#undefined

bolkar speaker

अरुणाचल प्रदेश में बना गांव पर चीन और भारत की टिप्पणी?

Arunachal Pradesh Mein Bana Gaanv Par China Aur Bharat Ki Tipni
Naayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Naayank जी का जवाब
College
1:42
नमस्कार श्रोता अरुणाचल प्रदेश की सीमा में साढे 4 किलोमीटर भीतर गांव बचाने को लेकर चीन ने गुरुवार को एक हेकड़ी वाली प्रतिक्रिया जताई है चीन के विदेश मंत्रालय ने बीजिंग में गुरुवार को कहा कि वह अपने खुद के क्षेत्र में निर्माण कर रहा है और उसकी विकास व निर्माण गतिविधियों का सामान्य तथा दोषारोपण से परे हैं चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा जंगलात क्षेत्र यानी दक्षिण तिब्बत पर चीन की स्थिति स्पष्ट है और स्थिर हैं हमने कभी भी अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं थी चीन अरुणाचल प्रदेश को दक्षिण तिब्बत का हिस्सा बताता है जबकि भारत हमेशा कहते रहे कि अरुणाचल उसका अभिन्न हिस्सा है चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने आगे कहा कि हमारे खुद के क्षेत्र में चीन के विकास व निर्माण गतिविधियां सामान्य उन्होंने कहा यह दोषारोपण से पड़े क्योंकि हमारा क्षेत्र है भारत ने इस पर सीधी प्रतिक्रिया देते हुए सोमवार को कहा था कि दे सेफ्टी सुरक्षा पर असर डालने वाली सभी गतिविधियों पर लगातार नजर रखता और अपनी संप्रभुता तथा क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाता है नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत ने सीमावर्ती क्षेत्रों में अपने नागरिकों की आजीविका में सुधार के लिए सड़कों और पुलों सहित बुनियादी ढांचे का निर्माण करती है एक जरूरी बात और कि अरुणाचल प्रदेश में चीन के नया गांव स्थापित करने की खबर ऐसे समय आई है जब भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में 8 महीने से अधिक समय से सैन्य गतिरोध बना हुआ है दोनों देशों के बीच कई दौर की सैन्य और कूटनीतिक वार्ता के बाद भी गतिरोध का अब तक कोई समाधान नहीं निकल पाया धन्यवाद
Namaskaar shrota arunaachal pradesh kee seema mein saadhe 4 kilomeetar bheetar gaanv bachaane ko lekar cheen ne guruvaar ko ek hekadee vaalee pratikriya jataee hai cheen ke videsh mantraalay ne beejing mein guruvaar ko kaha ki vah apane khud ke kshetr mein nirmaan kar raha hai aur usakee vikaas va nirmaan gatividhiyon ka saamaany tatha doshaaropan se pare hain cheenee videsh mantraalay kee pravakta ne kaha jangalaat kshetr yaanee dakshin tibbat par cheen kee sthiti spasht hai aur sthir hain hamane kabhee bhee arunaachal pradesh ko maanyata nahin thee cheen arunaachal pradesh ko dakshin tibbat ka hissa bataata hai jabaki bhaarat hamesha kahate rahe ki arunaachal usaka abhinn hissa hai cheenee videsh mantraalay kee pravakta ne aage kaha ki hamaare khud ke kshetr mein cheen ke vikaas va nirmaan gatividhiyaan saamaany unhonne kaha yah doshaaropan se pade kyonki hamaara kshetr hai bhaarat ne is par seedhee pratikriya dete hue somavaar ko kaha tha ki de sephtee suraksha par asar daalane vaalee sabhee gatividhiyon par lagaataar najar rakhata aur apanee samprabhuta tatha kshetreey akhandata kee raksha ke lie aavashyak kadam uthaata hai naee dillee mein videsh mantraalay ne kaha ki bhaarat ne seemaavartee kshetron mein apane naagarikon kee aajeevika mein sudhaar ke lie sadakon aur pulon sahit buniyaadee dhaanche ka nirmaan karatee hai ek jarooree baat aur ki arunaachal pradesh mein cheen ke naya gaanv sthaapit karane kee khabar aise samay aaee hai jab bhaarat aur cheen ke beech poorvee laddaakh mein 8 maheene se adhik samay se sainy gatirodh bana hua hai donon deshon ke beech kaee daur kee sainy aur kootaneetik vaarta ke baad bhee gatirodh ka ab tak koee samaadhaan nahin nikal paaya dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अरुणाचल प्रदेश में बना गांव पर चीन और भारत की टिप्पणी अरुणाचल प्रदेश में बना गांव
URL copied to clipboard