#भारत की राजनीति

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:45
आज आपका सवाल है कि बीजेपी की सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आपका क्या कहना है इस बारे में तो देखिए जो हमारी इंडिया जो मारे देश है वहां पर अगर धर्म को लेकर किसी को लड़ाया जाए तो बहुत जल्दी लड़ लेंगे और अगर कोई भी पार्टी अगर धर्म को लेकर किसी फेवर में बोलता लोग अपनी शादी के बारे में फेवर में बोल रहा है कोई पार्टी बहुत जल्दी लोग खुश हो जाते मौसम के बारे में बोल रहा तो खुश हो जाते हैं ऐसे कोई भी रिलीज उनके बारे में बोला जाता तो खुश हो जाते तो यहां की कमजोरी हर एक सरकार जानती है कि धर्म को लेकर मेजॉरिटी देखना है कि कौन ज्यादा यहां पर लोग रहते हैं अगर वह देखकर तुरंत उन लोगों को अपनी तरफ खींचने के लिए धर्म को लेकर कुछ भी चीज बनाते आखिर बिगाड़ दे ताकि उनको भी रोल करना और लोग भी उनसे बहुत खुश हो जाए लेकिन सही मायने में देखा जाए तो हमारे देश में किस चीज की कमी है रोजगार नहीं मिल पा रहा है सब लोग बेरोजगार हैं फैसिलिटी सुबह हर एक चीज जो मेडिकल फैसिलिटी आज भी आप देखेंगे हॉस्पिटल में जाकर तो लोगों को मतलब लाइन नहीं मिलता है जाने के लिए डॉक्टर तक पहुंचने के लिए यह सब चीज में ज्यादा जरूरत मेरी सबसे मुझे लगता है मोदी सरकार के जगह कोई और सरकार अगर होती जो मतलब पढ़ी-लिखी और काफी मतलब क्वालिफाइड अगर होती तो यह सब चीज के बारे में ज्यादा ध्यान देती मैं यह नहीं कह रहा हूं कि धर्म जरूरी नहीं होता मंदिर मस्जिद बनाना जरूरी नहीं होता लेकिन जरूरत के हिसाब से इंसान मतलब देखकर आप का मन कर रहा बिरयानी खाने का लेकिन आपके पास है सिर्फ चावल और सब्जी सब्जी चावल या फिर भेज बिरयानी बनाने की कोशिश करेंगे आप चिकन बिरयानी तो बनाने की कोशिश करेंगे फिर उम्मीद नहीं रखेंगे तो जरुरत की चीज होगी अभी आपको पेट भर गया तो इसी से कुछ बनाना है इसी से खाना आपको झूठ मूठ में अपने अभी सपने नहीं देखना है जब पता है कि जरूरत इंडिया में इस चीज की है लोग अभी भी मर रहे हैं हॉस्पिटल नहीं जा पा रहे पहुंचे आज बहुत सारे बच्चों को पढ़ने लिखने के लिए नहीं मिल रहा है वह फैसेलिटीज नहीं है तू जहां पर जिस चीज की जरूरत होती है पहले वह पूरा करते हैं ईश्वर कभी यह नहीं बोला कि मेरे लिए यह सब चीज बनाओ तब जाकर मैं तुम लोगों को प्यार करूंगा मन से भी याद करने से और प्यार करने से हो जाता है एक पार्टिकुलर रिलिजन के बारे में नहीं बोल रही में सारे धर्म के बारे में बोल रही हो नहीं ऐसा सोचते कि नहीं उनके लिए कुछ बनाना चाहिए उनके लिए कुछ करना चाहिए पहले जरूरत है इंसानियत पहले आता है तो इंसानियत के नाते पहले हमें उन गरीबों के लिए हर एक इंसान के लिए सोचना चाहिए जिनको एक की नाही रोटी मिल पाती है और ना ही कोटा कोटा बीमारी भी ठीक होगा तो तुम हिसाब से अगर मोदी सरकार नहीं होती कोई और सरकार होती है और जो पढ़ी लिखी होती वह यह सब चीजों के बारे में ज्यादा ध्यान देते
Aaj aapaka savaal hai ki beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aapaka kya kahana hai is baare mein to dekhie jo hamaaree indiya jo maare desh hai vahaan par agar dharm ko lekar kisee ko ladaaya jae to bahut jaldee lad lenge aur agar koee bhee paartee agar dharm ko lekar kisee phevar mein bolata log apanee shaadee ke baare mein phevar mein bol raha hai koee paartee bahut jaldee log khush ho jaate mausam ke baare mein bol raha to khush ho jaate hain aise koee bhee rileej unake baare mein bola jaata to khush ho jaate to yahaan kee kamajoree har ek sarakaar jaanatee hai ki dharm ko lekar mejoritee dekhana hai ki kaun jyaada yahaan par log rahate hain agar vah dekhakar turant un logon ko apanee taraph kheenchane ke lie dharm ko lekar kuchh bhee cheej banaate aakhir bigaad de taaki unako bhee rol karana aur log bhee unase bahut khush ho jae lekin sahee maayane mein dekha jae to hamaare desh mein kis cheej kee kamee hai rojagaar nahin mil pa raha hai sab log berojagaar hain phaisilitee subah har ek cheej jo medikal phaisilitee aaj bhee aap dekhenge hospital mein jaakar to logon ko matalab lain nahin milata hai jaane ke lie doktar tak pahunchane ke lie yah sab cheej mein jyaada jaroorat meree sabase mujhe lagata hai modee sarakaar ke jagah koee aur sarakaar agar hotee jo matalab padhee-likhee aur kaaphee matalab kvaaliphaid agar hotee to yah sab cheej ke baare mein jyaada dhyaan detee main yah nahin kah raha hoon ki dharm jarooree nahin hota mandir masjid banaana jarooree nahin hota lekin jaroorat ke hisaab se insaan matalab dekhakar aap ka man kar raha birayaanee khaane ka lekin aapake paas hai sirph chaaval aur sabjee sabjee chaaval ya phir bhej birayaanee banaane kee koshish karenge aap chikan birayaanee to banaane kee koshish karenge phir ummeed nahin rakhenge to jarurat kee cheej hogee abhee aapako pet bhar gaya to isee se kuchh banaana hai isee se khaana aapako jhooth mooth mein apane abhee sapane nahin dekhana hai jab pata hai ki jaroorat indiya mein is cheej kee hai log abhee bhee mar rahe hain hospital nahin ja pa rahe pahunche aaj bahut saare bachchon ko padhane likhane ke lie nahin mil raha hai vah phaiseliteej nahin hai too jahaan par jis cheej kee jaroorat hotee hai pahale vah poora karate hain eeshvar kabhee yah nahin bola ki mere lie yah sab cheej banao tab jaakar main tum logon ko pyaar karoonga man se bhee yaad karane se aur pyaar karane se ho jaata hai ek paartikular rilijan ke baare mein nahin bol rahee mein saare dharm ke baare mein bol rahee ho nahin aisa sochate ki nahin unake lie kuchh banaana chaahie unake lie kuchh karana chaahie pahale jaroorat hai insaaniyat pahale aata hai to insaaniyat ke naate pahale hamen un gareebon ke lie har ek insaan ke lie sochana chaahie jinako ek kee naahee rotee mil paatee hai aur na hee kota kota beemaaree bhee theek hoga to tum hisaab se agar modee sarakaar nahin hotee koee aur sarakaar hotee hai aur jo padhee likhee hotee vah yah sab cheejon ke baare mein jyaada dhyaan dete

