#पढ़ाई लिखाई

Aakancha Shaw Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aakancha जी का जवाब
Unknown
0:59
यह क्वेश्चन दो तरीके से देखा जा सकता है ऑनलाइन क्लास में जैसा कि हमें पता है बच्चे चीटिंग जरूर करेंगे तो वह कुछ सीखेंगे नहीं है क्योंकि जब ऑनलाइन होगी तो भी कुछ नहीं कुछ पड़ेंगे और ना ही कुछ सीखेंगे अल्टीमेटली चीटिंग करके एग्जाम देंगे दूसरी तरफ देखा जाए तो यह घर ऑनलाइन ऑफलाइन एग्जाम होते हैं तो वह चीज को सोच कर इसी से डरकर अट लीस्ट कुछ तो पड़ेंगे कुछ तो सीखेंगे कि ऑफलाइन वहां पर चैटिंग नहीं कर पाएंगे क्योंकि अगर चीटिंग करके एक्जाम देना है तब तो भी कुछ भी नहीं सीखेंगे एंड शिक्षा का मेन मोटे तो होता है ना तो उनको नॉलेज की नहीं होगा तब फिर दूसरी क्लास में अगर वह प्रमोट वह भी जाएंगे तब वे उस क्लास के सिलेबस को समझ नहीं पाएंगे क्योंकि वह चीटिंग करके एग्जाम देंगे इस चीज को दो नजरिए से देखा जा सकता है
Yah kveshchan do tareeke se dekha ja sakata hai onalain klaas mein jaisa ki hamen pata hai bachche cheeting jaroor karenge to vah kuchh seekhenge nahin hai kyonki jab onalain hogee to bhee kuchh nahin kuchh padenge aur na hee kuchh seekhenge alteemetalee cheeting karake egjaam denge doosaree taraph dekha jae to yah ghar onalain ophalain egjaam hote hain to vah cheej ko soch kar isee se darakar at leest kuchh to padenge kuchh to seekhenge ki ophalain vahaan par chaiting nahin kar paenge kyonki agar cheeting karake ekjaam dena hai tab to bhee kuchh bhee nahin seekhenge end shiksha ka men mote to hota hai na to unako nolej kee nahin hoga tab phir doosaree klaas mein agar vah pramot vah bhee jaenge tab ve us klaas ke silebas ko samajh nahin paenge kyonki vah cheeting karake egjaam denge is cheej ko do najarie se dekha ja sakata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • रोना महामारी के कारण सभी छात्रों की ऑनलाइन कक्षाएं लगी तो अब क्या हम छात्रों को ऑफलाइन मोड में परीक्षा देना उचित रहेगा, क्या हम छात्रों को ऑफलाइन मोड में परीक्षा देना उचित रहेगा
URL copied to clipboard