#भारत की राजनीति

Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
4:20
क्या नरेंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का अतिरिक्त भार दे रहे हैं आप कह सकते हो लेकिन दोस्त मेरा भी प्रश्न आपसे हूं कि कौन सा ऐसा ड्रीम प्रोजेक्ट है जिसको है सील करने के लिए देश में महंगाई की हवा महल की देश में आर्थिक स्थिति चरम सीमा पर पहुंच चुकी है हम आप हो कौन सा है ऐसी प्रोजेक्ट का नाम बता दे तो ज्यादा अच्छा है पर मैंने तो कहीं पर इस तरह का नहीं देखा देश की इंफ्रास्ट्रक्चर हो इंटरनेशनल रिलेशन हो डिफेंस सिस्टम हो हमारे बॉर्डर एरिया में डेवलपमेंट हो हमारे इलेक्ट्रिक फील्ड में ज्यादा से ज्यादा लगती हो इसमें कौन सी अच्छी फ्रेंड में कौन सा ऐसा क्रीम है आप देख लीजिए सरदार पटेल की मूर्ति के बढ़िया में उन्होंने लगाया बहुत सारे लोगों को समझाया भाई कई हजार करोड़ किसी योजना में लगा है लेकिन आपको पता है कि उसके बढ़िया के लिए जो भी शुरुआती गर्मी प्रोजेक्ट है इसमें तीन बार है एंटरटेनिंग पार्क है और सबसे ज्यादा पर्यटक वहां जा रहे हैं पूरे देश विदेश जा रहे हैं तो उस पर्यटक का स्थान पर कई हजार करोड़ गुणों की इनकम हो रही रोजगार मिल रहा है अब वहां पर होटल 15 रेलवे स्टेशन पर एयरपोर्ट है और दूसरा है कि जो वाटर ट्रांसपोर्टेशन है अहमदाबाद से शुरू हो गया है ट्रांसपोर्टेशन शुरू हो गया बहुत सारी चीजें अभी 810 है जलगांव से डायरेक्ट रेलवे को कनेक्टिविटी की गई है ऐसी चीजें होती है तो क्या वहां रोजगार नहीं मिलेगा तो आप टेंशन मोदी जी का कौन सा ऐसा ड्रीम प्रोजेक्ट देख लिया जिसमें भारत की आर्थिक स्थिति की हानि हुई है पर्यावरण की हानि हुई है किस तरह की हुई है तो शायद बेहतर होगा अब आप कह रहे हैं कि मैं गाय का चित्र महंगाई कम नहीं होती कौन सा ऐसा समय था आपको शायद 70 80 का दशक याद ही नहीं होगा जब हमारी के कगार पर थे हमारे पास अनाज नहीं होता तो आज हम अनाज में संपन्न है 80 करोड़ लोगों को रियायती दरों पर जिस तरह से दिए जा रहे हैं राशन उसको कम समझते हो प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत घर बनाए जा रहे हैं और सस्ते दरों पर दिया जा रहा है आपने उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड कई क्षेत्रों में देखा होगा उन गरीबों के घर बन गए विचारों के जिनके छठी ही नहीं तो मैं समझी नहीं आपका कौन सा ड्रीम प्रोजेक्ट है मोदी जी का है या आप वाराणसी का ड्रीम प्रोजेक्ट वह जो बन रहा है जिसको आप कह सकते हो बिल्डिंग पुरानी टूट कितना बन रहा कभी आकर देखें वाराणसी में जो काशी विश्वनाथ कॉरिडोर बन रहा है उसको देखिए भारत की सर्वप्रथम कैसे लोग कितने वहां लोग पहुंचेंगे मुझे नहीं लगा अगर कोई है तो प्लीज जल्दी से ज्यादा अच्छा
Kya narendr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka atirikt bhaar de rahe hain aap kah sakate ho lekin dost mera bhee prashn aapase hoon ki kaun sa aisa dreem projekt hai jisako hai seel karane ke lie desh mein mahangaee kee hava mahal kee desh mein aarthik sthiti charam seema par pahunch chukee hai ham aap ho kaun sa hai aisee projekt ka naam bata de to jyaada achchha hai par mainne to kaheen par is tarah ka nahin dekha desh kee imphraastrakchar ho intaraneshanal rileshan ho diphens sistam ho hamaare bordar eriya mein devalapament ho hamaare ilektrik pheeld mein jyaada se jyaada lagatee ho isamen kaun see achchhee phrend mein kaun sa aisa kreem hai aap dekh leejie saradaar patel kee moorti ke badhiya mein unhonne lagaaya bahut saare logon ko samajhaaya bhaee kaee hajaar karod kisee yojana mein laga hai lekin aapako pata hai ki usake badhiya ke lie jo bhee shuruaatee garmee projekt hai isamen teen baar hai entaratening paark hai aur sabase jyaada paryatak vahaan ja