसकी को सिस्टम से जुड़े हुए हैं चीजों को करता है
Agar sabakuchh moh maaya hai to log kisee kyon phansaaya jaata hai aur jab hamaara lagao apanee daulat se apane ghar se parivaar se in sab cheejon se ho jaata hai to nishchit taur par ham ek doosare ke prati aakarshit ho jaate hain laalaayit ho jaate hain aur use jeevan ke yathaarth ko aap jaanate hain ki manushy apane jeevan mein dhan ka barthade bana raha hoon to chhod kar ja raha to kaheen apane kartavyon ko kyon ko apane pushtainee jameenon ko yaar bahut saaree cheejon ko maanata hai ki vah mera hai to chhod kar kyon ja raha hai skor jaanana chaahata tha aur isase alag nahin ho sakata ek pashu ko maaloom hai ki jo hai yah hamaara nahin hai lekin phir bhee dekh lo apane bachchon ko kaise paalata kaise bhej do bada hone ke baad vahee to sabhee ko hai aur jo kahate hain ki hamaara ek hee kastam jisako hai aur isakee ko sistam se jude hue hain cheejon ko karata hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:58
अगर सब कुछ मोह माया तो लोग इसमें फंसे हुए हैं दोस्तों यह बात तो सही है कि हर चीज जो है मोह माया है परंतु लोग इसलिए हैं क्योंकि इसके अंदर हंसना भी जरूरी है यदि इसके अंदर तो फिर समझ लीजिए मानव की उत्पत्ति जो है वह खत्म हो जाएगी क्योंकि हम जानते भी हमारी से मनुष्य पैदा नहीं उठाओगे नहीं तो आपके पास पैसा नहीं आएगा तो आप खाओगे क्या करना छोड़ दें तो हम खाएंगे क्या आप तो जरूर करनी पड़ती है परिणाम भोजन करना है
Agar sab kuchh moh maaya to log isamen phanse hue hain doston yah baat to sahee hai ki har cheej jo hai moh maaya hai parantu log isalie hain kyonki isake andar hansana bhee jarooree hai yadi isake andar to phir samajh leejie maanav kee utpatti jo hai vah khatm ho jaegee kyonki ham jaanate bhee hamaaree se manushy paida nahin uthaoge nahin to aapake paas paisa nahin aaega to aap khaoge kya karana chhod den to ham khaenge kya aap to jaroor karanee padatee hai parinaam bhojan karana hai

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
srikant pal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए srikant जी का जवाब
Student
0:39