और जवाब सुनें

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:29
पुष्कर दोस्तों बीजेपी की सरकार में हिंदू मंदिर आप लोग जानते हैं बनने वाला है और बनना शुरू भी हो चुका है कृष्ण मंदिर का तो पता नहीं लेकिन राम मंदिर बीजेपी की सरकार में बंधन गया है क्योंकि बीजेपी ने इसमें काफी अच्छा काम भी किया है और काफी जल्दी इसका फैसला सुनाने की अपील भी की है इसलिए हम लोग कह सकते हैं कि बीजेपी का काफी अच्छा रोल रहा है राम मंदिर को बनवाने के लिए तो अगर आपको अच्छी लगी हो जानकारी तो लाइक जरूर करें दोस्तों
Pushkar doston beejepee kee sarakaar mein hindoo mandir aap log jaanate hain banane vaala hai aur banana shuroo bhee ho chuka hai krshn mandir ka to pata nahin lekin raam mandir beejepee kee sarakaar mein bandhan gaya hai kyonki beejepee ne isamen kaaphee achchha kaam bhee kiya hai aur kaaphee jaldee isaka phaisala sunaane kee apeel bhee kee hai isalie ham log kah sakate hain ki beejepee ka kaaphee achchha rol raha hai raam mandir ko banavaane ke lie to agar aapako achchhee lagee ho jaanakaaree to laik jaroor karen doston

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
बीजेपी के अगर सरकार ना होती हो तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते हैं आपकी क्या राय नहीं बना लेते हैं अरे बनाने का सारा इंजॉय रक्तरंजित खेल यहां पर कोई हिंदूवादी भी नहीं है और ना मुस्लिम उसे देश करने वाला भी डिलीट एक्ट्रेसेस में वह इस देश के लोग मुसलमानों के साथ सब करते हैं घुल मिल कर देते आस-पास रहते लेकिन एक सिलेक्शन और चुनाव के संदर्भ में हो जाता है तो हलके से मीडिया इस बात पर कुछ करती है तो यह दोनों की मानसिकता ब्लॉक क्यों हो जाती है और इसका फायदा बीजेपी का और कांग्रेस को होता है 2000 के सेठ जी और मोदी जी इनके पार्टियां हैं और ना यह हिंदू की पार्टियां है ना यह मुस्लिम विरोधी पार्टी है और ना रामसीन को प्यार है ना राम से उनको नफरत ना मंदिर से उनको आस्था है ना मस्जिद मस्जिद सोचता है क्योंकि हर रोज दिखाई देता है यह सब लोग जो है वह इफ्तार पार्टी को जाते हैं वह इधर आते हैं वह उधर जाते हैं चर्चा करते हैं तो यह हिंदू को हिंदू लोगों का राम मंदिर बनाना एकवचन रूप से 9 गया एक टॉपिक है एक कसम दे पूरे देश के लोगों लोगों को जिन को हिंदू कहते हैं उनको इसका पता भी नहीं था कि कहा योग्य है अब कहां पर मस्जिद है लेकिन एक पार्टी बनानी थी उसको बड़ोस को बढ़ाना था इसके लिए कुछ धार्मिक सत्ता 57a बीजेपी किसी पार्टी को ही का पार्टी का निर्माण किया हम उस के माध्यम से यह राम का और यह मस्जिद का आंदोलन सफल हो गया भारत में हर गांव में हर घर में मंदिर यादव जी उठता है कि जीके के बांध के होते हैं हर भानपुर लगभग एक सुरक्षित पत्थर को भगवान बना के रखा हुआ जाता है उसको पूजा भी जाता है उस पर भगवा या लाल रंग खाली सिर्फ उसमें कम से कम डाला तो जाता है और लोगों को ऐसे दूसरे रूम में आस्था है वही उनकेश्वर है वहीं उनके भगवान है वहीं उनके उनके संरक्षण करने वाले भूतों के तुमसे और जोरो से और नैसर्गिक आपत्तियों से को बचाने वाली देवी देवता होते हैं और यह बात उनके ख्याल में भी नहीं थे और आज भी तो कुछ इंटरेस्ट नहीं होता है लोगों को गांव के लेकिन राजनीतिक क्षेत्र क्षेत्र जाए उसको उसको इसमें इंटरेस्ट है राजनीतिक स्वास्थ्य के लिए तो यह सब बाकी का फिर हो गए आडवाणी की रथ यात्रा के बाद यह सब यह सीआईएनआर है और यह समझो है यहां तक दिल्ली का दंगा तक आई है सफल हुआ ऐसे टॉपिक जानबूझकर आने के बाद और सच में मैं कहता हूं कि बीजेपी की सरकार की जय इनका जो ग्रुप है नहीं होता और इस दिशा में आंदोलन नहीं करता तब हिंदू लोग कभी भी मंदिर नहीं बनाते हैं और ना किसी का पर मथुरा में कृष्ण का मंदिर बनाते हैं जैसा पहले था वैसा ही करती थी उसे यात्राएं करते सब कुछ करते हैं लेकिन किसी मस्जिद को गिरा कर किसी मंदिर के बन्ना को बनाने का आंदोलन मूसा चार बाकी कुछ नहीं करती इसलिए मुझे मेरा स्पष्ट मानना है कि बीजेपी की सरकार ना होती तो तो हिंदू लोग राम मंदिर कतई नहीं बनाते हैं धन्यवाद
Beejepee ke agar sarakaar na hotee ho tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete hain aapakee kya raay nahin bana lete hain are banaane ka saara injoy raktaranjit khel yahaan par koee hindoovaadee bhee nahin hai aur na muslim use desh karane vaala bhee dileet ektreses mein vah is desh ke log musalamaanon ke saath sab karate hain ghul mil kar dete aas-paas rahate lekin ek silekshan aur chunaav ke sandarbh mein ho jaata hai to halake se meediya is baat par kuchh karatee hai to yah donon kee maanasikata blok kyon ho jaatee hai aur isaka phaayada beejepee ka aur kaangres ko hota hai 2000 ke seth jee aur modee jee inake paartiyaan hain aur na yah hindoo kee paartiyaan hai na yah muslim virodhee paartee hai aur na raamaseen ko pyaar hai na raam se unako napharat na mandir se unako aastha hai na masjid masjid sochata hai kyonki har roj dikhaee deta hai yah sab log jo hai vah iphtaar paartee ko jaate hain vah idhar aate hain vah udhar jaate hain charcha karate hain to yah hindoo ko hindoo logon ka raam mandir banaana ekavachan roop se 9 gaya ek topik hai ek kasam de poore desh ke logon logon ko jin ko hindoo kahate hain unako isaka pata bhee nahin tha ki kaha yogy hai ab kahaan par masjid hai lekin ek paartee banaanee thee usako bados ko badhaana tha isake lie kuchh dhaarmik satta 57a beejepee kisee paartee ko hee ka paartee ka nirmaan kiya ham us ke maadhyam se yah raam ka aur yah masjid ka aandolan saphal ho gaya bhaarat mein har gaanv mein har ghar mein mandir yaadav jee uthata hai ki jeeke ke baandh ke hote hain har bhaanapur lagabhag ek surakshit patthar ko bhagavaan bana ke rakha hua jaata hai usako pooja bhee jaata hai us par bhagava ya laal rang khaalee sirph usamen kam se kam daala to jaata hai aur logon ko aise doosare room mein aastha hai vahee unakeshvar hai vaheen unake bhagavaan hai vaheen unake unake sanrakshan karane vaale bhooton ke tumase aur joro se aur naisargik aapattiyon se ko bachaane vaalee devee devata hote hain aur yah baat unake khyaal mein bhee nahin the aur aaj bhee to kuchh intarest nahin hota hai logon ko gaanv ke lekin raajaneetik kshetr kshetr jae usako usako isamen intarest hai raajaneetik svaasthy ke lie to yah sab baakee ka phir ho gae aadavaanee kee rath yaatra ke baad yah sab yah seeaeeenaar hai aur yah samajho hai yahaan tak dillee ka danga tak aaee hai saphal hua aise topik jaanaboojhakar aane ke baad aur sach mein main kahata hoon ki beejepee kee sarakaar kee jay inaka jo grup hai nahin hota aur is disha mein aandolan nahin karata tab hindoo log kabhee bhee mandir nahin banaate hain aur na kisee ka par mathura mein krshn ka mandir banaate hain jaisa pahale tha vaisa hee karatee thee use yaatraen karate sab kuchh karate hain lekin kisee masjid ko gira kar kisee mandir ke banna ko banaane ka aandolan moosa chaar baakee kuchh nahin karatee isalie mujhe mera spasht maanana hai ki beejepee kee sarakaar na hotee to to hindoo log raam mandir katee nahin banaate hain dhanyavaad