rahe hain poore desh videsh ja rahe hain to us paryatak ka sthaan par kaee hajaar karod gunon kee inakam ho rahee rojagaar mil raha hai ab vahaan par hotal 15 relave steshan par eyaraport hai aur doosara hai ki jo vaatar traansaporteshan hai ahamadaabaad se shuroo ho gaya hai traansaporteshan shuroo ho gaya bahut saaree cheejen abhee 810 hai jalagaanv se daayarekt relave ko kanektivitee kee gaee hai aisee cheejen hotee hai to kya vahaan rojagaar nahin milega to aap tenshan modee jee ka kaun sa aisa dreem projekt dekh liya jisamen bhaarat kee aarthik sthiti kee haani huee hai paryaavaran kee haani huee hai kis tarah kee huee hai to shaayad behatar hoga ab aap kah rahe hain ki main gaay ka chitr mahangaee kam nahin hotee kaun sa aisa samay tha aapako shaayad 70 80 ka dashak yaad hee nahin hoga jab hamaaree ke kagaar par the hamaare paas anaaj nahin hota to aaj ham anaaj mein sampann hai 80 karod logon ko riyaayatee daron par jis tarah se die ja rahe hain raashan usako kam samajhate ho pradhaanamantree aavaas yojana ke antargat ghar banae ja rahe hain aur saste daron par diya ja raha hai aapane uttar pradesh bihaar jhaarakhand kaee kshetron mein dekha hoga un gareebon ke ghar ban gae vichaaron ke jinake chhathee hee nahin to main samajhee nahin aapaka kaun sa dreem projekt hai modee jee ka hai ya aap vaaraanasee ka dreem projekt vah jo ban raha hai jisako aap kah sakate ho bilding puraanee toot kitana ban raha kabhee aakar dekhen vaaraanasee mein jo kaashee vishvanaath koridor ban raha hai usako dekhie bhaarat kee sarvapratham kaise log kitane vahaan log pahunchenge mujhe nahin laga agar koee hai to pleej jaldee se jyaada achchha

और जवाब सुनें

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:38
क्या नरेंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का अतिरिक्त भार दे रहे हैं तो इसमें कहने में कोई भी संकोच नहीं है कि अतिरिक्त भार तो मिलना है क्योंकि जनता को महंगाई दर मिलेगा बहुत ही जान प्रतिदिन कुछ न कुछ बढ़ रहा है तो इससे बहुत ज्यादा अगर देखा जाए तो आम जनता है परेशान है कौन सा ऐसा चीज जो होगा उसका दाम बढ़ नहीं रहा वह हफ्ते में 10 दिन 15 दिन के अंतराल पर हर एक चीज का दाम बढ़ रहा है और खासकर देखा जाए तो रोजमर्रा की जिंदगी या है आम लोगों की चूत बहुत ज्यादा स्तर पर बढ़ रही है और घटने का तो नाम नहीं ले रही है अगर खाट भी रही है तो पैसे में कट रही है वहीं पर बढ़ रहा है तू कई रुपए में बढ़ रहा है तू यह हकीकत है कि शायद ऐसा है कि ड्रीम प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए अतिरिक्त जो महंगाई दर बढ़ा रहे हैं कहीं ना कहीं अपना एक ख्वाब होगा अपनी एक उनकी सोच होगी कि मुझे करना है तुम्हारी जनता का ही खून तो उसके करूं तुम मुझे लगता है कि ऐसा नहीं करना चाहिए फिर भी सरकार कर रही है हम सरकार से उम्मीद नहीं कर सकते थे क्योंकि सरकार जब हम 2014 में लाया तू बड़ा ही उम्मीद के साथ लाए कि मैं हर चीज का सुख मिलेगा और हम जो करना चाहेंगे वह कर सकते हैं जो पढ़ा लिखा युवा वर्ग है वह हर क्षेत्र में जहां सकता है अपनी इच्छा अनुसार काटकर कार्य कर सकता है लेकिन ठीक इसके उल्टा हुआ ठीक उसके विपरीत हुआ जो आज हर वर्ग परेशान है कहीं ना कहीं जो महंगाई दर मिली है इसका भी एक रूप हो सकता है
Kya narendr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka atirikt bhaar de rahe hain to isamen kahane mein koee bhee sankoch nahin hai ki atirikt bhaar to milana hai kyonki janata ko mahangaee dar milega bahut hee jaan pratidin kuchh na kuchh badh raha hai to isase bahut jyaada agar dekha jae to aam janata hai pareshaan hai kaun sa aisa cheej jo hoga usaka daam badh nahin raha vah haphte mein 10 din 15 din ke antaraal par har ek cheej ka daam badh raha hai aur khaasakar dekha jae to rojamarra kee jindagee ya hai aam logon kee choot bahut jyaada star par badh rahee hai aur ghatane ka to naam nahin le rahee hai agar khaat bhee rahee hai to paise mein kat rahee hai vaheen par badh raha hai too kaee rupe mein badh raha hai too yah hakeekat hai ki shaayad aisa hai ki dreem projekt poora karane ke lie atirikt jo mahangaee dar badha rahe hain kaheen na kaheen apana ek khvaab hoga apanee ek unakee soch hogee ki mujhe karana hai tumhaaree janata ka hee khoon to usake karoon tum mujhe lagata hai ki aisa nahin karana chaahie phir bhee sarakaar kar rahee hai ham sarakaar se ummeed nahin kar sakate the kyonki sarakaar jab ham 2014 mein laaya too bada hee ummeed ke saath lae ki main har cheej ka sukh milega aur ham jo karana chaahenge vah kar sakate hain jo padha likha yuva varg hai vah har kshetr mein jahaan sakata hai apanee ichchha anusaar kaatakar kaary kar sakata hai lekin theek isake ulta hua theek usake vipareet hua jo aaj har varg pareshaan hai kaheen na kaheen jo mahangaee dar milee hai isaka bhee ek roop ho sakata hai

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:15
इंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का चरित्र भाग दे रहे हैं दोस्तों को बता दो प्रमुख होता है या राजनीतिक प्रमुख विधि प्रधानमंत्री मोदी जी के लिए उसके लिए उनको काम करना होता है जनता को महंगाई का सामना करना पड़ता है और पूंजीवादी अर्थव्यवस्था के अंदर जिस तरीके से जनता के ऊपर जो महंगाई का मार डाला जाता है नरेंद्र मोदी जी मुझे पूरे होते हैं राजनीतिक प्रमुख को चुनती है इसका मतलब
Indr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka charitr bhaag de rahe hain doston ko bata do pramukh hota hai ya raajaneetik pramukh vidhi pradhaanamantree modee jee ke lie usake lie unako kaam karana hota hai janata ko mahangaee ka saamana karana padata hai aur poonjeevaadee arthavyavastha ke andar jis tareeke se janata ke oopar jo mahangaee ka maar daala jaata hai narendr modee jee mujhe poore hote hain raajaneetik pramukh ko chunatee hai isaka matalab

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:37
अब आपका प्रश्न है कि क्या नरेंद्र मोदी जी अपना ड्रीम प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए जनता को अतिरिक्त महंगाई बाहर ले सकते हैं तो यह बताइए कि जनता ही तो महंगाई का भार उठाती है जितने भी ड्रीम प्रोजेक्ट है उन नरेंद्र मोदी जी अपने घर की प्रॉपर्टी बेचकर के तो पूरा नहीं करेंगे उनके सारे ड्रीम प्रोजेक्ट सरकारी ही हैं और सरकारी पुरोहित कैसे पूरे होते हैं वह जनता में टैक्सेशन लगाकर तो लगातार टैक्स बढ़ाया जा रहा है आजकल व्यापारी भी 10:00 पर्सेंट पर अपना बिजनेस कर रहा है और उसके बाद ₹100 का माल ₹110 में बेच रहा है उसके बाद 28 परसेंट पर जीएसटी लगाया जा रहा है उसके बाद जो थोड़ा बहुत अगर बचत करता है तो उसे टैक्स ले लिया जाता है और तरह के टैक्स होते हैं वह कहीं बाहर जाना है तो रोड टैक्स भी उसको ले जाना पड़ता है और टोल टैक्स भी देना पड़ता है पानी का उस वाला देना पड़ता है बिजली का अलग देना पड़ता है तो कुल मिलाकर के इसमें रोम रोम की नचाई टैक्सों के पीछे हो रही है इतना आज तक के स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से भारत में किसी भी सरकार इतना ज्यादा टैक्स नहीं लगाया यह तो नरेंद्र मोदी जी ने लगाया है तो यह है कि थोड़ा भरोसा रखिए कि ड्रीम प्रोजेक्ट पूरा होगा थोड़ा बहुत महंगाई बढ़ेगी क्योंकि महंगाई आपको बर्दाश्त करने की आदत पड़ गई है ₹60 वाला पेट्रोल जो है आजकल ₹105 में मिलने लगा है तो धीरे-धीरे महंगाई और बढ़ेगी धीरे देखा जाता है कि वह जितने कितना गर्मी आप बर्दाश्त कर लेते हैं उतना गरमा गरम आप को छुड़ाया जाता है तो यह समझ रहे हो ना तो टेंशन तो आना ही पड़ेगा
Ab aapaka prashn hai ki kya narendr modee jee apana dreem projekt poora karane ke lie janata ko atirikt mahangaee baahar le sakate hain to yah bataie ki janata hee to mahangaee ka bhaar uthaatee hai jitane bhee dreem projekt hai un narendr modee jee apane ghar kee propartee bechakar ke to poora nahin karenge unake saare dreem projekt sarakaaree hee hain aur sarakaaree purohit kaise poore hote hain vah janata mein taikseshan lagaakar to lagaataar taiks badhaaya ja raha hai aajakal vyaapaaree bhee 10:00 parsent par apana bijanes kar raha hai aur usake baad ₹100 ka maal ₹110 mein bech raha hai usake baad 28 parasent par jeeesatee lagaaya ja raha hai usake baad jo thoda bahut agar bachat karata hai to use taiks le liya jaata hai aur tarah ke taiks hote hain vah kaheen baahar jaana hai to rod taiks bhee usako le jaana padata hai aur tol taiks bhee dena padata hai paanee ka us vaala dena padata hai bijalee ka alag dena padata hai to kul milaakar ke isamen rom rom kee nachaee taikson ke peechhe ho rahee hai itana aaj tak ke svatantrata praapti ke baad se bhaarat mein kisee bhee sarakaar itana jyaada taiks nahin lagaaya yah to narendr modee jee ne lagaaya hai to yah hai ki thoda bharosa rakhie ki dreem projekt poora hoga thoda bahut mahangaee badhegee kyonki mahangaee aapako bardaasht karane kee aadat pad gaee hai ₹60 vaala petrol jo hai aajakal ₹105 mein milane laga hai to dheere-dheere mahangaee aur badhegee dheere dekha jaata hai ki vah jitane kitana garmee aap bardaasht kar lete hain utana garama garam aap ko chhudaaya jaata hai to yah samajh rahe ho na to tenshan to aana hee padega

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:49
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है क्या नरेंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का अतिरिक्त भार दे रहे हैं तो फ्रेंड से कोई भी जब प्रोजेक्ट होता है जब पूरा होता है तो उससे हम लोगों को रोजगार भी मिलता है इसके दोनों पहलू होते हैं और जिस तरह से जब कोई चीज महंगी आती है तो वह महंगी बिकती है और जो बाहर से सामान आता है उसमें भी थोड़ा तेजी होती है और वे महंगा बिकता है तो समय के साथ-साथ धीरे-धीरे जब लागत बढ़ती जाती है तो यह सामान महंगा भी होता जाता है तो मैं गाय का थोड़ा बहुत कुछ तो हो जाएगा लेकिन बहुत ज्यादा कुछ नहीं है मैं बजट में तो बहुत अच्छा है बताया गया है जिससे कि किसी पर कोई भी अतिरिक्त बोझ नहीं है जैसा ही वैसा ही चलेगा जैसा पहले था वैसा ही चलेगा कोई अतिरिक्त बोझ हम लोगों पर नहीं डाला गया है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai kya narendr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka atirikt bhaar de rahe hain to phrend se koee bhee jab projekt hota hai jab poora hota hai to usase ham logon ko rojagaar bhee milata hai isake donon pahaloo hote hain aur jis tarah se jab koee cheej mahangee aatee hai to vah mahangee bikatee hai aur jo baahar se saamaan aata hai usamen bhee thoda tejee hotee hai aur ve mahanga bikata hai to samay ke saath-saath dheere-dheere jab laagat badhatee jaatee hai to yah saamaan mahanga bhee hota jaata hai to main gaay ka thoda bahut kuchh to ho jaega lekin bahut jyaada kuchh nahin hai main bajat mein to bahut achchha hai bataaya gaya hai jisase ki kisee par koee bhee atirikt bojh nahin hai jaisa hee vaisa hee chalega jaisa pahale tha vaisa hee chalega koee atirikt bojh ham logon par nahin daala gaya hai dhanyavaad

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:01
यह आपका सवाल है कि क्या नरेंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का अतिरिक्त भार दे रहा है तो ऐसा कुछ नहीं है अगर कुछ पाना है तो कुछ खोना भी पड़ेगा अगर आपको अच्छी फैसिलिटी है या अच्छे देश के भविष्य के बारे में सोचना है तो छोटे-मोटे कष्ट उठाने पड़ेंगे अगर हम अभी छोटे-मोटे कष्ट उठाकर आगे वाली जिंदगी को अच्छा बनाना है तो छोटी मोटी महंगाई तो हमें सेंड करनी पड़ेगी आने वाले देश आने वाले समय में देश की तरक्की के लिए अभी महंगाई हो रही है तो आने वाले समय में इसका फायदा भी मिलेगा इसलिए नरेंद्र मोदी ने महंगाई पर जाने दे नहीं देते हुए आने वाले समय की और सोचते हुए अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा कर रहे हैं धन्यवाद
Yah aapaka savaal hai ki kya narendr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka atirikt bhaar de raha hai to aisa kuchh nahin hai agar kuchh paana hai to kuchh khona bhee padega agar aapako achchhee phaisilitee hai ya achchhe desh ke bhavishy ke baare mein sochana hai to chhote-mote kasht uthaane padenge agar ham abhee chhote-mote kasht uthaakar aage vaalee jindagee ko achchha banaana hai to chhotee motee mahangaee to hamen send karanee padegee aane vaale desh aane vaale samay mein desh kee tarakkee ke lie abhee mahangaee ho rahee hai to aane vaale samay mein isaka phaayada bhee milega isalie narendr modee ne mahangaee par jaane de nahin dete hue aane vaale samay kee aur sochate hue apane dreem projekt ko poora kar rahe hain dhanyavaad

T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
3:02
अपने प्रश्न किया है कि क्या नरेंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का अतिरिक्त भार दे रहा है शायद कितने लोगों को इस बात की जानकारी है मैं नहीं जानता लेकिन जब लाल बहादुर शास्त्री इस देश के प्रधानमंत्री थे और भारत का पाकिस्तान के साथ में युद्ध हो गया था तब भारत के पास उस समय इतने संसाधन नहीं थे भारत के पास नगरासर कुछ ज्यादा मिला हुआ था उस समय भारत की स्थिति बहुत अच्छी थी तो हमारे प्रधानमंत्री उस समय के लाल बहादुर शास्त्री जी ने कहा था मैं देश की जनता से आव्हान करता हूं कि अगर आप दो रोटी खाते हैं तो एक हैं और एक खाते हैं तो आधी खाएं लेकिन बेस्ट मदद करें हम देश को नहीं झुकने देंगे देश के स्वाभिमान को नहीं करने देंगे और हम पाकिस्तान को सबक सिखाएंगे अगर आज हम यह कहते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए लोगों पर अतिरिक्त भार डाल रहे हैं तो यह नितांत गलत बात है नरेंद्र मोदी के कौन से अपने खुद के ड्रीम प्रोजेक्ट हैं उनका अपने लिए कोई परिवार के लिए व कोई कार्य कर रहे हैं क्या उनके दौर में प्रधानमंत्री दौर में या मुख्यमंत्री के धरती में क्या उन्होंने अपने परिवार को कोई फायदा पहुंचाया है व्यक्तिगत कोई फायदा पहुंचाया है वह जो कर रहे हैं पूर्ण समर्पण के भाव के साथ में देश के लिए कर रहे हैं और हमें एक देश के नागरिक होने के नाते इस पर गर्व करना चाहिए कि हमें आज एक ऐसा प्रधानमंत्री मिला है जब देश हमेशा हर पल सिर्फ देश के लिए सोचता है देश के लिए कार्य करें आज उनके ड्रीम प्रोजेक्ट क्या है जो गरीब किसानों को सहायता राशि हर साल प्रदान कर रहे हैं ₹6000 की जो कि करीब लाख डेढ़ लाख करोड़ अब तक पहुंचा चुके हैं क्या गरीब बहनों माताओं को जो कि चूल्हे में अपना सर खपा तिथि आज उनको मुफ्त गैस तबला उपलब्ध कराया गरीब माताएं अपनी इज्जत नहीं बचा सकती थी और उनको खुले में शौच करने जाना पड़ता था आज फ्री में लोगों को टॉयलेट बना करके दिए हैं तो हमको इतनी महंगाई और इससे बाहर नहीं मान करके देश के लिए समाजवाद