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
2:08
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं देखे वाकई मोह माया है हम जानते हैं कि इस संसार में कोई किसी का नहीं है सब खाली हाथ आते हैं और खाली हाथ जाते हैं कोई किसी यहां से चाहे जितना बड़ा राजा हो या रंक हो कुछ लेकर नहीं जाता है लेकिन यहां आकर के जो हमें कर्म करने हैं अपने कर्मों के बंधन में बंध करके कोई सत्कर्म करता है और कोई दुष्कर्म करता है कोई उस माया के वस्त्रों को पहनकर के जीवन की वास्तविकता को खो देता है और वही साधु-संत जो है वह बिल्कुल क्रिकेट में अपने आपको प्रसन्नता महसूस करते हैं जो कुछ मिला उसी को खाली है गंगाजल से अपना अपने आप में स्नान किया और पेड़ पत्ती और जो कुछ उन्होंने सामान मिला वो खा लिया उनके लिए सुख और दुख सामान होते हैं हा सारे मौसम परिवर्तन बराबर होते हैं इसलिए जो है यह मोह माया जो है मन का एक भ्रम होता है कि माया महा ठग राम जाने तो यह माया बहुत थकी है चेक करके आपके मन के भ्रम करते की अच्छी-अच्छी चीजें जो है उसमें आपको फंसाए रखेगी ताकि आप अपने जीवन की वास्तविकता को ना समझ पाए वास्तविकता तो यह है कि मृत्यु सत्य है जब मैं तो सत्य है कुछ लिए नहीं जाना है तो हम कल के लिए किस को बचा कर के रखा है जो होगा कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन अपना कर्म करते जाओ अच्छे अच्छे कार्य करते जाओ मानवता की सेवा करते जाओ वही सबसे बड़ा काम है और वही माया से आपको व्रत रखेगा क्योंकि जब वहां जाओगे आप ईश्वर के पास आपकी आत्मा जाएगी तो पूछेंगे अभी आपने क्या काम किया हमने तो आपको सत्कर्म करने के लिए भेजा था लेकिन आपने तो अपने जीवन में जो कर्म है जिसका मैंने आपको अधिकार दिया था आपने उस अधिकारों का खंडन किया है इसलिए कर्म पर ही आपका अधिकार है और जो नहीं करता माया के बसाकर के भ्रम में पड़ जाता है और अपने आपको सदस्य सम्मानित करें और घमंड की बातें करता है और घमंड में आकर लोगों को तकलीफ पहुंचाता है अपनी शक्ति का दुरुपयोग करता है ऐसे लोग जीवन में हमेशा दुखी होते हैं
Agar sab kuchh moh maaya hai to log isamen kyon phanse hue hain dekhe vaakee moh maaya hai ham jaanate hain ki is sansaar mein koee kisee ka nahin hai sab khaalee haath aate hain aur khaalee haath jaate hain koee kisee yahaan se chaahe jitana bada raaja ho ya rank ho kuchh lekar nahin jaata hai lekin yahaan aakar ke jo hamen karm karane hain apane karmon ke bandhan mein bandh karake koee satkarm karata hai aur koee dushkarm karata hai koee us maaya ke vastron ko pahanakar ke jeevan kee vaastavikata ko kho deta hai aur vahee saadhu-sant jo hai vah bilkul kriket mein apane aapako prasannata mahasoos karate hain jo kuchh mila usee ko khaalee hai gangaajal se apana apane aap mein snaan kiya aur ped pattee aur jo kuchh unhonne saamaan mila vo kha liya unake lie sukh aur dukh saamaan hote hain ha saare mausam parivartan baraabar hote hain isalie jo hai yah moh maaya jo hai man ka ek bhram hota hai ki maaya maha thag raam jaane to yah maaya bahut thakee hai chek karake aapake man ke bhram karate kee achchhee-achchhee cheejen jo hai usamen aapako phansae rakhegee taaki aap apane jeevan kee vaastavikata ko na samajh pae vaastavikata to yah hai ki mrtyu saty hai jab main to saty hai kuchh lie nahin jaana hai to ham kal ke lie kis ko bacha kar ke rakha hai jo hoga karmanyevaadhikaaraste ma phaleshu kadaachan apana karm karate jao achchhe achchhe kaary karate jao maanavata kee seva karate jao vahee sabase bada kaam hai aur vahee maaya se aapako vrat rakhega kyonki jab vahaan jaoge aap eeshvar ke paas aapakee aatma jaegee to poochhenge abhee aapane kya kaam kiya hamane to aapako satkarm karane ke lie bheja tha lekin aapane to apane jeevan mein jo karm hai jisaka mainne aapako adhikaar diya tha aapane us adhikaaron ka khandan kiya hai isalie karm par hee aapaka adhikaar hai aur jo nahin karata maaya ke basaakar ke bhram mein pad jaata hai aur apane aapako sadasy sammaanit karen aur ghamand kee baaten karata hai aur ghamand mein aakar logon ko takaleeph pahunchaata hai apanee shakti ka durupayog karata hai aise log jeevan mein hamesha dukhee hote hain

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:54
सवाल ये है कि अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं और यह सच है कि सब मोह माया है लेकिन हम इस भवसागर को मोह और माया की दृष्टि से देख ही क्यों रहे हैं हम संसार को प्रेरक दृष्टि से भी तो देख सकते हैं ऐसा क्या हो गया कि यह कहने की जरूरत पड़ रही है कि सब मोह माया है संसार को कुछ अच्छा सीखने की दृष्टि से भी देख सकते हैं हम प्रेरणा ग्रहण की जा सकती है यह बिल्कुल सही ऐसा ही है कि 1 दिन तो मरना ही है तो खाते क्यों जीवन की रचना परमात्मा द्वारा कुछ महान कार्य की पूर्ति के लिए है क्योंकि हम प्राणियों में सर्वोपरि हैं तुम हो माया में लोग इसलिए फंसे हुए हैं कि इस मोह माया के बीच रहकर भी इसे बच्चे रहकर प्रभु की स्तुति करने के लिए और अपने अच्छे कर्मों द्वारा मोक्ष की प्राप्ति हेतु
Savaal ye hai ki agar sab kuchh moh maaya hai to log isamen kyon phanse hue hain aur yah sach hai ki sab moh maaya hai lekin ham is bhavasaagar ko moh aur maaya kee drshti se dekh hee kyon rahe hain ham sansaar ko prerak drshti se bhee to dekh sakate hain aisa kya ho gaya ki yah kahane kee jaroorat pad rahee hai ki sab moh maaya hai sansaar ko kuchh achchha seekhane kee drshti se bhee dekh sakate hain ham prerana grahan kee ja sakatee hai yah bilkul sahee aisa hee hai ki 1 din to marana hee hai to khaate kyon jeevan kee rachana paramaatma dvaara kuchh mahaan kaary kee poorti ke lie hai kyonki ham praaniyon mein sarvopari hain tum ho maaya mein log isalie phanse hue hain ki is moh maaya ke beech rahakar bhee ise bachche rahakar prabhu kee stuti karane ke lie aur apane achchhe karmon dvaara moksh kee praapti hetu

