#जीवन शैली

bolkar speaker

झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?

Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
BEBY SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए BEBY जी का जवाब
I am student
0:56
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है तू झूठ बोलने वाला इंसान इसलिए डर जाता है क्योंकि उसके अंदर के डर बना रहता है कि कहीं मैं झूठ बोल रहा हूं कुछ पता ना चले सब पता ना चल जाए तब पता ना चले इसके डर में वह हमेशा जीता रहता है और इसलिए उस सच को दबाने के लिए झूठ पर झूठ झूठ पर झूठ झूठ पर झूठ बोलता जाता है इसलिए झूठ बोलने वाला इंसान होने से डरता है क्योंकि उससे यह पता होता है कि अगर मैं किसी भी चीज पर जैसे मान लीजिए झूठ बोल दिया तो उसको यह डर रहा था कि कहीं वह किसी को पता ना चले और उस पर पता चलने के बाद उसके साथ लोग कैसे व्यवहार करेंगे यह उससे बहुत अच्छी तरह से पता होता है इसलिए व्यक्ति हमेशा लड़ता है आज कहीं किसी को पता ना चल जाए और वह एक सच को छुपाने के लिए हजारों झूठ बोलता है धन्य
Jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai too jhooth bolane vaala insaan isalie dar jaata hai kyonki usake andar ke dar bana rahata hai ki kaheen main jhooth bol raha hoon kuchh pata na chale sab pata na chal jae tab pata na chale isake dar mein vah hamesha jeeta rahata hai aur isalie us sach ko dabaane ke lie jhooth par jhooth jhooth par jhooth jhooth par jhooth bolata jaata hai isalie jhooth bolane vaala insaan hone se darata hai kyonki usase yah pata hota hai ki agar main kisee bhee cheej par jaise maan leejie jhooth bol diya to usako yah dar raha tha ki kaheen vah kisee ko pata na chale aur us par pata chalane ke baad usake saath log kaise vyavahaar karenge yah usase bahut achchhee tarah se pata hota hai isalie vyakti hamesha ladata hai aaj kaheen kisee ko pata na chal jae aur vah ek sach ko chhupaane ke lie hajaaron jhooth bolata hai dhany

और जवाब सुनें

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
0:59
नमस्कार दोस्तों मुझे ने पूछा झूठ बोलने वाला इंसान डर के जाता है देखिए इंसान के मन में जो इंसान में डर तभी पैदा होता है जब वह किसी कार्य को करता है और उसे यह लगता है कि मेरे द्वारा किया गया कार्य गलत है और उस कार्य गलत का घर तो पकड़ लेता है तो उसकी वजह से मेरे को भी नुकसान हो सकता है तो यही कारण सबसे मोस्टली जोकि है कि अगर आप कोई गलत कार्य करते हैं और उसके छुपाने के लिए हम झूठ बोलते हैं तो झूठ के पकड़े जाने के डर के कारण ही इंसान जो है उसके दिमाग में जो हर डर पैदा होता है ताकि उसका झूठ पकड़ा ना जाए जैसे किसी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े तो यही कारण है कि झूठ बोले झूठ बोलने वाला इंसान को हमेशा डर लगा रहता है उसके झूठ का पर्दाफाश होने के कारण आशा करता हूं आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Namaskaar doston mujhe ne poochha jhooth bolane vaala insaan dar ke jaata hai dekhie insaan ke man mein jo insaan mein dar tabhee paida hota hai jab vah kisee kaary ko karata hai aur use yah lagata hai ki mere dvaara kiya gaya kaary galat hai aur us kaary galat ka ghar to pakad leta hai to usakee vajah se mere ko bhee nukasaan ho sakata hai to yahee kaaran sabase mostalee joki hai ki agar aap koee galat kaary karate hain aur usake chhupaane ke lie ham jhooth bolate hain to jhooth ke pakade jaane ke dar ke kaaran hee insaan jo hai usake dimaag mein jo har dar paida hota hai taaki usaka jhooth pakada na jae jaise kisee tarah kee samasya ka saamana na karana pade to yahee kaaran hai ki jhooth bole jhooth bolane vaala insaan ko hamesha dar laga rahata hai usake jhooth ka pardaaphaash hone ke kaaran aasha karata hoon aapako aapake savaal ka javaab mil gaya laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:39
सवाल यह है कि झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है हालांकि ऐसा हर बार नहीं होता लेकिन ज्यादा के ज्यादातर कैसेट में देखा जाए तो झूठ बोलने वाला इंसान डरता ही है और कुछ झूठ बोलने वाले इंसान कई बार कॉन्फिडेंस में बोलते हैं जिनकी बातों पर यकीन हो जाता है लेकिन इंसान झूठ बोलने वाले इंसान के डरने पर बात कर लेते हैं तो वह इसलिए डरता है कि बाद में उसका झूठ पकड़ा ना जाए और अगर पकड़ा जाएगा तो क्या होगा वह इस बात से डर जाता है असल में वह सामने वाले से नहीं बल्कि खुद से भी उसका है उस समय झूठ बोल रहा होता है और खुद से झूठ बोलने वाले इंसान कभी भी सुखी नहीं रह सकता उसे डर में ही जीवन बिताना पड़ता है
Savaal yah hai ki jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai haalaanki aisa har baar nahin hota lekin jyaada ke jyaadaatar kaiset mein dekha jae to jhooth bolane vaala insaan darata hee hai aur kuchh jhooth bolane vaale insaan kaee baar konphidens mein bolate hain jinakee baaton par yakeen ho jaata hai lekin insaan jhooth bolane vaale insaan ke darane par baat kar lete hain to vah isalie darata hai ki baad mein usaka jhooth pakada na jae aur agar pakada jaega to kya hoga vah is baat se dar jaata hai asal mein vah saamane vaale se nahin balki khud se bhee usaka hai us samay jhooth bol raha hota hai aur khud se jhooth bolane vaale insaan kabhee bhee sukhee nahin rah sakata use dar mein hee jeevan bitaana padata hai

