#जीवन शैली

bolkar speaker

क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?

Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
nav kishor aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nav जी का जवाब
Service
1:12
नमस्कार आपका सवाल है कि क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है जी हां काफी हद तक ए बात सही है कि यदि हमें किसी चीज का ज्ञान नहीं आया अगर हम पढ़े-लिखे नहीं है तो हमारा आत्मविश्वास थोड़ा कमजोर पड़ जाता है लेकिन उस आत्मविश्वास को कमजोर बनाने से रोकना या उस को मजबूत करना भी हमारा ही काम है अगर हम देखते हैं कि हमें किसी चीज की ज्ञान की कमी है हमें तो हम हम देखते हैं कि अगर हमें कोई चीज नहीं आती कोई काम नहीं आता कि हम पढ़े-लिखे नहीं है तो उसको उस कमी को हम तो कर सकते हैं वह हम किसी दूसरे व्यक्ति का सहारा ले सकते हैं दूसरे व्यक्ति से पूछ सकते हैं या वह ज्ञान हम हासिल कर सकते हैं और हम अपने आत्मविश्वास को कमजोर होने से बचा सकते हैं ऐसा नहीं है कि आदमी है थक हार कर के बैठ जाए जो आदमी थक हार कर के बैठ जाता है वह जीवन में कभी उड़ नहीं सकता कभी सफल नहीं हो सकता इसलिए हमेशा आत्मविश्वास बनाए रखना चाहिए और अगर किसी चीज की कमी ज्ञान की कमी है पैसे की कमी है या कोई भी और चीज चाहिए तो उसको पाने की कोशिश करनी चाहिए और अपने जीवन को सफल बनाने की कोशिश करनी चाहिए अपने जीवन को सफल बनाएं धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki kyon gyaan kee kamee se insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jaata hai jee haan kaaphee had tak e baat sahee hai ki yadi hamen kisee cheej ka gyaan nahin aaya agar ham padhe-likhe nahin hai to hamaara aatmavishvaas thoda kamajor pad jaata hai lekin us aatmavishvaas ko kamajor banaane se rokana ya us ko majaboot karana bhee hamaara hee kaam hai agar ham dekhate hain ki hamen kisee cheej kee gyaan kee kamee hai hamen to ham ham dekhate hain ki agar hamen koee cheej nahin aatee koee kaam nahin aata ki ham padhe-likhe nahin hai to usako us kamee ko ham to kar sakate hain vah ham kisee doosare vyakti ka sahaara le sakate hain doosare vyakti se poochh sakate hain ya vah gyaan ham haasil kar sakate hain aur ham apane aatmavishvaas ko kamajor hone se bacha sakate hain aisa nahin hai ki aadamee hai thak haar kar ke baith jae jo aadamee thak haar kar ke baith jaata hai vah jeevan mein kabhee ud nahin sakata kabhee saphal nahin ho sakata isalie hamesha aatmavishvaas banae rakhana chaahie aur agar kisee cheej kee kamee gyaan kee kamee hai paise kee kamee hai ya koee bhee aur cheej chaahie to usako paane kee koshish karanee chaahie aur apane jeevan ko saphal banaane kee koshish karanee chaahie apane jeevan ko saphal banaen dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student
0:55
नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सब ज्ञान की कमी इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता उसे पैसे मिले भी नहीं पता होता कि उसे किस प्रकार का निर्णय लिया जाना चाहिए इससे मदद ली जाएगी शपथ पत्र हिंदी की पहचान होती जब कोई गंभीर परिस्थिति आती तो क्यों लिखते हो जाता है अपने आप को सबसे कमजोर इंसान मारने लगता अंदर से टूट ही जाता है लेकिन जो पढ़ाई का सही उपयोग करते समय समस्या थी उनका सही तरह से निवारण करता है तू मिस करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा होगा धन्यवाद
