#खेल कूद

bolkar speaker

राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था?

Raja Ko Prashasan Se Sambandhit Salah Dena Kis Ka Karya Tha
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student
0:56
नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सभी राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य तो देखिए पुराने जमाने में जो राजा तुमको मिल प्रशासन से संबंधित निकाय मंत्री करते थे कि जितने भी आ जाते हैं उनके मतलब मंत्री होते तो मंत्री 12 नहीं मालूम बहुत चार पांच छह सात आठ नौ दस दस तक मंत्री होते थे तो सबसे मुख्यमंत्री हो तो वही मतलब को सलाह देते चंद्रगुप्त के उद्योग मंत्री तक जितने भी रहोगे उनके कोई मंत्री जो होता तो मैं मंत्री उन्हें सलाह देते थे तो उम्मीद करता हूं सॉन्ग अच्छा लगा धन्यवाद
Namaskaar doston kaise hain aap sabhee raaja ko prashaasan se sambandhit salaah dena kis ka kaary to dekhie puraane jamaane mein jo raaja tumako mil prashaasan se sambandhit nikaay mantree karate the ki jitane bhee aa jaate hain unake matalab mantree hote to mantree 12 nahin maaloom bahut chaar paanch chhah saat aath nau das das tak mantree hote the to sabase mukhyamantree ho to vahee matalab ko salaah dete chandragupt ke udyog mantree tak jitane bhee rahoge unake koee mantree jo hota to main mantree unhen salaah dete the to ummeed karata hoon song achchha laga dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था?Raja Ko Prashasan Se Sambandhit Salah Dena Kis Ka Karya Tha
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:14
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था तो दोस्तों राजा जो भी कार्य करता था अपने मंत्रियों के सलाम से कार्य करता था उसने अलग-अलग मंत्री बनाए हुए थे अपने साथियों ने तो जैसे कि अपने यहां मंत्रिमंडल नवरत्न रखे हुए थे यानी कि 9 ज्ञानी व्यक्तियों को अपने साथ रखा हुआ था और बहुत सारे ऐसे राजा थे तो ज्यादा मंत्री नहीं रखते थे केवल एक या दो मंत्री से ही काम चलाते थे तो जाग जो भी सारी प्रशासनिक व्यवस्था होती थी वह राजा के मंत्रियों द्वारा ही होती थी राजा तो केवल पहले के जमाने में युद्ध लड़ने जाता था जब सर से ऊपर पानी निकलने लग जाता था जब मंत्रियों के नियंत्रण में सारी चीजें नहीं रह पाती थी तो आखरी में राजा युद्ध के लिए जाता था डराने धमकाने के लिए जाता था लूटपाट करने के लिए जाता था नहीं तो जाऊंगा ही करूंगा ही है पैसे उगाही है या कोई कार्य करना है वह मंत्रियों के द्वारा सलाह के द्वारा दिया जाता था आप देखेंगे पुराने पुस्तकों में भी मंत्रिमंडल में कुछ ना कुछ के साथ में करीबी व्यक्ति बैठे रहते थे जो उसको सलाह देते रहते थे धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki raaja ko prashaasan se sambandhit salaah dena kis ka kaary tha to doston raaja jo bhee kaary karata tha apane mantriyon ke salaam se kaary karata tha usane alag-alag mantree banae hue the apane saathiyon ne to jaise ki apane yahaan mantrimandal navaratn rakhe hue the yaanee ki 9 gyaanee vyaktiyon ko apane saath rakha hua tha aur bahut saare aise raaja the to jyaada mantree nahin rakhate the keval ek ya do mantree se hee kaam chalaate the to jaag jo bhee saaree prashaasanik vyavastha hotee thee vah raaja ke mantriyon dvaara hee hotee thee raaja to keval pahale ke jamaane mein yuddh ladane jaata tha jab sar se oopar paanee nikalane lag jaata tha jab mantriyon ke niyantran mein saaree cheejen nahin rah paatee thee to aakharee mein raaja yuddh ke lie jaata tha daraane dhamakaane ke lie jaata tha lootapaat karane ke lie jaata tha nahin to jaoonga hee karoonga hee hai paise ugaahee hai ya koee kaary karana hai vah mantriyon ke dvaara salaah ke dvaara diya jaata tha aap dekhenge puraane pustakon mein bhee mantrimandal mein kuchh na kuchh ke saath mein kareebee vyakti baithe rahate the jo usako salaah dete rahate the dhanyavaad

