#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?

Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Anand Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Anand जी का जवाब
Mathematics Teacher
0:33
सवाले बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है तो बसंत पंचमी दोस्तों जिसको हम सरस्वती पूजा भी कहते हैं पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान ब्रह्मा ने एक स्त्री से वीरा बजाने का निवेदन किया तो उस बिगड़ा बजाने से संसार के सभी जीव जंतुओं को आवाज दी गई वह दिन बसंत पंचमी के दिन था तथा तभी से देवी सरस्वती के जन्मदिवस के बसंत पंचमी मनाई जाती है
Savaale basant panchamee kyon manaee jaatee hai to basant panchamee doston jisako ham sarasvatee pooja bhee kahate hain pauraanik kathaon ke anusaar bhagavaan brahma ne ek stree se veera bajaane ka nivedan kiya to us bigada bajaane se sansaar ke sabhee jeev jantuon ko aavaaj dee gaee vah din basant panchamee ke din tha tatha tabhee se devee sarasvatee ke janmadivas ke basant panchamee manaee jaatee hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:24
कब आने की बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है पौराणिक मान्यता के अनुसार सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रह्मा ने जियो और मनुष्य की रचना की है राजीव सिकरी से बिना बजाने का निवेदन करते हैं इस तरह देवी के वीणा बजाने से संसार सभी जीव जंतुओं का आवास मिल जाती है वह दिन बसंत पंचमी का दिन था और तभी से देवी सरस्वती के जन्मदिन के रूप में यह पर्व मनाया जाता है
Kab aane kee basant panchamee kyon manaee jaatee hai pauraanik maanyata ke anusaar srshti ke rachayita bhagavaan brahma ne jiyo aur manushy kee rachana kee hai raajeev sikaree se bina bajaane ka nivedan karate hain is tarah devee ke veena bajaane se sansaar sabhee jeev jantuon ka aavaas mil jaatee hai vah din basant panchamee ka din tha aur tabhee se devee sarasvatee ke janmadin ke roop mein yah parv manaaya jaata hai

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:37
एरोप्लेन स्वागत है आपका आपका प्रश्न में बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है तो बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है क्योंकि बसंत पंचमी चेन्नई ऋतु प्रारंभ हो जाती है और मैं मौसम की शुरुआत हो जाती है बसंत रितु आ जाती है और अच्छा मौसम आ जाता है जगह-जगह 77 पेड़ पौधों पर फूल मिल जाते हैं और यह अच्छाई का प्रतीक होता है और नई खुशहाली और नई उन्नति के लिए यह बसंत पंचमी का त्यौहार मनाया जाता है और सरस्वती माता की पूजा भी की जाती है तो जीवन में नए बदलाव और अच्छाइयों के लिए ही पंचमी का त्यौहार मनाया जाता है धन्यवाद
Eroplen svaagat hai aapaka aapaka prashn mein basant panchamee kyon manaee jaatee hai to basant panchamee kyon manaee jaatee hai kyonki basant panchamee chennee rtu praarambh ho jaatee hai aur main mausam kee shuruaat ho jaatee hai basant ritu aa jaatee hai aur achchha mausam aa jaata hai jagah-jagah 77 ped paudhon par phool mil jaate hain aur yah achchhaee ka prateek hota hai aur naee khushahaalee aur naee unnati ke lie yah basant panchamee ka tyauhaar manaaya jaata hai aur sarasvatee maata kee pooja bhee kee jaatee hai to jeevan mein nae badalaav aur achchhaiyon ke lie hee panchamee ka tyauhaar manaaya jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Sanjay Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sanjay जी का जवाब
Cricket Enthusiast | Educationist | YouTuber | Channel Name~ Sanjay kumar (Cricket Secret), Sanjay Kumar
0:59
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखी भी बसंत पंचमी इस जमाने के पीछे का कारण यह है कि यह जो मौसम है यह बसंत ऋतु होती है बस इसके लिए तो ऐसा होता है या ज्यादा सर्जरी होती है ना ज्यादा गर्मी होती है कभी सुहावनी तो फ्री होते हैं और सुबह और शाम को ठंड है कि हैप्पी ठंड भी लगती है अब इसके पीछे का कारण जान लेते हैं तो ऐसा माना जाता है कि त्रिशा की रचना की जो है ब्रह्मा जी ने की थी और जब रचना कर ली पुलिस इष्ट किए तो उन्हें लगा कि कुछ न कुछ कमी रह गई है तो उन्होंने कृषि खुश रखना करनी चाहिए उन्होंने एक रचना की और उस रचना के परिणाम स्वरूप मां सरस्वती का जन्म हुआ और मां सरस्वती के जन्म की वजह से हम मानते हैं कि जो सरस्वती पूजन करते हैं और सरस्वती का जन्म जो मनाया जाता है पंचमी बसंत पंचमी तारीख की पंचमी को मनाया जाता है कि हम मानते हैं कि नहीं किसी दिन सरस्वती जी का जन्म हुआ था इसके पीछे का कारण नहीं है इसलिए में सरस्वती पूजन करते हैं
Basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhee bhee basant panchamee is jamaane ke peechhe ka kaaran yah hai ki yah jo mausam hai yah basant rtu hotee hai bas isake lie to aisa hota hai ya jyaada sarjaree hotee hai na jyaada garmee hotee hai kabhee suhaavanee to phree hote hain aur subah aur shaam ko thand hai ki haippee thand bhee lagatee hai ab isake peechhe ka kaaran jaan lete hain to aisa maana jaata hai ki trisha kee rachana kee jo hai brahma jee ne kee thee aur jab rachana kar lee pulis isht kie to unhen laga ki kuchh na kuchh kamee rah gaee hai to unhonne krshi khush rakhana karanee chaahie unhonne ek rachana kee aur us rachana ke parinaam svaroop maan sarasvatee ka janm hua aur maan sarasvatee ke janm kee vajah se ham maanate hain ki jo sarasvatee poojan karate hain aur sarasvatee ka janm jo manaaya jaata hai panchamee basant panchamee taareekh kee panchamee ko manaaya jaata hai ki ham maanate hain ki nahin kisee din sarasvatee jee ka janm hua tha isake peechhe ka kaaran nahin hai isalie mein sarasvatee poojan karate hain

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Rakesh Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Rakesh जी का जवाब
👨‍🏫 Teacher.
1:25
गांव में हम लोग बहुत लोग कहानियां सुनते आए हैं कि बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है कहा जाता है कि यह बहुत पहले का था में लोग कहते हैं कि भगवान विष्णु ने संसार की रचना की थी और रचनाओं किए थे तो पेड़-पौधे जीव जंतु मनुष्य यानी सारी चीज बनाए थे लेकिन बनाए तो थे लेकिन कुछ उसमें कमी रह गई थी इसलिए ने ब्रह्माजी ने अपने कमंडल से जल कुछ लिखा था जिसके चारों हाथ वाली है कि स्त्री प्रकट हुई थी और उस स्त्री के हाथ में गिरा था पुस्तक था माला था चौथा हाथ वर मुद्रा था और यह सब देखकर ब्रह्माजी जो है आश्चर्यचकित हो गए थे इसके बाद जो है इस सुंदर देवी से बिना बजाने को कहा और जैसे रावजी हर चीज में सोहर आ गया तभी ब्रह्मा जी ने उस देवी को वीरा के देवी आने सरस्वती देवी लगे और उसके बाद कहा जाने लगा और संजोग बस वह दिन बसंत पंचमी का था इसलिए उस दिन बसंत पंचमी मनाई जाने लगी और कहा जाता है कि उसने दिन से जो हर साल जो है बसंत पंचमी मनाई जाती है
Gaanv mein ham log bahut log kahaaniyaan sunate aae hain ki basant panchamee kyon manaee jaatee hai kaha jaata hai ki yah bahut pahale ka tha mein log kahate hain ki bhagavaan vishnu ne sansaar kee rachana kee thee aur rachanaon kie the to ped-paudhe jeev jantu manushy yaanee saaree cheej banae the lekin banae to the lekin kuchh usamen kamee rah gaee thee isalie ne brahmaajee ne apane kamandal se jal kuchh likha tha jisake chaaron haath vaalee hai ki stree prakat huee thee aur us stree ke haath mein gira tha pustak tha maala tha chautha haath var mudra tha aur yah sab dekhakar brahmaajee jo hai aashcharyachakit ho gae the isake baad jo hai is sundar devee se bina bajaane ko kaha aur jaise raavajee har cheej mein sohar aa gaya tabhee brahma jee ne us devee ko veera ke devee aane sarasvatee devee lage aur usake baad kaha jaane laga aur sanjog bas vah din basant panchamee ka tha isalie us din basant panchamee manaee jaane lagee aur kaha jaata hai ki usane din se jo har saal jo hai basant panchamee manaee jaatee hai

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:05
पंचमी क्यों मनाई जाती है वास्तव में बसंत पंचमी एक नए ऋतु के आगमन का प्रतीक है और यह फागुन की पंचमी तिथि को मनाई जाती है यहां से फल फूलों का आगमन होता है वृक्ष ने फूलों को धारण करते हैं और इसके साथ साथ जो है चारों तरफ हरियाली और पीलापन दिखाई देता है क्योंकि यह सच है कि रंग बसंती छा गया मस्ताना मौसम आ गया यह बात का प्रतीक है और उत्सव के रूप में नवीन उत्सव के रूप में विद्यार्थियों के लिए बसंत पंचमी बहुत लाभकारी होती क्योंकि अगर विद्यार्थी इस दिन मां सरस्वती की पूजा करते हैं और बसंत पंचमी में माता सरस्वती की को मनाते हैं तो उनको बल्ब ज्ञान ध्यान शक्ति भक्ति शक्ति प्राप्त होती है