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
1:33
भारत देश में बीजेपी की सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते हैं आपका क्या कहना है इस बारे में आपको बता जाएंगे जी नहीं मुझे नहीं लगता कि हिंदू इतना ज्यादा जागृत हो चुके हैं क्या इतना ज्यादा अपने अधिकारों को लेकर बुखार है कि वह अपना मंदिर भी बना पाते आज के समय में भी सिर्फ बीजेपी गवर्नमेंट होने की वजह से ही यहां पर कहां जाएं तो इतना ज्यादा प्रभावी तरीके से हिंदुत्व सामने निकल कर आया है वरना 500 साल से मुकदमा चल रहा था यार अब बाबरी मस्जिद बना दी गई थी मंदिर तोड़कर के उसको वापस आज तक तो ले नहीं पाए थे तो अभी मुझे नहीं लगता कि अगले 1000 साल तक भी जो हिंदू है वह उसको वापस ले पाते यहां पर इन चीजों में देरी इसलिए आई क्योंकि सरकार ने तेजी दिखाई मुकदमे की तारीख है जल्दी लगी है कुछ हुआ तब जाकर यहां पर इसका एक फैसला निकल कर आया फिर चाहे वह आप कश्मीर का मुद्दा देखिए वहां पर भी जो इतने सालों से अलग है जो कश्मीर की राजनीति राजनीति चल रही थी उसमें पूरा चेंज आया यहां पर राजनीतिक इच्छाशक्ति बहुत ज्यादा मायने रखती है और वह जब तक पार्टियों के अंदर नहीं होती तब तक कोई भी अपने निर्णय इस तरह के नहीं लिए जा सकते आपके क्या विचार हैं बारे में अपने विचार कम शिक्षा में जरुर व्यक्त करें मि शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Bhaarat desh mein beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete hain aapaka kya kahana hai is baare mein aapako bata jaenge jee nahin mujhe nahin lagata ki hindoo itana jyaada jaagrt ho chuke hain kya itana jyaada apane adhikaaron ko lekar bukhaar hai ki vah apana mandir bhee bana paate aaj ke samay mein bhee sirph beejepee gavarnament hone kee vajah se hee yahaan par kahaan jaen to itana jyaada prabhaavee tareeke se hindutv saamane nikal kar aaya hai varana 500 saal se mukadama chal raha tha yaar ab baabaree masjid bana dee gaee thee mandir todakar ke usako vaapas aaj tak to le nahin pae the to abhee mujhe nahin lagata ki agale 1000 saal tak bhee jo hindoo hai vah usako vaapas le paate yahaan par in cheejon mein deree isalie aaee kyonki sarakaar ne tejee dikhaee mukadame kee taareekh hai jaldee lagee hai kuchh hua tab jaakar yahaan par isaka ek phaisala nikal kar aaya phir chaahe vah aap kashmeer ka mudda dekhie vahaan par bhee jo itane saalon se alag hai jo kashmeer kee raajaneeti raajaneeti chal rahee thee usamen poora chenj aaya yahaan par raajaneetik ichchhaashakti bahut jyaada maayane rakhatee hai aur vah jab tak paartiyon ke andar nahin hotee tab tak koee bhee apane nirnay is tarah ke nahin lie ja sakate aapake kya vichaar hain baare mein apane vichaar kam shiksha mein jarur vyakt karen mi shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:35
प्रश्न है कि बीजेपी की सरकार ना होती तो तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आप का क्या कहना है इस बारे में तू दिखे फ्रेंड हम ऐसा नहीं कर सकते इसलिए नहीं कर सकते क्या बीजेपी नहीं डिसाइड करेगी कि हम राम की या कृष्ण की या किसी की पूजा करें क्योंकि हमारे अंदर मन और विश्वास होना चाहिए राम के प्रति कृष्ण के प्रति हम बहुत सारे मंदिर बना लेंगे अगर हमारा मन साफ होगा ना तो हम मंदिर क्या भगवान को ही बुला सकते हैं भगवान को अपने यहां बचा सकते भगवान को अपने हाथ रख सकते अपने दिल और दिमाग में कहा जाता है कि जब श्रद्धा रहेगी तो सब कुछ संभव है जबरदस्ती हम कुछ भी नहीं कर सकते कि वह कुछ समय के लिए जबरदस्ती रहता है तुम्हें बस यही कहना चाहूंगा कि सरकार यह डिसाइड नहीं करेगी क्या आप हिंदू मंदिर बनाई है राम कृष्ण मंदिर बनाइए या कुछ जिस भगवान को मानते हैं उस मंदिर को हमारे अंदर ऑटोमेटिक एक विश्वास होना चाहिए हमारे अंदर की संकल्पना होनी चाहिए कि हां हम भगवान की पूजा कर रहे हैं उन्हें एक अच्छा सा रूप दे उसे एक मंदिर के रूप में कि मैं वहां पर बैठ सकूं 24 लोकगीत उनका गुणगान कर सके और हम अपनी जो भी स्थिति है वहां पर बैठकर भगवान से याचना प्रार्थना कर सकें
Prashn hai ki beejepee kee sarakaar na hotee to tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aap ka kya kahana hai is baare mein too dikhe phrend ham aisa nahin kar sakate isalie nahin kar sakate kya beejepee nahin disaid karegee ki ham raam kee ya krshn kee ya kisee kee pooja karen kyonki hamaare andar man aur vishvaas hona chaahie raam ke prati krshn ke prati ham bahut saare mandir bana lenge agar hamaara man saaph hoga na to ham mandir kya bhagavaan ko hee bula sakate hain bhagavaan ko apane yahaan bacha sakate bhagavaan ko apane haath rakh sakate apane dil aur dimaag mein kaha jaata hai ki jab shraddha rahegee to sab kuchh sambhav hai jabaradastee ham kuchh bhee nahin kar sakate ki vah kuchh samay ke lie jabaradastee rahata hai tumhen bas yahee kahana chaahoonga ki sarakaar yah disaid nahin karegee kya aap hindoo mandir banaee hai raam krshn mandir banaie ya kuchh jis bhagavaan ko maanate hain us mandir ko hamaare andar otometik ek vishvaas hona chaahie hamaare andar kee sankalpana honee chaahie ki haan ham bhagavaan kee pooja kar rahe hain unhen ek achchha sa roop de use ek mandir ke roop mein ki main vahaan par baith sakoon 24 lokageet unaka gunagaan kar sake aur ham apanee jo bhee sthiti hai vahaan par baithakar bhagavaan se yaachana praarthana kar saken

Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
1:34
यदि बीजेपी की सरकार ना होती तो हिंदू लोग राम और कृष्ण का मंत्र कभी नहीं बना पाते अयोध्या का राम मंदिर का मैंने ही नहीं हो पाता क्योंकि कांग्रेस कदापि भी राम मंदिर का निर्णय भी पारित होने की थी और यदि राम मंदिर का निर्णय सुप्रीम कोर्ट देवी देवता तो कांग्रेस उसको कभी भी और हो नहीं करती हो कि कांग्रेस ने जीवन भर तुष्टिकरण नीति का पालन किया धर्म विशेष जाति विशेष के लोगों को प्रसन्न करने में लगी रही इस कांग्रेस के पतन की एक कहानी है क्योंकि कांग्रेस का प्रारंभ से जो इतिहास देखेंगे तभी कांग्रेस सहित तुष्टिकरण करने वाली पॉलिटिकल पार्टी रही है और वही स्थिति आज भी है उसी का कारण है क्या आप देख लीजिए राम मंदिर का फैसला आज बीजेपी है तब हो पाया और राम मंदिर भी बीजेपी के कारण से आज अयोध्या में बन रहा है इसके दी बीजेपी धन्यवाद का पात्र है ना कि कांग्रेस कांग्रेस तो एक पुष्टिकरण करने वाली एक जाति धर्म विशेष की हां में हां मिलाने वाली एक ऐसा राजनीतिक दल है जो हिंदुत्व के एकदम विरोधी है
Yadi beejepee kee sarakaar na hotee to hindoo log raam aur krshn ka mantr kabhee nahin bana paate ayodhya ka raam mandir ka mainne hee nahin ho paata kyonki kaangres kadaapi bhee raam mandir ka nirnay bhee paarit hone kee thee aur yadi raam mandir ka nirnay supreem kort devee devata to kaangres usako kabhee bhee aur ho nahin karatee ho ki kaangres ne jeevan bhar tushtikaran neeti ka paalan kiya dharm vishesh jaati vishesh ke logon ko prasann karane mein lagee rahee is kaangres ke patan kee ek kahaanee hai kyonki kaangres ka praarambh se jo itihaas dekhenge tabhee kaangres sahit tushtikaran karane vaalee politikal paartee rahee hai aur vahee sthiti aaj bhee hai usee ka kaaran hai kya aap dekh leejie raam mandir ka phaisala aaj beejepee hai tab ho paaya aur raam mandir bhee beejepee ke kaaran se aaj ayodhya mein ban raha hai isake dee beejepee dhanyavaad ka paatr hai na ki kaangres kaangres to ek pushtikaran karane vaalee ek jaati dharm vishesh kee haan mein haan milaane vaalee ek aisa raajaneetik dal hai jo hindutv ke ekadam virodhee hai

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:47
दोस्तों प्रश्न है कि बीजेपी सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आपका क्या कहना है इस बारे में तो दोस्तों पहले भी बीजेपी की सरकार थी ऐसा नहीं हो पाया एक हमारी जो मोदी जी की सरकार है एक सुधीर सरकार है और मोदी जी का जो निर्णय लेने की क्षमता है उन के आधार पर ही यह सारे चाहे कश्मीर का मसला हो धारा 370 का हो चाहे मंदिर बनाने का हो वही संभव हो पाया है हो सकता है कि आने वाले समय में बीजेपी में कोई ऐसा नेता हो सुधीर वह हो सकता है कि इतना अच्छा नहीं रख पाए जितना मोदी जी ने लिया है तो ऐसा नहीं है कि और पार्टियां आती हैं तो नहीं बना पाती हैं लेकिन यह हिंदुत्व का मुद्दा है और पहली बात तो समस्या ऐसी है कि पहले के जो पार्टियां होती थी कि मुसलमान भाई एक तरफा वोट करते थे तो उनकी बातें मानते थे और हिंदू बैठे हुए थे तो बीजेपी सरकार ने जो मोदी जी के नेतृत्व में आई है उन्होंने हिंदुओं को इकट्ठा करने की कोशिश किया है लोगों को समझाया है और ऐसा नहीं है कि उन्होंने अन्य जातियों के लोग मुसलमान भाइयों के लिए कोई गलत किया है उनके लिए तीन तलाक कानून जो एक नुकसानदायक महिलाओं के लिए तो महिलाओं ने काफी समर्थन किया मस्जिद के लिए जगह देखिए देश में लड़ झगड़ कर कोई फायदा नहीं होता पार्टी वाले लगाते हैं हमारे घर के पास जैसे में गांव जाता हूं हिंदू मुसलमान है तुमसे कोई मतलब नहीं है कि कौन क्या हिंदू मुसलमान अपना भाई चारे के साथ रहते हैं लेकिन हम टीवी जब उठा कर देख लेते हैं तो उसमें कुछ अलग ही दृश्य दिखाई देता है मन में कड़वाहट खोली जाती है तो ऐसा नहीं है किसी की साम्राज्य में भी बन सकता है लेकिन सबसे ज्यादा जो श्रेय जाता है वह हमारे प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी को जाता है धन्यवाद
Doston prashn hai ki beejepee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aapaka kya kahana hai is baare mein to doston pahale bhee beejepee kee sarakaar thee aisa nahin ho paaya ek hamaaree jo modee jee kee sarakaar hai ek sudheer sarakaar hai aur modee jee ka jo nirnay lene kee kshamata hai un ke aadhaar par hee yah saare chaahe kashmeer ka masala ho dhaara 370 ka ho chaahe mandir banaane ka ho vahee sambhav ho paaya hai ho sakata hai ki aane vaale samay mein beejepee mein koee aisa neta ho sudheer vah ho sakata hai ki itana achchha nahin rakh pae jitana modee jee ne liya hai to aisa nahin hai ki aur paartiyaan aatee hain to nahin bana paatee hain lekin yah hindutv ka mudda hai aur pahalee baat to samasya aisee hai ki pahale ke jo paartiyaan hotee thee ki musalamaan bhaee ek tarapha vot karate the to unakee baaten maanate the aur hindoo baithe hue the to beejepee sarakaar ne jo modee jee ke netrtv mein aaee hai unhonne hinduon ko ikattha karane kee koshish kiya hai logon ko samajhaaya hai aur aisa nahin hai ki unhonne any jaatiyon ke log musalamaan bhaiyon ke lie koee galat kiya hai unake lie teen talaak kaanoon jo ek nukasaanadaayak mahilaon ke lie to mahilaon ne kaaphee samarthan kiya masjid ke lie jagah dekhie desh mein lad jhagad kar koee phaayada nahin hota paartee vaale lagaate hain hamaare ghar ke paas jaise mein gaanv jaata hoon hindoo musalamaan hai tumase koee matalab nahin hai ki kaun kya hindoo musalamaan apana bhaee chaare ke saath rahate hain lekin ham teevee jab utha kar dekh lete hain to usamen kuchh alag hee drshy dikhaee deta hai man mein kadavaahat kholee jaatee hai to aisa nahin hai kisee kee saamraajy mein bhee ban sakata hai lekin sabase jyaada jo shrey jaata hai vah hamaare pradhaanamantree maananeey shree narendr modee jee ko jaata hai dhanyavaad

