#undefined

bolkar speaker

क्या बाजार में मिलने वाला सरसों का तेल शुद्ध है?

Kya Bazaar Mein Milne Wala Sarson Ka Tel Shudh Hai
Manish Maurya Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Manish जी का जवाब
Unknown
1:37
सबसे पहले जो शब्द है शुद्ध वह अपने आप में आज बदल चुका है क्योंकि इसका कोई सीधा सीधा मतलब नहीं रह गया क्योंकि आप अगर देखें तो शुद्ध क्या है अगर हर-हर खेत में जहां पर भी फसलें उगाई जाती है वहां पर यूरिया यह सब तो पड़ता है ठीक है पूरा करते हैं प्राकृतिक खाते तो रह नहीं गई तो यह जो आर्टिफिशियल फर्टिलाइजर्स का यूज किया जाता है यह भी शुद्ध रहेगा नहीं क्योंकि उसको हम ग्रोथ जितनी जल्दी उसको ग्रुप होना चाहिए उसके हिसाब से हम उस में जाटों की फर्टिलाइजर का यूज करते हैं तो शुद्ध तो वैसे वह भी नहीं रहा लेकिन चलो फिर भी मैं यह समझता हूं कि आप जिस शुद्ध के बारे में बात कर रहे हैं वह यह है कि खेतों से सीधा कोल्हू में गया और जो तेल हमारे पास है वह शुद्ध है तो मेरे हिसाब से बजा रहा हूं मैं ऐसा शुद्ध नाम की तो कोई चीज है नहीं तो की चाय गांव के बाजार में भी चले जाओ अगर कोई अपने घर में भी तेल निकालेगा तो मिलावट करके भेजेगा क्योंकि इतना सीधा साधा इंसान तो मुझे लगता नहीं है कोई आज की डेट में जो बिल्कुल क्योंकि आज के कुछ साल पहले भी लोग तब मिलावट करते थे तो आज इतना तो लोग सुधर गए नहीं होंगे ठीक है तो बाकी बाकी अपनी-अपनी है अगर आपको पूरा शुद्ध तेल चाहिए तो आप खुद खेत में खेत खरीदी और उसमें वह गाय और साथ में फिर लेकर जाए उसको और कोलू से तेल निकला है वही होता है जो आंखों देखा गया बाकी तो हर चीज में मिलावट भाई
Sabase pahale jo shabd hai shuddh vah apane aap mein aaj badal chuka hai kyonki isaka koee seedha seedha matalab nahin rah gaya kyonki aap agar dekhen to shuddh kya hai agar har-har khet mein jahaan par bhee phasalen ugaee jaatee hai vahaan par yooriya yah sab to padata hai theek hai poora karate hain praakrtik khaate to rah nahin gaee to yah jo aartiphishiyal phartilaijars ka yooj kiya jaata hai yah bhee shuddh rahega nahin kyonki usako ham groth jitanee jaldee usako grup hona chaahie usake hisaab se ham us mein jaaton kee phartilaijar ka yooj karate hain to shuddh to vaise vah bhee nahin raha lekin chalo phir bhee main yah samajhata hoon ki aap jis shuddh ke baare mein baat kar rahe hain vah yah hai ki kheton se seedha kolhoo mein gaya aur jo tel hamaare paas hai vah shuddh hai to mere hisaab se baja raha hoon main aisa shuddh naam kee to koee cheej hai nahin to kee chaay gaanv ke baajaar mein bhee chale jao agar koee apane ghar mein bhee tel nikaalega to milaavat karake bhejega kyonki itana seedha saadha insaan to mujhe lagata nahin hai koee aaj kee det mein jo bilkul kyonki aaj ke kuchh saal pahale bhee log tab milaavat karate the to aaj itana to log sudhar gae nahin honge theek hai to baakee baakee apanee-apanee hai agar aapako poora shuddh tel chaahie to aap khud khet mein khet khareedee aur usamen vah gaay aur saath mein phir lekar jae usako aur koloo se tel nikala hai vahee hota hai jo aankhon dekha gaya baakee to har cheej mein milaavat bhaee

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • सबसे अच्छा सरसों का तेल कौन सा है, सबसे अच्छा सरसों का तेल कौन सा है, सरसों का तेल मूल्य
URL copied to clipboard