Namaskaar doston kaise hain aap sab gyaan kee kamee insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jaata use paise mile bhee nahin pata hota ki use kis prakaar ka nirnay liya jaana chaahie isase madad lee jaegee shapath patr hindee kee pahachaan hotee jab koee gambheer paristhiti aatee to kyon likhate ho jaata hai apane aap ko sabase kamajor insaan maarane lagata andar se toot hee jaata hai lekin jo padhaee ka sahee upayog karate samay samasya thee unaka sahee tarah se nivaaran karata hai too mis karata hoon savaal ka javaab achchha laga hoga dhanyavaad

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:32
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है निश्चित तौर पर आपकी कमी होगी अगर आपको जानकारी नहीं होगी किसी क्षेत्र के बारे में किसी विषय के बारे में काम हो जाएगा कहीं पर भी अगर दो चार पांच लोग बात कर रहे हो तो ऐसे टॉपिक के बारे में जिसके बारे में आप को ज्ञान नहीं है आपको जानकारी नहीं है निश्चित तौर पर आप अपने आप के लिए जो है वह कॉन्फिडेंस नहीं फील कर पाएंगे वहां पर बात करने के लिए साधना भी करना नहीं चाहेंगे इसलिए बहुत जरूरी है अपने ज्ञान के बारे को बढ़ाना आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Kyon gyaan kee kamee se insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jaata hai nishchit taur par aapakee kamee hogee agar aapako jaanakaaree nahin hogee kisee kshetr ke baare mein kisee vishay ke baare mein kaam ho jaega kaheen par bhee agar do chaar paanch log baat kar rahe ho to aise topik ke baare mein jisake baare mein aap ko gyaan nahin hai aapako jaanakaaree nahin hai nishchit taur par aap apane aap ke lie jo hai vah konphidens nahin pheel kar paenge vahaan par baat karane ke lie saadhana bhee karana nahin chaahenge isalie bahut jarooree hai apane gyaan ke baare ko badhaana aapaka din shubh rahe dhanyavaad

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Sanjay Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sanjay जी का जवाब
𝔖𝔱𝔲𝔡𝔢𝔫𝔱 | 𝔈𝔡𝔲𝔠𝔞𝔱𝔦𝔬𝔫𝔦𝔰𝔱
1:23
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है लेकिन इंसान को अगर देखा जाए तो अगर उसे अंदर ज्ञान की कमी है तो उस तक आतंकवाद जो होगा वह कमजोर पड़ जाएगा तो कीजिए सर का कंपटीशन है कोई भी क्षेत्र है वहां पर अगर आपको शक करना है तो आपका दिमाग जो है वह चलना चाहिए दिमाग चलने के लिए आप ज्ञान अभी करते हैं डिफरेंट डिफरेंट तरीकों से आप ज्ञान को अर्जित करते हैं अभी तक करते हैं कहीं ना कहीं आपका यूज होता है कि जहां अगर आप हैं वहां पर 10 लोग और हैं आपको उन 10 लोगों से कंपटीशन करना है अगर अच्छी पोस्ट है तो उसकी पोस्ट के लिए 10 लोग अपना ही करेंगे तो वहां पर आप भी रहेंगे अगर आप सामने वाला आपसे अच्छा कर रहा है तो अलग ही आपको तो अपने बारे में भी सोचना चाहिए कि आपके पास में क्या है क्या नहीं है लेकिन फिर भी एक बार कमाकर अल्फाजों का डोल जरूर जाएगा इसके लिए जरूरी है कि अपने जो लाइफ में आप कुछ कर रहे हैं तो उसको करते रहे दिल्ली की रैली अपनी लाइफ में आपको कैसे करें जिससे कि आपका जो लाइफ है उसने आपको यह लगे कि आपका प्रोग्रेस हो रहा है दीदी की डेरी कुछ न कुछ नई चीजें अपने जो हथियार हैं उसमें जोड़ते रहिए यह किसी से बात करते रहेंगे आपका जो जीवन होगा वह तो वैसे ही होगा और आप लगेगा कि कुछ कर पा रहे हैं इसे आप उस दिन भी नहीं होगी और आपका आत्मविश्वास भी कम नहीं होगा धन्यवाद