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:22
झूठ बोलने वाला इंसान सुधर जाता है झूठ बोलने वाला इंसान हमेशा इसलिए रहता है क्योंकि झूठ नहीं होता है कुछ समय के बाद में सामने आ ही जाएगा वह सामने आएगा उतने पैसे क्या क्या होगी या जिस व्यक्ति के लिए बोला गया है झूठ वह व्यक्ति के फरियाद करेगा मैं तो कहीं ना कहीं रहता ही रहता है आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Jhooth bolane vaala insaan sudhar jaata hai jhooth bolane vaala insaan hamesha isalie rahata hai kyonki jhooth nahin hota hai kuchh samay ke baad mein saamane aa hee jaega vah saamane aaega utane paise kya kya hogee ya jis vyakti ke lie bola gaya hai jhooth vah vyakti ke phariyaad karega main to kaheen na kaheen rahata hee rahata hai aapaka din shubh rahe dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student
0:33
झूठ बोलने वाला इंसान तो जानता हूं लेकिन सभी विपिन मतलब कोई ना कोई ऐसा व्यक्ति का जो हमारी इस मंजू को जानता होगा कि यह बंदर झूठ बोला था कि वो हमारी शिकायत कर सकता है और हम लोगों के हमारे जो सच्चाई लोगों के सामने आ जाएगी इसलिए डरता है सबसे बड़ी पहचान होती झूठ बोलने वाले की जो झूठ बोलते हैं
Jhooth bolane vaala insaan to jaanata hoon lekin sabhee vipin matalab koee na koee aisa vyakti ka jo hamaaree is manjoo ko jaanata hoga ki yah bandar jhooth bola tha ki vo hamaaree shikaayat kar sakata hai aur ham logon ke hamaare jo sachchaee logon ke saamane aa jaegee isalie darata hai sabase badee pahachaan hotee jhooth bolane vaale kee jo jhooth bolate hain

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:32
वाला इंसान डर तो इसलिए क्योंकि उसको पता है कि एक ना एक दिन उसका यह झूठ पकड़ा जाएगा और उससे बहुत शर्मिंदगी फील करनी पड़ेगी गिल्टी फील करनी पड़ेगी जो कि मेरे सबसे सत्य बोलना चाहिए सच थोड़ा कड़वा खराब हो सकता है परिस्थिति थोड़े टाइम के लिए बिगाड़ सकता है पर यह फ्यूचर के लिए अच्छा रहेगा आपको कभी झुकना नहीं पड़ेगा आपको कभी डर नहीं होगा आप सामने वाली किसानी जिससे आपने सच बोला उसके सामने अब गर्व के साथ निकल सकते हैं तो मेरे सब से झूठ नहीं सकते बोलना चाहिए
Vaala insaan dar to isalie kyonki usako pata hai ki ek na ek din usaka yah jhooth pakada jaega aur usase bahut sharmindagee pheel karanee padegee giltee pheel karanee padegee jo ki mere sabase saty bolana chaahie sach thoda kadava kharaab ho sakata hai paristhiti thode taim ke lie bigaad sakata hai par yah phyoochar ke lie achchha rahega aapako kabhee jhukana nahin padega aapako kabhee dar nahin hoga aap saamane vaalee kisaanee jisase aapane sach bola usake saamane ab garv ke saath nikal sakate hain to mere sab se jhooth nahin sakate bolana chaahie

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Sanjay Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sanjay जी का जवाब
Unknown
0:23
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों ज्यादा देखी उसके अंदर आत्मविश्वास की कमी हो जाती है वह जब भी झूठ बोलता है तो उसे डर लगता है कि उसके झूठ को कोई ना कोई पकड़ लेगा और एक झूठ को छुपाने के लिए उससे हजारों झूठ बोलने पड़ते हैं इसलिए झूठ बोलने वाला व्यक्ति होता है वह अपने ओरिजिनल से भी नहीं रहता है हमेशा किसी न किसी दर्द में लगा रहता है तो कंप्यूटर दिखा दे गिर जाता है धन्यवाद
Jhooth bolane vaala insaan dar kyon jyaada dekhee usake andar aatmavishvaas kee kamee ho jaatee hai vah jab bhee jhooth bolata hai to use dar lagata hai ki usake jhooth ko koee na koee pakad lega aur ek jhooth ko chhupaane ke lie usase hajaaron jhooth bolane padate hain isalie jhooth bolane vaala vyakti hota hai vah apane orijinal se bhee nahin rahata hai hamesha kisee na kisee dard mein laga rahata hai to kampyootar dikha de gir jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:31
आपके सोने की झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है तुम झूठ बोलने वाला इंसान डर इसलिए जाता है क्योंकि वह झूठ बोल रहे हैं और झूठ कभी ना कभी तो पकड़ा ही जाएगा अगर पकड़ा जाएगा तो इसे गिल्टी फील होगा और लोग इसकी बातों पर फिर बड़ा सा नहीं करेंगे करेंगे इसलिए वे झूठ बोलते वक्त डर जाता है धन्यवाद
Aapake sone kee jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai tum jhooth bolane vaala insaan dar isalie jaata hai kyonki vah jhooth bol rahe hain aur jhooth kabhee na kabhee to pakada hee jaega agar pakada jaega to ise giltee pheel hoga aur log isakee baaton par phir bada sa nahin karenge karenge isalie ve jhooth bolate vakt dar jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:01
प्रश्न है झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है क्योंकि देखिए आप एक सच को छुपाने के लिए झूठ बोलते हैं झूठ से बार-बार बार-बार आप झूठ बोलते हैं जो लोग झूठ बोलते हैं सफेद झूठ जिसको कहते हैं जो झूठ बोलते हैं वह बार-बार डर जाता है ताकि वह सच किसी को ना पता चले इसलिए आप सच बोलने की हिम्मत रखिए सच बोलने की हिम्मत रखिए सच-सच बोलिए जो सेट जोर झूठे झूठ बोले फैशन कोई नहीं है कि जीवन में कभी भी झूठ नहीं बोला है आप झूठ बोलिए सर जी झूठ से कोई भी किसी का नुकसान नहीं पहुंचा वह भी झूटा बोलिए एक सच को छुपाने के लिए बार-बार बार-बार झूठ बोलना बंद करो और हमेशा सच का साथ दें और जो भी अगर आप से गलती हो गई है भूल हो गई है तो आप अपने मां को या पापा को या किसी जिसके साथ आपके रिलेशन अच्छा हो उससे आप प्यार करें और बोलने की कोशिश करें
Prashn hai jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai kyonki dekhie aap ek sach ko chhupaane ke lie jhooth bolate hain jhooth se baar-baar baar-baar aap jhooth bolate hain jo log jhooth bolate hain saphed jhooth jisako kahate hain jo jhooth bolate hain vah baar-baar dar jaata hai taaki vah sach kisee ko na pata chale isalie aap sach bolane kee himmat rakhie sach bolane kee himmat rakhie sach-sach bolie jo set jor jhoothe jhooth bole phaishan koee nahin hai ki jeevan mein kabhee bhee jhooth nahin bola hai aap jhooth bolie sar jee jhooth se koee bhee kisee ka nukasaan nahin pahuncha vah bhee jhoota bolie ek sach ko chhupaane ke lie baar-baar baar-baar jhooth bolana band karo aur hamesha sach ka saath den aur jo bhee agar aap se galatee ho gaee hai bhool ho gaee hai to aap apane maan ko ya paapa ko ya kisee jisake saath aapake rileshan achchha ho usase aap pyaar karen aur bolane kee koshish karen

