#भारत की राजनीति

bolkar speaker

ड्रग्स का धंधा करने वालों को कौन सी सजा मिलनी चाहिए?

Drugs Ka Dhandha Karne Valon Ko Kaun Si Saja Milni Chaiye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:12
दोस्तों प्रश्न है कि ड्रग्स का धंधा करने वालों को कौन सी सजा मिलनी चाहिए तो दोस्तों सजा तो का प्रावधान तो बहुत ज्यादा है इसके अंदर ऐसा नहीं है कि हमारे भारतीय कानून में सजाई कमी है जेल है और काफी सजा है इसके अंदर और आर्थिक रूप से भी फाइन है लेकिन प्रश्न उठता है कि सजा दे कौन हमारे जो है न्यायालय में इतने जो है फैसले पेंडिंग में रहते हैं या कई ऐसे होते हैं कि बड़ी होकर फिर वही काम करने लग जाते हैं ऐसा नहीं होता है कि पुलिस वालों को हमारे पता नहीं होता कि किस एरिया में ड्रग सप्लाई किया जाता है किसी जानकार खुफिया से ऐसी बातचीत दोस्तों में कर रहा था तो मैं आज से दो-तीन साल पहले तो बता रहा था पुलिस वालों को पता रहता हम कहीं को रिश्तेदार जाकर हम पता रहता है उनको फ्री में पैसे मिल रहे होते हैं वह चढ़ावा चढ़ा देते हैं तो पुलिस वालों की इनकम हो रही है तो क्यों ऐसा कोई बड़ी घटना नहीं होती है ऊपर से दबाव नहीं आता तो पुलिस वाले भी पंगा नहीं लेते ड्रग्स वाले भी हथियार वगैरा रखते काफी और बुखार भी होते हैं तो उनको आसानी से पैसा ही मिल रहा होता है भ्रष्टाचार तो है ही है हर जगह पर तो उसका समाधान नहीं कहते कानून तो आप कितने बनाते रहे कितनी भी सजा कर ले जब को पालन नहीं किया जाएगा तब तक सब कुछ व्यर्थ है धन्यवाद
Doston prashn hai ki drags ka dhandha karane vaalon ko kaun see saja milanee chaahie to doston saja to ka praavadhaan to bahut jyaada hai isake andar aisa nahin hai ki hamaare bhaarateey kaanoon mein sajaee kamee hai jel hai aur kaaphee saja hai isake andar aur aarthik roop se bhee phain hai lekin prashn uthata hai ki saja de kaun hamaare jo hai nyaayaalay mein itane jo hai phaisale pending mein rahate hain ya kaee aise hote hain ki badee hokar phir vahee kaam karane lag jaate hain aisa nahin hota hai ki pulis vaalon ko hamaare pata nahin hota ki kis eriya mein drag saplaee kiya jaata hai kisee jaanakaar khuphiya se aisee baatacheet doston mein kar raha tha to main aaj se do-teen saal pahale to bata raha tha pulis vaalon ko pata rahata ham kaheen ko rishtedaar jaakar ham pata rahata hai unako phree mein paise mil rahe hote hain vah chadhaava chadha dete hain to pulis vaalon kee inakam ho rahee hai to kyon aisa koee badee ghatana nahin hotee hai oopar se dabaav nahin aata to pulis vaale bhee panga nahin lete drags vaale bhee hathiyaar vagaira rakhate kaaphee aur bukhaar bhee hote hain to unako aasaanee se paisa hee mil raha hota hai bhrashtaachaar to hai hee hai har jagah par to usaka samaadhaan nahin kahate kaanoon to aap kitane banaate rahe kitanee bhee saja kar le jab ko paalan nahin kiya jaega tab tak sab kuchh vyarth hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • ड्रग्स का धंधा करने वालों को कौन सी सजा मिलनी चाहिए
URL copied to clipboard