Kyon gyaan kee kamee se insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jaata hai lekin insaan ko agar dekha jae to agar use andar gyaan kee kamee hai to us tak aatankavaad jo hoga vah kamajor pad jaega to keejie sar ka kampateeshan hai koee bhee kshetr hai vahaan par agar aapako shak karana hai to aapaka dimaag jo hai vah chalana chaahie dimaag chalane ke lie aap gyaan abhee karate hain dipharent dipharent tareekon se aap gyaan ko arjit karate hain abhee tak karate hain kaheen na kaheen aapaka yooj hota hai ki jahaan agar aap hain vahaan par 10 log aur hain aapako un 10 logon se kampateeshan karana hai agar achchhee post hai to usakee post ke lie 10 log apana hee karenge to vahaan par aap bhee rahenge agar aap saamane vaala aapase achchha kar raha hai to alag hee aapako to apane baare mein bhee sochana chaahie ki aapake paas mein kya hai kya nahin hai lekin phir bhee ek baar kamaakar alphaajon ka dol jaroor jaega isake lie jarooree hai ki apane jo laiph mein aap kuchh kar rahe hain to usako karate rahe dillee kee railee apanee laiph mein aapako kaise karen jisase ki aapaka jo laiph hai usane aapako yah lage ki aapaka progres ho raha hai deedee kee deree kuchh na kuchh naee cheejen apane jo hathiyaar hain usamen jodate rahie yah kisee se baat karate rahenge aapaka jo jeevan hoga vah to vaise hee hoga aur aap lagega ki kuchh kar pa rahe hain ise aap us din bhee nahin hogee aur aapaka aatmavishvaas bhee kam nahin hoga dhanyavaad

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Rohit Soni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Journalism
1:20
अच्छा जी क्यों क्या निगम से इंसान का आदमी मर जाता है उसके अंदर संपूर्ण ज्ञानी हो गई है पूर्ण रूप से निर्णय के अंदर किसी से भी बात करने की युक्ति है जो सहन शक्ति है वह कुछ कर नहीं होगी इसके चलते क्या हुआ व्यक्ति अपने से बात करेगा तो नाम की चीज नहीं आएगी अगर आप किसी से प्यार करते समय कौन से नहीं आता है सामने वाले को भी अच्छी नहीं लगती और भाई कैसा है कुछ नहीं चीजों में पड़ी चीजों के बारे में जानकारी
Achchha jee kyon kya nigam se insaan ka aadamee mar jaata hai usake andar sampoorn gyaanee ho gaee hai poorn roop se nirnay ke andar kisee se bhee baat karane kee yukti hai jo sahan shakti hai vah kuchh kar nahin hogee isake chalate kya hua vyakti apane se baat karega to naam kee cheej nahin aaegee agar aap kisee se pyaar karate samay kaun se nahin aata hai saamane vaale ko bhee achchhee nahin lagatee aur bhaee kaisa hai kuchh nahin cheejon mein padee cheejon ke baare mein jaanakaaree

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:30
दोस्तों ज्ञान की कमी होने की वजह से हमारा आत्मविश्वास कम पड़ जाता है अगर हम भी ज्ञान होगा तो हमें एक अलग सा ही आत्मविश्वास होगा इसीलिए ज्यादा से ज्यादा किताब को पढ़ना चाहिए जिससे हम लोग को ज्ञान आए और अगर उस बारे में बात हो रही हो तो हम उसके बारे में हम सबको बता सके और अगर हम जब को बताएंगे तो हमारे अंदर कॉन्फिडेंस आएगा और हम लोग बहुत अच्छे से कॉन्फिडेंस से बोल सकते कि मैंने पढ़ा था इसलिए मुझे मालूम है तो दोस्तों अगर आपको जो अच्छा लगा हो तो प्लीज लाइक करें धन्यवाद
Doston gyaan kee kamee hone kee vajah se hamaara aatmavishvaas kam pad jaata hai agar ham bhee gyaan hoga to hamen ek alag sa hee aatmavishvaas hoga iseelie jyaada se jyaada kitaab ko padhana chaahie jisase ham log ko gyaan aae aur agar us baare mein baat ho rahee ho to ham usake baare mein ham sabako bata sake aur agar ham jab ko bataenge to hamaare andar konphidens aaega aur ham log bahut achchhe se konphidens se bol sakate ki mainne padha tha isalie mujhe maaloom hai to doston agar aapako jo achchha laga ho to pleej laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:36