Apane prashn kiya hai ki kya narendr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka atirikt bhaar de raha hai shaayad kitane logon ko is baat kee jaanakaaree hai main nahin jaanata lekin jab laal bahaadur shaastree is desh ke pradhaanamantree the aur bhaarat ka paakistaan ke saath mein yuddh ho gaya tha tab bhaarat ke paas us samay itane sansaadhan nahin the bhaarat ke paas nagaraasar kuchh jyaada mila hua tha us samay bhaarat kee sthiti bahut achchhee thee to hamaare pradhaanamantree us samay ke laal bahaadur shaastree jee ne kaha tha main desh kee janata se aavhaan karata hoon ki agar aap do rotee khaate hain to ek hain aur ek khaate hain to aadhee khaen lekin best madad karen ham desh ko nahin jhukane denge desh ke svaabhimaan ko nahin karane denge aur ham paakistaan ko sabak sikhaenge agar aaj ham yah kahate hain ki pradhaanamantree modee apane dreem projekt poora karane ke lie logon par atirikt bhaar daal rahe hain to yah nitaant galat baat hai narendr modee ke kaun se apane khud ke dreem projekt hain unaka apane lie koee parivaar ke lie va koee kaary kar rahe hain kya unake daur mein pradhaanamantree daur mein ya mukhyamantree ke dharatee mein kya unhonne apane parivaar ko koee phaayada pahunchaaya hai vyaktigat koee phaayada pahunchaaya hai vah jo kar rahe hain poorn samarpan ke bhaav ke saath mein desh ke lie kar rahe hain aur hamen ek desh ke naagarik hone ke naate is par garv karana chaahie ki hamen aaj ek aisa pradhaanamantree mila hai jab desh hamesha har pal sirph desh ke lie sochata hai desh ke lie kaary karen aaj unake dreem projekt kya hai jo gareeb kisaanon ko sahaayata raashi har saal pradaan kar rahe hain ₹6000 kee jo ki kareeb laakh dedh laakh karod ab tak pahuncha chuke hain kya gareeb bahanon maataon ko jo ki choolhe mein apana sar khapa tithi aaj unako mupht gais tabala upalabdh karaaya gareeb maataen apanee ijjat nahin bacha sakatee thee aur unako khule mein shauch karane jaana padata tha aaj phree mein logon ko toyalet bana karake die hain to hamako itanee mahangaee aur isase baahar nahin maan karake desh ke lie samaajavaad

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:29
राधा कृष्ण के नरेंद्र मोदी जी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए जनता पर महंगाई का अतिरिक्त भार दे रहे हैं तो आपको बता दें कि देखिए जो भी इंडिया प्रोजेक्ट मोदी जी का है उस पर करो 9:00 अपने ब्रेक लगा दिए हैं आप किधर करो ना जो करने के लिए सरकार को पैसे की आवश्यकता है सरकारी खजाने खाली होते जा रहे हैं ऐसे में थोड़ा डिस्टर्ब है तो जनता को करना ही पड़ेगा मैं शुभकामनाएं आपके साथ है धन्यवाद
Raadha krshn ke narendr modee jee apane dreem projekt ko poora karane ke lie janata par mahangaee ka atirikt bhaar de rahe hain to aapako bata den ki dekhie jo bhee indiya projekt modee jee ka hai us par karo 9:00 apane brek laga die hain aap kidhar karo na jo karane ke lie sarakaar ko paise kee aavashyakata hai sarakaaree khajaane khaalee hote ja rahe hain aise mein thoda distarb hai to janata ko karana hee padega main shubhakaamanaen aapake saath hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट, PM Narendra Modi Dream Project, आम जनता पर महंगाई की मार
URL copied to clipboard