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:59
कहते हैं कि सच्चाई छुप नहीं सकती बनावट के उसूलों से खुशबू आ नहीं सकती कागज के फूलों से कागज के फूलों में आप ही तो डाल दीजिए तो खुशबू आएगी लेकिन एक समय वह उड़ जाएगी लेकिन जो ओरिजिनल फूल होते हैं मौली फूल होते हैं उनको जब ताजा खुश होंगे तो उनके अंदर जो खुशबू होगी वह मौली खुशी होगी प्रकट की खुशबू होगी उसी प्रकार से झूठ बोलने वाला इंसान है वह हमेशा यह दुखी होता रहता है उसका जो जो झूठ है वह खुल न जाए क्योंकि वह कहता कि भाई मेरे पास 10 करोड़ कमाए आसानी हो मेरे को इतने बड़े-बड़े लोगों को रोजगार कितनी फैक्ट्रियां हैं लेकिन जब उसका सत्यापन करने के लिए आ जाते हैं तो आप लोग बताते हैं भाई वह तो झूठा आदमी है वहां के चपरासी हमें तो बहुत बड़ी-बड़ी बातें करता है ऐसे में क्या होता है बाद में उस आदमी से दोबारा मिलता जो उसकी सच्चाई जान जाता है तो मैं भी तो होता है कि अब यह मेरी सारी पोल खोल खुल गई है और समाज में मुझ को बेइज्जत करेगा इस कारण से डर जाता है
Kahate hain ki sachchaee chhup nahin sakatee banaavat ke usoolon se khushaboo aa nahin sakatee kaagaj ke phoolon se kaagaj ke phoolon mein aap hee to daal deejie to khushaboo aaegee lekin ek samay vah ud jaegee lekin jo orijinal phool hote hain maulee phool hote hain unako jab taaja khush honge to unake andar jo khushaboo hogee vah maulee khushee hogee prakat kee khushaboo hogee usee prakaar se jhooth bolane vaala insaan hai vah hamesha yah dukhee hota rahata hai usaka jo jo jhooth hai vah khul na jae kyonki vah kahata ki bhaee mere paas 10 karod kamae aasaanee ho mere ko itane bade-bade logon ko rojagaar kitanee phaiktriyaan hain lekin jab usaka satyaapan karane ke lie aa jaate hain to aap log bataate hain bhaee vah to jhootha aadamee hai vahaan ke chaparaasee hamen to bahut badee-badee baaten karata hai aise mein kya hota hai baad mein us aadamee se dobaara milata jo usakee sachchaee jaan jaata hai to main bhee to hota hai ki ab yah meree saaree pol khol khul gaee hai aur samaaj mein mujh ko beijjat karega is kaaran se dar jaata hai

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:32
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है दो तो झूठ बोलने वाला इंसान इसलिए डर जाता है क्योंकि वह झूठ बोल रहा है और क्योंकि हम जानते जब कोई व्यक्ति झूठ बोलता है तो उसकी जो नाक है वह लाल होने लगती है दूसरी बात यह है कि वह थोड़ा हकलाने भी लगता है उसके पैर इत्यादि काम नहीं लगते हैं इसके झूठ बोलने वाला इंसान झूठ इसलिए बोल रहे हैं क्योंकि झूठ बोलने वाले व्यक्ति जो है दोस्तों अपनी परिस्थिति के अनुसार झूठ बोलना चाहिए परंतु यह नहीं है कि अब हर समय झूठ बोले और यदि सकते कि यदि बात की जाए तो सत्य बोलने का 200 सिरसा का फार्मूला ही है कि जिस तरीके से आप जब झूठ बोलते हैं तो उसके लिए आप काफी दिमाग लगाते हैं कभी आईडी लगाते सोच विचार करते हैं जब कोई सच बात बोलते हैं तो उसके लिए आपको सोचना नहीं पड़ता कोई भी व्यक्ति आप जो है आपको सच बोलने की नसीहत देगा परंतु आपको इतिहास के अंदर एक विद्वान भी हो या सुखा रात बजे यदि लोक कल्याणकारी हित के लिए आपको झूठ बोलना पड़े तो जोड़ जोड़ में उदास झूठे मान लीजिए अब भारत सरकार के कोई एजेंट है और रो एजेंट है और पाकिस्तान ने पकड़ लिया तो ऐसी सिचुएशन में आप सच नहीं बोलेंगे अब झूठी बोलेंगे क्योंकि आपको अपने कर्तव्य के ऊपर भी रुकना है आपको अब देश के प्रति वफादार हैं और अपनी ड्यूटी के ऊपर भी दोस्तों झूठ बोलने वाला इंसान जो है इसलिए उसका सच
Jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai do to jhooth bolane vaala insaan isalie dar jaata hai kyonki vah jhooth bol raha hai aur kyonki ham jaanate jab koee vyakti jhooth bolata hai to usakee jo naak hai vah laal hone lagatee hai doosaree baat yah hai ki vah thoda hakalaane bhee lagata hai usake pair ityaadi kaam nahin lagate hain isake jhooth bolane vaala insaan jhooth isalie bol rahe hain kyonki jhooth bolane vaale vyakti jo hai doston apanee paristhiti ke anusaar jhooth bolana chaahie parantu yah nahin hai ki ab har samay jhooth bole aur yadi sakate ki yadi baat kee jae to saty bolane ka 200 sirasa ka phaarmoola hee hai ki jis tareeke se aap jab jhooth bolate hain to usake lie aap kaaphee dimaag lagaate hain kabhee aaeedee lagaate soch vichaar karate hain jab koee sach baat bolate hain to usake lie aapako sochana nahin padata koee bhee vyakti aap jo hai aapako sach bolane kee naseehat dega parantu aapako itihaas ke andar ek vidvaan bhee ho ya sukha raat baje yadi lok kalyaanakaaree hit ke lie aapako jhooth bolana pade to jod jod mein udaas jhoothe maan leejie ab bhaarat sarakaar ke koee ejent hai aur ro ejent hai aur paakistaan ne pakad liya to aisee sichueshan mein aap sach nahin bolenge ab jhoothee bolenge kyonki aapako apane kartavy ke oopar bhee rukana hai aapako ab desh ke prati vaphaadaar hain aur apanee dyootee ke oopar bhee doston jhooth bolane vaala insaan jo hai isalie usaka sach