Panchamee kyon manaee jaatee hai vaastav mein basant panchamee ek nae rtu ke aagaman ka prateek hai aur yah phaagun kee panchamee tithi ko manaee jaatee hai yahaan se phal phoolon ka aagaman hota hai vrksh ne phoolon ko dhaaran karate hain aur isake saath saath jo hai chaaron taraph hariyaalee aur peelaapan dikhaee deta hai kyonki yah sach hai ki rang basantee chha gaya mastaana mausam aa gaya yah baat ka prateek hai aur utsav ke roop mein naveen utsav ke roop mein vidyaarthiyon ke lie basant panchamee bahut laabhakaaree hotee kyonki agar vidyaarthee is din maan sarasvatee kee pooja karate hain aur basant panchamee mein maata sarasvatee kee ko manaate hain to unako balb gyaan dhyaan shakti bhakti shakti praapt hotee hai

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
0:40
नमस्कार दोस्तों योजना बचा बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है लेकिन बसंत पंचमी हिंदू धर्म के माघ मास का बहुत ही अधिक महत्व माना जाता है क्योंकि इस माह में कई महत्वपूर्ण पर्व और बसंत पंचमी जैसे प्रमुख के पावन त्यौहार पड़ते हैं खासकर बसंत पंचमी का त्यौहार इस पावन दिन पर देवी सरस्वती के अवतरण दिवस के रूप में मनाया जाता है इस दिन देवी सरस्वती की विधि विधान से पूजा की जाती है लेकिन बसंत पंचमी सिर्फ इसलिए नहीं बल्कि कई अन्य मायनों में बहुत महत्व रखता है आशा करता हूं आपका ऑफिस वालों का जवाब मिल गया लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Namaskaar doston yojana bacha basant panchamee kyon manaee jaatee hai lekin basant panchamee hindoo dharm ke maagh maas ka bahut hee adhik mahatv maana jaata hai kyonki is maah mein kaee mahatvapoorn parv aur basant panchamee jaise pramukh ke paavan tyauhaar padate hain khaasakar basant panchamee ka tyauhaar is paavan din par devee sarasvatee ke avataran divas ke roop mein manaaya jaata hai is din devee sarasvatee kee vidhi vidhaan se pooja kee jaatee hai lekin basant panchamee sirph isalie nahin balki kaee any maayanon mein bahut mahatv rakhata hai aasha karata hoon aapaka ophis vaalon ka javaab mil gaya laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Rohit Rathore Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Student
1:12
साले वेलकम बैक स्वागत है आप सबका मेरी बोलकर ए प्रोफाइल पर और आप सुन रहे रोहित राठौर को कब खाते वाले बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है तैयार बसंत पंचमी का त्यौहार खासकर उत्तर भारत में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है उन दिन कहीं जाओ पर पतंगबाजी भी की जाती है इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत होती है यूं तो भारत में छह ऋतु होती है लेकिन बसंत को रितु का राजा कहा जाता है इस दौरान मौसम सुहाना हो जाता है और पेड़ पौधों में नए फलाना चालू हो जाता है खासकर किसानों के लिए द्वारका विशेष मत होता है बसंत पंचमी पर सरसों के तेल लैला तेरी लैला उत्तेजना जोहार गेहूं की बालियां खिलने लगती है बसंत पंचमी के दिन विद्या की देवी मां सरस्वती का जन्म हुआ था इसलिए इस दिन को मां सरस्वती की पूजा भी की जाती है इस दिन कई लोगों प्रेम से देवता कामदेव की भी पूजा करते हैं मां सरस्वती की पूजा के लिए समर्पित बसंत पंचमी का पर्व हर साल हिंदू बंदर के अनुसार बसंत पंचमी का त्यौहार माघ शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाया जाता है तो धन्यवाद दोस्तों मिलते हैं हम से अगले सवाल में जब तक के लिए टेक केयर गुड बाय
