#भारत की राजनीति

bolkar speaker

क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र?

Kya Kisaan Aandolan Ek Aandolan Hai Ya Sarkar Ke Virudh Koi Shadyantr
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:26
आज आप का सवाल है कि क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र तो देखिए यह साफ-साफ हमें पता चल रहा है कि हां यह सही को छुपाकर सिर्फ मेरा मतलब कहीं से कंफर्मेशन दिखाया जा रहा है कोई वीडियो वगैरह कुछ भी नहीं यह हम अपनी आंख के सामने लाइव हर एक चीज होते हुए देख रहे हैं और सच में आसानी के लोग बहुत किसान बहुत पहले से सरकार पर भड़के हुए थे जैसे यह बिल आया उसके बाद से ही उन लोगों का यह मानना और क्या ना और वह प्रोटेस्ट कर रहे हैं तो मेरे हिसाब से कोई षड्यंत्र नहीं है अगर विपक्ष पार्टी और फिर कोई अपोजिशन पार्टी अगर इस चीज में कोई अलग तरह का ट्वीट कर रहा या फिर बोल रहा है तो उसे आप कह सकते हैं एक तरह का प्यार नहीं तो क्या पोजीशन पार्टी की है काम ही होती है कि अगर कोई रूलिंग पार्टी है तो उसके बारे में अच्छा बुरा सब चीज बताएं दिखाएं तो बहुत पहले से ही है जिसके होते और 2 महीना बहुत ज्यादा होता है अभी तक अगर कोई किसी के लिए प्लान करता तो 2 महीने में वह हार मान जाता है चाहे उनकी बात मानी जाए पर वह 2 महीने से मतलब कंटिन्यू प्रोटेस्ट कर रहा है दुल्हन कर रहे हैं और उनका डिमांड भी मतलब ऐसा नहीं कि कुछ ऐसा खराब भी है वह जो सोच रहे समाचार उसे साथी बोलो मेरे साथ षड्यंत्र नहीं लगता है
Aaj aap ka savaal hai ki kya kisaan aandolan ek aandolan hai ya sarakaar ke viruddh koee shadyantr to dekhie yah saaph-saaph hamen pata chal raha hai ki haan yah sahee ko chhupaakar sirph mera matalab kaheen se kampharmeshan dikhaaya ja raha hai koee veediyo vagairah kuchh bhee nahin yah ham apanee aankh ke saamane laiv har ek cheej hote hue dekh rahe hain aur sach mein aasaanee ke log bahut kisaan bahut pahale se sarakaar par bhadake hue the jaise yah bil aaya usake baad se hee un logon ka yah maanana aur kya na aur vah protest kar rahe hain to mere hisaab se koee shadyantr nahin hai agar vipaksh paartee aur phir koee apojishan paartee agar is cheej mein koee alag tarah ka tveet kar raha ya phir bol raha hai to use aap kah sakate hain ek tarah ka pyaar nahin to kya pojeeshan paartee kee hai kaam hee hotee hai ki agar koee rooling paartee hai to usake baare mein achchha bura sab cheej bataen dikhaen to bahut pahale se hee hai jisake hote aur 2 maheena bahut jyaada hota hai abhee tak agar koee kisee ke lie plaan karata to 2 maheene mein vah haar maan jaata hai chaahe unakee baat maanee jae par vah 2 maheene se matalab kantinyoo protest kar raha hai dulhan kar rahe hain aur unaka dimaand bhee matalab aisa nahin ki kuchh aisa kharaab bhee hai vah jo soch rahe samaachaar use saathee bolo mere saath shadyantr nahin lagata hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र?Kya Kisaan Aandolan Ek Aandolan Hai Ya Sarkar Ke Virudh Koi Shadyantr
rajesh yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rajesh जी का जवाब
Unknown
0:05
हां तो कोई षड्यंत्र ही लग रहा है जो बाहरी देशों के साथ मिलकर हमारे देश के लिए किया जा रहा है

bolkar speaker
क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र?Kya Kisaan Aandolan Ek Aandolan Hai Ya Sarkar Ke Virudh Koi Shadyantr
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:58
आपने प्रश्न यह किया है क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई अभी देखिए अगर आपने प्रश्न पूछा है और अगर आप मेरे ऊपर पर विश्वास करना चाहें तो जितना अध्ययन मैंने किया है जितना मैंने एक दूसरे कड़ियों को जोड़ने का प्रयास किया और जितने घटनाक्रम अब तक हुए हैं उनको बहुत गौर से देखने के बाद यह कहने में कोई संशय नहीं है यह जो किसान आंदोलन में यह कतई आंदोलन नहीं है और एक यह एक विशुद्ध षड्यंत्र आपसे इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि आजादी के 60 वर्षों में किसानों के हित के लिए जितने कदम नहीं किस मोदी सरकार के पिछले 6 वर्षों के दौरान किसानों के लिए इतने अच्छे कदम है मैं यह नहीं कहता कि किसानों को इस सरकार ने राजा ही बना था लेकिन अगर मैं पिछले 60 वर्षों से तुलना करूं और क्योंकि मैं स्वयं किसान पुत्र हूं और मैं पढ़ा लिखा हूं और इसलिए मैं चीजों को सिर्फ लोगों की कही बातों पर विश्वास नहीं करता स्वयं का विश्लेषण करता और उससे मैंने यह पाया है कि इस सरकार ने पिछले 6 वर्षों के दौरान जितना किसानों के लिए किया है उतना आजादी के पिछले 60 वर्षों में नहीं की लेकिन फिर भी इस सरकार को गाली दीजिए अच्छा काम करने के बाद भी गाली दी जा रही है इसलिए यह कहने में कोई संशय नहीं है कि यह एक विशुद्ध षड्यंत्र और तरीके से देश के अंदर एक तरह की स्लीपर सेल काम कर रही जिस तरीके से कबीर रिहाना का ट्वीट आता है कभी कनाडा से ट्वीट आता है कभी मियां खलीफा का टूटा था और उनको देश को बदनाम करने के लिए सरकार को बदनाम करने के लिए क्योंकि यह वह सरकार है जो इन विदेशी लोगों के कठपुतली की तरह डांस नहीं कर रही है और इसलिए स्पष्ट है कि यह सरकार के विरुद्ध षड्यंत्र है धन्यवाद
Aapane prashn yah kiya hai kya kisaan aandolan ek aandolan hai ya sarakaar ke viruddh koee abhee dekhie agar aapane prashn poochha hai aur agar aap mere oopar par vishvaas karana chaahen to jitana adhyayan mainne kiya hai jitana mainne ek doosare kadiyon ko jodane ka prayaas kiya aur jitane ghatanaakram ab tak hue hain unako bahut gaur se dekhane ke baad yah kahane mein koee sanshay nahin hai yah jo kisaan aandolan mein yah katee aandolan nahin hai aur ek yah ek vishuddh shadyantr aapase is baat se andaaja laga sakate hain ki aajaadee ke 60 varshon mein kisaanon ke hit ke lie jitane kadam nahin kis modee sarakaar ke pichhale 6 varshon ke dauraan kisaanon ke lie itane achchhe kadam hai main yah nahin kahata ki kisaanon ko is sarakaar ne raaja hee bana tha lekin agar main pichhale 60 varshon se tulana karoon aur kyonki main svayan kisaan putr hoon aur main padha likha hoon aur isalie main cheejon ko sirph logon kee kahee baaton par vishvaas nahin karata svayan ka vishleshan karata aur usase mainne yah paaya hai ki is sarakaar ne pichhale 6 varshon ke dauraan jitana kisaanon ke lie kiya hai utana aajaadee ke pichhale 60 varshon mein nahin kee lekin phir bhee is sarakaar ko gaalee deejie achchha kaam karane ke baad bhee gaalee dee ja rahee hai isalie yah kahane mein koee sanshay nahin hai ki yah ek vishuddh shadyantr aur tareeke se desh ke andar ek tarah kee sleepar sel kaam kar rahee jis tareeke se kabeer rihaana ka tveet aata hai kabhee kanaada se tveet aata hai kabhee miyaan khaleepha ka toota tha aur unako desh ko badanaam karane ke lie sarakaar ko badanaam karane ke lie kyonki yah vah sarakaar hai jo in videshee logon ke kathaputalee kee tarah daans nahin kar rahee hai aur isalie spasht hai ki yah sarakaar ke viruddh shadyantr hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र?Kya Kisaan Aandolan Ek Aandolan Hai Ya Sarkar Ke Virudh Koi Shadyantr
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
2:02