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:25
खुश रहने की जगह तो कुछ मोह माया है तो लोग इसमें फंसे हुए क्यों है तो देखे हर एक को इस में फंसा हुआ है इससे ऊपर कोई भी नहीं हो पाता है और दोस्तों पर हो जाता है वह साधु संतों की बन जाता है बहुत जरूरी आपको जीवन में संतुष्ट रहना अपने दायित्वों को पूरी तरीके से निभाना अपने कर्मों को करना लेकिन उस मोह माया के जाल में फस कर के उसके गुलाम बन जाना कहीं से भी सही नहीं है आपका दिन शुभ रहे थे निबंध
Khush rahane kee jagah to kuchh moh maaya hai to log isamen phanse hue kyon hai to dekhe har ek ko is mein phansa hua hai isase oopar koee bhee nahin ho paata hai aur doston par ho jaata hai vah saadhu santon kee ban jaata hai bahut jarooree aapako jeevan mein santusht rahana apane daayitvon ko pooree tareeke se nibhaana apane karmon ko karana lekin us moh maaya ke jaal mein phas kar ke usake gulaam ban jaana kaheen se bhee sahee nahin hai aapaka din shubh rahe the nibandh

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
Manju Bolkar App
Top Speaker,Level 88
सुनिए Manju जी का जवाब
Unknown
1:45
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों करते हुए तुझे कि जब आप कहते हैं वह मतलब चाहत माया जो कि कुछ नहीं होता है लेकिन रोशन होता तो यह जो चाहत है हमारी यह कभी खत्म नहीं होती है हमें जब किसी चीज की चाहत होती है जब हमें वह मिल जाती है सिर्फ हमारी चाहत पढ़ते रहती है विश्व का कभी अंत नहीं होता है हमेशा हमारी चाहत बढ़ती ही रहती है और माया तो आप सब जानते हैं जिसमें सच्चाई नहीं होती है तो यह लोग इसमें इतनी फंसे हुए हैं क्योंकि हमें बहुत ज्यादा आकर्षित करती है हमें बड़े लुभा में लगते हैं हमें लगता है कि जो कि पीछे इतने पागल हो जाते हैं और चाहे वह पैसा हो रुसवा हो ना हो जो भी हो और इंजन सारिक मोह माया के पीछे लोग कितना भागते हैं यह सोच कर कि इसमें सुकून है चाहती है खुशी है लेकिन यह पल भर की होती है कुछ समय के बाद हमें दुखी कर देता है तो इसलिए इसे मोहमाया कहते हैं कि हमें अनंत सुख जो कहते हैं ना वह नहीं मिल सकता है जो इंसान को जो सुख की तलाश होती है वह नहीं मिलता है यह सब पल भर के होते इसलिए मोह माया किया जाता है सांसारिक सुख हमें हमेशा के लिए सुखी नहीं बना सकता है बल्कि उसमें दुख जाता है 2G खजाना लुटा अपनी और आकर्षित होने की वजह से लोग इसके पीछे भागते हैं मर जाएंगे
Agar sab kuchh moh maaya hai to log isamen kyon karate hue tujhe ki jab aap kahate hain vah matalab chaahat maaya jo ki kuchh nahin hota hai lekin roshan hota to yah jo chaahat hai hamaaree yah kabhee khatm nahin hotee hai hamen jab kisee cheej kee chaahat hotee hai jab hamen vah mil jaatee hai sirph hamaaree chaahat padhate rahatee hai vishv ka kabhee ant nahin hota hai hamesha hamaaree chaahat badhatee hee rahatee hai aur maaya to aap sab jaanate hain jisamen sachchaee nahin hotee hai to yah log isamen itanee phanse hue hain kyonki hamen bahut jyaada aakarshit karatee hai hamen bade lubha mein lagate hain hamen lagata hai ki jo ki peechhe itane paagal ho jaate hain aur chaahe vah paisa ho rusava ho na ho jo bhee ho aur injan saarik moh maaya ke peechhe log kitana bhaagate hain yah soch kar ki isamen sukoon hai chaahatee hai khushee hai lekin yah pal bhar kee hotee hai kuchh samay ke baad hamen dukhee kar deta hai to isalie ise mohamaaya kahate hain ki hamen anant sukh jo kahate hain na vah nahin mil sakata hai jo insaan ko jo sukh kee talaash hotee hai vah nahin milata hai yah sab pal bhar ke hote isalie moh maaya kiya jaata hai saansaarik sukh hamen hamesha ke lie sukhee nahin bana sakata hai balki usamen dukh jaata hai 2g khajaana luta apanee aur aakarshit hone kee vajah se log isake peechhe bhaagate hain mar jaenge