T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:58
प्रश्न कुछ ऐसा किया गया है कि बीजेपी की सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आपका क्या कहना है इस बार अब देखिए किसी को इस तरह का प्रश्न कर उतना ही है और उसको शंका अपनी जाहिर करनी ही हैं या उसको अपना नकारात्मक एजेंडा चलाना ही है तो निसंदेह लोकतंत्र है वह कर सकता है और ऐसा लिख बोल सकता है लेकिन यूपी में दो वक्त की रोटी खाता हूं क्योंकि ईश्वर ने मुझे पर्याप्त सोचने समझने की शक्ति दी है इतनी बुद्धि और इतना ज्ञान मुझे अगर कोई यह कहता है कि बीजेपी की सरकार ना होती तब भी मंडे हिंदू लोग बना ही लेते अब्बा देती है ऐसा नहीं है कि अब जो मंदिर बन रहा है उसमें भी हिंदुओं का योगदान नहीं वह तो है ही लेकिन इस देश यह देश आजाद 1947 में हुआ था और यह जो राम मंदिर की लोगों की अपनी आस्था से हिंदुओं के प्रेरणा स्रोत भगवान श्रीराम उनके बंदे के लिए तो लोग तब से प्रयासरत में प्रयासरत जबकि ऐसा नहीं है 1947 से पहले भी करीब 500 वर्षों से हिंदू अपनी पीड़ा लिए हुए मंदिर को तोड़कर हिंदू तो पहले भी था न साहब तो यह हिंदू मंदिर उनका ही क्यों और टूट कर के वहां पर मस्जिद बनी थी कि हम हर धर्म का सम्मान करते हैं आदर करते हैं लेकिन किसी और के धर्मस्थल को तोड़ कर के उस पर दूसरा मंदिर दूसरा मस्जिद और कोई वहां पर आध्यात्मिक स्थल बनाना गलत बात है लेकिन बीजेपी की सरकार ना होती अगर यह संभव होता तो जाकर के कुछ दिन गुजारी है केरला के अंदर और पश्चिम बंगाल में और वहां पर छोटा मंदिर बना करके देखिए तो पता लग जाएगा इसका उत्तर धन्यवाद
Prashn kuchh aisa kiya gaya hai ki beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aapaka kya kahana hai is baar ab dekhie kisee ko is tarah ka prashn kar utana hee hai aur usako shanka apanee jaahir karanee hee hain ya usako apana nakaaraatmak ejenda chalaana hee hai to nisandeh lokatantr hai vah kar sakata hai aur aisa likh bol sakata hai lekin yoopee mein do vakt kee rotee khaata hoon kyonki eeshvar ne mujhe paryaapt sochane samajhane kee shakti dee hai itanee buddhi aur itana gyaan mujhe agar koee yah kahata hai ki beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee mande hindoo log bana hee lete abba detee hai aisa nahin hai ki ab jo mandir ban raha hai usamen bhee hinduon ka yogadaan nahin vah to hai hee lekin is desh yah desh aajaad 1947 mein hua tha aur yah jo raam mandir kee logon kee apanee aastha se hinduon ke prerana srot bhagavaan shreeraam unake bande ke lie to log tab se prayaasarat mein prayaasarat jabaki aisa nahin hai 1947 se pahale bhee kareeb 500 varshon se hindoo apanee peeda lie hue mandir ko todakar hindoo to pahale bhee tha na saahab to yah hindoo mandir unaka hee kyon aur toot kar ke vahaan par masjid banee thee ki ham har dharm ka sammaan karate hain aadar karate hain lekin kisee aur ke dharmasthal ko tod kar ke us par doosara mandir doosara masjid aur koee vahaan par aadhyaatmik sthal banaana galat baat hai lekin beejepee kee sarakaar na hotee agar yah sambhav hota to jaakar ke kuchh din gujaaree hai kerala ke andar aur pashchim bangaal mein aur vahaan par chhota mandir bana karake dekhie to pata lag jaega isaka uttar dhanyavaad