Saale velakam baik svaagat hai aap sabaka meree bolakar e prophail par aur aap sun rahe rohit raathaur ko kab khaate vaale basant panchamee kyon manaee jaatee hai taiyaar basant panchamee ka tyauhaar khaasakar uttar bhaarat mein badee dhoomadhaam se manaaya jaata hai un din kaheen jao par patangabaajee bhee kee jaatee hai is din se basant rtu kee shuruaat hotee hai yoon to bhaarat mein chhah rtu hotee hai lekin basant ko ritu ka raaja kaha jaata hai is dauraan mausam suhaana ho jaata hai aur ped paudhon mein nae phalaana chaaloo ho jaata hai khaasakar kisaanon ke lie dvaaraka vishesh mat hota hai basant panchamee par sarason ke tel laila teree laila uttejana johaar gehoon kee baaliyaan khilane lagatee hai basant panchamee ke din vidya kee devee maan sarasvatee ka janm hua tha isalie is din ko maan sarasvatee kee pooja bhee kee jaatee hai is din kaee logon prem se devata kaamadev kee bhee pooja karate hain maan sarasvatee kee pooja ke lie samarpit basant panchamee ka parv har saal hindoo bandar ke anusaar basant panchamee ka tyauhaar maagh shukl paksh kee panchamee ko manaaya jaata hai to dhanyavaad doston milate hain ham se agale savaal mein jab tak ke lie tek keyar gud baay

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:29
हरा कृष्ण बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है तो आपको बता दें कि विद्या की देवी सरस्वती मां है उनकी पूजा होती है बस पंचमी के दिन और एक चीज और है ऐसा माना जाता है कि जिस किसी भी इंसान को शुभ मुहूर्त ना मिल रहा हो वह बसंत पंचमी के दिन कोई भी कार्य अपना कर सकता है आपकी क्या इस बारे में कमेंट सेक्शन अपनी राय व्यक्त करें मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Hara krshn basant panchamee kyon manaee jaatee hai to aapako bata den ki vidya kee devee sarasvatee maan hai unakee pooja hotee hai bas panchamee ke din aur ek cheej aur hai aisa maana jaata hai ki jis kisee bhee insaan ko shubh muhoort na mil raha ho vah basant panchamee ke din koee bhee kaary apana kar sakata hai aapakee kya is baare mein kament sekshan apanee raay vyakt karen main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
srikant pal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए srikant जी का जवाब
Student
1:03

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
 Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए जी का जवाब
Unknown
0:30
प्रश्न है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखें इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है यह पूजा पूर्वी भारत दंपत्ति मतदार बांग्लादेश नेपाल और कई रास्तों में बड़े उल्लास से मनाई जाती है बसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीना के पास हुए दिन एक बाराजस मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है यह बसंत पंचमी का त्योहार खिलाता था
Prashn hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhen is din vidya kee devee sarasvatee kee pooja kee jaatee hai yah pooja poorvee bhaarat dampatti matadaar baanglaadesh nepaal aur kaee raaston mein bade ullaas se manaee jaatee hai basant rtu ka svaagat karane ke lie maagh maheena ke paas hue din ek baaraajas manaaya jaata hai jisamen vishnu aur kaamadev kee pooja hotee hai yah basant panchamee ka tyohaar khilaata tha

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:50
प्रणाम दादी आपका सवाल है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है हमारे देश में पुरानी मान्यता है जो सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रह्मा ने युवा और मनुष्य की रचना की है ब्रह्मा जी ने उसकी सेना बजाने का निवेदन करते हैं और इसी तरह देवी के बिना बुझाने में संसार के सभी जीव जंतुओं को आवाज मिल जाती है वह दिन बसंत पंचमी का दिन था तभी से हमारे देवी सरस्वती के जन्मदिन के रूप में यह पर्व मनाते आ रहे हैं धन्यवाद साथियों खुश रहें
Pranaam daadee aapaka savaal hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai hamaare desh mein puraanee maanyata hai jo srshti ke rachayita bhagavaan brahma ne yuva aur manushy kee rachana kee hai brahma jee ne usakee sena bajaane ka nivedan karate hain aur isee tarah devee ke bina bujhaane mein sansaar ke sabhee jeev jantuon ko aavaaj mil jaatee hai vah din basant panchamee ka din tha tabhee se hamaare devee sarasvatee ke janmadin ke roop mein yah parv manaate aa rahe hain dhanyavaad saathiyon khush rahen

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:50