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:41
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका आपका प्रश्न झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है फ्रेंड से झूठ बोलने वाला इंसान इसलिए डर जाता है क्योंकि उसको यह लगता है कि कभी करना कभी तो मेरा सच सामने आ जाएगा और जो मैंने झूठ बोला है और झूठ का भंडाफोड़ हो जाएगा जब सच्चाई सबके सामने आ जाएगी तो मेरी बेइज्जती हो गई मेरी बहुत बदनामी होगी मेरी इज्जत खराब होगी तुम्हें अपनी बदनामी के डर से ही डर जाता है कि मेरी सच्चाई जब सबके सामने आ जाएगी तो क्या होगा जो मैंने झूठ बोला है उसका पर्दाफाश हो जाएगा तब सच्चाई सामने आ जाएगी तो मेरी बहुत बेज्जती होगी इसी वजह से वह इंसान डर जाता है धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka aapaka prashn jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai phrend se jhooth bolane vaala insaan isalie dar jaata hai kyonki usako yah lagata hai ki kabhee karana kabhee to mera sach saamane aa jaega aur jo mainne jhooth bola hai aur jhooth ka bhandaaphod ho jaega jab sachchaee sabake saamane aa jaegee to meree beijjatee ho gaee meree bahut badanaamee hogee meree ijjat kharaab hogee tumhen apanee badanaamee ke dar se hee dar jaata hai ki meree sachchaee jab sabake saamane aa jaegee to kya hoga jo mainne jhooth bola hai usaka pardaaphaash ho jaega tab sachchaee saamane aa jaegee to meree bahut bejjatee hogee isee vajah se vah insaan dar jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Life coach
2:34
प्रश्न है झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है क्योंकि उसे डर रहता है कि उसका झूठ पकड़ा ना जाए अगर पकड़ा जाएगा तो उसे गलत समझा जाएगा उसे गलत बोला जाएगा लेकिन गलत वह नहीं है गलत हम हैं हम लोगों ने क्या किया है कि 3D रूलबुक के अकॉर्डिंग मैटेरियलिस्टिक लाइफ के अकॉर्डिंग क्या कर दिया बाहर से इंसानों को बांध दिया है लेकिन बाहर के साथ-साथ हमने लोगों के माइंड को भी बांध दिया है उनकी भावनाओं को भी बांध दिया है वह खुलकर वह चीज एक्सप्रेस नहीं कर पाते जो उन्हें एक्सप्रेस करना है ठीक है बांध दिया है हमें उन्हीं की आजादी नहीं दी खुलकर हमसे बात करें यही कारण है कि वह झूठ बोलने पर मजबूर हो जाते हैं अगर हम उन्हें माइंड के लिए बस आजाद करें अंदर से आजाद करें तो शायद वह अपनी सारी भावनाओं को अब शेयर करो कभी झूठ बोलने की नौबत भी ना आए तू गलत यहां हम सब है हमें सब को आजाद करना है अगर आप चिड़ी के अकॉर्डिंग बाहरी लवर से उन्हें बांद्रा कोई बात नहीं एक सोसाइटी बांद्रे कोई बात नहीं की क्यों वहां आप अपने बच्चों की सीटी चाहते पर माइंड से मत मानिए ना भावनाओं से मत मानिए ना आजादी नहीं जी उन्हें उनके मन में क्या है आजादी दीजिए कि उनकी वह बॉडी के अंदर एनर्जी एनर्जी एक्सपीरियंस कमी आई है अगर बनर्जी एक्सपीरियंस ही नहीं करेगी कुछ चीज का कहां से वही बोलेगी तो गलत ही बोलेगी झूठ ही बोलेगी और गलत फिर हम उसे फहराएंगे गलत तो हम हैं ना हमने उसे आजादी ही नहीं दी बांध दिया तो गलत आप होंगे वह इंसान नहीं जो झूठ बोल रहा है क्योंकि उसे झूठ बोलने पर आप लोगों ने मजबूर किया तो प्लीज अपने बच्चों को माइंड के लेवल से मन के लिए वैसे मत बांधी है उन्हें आज दादी दीजिए और यह कि तुम्हें जो बोलना है सच बोलना झूठ मत बोलना ठीक है ना आपने और जब भी आप ही करते हो तो दिक्कत यही होती है तूने आजाद के लिए और जज्बात के लिए हर एक जो एलर्जी होती है ना हर एक बॉडी में एक्सपीरियंस लेने आती है तो इस चीज को आप देखिए समझिए गुरु करें अपने बच्चों को भी प्यार लीजिए उन्हें भी ग्रुप करवाइए इतनी हजारी तो दे दीजिए उन्हें सुबह अपने मन की बात आपसे शेयर करें और कभी झूठ ना बोलें धन्यवाद
Prashn hai jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai kyonki use dar rahata hai ki usaka jhooth pakada na jae agar pakada jaega to use galat samajha jaega use galat bola jaega lekin galat vah nahin hai galat ham hain ham logon ne kya kiya hai ki 3d roolabuk ke akording maiteriyalistik laiph ke akording kya kar diya baahar se insaanon ko baandh diya hai lekin baahar ke saath-saath hamane logon ke maind ko bhee baandh diya hai unakee bhaavanaon ko bhee baandh diya hai vah khulakar vah cheej eksapres nahin kar paate jo unhen eksapres karana hai theek hai baandh diya hai hamen unheen kee aajaadee nahin dee khulakar hamase baat karen yahee kaaran hai ki vah jhooth bolane par majaboor ho jaate hain agar ham unhen maind ke lie bas aajaad karen andar se aajaad karen to shaayad vah apanee saaree bhaavanaon ko ab sheyar karo kabhee jhooth bolane kee naubat bhee na aae too galat yahaan ham sab hai hamen sab ko aajaad karana hai agar aap chidee ke akording baaharee lavar se unhen baandra koee baat nahin ek sosaitee baandre koee baat nahin kee kyon vahaan aap apane bachchon kee seetee chaahate par maind se mat maanie na bhaavanaon se mat maanie na aajaadee nahin jee unhen unake man mein kya hai aajaadee deejie ki unakee vah bodee ke andar enarjee enarjee eksapeeriyans kamee aaee hai agar banarjee eksapeeriyans hee nahin karegee kuchh cheej ka kahaan se vahee bolegee to galat hee bolegee jhooth hee bolegee aur galat phir ham use phaharaenge galat to ham hain na hamane use aajaadee hee nahin dee baandh diya to galat aap honge vah insaan nahin jo jhooth bol raha hai kyonki use jhooth bolane par aap logon ne majaboor kiya to pleej apane bachchon ko maind ke leval se man ke lie vaise mat baandhee hai unhen aaj daadee deejie aur yah ki tumhen jo bolana hai sach bolana jhooth mat bolana theek hai na aapane aur jab bhee aap hee karate ho to dikkat yahee hotee hai toone aajaad ke lie aur jajbaat ke lie har ek jo elarjee hotee hai na har ek bodee mein eksapeeriyans lene aatee hai to is cheej ko aap dekhie samajhie guru karen apane bachchon ko bhee pyaar leejie unhen bhee grup karavaie itanee hajaaree to de deejie unhen subah apane man kee baat aapase sheyar karen aur kabhee jhooth na bolen dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:57
हेलो फ्रेंड्स नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है जब आप सच रहेंगे सच्ची आप में रहेगी सच्चाई आप में रहेगी तो एक चीज इंसान के अंदर हमेशा रहता है वह जो कंडीशन में आपको झूठ होते हैं तब भी सच्चे होते हैं तो भी वह आपके अंदर भी होता है और वह बता देता है कि इंसान सच्चाई बोल रहा है झूठा और आत्मविश्वास आत्मविश्वास ही होता है जो इंसान को जो है सच साबित करता है और आत्मविश्वास ही होता है जो इंसान को झूठा साबित करता है जैसे कि मान लीजिए हम कोई चीज कर रहे हैं और वह चीज गलत है तो हम कितना भी उसे बनाके बोले जो है इंसान सिर के आगे प्रस्तुत करें कि नहीं यह चीजें जो है सही है अपने आप को कितनी भी सच्चाई हम कोशिश करें लेकिन कहीं-कहीं जो है यह भी कहा गया है कि हमारा जो चेहरा हो साहब हमारी दिन का आईना होता है वह बता देता है कि इंसान गलत है सिर्फ पहचानने वाली की जरूरत होती है प्रिंट की इंसान किस कैटेगरी का होता है कि भगवान ने जो है सब कुछ बनाया है सब कुछ बनाया है बहुत अच्छी तरीके से बनाया है इंसान भी बनाया है इंसान के चेहरे पर जो है यह लिखावट भी लिखी हुई है भगवान ने जो इंसान जो है इंसान के चेहरे को पढ़ लिया गया वहीं हमेशा जो है सबसे ज्यादा सेंड जैसे कि झूठ है जो बोलते हैं वह अक्सर आपने देखा होगा कि उन पर एक अलग तरीके का हिचकिचाहट रहता है वह डर से रहते हैं हमेशा रहते हैं और दूसरी बात उन में जो है पसीना बहुत तेजी आता है जो झूठे होते हैं तीसरी बात सेंड होता है कि उनमें जो है नजरे मिला कर बात करने की क्षमता नहीं होती है अगर हम गलत होते हैं तो हम क्षमता नहीं है किसी शख्स से सामने वाले से हम नजरें मिलाकर बात कर सके और ऊंची आवाज में बात करने की क्षमता नहीं होती है हम लाख करें प्रयास करें बंद कर बोली मुझे आवाज में लेकिन वह क्षमता नहीं होती है जबकि अगर हम सच्चे होते हैं तो हमारी नजरें मिलाने की क्षमता भी होती है उसकी आवाज में बात करने की क्षमता होती है और पसीना भी नहीं आता जैसे कि जो कंडीशन हमने बताया कि झूठे वाले में सिम वही पोजीशन इसलिए भी होता है बट इसमें किसी प्रकार का कोई भी इफेक्ट नहीं पड़ता है जैसे कि अगर आप सच्चे हैं इंसान से आंखें मिलाकर बात कर सकते हैं झूठे हैं तो इंसान से आंख मिलाकर बात ही नहीं कर सकती क्या कंडीशन ऐसी होती हैं तो इस इंसान तरीके से इंसान को जो है पहचाना जा सकता है और अब बाकी जो है झूठ बोलने वाला इंसान उसमें आत्मविश्वास की कमी होती है इसलिए वह डरा रहता है आशा है कि आप सभी को जवाब पसंद आया होगा शुक्रिया
Helo phrends namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai jab aap sach rahenge sachchee aap mein rahegee sachchaee aap mein rahegee to ek cheej insaan ke andar hamesha rahata hai vah jo kandeeshan mein aapako jhooth hote hain tab bhee sachche hote hain to bhee vah aapake andar bhee hota hai aur vah bata deta hai ki insaan sachchaee bol raha hai jhootha aur aatmavishvaas aatmavishvaas hee hota hai jo insaan ko jo hai sach saabit karata hai aur aatmavishvaas hee hota hai jo insaan ko jhootha saabit karata hai jaise ki maan leejie ham koee cheej kar rahe hain aur vah cheej galat hai to ham kitana bhee use banaake bole jo hai insaan sir ke aage prastut karen ki nahin yah cheejen jo hai sahee hai apane aap ko kitanee bhee sachchaee ham koshish karen lekin kaheen-kaheen jo hai yah bhee kaha gaya hai ki hamaara jo chehara ho saahab hamaaree din ka aaeena hota hai vah bata deta hai ki insaan galat hai sirph pahachaanane vaalee kee jaroorat hotee hai print kee insaan kis kaitegaree ka hota hai ki bhagavaan ne jo hai sab kuchh banaaya hai sab kuchh banaaya hai bahut achchhee tareeke se banaaya hai insaan bhee banaaya hai insaan ke chehare par jo hai yah likhaavat bhee likhee huee hai bhagavaan ne jo insaan jo hai insaan ke chehare ko padh liya gaya vaheen hamesha jo hai sabase jyaada send jaise ki jhooth hai jo bolate hain vah aksar aapane dekha hoga ki un par ek alag tareeke ka hichakichaahat rahata hai vah dar se rahate hain hamesha rahate hain aur doosaree baat un mein jo hai paseena bahut tejee aata hai jo jhoothe hote hain teesaree baat send hota hai ki unamen jo hai najare mila kar baat karane kee kshamata nahin hotee hai agar ham galat hote hain to ham kshamata nahin hai kisee shakhs se saamane vaale se ham najaren milaakar baat kar sake aur oonchee aavaaj mein baat karane kee kshamata nahin hotee hai ham laakh karen prayaas karen band kar bolee mujhe aavaaj mein lekin vah kshamata nahin hotee hai jabaki agar ham sachche hote hain to hamaaree najaren milaane kee kshamata bhee hotee hai usakee aavaaj mein baat karane kee kshamata hotee hai aur paseena bhee nahin aata jaise ki jo kandeeshan hamane bataaya ki jhoothe vaale mein sim vahee pojeeshan isalie bhee hota hai bat isamen kisee prakaar ka koee bhee iphekt nahin padata hai jaise ki agar aap sachche hain insaan se aankhen milaakar baat kar sakate hain jhoothe hain to insaan se aankh milaakar baat hee nahin kar sakatee kya kandeeshan aisee hotee hain to is insaan tareeke se insaan ko jo hai pahachaana ja sakata hai aur ab baakee jo hai jhooth bolane vaala insaan usamen aatmavishvaas kee kamee hotee hai isalie vah dara rahata hai aasha hai ki aap sabhee ko javaab pasand aaya hoga shukriya