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:36
आपका स्वास्थ इस प्रकार से है बीजेपी की सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आपका क्या कहना है इस बारे में तो साथियों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है हमारे देश के आजाद होने से पहले भी हमारे देश में धर्म की आस्था और सभी अपने अपने हिसाब से सभी धर्म को मानते थे कोई हिंदू धर्म को मानता था कोई जैन धर्म को कोई बहुत धर्म वशीकरण सब अपने-अपने धर्म में आस्था रखते थे और हमें तो सभी को अपने-अपने धर्म पर विश्वास था और देश आजाद होने के बाद भी हमारे देश में धर्म यात्रा बहुत ज्यादा थी जो कोई भी त्यौहार होते थे उनको बड़े शौक से मनाते थे दीपावली का त्यौहार हो या होली का त्यौहार हो या बुधवार को ना हो बड़ी आस्था और धूमधाम के साथ मनाते थे उसमें चाहे राम का मंदिर हो या कृष्ण जी का मंदिर हो यह तो हमारे आस्था का है जो अगर बीजेपी पार्टी भी नहीं होती तब भी हमारे देश में राम का मंदिर की बनता और कस्टम मंदिर भी बनता क्योंकि यह तो हमारी आस्था का भी पार्टी का कोई योगदान नहीं है मंदिर बनाने में यह तो हमारे देश की आम जन की आस्था का विषय है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Aapaka svaasth is prakaar se hai beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aapaka kya kahana hai is baare mein to saathiyon aapake savaal ka uttar is prakaar se hai hamaare desh ke aajaad hone se pahale bhee hamaare desh mein dharm kee aastha aur sabhee apane apane hisaab se sabhee dharm ko maanate the koee hindoo dharm ko maanata tha koee jain dharm ko koee bahut dharm vasheekaran sab apane-apane dharm mein aastha rakhate the aur hamen to sabhee ko apane-apane dharm par vishvaas tha aur desh aajaad hone ke baad bhee hamaare desh mein dharm yaatra bahut jyaada thee jo koee bhee tyauhaar hote the unako bade shauk se manaate the deepaavalee ka tyauhaar ho ya holee ka tyauhaar ho ya budhavaar ko na ho badee aastha aur dhoomadhaam ke saath manaate the usamen chaahe raam ka mandir ho ya krshn jee ka mandir ho yah to hamaare aastha ka hai jo agar beejepee paartee bhee nahin hotee tab bhee hamaare desh mein raam ka mandir kee banata aur kastam mandir bhee banata kyonki yah to hamaaree aastha ka bhee paartee ka koee yogadaan nahin hai mandir banaane mein yah to hamaare desh kee aam jan kee aastha ka vishay hai dhanyavaad saathiyon khush raho

TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
2:09
नमस्कार दोस्तों उसने पूछा बीजेपी की सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आपका क्या कहना है इस बारे में बहुत अच्छा तो आपको मैं कुछ रिप्लाई कर देता हूं लेकिन जितने भी सरकारी नहीं है उन्होंने धर्म के नाम पर राजनीति करी है आकाश के नाम पर राजनीति करी है उसे वोट बैंक की राजनीति करी है यह सरकार भी इस को फॉलो करती हो कहीं ना कहीं मैसेज के बारे में जाना नहीं चाहता लेकिन जो राम मंदिर का मुद्दा था जिसका आधार बनाकर हर सरकार ने हिंदुओं को बेवकूफ बनाया उनसे वोट लिए और सुमित को ही खत्म कर देते थे क्योंकि उनको बहुत बड़ा वोट बैंक जो मुस्लिम था उनसे भी उनको वोट लेने थे लेकिन बीजेपी सरकार आते ही उन्होंने इस चीज को सुनकर कि हिंदू हिंदुस्तान में जो हिंदुओं की भूमि है जहां पर सभी देश सभी लोग रहते हैं और जो एक तरह से हिंदुत्व है जो पूरा पूरा उसको अगर हम अपनी सभ्यता को नहीं बचाएंगे उस पर अतिक्रमण की वजह से जो पहले भी हुआ है उनकी वजह से तो एक समय ऐसा आएगा कि हिंदुओं को व्यवस्थित भी नहीं रहेगा जोर देश हिंदुस्तान हिंदू के नाम से जाना जाता है हिंदू धर्म के नाम से जाना जाता है इस धर्म में हर धर्म को अपनाने में जोर का लेकिन यह सभी को पढ़ाने के चक्कर में खुद बिखरता जा रहा है जैसे कि अधिकतम बहुत से हिंदू जो है उस चीज को साथ नहीं मानते हैं लेकिन यह बिल्कुल सही बात होगी कि बीजेपी सरकार नहीं होती तो हम हिंदू धर्म के लिए कुछ भी नहीं कर पाते हो ना ही मंदिर बना पाते ना ही कृष्ण मंदिर बना कि नहीं राम मंदिर बना पाते हैं क्योंकि हमारे इतने पूर्वजों ने अपने देश के लिए हम सभ्यता को बचाने के लिए दिन कोशिश करें उनके स्मृति चिह्न सब कुछ खत्म कर दिए गए हिंदुओं का निशान मिटाने की खत्म कर देंगे तो यही है कि बीजेपी सरकार नहीं होती तो बिल्कुल हिंदू जो है लोग मुझे राम मंदिर कृष्ण मंदिर नहीं बना पाते हो आशा करता हूं आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया वह लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Namaskaar doston usane poochha beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aapaka kya kahana hai is baare mein bahut achchha to aapako main kuchh riplaee kar deta hoon lekin jitane bhee sarakaaree nahin hai unhonne dharm ke naam par raajaneeti karee hai aakaash ke naam par raajaneeti karee hai use vot baink kee raajaneeti karee hai yah sarakaar bhee is ko pholo karatee ho kaheen na kaheen maisej ke baare mein jaana nahin chaahata lekin jo raam mandir ka mudda tha jisaka aadhaar banaakar har sarakaar ne hinduon ko bevakooph banaaya unase vot lie aur sumit ko hee khatm kar dete the kyonki unako bahut bada vot baink jo muslim tha unase bhee unako vot lene the lekin beejepee sarakaar aate hee unhonne is cheej ko sunakar ki hindoo hindustaan mein jo hinduon kee bhoomi hai jahaan par sabhee desh sabhee log rahate hain aur jo ek tarah se hindutv hai jo poora poora usako agar ham apanee sabhyata ko nahin bachaenge us par atikraman kee vajah se jo pahale bhee hua hai unakee vajah se to ek samay aisa aaega ki hinduon ko vyavasthit bhee nahin rahega jor desh hindustaan hindoo ke naam se jaana jaata hai hindoo dharm ke naam se jaana jaata hai is dharm mein har dharm ko apanaane mein jor ka lekin yah sabhee ko padhaane ke chakkar mein khud bikharata ja raha hai jaise ki adhikatam bahut se hindoo jo hai us cheej ko saath nahin maanate hain lekin yah bilkul sahee baat hogee ki beejepee sarakaar nahin hotee to ham hindoo dharm ke lie kuchh bhee nahin kar paate ho na hee mandir bana paate na hee krshn mandir bana ki nahin raam mandir bana paate hain kyonki hamaare itane poorvajon ne apane desh ke lie ham sabhyata ko bachaane ke lie din koshish karen unake smrti chihn sab kuchh khatm kar die gae hinduon ka nishaan mitaane kee khatm kar denge to yahee hai ki beejepee sarakaar nahin hotee to bilkul hindoo jo hai log mujhe raam mandir krshn mandir nahin bana paate ho aasha karata hoon aapako aapake savaal ka javaab mil gaya vah laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