सवाल ये है कि क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या फिर सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र इस आंदोलन के कई सकारात्मक पहलू रहे पहले जो किसान एक दूसरे से मत भेज रखते थे वह भी एक मंच पर साथ आ गए एक बड़ी सफलता है हालांकि खालिस्तानी फंडिंग और पाकिस्तानी पढ़ने के नाम पर आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश की गई लेकिन किसान डिगे नहीं ऐसा इसलिए कर पाए क्योंकि यह पूरा मूवमेंट किसानों के लिए है किसानों का ही बनाया हुआ है जो किसान आंदोलन में है वह अपना सब कुछ दांव पर लगा कर आए हैं ऐसे में नहीं लगता कि काश कानून के सस्पेंशन में व्यक्त मानेंगे आ किसानों ने इस दौरान आंदोलन के नाम पर किसी भी राजनीतिक या धार्मिक संस्थाओं को भी लाभ नहीं लेने दिया आंदोलनों के इतिहास में यह बेहद कम ही देखा जाता है भारत के किसान विश्व भर के किसान के लिए बन रहे रोल मॉडल है गानों की बदहाल स्थिति केवल भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में है अमेरिका कनाडा और यूरोप जैसे अमीर देशों में भी किसानों की स्थिति इतनी बेहतर नहीं है उनको भी अपनी फसलों पर वह खरीद मूल्य नहीं मिल पाता है जितने के हकदार हैं वहीं यहां आंदोलन कर रहे किसानों को यह भी पता नहीं है कि पूरी दुनिया के किसानों की नजरें उन पर है अगर भारत में यह आंदोलन सफल हो जाता है तो यह दुनिया भर की किसानों के लिए एक मॉडल हो जाएगा उनको भी अपने यहां की यहां भी उत्पन्न समस्याओं से निपटने का एक रास्ता मिल जाएगा उम्मीद है कि भारतीय किसान की दुनिया भर के किसान के लिए रोल मॉडल पेपर है हालांकि कुछ लोगों ने अपना उल्लू सीधा किया है जिसकी वजह से लगा कि यह सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र हो सकता है लेकिन यह की जो आंदोलन है यह किसान आंदोलन ही है इसको हम यह नहीं कह सकती कि यह कोई सरकार के विरुद्ध किसान अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं
Savaal ye hai ki kya kisaan aandolan ek aandolan hai ya phir sarakaar ke viruddh koee shadyantr is aandolan ke kaee sakaaraatmak pahaloo rahe pahale jo kisaan ek doosare se mat bhej rakhate the vah bhee ek manch par saath aa gae ek badee saphalata hai haalaanki khaalistaanee phanding aur paakistaanee padhane ke naam par aandolan ko badanaam karane kee koshish kee gaee lekin kisaan dige nahin aisa isalie kar pae kyonki yah poora moovament kisaanon ke lie hai kisaanon ka hee banaaya hua hai jo kisaan aandolan mein hai vah apana sab kuchh daanv par laga kar aae hain aise mein nahin lagata ki kaash kaanoon ke saspenshan mein vyakt maanenge aa kisaanon ne is dauraan aandolan ke naam par kisee bhee raajaneetik ya dhaarmik sansthaon ko bhee laabh nahin lene diya aandolanon ke itihaas mein yah behad kam hee dekha jaata hai bhaarat ke kisaan vishv bhar ke kisaan ke lie ban rahe rol modal hai gaanon kee badahaal sthiti keval bhaarat mein hee nahin balki pooree duniya mein hai amerika kanaada aur yoorop jaise ameer deshon mein bhee kisaanon kee sthiti itanee behatar nahin hai unako bhee apanee phasalon par vah khareed mooly nahin mil paata hai jitane ke hakadaar hain vaheen yahaan aandolan kar rahe kisaanon ko yah bhee pata nahin hai ki pooree duniya ke kisaanon kee najaren un par hai agar bhaarat mein yah aandolan saphal ho jaata hai to yah duniya bhar kee kisaanon ke lie ek modal ho jaega unako bhee apane yahaan kee yahaan bhee utpann samasyaon se nipatane ka ek raasta mil jaega ummeed hai ki bhaarateey kisaan kee duniya bhar ke kisaan ke lie rol modal pepar hai haalaanki kuchh logon ne apana ulloo seedha kiya hai jisakee vajah se laga ki yah sarakaar ke viruddh koee shadyantr ho sakata hai lekin yah kee jo aandolan hai yah kisaan aandolan hee hai isako ham yah nahin kah sakatee ki yah koee sarakaar ke viruddh kisaan apanee ladaee lad rahe hain

bolkar speaker
क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र?Kya Kisaan Aandolan Ek Aandolan Hai Ya Sarkar Ke Virudh Koi Shadyantr
मोहित कुमार Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए मोहित जी का जवाब
बिजनेस
0:29
सॉरी क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार की मृत्यु शरीरों किसान आंदोलन सरकार के खिलाफ संयंत्र के लग रहा है क्योंकि और पंजाब के ही किसानों के पास मजबूरी नहीं है भारत में और भी बहुत से किसान है जो कि पंजाब के लिए किसान आंदोलन कर रहे हैं या कोई षड्यंत्र की सरकार के सरकार के खिलाफ धन्यवाद

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या किसान आंदोलन एक आंदोलन है या सरकार के विरुद्ध कोई षड्यंत्र
URL copied to clipboard