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है देखो ज्ञान से क्या होता है और एग्जांपल सूरज निकला मुझे अगर पता कि सूरज पूरब से निकलता है तो मुझे यह समझ में आएगा कि यह पूरा भाई अगर मुझे पूरा पता चलेगी तो पश्चिम कौन से पता चल जाएगी जो कि आप हो जीत होगी अगर पूरा पता चल गई मुझे पश्चिमी पता चलेगी तो मुझे पता चल जाएगा मेरे राइट में दक्षिण है मेरे लाइफ में उत्तर है तब यह छोटा सा ज्ञान होने की वजह से मैं इतना सारा इंटरप्रिटेशन कर पाया अब इतना इंटरप्रिटेशन से मैं यह भी इंटरप्रेट कर पाया जब मुझे कोई बोलता है कि हिमालय उत्तर साइड में तुम्हें समझ पाऊंगा क्योंकि माला इस साइड में है कोई बोलता है कि यहां से उत्तर दिशा में स्टेशन है तो मैं पता चलेगा की उत्तर दिशा में स्टेशन है अगर न्यूज़ में पढ़ लिया मैंने कि दक्षिणी वाले आए हैं दक्षिणी हवाई है उसके वजह से यह बारिश होने वाली है तो मैं समझ में आ जाएगा दक्षिण हुआ यह अनिल भारत के नक्शे पर तब क्या होता है किचन नॉलेज आपके पास होता है ना तो आप लॉजिक लगा सकते हो हर चीजों के पीछे और आपको सटीक रीजन पता होता कि यह क्यों हो रहा है यह कैसे हो रहा है और अगर प्रॉपर नॉलेज है तो मैंने अंधेरा नालेज या फिर ऐसा नॉलेज नहीं कीजिए कॉलेज एटा कोई बुनियाद नहीं है कोई बहस नहीं है जैसे बीच में एक चीज हुई थी कई सालों पहले के गणेश जी दूध पी रहे हो उसका कोई दोष नहीं है नहीं पता है कि यह क्यों हो रहा था यह तो अभी नहीं हुआ किसी को नहीं पता है उसका नहीं लेकिन जो नॉलेज होता है किसी चीज को एक्सप्लेन करने का किसी चीज को देखने का समझने का तो आपको प्लीज पता होता कि ऐसे ही काम करती हो जब आप को जलाकर कहीं जाने का कंप्लीट पता है तो आप कंफ्यूज कैसे रहोगे अब बिल्कुल कंफ्यूज रह नहीं सकते हो आप आप उस रास्ते से निकल पढ़ोगे लेकिन अगर आपके पास नॉलेज नहीं है इसका मतलब इसका मुझे पता नहीं है या फिर स्किल सेट नहीं है मुझे पता नहीं है तुम मुझे आगे राइट लूट ले लो ऐसा कुछ नहीं पता है तो कौन सा इंसान दोनों में से एक कॉन्फिडेंट होगा कि जिस को जाने वाला रास्ता पूरा कंपलीट पता है वह जिसको रास्ता नहीं पता है तो ढूंढ रहा है रास्ता वह सीधी सी बात है जिसके पास था पता है वह इंसान कॉन्फिडेंट होगा इसलिए ज्ञान की जो कमी होती है वह आत्मविश्वास को कमजोर नहीं होता है क्योंकि आपको आत्मविश्वास कमजोर है आपको कब पता चलेगा क्योंकि दूसरे का आत्मविश्वास ज्यादा है कि इससे पता चलेगा उसका क्यों ज्यादा है उसका नॉलेज के मैसेज आता है तो इसलिए आपको आत्मविश्वास आपको कम लगेगा अगर आप अज्ञानी लोगों के साथ रहोगे तो आपको आपको विश्वास में आपको समझेगा भी नहीं क्या अपना आत्मविश्वास कम है आपको क्योंकि सभी अज्ञानी वहां पर तो आपको पता कैसे चलेगा क्या कॉन्फिडेंस लेवल कम है
Kyon gyaan kee kamee se insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jaata hai dekho gyaan se kya hota hai aur egjaampal sooraj nikala mujhe agar pata ki sooraj poorab se nikalata hai to mujhe yah samajh mein aaega ki yah poora bhaee agar mujhe poora pata chalegee to pashchim kaun se pata chal jaegee jo ki aap ho jeet hogee agar poora pata chal gaee mujhe pashchimee pata chalegee to mujhe pata chal jaega mere rait mein dakshin hai mere laiph mein uttar hai tab yah chhota sa gyaan hone kee vajah se main itana saara intarapriteshan kar paaya ab itana intarapriteshan se main yah bhee intarapret kar paaya jab mujhe koee bolata hai ki himaalay uttar said mein tumhen samajh paoonga kyonki maala is said mein hai koee bolata hai ki yahaan se uttar disha mein steshan hai to main pata chalega kee uttar disha mein steshan hai agar nyooz mein padh liya mainne ki dakshinee vaale aae hain dakshinee havaee hai usake vajah se yah baarish hone vaalee hai to main samajh mein aa jaega dakshin hua yah anil bhaarat ke nakshe par tab kya hota hai kichan nolej aapake paas hota hai na to aap lojik laga sakate ho har cheejon ke peechhe aur aapako sateek reejan pata hota ki yah kyon ho raha hai yah kaise ho raha hai aur agar propar nolej hai to mainne andhera naalej ya phir aisa nolej nahin keejie kolej eta koee buniyaad nahin hai koee bahas nahin hai jaise beech mein ek cheej huee thee kaee saalon pahale ke ganesh jee doodh pee rahe ho usaka koee dosh nahin hai nahin pata hai ki yah kyon ho raha tha yah to abhee nahin hua kisee ko nahin pata hai usaka nahin lekin jo nolej hota hai kisee cheej ko eksaplen karane ka kisee cheej ko dekhane ka samajhane ka to aapako pleej pata hota ki aise hee kaam karatee ho jab aap ko jalaakar kaheen jaane ka kampleet pata hai to aap kamphyooj kaise rahoge ab bilkul kamphyooj rah nahin sakate ho aap aap us raaste se nikal padhoge lekin agar aapake paas nolej nahin hai isaka matalab isaka mujhe pata nahin hai ya phir skil set nahin hai mujhe pata nahin hai tum mujhe aage rait loot le lo aisa kuchh nahin pata hai to kaun sa insaan donon mein se ek konphident hoga ki jis ko jaane vaala raasta poora kampaleet pata hai vah jisako raasta nahin pata hai to dhoondh raha hai raasta vah seedhee see baat hai jisake paas tha pata hai vah insaan konphident hoga isalie gyaan kee jo kamee hotee hai vah aatmavishvaas ko kamajor nahin hota hai kyonki aapako aatmavishvaas kamajor hai aapako kab pata chalega kyonki doosare ka aatmavishvaas jyaada hai ki isase pata chalega usaka kyon jyaada hai usaka nolej ke maisej aata hai to isalie aapako aatmavishvaas aapako kam lagega agar aap agyaanee logon ke saath rahoge to aapako aapako vishvaas mein aapako samajhega bhee nahin kya apana aatmavishvaas kam hai aapako kyonki sabhee agyaanee vahaan par to aapako pata kaise chalega kya konphidens leval kam hai

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:24
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाए बात सही है जवाब में पढ़ा लिखा नहीं होता है और पढ़े लिखो के बीच में फस जाता है तो उनकी बात का उस तरह से उत्तर नहीं दे पाता है जितना उसको देना चाहिए हम जानते हैं कि अनुभव यह ज्ञान की एक श्रेष्ठ परंपरा होती है लेकिन अनुभव से ही काम नहीं चलता अनुभव में जब तक किसी प्रकार से उसमें लाल इतना को समझाना पानी कि कल आना हो तो भी कमजोर पड़ जाता है इसलिए ध्यान की आवश्यकता है लेकिन बहुत ज्यादा ज्ञानी जो है जो इस्त्र के आध्यात्मिक बातें करता है और आपको अध्यात्म का ज्ञान नहीं है तो आपको उसके सामने बहस नहीं करना चाहिए क्योंकि ज्ञान जो है वह सफलता की बहुत बड़ी परंपरा कहलाती है और ज्ञान तक तभी सार्थक होता है जो वह आपके मन को आकर्षित करके आपके मन को बदलाव में परिवर्तित कर सके वह सर्वश्रेष्ठ ज्ञान होता है लेकिन जो ज्ञानी होता है और वह जो है वह एक विश्वासी व्यक्ति के अंदर जो आप विश्वास को कमजोर इसलिए डाल देता है क्योंकि कृपया लिखा नहीं है इसलिए उसको केवल समाज की उतनी ही जानकारी है जितना उसने देखा है लेकिन जो ज्ञानी व्यक्ति होता है समाज की जानकारी के साथ-साथ उसको आध्यात्मिक पुस्तकों और आध्यात्मिक ज्ञान की परंपराओं का अध्ययन होता है इसलिए थोड़ा तो कमजोर पड़ जाता है इसलिए अज्ञानी व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास की कमी पड़ जाती क्योंकि अपनी बात को समझें
Kyon gyaan kee kamee se insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jae baat sahee hai javaab mein padha likha nahin hota hai aur padhe likho ke beech mein phas jaata hai to unakee baat ka us tarah se uttar nahin de paata hai jitana usako dena chaahie ham jaanate hain ki anubhav yah gyaan kee ek shreshth parampara hotee hai lekin anubhav se hee kaam nahin chalata anubhav mein jab tak kisee prakaar se usamen laal itana ko samajhaana paanee ki kal aana ho to bhee kamajor pad jaata hai isalie dhyaan kee aavashyakata hai lekin bahut jyaada gyaanee jo hai jo istr ke aadhyaatmik baaten karata hai aur aapako adhyaatm ka gyaan nahin hai to aapako usake saamane bahas nahin karana chaahie kyonki gyaan jo hai vah saphalata kee bahut badee parampara kahalaatee hai aur gyaan tak tabhee saarthak hota hai jo vah aapake man ko aakarshit karake aapake man ko badalaav mein parivartit kar sake vah sarvashreshth gyaan hota hai lekin jo gyaanee hota hai aur vah jo hai vah ek vishvaasee vyakti ke andar jo aap vishvaas ko kamajor isalie daal deta hai kyonki krpaya likha nahin hai isalie usako keval samaaj kee utanee hee jaanakaaree hai jitana usane dekha hai lekin jo gyaanee vyakti hota hai samaaj kee jaanakaaree ke saath-saath usako aadhyaatmik pustakon aur aadhyaatmik gyaan kee paramparaon ka adhyayan hota hai isalie thoda to kamajor pad jaata hai isalie agyaanee vyakti ke andar aatmavishvaas kee kamee pad jaatee kyonki apanee baat ko samajhen

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
1:15
जी हां यह बिल्कुल सच है विज्ञान की तमीज इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है अभी है कोई लिखा है वह संपादक है कोई इंजीनियर है वो डॉक्टर आप कुछ नहीं है आप ही बन मैट्रिक पास में है आप उनसे बात कर करोगे साइंस टेक्नोलॉजी मेडिकल फील्ड के बारे में आप बात करोगे इंसान जब नॉलेज लेता है तो उसको नीचे के बारे में पता चलता है उसको साइंस के बारे में पता चलता है तो उसकी लाइफ में कॉन्फिडेंस करता है तो नीचे सांस्कृतिक आध्यात्मिक सतीश को समझने के लिए इंसान में ज्ञान होना चाहिए ज्ञान होने के लिए बेसिक एजुकेशन होना चाहिए आपका अच्छा 1012 ग्रेजुएशन अच्छा होना चाहिए नाम करने का विश्वास कमजोर होता है ज्ञान कमजोर आप नेचर के बारे में समझाना कि आप शायद आप अध्यात्म के बारे में कम जाना तब बात क्या करोगे किसी से जानवर आते रहिए थैंक्यू
Jee haan yah bilkul sach hai vigyaan kee tameej insaan ka aatmavishvaas kamajor pad jaata hai abhee hai koee likha hai vah sampaadak hai koee injeeniyar hai vo doktar aap kuchh nahin hai aap hee ban maitrik paas mein hai aap unase baat kar karoge sains teknolojee medikal pheeld ke baare mein aap baat karoge insaan jab nolej leta hai to usako neeche ke baare mein pata chalata hai usako sains ke baare mein pata chalata hai to usakee laiph mein konphidens karata hai to neeche saanskrtik aadhyaatmik sateesh ko samajhane ke lie insaan mein gyaan hona chaahie gyaan hone ke lie besik ejukeshan hona chaahie aapaka achchha 1012 grejueshan achchha hona chaahie naam karane ka vishvaas kamajor hota hai gyaan kamajor aap nechar ke baare mein samajhaana ki aap shaayad aap adhyaatm ke baare mein kam jaana tab baat kya karoge kisee se jaanavar aate rahie thainkyoo

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Chetan Chandrawanshi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Chetan जी का जवाब
Finding a part time job
1:19
ज्ञान की कमी के कारण इंसान आदमी साथ से कमजोर इसलिए पड़ जाता है क्योंकि उसे पता नहीं होता कि उससे कोई कार्य अगर वह सोच रहा है करने की तो वह कार्य उससे होगा या नहीं होगा उसे नहीं पता नहीं होता कि मुझे भी निकाल भी किया था या नहीं और जान कम होता है तो वह बोल आगे बढ़ने के लिए पहले सोचेगा 10 बार पहले जान होता तो अच्छी बात होती इस बारे में तुम मुझे कुछ होता ही नहीं है तो उसका अग्निवास गिर जाता है धैर्य बनाए रखें और अपने परेशान रखें आप मेरी जान हो ना हो हर व्यक्ति में कोई ना कोई खासियत होती उसका सिर को पहचान अब यह बात अलग होती है कि वह व्यक्ति उस खासियत को पसंद नहीं करता अगर उस खासियत को स्वीकार ले कि उसी को अपना फैशन बना ले तो वह बहुत आगे जा सकता है धन्यवाद
Gyaan kee kamee ke kaaran insaan aadamee saath se kamajor isalie pad jaata hai kyonki use pata nahin hota ki usase koee kaary agar vah soch raha hai karane kee to vah kaary usase hoga ya nahin hoga use nahin pata nahin hota ki mujhe bhee nikaal bhee kiya tha ya nahin aur jaan kam hota hai to vah bol aage badhane ke lie pahale sochega 10 baar pahale jaan hota to achchhee baat hotee is baare mein tum mujhe kuchh hota hee nahin hai to usaka agnivaas gir jaata hai dhairy banae rakhen aur apane pareshaan rakhen aap meree jaan ho na ho har vyakti mein koee na koee khaasiyat hotee usaka sir ko pahachaan ab yah baat alag hotee hai ki vah vyakti us khaasiyat ko pasand nahin karata agar us khaasiyat ko sveekaar le ki usee ko apana phaishan bana le to vah bahut aage ja sakata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है?Kyun Gyan Ki Kami Se Insan Ka Aatmvishvas Kamjor Pad Jata Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:31
तारा का प्रश्न है क्योंकि जान की कमी से इंसान का विश्वास कमजोर पड़ जाता है तो आपको बता देंगे कि बिल्कुल सही दवा नहीं पर आपने पूछा है कि ज्ञान की जब कमी होती है आपको किस चीज का ज्ञानी नहीं होता तो फिर आपके अंदर सेल्फ कॉन्फिडेंस आता ही नहीं है अगर आपके अंदर सेल्फ कॉन्फिडेंस है यानी कि आप उस विषय के बारे में अच्छे से जानकारी रखते हैं आपकी क्या राय इस बारे में कमेंट सेक्शन अपनी राय जरुर व्यक्त करें मि शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Taara ka prashn hai kyonki jaan kee kamee se insaan ka vishvaas kamajor pad jaata hai to aapako bata denge ki bilkul sahee dava nahin par aapane poochha hai ki gyaan kee jab kamee hotee hai aapako kis cheej ka gyaanee nahin hota to phir aapake andar selph konphidens aata hee nahin hai agar aapake andar selph konphidens hai yaanee ki aap us vishay ke baare mein achchhe se jaanakaaree rakhate hain aapakee kya raay is baare mein kament sekshan apanee raay jarur vyakt karen mi shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्यों ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है ज्ञान की कमी से इंसान का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता
URL copied to clipboard