bolkar speaker
राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था?Raja Ko Prashasan Se Sambandhit Salah Dena Kis Ka Karya Tha
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
0:39
राजा को प्रशासन संबंधी सलाह देना कि कल काली रातों रात थाना शासन तंत्र में उच्च पद प्राप्त होता है कुछ लाने से जरूर मिलेगा सुनाओ वंश परंपरा के बाहर के लोगों से किया गया था वह अपने मंत्रियों को सुना अपने राज्य में शासन करता है लेकिन शासन से अधिमान्यता वालों को लोगों को बताता है उसकी सहायता के दबाव में पितरों के पद होते आजा के गुण करती है मां-बाप सहित अनेक गधों पर प्रकाश डाले हैं और इतने आज ही पसंद आता है धन्यवाद दोस्तों
Raaja ko prashaasan sambandhee salaah dena ki kal kaalee raaton raat thaana shaasan tantr mein uchch pad praapt hota hai kuchh laane se jaroor milega sunao vansh parampara ke baahar ke logon se kiya gaya tha vah apane mantriyon ko suna apane raajy mein shaasan karata hai lekin shaasan se adhimaanyata vaalon ko logon ko bataata hai usakee sahaayata ke dabaav mein pitaron ke pad hote aaja ke gun karatee hai maan-baap sahit anek gadhon par prakaash daale hain aur itane aaj hee pasand aata hai dhanyavaad doston

bolkar speaker
राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था?Raja Ko Prashasan Se Sambandhit Salah Dena Kis Ka Karya Tha
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:36
200 संभाले राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था दोस्तों प्राचीन समय से हम देखते हैं कि राजा महाराजाओं का जो महत्व है उनको सलाह देने के लिए काफी समिति बनाई जाती थी जैसे आप देखेंगे कि समाज समिति का जो उल्लेख है वह आपको रिक्वेस्ट के अनुसार ही मिलेगा और आपको धीरे-धीरे मंत्रिपरिषद और मंत्रिमंडल इत्यादि का भी उल्लेख हमारे संतो के अंदर मिल ही जाएगा यानी कि राजा को तो प्रशासन से संबंधित जो चलाते दोस्तों व समिति मंत्रिमंडल
200 sambhaale raaja ko prashaasan se sambandhit salaah dena kis ka kaary tha doston praacheen samay se ham dekhate hain ki raaja mahaaraajaon ka jo mahatv hai unako salaah dene ke lie kaaphee samiti banaee jaatee thee jaise aap dekhenge ki samaaj samiti ka jo ullekh hai vah aapako rikvest ke anusaar hee milega aur aapako dheere-dheere mantriparishad aur mantrimandal ityaadi ka bhee ullekh hamaare santo ke andar mil hee jaega yaanee ki raaja ko to prashaasan se sambandhit jo chalaate doston va samiti mantrimandal

