#undefined

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:59
नहीं कि हमारे शरीर और यूरिक एसिड का अटैक क्यों होता है और इसे नियंत्रित करने का क्या तरीका है इसे यूरिक अटैक होने का कारण यह होता है कि हमारे खान-पान और लाइफ स्टाइल में जो बदलाव कर रहे हैं इस सबसे ज्यादा असर कर रहा है यही कारण है कि हमारे खान-पान से ही यूरिक एसिड का टेक बढ़ता जा रहा है इसे हम रोकथाम के लिए इसे रोकने के लिए ऐसे कम करने के लिए हम क्या कर सकते हैं जो रेड मीट हैं सीफूड है उसके अमन दाल जो हमारी सबसे ज्यादा जुदाई होती है जो राहर की दाल होती है इसमें बहुत ज्यादा यूरिक एसिड बढ़ाने का मात्रा होती है जो दाल होती है इसे राजमा मशरूम गोभी टमाटर मटर पनीर भिंडी कुछ और भी फल है अरबी और चावल चावल जो खाते हैं चावल इसमें क्या होता है यूरिक एसिड भी बनाने का बहुत ज्यादा मात्रा में इसके गुण होते हैं तो कुछ ऐसे जो फल है इसे हमें खाना परहेज कर देना चाहिए इसके साथ-साथ क्या होता है कि हमारे खान-पान में सुधार करने के लिए हाई फाइबर फ्रूट उठ मीठा दलिया 20 राउंड खाने से और व्यायाम योगा करने से इसे हम क्या कर सकते हैं सही कर सकते हैं मतलब वह जो चीजें हैं कि नहीं खाने चाहिए खाने वाली चीजें हैं जो फाइबर फूड जिसे आदमी मिल है दलिया है ब्रिंग्स फिर ब्राउन है राइस फ्राई कौन सा राइस ब्राउन चावल आते हैं उसे आप खा सकते हैं और व्यायाम योगा करने से भी यूरिक एसिड की मात्रा कम किया जा सकता है कुछ लोग इसे नॉर्मल समझते हैं लेकिन बहुत गंभीर समस्या है जो हमें हल्के में नहीं लेना चाहिए तू इस तरीके से हम अगर कंट्रोल भी कर सकते हैं और हम खाने की चीजों पर बहस करके और कुछ डॉक्टर की भी सलाह ले सकते हैं क्योंकि यूरिक एसिड ज्योति है वह बढ़ने से हमारी जोड़ों में बहुत ज्यादा दर्द होने लगता है और हमें बहुत ज्यादा परेशानी होने लगती हैं
Nahin ki hamaare shareer aur yoorik esid ka ataik kyon hota hai aur ise niyantrit karane ka kya tareeka hai ise yoorik ataik hone ka kaaran yah hota hai ki hamaare khaan-paan aur laiph stail mein jo badalaav kar rahe hain is sabase jyaada asar kar raha hai yahee kaaran hai ki hamaare khaan-paan se hee yoorik esid ka tek badhata ja raha hai ise ham rokathaam ke lie ise rokane ke lie aise kam karane ke lie ham kya kar sakate hain jo red meet hain seephood hai usake aman daal jo hamaaree sabase jyaada judaee hotee hai jo raahar kee daal hotee hai isamen bahut jyaada yoorik esid badhaane ka maatra hotee hai jo daal hotee hai ise raajama masharoom gobhee tamaatar matar paneer bhindee kuchh aur bhee phal hai arabee aur chaaval chaaval jo khaate hain chaaval isamen kya hota hai yoorik esid bhee banaane ka bahut jyaada maatra mein isake gun hote hain to kuchh aise jo phal hai ise hamen khaana parahej kar dena chaahie isake saath-saath kya hota hai ki hamaare khaan-paan mein sudhaar karane ke lie haee phaibar phroot uth meetha daliya 20 raund khaane se aur vyaayaam yoga karane se ise ham kya kar sakate hain sahee kar sakate hain matalab vah jo cheejen hain ki nahin khaane chaahie khaane vaalee cheejen hain jo phaibar phood jise aadamee mil hai daliya hai brings phir braun hai rais phraee kaun sa rais braun chaaval aate hain use aap kha sakate hain aur vyaayaam yoga karane se bhee yoorik esid kee maatra kam kiya ja sakata hai kuchh log ise normal samajhate hain lekin bahut gambheer samasya hai jo hamen halke mein nahin lena chaahie too is tareeke se ham agar kantrol bhee kar sakate hain aur ham khaane kee cheejon par bahas karake aur kuchh doktar kee bhee salaah le sakate hain kyonki yoorik esid jyoti hai vah badhane se hamaaree jodon mein bahut jyaada dard hone lagata hai aur hamen bahut jyaada pareshaanee hone lagatee hain