Sandeep Goyal Chandigarh  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sandeep जी का जवाब
Tabla player artist and music home tutor
2:43
नमस्कार बहुत अच्छा सवाल आपका बीजेपी की सरकार ना होती तो राम और बीजेपी की सरकार ना होती तो राम और कृष्ण गीता मंदिर जो है हिंदू लोग बना लेते तो भाई अब तक क्यों नहीं बना अब तक क्यों नहीं बना था और सरकारों ने क्या कर लिया था जो अब मतलब की और यदि पहले ही बन जाना होता तो कब का ना बन गया होता यह राजनीति है साहब भगवान के मंदिरों पर भी लोगों ने राजनीति करना नहीं छोड़ा बिछड़ पिक्चर गदर पिक्चर का करके कोई इधर खींचता है कोई उधर खींचता है तो यह चीज है कम से कम होने पर याद तो किया बनाने का यह चीज है देखो जी हम या किसी का प्रमोशन नहीं कर रही है किसी के फेवर में नहीं हो रही लेकिन हां जो शक्ति होता है दिखता है कहते हैं जो चीज दिखती है वह होती नहीं है क्या जो होती है तो जनता को क्या है कि अगर खाने को मिल जाए तब तो उसके आगे ना मिले तो उसको लात मारे अब यही जनता है जिन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को खड़ा किया प्रधानमंत्री बनाया और एक बार नहीं मेरे हिसाब से मुझे लगता है शायद दो बार हां दो-तीन बार से चुनाव में जीत आया है और यही जनता है जब उनकी बुराइयां कर रही हैं तो वहीं और सरकारों ने क्या कर लिया मंदिर बना ली कितने मंदिर बना लिए कितना क्या किया अग्रणी प्रयास किया है तो हो सकता है कि वही कुछ किया भी हो और कर भी रहे होंगे तो यह चीज होती है बस इतना ही कहूंगा कुछ गलत कहा हो तो दी उसके लिए क्षमा चाहूंगा लेकिन हां जवाब अच्छा लगे तो लाइक कीजिएगा जरूर धन्यवाद
Namaskaar bahut achchha savaal aapaka beejepee kee sarakaar na hotee to raam aur beejepee kee sarakaar na hotee to raam aur krshn geeta mandir jo hai hindoo log bana lete to bhaee ab tak kyon nahin bana ab tak kyon nahin bana tha aur sarakaaron ne kya kar liya tha jo ab matalab kee aur yadi pahale hee ban jaana hota to kab ka na ban gaya hota yah raajaneeti hai saahab bhagavaan ke mandiron par bhee logon ne raajaneeti karana nahin chhoda bichhad pikchar gadar pikchar ka karake koee idhar kheenchata hai koee udhar kheenchata hai to yah cheej hai kam se kam hone par yaad to kiya banaane ka yah cheej hai dekho jee ham ya kisee ka pramoshan nahin kar rahee hai kisee ke phevar mein nahin ho rahee lekin haan jo shakti hota hai dikhata hai kahate hain jo cheej dikhatee hai vah hotee nahin hai kya jo hotee hai to janata ko kya hai ki agar khaane ko mil jae tab to usake aage na mile to usako laat maare ab yahee janata hai jinhonne pradhaanamantree shree narendr modee ko khada kiya pradhaanamantree banaaya aur ek baar nahin mere hisaab se mujhe lagata hai shaayad do baar haan do-teen baar se chunaav mein jeet aaya hai aur yahee janata hai jab unakee buraiyaan kar rahee hain to vaheen aur sarakaaron ne kya kar liya mandir bana lee kitane mandir bana lie kitana kya kiya agranee prayaas kiya hai to ho sakata hai ki vahee kuchh kiya bhee ho aur kar bhee rahe honge to yah cheej hotee hai bas itana hee kahoonga kuchh galat kaha ho to dee usake lie kshama chaahoonga lekin haan javaab achchha lage to laik keejiega jaroor dhanyavaad

Rishabh Sengar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rishabh जी का जवाब
Student
1:12
पूछा गया है कि बीजेपी की सरकार ना होती तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते आपका क्या कहना है इस बारे में लेकर भारतीय जनता पार्टी जो है वह हिंदुओं की ना तो ठेकेदार है ना ही हिंदू लोगों का कोई कर्ज है भारतीय जनता पार्टी के पास था लेकिन हिंदुओं से जुड़े मुद्दों को भारतीय जनता पार्टी समय-समय पर उठाती रहती है लेकिन इसका यह मतलब कदापि नहीं है कि भारतीय जनता पार्टी समस्त हिंदुओं के ठेकेदार हो जाएगी भारतीय जनता पार्टी एक राजनीतिक पार्टी है जो हिंदुओं के मुद्दे उठाकर हिंदुओं का वोट लेती है यह एकतरफा नहीं होता हिंदुओं के मुद्दे उठाती है तो हिंदू उनको वोट देते हैं और जिस दिन भारतीय जनता पार्टी हिंदुओं के मुद्दे उठाना बंद कर देगी हिंदू लोग भी भारतीय जनता पार्टी की उपेक्षा करके भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से बाहर का किनारा दिखा देंगे इसलिए भारतीय जनता पार्टी को भी अहंकार में नहीं आना चाहिए और यह नहीं समझना चाहिए कि अगर वह नहीं होते तो रामकृष्ण और किसी का भी मंदिर हिंदू जनता नहीं बना सकती यह हिंदू जनमानस का ही प्रचंड बहुमत था जिसके कारण आज भारतीय जनता पार्टी राजनीति के शीर्ष स्थान पर बैठी है बहुत-बहुत आभार
Poochha gaya hai ki beejepee kee sarakaar na hotee tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete aapaka kya kahana hai is baare mein lekar bhaarateey janata paartee jo hai vah hinduon kee na to thekedaar hai na hee hindoo logon ka koee karj hai bhaarateey janata paartee ke paas tha lekin hinduon se jude muddon ko bhaarateey janata paartee samay-samay par uthaatee rahatee hai lekin isaka yah matalab kadaapi nahin hai ki bhaarateey janata paartee samast hinduon ke thekedaar ho jaegee bhaarateey janata paartee ek raajaneetik paartee hai jo hinduon ke mudde uthaakar hinduon ka vot letee hai yah ekatarapha nahin hota hinduon ke mudde uthaatee hai to hindoo unako vot dete hain aur jis din bhaarateey janata paartee hinduon ke mudde uthaana band kar degee hindoo log bhee bhaarateey janata paartee kee upeksha karake bhaarateey janata paartee ko satta se baahar ka kinaara dikha denge isalie bhaarateey janata paartee ko bhee ahankaar mein nahin aana chaahie aur yah nahin samajhana chaahie ki agar vah nahin hote to raamakrshn aur kisee ka bhee mandir hindoo janata nahin bana sakatee yah hindoo janamaanas ka hee prachand bahumat tha jisake kaaran aaj bhaarateey janata paartee raajaneeti ke sheersh sthaan par baithee hai bahut-bahut aabhaar

lyadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए lyadav जी का जवाब
Unknown
2:01
जी हां मेरा ऐसा मानना है और विश्वास भी है अगर बीजेपी ना होती है तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते इस मुद्दे का राजनीतिकरण होने के कारण इसे बनाने में इतना समय लग गया राम तो सभी राजाओं के भी राजा हैं मेरा तो ऐसा मानना है इस दुनिया में जो भी होता है उनकी ही इच्छा और मर्जी से होता है और हर कोई उनका कार्य करने के लिए आतुर होते रहता है संगठित होकर रहना हिंदुओं के खून में है समय कुछ समय के लिए बलवान जरूर हो सकता है पर वह राम श्री राम जी की मर्यादा के आगे नहीं टिक सकता मर्यादा का एक पहलू हम यह भी कह सकते हैं पहले सभी को मौका दिया जाए फिर जो सर्वोत्तम हो उसे किया जाए पाकिस्तान जैसे देशों की हालत किसी से छुपी नहीं है आज इस मुद्दे का राजनीतिकरण करना बंद करें और 2024 के चुनाव में थे बनाने की कोशिश ना की जाए सरकार को मौका भी मिला है और समय भी अगर आप जनता के लिए अच्छा कार्य नहीं करेंगे तो वह आप को हटाकर किसी और को गद्दी पर बिठा देंगे जनता में जो लोग आपके साथ हैं या विरोध करेंगे वह भी किसी ना किसी रूप में राम भक्त या कृष्ण भक्त होंगे ही इसे कानून और अदालत के अनुसार ही बनाया जा रहा है और सभी को अपना पक्ष रखने का मौका भी दिया गया है इसलिए इस बात का क्रेडिट किसी और को देने का प्रयास ना करें ऐसा नहीं होता तो इसका निर्माण कार्य 2014 15 मई शुरू कर दिया जाता
Jee haan mera aisa maanana hai aur vishvaas bhee hai agar beejepee na hotee hai tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete is mudde ka raajaneetikaran hone ke kaaran ise banaane mein itana samay lag gaya raam to sabhee raajaon ke bhee raaja hain mera to aisa maanana hai is duniya mein jo bhee hota hai unakee hee ichchha aur marjee se hota hai aur har koee unaka kaary karane ke lie aatur hote rahata hai sangathit hokar rahana hinduon ke khoon mein hai samay kuchh samay ke lie balavaan jaroor ho sakata hai par vah raam shree raam jee kee maryaada ke aage nahin tik sakata maryaada ka ek pahaloo ham yah bhee kah sakate hain pahale sabhee ko mauka diya jae phir jo sarvottam ho use kiya jae paakistaan jaise deshon kee haalat kisee se chhupee nahin hai aaj is mudde ka raajaneetikaran karana band karen aur 2024 ke chunaav mein the banaane kee koshish na kee jae sarakaar ko mauka bhee mila hai aur samay bhee agar aap janata ke lie achchha kaary nahin karenge to vah aap ko hataakar kisee aur ko gaddee par bitha denge janata mein jo log aapake saath hain ya virodh karenge vah bhee kisee na kisee roop mein raam bhakt ya krshn bhakt honge hee ise kaanoon aur adaalat ke anusaar hee banaaya ja raha hai aur sabhee ko apana paksh rakhane ka mauka bhee diya gaya hai isalie is baat ka kredit kisee aur ko dene ka prayaas na karen aisa nahin hota to isaka nirmaan kaary 2014 15 maee shuroo kar diya jaata

lyadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए lyadav जी का जवाब
Unknown
2:01
जी हां मेरा ऐसा मानना है और विश्वास भी है अगर बीजेपी ना होती है तब भी हिंदू लोग राम और कृष्ण मंदिर बना लेते इस मुद्दे का राजनीतिकरण होने के कारण इसे बनाने में इतना समय लग गया राम तो सभी राजाओं के भी राजा हैं मेरा तो ऐसा मानना है इस दुनिया में जो भी होता है उनकी ही इच्छा और मर्जी से होता है और हर कोई उनका कार्य करने के लिए आतुर होते रहता है संगठित होकर रहना हिंदुओं के खून में है समय कुछ समय के लिए बलवान जरूर हो सकता है पर वह राम श्री राम जी की मर्यादा के आगे नहीं टिक सकता मर्यादा का एक पहलू हम यह भी कह सकते हैं पहले सभी को मौका दिया जाए फिर जो सर्वोत्तम हो उसे किया जाए पाकिस्तान जैसे देशों की हालत किसी से छुपी नहीं है आज इस मुद्दे का राजनीतिकरण करना बंद करें और 2024 के चुनाव में थे बनाने की कोशिश ना की जाए सरकार को मौका भी मिला है और समय भी अगर आप जनता के लिए अच्छा कार्य नहीं करेंगे तो वह आप को हटाकर किसी और को गद्दी पर बिठा देंगे जनता में जो लोग आपके साथ हैं या विरोध करेंगे वह भी किसी ना किसी रूप में राम भक्त या कृष्ण भक्त होंगे ही इसे कानून और अदालत के अनुसार ही बनाया जा रहा है और सभी को अपना पक्ष रखने का मौका भी दिया गया है इसलिए इस बात का क्रेडिट किसी और को देने का प्रयास ना करें ऐसा नहीं होता तो इसका निर्माण कार्य 2014 15 मई शुरू कर दिया जाता
Jee haan mera aisa maanana hai aur vishvaas bhee hai agar beejepee na hotee hai tab bhee hindoo log raam aur krshn mandir bana lete is mudde ka raajaneetikaran hone ke kaaran ise banaane mein itana samay lag gaya raam to sabhee raajaon ke bhee raaja hain mera to aisa maanana hai is duniya mein jo bhee hota hai unakee hee ichchha aur marjee se hota hai aur har koee unaka kaary karane ke lie aatur hote rahata hai sangathit hokar rahana hinduon ke khoon mein hai samay kuchh samay ke lie balavaan jaroor ho sakata hai par vah raam shree raam jee kee maryaada ke aage nahin tik sakata maryaada ka ek pahaloo ham yah bhee kah sakate hain pahale sabhee ko mauka diya jae phir jo sarvottam ho use kiya jae paakistaan jaise deshon kee haalat kisee se chhupee nahin hai aaj is mudde ka raajaneetikaran karana band karen aur 2024 ke chunaav mein the banaane kee koshish na kee jae sarakaar ko mauka bhee mila hai aur samay bhee agar aap janata ke lie achchha kaary nahin karenge to vah aap ko hataakar kisee aur ko gaddee par bitha denge janata mein jo log aapake saath hain ya virodh karenge vah bhee kisee na kisee roop mein raam bhakt ya krshn bhakt honge hee ise kaanoon aur adaalat ke anusaar hee banaaya ja raha hai aur sabhee ko apana paksh rakhane ka mauka bhee diya gaya hai isalie is baat ka kredit kisee aur ko dene ka prayaas na karen aisa nahin hota to isaka nirmaan kaary 2014 15 maee shuroo kar diya jaata

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • राम मंदिर का निर्माण क्या बीजेपी करवा रही है ? क्या बीजेपी सिर्फ धर्मो के उप्पर राजनीति करती है ?
URL copied to clipboard