#undefined

bolkar speaker

भारतीय लोगों का जल्दी बुड्ढे होने का क्या कारण है?

Bhartiya Logon Ka Jaldi Buddhe Hone Ka Kya Kaaran Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:49
कृष्ण है कि भारतीय लोगों का जल्दी बुड्ढा होने का क्या कारण है देखिए हम बात करें भारतीय वातावरण की तो यह बात जगजाहिर है कि दिन-प्रतिदिन भारतीय कितना प्रतिशत एवं किसी विद्यालय के प्राणी चाहे वे फिर मानव हो या जीव-जंतु किसी के लिए भी किसी भी रुप से अनुकूल नहीं रहा है यह हालात दिन प्रतिदिन और प्रतिकूल में बिगड़ते जा रहे हैं वातावरण प्रदूषित होने की बात की जाए तो इसमें मानव का ही हाथ सबसे आगे है प्रदूषण आमतौर पर दीजिए और बड़े-बड़े महानगरों में आसानी से देखा जा सकता है और उनकी आम जिंदगी पर बुरी तरह प्रभावित कर रहा है इसका असर इतना ज्यादा बढ़ गया है कि अब इंसान पर उसके बुढ़ापे के रूप में देखा जा सकता है चेहरे पर झुर्रियां पड़ना श्रम भरी जिंदगी में मनुष्य को इस वातावरण का असर मनुष्य के बालों चेहरे और शरीर पर विभिन्न रूपों में देखा जाता है जरूरत से ज्यादा पानी का सेवन ऐसा माना जाता है कि ज्यादा पानी पीना हमारी सेहत के लिए अच्छा होता है क्या परंतु आप जानते हैं यदि जरूरत से ज्यादा पानी पिया जाए तो वह मुस्कान और शरीर समस्या का कारण बनता है जी हां सही सुना आपने यदि आप अपने आवश्यकता से ज्यादा पानी पीते हैं कि आपके शरीर में मौजूद आवश्यक पोषक तत्व जैसे सोडियम कैल्शियम जैसे तक बाहर निकालता रहता है और आप समय से पहले बूढ़े लगते हो खाने के तुरंत बाद पानी का सेवन करना भी फायदेमंद बिल्कुल भी नहीं होती अगर आप अपने खानपान संबंधी सागर जाहिर करते हैं अगर आप खाने के चटपटे खाने के शौकीन हैं तो भी मुख्य कारण बनता है भारतीय लोगों का जल्दी बुढ़ापे में आ जाना धन्यवाद
Krshn hai ki bhaarateey logon ka jaldee buddha hone ka kya kaaran hai dekhie ham baat karen bhaarateey vaataavaran kee to yah baat jagajaahir hai ki din-pratidin bhaarateey kitana pratishat evan kisee vidyaalay ke praanee chaahe ve phir maanav ho ya jeev-jantu kisee ke lie bhee kisee bhee rup se anukool nahin raha hai yah haalaat din pratidin aur pratikool mein bigadate ja rahe hain vaataavaran pradooshit hone kee baat kee jae to isamen maanav ka hee haath sabase aage hai pradooshan aamataur par deejie aur bade-bade mahaanagaron mein aasaanee se dekha ja sakata hai aur unakee aam jindagee par buree tarah prabhaavit kar raha hai isaka asar itana jyaada badh gaya hai ki ab insaan par usake budhaape ke roop mein dekha ja sakata hai chehare par jhurriyaan padana shram bharee jindagee mein manushy ko is vaataavaran ka asar manushy ke baalon chehare aur shareer par vibhinn roopon mein dekha jaata hai jaroorat se jyaada paanee ka sevan aisa maana jaata hai ki jyaada paanee peena hamaaree sehat ke lie achchha hota hai kya parantu aap jaanate hain yadi jaroorat se jyaada paanee piya jae to vah muskaan aur shareer samasya ka kaaran banata hai jee haan sahee suna aapane yadi aap apane aavashyakata se jyaada paanee peete hain ki aapake shareer mein maujood aavashyak poshak tatv jaise sodiyam kailshiyam jaise tak baahar nikaalata rahata hai aur aap samay se pahale boodhe lagate ho khaane ke turant baad paanee ka sevan karana bhee phaayademand bilkul bhee nahin hotee agar aap apane khaanapaan sambandhee saagar jaahir karate hain agar aap khaane ke chatapate khaane ke shaukeen hain to bhee mukhy kaaran banata hai bhaarateey logon ka jaldee budhaape mein aa jaana dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारतीय लोगों का जल्दी बुड्ढे होने का क्या कारण है भारतीय लोगों का जल्दी बुड्ढे होने का कारण
URL copied to clipboard