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Chetan Chandrawanshi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Chetan जी का जवाब
Finding a part time job
0:54
वैसे तो जो झूठ बोलने वाला इंसान है उसमें हिम्मत रहनी चाहिए झूठ बोलने की तभी बोले ना कि ना बोले अरे हिम्मत भी है तो झूठ नहीं बोले जहां कुछ अच्छा काम हो रहा है झूठ बोलने से वरना ना बोले और जो गलत काम के लिए झूठ का प्रयोग करते हैं वह तो करेगा ही क्योंकि अगर उसका झूठ सामने आ गया तो उसे पता है कि फिर उसके बाद कोई भी मेरी बातों पर यकीन नहीं करेगा और उसको अनदेखा करते रहेंगे तो फिर उसके लिए कुछ नहीं बहुत ही कठिन है इसीलिए झूठ भी सोच समझकर बोलना धन्यवाद इतने कहना चाहूंगा गुड नाइट अभी मैं रात में बोल रहा हूं धन्यवाद
Vaise to jo jhooth bolane vaala insaan hai usamen himmat rahanee chaahie jhooth bolane kee tabhee bole na ki na bole are himmat bhee hai to jhooth nahin bole jahaan kuchh achchha kaam ho raha hai jhooth bolane se varana na bole aur jo galat kaam ke lie jhooth ka prayog karate hain vah to karega hee kyonki agar usaka jhooth saamane aa gaya to use pata hai ki phir usake baad koee bhee meree baaton par yakeen nahin karega aur usako anadekha karate rahenge to phir usake lie kuchh nahin bahut hee kathin hai iseelie jhooth bhee soch samajhakar bolana dhanyavaad itane kahana chaahoonga gud nait abhee main raat mein bol raha hoon dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:15
हेलो शिवांशु आज आप का सवाल है कि झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है जब भी आप किसी चीज के मतलब अगेंस्ट या फिर खिलाफ या फिर काम देता हूं ना चाहिए उसके थोड़ा वितरित करते हैं तो आप डर जाते हैं जैसे कि मुझे मम्मी ने आज यह सब काम करने के लिए बोला मैं उस में से अगर एक भी काम नहीं करती हो या फिर जो भी काम मुझे करने के लिए बोला गया वह चीज टूट गया हो सामान या फिर कुछ खराब तरीके से वह काम हुआ होगा क्योंकि जैसे मुझे समझाया गया था काम नहीं किया तो झूठ भी ऐसे ही होता है आप तो किसी चीज को पूरा ही अलग तरीके से बोल रहे हैं आप वहां पर मतलब आप झूठ बोल रहे हैं आपको जो बोलना वह नहीं बोले तो आपको कहीं ना कहीं यह डर लगता है कि जब पता चलेगा तो क्या हो जाएगा जब मम्मी को पता चलेगा कि मैंने यह चीज थोड़ा या फिर मैंने यह काम नहीं किया ऐसा रिश्ता है वह रिश्ते और हमारी रहेंगे या नहीं रहेंगे उस इंसान को चोट पहुंचेगा वह पता नहीं मुझे क्या बोलेगा नहीं तो इस तरह से हर एक चीज मतलब आप अजीम कर सकते क्या चीज खराब होने वाला अगर आप झूठ बोले तो इंसान बहुत ज्यादा डर जाता है
Helo shivaanshu aaj aap ka savaal hai ki jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai jab bhee aap kisee cheej ke matalab agenst ya phir khilaaph ya phir kaam deta hoon na chaahie usake thoda vitarit karate hain to aap dar jaate hain jaise ki mujhe mammee ne aaj yah sab kaam karane ke lie bola main us mein se agar ek bhee kaam nahin karatee ho ya phir jo bhee kaam mujhe karane ke lie bola gaya vah cheej toot gaya ho saamaan ya phir kuchh kharaab tareeke se vah kaam hua hoga kyonki jaise mujhe samajhaaya gaya tha kaam nahin kiya to jhooth bhee aise hee hota hai aap to kisee cheej ko poora hee alag tareeke se bol rahe hain aap vahaan par matalab aap jhooth bol rahe hain aapako jo bolana vah nahin bole to aapako kaheen na kaheen yah dar lagata hai ki jab pata chalega to kya ho jaega jab mammee ko pata chalega ki mainne yah cheej thoda ya phir mainne yah kaam nahin kiya aisa rishta hai vah rishte aur hamaaree rahenge ya nahin rahenge us insaan ko chot pahunchega vah pata nahin mujhe kya bolega nahin to is tarah se har ek cheej matalab aap ajeem kar sakate kya cheej kharaab hone vaala agar aap jhooth bole to insaan bahut jyaada dar jaata hai