सवाल है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखिए पौराणिक मान्यता के अनुसार सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रह्मा जी ने जीव और मनुष्यों की रक्षा की है लेकिन सृष्टि की तरफ जब ब्रह्मा जी देखते हैं तो उस समय ब्रह्मा जी को चारों तरफ सुनसान और शांत माहौल नजर आता है इसलिए उन्हें महसूस होता है कि कोई कुछ बोल क्यों नहीं रहा है जिसे देखकर ब्रह्माजी मायूस हो जाते हैं जिसके बाद ब्रह्मा जी ने भगवान विष्णु से अनुरोध किया कि और विष्णु जी ने कमंडल से पृथ्वी पर जल छिड़क वादिया और उस जल को के द्वारा पृथ्वी हिलने लगी पृथ्वी हिलने के बाद एक अद्भुत शक्ति मां सरस्वती के रूप में प्रकट हुई देवी के एक हाथ में वीणा और दूसरे हाथ में बरमूडा होती है और वही अन्य हाथों में तक और माला थी ब्रह्माजी इस्त्री से भिड़ा बजाने का निवेदन करते हैं इस तरफ देवी के बीड़ा बजाने से संसार के सभी जीव जंतुओं को आवाज मिल जाती है वह दिन है बसंत पंचमी का था और तभी से देवी सरस्वती के जन्म दिवस के रूप में यह पर्व मनाया जाता है बसंत पंचमी 1 हिंदुओं का त्योहार है इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है बसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवे दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है यह बसंत पंचमी का त्योहार कहलाता है धन्यवाद
Savaal hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhie pauraanik maanyata ke anusaar srshti ke rachayita bhagavaan brahma jee ne jeev aur manushyon kee raksha kee hai lekin srshti kee taraph jab brahma jee dekhate hain to us samay brahma jee ko chaaron taraph sunasaan aur shaant maahaul najar aata hai isalie unhen mahasoos hota hai ki koee kuchh bol kyon nahin raha hai jise dekhakar brahmaajee maayoos ho jaate hain jisake baad brahma jee ne bhagavaan vishnu se anurodh kiya ki aur vishnu jee ne kamandal se prthvee par jal chhidak vaadiya aur us jal ko ke dvaara prthvee hilane lagee prthvee hilane ke baad ek adbhut shakti maan sarasvatee ke roop mein prakat huee devee ke ek haath mein veena aur doosare haath mein baramooda hotee hai aur vahee any haathon mein tak aur maala thee brahmaajee istree se bhida bajaane ka nivedan karate hain is taraph devee ke beeda bajaane se sansaar ke sabhee jeev jantuon ko aavaaj mil jaatee hai vah din hai basant panchamee ka tha aur tabhee se devee sarasvatee ke janm divas ke roop mein yah parv manaaya jaata hai basant panchamee 1 hinduon ka tyohaar hai is din vidya kee devee sarasvatee kee pooja kee jaatee hai basant rtu ka svaagat karane ke lie maagh maheene ke paanchave din ek bada jashn manaaya jaata hai jisamen vishnu aur kaamadev kee pooja hotee hai yah basant panchamee ka tyohaar kahalaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:50
सवाल है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखिए पौराणिक मान्यता के अनुसार सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रह्मा जी ने जीव और मनुष्यों की रक्षा की है लेकिन सृष्टि की तरफ जब ब्रह्मा जी देखते हैं तो उस समय ब्रह्मा जी को चारों तरफ सुनसान और शांत माहौल नजर आता है इसलिए उन्हें महसूस होता है कि कोई कुछ बोल क्यों नहीं रहा है जिसे देखकर ब्रह्माजी मायूस हो जाते हैं जिसके बाद ब्रह्मा जी ने भगवान विष्णु से अनुरोध किया कि और विष्णु जी ने कमंडल से पृथ्वी पर जल छिड़क वादिया और उस जल को के द्वारा पृथ्वी हिलने लगी पृथ्वी हिलने के बाद एक अद्भुत शक्ति मां सरस्वती के रूप में प्रकट हुई देवी के एक हाथ में वीणा और दूसरे हाथ में बरमूडा होती है और वही अन्य हाथों में तक और माला थी ब्रह्माजी इस्त्री से भिड़ा बजाने का निवेदन करते हैं इस तरफ देवी के बीड़ा बजाने से संसार के सभी जीव जंतुओं को आवाज मिल जाती है वह दिन है बसंत पंचमी का था और तभी से देवी सरस्वती के जन्म दिवस के रूप में यह पर्व मनाया जाता है बसंत पंचमी 1 हिंदुओं का त्योहार है इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है बसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवे दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है यह बसंत पंचमी का त्योहार कहलाता है धन्यवाद
