#रिश्ते और संबंध

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
3:45
अरे जवाब का सवाल है कि लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे बनाओ मिस करेंगे सबसे पहले तो हमें यह सोचना चाहिए कि हम सबका गुजारा बनाया गया है वह ईश्वर और ईश्वर को यह चेहरा पसंद है तो हम इंसान कौन होते एक दूसरे के सारा दोष खराब होने के लिए कि जो ईश्वर जितने बड़े हैं उन्हीं सभी फेस पसंद आया तभी तो उन्होंने यह तो हम इंसान क्यों बोलते हैं कि वह खराब है आखिर वह अच्छा ही सोचना चाहिए कि हम उन्हें पसंद है बाकी यहां के लोगों से कोई लेना देना नहीं होता है तो हम नॉर्मल इंसान से किसे तो कोई शादी ही नहीं करता ना मेरे रिलेशन में आता सब सेलिब्रिटी लोगों के पास जाते के खेल बहुत ही सुंदर दिखते हैं यह सोचना चाहिए कुछ समय के लिए क्या कर सकता है या फिर कोई इंसान उसकी तरफ आकर्षित हो सकता है लेकिन जाने की बात आती रिलेशन की बात आती है रिश्ते की बात आती है मतलब दोस्ती की बात आती है तो आप कैसे हैं आपका सोच विचार कैसा है आपका व्यक्तित्व क्या था उसके मैसेज पर कोई भी आपके साथ रहता है मैं बहुत सुंदर हो और ठीक है मैं किसी के घर से पूछो का फिर उसके बाद क्या होगा अगर मैं खुदा से ठीक नहीं होता कौन मेरे साथ रहेगा ना ही दोस्त नहीं मिलेगा तो यह सोचना चाहिए कि सुंदरम यह कैसा सुंदर दिखता है मोहब्बत सूरत दिखता है खुलने के बाद है और एक डूबा एक देखने का नजरिया है मुझे अगर दो लोग पसंद कर रहे 4 लोगों में से दोनों पसंद कर ईश्वर ने बनाया है और मैं ऐसा कोई काम नहीं करूं जिससे कोई आउट हो रहा है या फिर किसी को कोई परेशानी है जब कोई मुझे यह लाइन नहीं का तो मैं बहुत अच्छे और परफेक्ट हर एक इंसान को यह सुंदर अच्छा बुरा यह सब कुछ भी नहीं सिर्फ एक बोलने की बात है लेकिन जब इंसान को रहने के बाद आती है काम की बात आती है जिंदगी बिताने के बाद आती तो आप अंदर से कैसे आपका नेता कैसा हो सोचना चाहिए आप कभी भी यह मत सोचिए कि हम आपको किसी ने कॉन्प्लीमेंट दिया या फिर आपको कोई कमेंट किया क्या खराब है इससे आप अपना पूरा सोच लेंगे कि हमें ऐसे ही किसी के बोलने से अगर इतना कोई होता तो हम लोग लाइफ में इतना स्ट्रगल क्यों कर रहे थे तीनों क्यों ले रहे हो हमें तो अभी इसमें बहुत सारे लोग बोल देते ना काम नहीं कर सकती जॉब नहीं होगा तुमसे यह सब नहीं सोचना आप इतने सारे साइंटिस्ट लोगों को देखे कभी सुना है कि साइंटिस्ट लोगों को कोई बोलता है कि वह कितना है नशा में होता है काम बोलता है कि कौन क्या काम करके गया है कैसा है किसने लिखा जाता है कौन क्या-क्या किया है जिसकी वजह से आज हम इस दुनिया में है साइंटिस्ट की वजह से जख्मी सारे अविष्कार हुआ और सिर्फ और सिर्फ काम करने की कोशिश कीजिए इंसान जो आज बोतला खुल्लर जाएगा जिससे मैं पता चलेगा कि उनकी बातों में कोई दम नहीं हुआ यह बोलते हैं कि झूठ और यह सब दिमाग में मत लाइए सिर्फ सोचने के बाद और बोलने की बात है सिर्फ इंसान को अपने काम पर और ऐसा कुछ करना चाहिए जो तुम से कोई गलती नहीं
Are javaab ka savaal hai ki ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise banao mis karenge sabase pahale to hamen yah sochana chaahie ki ham sabaka gujaara banaaya gaya hai vah eeshvar aur eeshvar ko yah chehara pasand hai to ham insaan kaun hote ek doosare ke saara dosh kharaab hone ke lie ki jo eeshvar jitane bade hain unheen sabhee phes pasand aaya tabhee to unhonne yah to ham insaan kyon bolate hain ki vah kharaab hai aakhir vah achchha hee sochana chaahie ki ham unhen pasand hai baakee yahaan ke logon se koee lena dena nahin hota hai to ham normal insaan se kise to koee shaadee hee nahin karata na mere rileshan mein aata sab selibritee logon ke paas jaate ke khel bahut hee sundar dikhate hain yah sochana chaahie kuchh samay ke lie kya kar sakata hai ya phir koee insaan usakee taraph aakarshit ho sakata hai lekin jaane kee baat aatee rileshan kee baat aatee hai rishte kee baat aatee hai matalab dostee kee baat aatee hai to aap kaise hain aapaka soch vichaar kaisa hai aapaka vyaktitv kya tha usake maisej par koee bhee aapake saath rahata hai main bahut sundar ho aur theek hai main kisee ke ghar se poochho ka phir usake baad kya hoga agar main khuda se theek nahin hota kaun mere saath rahega na hee dost nahin milega to yah sochana chaahie ki sundaram yah kaisa sundar dikhata hai mohabbat soorat dikhata hai khulane ke baad hai aur ek dooba ek dekhane ka najariya hai mujhe agar do log pasand kar rahe 4 logon mein se donon pasand kar eeshvar ne banaaya hai aur main aisa koee kaam nahin karoon jisase koee aaut ho raha hai ya phir kisee ko koee pareshaanee hai jab koee mujhe yah lain nahin ka to main bahut achchhe aur paraphekt har ek insaan ko yah sundar achchha bura yah sab kuchh bhee nahin sirph ek bolane kee baat hai lekin jab insaan ko rahane ke baad aatee hai kaam kee baat aatee hai jindagee bitaane ke baad aatee to aap andar se kaise aapaka neta kaisa ho sochana chaahie aap kabhee bhee yah mat sochie ki ham aapako kisee ne konpleement diya ya phir aapako koee kament kiya kya kharaab hai isase aap apana poora soch lenge ki hamen aise hee kisee ke bolane se agar itana koee hota to ham log laiph mein itana stragal kyon kar rahe the teenon kyon le rahe ho hamen to abhee isamen bahut saare log bol dete na kaam nahin kar sakatee job nahin hoga tumase yah sab nahin sochana aap itane saare saintist logon ko dekhe kabhee suna hai ki saintist logon ko koee bolata hai ki vah kitana hai nasha mein hota hai kaam bolata hai ki kaun kya kaam karake gaya hai kaisa hai kisane likha jaata hai kaun kya-kya kiya hai jisakee vajah se aaj ham is duniya mein hai saintist kee vajah se jakhmee saare avishkaar hua aur sirph aur sirph kaam karane kee koshish keejie insaan jo aaj botala khullar jaega jisase main pata chalega ki unakee baaton mein koee dam nahin hua yah bolate hain ki jhooth aur yah sab dimaag mein mat laie sirph sochane ke baad aur bolane kee baat hai sirph insaan ko apane kaam par aur aisa kuchh karana chaahie jo tum se koee galatee nahin