और जवाब सुनें

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:59
नहीं कि हमारे शरीर और यूरिक एसिड का अटैक क्यों होता है और इसे नियंत्रित करने का क्या तरीका है इसे यूरिक अटैक होने का कारण यह होता है कि हमारे खान-पान और लाइफ स्टाइल में जो बदलाव कर रहे हैं इस सबसे ज्यादा असर कर रहा है यही कारण है कि हमारे खान-पान से ही यूरिक एसिड का टेक बढ़ता जा रहा है इसे हम रोकथाम के लिए इसे रोकने के लिए ऐसे कम करने के लिए हम क्या कर सकते हैं जो रेड मीट हैं सीफूड है उसके अमन दाल जो हमारी सबसे ज्यादा जुदाई होती है जो राहर की दाल होती है इसमें बहुत ज्यादा यूरिक एसिड बढ़ाने का मात्रा होती है जो दाल होती है इसे राजमा मशरूम गोभी टमाटर मटर पनीर भिंडी कुछ और भी फल है अरबी और चावल चावल जो खाते हैं चावल इसमें क्या होता है यूरिक एसिड भी बनाने का बहुत ज्यादा मात्रा में इसके गुण होते हैं तो कुछ ऐसे जो फल है इसे हमें खाना परहेज कर देना चाहिए इसके साथ-साथ क्या होता है कि हमारे खान-पान में सुधार करने के लिए हाई फाइबर फ्रूट उठ मीठा दलिया 20 राउंड खाने से और व्यायाम योगा करने से इसे हम क्या कर सकते हैं सही कर सकते हैं मतलब वह जो चीजें हैं कि नहीं खाने चाहिए खाने वाली चीजें हैं जो फाइबर फूड जिसे आदमी मिल है दलिया है ब्रिंग्स फिर ब्राउन है राइस फ्राई कौन सा राइस ब्राउन चावल आते हैं उसे आप खा सकते हैं और व्यायाम योगा करने से भी यूरिक एसिड की मात्रा कम किया जा सकता है कुछ लोग इसे नॉर्मल समझते हैं लेकिन बहुत गंभीर समस्या है जो हमें हल्के में नहीं लेना चाहिए तू इस तरीके से हम अगर कंट्रोल भी कर सकते हैं और हम खाने की चीजों पर बहस करके और कुछ डॉक्टर की भी सलाह ले सकते हैं क्योंकि यूरिक एसिड ज्योति है वह बढ़ने से हमारी जोड़ों में बहुत ज्यादा दर्द होने लगता है और हमें बहुत ज्यादा परेशानी होने लगती हैं
Nahin ki hamaare shareer aur yoorik esid ka ataik kyon hota hai aur ise niyantrit karane ka kya tareeka hai ise yoorik ataik hone ka kaaran yah hota hai ki hamaare khaan-paan aur laiph stail mein jo badalaav kar rahe hain is sabase jyaada asar kar raha hai yahee kaaran hai ki hamaare khaan-paan se hee yoorik esid ka tek badhata ja raha hai ise ham rokathaam ke lie ise rokane ke lie aise kam karane ke lie ham kya kar sakate hain jo red meet hain seephood hai usake aman daal jo hamaaree sabase jyaada judaee hotee hai jo raahar kee daal hotee hai isamen bahut jyaada yoorik esid badhaane ka maatra hotee hai jo daal hotee hai ise raajama masharoom gobhee tamaatar matar paneer bhindee kuchh aur bhee phal hai arabee aur chaaval chaaval jo khaate hain chaaval isamen kya hota hai yoorik esid bhee banaane ka bahut jyaada maatra mein isake gun hote hain to kuchh aise jo phal hai ise hamen khaana parahej kar dena chaahie isake saath-saath kya hota hai ki hamaare khaan-paan mein sudhaar karane ke lie haee phaibar phroot uth meetha daliya 20 raund khaane se aur vyaayaam yoga karane se ise ham kya kar sakate hain sahee kar sakate hain matalab vah jo cheejen hain ki nahin khaane chaahie khaane vaalee cheejen hain jo phaibar phood jise aadamee mil hai daliya hai brings phir braun hai rais phraee kaun sa rais braun chaaval aate hain use aap kha sakate hain