Savaal hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhie pauraanik maanyata ke anusaar srshti ke rachayita bhagavaan brahma jee ne jeev aur manushyon kee raksha kee hai lekin srshti kee taraph jab brahma jee dekhate hain to us samay brahma jee ko chaaron taraph sunasaan aur shaant maahaul najar aata hai isalie unhen mahasoos hota hai ki koee kuchh bol kyon nahin raha hai jise dekhakar brahmaajee maayoos ho jaate hain jisake baad brahma jee ne bhagavaan vishnu se anurodh kiya ki aur vishnu jee ne kamandal se prthvee par jal chhidak vaadiya aur us jal ko ke dvaara prthvee hilane lagee prthvee hilane ke baad ek adbhut shakti maan sarasvatee ke roop mein prakat huee devee ke ek haath mein veena aur doosare haath mein baramooda hotee hai aur vahee any haathon mein tak aur maala thee brahmaajee istree se bhida bajaane ka nivedan karate hain is taraph devee ke beeda bajaane se sansaar ke sabhee jeev jantuon ko aavaaj mil jaatee hai vah din hai basant panchamee ka tha aur tabhee se devee sarasvatee ke janm divas ke roop mein yah parv manaaya jaata hai basant panchamee 1 hinduon ka tyohaar hai is din vidya kee devee sarasvatee kee pooja kee jaatee hai basant rtu ka svaagat karane ke lie maagh maheene ke paanchave din ek bada jashn manaaya jaata hai jisamen vishnu aur kaamadev kee pooja hotee hai yah basant panchamee ka tyohaar kahalaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:50
सवाल है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखिए पौराणिक मान्यता के अनुसार सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रह्मा जी ने जीव और मनुष्यों की रक्षा की है लेकिन सृष्टि की तरफ जब ब्रह्मा जी देखते हैं तो उस समय ब्रह्मा जी को चारों तरफ सुनसान और शांत माहौल नजर आता है इसलिए उन्हें महसूस होता है कि कोई कुछ बोल क्यों नहीं रहा है जिसे देखकर ब्रह्माजी मायूस हो जाते हैं जिसके बाद ब्रह्मा जी ने भगवान विष्णु से अनुरोध किया कि और विष्णु जी ने कमंडल से पृथ्वी पर जल छिड़क वादिया और उस जल को के द्वारा पृथ्वी हिलने लगी पृथ्वी हिलने के बाद एक अद्भुत शक्ति मां सरस्वती के रूप में प्रकट हुई देवी के एक हाथ में वीणा और दूसरे हाथ में बरमूडा होती है और वही अन्य हाथों में तक और माला थी ब्रह्माजी इस्त्री से भिड़ा बजाने का निवेदन करते हैं इस तरफ देवी के बीड़ा बजाने से संसार के सभी जीव जंतुओं को आवाज मिल जाती है वह दिन है बसंत पंचमी का था और तभी से देवी सरस्वती के जन्म दिवस के रूप में यह पर्व मनाया जाता है बसंत पंचमी 1 हिंदुओं का त्योहार है इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है बसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवे दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है यह बसंत पंचमी का त्योहार कहलाता है धन्यवाद
Savaal hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhie pauraanik maanyata ke anusaar srshti ke rachayita bhagavaan brahma jee ne jeev aur manushyon kee raksha kee hai lekin srshti kee taraph jab brahma jee dekhate hain to us samay brahma jee ko chaaron taraph sunasaan aur shaant maahaul najar aata hai isalie unhen mahasoos hota hai ki koee kuchh bol kyon nahin raha hai jise dekhakar brahmaajee maayoos ho jaate hain jisake baad brahma jee ne bhagavaan vishnu se anurodh kiya ki aur vishnu jee ne kamandal se prthvee par jal chhidak vaadiya aur us jal ko ke dvaara prthvee hilane lagee prthvee hilane ke baad ek adbhut shakti maan sarasvatee ke roop mein prakat huee devee ke ek haath mein veena aur doosare haath mein baramooda hotee hai aur vahee any haathon mein tak aur maala thee brahmaajee istree se bhida bajaane ka nivedan karate hain is taraph devee ke beeda bajaane se sansaar ke sabhee jeev jantuon ko aavaaj mil jaatee hai vah din hai basant panchamee ka tha aur tabhee se devee sarasvatee ke janm divas ke roop mein yah parv manaaya jaata hai basant panchamee 1 hinduon ka tyohaar hai is din vidya kee devee sarasvatee kee pooja kee jaatee hai basant rtu ka svaagat karane ke lie maagh maheene ke paanchave din ek bada jashn manaaya jaata hai jisamen vishnu aur kaamadev kee pooja hotee hai yah basant panchamee ka tyohaar kahalaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:50