और जवाब सुनें

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:12
आपका सवाल है लड़के बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो साथियों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है कि आपने अपने आसपास कुछ ऐसे लोगों को जरूर देखा होगा जो हमेशा खुद को दूसरे से कमतर समझते हैं वह अपने एक अच्छे गुणों की पहचान पाने में असमर्थ होते हैं और उन्हें अपने भीतर केवल बुलाया ही नजर आती है इसी वजह से हीन भावना के शिकार हो जाते हैं इसी तरह मनोविज्ञान में खुद को सर्वोच्च समझने की गलतफहमी को भी हिना भावना का एक रूप माना गया है ऐसी समस्या से ग्रसित व्यक्ति अपनी कमियों को छुपाने के लिए दूसरों के सामने खुद को बढ़ा चढ़ा कर पेश करने लग जाते हैं इन भावनाओं के यह दोनों ही स्थितियां खतरनाक है इन भावना इंसान को कमजोर बना देती है और उसकी पर्सनल प्रोफेशनल लाइफ पर भी बुरा असर डालती है अगर इसे दूर ने किया जाए तो व्यक्ति डिप्रेशन जैसे गंभीर मनोरोग का शिकार हो सकता है और हीन भावना की जड़े कहीं न कहीं हमारे बचपन में भी छिपी होती है ऐसा देखा गया है छोटी-छोटी गलतियों के लिए बच्चों को बार बार ठोकना और बातचीत में उसके लिए हमेशा नकारात्मक वाक्य का इस्तेमाल और हमउम्र बच्चों की तुलना करके उसे नीचे दिखाना आदि कई ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से बड़े होने के बाद बच्चे में हीन भावना भर जाती है और वह ताउम्र बनी रहती है अगर माता-पिता हीन भावना से ग्रसित हो तो उन्हें देखकर स्वाभाविक रूप से बच्चा भी उन्हें तेरे सोचने लगता है किसी असफलता दुर्घटना या अपमानजनक विभाग की वजह से कुछ लोगों में बड़े होने के बाद भी हीन भावना पैदा हो जाती है इसलिए हमें एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए एक दूसरे के साथ हीन भावना नहीं रखनी चाहिए जिससे हमें यह सोचना हमें एक दूसरे का और आदर सत्कार और उनकी जो भावना है उनके साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए धन्यवाद साथियों खुश रहो
Aapaka savaal hai ladake badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge to saathiyon aapake savaal ka uttar is prakaar hai ki aapane apane aasapaas kuchh aise logon ko jaroor dekha hoga jo hamesha khud ko doosare se kamatar samajhate hain vah apane ek achchhe gunon kee pahachaan paane mein asamarth hote hain aur unhen apane bheetar keval bulaaya hee najar aatee hai isee vajah se heen bhaavana ke shikaar ho jaate hain isee tarah manovigyaan mein khud ko sarvochch samajhane kee galataphahamee ko bhee hina bhaavana ka ek roop maana gaya hai aisee samasya se grasit vyakti apanee kamiyon ko chhupaane ke lie doosaron ke saamane khud ko badha chadha kar pesh karane lag jaate hain in bhaavanaon ke yah donon hee sthitiyaan khataranaak hai in bhaavana insaan ko kamajor bana detee hai aur usakee parsanal propheshanal laiph par bhee bura asar daalatee hai agar ise door ne kiya jae to vyakti dipreshan jaise gambheer manorog ka shikaar ho sakata hai aur heen bhaavana kee jade kaheen na kaheen hamaare bachapan mein bhee chhipee hotee hai aisa dekha gaya hai chhotee-chhotee galatiyon ke lie bachchon ko baar baar thokana aur baatacheet mein usake lie hamesha nakaaraatmak vaaky ka istemaal aur hamumr bachchon kee tulana karake use neeche dikhaana aadi kaee aise kaaran hain jinakee vajah se bade hone ke baad bachche mein heen bhaavana bhar jaatee hai aur vah taumr banee rahatee hai agar maata-pita heen bhaavana se grasit ho to unhen dekhakar svaabhaavik roop se bachcha bhee unhen tere sochane lagata hai kisee asaphalata durghatana ya apamaanajanak vibhaag kee vajah se kuchh logon mein bade hone ke baad bhee heen bhaavana paida ho jaatee hai isalie hamen ek doosare ka sammaan karana chaahie ek doosare ke saath heen bhaavana nahin rakhanee chaahie jisase hamen yah sochana hamen ek doosare ka aur aadar satkaar aur unakee jo bhaavana hai unake saath khilavaad nahin karana chaahie dhanyavaad saathiyon khush raho

Aditya Dangayach  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Aditya जी का जवाब
Student
2:34
यह जानना चाहते हैं कि लड़की व सूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से करती सकरन है आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो देखिए जो हिंदी चुटकुला होती है कि हम अपने आप को तो सब अपने आप को हमारे अंदर इतना का भाव पैदा होता है क्योंकि हमें यह बताता है कि आपकी बेकार हो और सामने वाला अच्छा है ऐसा ही है ऐसी स्थिति में रखी के सामने वाली खूबसूरत है वरना बस वाली सामग्री की जाती है कि सामने वाले का रंग गोरा है तो खूबसूरत है और अगर आपका कॉल आया था मैं आपसे यह जानना पड़ेगा कि हमारे अंदर यह बात किसने डाली मैंने कि हमें यह किसने सिखाया कि लड़की अगर बदसूरत लड़के लड़कियां बड़ी आसानी होती है तो वह बदसूरत होती है वह बेकार होती है अच्छी होती है और वचन ले टाइप करती है सारे एडमिन स्वामी जी से बात है कि अगर आप किसके निकाली है तो जॉब लग सकती है लेकिन अगर आपकी उसकी मजबूरी है आपकी शादी भी हो जाएगी आपकी नौकरी लग जाएगी यानी कि आप अपने क्षेत्र में सफल हो जाओगे तो इस प्रकार की सरकार का जो कंटेंट होता है क्या तेरे को लेकर ही देखना शुरू कीजिए भैया समझा कि आप चाहे को रहे हो काले हो सामने हो इस बात का आप की सफलता से आपके चरित्र से कोई फर्क नहीं पड़ता अगर आप मेहनत करते हो तो आपको सफलता जरूर मिलेगी चाहे आपको रे मेघा रे मेघा रे मना धीरे धीरे की संभावना से बाहर निकलो आपको पसंद आया होगा
Yah jaanana chaahate hain ki ladakee va soorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se karatee sakaran hai aap usako kaise tanaav mukt karenge to dekhie jo hindee chutakula hotee hai ki ham apane aap ko to sab apane aap ko hamaare andar itana ka bhaav paida hota hai kyonki hamen yah bataata hai ki aapakee bekaar ho aur saamane vaala achchha hai aisa hee hai aisee sthiti mein rakhee ke saamane vaalee khoobasoorat hai varana bas vaalee saamagree kee jaatee hai ki saamane vaale ka rang gora hai to khoobasoorat hai aur agar aapaka kol aaya tha main aapase yah jaanana padega ki hamaare andar yah baat kisane daalee mainne ki hamen yah kisane sikhaaya ki ladakee agar badasoorat ladake ladakiyaan badee aasaanee hotee hai to vah badasoorat hotee hai vah bekaar hotee hai achchhee hotee hai aur vachan le taip karatee hai saare edamin svaamee jee se baat hai ki agar aap kisake nikaalee hai to job lag sakatee hai lekin agar aapakee usakee majabooree hai aapakee shaadee bhee ho jaegee aapakee naukaree lag jaegee yaanee ki aap apane kshetr mein saphal ho jaoge to is prakaar kee sarakaar ka jo kantent hota hai kya tere ko lekar hee dekhana shuroo keejie bhaiya samajha ki aap chaahe ko rahe ho kaale ho saamane ho is baat ka aap kee saphalata se aapake charitr se koee phark nahin padata agar aap mehanat karate ho to aapako saphalata jaroor milegee chaahe aapako re megha re megha re mana dheere dheere kee sambhaavana se baahar nikalo aapako pasand aaya hoga

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:04
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो फ्रेंड से अगर कोई लड़की शक्ल से नफरत है तो उसका मतलब नहीं है नहीं है कि वह खराब इंसान है ऐसा नहीं होता है किसी की सूरत से कुछ नहीं होता है तो कोई खूबसूरत हो चाहे बदसूरत हो उससे कोई फर्क नहीं पड़ता है इंसान की सोच ज्यादा मायने रखती है इंसान के विचार अच्छे होना चाहिए लड़की को आप को यह समझाना चाहिए कि तुम अच्छे से बेटा पढ़ाई लिखाई करना चाहिए लोगों की पढ़ाई अच्छी होनी चाहिए और घर के काम आने चाहिए और सब से बातचीत करने का तरीका होना चाहिए और जब लड़की में संस्कार होंगे तो उसके बदसूरत होने से भी कोई फर्क नहीं पड़ता है लोग सूरत दो-चार दिन ही देखते हैं उसके बाद उसका त्यौहार यह सब देखा जाता है तो उसको अच्छे से समझाना है कि आप अपने सूरत पर ध्यान मत दीजिए आप अपने कर्मों पर ध्यान दीजिए बस आप अपना पढ़ाई लिखाई कीजिए और पंडित कर कोई अच्छी तनाव मुक्त हो जाएगी धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge to phrend se agar koee ladakee shakl se napharat hai to usaka matalab nahin hai nahin hai ki vah kharaab insaan hai aisa nahin hota hai kisee kee soorat se kuchh nahin hota hai to koee khoobasoorat ho chaahe badasoorat ho usase koee phark nahin padata hai insaan kee soch jyaada maayane rakhatee hai insaan ke vichaar achchhe hona chaahie ladakee ko aap ko yah samajhaana chaahie ki tum achchhe se beta padhaee likhaee karana chaahie logon kee padhaee achchhee honee chaahie aur ghar ke kaam aane chaahie aur sab se baatacheet karane ka tareeka hona chaahie aur jab ladakee mein sanskaar honge to usake badasoorat hone se bhee koee phark nahin padata hai log soorat do-chaar din hee dekhate hain usake baad usaka tyauhaar yah sab dekha jaata hai to usako achchhe se samajhaana hai ki aap apane soorat par dhyaan mat deejie aap apane karmon par dhyaan deejie bas aap apana padhaee likhaee keejie aur pandit kar koee achchhee tanaav mukt ho jaegee dhanyavaad

Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Life coach
2:58
प्रश्न है लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे हम लोग हमेशा यह सोचते हैं कि हम एक बॉडी हैं जबकि यह बॉडी जन्म ली है और यह खत्म भी हो जाएगी गल जाती है जब आप बूढ़े होने लगते हो तो एक गाना शुरू हो जाती है और फिर आपकी जो एनर्जी है इस बॉडी से निकल जाती है अभी बॉडी खत्म एनर्जी बड़ी खत्म होती है कि बॉडी जिंदा रहती है नहीं जाती है धरती में समा जाती है तो आप ही बड़ी नहीं है आप चाहती हैं ना कि आप खुद को बहुत प्यार करें आप चाहती हैं ना कि मुझे लोग बदसूरत कहती तो मुझे लोग बदसूरत ना कहें चाहती है ना तो बस एक काम करना होगा अगर इस चीज को आप ने बहुत अच्छे से समझ लिया उस दिन से आप दूसरों की तरफ अट्रेक्ट नहीं होगी आप अपनी तरफ अट्रैक्ट होगी आप दूसरों के पीछे नहीं भागे अब शरीर के पीछे नहीं भागेंगे मेरी बॉडी गंदी है यह है वह है यह थिंकिंग नहीं लाएंगे कैसे आप मॉर्निंग में उठे मेडिटेशन करें है ना योगा करें योगा करने के बाद अगर आपको चक्र आज के बारे में पता तो अच्छी बात है नहीं तो आप युटुब में सर्च करें वह करें उसके बाद आप अपने खाने-पीने में ध्यान दें घूमने के लिए जाना है थोड़ा बहुत खूब ले ठीक है क्या सोच रहा है मत पूछिए यह समाज चेहरे को ही देखता है शरीर को ही देखता है आप खुद को देखना है आपको आपके अंदर की जो एनर्जी है मतलब वह जसोल है वह बहुत प्योर है वह शरीर नहीं है आप उस शरीर में आए हो लेकिन कुछ सीखने के लिए आए हो बहुत एक्सपीरियंस करो क्रिएटिविटी साइड आपको पेंटिंग आती डांसिंग का थी उस पर काम करो आपकी जो आप है उस जॉब पर अच्छे से फोकस करो दुनिया की चीजों को मत सुनो यह सारी चीजों को अपने अंदर आने ही मत दो आपकी टेंशन नहीं है सारी चीजें करो उसके बाद इवनिंग के समय भी आप थोड़ा सा मेडिटेशन कर लो या घूमने के लिए निकल जाओ खाने पीने में फोकस करो अब देखो की कहां-कहां मैं खुद को अच्छा नहीं कर उसको अच्छा नहीं बना रही हूं कहां-कहां में खुद को बुरा कह रही हूं आप वहां वहां जाओ खुद को बहुत लव दो कि हां मैं बदसूरत नहीं हूं मैं बहुत अच्छी हूं मैं बहुत दूर हूं आई एम ए डिवाइन स्कूल आप यह भी कह सकते हो ठीक है डिवाइन के चैनल है हम धीरे-धीरे देखना आपके अंदर की वाइब्रेशन चेंज होगी रोशन चेंज होगी ना बाहर दिखनी शुरू हो जाएगी लोगों पर उसका असर होगा लोगों लोग जिस नजर से देख लेना उस नजर में से आपको वह देखेंगे कितनी प्योर सौल है इंसान बॉडी को देखना है आपके अंदर की वाइब्रेशन चेंज होगी तो देखिएगा आप एक प्योर स्कूल के रूप में नजर आएंगे और आपको एक दिन खुद से प्यार हो जाएगा
Prashn hai ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge ham log hamesha yah sochate hain ki ham ek bodee hain jabaki yah bodee janm lee hai aur yah khatm bhee ho jaegee gal jaatee hai jab aap boodhe hone lagate ho to ek gaana shuroo ho jaatee hai aur phir aapakee jo enarjee hai is bodee se nikal jaatee hai abhee bodee khatm enarjee badee khatm hotee hai ki bodee jinda rahatee hai nahin jaatee hai dharatee mein sama jaatee hai to aap hee badee nahin hai aap chaahatee hain na ki aap khud ko bahut pyaar karen aap chaahatee hain na ki mujhe log badasoorat kahatee to mujhe log badasoorat na kahen chaahatee hai na to bas ek kaam karana hoga agar is cheej ko aap ne bahut achchhe se samajh liya us din se aap doosaron kee taraph atrekt nahin hogee aap apanee taraph atraikt hogee aap doosaron ke peechhe nahin bhaage ab shareer ke peechhe nahin bhaagenge meree bodee gandee hai yah hai vah hai yah thinking nahin laenge kaise aap morning mein uthe mediteshan karen hai na yoga karen yoga karane ke baad agar aapako chakr aaj ke baare mein pata to achchhee baat hai nahin to aap yutub mein sarch karen vah karen usake baad aap apane khaane-peene mein dhyaan den ghoomane ke lie jaana hai thoda bahut khoob le theek hai kya soch raha hai mat poochhie yah samaaj chehare ko hee dekhata hai shareer ko hee dekhata hai aap khud ko dekhana hai aapako aapake andar kee jo enarjee hai matalab vah jasol hai vah bahut pyor hai vah shareer nahin hai aap us shareer mein aae ho lekin kuchh seekhane ke lie aae ho bahut eksapeeriyans karo krietivitee said aapako penting aatee daansing ka thee us par kaam karo aapakee jo aap hai us job par achchhe se phokas karo duniya kee cheejon ko mat suno yah saaree cheejon ko apane andar aane hee mat do aapakee tenshan nahin hai saaree cheejen karo usake baad ivaning ke samay bhee aap thoda sa mediteshan kar lo ya ghoomane ke lie nikal jao khaane peene mein phokas karo ab dekho kee kahaan-kahaan main khud ko achchha nahin kar usako achchha nahin bana rahee hoon kahaan-kahaan mein khud ko bura kah rahee hoon aap vahaan vahaan jao khud ko bahut lav do ki haan main badasoorat nahin hoon main bahut achchhee hoon main bahut door hoon aaee em e divain skool aap yah bhee kah sakate ho theek hai divain ke chainal hai ham dheere-dheere dekhana aapake andar kee vaibreshan chenj hogee roshan chenj hogee na baahar dikhanee shuroo ho jaegee logon par usaka asar hoga logon log jis najar se dekh lena us najar mein se aapako vah dekhenge kitanee pyor saul hai insaan bodee ko dekhana hai aapake andar kee vaibreshan chenj hogee to dekhiega aap ek pyor skool ke roop mein najar aaenge aur aapako ek din khud se pyaar ho jaega

Christina KC Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Christina जी का जवाब
MBA Govt job in PSU/Assistant Manager (HR)
1:26
क्या है लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनावमुक्त करेंगे अगर किसी का मतलब इंग्लिश में सही नहीं है या फिर उनको लगता है कि मतलब वो इतनी खूबसूरत नहीं है कि जैसे कि कोई और है तो अक्सर ऐसी स्थिति में जो है और अगर आपको पता है कि मैं तुम को खराब लगता है उनकी खुद का तो ऐसी स्थिति में आपको उनकी मदद अगर आप करना चाहते हो तो आपको सबसे पहले आपको उनको मतलब इन सब बातों से उनको मतलब समझाना पड़ेगा की खूबसूरती वगैरह जो होती है इंसान का हमेशा के लिए नहीं रहता है साथ ही साथ में आपको यह भी समझाना पड़ेगा कि अगर कोई इंसान आपकी खूबसूरती देखकर आपको प्यार करता है तो वह इंसान जो है असल में आपको प्यार नहीं करता है यह सब बातें आपको समझा नहीं पड़ेगी सब साथी साथ में आपको यह भी समझाना रेखा की खूबसूरती अगर आपके मतलब की शूटिंग जो है वह अलग अलग लोगों के लिए अलग अलग होता है यानी कि अगर कोई इंसान किसी के लिए खूबसूरत होता है तो किसी के लिए नहीं तो अगर मतलब उनको यह सब उनको समझाना पड़ेगा आशा करते हैं कि तब उनका थोड़ा बहुत यह तकलीफ दर्द अगर है तो वह सब चाहे दूर हो मैं झांसी से बजाओ
Kya hai ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaavamukt karenge agar kisee ka matalab inglish mein sahee nahin hai ya phir unako lagata hai ki matalab vo itanee khoobasoorat nahin hai ki jaise ki koee aur hai to aksar aisee sthiti mein jo hai aur agar aapako pata hai ki main tum ko kharaab lagata hai unakee khud ka to aisee sthiti mein aapako unakee madad agar aap karana chaahate ho to aapako sabase pahale aapako unako matalab in sab baaton se unako matalab samajhaana padega kee khoobasooratee vagairah jo hotee hai insaan ka hamesha ke lie nahin rahata hai saath hee saath mein aapako yah bhee samajhaana padega ki agar koee insaan aapakee khoobasooratee dekhakar aapako pyaar karata hai to vah insaan jo hai asal mein aapako pyaar nahin karata hai yah sab baaten aapako samajha nahin padegee sab saathee saath mein aapako yah bhee samajhaana rekha kee khoobasooratee agar aapake matalab kee shooting jo hai vah alag alag logon ke lie alag alag hota hai yaanee ki agar koee insaan kisee ke lie khoobasoorat hota hai to kisee ke lie nahin to agar matalab unako yah sab unako samajhaana padega aasha karate hain ki tab unaka thoda bahut yah takaleeph dard agar hai to vah sab chaahe door ho main jhaansee se bajao

ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
1:29
पूछा गया है लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो देखिए सर कोई लड़की बदसूरत है वैसे तो दुनिया में कोई भी लड़की या कोई भी इंसान बदसूरत नहीं होता हर कोई खूबसूरत होता है बस आप में वह नजरिया चाहिए लेकिन अगर लोग उसे टॉर्चर कर रहे हैं उसके अच्छे नहीं दिखने को लेकर कमेंट कर रहे इसके कारणों से इंसान में हीन भावना जाती है और अगर आपके आसपास कोई ऐसी लड़की है और आप उसको ऐसा हीन भावना से निकालना चाहते हैं तो सबसे बेहतर तरीका यह है कि वह जिस चीज में अच्छी है अब जैसी है उसको वैसे ही एक्सेप्ट करिए आप उसको ऐसा फील मत कराइए कि हां वह सच में खूबसूरत नहीं है और आप उस पर दया भावना दिखा रे बिल्कुल भी नहीं ऐसा करेंगे तो वो और ज्यादा अपने आप को कमजोर महसूस करेगी जिस चीज में बेहतर करती है उसको लेकर क्यों से अप्रिशिएट करिए और इन सब चीजों को लेकर के उस से मतलब बताइए मत कि आप को उस पर दया आती है आप उससे इसलिए दोस्ती कर रहे हैं कि बाकी सब लोग उसको हीन भावना से देखते बिल्कुल नहीं आप उसकी अच्छाइयों को ज्यादा मतलब ऐसा इस करके उसकी तारीफ करिए तो आ धीरे-धीरे देखे वह इन चीजों को इग्नोर करना शुरु कर देगी और अपने अपने काम में अपनी एक चीज जो मैं बेहतर करना शुरू कर देगी उम्मीद करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Poochha gaya hai ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge to dekhie sar koee ladakee badasoorat hai vaise to duniya mein koee bhee ladakee ya koee bhee insaan badasoorat nahin hota har koee khoobasoorat hota hai bas aap mein vah najariya chaahie lekin agar log use torchar kar rahe hain usake achchhe nahin dikhane ko lekar kament kar rahe isake kaaranon se insaan mein heen bhaavana jaatee hai aur agar aapake aasapaas koee aisee ladakee hai aur aap usako aisa heen bhaavana se nikaalana chaahate hain to sabase behatar tareeka yah hai ki vah jis cheej mein achchhee hai ab jaisee hai usako vaise hee eksept karie aap usako aisa pheel mat karaie ki haan vah sach mein khoobasoorat nahin hai aur aap us par daya bhaavana dikha re bilkul bhee nahin aisa karenge to vo aur jyaada apane aap ko kamajor mahasoos karegee jis cheej mein behatar karatee hai usako lekar kyon se aprishiet karie aur in sab cheejon ko lekar ke us se matalab bataie mat ki aap ko us par daya aatee hai aap usase isalie dostee kar rahe hain ki baakee sab log usako heen bhaavana se dekhate bilkul nahin aap usakee achchhaiyon ko jyaada matalab aisa is karake usakee taareeph karie to aa dheere-dheere dekhe vah in cheejon ko ignor karana shuru kar degee aur apane apane kaam mein apanee ek cheej jo main behatar karana shuroo kar degee ummeed karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
5:10
सवाल यह है कि लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसे कैसे तनावमुक्त करेंगे तो हम उसको ऐसे समझाएंगे कि दरअसल आज हम जिस युग में जी रहे ऐसा वैज्ञानिक और औद्योगिक युग है जहां भौतिकवाद अपने चरम पर है इस युग में हर चीज का प्रथम उत्पादन हो रहा है यह वह दौर है जिसे ईश्वर की बनाई हुई वस्तु से इधर दुनिया ने एक मनुष्य ने एक नई दुनिया का ही आविष्कार कर लिया है यानी कि वर्चुअल वर्ल्ड इतना ही नहीं बल्कि कृत्रिम बुद्धिमता यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने भी इस युग में अपनी क्रांतिकारी आमद दर्ज की है ऐसे दौर में सौंदर्य कैसे अछूता रह सकता है इसलिए आज सुंदरता एक नैसर्गिक गुण नहीं नहीं रह गया है अपितु यह करोड़ों की कॉस्मेटिक उद्योग के बाजार बाद का परिणाम बन चुका है दरअसल हम भूल गए हैं कि सुंदरता चेहरे का नहीं बल्कि दिल का गुण है सुंदरता वह नहीं होती जो आईने में बल्कि वह होती है जो महसूस की जाती है हम भूल गए हैं कि संपूर्ण सृष्टि ईश्वर का ही हस्ताक्षर और ईश्वर के साथ-साथ हमारा जीवन हमें उस प्रभु को की याद एक अनमोल उपहार लेकिन आज सुंदरता में पूर्णता है की चाह में स्त्री भूल गई है कि अधूरे पर और व्यवस्था में भी एक खूबसूरती होती है वह भूल गई है कि ईश्वर की बनाई हर चीज खूबसूरत होती है कली की सुंदरता फूल से कम नहीं होती और बगीचे की खूबसूरती 1 से अधिक नहीं होती पूरी होते ही अपनी एक फोटो की है तो सूर्यास्त की अपनी पहाड़ों की अपनी सुंदरता है और नदियों की अपनी सुना समुद्र की अपनी सुंदरता है अगर हमें मोर अपनी और आकर्षित करता है तो कोई अरबी वस्तुतः खूबसूरती तो प्रकृति की हर वस्तु में होती है लेकिन दुर्भाग्यवश हर्षित हर किसी को दिखाई नहीं देते हैं कहते हैं कि सुंदरता देखने वालों की आंखों में होती है इसलिए जिस दिन श्री खुद को खुद की नजरों से नहीं देखेगी दुनिया की नहीं उस दिन उसकी सौंदर्य सौंदर्य की परिभाषा भी बदल जाएगी वह समझ जाएगी इसके सुंदर तो ईश्वर की बनाई हर प्रति होती है लेकिन जब किसी वस्तु की सुंदरता के मापदंड तय कर दिए जाते हैं या फिर तकनीकी रूप से सुंदरता की बात की जाती है तो इसका मतलब उसके जमी थी रूप से होता है उसके अंगों से माफ होता है या फिर उसके रंग उसके भौतिक स्वरूप से होता है को समझाना होगा कि समझना होगा कि ऐसे मापदंड के जाल में जो स्त्री अपना शरीर की सुंदरता ढूंढती है जब वह खुद ही अपने देश पर अपना अस्तित्व नहीं देख पाएगी तो यह पुरुष प्रधान समाज कैसे देख पाएगा इसलिए सबसे पहले तो स्त्री को सलाम के मापदंडों से मुक्त करना होगा होना होगा इस दौर में जब पुरुष के गोरे होने की क्रीम ओं के विज्ञान पर बाढ़ आई है तो उसे अपने सांवले रंग पर गर्व महसूस करना होगा इस दौर में जब पुरुषों ने अपने बायसेप्स ट्राइसेप्स और मैथ का प्रदर्शन करने की लगी हो तो उसे अपने व्यक्तित्व सवारना होगा वह जो है जैसी है खुद पर नाज करना होगा उसे याद दिलाना होगा कि खुद को खुद को कि वह यह देश है और जहां अगर बुरी है तो महाकाली भी है और पूजनीय दोनों ही हैं जो देश है जहां नारी केवल स्त्री देह नहीं है वह शक्ति का केंद्र है वह शक्ति की देवी है वह धन की देवी है ज्ञान की देवी है अन्नपूर्णा है सृजन करता है वह कोमलता का प्रतीक है तो जन्म दात्री के रूप में सहनशक्ति की पराकाष्ठा है यह वह देश है जहां से अंदर एक भौतिक गुण नहीं आध्यात्मिक अनुभूति होती है क्योंकि वह देश है जहां सुंदरता की परिभाषा सत्यम शिवम शिवम सुंदरम है जो सत्य है वह शिव है और वही सुंदर है और सत्य क्या है यह शरीर लेकिन शरीर नश्वर है जी हां सत्य तो वह आत्मा है जो शरीर में निवास करती है वह आत्मा अगर सुंदर है तो यह सुंदरता ही सत्य है इसलिए हमारी संस्कृति में बाहरी गुणों अधिक महत्व भीतरी गुणों को दिया गया है यही कारण है कि शास्त्रों में 1 से अधिक मन की सुंदरता को महत्व दिया गया है इसलिए इस्त्री खुद को पहचान लेगी वह सौंदर्य के मौजूदा मानकों को अशोक अस्वीकार करके सुंदरता की अपनी नई भाषा करेगी तो सुंदरता कभी भी इतना मायने नहीं रखती है मैंने आपके कर्म और आपका हृदय रखता है आप मिताली राज और झूलन गोस्वामी को ही ले लीजिए हां जिन्होंने अपने बाहरी सौंदर्य से ज्यादा अपने कर्म को महत्व दिया है और आज उन्हें पूरी दुनिया जानती है आप दीप्ति शर्मा का भी एग्जांपल ले सकते हैं उन्होंने भी क्रिकेटर में बहुत ही अच्छा काम किया है आप लक्ष्मी अग्रवाल का भी उदाहरण ले सकते हैं उनके उनके उन पर एसिड अटैक होने के बाद भी उन्होंने हार नहीं मानी और उन्होंने अपने कर्म किया और और फिर उन्होंने एक एनजीओ खोला और आज मैंने पूरी दुनिया जानती है आप अमित बढ़ाना कभी एग्जांपल ले सकते हैं आप उन्होंने अपनी बाहरी सौंदर्य ता से ज्यादा अपने काम पर दिया और आज भारत के नंबर वन यूट्यूब पर यूट्यूब में से एक हैं
Savaal yah hai ki ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap use kaise tanaavamukt karenge to ham usako aise samajhaenge ki darasal aaj ham jis yug mein jee rahe aisa vaigyaanik aur audyogik yug hai jahaan bhautikavaad apane charam par hai is yug mein har cheej ka pratham utpaadan ho raha hai yah vah daur hai jise eeshvar kee banaee huee vastu se idhar duniya ne ek manushy ne ek naee duniya ka hee aavishkaar kar liya hai yaanee ki varchual varld itana hee nahin balki krtrim buddhimata yaanee aartiphishiyal intelijens ne bhee is yug mein apanee kraantikaaree aamad darj kee hai aise daur mein saundary kaise achhoota rah sakata hai isalie aaj sundarata ek naisargik gun nahin nahin rah gaya hai apitu yah karodon kee kosmetik udyog ke baajaar baad ka parinaam ban chuka hai darasal ham bhool gae hain ki sundarata chehare ka nahin balki dil ka gun hai sundarata vah nahin hotee jo aaeene mein balki vah hotee hai jo mahasoos kee jaatee hai ham bhool gae hain ki sampoorn srshti eeshvar ka hee hastaakshar aur eeshvar ke saath-saath hamaara jeevan hamen us prabhu ko kee yaad ek anamol upahaar lekin aaj sundarata mein poornata hai kee chaah mein stree bhool gaee hai ki adhoore par aur vyavastha mein bhee ek khoobasooratee hotee hai vah bhool gaee hai ki eeshvar kee banaee har cheej khoobasoorat hotee hai kalee kee sundarata phool se kam nahin hotee aur bageeche kee khoobasooratee 1 se adhik nahin hotee pooree hote hee apanee ek photo kee hai to sooryaast kee apanee pahaadon kee apanee sundarata hai aur nadiyon kee apanee suna samudr kee apanee sundarata hai agar hamen mor apanee aur aakarshit karata hai to koee arabee vastutah khoobasooratee to prakrti kee har vastu mein hotee hai lekin durbhaagyavash harshit har kisee ko dikhaee nahin dete hain kahate hain ki sundarata dekhane vaalon kee aankhon mein hotee hai isalie jis din shree khud ko khud kee najaron se nahin dekhegee duniya kee nahin us din usakee saundary saundary kee paribhaasha bhee badal jaegee vah samajh jaegee isake sundar to eeshvar kee banaee har prati hotee hai lekin jab kisee vastu kee sundarata ke maapadand tay kar die jaate hain ya phir takaneekee roop se sundarata kee baat kee jaatee hai to isaka matalab usake jamee thee roop se hota hai usake angon se maaph hota hai ya phir usake rang usake bhautik svaroop se hota hai ko samajhaana hoga ki samajhana hoga ki aise maapadand ke jaal mein jo stree apana shareer kee sundarata dhoondhatee hai jab vah khud hee apane desh par apana astitv nahin dekh paegee to yah purush pradhaan samaaj kaise dekh paega isalie sabase pahale to stree ko salaam ke maapadandon se mukt karana hoga hona hoga is daur mein jab purush ke gore hone kee kreem on ke vigyaan par baadh aaee hai to use apane saanvale rang par garv mahasoos karana hoga is daur mein jab purushon ne apane baayaseps traiseps aur maith ka pradarshan karane kee lagee ho to use apane vyaktitv savaarana hoga vah jo hai jaisee hai khud par naaj karana hoga use yaad dilaana hoga ki khud ko khud ko ki vah yah desh hai aur jahaan agar buree hai to mahaakaalee bhee hai aur poojaneey donon hee hain jo desh hai jahaan naaree keval stree deh nahin hai vah shakti ka kendr hai vah shakti kee devee hai vah dhan kee devee hai gyaan kee devee hai annapoorna hai srjan karata hai vah komalata ka prateek hai to janm daatree ke roop mein sahanashakti kee paraakaashtha hai yah vah desh hai jahaan se andar ek bhautik gun nahin aadhyaatmik anubhooti hotee hai kyonki vah desh hai jahaan sundarata kee paribhaasha satyam shivam shivam sundaram hai jo saty hai vah shiv hai aur vahee sundar hai aur saty kya hai yah shareer lekin shareer nashvar hai jee haan saty to vah aatma hai jo shareer mein nivaas karatee hai vah aatma agar sundar hai to yah sundarata hee saty hai isalie hamaaree sanskrti mein baaharee gunon adhik mahatv bheetaree gunon ko diya gaya hai yahee kaaran hai ki shaastron mein 1 se adhik man kee sundarata ko mahatv diya gaya hai isalie istree khud ko pahachaan legee vah saundary ke maujooda maanakon ko ashok asveekaar karake sundarata kee apanee naee bhaasha karegee to sundarata kabhee bhee itana maayane nahin rakhatee hai mainne aapake karm aur aapaka hrday rakhata hai aap mitaalee raaj aur jhoolan gosvaamee ko hee le leejie haan jinhonne apane baaharee saundary se jyaada apane karm ko mahatv diya hai aur aaj unhen pooree duniya jaanatee hai aap deepti sharma ka bhee egjaampal le sakate hain unhonne bhee kriketar mein bahut hee achchha kaam kiya hai aap lakshmee agravaal ka bhee udaaharan le sakate hain unake unake un par esid ataik hone ke baad bhee unhonne haar nahin maanee aur unhonne apane karm kiya aur aur phir unhonne ek enajeeo khola aur aaj mainne pooree duniya jaanatee hai aap amit badhaana kabhee egjaampal le sakate hain aap unhonne apanee baaharee saundary ta se jyaada apane kaam par diya aur aaj bhaarat ke nambar van yootyoob par yootyoob mein se ek hain

अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:08
पूजा की लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे देखिए अगर कोई भी अपने को बदसूरत समझता है तो देखिए बिल्कुल भी ना सोचे खाल चमड़ी से लिखे कुछ नहीं होता खाल चमड़ी थे कि अगर आपकी सोच अच्छी है तो आपको लोग हर इंसान के सम्मान देगा लेकिन बहुत से लोग कितने खूबसूरत होने के बावजूद जो दिमाग में गंदा होता है तो देखिए आप अगर अपने को कहेंगे मैं बस सूरत मेरी खाल गाड़ी है सांवली है इसलिए अगर आपके मन में होगा हाल मेरी सोच अच्छी रखी है बस अपनी तो यही मैं जाऊंगा जीवन में कभी भी इस तरह की बात अपने मन में ना लाएं नहीं कहूंगा कि बहुत से ऐसे हैं जिंदगी में क्या है कि उनके शरीर के अंग नहीं है वह भी जीवन जीते हैं उनकी सोच अच्छी होती है आगे बढ़ते तो जीने के लिए देखे हरदम को जिंदगी मिली है तो हम इस तरह की बातों से लेकर अपना जीवन नष्ट ना करें तनाव मुक्त होने के लिए मैं यही कहूंगा कि अपनी हमेशा सोच अच्छी रखना सकारात्मक सोच रखो लोगों को सच्ची बात बताओ अपना कैरियर बनाओ अपना फ्यूचर बनाओ प्लस अगर आपको मिल जाएगा आप मेहनत करोगे आगे बढ़ो कितने किए जिनकी सोच है देखिए हर तरीके लोग किसी की सोच अच्छी किसी की गंदी आप अपने अंदर सोच अच्छी रखें लोग क्या सोचते हैं क्या बोलते हैं उनको ध्यान ना दें आप आगे बढ़े अपना फ्यूचर देखें जीवन में आपको सब कुछ मिलेगा अगर आप मेहनत करेंगे और कुछ ना कुछ नया करने की इच्छा है अगर अंदर आपको तो उस चीज को चाहा को पूरी करें उसके लिए आप कहीं नहीं अगर आपको ऐसा लगता है कि आप बदसूरत नहीं दिल साफ रखें दिल साफ है सोच अच्छी है तो देश दुनिया में हर इंसान देखे आपको जानेगा आपकी काबिलियत से अगर आप काबिल बन जाते तो काबिल बने इस तरह की फालतू की दिमाग में कभी भी ना लगाते जय हिंद जय भारत
Pooja kee ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge dekhie agar koee bhee apane ko badasoorat samajhata hai to dekhie bilkul bhee na soche khaal chamadee se likhe kuchh nahin hota khaal chamadee the ki agar aapakee soch achchhee hai to aapako log har insaan ke sammaan dega lekin bahut se log kitane khoobasoorat hone ke baavajood jo dimaag mein ganda hota hai to dekhie aap agar apane ko kahenge main bas soorat meree khaal gaadee hai saanvalee hai isalie agar aapake man mein hoga haal meree soch achchhee rakhee hai bas apanee to yahee main jaoonga jeevan mein kabhee bhee is tarah kee baat apane man mein na laen nahin kahoonga ki bahut se aise hain jindagee mein kya hai ki unake shareer ke ang nahin hai vah bhee jeevan jeete hain unakee soch achchhee hotee hai aage badhate to jeene ke lie dekhe haradam ko jindagee milee hai to ham is tarah kee baaton se lekar apana jeevan nasht na karen tanaav mukt hone ke lie main yahee kahoonga ki apanee hamesha soch achchhee rakhana sakaaraatmak soch rakho logon ko sachchee baat batao apana kairiyar banao apana phyoochar banao plas agar aapako mil jaega aap mehanat karoge aage badho kitane kie jinakee soch hai dekhie har tareeke log kisee kee soch achchhee kisee kee gandee aap apane andar soch achchhee rakhen log kya sochate hain kya bolate hain unako dhyaan na den aap aage badhe apana phyoochar dekhen jeevan mein aapako sab kuchh milega agar aap mehanat karenge aur kuchh na kuchh naya karane kee ichchha hai agar andar aapako to us cheej ko chaaha ko pooree karen usake lie aap kaheen nahin agar aapako aisa lagata hai ki aap badasoorat nahin dil saaph rakhen dil saaph hai soch achchhee hai to desh duniya mein har insaan dekhe aapako jaanega aapakee kaabiliyat se agar aap kaabil ban jaate to kaabil bane is tarah kee phaalatoo kee dimaag mein kabhee bhee na lagaate jay hind jay bhaarat

