#जीवन शैली

satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
0:26
हाय प्लांट क्वेश्चन पूछे गए हैं कि हमें गलती करने का है साहस पहले क्यों नहीं होता है गलती करने के बाद ही क्यों होता है तो कोई भी व्यक्ति अगर गलती करता है तो उसके पैदा होता है वह उसका एहसास कभी भी उसके पहले नहीं हो सकता है क्योंकि अगर उसके पहले उसे गलती का एहसास होगा तो कभी भी गलती व्यक्ति नहीं करेगा इसलिए गलती करने के बाद जो होता है उसका एहसास बाद में होता है
Haay plaant kveshchan poochhe gae hain ki hamen galatee karane ka hai saahas pahale kyon nahin hota hai galatee karane ke baad hee kyon hota hai to koee bhee vyakti agar galatee karata hai to usake paida hota hai vah usaka ehasaas kabhee bhee usake pahale nahin ho sakata hai kyonki agar usake pahale use galatee ka ehasaas hoga to kabhee bhee galatee vyakti nahin karega isalie galatee karane ke baad jo hota hai usaka ehasaas baad mein hota hai

और जवाब सुनें

Sanjay Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sanjay जी का जवाब
𝔖𝔱𝔲𝔡𝔢𝔫𝔱 | 𝔈𝔡𝔲𝔠𝔞𝔱𝔦𝔬𝔫𝔦𝔰𝔱
0:47
हमें गलती करने का एहसास पहले क्यों नहीं होता गलती करने के बाद क्यों होता है लेकिन जब आप पहले कुछ करेंगे ही नहीं तो आप कैसे मालूम चलेगा कि आपने जो किया है वह गलत है कि सही है जवाब कुछ करेंगे तभी आपको उसका परिणाम मिलेगा परिणाम के हिसाब से अगर कोई स्टेशन पर आकर खड़े उतरता है तो वह सही आपने किया है अगर आपने आप लोग किए हैं वह स्थिति स्टेशन पर ही खड़ा उतार रहा है इसका मतलब है कि आपने कुछ न कुछ लिखने कमी रखी है बोलता है आपने कुछ गलत किया हो जब हम गलती कर देते हैं तो उसके बाद ही आने वाली खुलता है हालांकि यह बहुत जरूरी बात है अगर आप गलती कर चुके हैं कभी उन गलतियों से सबक जरूर देखें और आप समझ नहीं सकते हैं और बार-बार वही गलतियां दोहराते हैं तो आपके लिए हमेशा के लिए मुसीबत ही बनी रहेगी धन्यवाद
Hamen galatee karane ka ehasaas pahale kyon nahin hota galatee karane ke baad kyon hota hai lekin jab aap pahale kuchh karenge hee nahin to aap kaise maaloom chalega ki aapane jo kiya hai vah galat hai ki sahee hai javaab kuchh karenge tabhee aapako usaka parinaam milega parinaam ke hisaab se agar koee steshan par aakar khade utarata hai to vah sahee aapane kiya hai agar aapane aap log kie hain vah sthiti steshan par hee khada utaar raha hai isaka matalab hai ki aapane kuchh na kuchh likhane kamee rakhee hai bolata hai aapane kuchh galat kiya ho jab ham galatee kar dete hain to usake baad hee aane vaalee khulata hai haalaanki yah bahut jarooree baat hai agar aap galatee kar chuke hain kabhee un galatiyon se sabak jaroor dekhen aur aap samajh nahin sakate hain aur baar-baar vahee galatiyaan doharaate hain to aapake lie hamesha ke lie museebat hee banee rahegee dhanyavaad

डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
1:03
आपका पर्सनल कमेंट गलती करने के साथ पहले क्यों नहीं होता गलती करने के बाद क्या होता है कुछ उसके दोस्त तरह एक तो एक जानबूझकर जब गलती की जाती है तेरे साथ क्या होगा अभी मजा लेता है उसमें अपना तो कुछ तो दुष्ट प्रवृति के लोग होते हैं जो जानबूझकर गलती करते हैं बदला लेने की नहीं चलती करते हैं जब मैं दूसरों को परेशान के लिए करने के लिए की गलती करते हैं दूसरा उत्तर यह है कि जवाब कुछ करेंगे नहीं तो गलती कहां से हो गए जो गलती नहीं होगी तो गलती के साथ कहां से होगा प्लीज सामान्य जीवन में आदमी गतिविधियां करता है और उसमें जब उसको गलती उससे वह जाती है उसका परिणाम सामने आता तब से 700 तक उसने गलती की है समझे आप ना तो एक सामान्य सबवे सदाचारी आदमी के लिए उत्तर यही होगा कि जब वह करेगा तब गलती हो गलती हो जाएगी तब से सांसों का
Aapaka parsanal kament galatee karane ke saath pahale kyon nahin hota galatee karane ke baad kya hota hai kuchh usake dost tarah ek to ek jaanaboojhakar jab galatee kee jaatee hai tere saath kya hoga abhee maja leta hai usamen apana to kuchh to dusht pravrti ke log hote hain jo jaanaboojhakar galatee karate hain badala lene kee nahin chalatee karate hain jab main doosaron ko pareshaan ke lie karane ke lie kee galatee karate hain doosara uttar yah hai ki javaab kuchh karenge nahin to galatee kahaan se ho gae jo galatee nahin hogee to galatee ke saath kahaan se hoga pleej saamaany jeevan mein aadamee gatividhiyaan karata hai aur usamen jab usako galatee usase vah jaatee hai usaka parinaam saamane aata tab se 700 tak usane galatee kee hai samajhe aap na to ek saamaany sabave sadaachaaree aadamee ke lie uttar yahee hoga ki jab vah karega tab galatee ho galatee ho jaegee tab se saanson ka

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • हमें गलती करने का एहसास पहले क्यों नहीं होता गलती करने के बाद क्यों होता है हमें गलती करने का एहसास पहले क्यों नहीं होता
URL copied to clipboard