aur vyaayaam yoga karane se bhee yoorik esid kee maatra kam kiya ja sakata hai kuchh log ise normal samajhate hain lekin bahut gambheer samasya hai jo hamen halke mein nahin lena chaahie too is tareeke se ham agar kantrol bhee kar sakate hain aur ham khaane kee cheejon par bahas karake aur kuchh doktar kee bhee salaah le sakate hain kyonki yoorik esid jyoti hai vah badhane se hamaaree jodon mein bahut jyaada dard hone lagata hai aur hamen bahut jyaada pareshaanee hone lagatee hain

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:42
आपका सवाल है हमारे शरीर में यूरिक एसिड का अटैक क्यों होता है और इसे नियंत्रित करने का क्या तरीका है तो साथियों आपके सवाल का उत्तर हमारे शरीर में यूरिक एसिड काटे की असली होता है क्योंकि हम समय पर पेशाब करने नहीं जाते हैं और अपने हिसाब समय पर नहीं जाने की वजह से हमारे शरीर में यूरिक एसिड का अटैक ज्यादा होता है इसलिए समय पर ही पेशाब करने के लिए जाना चाहिए और इससे हमारा यूरिक एसिड कंट्रोल होने का फायदा मिलेगा धन्यवाद साथियों खुश रहो
Aapaka savaal hai hamaare shareer mein yoorik esid ka ataik kyon hota hai aur ise niyantrit karane ka kya tareeka hai to saathiyon aapake savaal ka uttar hamaare shareer mein yoorik esid kaate kee asalee hota hai kyonki ham samay par peshaab karane nahin jaate hain aur apane hisaab samay par nahin jaane kee vajah se hamaare shareer mein yoorik esid ka ataik jyaada hota hai isalie samay par hee peshaab karane ke lie jaana chaahie aur isase hamaara yoorik esid kantrol hone ka phaayada milega dhanyavaad saathiyon khush raho

Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
2:21
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र काम का बोल कर एक पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है हमारे शरीर पर यूरिक एसिड अटैक क्यों होता है और इसे नियंत्रित करने का क्या तरीका है तुझी मित्र हमारे शरीर पर यूरिक एसिड के अटैक होने के कई कारण हैं उनमें से पहला कारण जेनेटिक दूसरा कारण होता है गलत डाइट या खानपान तीसरा कारण होता है रेड मीट सीफूड दाल राजमा पनीर और चावल जैसे खाने से भी एसिड बढ़ता है चौथा कारण होता है कि अधिक समय तक खाली पेट रहना भी एसिड अटैक का कारण बनता है डायबिटीज के मरीजों को भी एसिड अटैक एक मुख्य कारण बन जाता है मोटापा और स्ट्रेस भी एक कारण होता है इसको नियंत्रित करने के लिए हमको अपने डाइट में यूरिक एसिड की मात्रा की सीमा रखनी पड़ती है और जिन फूड में ड्यूरिंग नाम का पदार्थ अधिक मात्रा में होता है उसे लेना कम कर देना चाहिए मीट सीफूड आदि पाचन के बाद अधिक मात्रा में यूरिक एसिड का निर्माण करते हैं तो ऐसी चीजों को खाने से हमको बचाव रखना चाहिए जैसे मीट और घर की मछली मटन मशरूम मटर मशरूम ऐसी चीजें हैं इनको खाने से प्रोटीन की मात्रा बढ़ती है और ऐसे भी बढ़ता है तो हमको ऐसी चीजों को खाने से परहेज करना चाहिए इसके साथ-साथ चीनी युक्त पेय पदार्थों का भी कम प्रयोग करना चाहिए और अधिक पानी का प्रयोग करना चाहिए या नहीं हमको अधिक पानी पीना चाहिए अपनी डाइट में हमको ऐसे पदार्थों का किया ऐसी खाद्य वस्तुओं का प्रयोग करना चाहिए जिनमें फाइबर अधिक मात्रा में हो इसके साथ-साथ हम को सोने के लिए कम से कम अधिक से अधिक नींद लेनी चाहिए और कम से कम 2 या 2 या 3 घंटे पहले डिसकस स्क्रीन का इस्तेमाल बंद करने कर देना चाहिए और लंच के बाद आपको कभी नहीं लेनी चाहिए तो मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr kaam ka bol kar ek par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai hamaare shareer par yoorik esid ataik kyon hota hai aur ise niyantrit karane ka kya tareeka hai tujhee mitr hamaare shareer par yoorik esid ke ataik hone ke kaee kaaran hain unamen se pahala kaaran jenetik doosara kaaran hota hai galat dait ya khaanapaan teesara kaaran hota hai red meet seephood daal raajama paneer aur chaaval jaise khaane se bhee esid badhata hai chautha kaaran hota hai ki adhik samay tak khaalee pet rahana bhee esid ataik ka kaaran banata hai daayabiteej ke mareejon ko bhee esid ataik ek mukhy kaaran ban jaata hai motaapa aur stres bhee ek kaaran hota hai isako niyantrit karane ke lie hamako apane dait mein yoorik esid kee maatra kee seema rakhanee padatee hai aur jin phood mein dyooring naam ka padaarth adhik maatra mein hota hai use lena kam kar dena chaahie meet seephood aadi paachan ke baad adhik maatra mein yoorik esid ka nirmaan karate hain to aisee cheejon ko khaane se hamako bachaav rakhana chaahie jaise meet aur ghar kee machhalee matan masharoom matar masharoom aisee cheejen hain inako khaane se proteen kee maatra badhatee hai aur aise bhee badhata hai to hamako aisee cheejon ko khaane se parahej karana chaahie isake saath-saath cheenee yukt pey padaarthon ka bhee kam prayog karana chaahie aur adhik paanee ka prayog karana chaahie ya nahin hamako adhik paanee peena chaahie apanee dait mein hamako aise padaarthon ka kiya aisee khaady vastuon ka prayog karana chaahie jinamen phaibar adhik maatra mein ho isake saath-saath ham ko sone ke lie kam se kam adhik se adhik neend lenee chaahie aur kam se kam 2 ya 2 ya 3 ghante pahale disakas skreen ka istemaal band karane kar dena chaahie aur lanch ke baad aapako kabhee nahin lenee chaahie to mitr yah javaab achchha laga ho to krpaya sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen dhanyavaad

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
2:00
हमारे शरीर में यूरिक एसिड का अटैक क्यों होता है अब से नियंत्रित करने का क्या तरीका है लेकिन जब हमारे शरीर में एसिडिटी की मात्रा बढ़ जाती जब हम एंटीपोर्ट खाते हैं इनपुट में क्या होते जैसे दूध में हमने नमक ले लिया खाना खाने के तुरंत बाद हमने चाय पी लिया स्पीड वाली चीज है जो है जिसे नींबू का रस हमने ज्यादा ले लिया अंडा खाने के बाद हमने चाय पी लिया दिन नींबू वाली चीजें खाली दही के साथ हमने एसिड वाली चीजें नमक वगैरह उस में डाल कर के ले लिया ले दही में शक्कर के लिए कहा जाता है तो इन सब चीजों से जेसीडी डीजल शरीर में एसिड की मात्रा अधिक बढ़ जाती है तो वह यूरिया बनाने लगता है और वह यूरिया जो है शरीर के अंदर जो है जहां जोड़ होते हैं वहां जाकर को जम जाता है और खास तौर से सबसे ज्यादा अरहर की दाल में तुवर की दाल में यूरिक एसिड बहुत ज्यादा बनता है इसलिए इसको एक एक दिन छोड़कर कि कम से कम खाइए हफ्ते में 3 दिन मूंग की दाल खाई है एकदम उड़द की दाल खाइए और एक दिन बदल बदल कर दे डाले खाते रहेंगे यूरिक एसिड नहीं बढ़ेगा इसके अलावा ज्यादा प्रोटीन खाने से भी यूरिक एसिड बढ़ जाता इसलिए बैलेंस इन बनाइए और जब यूरिया बढ़ जाता है तभी शरीर में जोड़ों में दर्द होता है इसलिए उसको बचने के लिए सबसे अच्छा यही है कि आप इन सब चीजों को त्यागी है उसको कम खाइए और एक और आता है कि अब त्रिफला त्रिफला का रोज सेवन कीजिए आप रात में सोते समय गुनगुने पानी से धो यूरिक एसिड को कंट्रोल कर लेगा त्रिफला में होता है आंवला और आपला होता है कुछ और ही होता है जो एसिड को समाप्त कर देता है वह आपको जल्दी ही उस को कंट्रोल कर लेगा एक हाथी चौक चीनी चोर चीनी को घुट कर के रात में पानी में भिगो दी सूर्य उसका पानी पी लीजिए और चबा चबा कर दो उसको चोपचीनी खा लेंगे तो यूरिक एसिड की मात्रा को बिल्कुल तरह से समाप्त कर दे