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
1:02
हमारा कंप्रेसर ने लड़की बदसूरत होने के वजह से याद आ रही भावना से ग्रसित हो तो आप उसे कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो आपको बता दें कि देखे यहां पर भगवान ने हम सब को बनाया है किसी को ज्यादा सुंदर बनाया है तो किसी को कम सुंदरिया किसी को सूरत और अच्छी दी है तो किसी को सीरत बहुत अच्छी दी है तो ऐसे जुड़ नहीं है कि कोई व्यक्ति अगर दिखने में बहुत ज्यादा खूबसूरत नाभि होट लेकिन हो सकता है उसका दिल बहुत अच्छा हो किस्मत बहुत अच्छी हो और खा भी जाता है की कोयल काली रंग की होती है लेकिन उस के कालेपन को कोई नहीं देखता क्योंकि उसकी आवाज बहुत मीठी होती है तो उसमें से अपने अंदर की खूबियों को आप बाहर ले कर आइए आपकी जो भारी सुंदरता है उस में कुछ कमी भी अगर है तो उसको कोई नहीं देखने वाला कि सीरत बहुत सुंदर होनी चाहिए अच्छी होनी चाहिए मेचुका आपके साथ है धन्यवाद
Hamaara kampresar ne ladakee badasoorat hone ke vajah se yaad aa rahee bhaavana se grasit ho to aap use kaise tanaav mukt karenge to aapako bata den ki dekhe yahaan par bhagavaan ne ham sab ko banaaya hai kisee ko jyaada sundar banaaya hai to kisee ko kam sundariya kisee ko soorat aur achchhee dee hai to kisee ko seerat bahut achchhee dee hai to aise jud nahin hai ki koee vyakti agar dikhane mein bahut jyaada khoobasoorat naabhi hot lekin ho sakata hai usaka dil bahut achchha ho kismat bahut achchhee ho aur kha bhee jaata hai kee koyal kaalee rang kee hotee hai lekin us ke kaalepan ko koee nahin dekhata kyonki usakee aavaaj bahut meethee hotee hai to usamen se apane andar kee khoobiyon ko aap baahar le kar aaie aapakee jo bhaaree sundarata hai us mein kuchh kamee bhee agar hai to usako koee nahin dekhane vaala ki seerat bahut sundar honee chaahie achchhee honee chaahie mechuka aapake saath hai dhanyavaad

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:16
दोस्तों कसने की लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित हो तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो दोस्तों पहले तो यह बताना है कि कोई व्यक्ति भी वह कोई भी बदसूरत नहीं होता है कभी आप देखेंगे दुकान पर आपने गए होंगे 10 स्वेटर हटाने होंगे तो दसों स्वेटर को चाटने वाला कोई एक ले जाएगा ओके करना सही नहीं है मेरे को तो यह पसंद आ रहा है उसमें से धीरे-धीरे करके दो स्वेटर रह जाते हैं यानी कि सारे लोग उसमें स्वेटर अच्छे थे बस हमारी दृष्टि अलग थी और जो दूर है वह सेल में वह भी चले जाते हैं ऐसे ही मनुष्य जीवन में कोई भी सिंहस्थ में कोई भी कहने वाला बदसूरत नहीं है सब को चाहने वाला कोई ना कोई है तो आप अपने आप को भगवान ने जैसी दे रखी है शक्ल सूरत उस पर गर्व महसूस करें अब जो सफल हो जाते हैं उनको कोई नहीं देखने वाला कहीं होगी देखेंगे आप फिल्म इंडस्ट्री में या राजनीति की स्पीड किसी का मुंह टेढ़ा है किसी की एक हमारी हीरोइन है उसकी तो आवाज ही बहन है करती है तो लेकिन उनको वहां पर संरक्षण प्राप्त है उनका पारिवारिक फिल्म में आ जाते हैं अभी देखिए कि अमिताभ बच्चन की आवाज फटी होने की वजह से उनको ऑल इंडिया रेडियो में नहीं मिला था नौकरी और आज उनकी आवाज करना के रूप में सरकारी प्रयोग का पता नहीं कहां-कहां आवाज गाने बन चुके हैं हाइट की वजह से लोग सोचते थे फिल्म इंडस्ट्री में नहीं चल पाएंगे तो आप ही राहे प्रकार से बस आप को तराशने वाला सही जोड़ी नहीं मिला है जिस दिन जौहरी मिल जाएगा उस दिन आप देखेंगे कि आप बिल्कुल खूबसूरत है और अपने विश्वास रखिए और अच्छे-अच्छे पुस्तके पढ़िए बोलकर आपको सुनिए उसमें बहुत सारे प्रोत्साहित करने वाले हमारे लगता मिल जाएंगे जिससे कि आपको ज्ञान वर्धन होगा और आप योग साधना खेलकूद में समाज में रहें और समाज में कोई ऐसा कहता है कि आपकी है तो आप प्रत्युत्तर भी दें और अपने आपको माने कि मैं सबसे बढ़िया हूं और रोज अपने आप को कहे कि आई एम द बेस्ट आई एम द बेस्ट मेरे जैसा कोई नहीं है तो निश्चित रूप से आपकी हीन भावना समाप्त हो जाएगी और अधिक जानकारी के लिए बता फिर पुणे बोलकर पर प्रश्न करते रहिए और बढ़िया बढ़िया जवाब पाते रहिए धन्यवाद
Doston kasane kee ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit ho to aap usako kaise tanaav mukt karenge to doston pahale to yah bataana hai ki koee vyakti bhee vah koee bhee badasoorat nahin hota hai kabhee aap dekhenge dukaan par aapane gae honge 10 svetar hataane honge to dason svetar ko chaatane vaala koee ek le jaega oke karana sahee nahin hai mere ko to yah pasand aa raha hai usamen se dheere-dheere karake do svetar rah jaate hain yaanee ki saare log usamen svetar achchhe the bas hamaaree drshti alag thee aur jo door hai vah sel mein vah bhee chale jaate hain aise hee manushy jeevan mein koee bhee sinhasth mein koee bhee kahane vaala badasoorat nahin hai sab ko chaahane vaala koee na koee hai to aap apane aap ko bhagavaan ne jaisee de rakhee hai shakl soorat us par garv mahasoos karen ab jo saphal ho jaate hain unako koee nahin dekhane vaala kaheen hogee dekhenge aap philm indastree mein ya raajaneeti kee speed kisee ka munh tedha hai kisee kee ek hamaaree heeroin hai usakee to aavaaj hee bahan hai karatee hai to lekin unako vahaan par sanrakshan praapt hai unaka paarivaarik philm mein aa jaate hain abhee dekhie ki amitaabh bachchan kee aavaaj phatee hone kee vajah se unako ol indiya rediyo mein nahin mila tha naukaree aur aaj unakee aavaaj karana ke roop mein sarakaaree prayog ka pata nahin kahaan-kahaan aavaaj gaane ban chuke hain hait kee vajah se log sochate the philm indastree mein nahin chal paenge to aap hee raahe prakaar se bas aap ko taraashane vaala sahee jodee nahin mila hai jis din jauharee mil jaega us din aap dekhenge ki aap bilkul khoobasoorat hai aur apane vishvaas rakhie aur achchhe-achchhe pustake padhie bolakar aapako sunie usamen bahut saare protsaahit karane vaale hamaare lagata mil jaenge jisase ki aapako gyaan vardhan hoga aur aap yog saadhana khelakood mein samaaj mein rahen aur samaaj mein koee aisa kahata hai ki aapakee hai to aap pratyuttar bhee den aur apane aapako maane ki main sabase badhiya hoon aur roj apane aap ko kahe ki aaee em da best aaee em da best mere jaisa koee nahin hai to nishchit roop se aapakee heen bhaavana samaapt ho jaegee aur adhik jaanakaaree ke lie bata phir pune bolakar par prashn karate rahie aur badhiya badhiya javaab paate rahie dhanyavaad

Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:58
लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे देखिए एक चीज को एक्सेप्ट कीजिए सबसे पहले कि हम सब यहां पर पैदा होकर आए हैं हम किस घर में आए हैं किस सूरत में आए हैं हम कौन से चैनल में आए हैं यह हमारे नहीं हमारे बस की बात थी उन्हें हमारे मां बाप के बस की बात यह तो जो वजह से बनकर आया पैसा आया और ऐसे पूरे वर्ल्ड में क्या क्या सब लोग खूबसूरत है पूरे वर्ल्ड में अब कई लोग आपके नजर में ऐसे होंगी जो बहुत खूबसूरत है लेकिन उतनी ही बदसूरत उनका बर्ताव है बिहेवियर बहुत खूबसूरत लोग हैं दुनिया के अंदर में लेकिन उनके पास पैसा नहीं है उनके पास कोई हुनर हुनर नहीं है तो आपका बदसूरत होना चाहिए डिसाइड करता है कि आपको लाइफ के अंदर में पैसा होगा या नहीं होगा शादी होगी या नहीं होगी बिल्कुल डिसाइड नहीं करता है क्योंकि पूरे वर्ल्ड में आप अकेले नहीं हुआ ऐसे पूरे वर्ल्ड में कई सारे लोग ऐसे हैं कि जो किसी ना किसी व्यंग त्त्व के साथ किसी ना किसी बदसूरती के साथ पैदा हुए जिसको हम बदसूरत बोलते हैं तो यह नाम हमने रखा हुआ है आप जैसे नीग्रो लोग नीग्रो लोग सभी टैक्स अभी वैसे होते अगर एक नीग्रो भारतीयों के बीच खड़ा है तो ध्यान में आ जाएगा क्या वह बदसूरत है नहीं है उसका जेनेटिक मेकअप कैसा है उसका कंट्रोल नहीं है उसके उपाय जिससे हमारा कभी कंट्रोल नहीं होता है उसके बारे में हम सब ज्यादा सोचने लग जाते हैं तो लाइफ धीरे-धीरे डिप्रेशन के अंदर जाना चालू हो जाती है और यह ऑनरियल चीज होती है ऐसा नहीं करना चाहिए जिसका करनी चाहिए हमें उसको तो वह बदसूरती वाली जो क्वेश्चन है उसको दोपहर में डालो मीन से जिस पर ध्यान दो सबसे पहले कि आपके अंदर क्या स्किल सेट है क्या आपके बराबर क्या आप बहुत अच्छी बात करते लोगों के साथ में क्या आपके अंदर अच्छे किल सेट है एजुकेशन आपका अच्छा है क्योंकि अगर मैं एंप्लॉय हूं तो मैं आपको खूबसूरती की लहर कभी नहीं करुंगा परेशान अनिल आपको ही रिसेप्शनिस्ट नहीं है मैं आपको क्योंकि रिसेप्शन पर रिसेप्शनिस्ट में देखा जाता यह एयर होस्टेस में देखा जाता है कि आप दिखते कैसे हो लेकिन क्या यही जॉब दुनिया के अंदर में मुझे घर एक अच्छा कोई एम्पलाई चाहिए तो मैं उसके अंदर का स्किल सेट देखूंगा उसका एटीट्यूड देखूंगा काम के प्रति और तभी मैं उसको लूंगा और उसको पैसे भी अच्छे दूंगा अभी देखने की हिसाब से उसको हायर नहीं करूंगा बस श्रुति के वजह से हां यह हो सकता है कि बदसूरती की वजह से कई रिश्ते आपके ठुकराए जाए कोई आपको कोई पसंद ना करें कोई लड़का पसंद ना करें लेकिन यही रास्ता है सब के पास एक लड़की को परखने का बिल्कुल नहीं आप खुद ऐसे लड़के भी चेक कीजिए जो बस सोते के बेस पर आपको सिलेक्ट करना चाहते
Ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge dekhie ek cheej ko eksept keejie sabase pahale ki ham sab yahaan par paida hokar aae hain ham kis ghar mein aae hain kis soorat mein aae hain ham kaun se chainal mein aae hain yah hamaare nahin hamaare bas kee baat thee unhen hamaare maan baap ke bas kee baat yah to jo vajah se banakar aaya paisa aaya aur aise poore varld mein kya kya sab log khoobasoorat hai poore varld mein ab kaee log aapake najar mein aise hongee jo bahut khoobasoorat hai lekin utanee hee badasoorat unaka bartaav hai biheviyar bahut khoobasoorat log hain duniya ke andar mein lekin unake paas paisa nahin hai unake paas koee hunar hunar nahin hai to aapaka badasoorat hona chaahie disaid karata hai ki aapako laiph ke andar mein paisa hoga ya nahin hoga shaadee hogee ya nahin hogee bilkul disaid nahin karata hai kyonki poore varld mein aap akele nahin hua aise poore varld mein kaee saare log aise hain ki jo kisee na kisee vyang ttv ke saath kisee na kisee badasooratee ke saath paida hue jisako ham badasoorat bolate hain to yah naam hamane rakha hua hai aap jaise neegro log neegro log sabhee taiks abhee vaise hote agar ek neegro bhaarateeyon ke beech khada hai to dhyaan mein aa jaega kya vah badasoorat hai nahin hai usaka jenetik mekap kaisa hai usaka kantrol nahin hai usake upaay jisase hamaara kabhee kantrol nahin hota hai usake baare mein ham sab jyaada sochane lag jaate hain to laiph dheere-dheere dipreshan ke andar jaana chaaloo ho jaatee hai aur yah onariyal cheej hotee hai aisa nahin karana chaahie jisaka karanee chaahie hamen usako to vah badasooratee vaalee jo kveshchan hai usako dopahar mein daalo meen se jis par dhyaan do sabase pahale ki aapake andar kya skil set hai kya aapake baraabar kya aap bahut achchhee baat karate logon ke saath mein kya aapake andar achchhe kil set hai ejukeshan aapaka achchha hai kyonki agar main employ hoon to main aapako khoobasooratee kee lahar kabhee nahin karunga pareshaan anil aapako hee risepshanist nahin hai main aapako kyonki risepshan par risepshanist mein dekha jaata yah eyar hostes mein dekha jaata hai ki aap dikhate kaise ho lekin kya yahee job duniya ke andar mein mujhe ghar ek achchha koee empalaee chaahie to main usake andar ka skil set dekhoonga usaka eteetyood dekhoonga kaam ke prati aur tabhee main usako loonga aur usako paise bhee achchhe doonga abhee dekhane kee hisaab se usako haayar nahin karoonga bas shruti ke vajah se haan yah ho sakata hai ki badasooratee kee vajah se kaee rishte aapake thukarae jae koee aapako koee pasand na karen koee ladaka pasand na karen lekin yahee raasta hai sab ke paas ek ladakee ko parakhane ka bilkul nahin aap khud aise ladake bhee chek keejie jo bas sote ke bes par aapako silekt karana chaahate

nav kishor aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nav जी का जवाब
Service
1:31
नमस्कार आपका सवाल है कि लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे कोई भी लड़की बदसूरत होती नहीं है यह तो समाज की नजरें कि उसको कैसे देखते हैं ठीक है कभी-कभी क्या होता है कुछ लड़कियां रंग से बहुत काली होती हैं या उनका चेहरा में पूरा ठीक नहीं है या कुसुम के अंदर शारीरिक विकार है जिसकी वजह से वह तनाव फील करती हैं और उनके अंदर हीन भावना आती है तो उनको आप समझाइए प्यार से कि कोई बात नहीं अगर भगवान ने हमें एक कमजोरी दी है तो हमें 10 ताकतें भी दी हैं तो हमारे को हमारे अंदर जो है और कुछ एबिलिटी भी दिया हमारे अंदर हुनर भी दिया है हमें अपने हुनर को निकालना चाहिए आप इतिहास में और इंडिया के मतलब इतिहास में आप देख सकते हैं कि काफी सारी लड़कियां जो कि शारीरिक रूप से थोड़ा मतलब विकार था उनमें और चेहरा भी बदसूरत था लेकिन उन लड़कियों ने जगत में अपना नाम रोशन किया अपने माता-पिता का नाम रोशन किया आज अपनी पहचान बनाई है और करने की कोशिश कीजिए उसको उसका दिमाग डायवर्ट करने की कोशिश कीजिए उसको कहीं है कि तू किसी से मतलब यह मत रख कुछ कहते हैं लोग तो सुन लेकिन अपना अंदर ही अंदर अपने आप को मजबूत बनाओ और अपने अंदर एक ऐसी एबिलिटी ऐसा हुनर पैदा करो कि दुनिया तुम्हें पहचाने धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit hai to aap usako kaise tanaav mukt karenge koee bhee ladakee badasoorat hotee nahin hai yah to samaaj kee najaren ki usako kaise dekhate hain theek hai kabhee-kabhee kya hota hai kuchh ladakiyaan rang se bahut kaalee hotee hain ya unaka chehara mein poora theek nahin hai ya kusum ke andar shaareerik vikaar hai jisakee vajah se vah tanaav pheel karatee hain aur unake andar heen bhaavana aatee hai to unako aap samajhaie pyaar se ki koee baat nahin agar bhagavaan ne hamen ek kamajoree dee hai to hamen 10 taakaten bhee dee hain to hamaare ko hamaare andar jo hai aur kuchh ebilitee bhee diya hamaare andar hunar bhee diya hai hamen apane hunar ko nikaalana chaahie aap itihaas mein aur indiya ke matalab itihaas mein aap dekh sakate hain ki kaaphee saaree ladakiyaan jo ki shaareerik roop se thoda matalab vikaar tha unamen aur chehara bhee badasoorat tha lekin un ladakiyon ne jagat mein apana naam roshan kiya apane maata-pita ka naam roshan kiya aaj apanee pahachaan banaee hai aur karane kee koshish keejie usako usaka dimaag daayavart karane kee koshish keejie usako kaheen hai ki too kisee se matalab yah mat rakh kuchh kahate hain log to sun lekin apana andar hee andar apane aap ko majaboot banao aur apane andar ek aisee ebilitee aisa hunar paida karo ki duniya tumhen pahachaane dhanyavaad