bolkar speaker
राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था?Raja Ko Prashasan Se Sambandhit Salah Dena Kis Ka Karya Tha
Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
3:00
राजाओं की सभी भी जो राजाओं प्रशासन ने साहित्य देने के लिए उचित परामर्श देने के लिए अलग-अलग मंदीकरण हुआ करते थे जिनमें प्रधानमंत्री पुरोहित कर्माचारी सेनापति आदि हुआ करते थे सेना से संबंधित कार्य या अटैक करना जब डिफेंस के संबंधित साला उपप्रधानमंत्री और सेनापति से किया करते थे और धार्मिक संबंधित कार्य सद्भावना के कार्य दान पुण्य के कार्य के लिए वह धर्माचार्य रोहित आदि से परामर्श किया करते थे देश जनता के विकास के लिए जनहित के कार्यों के लिए उनके पास प्रधानमंत्री या महामंत्री आदि हुआ करते थे इस प्रकार से उसमें नंबर 12 राजा को गलत सलाह देने की किसी की हिम्मत नहीं पड़ती थी कि राजा जोगी अग्नि जल इनकी उलटी रीत और बढ़ती रही हो परशुराम से प्रीत भली ना प्रीत अर्थात राजाओं का भय भी था आज के प्रजातंत्र की तरह भारत के प्रजातंत्र की तरह कोई लाइन शटरडॉउन नहीं थे उनके समय में लायंस और डरते थे जनता में भय रहता था लोग गिटार अनाचार दुराचार भवन होटल रिश्वतखोरी भ्रष्टाचार से डरते थे क्योंकि राजाओं के पनिशमेंट मिलते थे आज के भारत की तरह से लाइंस आर्डर की स्थिति नहीं थी भारत में आज किसी को कोई लड़की नहीं है कि दुर्भाग्य का विषय है राजाओं के राज्य में ऐसे लोकतंत्र जो भारत में लोकतंत्र चल रहा है इससे तो कहीं बहुत अच्छे-अच्छे जहां पर गाय और शेर एक घाट से पानी पी सकते थे न्याय होता था ईमानदारी थी रानी स्वेटर की स्थिति थी जो दोषी होते थे जो असामाजिक होते थे पे राजा के भाई से काम
Raajaon kee sabhee bhee jo raajaon prashaasan ne saahity dene ke lie uchit paraamarsh dene ke lie alag-alag mandeekaran hua karate the jinamen pradhaanamantree purohit karmaachaaree senaapati aadi hua karate the sena se sambandhit kaary ya ataik karana jab diphens ke sambandhit saala upapradhaanamantree aur senaapati se kiya karate the aur dhaarmik sambandhit kaary sadbhaavana ke kaary daan puny ke kaary ke lie vah dharmaachaary rohit aadi se paraamarsh kiya karate the desh janata ke vikaas ke lie janahit ke kaaryon ke lie unake paas pradhaanamantree ya mahaamantree aadi hua karate the is prakaar se usamen nambar 12 raaja ko galat salaah dene kee kisee kee himmat nahin padatee thee ki raaja jogee agni jal inakee ulatee reet aur badhatee rahee ho parashuraam se preet bhalee na preet arthaat raajaon ka bhay bhee tha aaj ke prajaatantr kee tarah bhaarat ke prajaatantr kee tarah koee lain shataradoun nahin the unake samay mein laayans aur darate the janata mein bhay rahata tha log gitaar anaachaar duraachaar bhavan hotal rishvatakhoree bhrashtaachaar se darate the kyonki raajaon ke panishament milate the aaj ke bhaarat kee tarah se lains aardar kee sthiti nahin thee bhaarat mein aaj kisee ko koee ladakee nahin hai ki durbhaagy ka vishay hai raajaon ke raajy mein aise lokatantr jo bhaarat mein lokatantr chal raha hai isase to kaheen bahut achchhe-achchhe jahaan par gaay aur sher ek ghaat se paanee pee sakate the nyaay hota tha eemaanadaaree thee raanee svetar kee sthiti thee jo doshee hote the jo asaamaajik hote the pe raaja ke bhaee se kaam

bolkar speaker
राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था?Raja Ko Prashasan Se Sambandhit Salah Dena Kis Ka Karya Tha
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:31
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था तो फ्रेंड से पहले समय से ही राजा को जो सलाह वगैरह सब देते थे भी उनके मंत्री देते थे जो उनका मंत्रिमंडल होता था वही उनको राजा को सलाह देता था जैसे जो हनुमान राजा थे तो उनका एक मंत्री था बीरबल वही उनको चला दिया करता था तो मंत्री लोग सलाह दी और बाबा का दे मंत्रिमंडल बनाते थे उसी में अपने सबसे अच्छा ही करते थे और सब सलाह बनाते थे धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai raaja ko prashaasan se sambandhit salaah dena kis ka kaary tha to phrend se pahale samay se hee raaja ko jo salaah vagairah sab dete the bhee unake mantree dete the jo unaka mantrimandal hota tha vahee unako raaja ko salaah deta tha jaise jo hanumaan raaja the to unaka ek mantree tha beerabal vahee unako chala diya karata tha to mantree log salaah dee aur baaba ka de mantrimandal banaate the usee mein apane sabase achchha hee karate the aur sab salaah banaate the dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • राजा को प्रशासन से संबंधित सलाह देना किस का कार्य था
URL copied to clipboard