Hamaare shareer mein yoorik esid ka ataik kyon hota hai ab se niyantrit karane ka kya tareeka hai lekin jab hamaare shareer mein esiditee kee maatra badh jaatee jab ham enteeport khaate hain inaput mein kya hote jaise doodh mein hamane namak le liya khaana khaane ke turant baad hamane chaay pee liya speed vaalee cheej hai jo hai jise neemboo ka ras hamane jyaada le liya anda khaane ke baad hamane chaay pee liya din neemboo vaalee cheejen khaalee dahee ke saath hamane esid vaalee cheejen namak vagairah us mein daal kar ke le liya le dahee mein shakkar ke lie kaha jaata hai to in sab cheejon se jeseedee deejal shareer mein esid kee maatra adhik badh jaatee hai to vah yooriya banaane lagata hai aur vah yooriya jo hai shareer ke andar jo hai jahaan jod hote hain vahaan jaakar ko jam jaata hai aur khaas taur se sabase jyaada arahar kee daal mein tuvar kee daal mein yoorik esid bahut jyaada banata hai isalie isako ek ek din chhodakar ki kam se kam khaie haphte mein 3 din moong kee daal khaee hai ekadam udad kee daal khaie aur ek din badal badal kar de daale khaate rahenge yoorik esid nahin badhega isake alaava jyaada proteen khaane se bhee yoorik esid badh jaata isalie bailens in banaie aur jab yooriya badh jaata hai tabhee shareer mein jodon mein dard hota hai isalie usako bachane ke lie sabase achchha yahee hai ki aap in sab cheejon ko tyaagee hai usako kam khaie aur ek aur aata hai ki ab triphala triphala ka roj sevan keejie aap raat mein sote samay gunagune paanee se dho yoorik esid ko kantrol kar lega triphala mein hota hai aanvala aur aapala hota hai kuchh aur hee hota hai jo esid ko samaapt kar deta hai vah aapako jaldee hee us ko kantrol kar lega ek haathee chauk cheenee chor cheenee ko ghut kar ke raat mein paanee mein bhigo dee soory usaka paanee pee leejie aur chaba chaba kar do usako chopacheenee kha lenge to yoorik esid kee maatra ko bilkul tarah se samaapt kar de

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:07
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका आपका प्रश्न है हमारे शरीर पर यूरिक एसिड का अटैक क्यों होता है और इसे नियंत्रित करने का क्या तरीका है तो फ्रेंड सलमान मारे शरीर में जो यूरिक एसिड है वह चली पड़ता है टाइप होता है जब हमारे शरीर में पानी की कमी हो जाती है और यह कभी-कभी जेनेटिक कारणों से भी होता है और जो लोग मांस मीट ज्यादा खाते हैं रेड रेडमी दिखाते हैं तो उनको भी यह सब हो जाता है सी फूड खाने वाले लोगों को भी युद्ध अटैक होता है और जो लोग ज्यादा मीठा खाते हैं बहुत ज्यादा मीठे का सेवन करते हैं उनको भी विकट अटैक हो सकता है तो इसके बहुत सारे कारण पूरी कर अटैक करने के ऊपर पानी का होता है जो इंसान पानी कम पीता है बहुत देर तक भूखा रहता है पानी नहीं पीता और अपनी पेशाब भी रोक कर रखता है तो यह सब कारण होते हैं उस को नियंत्रित करने के लिए आपको यही है कि आपको बहुत ज्यादा मीठा नहीं खाना है ज्यादा मांस मदिरा से देखना है आपको और पानी ज्यादा से ज्यादा पीना है तो आपका यूरिक एसिड नॉरमल हो और आप लोगों को अच्छे से खानपान पर ध्यान रखना है धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka aapaka prashn hai hamaare shareer par yoorik esid ka ataik kyon hota hai aur ise niyantrit karane ka kya tareeka hai to phrend salamaan maare shareer mein jo yoorik esid hai vah chalee padata hai taip hota hai jab hamaare shareer mein paanee kee kamee ho jaatee hai aur yah kabhee-kabhee jenetik kaaranon se bhee hota hai aur jo log maans meet jyaada khaate hain red redamee dikhaate hain to unako bhee yah sab ho jaata hai see phood khaane vaale logon ko bhee yuddh ataik hota hai aur jo log jyaada meetha khaate hain bahut jyaada meethe ka sevan karate hain unako bhee vikat ataik ho sakata hai to isake bahut saare kaaran pooree kar ataik karane ke oopar paanee ka hota hai jo insaan paanee kam peeta hai bahut der tak bhookha rahata hai paanee nahin peeta aur apanee peshaab bhee rok kar rakhata hai to yah sab kaaran hote hain us ko niyantrit karane ke lie aapako yahee hai ki aapako bahut jyaada meetha nahin khaana hai jyaada maans madira se dekhana hai aapako aur paanee jyaada se jyaada peena hai to aapaka yoorik esid noramal ho aur aap logon ko achchhe se khaanapaan par dhyaan rakhana hai dhanyavaad

TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
2:18
नमस्कार दोस्तों योजना क्या हमारे शरीर पर गिरी करने का अटैक क्यों होता है उसे नियंत्रित करने के क्या तरीके जो आपने जो रिकॉर्डिंग नहीं एक्सेस कर रहा है दूध का कम से कम आशा करता हूं आपको आपके सवाल का जवाब
Namaskaar doston yojana kya hamaare shareer par giree karane ka ataik kyon hota hai use niyantrit karane ke kya tareeke jo aapane jo rikording nahin ekses kar raha hai doodh ka kam se kam aasha karata hoon aapako aapake savaal ka javaab

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:05
हमारे शरीर पर यूरिक एसिड अटैक क्यों होता है और इसे नियंत्रित करने का क्या तरीका है दोस्तों अधिक व्रत रखने से या फिर अपनी डाइट में अधिक प्रोटीन जैसे राजमा पनीर एडमिन की पोस्ट इत्यादि चीजों को शामिल करने से यूरिक एसिड बढ़ता है हालांकि बहुत से लोग हाई यूरिक एसिड को अधिक गंभीरता से नहीं लेते हैं वहीं पर खुलासा हुआ है कि दुनिया में हर पांच में से एक व्यक्ति यूरिक एसिड की समस्या का शिकार होता है प्रॉब्लम कई परेशानियां होने लगती है दोस्तों से बात कर सकते हैं क्योंकि यह शरीर में यूरिक एसिड बढ़ाते हैं सब्जियों में गोभी लोबिया छिलके वाली दाल राजमा चने आदि भोजन में कमले वजन अधिक है तो कम करने की कोशिश करें इसका बताओ और यह क्यों होता है
Hamaare shareer par yoorik esid ataik kyon hota hai aur ise niyantrit karane ka kya tareeka hai doston adhik vrat rakhane se ya phir apanee dait mein adhik proteen jaise raajama paneer edamin kee post ityaadi cheejon ko shaamil karane se yoorik esid badhata hai haalaanki bahut se log haee yoorik esid ko adhik gambheerata se nahin lete hain vaheen par khulaasa hua hai ki duniya mein har paanch mein se ek vyakti yoorik esid kee samasya ka shikaar hota hai problam kaee pareshaaniyaan hone lagatee hai doston se baat kar sakate hain kyonki yah shareer mein yoorik esid badhaate hain sabjiyon mein gobhee lobiya chhilake vaalee daal raajama chane aadi bhojan mein kamale vajan adhik hai to kam karane kee koshish karen isaka batao aur yah kyon hota hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • यूरिक एसिड, यूरिक एसिड का अटैक कैसे नियंत्रित करे
URL copied to clipboard