सवाल है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखिए पौराणिक मान्यता के अनुसार सृष्टि के रचयिता भगवान ब्रह्मा जी ने जीव और मनुष्यों की रक्षा की है लेकिन सृष्टि की तरफ जब ब्रह्मा जी देखते हैं तो उस समय ब्रह्मा जी को चारों तरफ सुनसान और शांत माहौल नजर आता है इसलिए उन्हें महसूस होता है कि कोई कुछ बोल क्यों नहीं रहा है जिसे देखकर ब्रह्माजी मायूस हो जाते हैं जिसके बाद ब्रह्मा जी ने भगवान विष्णु से अनुरोध किया कि और विष्णु जी ने कमंडल से पृथ्वी पर जल छिड़क वादिया और उस जल को के द्वारा पृथ्वी हिलने लगी पृथ्वी हिलने के बाद एक अद्भुत शक्ति मां सरस्वती के रूप में प्रकट हुई देवी के एक हाथ में वीणा और दूसरे हाथ में बरमूडा होती है और वही अन्य हाथों में तक और माला थी ब्रह्माजी इस्त्री से भिड़ा बजाने का निवेदन करते हैं इस तरफ देवी के बीड़ा बजाने से संसार के सभी जीव जंतुओं को आवाज मिल जाती है वह दिन है बसंत पंचमी का था और तभी से देवी सरस्वती के जन्म दिवस के रूप में यह पर्व मनाया जाता है बसंत पंचमी 1 हिंदुओं का त्योहार है इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है बसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवे दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है यह बसंत पंचमी का त्योहार कहलाता है धन्यवाद
Savaal hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhie pauraanik maanyata ke anusaar srshti ke rachayita bhagavaan brahma jee ne jeev aur manushyon kee raksha kee hai lekin srshti kee taraph jab brahma jee dekhate hain to us samay brahma jee ko chaaron taraph sunasaan aur shaant maahaul najar aata hai isalie unhen mahasoos hota hai ki koee kuchh bol kyon nahin raha hai jise dekhakar brahmaajee maayoos ho jaate hain jisake baad brahma jee ne bhagavaan vishnu se anurodh kiya ki aur vishnu jee ne kamandal se prthvee par jal chhidak vaadiya aur us jal ko ke dvaara prthvee hilane lagee prthvee hilane ke baad ek adbhut shakti maan sarasvatee ke roop mein prakat huee devee ke ek haath mein veena aur doosare haath mein baramooda hotee hai aur vahee any haathon mein tak aur maala thee brahmaajee istree se bhida bajaane ka nivedan karate hain is taraph devee ke beeda bajaane se sansaar ke sabhee jeev jantuon ko aavaaj mil jaatee hai vah din hai basant panchamee ka tha aur tabhee se devee sarasvatee ke janm divas ke roop mein yah parv manaaya jaata hai basant panchamee 1 hinduon ka tyohaar hai is din vidya kee devee sarasvatee kee pooja kee jaatee hai basant rtu ka svaagat karane ke lie maagh maheene ke paanchave din ek bada jashn manaaya jaata hai jisamen vishnu aur kaamadev kee pooja hotee hai yah basant panchamee ka tyohaar kahalaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:05
जी आप का सवाल है कि वसंत पंचमी क्यों मनाई जाते हैं तो वसंत पंचमी मां सरस्वती के जन्मदिन के रूप में मनाई जाती है क्योंकि वह बहुत ही अच्छी वीणा बजाती थी और उसी दिन के बाद जहां पर नई फसलों का और जाना जिसे नई फसलों में फूल आना या एक प्रकार से देखा जाए तो नहीं फंसने फुलाना और जो भी छोटे बच्चे हैं वह हाइड करने लग जाता है या नहीं बढ़ने लग जाते हैं और मां सरस्वती जी के वीणा बजाने के लिए ब्रह्मा जी ने उसे वरदान दिया था कि आप धरती पर विद्या की देवी के नाम से पुकारी जाएगी आपको एक दिन देश या विदेश की सारी जनता याद करेगी धन्यवाद
Jee aap ka savaal hai ki vasant panchamee kyon manaee jaate hain to vasant panchamee maan sarasvatee ke janmadin ke roop mein manaee jaatee hai kyonki vah bahut hee achchhee veena bajaatee thee aur usee din ke baad jahaan par naee phasalon ka aur jaana jise naee phasalon mein phool aana ya ek prakaar se dekha jae to nahin phansane phulaana aur jo bhee chhote bachche hain vah haid karane lag jaata hai ya nahin badhane lag jaate hain aur maan sarasvatee jee ke veena bajaane ke lie brahma jee ne use varadaan diya tha ki aap dharatee par vidya kee devee ke naam se pukaaree jaegee aapako ek din desh ya videsh kee saaree janata yaad karegee dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
PRAVIN KUMAR Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए PRAVIN जी का जवाब