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:37
हेलो रिबन स्वागत है आपका आपका प्रश्न है अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फसे हुए हैं तो फ्रेंड से यह तो हम सबको पता होगा कि यह सब कुछ मोह माया है एक दिन हमें इसे सब कुछ छोड़ कर जाना पड़ता है और हमारी मृत्यु होती है लेकिन फिर भी लोग मोह माया के बंधन में पैसे होते हैं क्योंकि इतना लगाव होता है हमें अपने लोगों से अपने बच्चों से तो लोग उनसे मुंह करते हैं और अपनी कमाई हुई धन-दौलत संपत्ति सबसे मोह होता है इसीलिए वह मोर के बंधन के कारण इसमें पैसे होते हैं लेकिन मालूम सब को होता है कि यह सब करना पड़ता है फिर भी लोग में बंधन तोड़ नहीं पाते हैं धन्यवाद
Helo riban svaagat hai aapaka aapaka prashn hai agar sab kuchh moh maaya hai to log isamen kyon phase hue hain to phrend se yah to ham sabako pata hoga ki yah sab kuchh moh maaya hai ek din hamen ise sab kuchh chhod kar jaana padata hai aur hamaaree mrtyu hotee hai lekin phir bhee log moh maaya ke bandhan mein paise hote hain kyonki itana lagaav hota hai hamen apane logon se apane bachchon se to log unase munh karate hain aur apanee kamaee huee dhan-daulat sampatti sabase moh hota hai iseelie vah mor ke bandhan ke kaaran isamen paise hote hain lekin maaloom sab ko hota hai ki yah sab karana padata hai phir bhee log mein bandhan tod nahin paate hain dhanyavaad

bolkar speaker
अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं?Agar Sab Kuch Moh Maya Hai To Log Isme Kyo Fase Hue Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:36
दोस्तों आप का सवाल है अगर सब कुछ मोह माया है तो लोग इसमें क्यों फंसे हुए हैं तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है हमारे ज्यादातर लोग मोह माया के चक्कर में नहीं रहते हैं क्योंकि उनको अपने हित को साधने के लिए ही वह इनके जंजाल में फंसे हुए रहते हैं जो कभी इसे छुटकारा नहीं ले पाते हैं क्योंकि हमेशा उनका स्वार्थ की भावना ही आगे बढ़ती रहती है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Doston aap ka savaal hai agar sab kuchh moh maaya hai to log isamen kyon phanse hue hain to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai hamaare jyaadaatar log moh maaya ke chakkar mein nahin rahate hain kyonki unako apane hit ko saadhane ke lie hee vah inake janjaal mein phanse hue rahate hain jo kabhee ise chhutakaara nahin le paate hain kyonki hamesha unaka svaarth kee bhaavana hee aage badhatee rahatee hai dhanyavaad saathiyon khush raho

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अगर सब कुछ एक दम से खत्म हो जाए क्या होगा ?.. सब कुछ मोहम्मद पर छोड़ दे कव्वाली
URL copied to clipboard