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:32
झूठ बोलने वाले इंसान डर के हो जाता है जब हम झूठ बोलते किसी चीज के बारे में इसका मतलब हम ऐसे चीज को बोलते हैं जो कि वास्तविकता में एक चीज नहीं करती हो आप कोई भी चीज वास्तविकता में एक चीज नहीं करती और हम माइंड के अंदर हाइपोथेटिकल बना देते और किसी को रिप्रेजेंट करते हैं और उसके पीछे के इंटेंशन सही नहीं है आपके गलत है खाने झूठ झूठ नहीं क्या होता है कि जो सच नहीं है जो अंदर रियल इसका मतलब कोई थॉट जो मैंने फ्यूचर में जाकर करने कोई कंपनी मुझे खोलनी है हमें कोई थर्ड बना रहा हूं वह थर्ड बंदरिया लेनेवो कंपनी बनी नहीं है अभी लेकिन उस कंपनी के थॉट प्रोसेस और उस पिक्चर को बनाने के पीछे मेरा मकसद है कि मैं ऐसा करने जाऊंगा ऐसे करूंगा ऐसे लोगों को माल बेचूंगा और इस तरीके से मैं पैसा कमा लूंगा अब इस काम को आगे लेकर जाने के लिए मुझे इतने लोग चाहिए इतना पैसा चाहिए अब मैं यह पिक्चर दो लोगों के पास लेकर जाता हूं लोगों को बताता हूं कि मैं ऐसा ऐसा करने जाऊंगा तो मैं ऐसे ऐसे पैसे कमा लूंगा लोग उसमें पैसा डालते हैं और आप उसको वैसा करते जाते हो आप वहां लेवल तक पहुंच जाते हो अब यह भी अन रियल थॉट है लेकिन नहीं रियालिटी में बदलेगा लेकिन जो इंटेंशन जहां गलत ही मैं ऐसी स्कीम बनाऊंगा मैं ऐसी चीज करूंगा इनको भेजूंगा उनसे पैसे लूंगा और भाग जाऊंगा अब आपकी इंटेंशन गलत होने वाला जो इंसान है वह झूठ कहलाता है क्योंकि इंटेंशन प्रस्तावित हो गए तभी तो आप सच और झूठ कह लो कि आपने आज किसी के साथ बात की आपने उस सच है कि झूठ कब पता चलेगा जब सही में उसको पता चलेगा कि ऐसा तो है ही नहीं मेरे पैसे लेकर भाग गया तब वह लेकर झूठा इंसान तो इंटेंशन आपका अगर गलत है तो ऐसा इंसान को हमेशा ही डर होता है कि मैंने तो मेरा इंटेंशन गलत है इसके पीछे कल जाकर में पकड़ा गया तो मेरी वाट लगने वाली है तो इसलिए झूठ बोलने वाले इंसान हमेशा डरता है ऐसे काम ही करेगी जिसमें हम डायरेक्ट क्योंकि आप अगर एक बार डर गए तो यह पर भी चल साइकल है जिसके अंदर घुसते जाओगे एक बार करोगे दूसरी तीसरी बार हमेशा करते जाओगे कुछ भी बर्बाद हो जाओगे अपने परिवार को भी बर्बाद करोगे और कुल मिलाकर क्या होगा नुकसान ही होगा और ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो इसको लाइफ स्टाइल बना लेते हो उनका काम नहीं होता है झूठ बोलो लोगों से पैसे बहुत सारे सके हमने देखी बेजान तरस क्या ऐसे बहुत सारे फोन भी आते हमें के क्रेडिट कार्ड में पैसे चले जाते हमारे जाते झूठ के पृथ्वीराज निकलता मरना डूब ने उन्हें
Jhooth bolane vaale insaan dar ke ho jaata hai jab ham jhooth bolate kisee cheej ke baare mein isaka matalab ham aise cheej ko bolate hain jo ki vaastavikata mein ek cheej nahin karatee ho aap koee bhee cheej vaastavikata mein ek cheej nahin karatee aur ham maind ke andar haipothetikal bana dete aur kisee ko riprejent karate hain aur usake peechhe ke intenshan sahee nahin hai aapake galat hai khaane jhooth jhooth nahin kya hota hai ki jo sach nahin hai jo andar riyal isaka matalab koee thot jo mainne phyoochar mein jaakar karane koee kampanee mujhe kholanee hai hamen koee thard bana raha hoon vah thard bandariya lenevo kampanee banee nahin hai abhee lekin us kampanee ke thot proses aur us pikchar ko banaane ke peechhe mera makasad hai ki main aisa karane jaoonga aise karoonga aise logon ko maal bechoonga aur is tareeke se main paisa kama loonga ab is kaam ko aage lekar jaane ke lie mujhe itane log chaahie itana paisa chaahie ab main yah pikchar do logon ke paas lekar jaata hoon logon ko bataata hoon ki main aisa aisa karane jaoonga to main aise aise paise kama loonga log usamen paisa daalate hain aur aap usako vaisa karate jaate ho aap vahaan leval tak pahunch jaate ho ab yah bhee an riyal thot hai lekin nahin riyaalitee mein badalega lekin jo intenshan jahaan galat hee main aisee skeem banaoonga main aisee cheej karoonga inako bhejoonga unase paise loonga aur bhaag jaoonga ab aapakee intenshan galat hone vaala jo insaan hai vah jhooth kahalaata hai kyonki intenshan prastaavit ho gae tabhee to aap sach aur jhooth kah lo ki aapane aaj kisee ke saath baat kee aapane us sach hai ki jhooth kab pata chalega jab sahee mein usako pata chalega ki aisa to hai hee nahin mere paise lekar bhaag gaya tab vah lekar jhootha insaan to intenshan aapaka agar galat hai to aisa insaan ko hamesha hee dar hota hai ki mainne to mera intenshan galat hai isake peechhe kal jaakar mein pakada gaya to meree vaat lagane vaalee hai to isalie jhooth bolane vaale insaan hamesha darata hai aise kaam hee karegee jisamen ham daayarekt kyonki aap agar ek baar dar gae to yah par bhee chal saikal hai jisake andar ghusate jaoge ek baar karoge doosaree teesaree baar hamesha karate jaoge kuchh bhee barbaad ho jaoge apane parivaar ko bhee barbaad karoge aur kul milaakar kya hoga nukasaan hee hoga aur aise bahut saare log hain jo isako laiph stail bana lete ho unaka kaam nahin hota hai jhooth bolo logon se paise bahut saare sake hamane dekhee bejaan taras kya aise bahut saare phon bhee aate hamen ke kredit kaard mein paise chale jaate hamaare jaate jhooth ke prthveeraaj nikalata marana doob ne unhen

