#भारत की राजनीति

Vaishnavi Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Vaishnavi जी का जवाब
Student / Artist
0:57
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या हम अपनी बदहाली के लिए उन लोगों को जिम्मेदार मान सकते हैं तो खुद तो गरीब हैं फिर भी किसके पार्टी का प्रचार कर रहे हैं और उनके जीवन में भी बधाई आएगी क्या वक्त सच में बदलता है कि आप एक लोकतांत्रिक देश में रह रहे हैं जहां पर हर किसी के पास खुद की राय से आगे किसी अगर कोई किसी पार्टी का समर्थन कर रहा है उसका प्रचार कर रहा है तो आपको उससे कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए और दूसरी बात कि आप अपनी बदहाली के लिए किसी को जिम्मेदार कैसे मान सकते हैं आप अपनी समस्याओं के लिए अपनी बदहाली के लिए खुद जिम्मेदार हैं अगर वक्त की बात है तो जो वक्त है वह एक साइकिल की तरह चलता है और वह सच में बदलता है धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya ham apanee badahaalee ke lie un logon ko jimmedaar maan sakate hain to khud to gareeb hain phir bhee kisake paartee ka prachaar kar rahe hain aur unake jeevan mein bhee badhaee aaegee kya vakt sach mein badalata hai ki aap ek lokataantrik desh mein rah rahe hain jahaan par har kisee ke paas khud kee raay se aage kisee agar koee kisee paartee ka samarthan kar raha hai usaka prachaar kar raha hai to aapako usase koee aapatti nahin honee chaahie aur doosaree baat ki aap apanee badahaalee ke lie kisee ko jimmedaar kaise maan sakate hain aap apanee samasyaon ke lie apanee badahaalee ke lie khud jimmedaar hain agar vakt kee baat hai to jo vakt hai vah ek saikil kee tarah chalata hai aur vah sach mein badalata hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard