#जीवन शैली

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:36
हेलो आज आप का सवाल है कि कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं तो देखिए बुद्धिमान अगर आप है आपके अंदर टैलेंट है आपके अंदर बहुत ही बड़ा पैसे दौलत है तो फिर हर लोगों को जाकर नहीं बताओगे कि मेरे अंदर टैलेंट है और फिर मैं अपना पहनावा वैसे नहीं करूंगी कि हां मेरे दरी टैलेंट को मैसेज पहनावा करो ऐसा नहीं होता है तो इंटेलिजेंट होते हैं जिनका दिमाग में जो डाले थे कि वहां पर भी जाएंगे उनका टैलेंट ही इस हद तक बोलेगा और इस हद तक लोग खुश हो जाएंगे उनका कपड़ा पहना था यह सब कुछ बहुत अच्छे खासे कपड़े पहन कर चले गए हाई प्रोफाइल हैंडल कर रहे हैं लेकिन जब आप कुछ बोल रहे हैं फिर आपको जो भी है वह बहुत ही खराब है तो वह जो कपड़ा पहन कर गए हैं जिस तरह से पहनावा जिस तरह से बधाई करता है कि आप कैसे इंसान हैं आप क्या बात हुई बुद्धिमान के बाद सुरेंद्र सच में टैलेंट टैलेंट किस तरह से प्यारा लोग देखते हैं लोगों को अच्छा लगता है वह जैसे जहां से उठे हैं जैसे गरीब थे आज भी अमीर में अभी उससे कोई मेंटल कलावती है और सारे लोगों को यह पसंद आता है तो इसलिए वह लोग लोग प्रोफाइल फेसबुक
Helo aaj aap ka savaal hai ki kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain vah apane ko lo prophail kyon rakhate hain to dekhie buddhimaan agar aap hai aapake andar tailent hai aapake andar bahut hee bada paise daulat hai to phir har logon ko jaakar nahin bataoge ki mere andar tailent hai aur phir main apana pahanaava vaise nahin karoongee ki haan mere daree tailent ko maisej pahanaava karo aisa nahin hota hai to intelijent hote hain jinaka dimaag mein jo daale the ki vahaan par bhee jaenge unaka tailent hee is had tak bolega aur is had tak log khush ho jaenge unaka kapada pahana tha yah sab kuchh bahut achchhe khaase kapade pahan kar chale gae haee prophail haindal kar rahe hain lekin jab aap kuchh bol rahe hain phir aapako jo bhee hai vah bahut hee kharaab hai to vah jo kapada pahan kar gae hain jis tarah se pahanaava jis tarah se badhaee karata hai ki aap kaise insaan hain aap kya baat huee buddhimaan ke baad surendr sach mein tailent tailent kis tarah se pyaara log dekhate hain logon ko achchha lagata hai vah jaise jahaan se uthe hain jaise gareeb the aaj bhee ameer mein abhee usase koee mental kalaavatee hai aur saare logon ko yah pasand aata hai to isalie vah log log prophail phesabuk

और जवाब सुनें

Dr Shahin fidai Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr जी का जवाब
Educational Counseling & Psychotherapy
2:06
कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वे अपने को जो प्रोफाइल क्यों रखते हैं क्योंकि वह बड़े ही डाउन टू अर्थ होते हैं ग्राउंडेड होते हैं और उन्हें यह पता होता है कि कहीं ना कहीं जो आसमान की बुलंदियों को छूते हैं वह कभी ना कभी तो नहीं चाहिए उन्हें आना ही है क्योंकि हम चाहे कितना भी नाम कमा ले कितना भी हम आगे बढ़ जाए लेकिन फिर भी एक न एक दिन हम सभी को मरना है सभी को ऊपर जाना है ईश्वर के पास तो कहीं ना कहीं उस चलो प्रोफाइलर व्यक्ति के जीवन में ऐसे ख्यालात होते हैं कि सबका एंड जो है वह मृत्यु हुई है और हरीश कुछ समय के लिए इस दुनिया में है सभी को जाना है तो क्यों ना लो प्रोफाइल रहकर और क्यों ने ऐसे सकारात्मक कार्य करके सकारात्मक विचार रखे वह आगे बढ़े और सभी को खुशियां दें इससे पहला कारण ही होता है दूसरा कारण यह होता है एक ही वह व्यक्ति अपने आप में बहुत संतुष्ट होता है बहुत ही सेटिस्फाइड होता है और इसीलिए वह लो प्रोफाइल रहना ज्यादा पसंद करता है यदि कारण होता है कि कुछ व्यक्ति होते हैं बहुत ही रिजर्व स्टाइल और जीने दूसरों को कुछ बताना यह सारी मारना या बड़ी बड़ी बातें करना नहीं अच्छा लगता है कहना अच्छा नहीं लगता है क्योंकि ऐसे लोग एक्सचेंज करने में ब्लीच करते हैं बातें करने में नहीं डिलीट करते हैं तो ऐसे कुछ तरह के लोग होते हैं जिन्हें इस तरह का जीवन पसंद होता है वही अपने आप में कहीं ना कहीं बहुत बड़ी बात है क्योंकि इसीलिए बड़े बुजुर्गों ने कहा है नेकी कर दरिया में डाल ताकि आपको आपकी जिंदगी है उसका घमंड ना हो और आप जो है वह डाउन टू अर्थ रहे ईश्वर के साथ कनेक्ट कर रहे लोगों की सेवा करते रहें साथ ही साथ बुजुर्गों की मदद करी गरीबों की मदद करें तो ऐसे थे जिन्हें हम वैल्यू सभी कहते हैं और यह वाली और अनैतिक सारे के जीवन में होना बहुत जरूरी है तभी ही वह अपने जीवन से खुश रह सकेगा अपने आप से पूछ ले सकेगा और अपने आसपास के लोग खुश रख सकेगा और खुशियां बांट सकेगा धन्यवाद प्रश्न पूछने के लिए आपका जीवन शुभ हो
Kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain ve apane ko jo prophail kyon rakhate hain kyonki vah bade hee daun too arth hote hain graunded hote hain aur unhen yah pata hota hai ki kaheen na kaheen jo aasamaan kee bulandiyon ko chhoote hain vah kabhee na kabhee to nahin chaahie unhen aana hee hai kyonki ham chaahe kitana bhee naam kama le kitana bhee ham aage badh jae lekin phir bhee ek na ek din ham sabhee ko marana hai sabhee ko oopar jaana hai eeshvar ke paas to kaheen na kaheen us chalo prophailar vyakti ke jeevan mein aise khyaalaat hote hain ki sabaka end jo hai vah mrtyu huee hai aur hareesh kuchh samay ke lie is duniya mein hai sabhee ko jaana hai to kyon na lo prophail rahakar aur kyon ne aise sakaaraatmak kaary karake sakaaraatmak vichaar rakhe vah aage badhe aur sabhee ko khushiyaan den isase pahala kaaran hee hota hai doosara kaaran yah hota hai ek hee vah vyakti apane aap mein bahut santusht hota hai bahut hee setisphaid hota hai aur iseelie vah lo prophail rahana jyaada pasand karata hai yadi kaaran hota hai ki kuchh vyakti hote hain bahut hee rijarv stail aur jeene doosaron ko kuchh bataana yah saaree maarana ya badee badee baaten karana nahin achchha lagata hai kahana achchha nahin lagata hai kyonki aise log eksachenj karane mein bleech karate hain baaten karane mein nahin dileet karate hain to aise kuchh tarah ke log hote hain jinhen is tarah ka jeevan pasand hota hai vahee apane aap mein kaheen na kaheen bahut badee baat hai kyonki iseelie bade bujurgon ne kaha hai nekee kar dariya mein daal taaki aapako aapakee jindagee hai usaka ghamand na ho aur aap jo hai vah daun too arth rahe eeshvar ke saath kanekt kar rahe logon kee seva karate rahen saath hee saath bujurgon kee madad karee gareebon kee madad karen to aise the jinhen ham vailyoo sabhee kahate hain aur yah vaalee aur anaitik saare ke jeevan mein hona bahut jarooree hai tabhee hee vah apane jeevan se khush rah sakega apane aap se poochh le sakega aur apane aasapaas ke log khush rakh sakega aur khushiyaan baant sakega dhanyavaad prashn poochhane ke lie aapaka jeevan shubh ho

Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:26
कुछ लोग बुद्धिमान होते हैं वह अपने को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं निश्चित तौर पर अगर आप डाउन टू अर्थ रहेंगे तो अपनी मिट्टी से अपनी भूमि से जुड़े रहेंगे उठाते तो घमंड भी नहीं होगा ऐसा करने से आप जो है हमेशा जीवन में आगे सक्सेसफुल ज्यादा हो गया 75 हमेशा ज्यादा होगा लेकिन हर एक व्यक्ति जो घमंड में आ जाता है और अपने आप को ही ज्यादा बुद्धिमानी दिखाने लग जाता है नॉलेज का प्रदर्शन करने लगता है निश्चित तौर पर इसका पता है आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Kuchh log buddhimaan hote hain vah apane ko lo prophail kyon rakhate hain nishchit taur par agar aap daun too arth rahenge to apanee mittee se apanee bhoomi se jude rahenge uthaate to ghamand bhee nahin hoga aisa karane se aap jo hai hamesha jeevan mein aage saksesaphul jyaada ho gaya 75 hamesha jyaada hoga lekin har ek vyakti jo ghamand mein aa jaata hai aur apane aap ko hee jyaada buddhimaanee dikhaane lag jaata hai nolej ka pradarshan karane lagata hai nishchit taur par isaka pata hai aapaka din shubh rahe dhanyavaad

nav kishor aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nav जी का जवाब
Service
1:11
स्कार आप ने प्रश्न किया है कि कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं लेकिन आपने कहावत सुनी होगी कि गरजने वाले बरसते नहीं और बरसने वाले बरसते नहीं ठीक है तो इसी प्रकार जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने आप को लो प्रोफाइल ही रखते हैं वह कभी भी यह नहीं जताते दूसरों को कि हम काफी बुद्धिमान हैं या हम लोग कुछ भी काम कर सकते हैं हमें किसी चीज की आवश्यकता नहीं है या हम कोई भी अपने आपको वह पहले दूसरों को देते हैं दूसरे के काम करने के ढंग को देखते हैं दूसरे के व्यक्ति के मन को भाते हैं और वह पहले सामने वाले को देखते कि वह क्या बोल रहा है क्या कर सकता है और क्या नहीं कर सकता यह एक समझदार व्यक्ति की निशानी होती है और अपने को लो प्रोफाइल दिखाना एक बहुत अच्छी बात होती है क्योंकि अगर हम अपने आप को हाई प्रोफाइल दिखाएंगे तो लोग समझेंगे कि हमारे अंदर घमंड है और हमारा और ज्यादा नुकसान हो सकता है कई राज की बात होती तो सीक्रेट होते हैं वह भी खुल जाते हैं प्ले हमेशा चुप रह करके ही अपनी शक्ति का प्रदर्शन करना चाहिए और अपनी शक्ति का प्रदर्शन या अपने आप को जब भी साबित करना चाहिए जब उसकी जरूरत हो धन्यवाद
Skaar aap ne prashn kiya hai ki kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain vah apane ko lo prophail kyon rakhate hain lekin aapane kahaavat sunee hogee ki garajane vaale barasate nahin aur barasane vaale barasate nahin theek hai to isee prakaar jo kaaphee buddhimaan hote hain vah apane aap ko lo prophail hee rakhate hain vah kabhee bhee yah nahin jataate doosaron ko ki ham kaaphee buddhimaan hain ya ham log kuchh bhee kaam kar sakate hain hamen kisee cheej kee aavashyakata nahin hai ya ham koee bhee apane aapako vah pahale doosaron ko dete hain doosare ke kaam karane ke dhang ko dekhate hain doosare ke vyakti ke man ko bhaate hain aur vah pahale saamane vaale ko dekhate ki vah kya bol raha hai kya kar sakata hai aur kya nahin kar sakata yah ek samajhadaar vyakti kee nishaanee hotee hai aur apane ko lo prophail dikhaana ek bahut achchhee baat hotee hai kyonki agar ham apane aap ko haee prophail dikhaenge to log samajhenge ki hamaare andar ghamand hai aur hamaara aur jyaada nukasaan ho sakata hai kaee raaj kee baat hotee to seekret hote hain vah bhee khul jaate hain ple hamesha chup rah karake hee apanee shakti ka pradarshan karana chaahie aur apanee shakti ka pradarshan ya apane aap ko jab bhee saabit karana chaahie jab usakee jaroorat ho dhanyavaad

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:25
दोस्तों बुद्धिमान लोग अपने आप को सिंपल ही रखते हैं जो प्रोफाइल दिखाते हैं क्योंकि मैं काफी बुद्धिमान होते हैं और उनको इन सब का शौक नहीं रहता है वह लोग जानते हैं दिखावा से कुछ नहीं होने वाला अपना ज्ञान अपने पास रखने से हमको बहुत फायदा मिलेगा और हम आगे बहुत ही ज्यादा सफल होंगे इसी वजह से वह लोग लोग होटल में रहते हैं तो दोस्तों अगर आपको जाओ सही लगा हो तो प्लीज लाइक ए बटन को दबाइए गा
Doston buddhimaan log apane aap ko simpal hee rakhate hain jo prophail dikhaate hain kyonki main kaaphee buddhimaan hote hain aur unako in sab ka shauk nahin rahata hai vah log jaanate hain dikhaava se kuchh nahin hone vaala apana gyaan apane paas rakhane se hamako bahut phaayada milega aur ham aage bahut hee jyaada saphal honge isee vajah se vah log log hotal mein rahate hain to doston agar aapako jao sahee laga ho to pleej laik e batan ko dabaie ga

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:43
राधा कृष्ण कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वे अपने को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं तो आपको बता दें देखे यहां पर जो व्यक्ति ऊपर उठता है तो जो मान सकता है समाज की उसमें यह है कि उसकी ट्रांसफर करके लोग नीचे कितना चाहते हैं इसके जो अधिक बुद्धिमान व्यक्ति होते हैं वह अपने आप को जो प्रोफाइल पर पसंद करते हैं वह अपने बातों से नहीं बल्कि अपने कार्यों से अपनी सिद्धि प्राप्त करते हैं कहते हैं ना कि काम इतनी शांति और सादगी से कहो कि आपकी कामयाबी शोर मचा दे तो कुछ इसौली टूट गए वह लोग होते हैं आपकी क्या राय इस बारे में कमेंट सेक्शन अपनी राय जरुर व्यक्त करें मैं शुभकामनाएं आपके साथ है धन्यवाद
Raadha krshn kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain ve apane ko lo prophail kyon rakhate hain to aapako bata den dekhe yahaan par jo vyakti oopar uthata hai to jo maan sakata hai samaaj kee usamen yah hai ki usakee traansaphar karake log neeche kitana chaahate hain isake jo adhik buddhimaan vyakti hote hain vah apane aap ko jo prophail par pasand karate hain vah apane baaton se nahin balki apane kaaryon se apanee siddhi praapt karate hain kahate hain na ki kaam itanee shaanti aur saadagee se kaho ki aapakee kaamayaabee shor macha de to kuchh isaulee toot gae vah log hote hain aapakee kya raay is baare mein kament sekshan apanee raay jarur vyakt karen main shubhakaamanaen aapake saath hai dhanyavaad

Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:48
आपका सवाल है कि कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपनी लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं मैं आपको बताना चाहता हूं कि लो प्रोफाइल और एक बंदे के पास टैलेंट से बहुत अंतर होता है क्योंकि उसे पता होता कि उसका जो टैलेंट है वही हर जगह काम करने वाला है फैशन हर जगह काम नहीं करता अगर आप देखेंगे मैं दो-तीन नाम आपको बताऊंगा इंडस्ट्री के तू सबसे पहला नाम अगर आप देखेंगे तो अर्जित सिंह शायद ही कोई है इंडिया में जिन्होंने उनके गाने नहीं सुने होंगे हर इंसान ही ज्यादा तरुण के गाने सुनें लेकिन आपने उनका स्टाइल देखा है पहनावा देखा है एक बिल्कुल सिंपल और एक अच्छा पहनावा वह चाहते तो वह एटीट्यूड भी दिखा सकते थे लेकिन मैं जो होता है अहंकार जो होता है वह दिन उतर जाता है और जो बंदे समझदार होते हैं जो अपने टैलेंटेड होते हैं वह कभी एटीट्यूट नहीं दिखाते वह अपनी प्रोफाइल खोलो ही रखना शुरू कर दे दूसरा नाम मैं बताना चाहूंगा महेंद्र सिंह धोनी का कि बंदे ने एक टिकट कलेक्टर की नौकरी से स्टार्टिंग की थी और आज वह बंदा उसके नाम को क्रिकेट इतिहास में सुनहरे पन्नों सुनहरी शब्दों में लिखा जाता है लेकिन कभी देखा कि वह किसी से कैसे बात करते हैं कितना सादा पहनावा रखते हैं वह कैसी फैमिली में रहते हैं बहुत ही बड़े-बड़े लोग बहुत ही छोटा में पहनावा ऐसी कोई बात नहीं है इंसान अपनी हम कितने बड़े इंसान बन जाए लेकिन हमें 2 गज जमीन की आवश्यकता पड़ती है और दो गज कफन की आवश्यकता पड़ती है तो अगर कोई इंसान इस याद रखेगा इस चीज को तो कभी उस समय का अभाव भी नहीं होने का मुझे इसी बात पर सोच रहा था कि यार इंसान पैसा कहा था कितनी मेहनत और जातक इतनी जल्दी है तो पैसा और माया और लक्ष्मी बहुत ज्यादा फर्क होता है जो माया को जानते हैं वह मैं दिखाते हैं और वह लक्ष्मी को जानते हो तो एक सादा जीवन व्यतीत करना पसंद करते हैं धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर जरूर करें
Aapaka savaal hai ki kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain vah apanee lo prophail kyon rakhate hain main aapako bataana chaahata hoon ki lo prophail aur ek bande ke paas tailent se bahut antar hota hai kyonki use pata hota ki usaka jo tailent hai vahee har jagah kaam karane vaala hai phaishan har jagah kaam nahin karata agar aap dekhenge main do-teen naam aapako bataoonga indastree ke too sabase pahala naam agar aap dekhenge to arjit sinh shaayad hee koee hai indiya mein jinhonne unake gaane nahin sune honge har insaan hee jyaada tarun ke gaane sunen lekin aapane unaka stail dekha hai pahanaava dekha hai ek bilkul simpal aur ek achchha pahanaava vah chaahate to vah eteetyood bhee dikha sakate the lekin main jo hota hai ahankaar jo hota hai vah din utar jaata hai aur jo bande samajhadaar hote hain jo apane tailented hote hain vah kabhee eteetyoot nahin dikhaate vah apanee prophail kholo hee rakhana shuroo kar de doosara naam main bataana chaahoonga mahendr sinh dhonee ka ki bande ne ek tikat kalektar kee naukaree se staarting kee thee aur aaj vah banda usake naam ko kriket itihaas mein sunahare pannon sunaharee shabdon mein likha jaata hai lekin kabhee dekha ki vah kisee se kaise baat karate hain kitana saada pahanaava rakhate hain vah kaisee phaimilee mein rahate hain bahut hee bade-bade log bahut hee chhota mein pahanaava aisee koee baat nahin hai insaan apanee ham kitane bade insaan ban jae lekin hamen 2 gaj jameen kee aavashyakata padatee hai aur do gaj kaphan kee aavashyakata padatee hai to agar koee insaan is yaad rakhega is cheej ko to kabhee us samay ka abhaav bhee nahin hone ka mujhe isee baat par soch raha tha ki yaar insaan paisa kaha tha kitanee mehanat aur jaatak itanee jaldee hai to paisa aur maaya aur lakshmee bahut jyaada phark hota hai jo maaya ko jaanate hain vah main dikhaate hain aur vah lakshmee ko jaanate ho to ek saada jeevan vyateet karana pasand karate hain dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sheyar jaroor karen

Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Life coach
1:13
आपको प्रश्न है कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने आप को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं तो वह ना लिमिट में रहना चाहते हैं अगर आप बुद्धिमान रहेंगे आपके अंदर एक हो जाएगा तो वह बुद्धिमान अर्थात ज्ञान का कोई मतलब है ज्ञान ऐसा हो जो सबके साथ शेयर किया जाए जो भी ज्ञान होता है वह अपने तक मत रखें हर एक चीज को शेयर करें क्योंकि अगर आप अपने तक रखेंगे तो वह कोई काम का नहीं है तो वह शेयर करना पसंद करते हैं और वह यह नहीं कहते कि उसके शेयर करें तो उनके अंदर ही गू आ जाए घमंड आ जाए ऐसा भी नहीं होता वह चीज है उसके लिए उनके लिए बिल्कुल नहीं होती है और वह ज्यादा होना चाहते हैं ना चाहते हैं वह बराबर में रहना चाहते हैं और अपनी नॉलेज को शेयर करते हैं बल्कि वह ज्यादा ही ओवरफ्लो करें क्योंकि उनकी बुद्धिमता उन्हें यह बता चुकी है कि हर एक चीज को शेयर करो पर लिमिट होकर ओवरफ्लो नहीं होना है और ना जाता लोग होना है बराबर होना तो लिमिट में होता है धन्यवाद
Aapako prashn hai kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain vah apane aap ko lo prophail kyon rakhate hain to vah na limit mein rahana chaahate hain agar aap buddhimaan rahenge aapake andar ek ho jaega to vah buddhimaan arthaat gyaan ka koee matalab hai gyaan aisa ho jo sabake saath sheyar kiya jae jo bhee gyaan hota hai vah apane tak mat rakhen har ek cheej ko sheyar karen kyonki agar aap apane tak rakhenge to vah koee kaam ka nahin hai to vah sheyar karana pasand karate hain aur vah yah nahin kahate ki usake sheyar karen to unake andar hee goo aa jae ghamand aa jae aisa bhee nahin hota vah cheej hai usake lie unake lie bilkul nahin hotee hai aur vah jyaada hona chaahate hain na chaahate hain vah baraabar mein rahana chaahate hain aur apanee nolej ko sheyar karate hain balki vah jyaada hee ovaraphlo karen kyonki unakee buddhimata unhen yah bata chukee hai ki har ek cheej ko sheyar karo par limit hokar ovaraphlo nahin hona hai aur na jaata log hona hai baraabar hona to limit mein hota hai dhanyavaad

Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:22
नमस्कार आपका प्रश्न है कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं उन्हें अपने आपको लोग प्रोफाइल क्यों करते हैं क्यों रखते हैं वैसे तो आपके पर क्यों नहीं आता आता है क्योंकि वह अपने आप को लो प्रोफाइल रखते हैं इसलिए है क्योंकि वह काफी बुद्धिमान है समझ चुके हैं कि बाहरी दुनिया में कुछ नहीं है जो कुछ है आपके अंदर का जवाब का ज्ञान है आपका स्क्रीन है आप के गुण हैं वही सब कुछ है आपका पहनावा आपकी और ऊपर का शो आप की कोठी बंगला बनावट कि सब कुछ मायने नहीं रखती है अब जीवन की खुले को पहचान चुके हैं जो लोग काफी बुद्धिमान है वैसे तो कुछ लोगों ने काफी लोग हैं हमारे सिद्धियां में देखते हैं मैं भी इनके सूची में आना चाहती हूं देखते हैं कब आऊंगी या कब ऐसा कुछ हो पाएगा लेकिन जो लोग बुद्धिमान है जो मेरे नोटिस किया है चलो काफी अच्छे वाले वेल एजुकेटेड होते हैं उनका पहनावा बहुत ही सादा होता है सिंपल टॉप करते हैं तो वह समझ चुके होते हैं जीवन के अर्थ को कि हम मनुष्य जीवन में क्यों आए हैं हमारा इस काम में लो दृश्य क्या है उसी के अनुसार चलते हैं तो जब हम इश्क मुल्ले को पहचान जाते हैं तो हम बुद्धिमान व्यक्तियों की श्रेणी में आ जाते हैं तो आप हमें हाई प्रोफाइल इन सब चीजें ऊपरी दिखावा जो उससे हमें कोई लेना देना नहीं होता है उन लोगों को इसलिए अपना प्रोफाइल होते हैं जो प्रोफाइल समझ लो नहीं होता बल्कि ठोस पहुंची हैं आपके विचार होते हैं और आपके लिविंग बिल्कुल ही सिंपल है अब हमारे कोई पुराने फ्रीडम फाइटर्स को ही ले लीजिए और लोगों को ले लीजिए कितने भी हमारे इस तरह के साइंटिस्ट को भी ले लीजिए कुछ भी बिल्कुल सिंपल रहते हैं इनमें एक बहुत अच्छे डॉक्टर को जानती हूं जो अपने हॉस्पिटल के हेड है वहां के डायरेक्टर हैं पर मैं उनके लिए मैं देखती हूं की क्लोजिंग देखती हूं एकदम सिंपल होती है अपना पूरा ध्यान रखें पेशेंट क्यों गए थे डेडीकेटेड होते हैं और बोलने में बहुत अच्छे स्माइली सिंपल बोलते हैं वह किसी का शौक नहीं करते हैं अगर आपको मेरा आंसर अच्छा लगा हो तो लाइक करें थैंक यू
Namaskaar aapaka prashn hai kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain unhen apane aapako log prophail kyon karate hain kyon rakhate hain vaise to aapake par kyon nahin aata aata hai kyonki vah apane aap ko lo prophail rakhate hain isalie hai kyonki vah kaaphee buddhimaan hai samajh chuke hain ki baaharee duniya mein kuchh nahin hai jo kuchh hai aapake andar ka javaab ka gyaan hai aapaka skreen hai aap ke gun hain vahee sab kuchh hai aapaka pahanaava aapakee aur oopar ka sho aap kee kothee bangala banaavat ki sab kuchh maayane nahin rakhatee hai ab jeevan kee khule ko pahachaan chuke hain jo log kaaphee buddhimaan hai vaise to kuchh logon ne kaaphee log hain hamaare siddhiyaan mein dekhate hain main bhee inake soochee mein aana chaahatee hoon dekhate hain kab aaoongee ya kab aisa kuchh ho paega lekin jo log buddhimaan hai jo mere notis kiya hai chalo kaaphee achchhe vaale vel ejuketed hote hain unaka pahanaava bahut hee saada hota hai simpal top karate hain to vah samajh chuke hote hain jeevan ke arth ko ki ham manushy jeevan mein kyon aae hain hamaara is kaam mein lo drshy kya hai usee ke anusaar chalate hain to jab ham ishk mulle ko pahachaan jaate hain to ham buddhimaan vyaktiyon kee shrenee mein aa jaate hain to aap hamen haee prophail in sab cheejen ooparee dikhaava jo usase hamen koee lena dena nahin hota hai un logon ko isalie apana prophail hote hain jo prophail samajh lo nahin hota balki thos pahunchee hain aapake vichaar hote hain aur aapake living bilkul hee simpal hai ab hamaare koee puraane phreedam phaitars ko hee le leejie aur logon ko le leejie kitane bhee hamaare is tarah ke saintist ko bhee le leejie kuchh bhee bilkul simpal rahate hain inamen ek bahut achchhe doktar ko jaanatee hoon jo apane hospital ke hed hai vahaan ke daayarektar hain par main unake lie main dekhatee hoon kee klojing dekhatee hoon ekadam simpal hotee hai apana poora dhyaan rakhen peshent kyon gae the dedeeketed hote hain aur bolane mein bahut achchhe smailee simpal bolate hain vah kisee ka shauk nahin karate hain agar aapako mera aansar achchha laga ho to laik karen thaink yoo

Nikhil kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Teaching
0:42
सिंपल सा जवाब है सिंपलीसिटी यानी सादगी जो है बुद्धि मानता से बनती है नहीं कहने का मतलब है कि बुद्धिमान व्यक्ति हमेशा सादगी को पसंद करते हैं सिंपलीसिटी को पसंद करते हैं दिखावा से बहुत दूर रहते हैं क्योंकि उन्हें पता होता है कि यह दिखावा यह सैनिक क्षणभंगुर बातों से हम अपने आप को जो है कि नहीं पहुंचा नहीं चाहिए और सदैव जो है कि मतलब कि अपने ज्ञान को आगे बढ़ाने के लिए मेहनत करनी चाहिए ना कि लोगों का जो है कि दिखावा के लोगों को दिखावा के लिए जो है कोशिश करनी चाहिए तो सिंपलीसिटी बुद्धिमान लोग के लिए प्राइमरी होती है नहीं सर्वोपरि होती है
Simpal sa javaab hai simpaleesitee yaanee saadagee jo hai buddhi maanata se banatee hai nahin kahane ka matalab hai ki buddhimaan vyakti hamesha saadagee ko pasand karate hain simpaleesitee ko pasand karate hain dikhaava se bahut door rahate hain kyonki unhen pata hota hai ki yah dikhaava yah sainik kshanabhangur baaton se ham apane aap ko jo hai ki nahin pahuncha nahin chaahie aur sadaiv jo hai ki matalab ki apane gyaan ko aage badhaane ke lie mehanat karanee chaahie na ki logon ka jo hai ki dikhaava ke logon ko dikhaava ke lie jo hai koshish karanee chaahie to simpaleesitee buddhimaan log ke lie praimaree hotee hai nahin sarvopari hotee hai

sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:12
राधे आज जो क्वेश्चन किया गया है वह हमारी डेली लाइफ से रिलेटेड है कि जो लोग काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने आप को लो प्रोफाइल क्यों रखना पसंद करते हैं रखते हैं तो देखिए यह तो हम सभी जानते हैं कि जिस व्यक्ति को जिस व्यक्ति को और सकते सफलता मिल जाती है उसके साथ उसने एकदम फ्री में चलने वाले भी मिल जाती है शैलेश करने वाली तो वह हमेशा अपने आपको हमेशा अपने आप को उनके सामने नॉर्मल नॉर्मल पिक करना चाहता है कि हां मैं नॉर्मल हूं मैं तुमसे ज्यादा इंटेलिजेंट नहीं हूं इसलिए करते हैं ताकि जब वह अपने लकी और आगे बढ़े तो जो उनके जेलस फील करने वाले होते हैं अगर वह अपने आप को लो प्रोफाइल का रखेंगे तो शायद उन्हें इससे कोई जल्दी नहीं करेगा और जल्दी नहीं करेगा तो उसके रास्ते में रुकावट कम से कम होगी और ग्रीन अपनी लक तक पहुंच जाएगा तो मेरा मानना है इसलिए जो व्यक्ति सफलता को हासिल कर लेता है या बुद्धिमान होता है मैं अपने आपको हमेशा लो प्रोफाइल रखना पसंद करता है या लगती है राधे राधे

Hitesh jain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hitesh जी का जवाब
Blogger- Content Writer
2:58
तो आज का कुछ चुने गए कि कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हुए अपनी खोलो तो फालतू रखते हैं तो उसका सबसे बड़ा कारण है अंडरस्टैंडिंग टो अंडरस्टैंडिंग की वजह से ऐसा होता है क्योंकि जो बुद्धिमान लोग होते हैं वह फालतू के लोगों के मुंह नहीं लगते हैं दूसरी बात यह है कि उनके अंडरस्टैंडिंग और जो छोटे या मध्यम वर्ग के 2 लोग हैं उनके साथ उनकी अंडरस्टैंडिंग जो बोलते जो सच बोलते सोच विचार वह नहीं मिल पाते हो यह भी एक सबसे बड़ा कारण है कि इसलिए वह बुद्धिमान लोग जो व्यक्ति को लोग प्रोफाइल दिखाते हैं बुद्धिमान लोग ऐसे होते हैं कि जैसे सामने वाला बंदा है वह उसके साथ वैसा ही व्यवहार करते हुए उसके जैसे ही बन जाते हैं क्योंकि वह जानते हैं कि अगर वह हाईटेक में बार करेंगे तो वह जो छोटा वाला है बंद है या जो लोग सोच वाला जो पढ़ा लिखा नहीं है तो उसके साथ में नहीं मतलब अपना जो कम्युनिकेशन है वह नहीं बना पाएंगे तो सच्चा बड़ी बात यही है कि अंडरस्टैंडिंग के आती है दूसरा ही आता है कि बुद्धिमान लोग जो होते हैं वह काफी पढ़े लिखे होते हैं उनको काफी चीजों का नॉलेज हो कयामुद्दीन का अनुभव काफी जाना होता है एक नॉरमल पीपल के साथ एक नॉर्मल आदमी के हिसाब से तो यह भी एक बहुत बड़ी बजे होती है दूसरी बात आपने देखा होगा कि जो बुद्धिमान लोग होते हैं वह फालतू चीजों में नहीं फालतू चीजों में नहीं पड़ते हैं तो इसे काफी सारे कारण हैं जिनकी वजह से ऐसा होता है तो वह मुझे था आपने देखा होगा कि आपकी किसी बुद्धिमान व्यक्ति से लड़ाई हो गई है तो वह शांति से आपसे बात करेगा आपको समझाने की कोशिश करेगा आपके साथ जो है वह प्यार से बात करेगा वो आप कितनी भी उसे गाली देंगे तो भी वह आपको एक बार तो पूरी कोशिश करेगा कि आप शांत हो जाएगी जबकि एक ऐसा है कि हम मगर एक चीज ऐसी है कि अगर हम सामने से अगर गाली भी दे रहे हैं तो कुछ लोग जो बुद्धिमान नहीं है तो वह भी हमें गालियां देते तो ऐसा भी होता है कई बार तो इसे काफी सारे सितम से बुद्धिमान लोगों के साथ जो है वह उनको उनके साथ चलना काफी मुश्किल हो जाता है एक बार सामान्य आदमी को क्योंकि उनकी सोच नहीं मिलती आती है कि वह पढ़े लिखे होने के कारण वह किसी फालतू की चीजों में उलझना नहीं चाहते वह किसी कभी किसी चीज में नहीं उलझते वह अपने फोन पर फोकस करते हैं अपने लक्ष्य पर फोकस करते हैं उन्हें जो पाना है उसके जीवन में प्रकट करते हैं तो यह सकते कोई बड़ी बात है और जो मैंने आपको आज बताइए और शायद आपने कहीं ना कहीं कभी न कभी मैसेज जरूर किया होगा तो यह जो है इस बात को आप को ध्यान रखना है कि जो बुद्धिमान लोगों के तो आपको भी उनके जैसा अगर बनना है तो आपको डिसिप्लिन डिसिप्लिन रहना होगा आपको डिसिप्लिन तरीके से रहना होगा डिसिप्लिन अपनाना होगा जीवन में और फालतू की बातों पर घोषित नहीं करनी होगी फालतू की बातों पर कमेंट नहीं करनी क्योंकि बुद्धिमान लोग अपना समय व्यर्थ नहीं करते इन चीजों के पीछे वह अपने आप को डिवेलप करने के लिए हमेशा लगे रहते हैं हर एक पल हर 1 मिनट उनका बहुत कीमती होता है फालतू चीजों में नहीं लगे रहते हैं तो आई होप आपको अच्छा लगा मैंने बहुत जल्दी जल्दी बताया क्योंकि बताने को काफी है लेकिन टाइम बहुत कम है इसलिए थैंक यू हिंदी में

Rajmohan Modi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajmohan जी का जवाब
व्यापार
0:50
प्रिय मित्र आप के सवाल में ही जवाब छुपा हुआ है आदमी जब बुद्धिमान होता है तो फिर उसको लो प्रोफाइल होने की कोशिश नहीं करनी पड़ती है मेरे दोस्त वह अपने आप हो जाता है जैसा कि आम के पेड़ पर अगर ज्यादा हम आएंगे तो अपने आप झुक जाएगा अगर जुगाड़ नहीं है तो आप ज्यादा आए हुए नहीं हैं अगर बुद्धि उसके अंदर उतर गई है तो फिर अकड़ किस बात की तो हो ही नहीं सकता कि बुद्धि भी हो और अकड़ भी हो होता है कभी-कभी ऐसा मगर बुद्धिमान व्यक्ति हमेशा लो प्रोफाइल ही रहता है और उसी का मजा है यह शायद मुझे लगता है कि आप मेरे जवाब से संतुष्ट होंगे ही धन्यवाद

Avdhesh Tiwari Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Avdhesh जी का जवाब
Business
0:43

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं कुछ लोग अपने को लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं
URL copied to clipboard