Private teacher
1:08
आपका सवाल है बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है देखिए हिंदू पौराणिक कथाओं में प्रचलित एक कथा के अनुसार भगवान ब्रह्मा ने सारे संसार की रचना की उन्होंने पेड़-पौधे जीव जंतु और मनुष्य बना लेकिन उन्हें लगा कि उनकी रचना में कुछ कमी रह गई इसलिए ब्रह्मा जी ने अपने कमंडल से जल का 4 हाथों वाली एक सुंदर स्त्री प्रकट हुई स्त्री के एक हाथ में वीरा दूसरे में पुस्तक तीसरे में माला और चौथा हाथ वर मुद्रा में ब्रह्मा जी ने इस सुंदर देवी से मिला बजाना कहा जैसे वीरा ब्रह्मा जी ब्रह्मा जी की बनाई हर चीज में सो रहा था तभी ब्रह्मा जी ने उस देवी को गाड़ी की देवी सरस्वती नाम किया वह दिन बसंत पंचमी कथा इस वजह से हर साल बसंत पंचमी के दिन लिरिक्स सती का जन्मदिन मनाया जाने लगा और उनकी पूजा की जाने लगी विश्वास है आपको आपके सवाल का आंसर मिला होगा धन्यवाद
Aapaka savaal hai basant panchamee kyon manaee jaatee hai dekhie hindoo pauraanik kathaon mein prachalit ek katha ke anusaar bhagavaan brahma ne saare sansaar kee rachana kee unhonne ped-paudhe jeev jantu aur manushy bana lekin unhen laga ki unakee rachana mein kuchh kamee rah gaee isalie brahma jee ne apane kamandal se jal ka 4 haathon vaalee ek sundar stree prakat huee stree ke ek haath mein veera doosare mein pustak teesare mein maala aur chautha haath var mudra mein brahma jee ne is sundar devee se mila bajaana kaha jaise veera brahma jee brahma jee kee banaee har cheej mein so raha tha tabhee brahma jee ne us devee ko gaadee kee devee sarasvatee naam kiya vah din basant panchamee katha is vajah se har saal basant panchamee ke din liriks satee ka janmadin manaaya jaane laga aur unakee pooja kee jaane lagee vishvaas hai aapako aapake savaal ka aansar mila hoga dhanyavaad

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
versha Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए versha जी का जवाब
Student
0:44
हेलो एवरीवन माय नेम इस वर्ष बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है पौराणिक कथाओं के अनुसार ब्रह्मा जी ने सृष्टि के सभी मनुष्य और जीवो की रचना की है ब्रह्मा जी ने माता सरस्वती से निवेदन किया था वीणा बजाने के लिए जब माता सरस्वती ने वीना बजाई तब सृष्टि के सभी मनुष्य जीवों का आवाज मिल गई थी जिस दिन माता सरस्वती ने वीना बचाई थी उस दिन बसंत पंचमी थी इसलिए बसंत पंचमी को माता सरस्वती के जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता है इसलिए हम लोग बसंत पंचमी मनाते हैं थैंक यू सो मच
Helo evareevan maay nem is varsh basant panchamee kyon manaee jaatee hai pauraanik kathaon ke anusaar brahma jee ne srshti ke sabhee manushy aur jeevo kee rachana kee hai brahma jee ne maata sarasvatee se nivedan kiya tha veena bajaane ke lie jab maata sarasvatee ne veena bajaee tab srshti ke sabhee manushy jeevon ka aavaaj mil gaee thee jis din maata sarasvatee ne veena bachaee thee us din basant panchamee thee isalie basant panchamee ko maata sarasvatee ke janm divas ke roop mein manaaya jaata hai isalie ham log basant panchamee manaate hain thaink yoo so mach

bolkar speaker
बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है?Basant Panchami Kyun Manayi Jaati Hai
pari Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए pari जी का जवाब
Unknown
0:50
हाय फ्रेंड्स कितने क्वेश्चन किया था बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है तो आज मैं आपको इसका आंसर बताऊंगी मैं आपको पूरी डिटेल में बताऊंगी इस दिन विद्या की देवी सरस्वती जी की पूजा की जाती है यह पूजा पूर्वक भारत प्रश्नोत्तर बांग्लादेश नेपाल और कई राष्ट्रों में बड़े उल्लास से मनाया जाता है बसंत ऋतु सिद्धू का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवे दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता था जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती होती है यहां वसंत पंचमी का यह बसंत पंचमी का त्यौहार पर सवार कहलाता है थैंक यू फ्रेंड्स

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बसंत पंचमी कब और क्यों मनाई जाती है, बसंत पंचमी का इतिहास, बसंत पंचमी का त्यौहार कब मनाया जाता है
URL copied to clipboard