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
RAM NIWASH AWASTHI Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAM जी का जवाब
विद्यार्थी
0:43
जैसा कि आप का कमाल है झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है लेकिन झूठ बोलने वाला इंसान डरता है इसलिए है क्योंकि उसे डर होता है कि कहीं उसका झूठ पकड़ा ना जाए झूठ बोलने का तात्पर्य कुछ ऐसा कहने से होता है जो व्यक्ति जानता है कि गलत है जिसकी सत्यता पर बिकती इमानदारी से विश्वास नहीं करता है और इस इरादे से कहा जाता है कि व्यक्ति उसे सत्यम आने का एक झूठा व्यक्ति ऐसा व्यक्ति है जो झूठ बोल रहा है जो पहले झूठ बोल चुका है या जो आवश्यकता ना होने पर भी आदतन झूठ बोलता है धन्यवाद
Jaisa ki aap ka kamaal hai jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai lekin jhooth bolane vaala insaan darata hai isalie hai kyonki use dar hota hai ki kaheen usaka jhooth pakada na jae jhooth bolane ka taatpary kuchh aisa kahane se hota hai jo vyakti jaanata hai ki galat hai jisakee satyata par bikatee imaanadaaree se vishvaas nahin karata hai aur is iraade se kaha jaata hai ki vyakti use satyam aane ka ek jhootha vyakti aisa vyakti hai jo jhooth bol raha hai jo pahale jhooth bol chuka hai ya jo aavashyakata na hone par bhee aadatan jhooth bolata hai dhanyavaad

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
0:34
ओशो आपका स्वागत जूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है तो झूठ बोलने वाला इंसान डर के कारण झूठ बोलता है कभी कभी भी अपने डर अच्छा भी साबित होता है कभी-कभी बहुत बुरा साबित हो जाता है सबसे पहले जवाब दिया गया कि इंसान झूठ क्यों बोलता है तो सच में छुपाने के लिए जो है वह नहीं जो नहीं है वह जताने के लिए हमें झूठ बोलना पड़ता है और झूठ बोलने पर लोगों के अंदर भय बना रहता है डर लगता है हमको कि झूठ पकड़ा नहीं चाहिए धन्यवाद दोस्तों
Osho aapaka svaagat jooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai to jhooth bolane vaala insaan dar ke kaaran jhooth bolata hai kabhee kabhee bhee apane dar achchha bhee saabit hota hai kabhee-kabhee bahut bura saabit ho jaata hai sabase pahale javaab diya gaya ki insaan jhooth kyon bolata hai to sach mein chhupaane ke lie jo hai vah nahin jo nahin hai vah jataane ke lie hamen jhooth bolana padata hai aur jhooth bolane par logon ke andar bhay bana rahata hai dar lagata hai hamako ki jhooth pakada nahin chaahie dhanyavaad doston

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
Anand Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Anand जी का जवाब
Mathematics Teacher
0:22
झूठ बोलने वाले इंसान डर क्यों हो जाता है तेरे कि जो व्यक्ति झूठ बोल देता है वह हमेशा भाई मैं रहता है डर जाता है क्योंकि मैं सोचता है कि अगर भविष्य में आगामी दिनों में अगर मेरा पता चल जाता है कि मैंने झूठ बोला है तो फिर मेरे साथ गलत होगा वह लोग मेरे साथ गलत व्यवहार करेंगे इसलिए वह डर जाता है
Jhooth bolane vaale insaan dar kyon ho jaata hai tere ki jo vyakti jhooth bol deta hai vah hamesha bhaee main rahata hai dar jaata hai kyonki main sochata hai ki agar bhavishy mein aagaamee dinon mein agar mera pata chal jaata hai ki mainne jhooth bola hai to phir mere saath galat hoga vah log mere saath galat vyavahaar karenge isalie vah dar jaata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है झूठ बोलने वाला इंसान
URL copied to clipboard