Hitesh jain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hitesh जी का जवाब
Blogger- Content Writer
2:57
लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनाव मुक्त करेंगे तो सबसे पहली बात तो यह है कि आप जो भी लड़की या लड़का जो भी है और जो भी किसी हीन भावना सागर देखता है तो पहले कारण उसका रिजन क्या है उसका रिजल्ट फाइंड आउट कीजिए टीवी क्या वह जस्ट का मतलब खाली है या बदसूरत है उसकी वजह से आप उसे छोड़ दें कि आप उसकी क्वालिटी नहीं देखेंगे अगर आप कॉल इट इस देखेंगे और एक सुंदर लड़की को लेकर लीजिए साथ में और एक बदसूरत लड़की को और दोनों को कंपेयर करके देखिए बहुत जमीन आसमान का डिफरेंस लगेगा से कलर से ही नहीं उनकी क्वॉलिटी के उनके दिल से क्योंकि अधिकतर मैंने लड़कियों को देखा है जो लाइक बदसूरत होती है वह खुद को बच्चों औरत नहीं मानती है जबकि दुनिया उसे बदसूरत बनाती और फिर वह खुद को बदसूरत समझने लगते हैं जबकि वह बदसूरत रियल में है ही नहीं वह चीज शरीर की बदसूरती है दिल की नहीं आत्मा की नहीं है तो दिल से जो लड़की काफी अच्छी है जो दिल से रिश्ता रखती है जो दिल से रिश्ता निभाती है जो केयर करती है जो शरीर से प्यार नहीं है आत्मा से प्यार करती है मन से प्यार करती है तो उससे आपको उसका दिल देखना चाहिए आपको उसकी क्वालिटी देखनी थी आपको उसकी अच्छी भावनाएं देखनी चाहिए आपको उसकी गुड फीलिंग देखनी चाहिए ना कि आपको उसकी बच्चों की देखनी है जिस दिन आप यह सारी चीजें देखेंगे तो आपको उसमें कोई भी बात सुनती नहीं दिखेगी हालांकि आज का ट्रेन बन गया कि लड़की दूरी है तो अच्छा है अच्छी चाहिए आजकल के तो मां-बाप भी ऐसे हो गए कि बच्चे को बोलते भाई गोरी लड़की लाना बना काली तो नहीं चली गई थी यह सब बहुत बकवास चीजें गंदी चीजें गंदी बातें इंटरनेट जाए क्योंकि क्या गारंटी कि आप अच्छी लड़की लेकर आए उसके बाद आपकी फैमिली खुश होगी वह आपकी सब कुछ करेगी अधिकतर कोई लड़का धोखा दे देती है जो जिसको आप दोनो डेट में क्या कहना चाहता हूं जिसको आप बहुत ही गोरी गोरी देख कर के ले कर आ जाते तो ऐसा नहीं है कोई भी लड़की हो चाहे गोरी हो चाहे काली हो कोई बात करो तो उसका वह मत देखे उसकी क्वालिटीज देखे उसकी फीलिंग देकर उसकी भावनाएं देखिए उसकी अच्छाई को देखिए उसके नेक दिल को देखिए उसके जो भी जो भी अच्छी क्वालिटी में उसे देखिए उसे समझने की कोशिश कीजिए जिस दिन आप ही सब समझेंगे तो आपको आपके मन से बच्चों के नाम की चीज निकल जाएगी बस चौथ व्रत शरीर है आत्मा दिल नहीं है कभी आपने देखा है कि बदसूरत दिल है मेरे पास कभी सुना है ऐसा किसी ने बोला है आपको कि मेरे पास बदसूरत दिल है मेरे पास बदसूरत यह है वह है मन है ऐसा नहीं है कौशिक बार का दिखावा है आप अंतरात्मा को जानिए अंतर आंतरिक चीजों को देनी है जब आंतरिक चीजों को ध्यान से देखेंगे तब पता चलेगा कि रियल पिक्चर थी क्या है तो किसी को बदसूरत नहीं करें किसी का दिल ना दुखाए प्लीज रिक्वेस्ट है मेरी किसी भी लड़की को कभी बदसूरत नहीं गए थैंक यू

vedachary pathak -सिंगरौली(म•प्र•) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vedachary जी का जवाब
Social worker & carrier motivator
3:27
हेलो दोस्त नमस्कार सवाल है आपका की लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित हो तो आप उसको कैसे तनावमुक्त करेंगे तो देखी मेरे दोस्ती में हमें चाहेंगे कि अगर वह बहन शक्ल सूरत से थोड़ी सी की होगी तो हमारा प्रयास यही होगा कि हम उससे उसके एजुकेशन पर और उसके 8:00 पर विशेष ध्यान देंगे हम उसे एजुकेटेड करके और उसे कला से परिपूर्ण करके जैसे गायन वादन नृत्य जूडो कराटे या और कुछ भी आर्ट कला को सिखा कर या फिर उसे अच्छी शिक्षा के माध्यम से हम उसको इस स्तर पर पहुंचा दें कि उसे तमाम प्रकार की वाहवाही मिले और उपलब्धियां हासिल हो लोगों के बीच में वह पुरस्कृत की जाए सम्मान अगर ऐसा होते हुए वह मैंने अपने आप को देखती है तो उसका जो दिमाग उसकी फिक्र चेहरे की ओर डायवर्ट हुआ है वह लौटकर उसके काबिलियत और उसके कार्य अच्छे अच्छी आदतों पर जाएगी और वह चिंता मुक्त हो सकती है फिलहाल मेरे दृष्टि में यही भी सामने आ रहा है दोस्तों हमने अभी होली के इस पावन पर्व पर कपड़े का रेसिलिंग काम शुरू किया है यानी छोटे बच्चे से लेकर के यंगस्टर्स और बूढ़े बुजुर्गों के लिए हमारे पास बहुत सारे कपड़े के कलेक्शन है ड्यूटी प्रसाधन की सामग्रियां हैं हम सब एक हैं लहंगे हैं साड़ियां हैं देखे थे बहुत सारी चीजें हैं जो कि आप फेसबुक पेज पर आप हमारा पेज सर्च करेंगे सभी ब्यूटी फैशन स्टोर इंग्लिश में आपको पेज मिलेगा सी एक्स एक्स एफसीआई beauty9 एस एच आई ओ एस टी ओ आर ए छवि ब्यूटी फैशन स्टोर हमारी कृष्ण को देख सकते हैं और हम पूरे देश में ऑल इंडिया सप्लाई दे रहे हैं फ्री आपका होम डिलीवरी सर्विस है और फोटो पसंद न आने पर फ्री रिटर्न की सुविधा है चेंज करके आप कपड़ा लेना चाहेंगे प्रोडक्ट लेना चाहिए दूसरा प्रोडक्ट भी जाएगा दिया जाएगा और अगर आप मनी रिटर्न चाहेंगे तो आपको पैसा भी आपके अकाउंट में लौटा दिया जाएगा एक बार जरूर ट्राई करें हम से जुड़े धन्यवाद ऑर्डर के लिए आप हमें कॉल कर सकते हैं 1291 032 591
Helo dost namaskaar savaal hai aapaka kee ladakee badasoorat hone kee vajah se agar heen bhaavana se grasit ho to aap usako kaise tanaavamukt karenge to dekhee mere dostee mein hamen chaahenge ki agar vah bahan shakl soorat se thodee see kee hogee to hamaara prayaas yahee hoga ki ham usase usake ejukeshan par aur usake 8:00 par vishesh dhyaan denge ham use ejuketed karake aur use kala se paripoorn karake jaise gaayan vaadan nrty joodo karaate ya aur kuchh bhee aart kala ko sikha kar ya phir use achchhee shiksha ke maadhyam se ham usako is star par pahuncha den ki use tamaam prakaar kee vaahavaahee mile aur upalabdhiyaan haasil ho logon ke beech mein vah puraskrt kee jae sammaan agar aisa hote hue vah mainne apane aap ko dekhatee hai to usaka jo dimaag usakee phikr chehare kee or daayavart hua hai vah lautakar usake kaabiliyat aur usake kaary achchhe achchhee aadaton par jaegee aur vah chinta mukt ho sakatee hai philahaal mere drshti mein yahee bhee saamane aa raha hai doston hamane abhee holee ke is paavan parv par kapade ka resiling kaam shuroo kiya hai yaanee chhote bachche se lekar ke yangastars aur boodhe bujurgon ke lie hamaare paas bahut saare kapade ke kalekshan hai dyootee prasaadhan kee saamagriyaan hain ham sab ek hain lahange hain saadiyaan hain dekhe the bahut saaree cheejen hain jo ki aap phesabuk pej par aap hamaara pej sarch karenge sabhee byootee phaishan stor inglish mein aapako pej milega see eks eks ephaseeaee baiauty9 es ech aaee o es tee o aar e chhavi byootee phaishan stor hamaaree krshn ko dekh sakate hain aur ham poore desh mein ol indiya saplaee de rahe hain phree aapaka hom dileevaree sarvis hai aur photo pasand na aane par phree ritarn kee suvidha hai chenj karake aap kapada lena chaahenge prodakt lena chaahie doosara prodakt bhee jaega diya jaega aur agar aap manee ritarn chaahenge to aapako paisa bhee aapake akaunt mein lauta diya jaega ek baar jaroor traee karen ham se jude dhanyavaad ordar ke lie aap hamen kol kar sakate hain 1291 032 591

Avdhesh Tiwari Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Avdhesh जी का जवाब
Business
1:41

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • लड़की बदसूरत होने की वजह से अगर हीन भावना से ग्रसित है तो आप उसको कैसे तनावमुक्त करेंगे लड़की अगर हीन भावना से ग्रसित है तो उसको कैसे तनावमुक्त करेंगे
URL copied to clipboard