#जीवन शैली

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:02
तो आज आप का सवाल है कि अगर किसी एक व्यक्ति को जमाई आता है तो दूसरे व्यक्ति को जमाई क्यों आता है जब भी कोई मतलब जैसे कि आप जाते हैं या फिर भी ऐसे कोई रिस्क एरिया में अगर गाड़ी गाड़ी में जा रहे हो तो कहा जाता है कि जमाई नहीं मारने के लिए बना ड्राइवर को भी प्रॉब्लम हो सकता है तो जब भी कोई भी इंसान आपके आसपास जमाई मारता है इसका मतलब ऑक्सीजन वह बहुत ज्यादा रेट में ले लेता अमृतसर आने में जितना भी तैयार है उसमें जो ऑक्सीजन हो बहुत ज्यादा मात्रा में ले लेता है सामने वाले को भी देखी सांस लेने के लिए ऑप्शन चाहिए तो अब उसके पास ऑक्सीजन की कमी पड़ती है इस वजह से वह भी मतलब जमाई मारने लगता कि उसे व्यक्ति जन्म चाहिए फिर उसे देखकर तीसरे इंसान के पास ऑक्सीजन की कमी पड़ने लगती है वह सांसद जी से नहीं पाता तो फिर यह प्रक्रिया चलती रहती है
To aaj aap ka savaal hai ki agar kisee ek vyakti ko jamaee aata hai to doosare vyakti ko jamaee kyon aata hai jab bhee koee matalab jaise ki aap jaate hain ya phir bhee aise koee risk eriya mein agar gaadee gaadee mein ja rahe ho to kaha jaata hai ki jamaee nahin maarane ke lie bana draivar ko bhee problam ho sakata hai to jab bhee koee bhee insaan aapake aasapaas jamaee maarata hai isaka matalab okseejan vah bahut jyaada ret mein le leta amrtasar aane mein jitana bhee taiyaar hai usamen jo okseejan ho bahut jyaada maatra mein le leta hai saamane vaale ko bhee dekhee saans lene ke lie opshan chaahie to ab usake paas okseejan kee kamee padatee hai is vajah se vah bhee matalab jamaee maarane lagata ki use vyakti janm chaahie phir use dekhakar teesare insaan ke paas okseejan kee kamee padane lagatee hai vah saansad jee se nahin paata to phir yah prakriya chalatee rahatee hai

और जवाब सुनें

Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
0:54
फिर किसी एक व्यक्ति को जमाई आता है तो दूसरे व्यक्ति को जब मैं चाहता है कि एक को जमाई आ गया तो दूसरे को भी आने लगता है ऐसा कुछ भी नहीं है कि एक लेकिन का जमाई दूसरे में प्रवेश कर दिया तो मनोवैज्ञानिक दृष्टि छोड़ दूसरे रेलगाड़ी में सफर करते हो आप जाग रहे होते हैं और पीछे देखो यार सभी के सभी सो रहे हैं मैं अकेला कैसे बैठा हूं तूने चलो मैं भी सो जाता रहा है और दूसरा भी आ जाता है तो ऐसा कुछ भी नहीं है कि एक के आने से दूसरे को भी आ जाती है
Phir kisee ek vyakti ko jamaee aata hai to doosare vyakti ko jab main chaahata hai ki ek ko jamaee aa gaya to doosare ko bhee aane lagata hai aisa kuchh bhee nahin hai ki ek lekin ka jamaee doosare mein pravesh kar diya to manovaigyaanik drshti chhod doosare relagaadee mein saphar karate ho aap jaag rahe hote hain aur peechhe dekho yaar sabhee ke sabhee so rahe hain main akela kaise baitha hoon toone chalo main bhee so jaata raha hai aur doosara bhee aa jaata hai to aisa kuchh bhee nahin hai ki ek ke aane se doosare ko bhee aa jaatee hai

Gopal rana Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gopal जी का जवाब
Unknown
0:31
अगर किसी एक व्यक्ति को जम्हाई आता है तो दूसरे व्यक्ति को जमा इसलिए आ जाता है क्योंकि जमाई का तात्पर्य जो होता है शरीर जब तक जाता है दूसरे रूप जो प्रतिक्रिया है इंसान के पास होती है वह ऑटोमेटिक लिया हो जाता है आवाज जमाई लेना पड़ता है जब दूसरे व्यक्ति को देखता है तो उसको भी जमाई लाने लगता है क्योंकि यह एक अनैच्छिक क्रिया के रूप में प्रदर्शित करता है
Agar kisee ek vyakti ko jamhaee aata hai to doosare vyakti ko jama isalie aa jaata hai kyonki jamaee ka taatpary jo hota hai shareer jab tak jaata hai doosare roop jo pratikriya hai insaan ke paas hotee hai vah otometik liya ho jaata hai aavaaj jamaee lena padata hai jab doosare vyakti ko dekhata hai to usako bhee jamaee laane lagata hai kyonki yah ek anaichchhik kriya ke roop mein pradarshit karata hai

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
2:19
अगर किसी एक व्यक्ति को जमाई आती है तो दूसरे व्यक्ति को जमाई क्यों आती है यह थोड़ी साइकोलॉजिकल बात भी है और जब एक व्यक्ति को जमाई जाती है जो दूसरा बच्ची होता है स्कूल के प्रति सहानुभूति देने का एक संकेत के रूप में उसको भी जमाई आती है यह भी जमाई जी पर एक सर्वेक्षण में ऐसी बातें बताई गई है क्या इस तरीके से ज्यादा करके जो हम हमारे करीबी लोग होते हैं और उनको जमा जमाई आती है तो हम उसको संचिके जानबूझ को दर्शाने के लिए जमाई देते हैं लेकिन अगर अनजान व्यक्ति कोई हो तो यह बात तो ऐसी घटती नहीं इसका मतलब यह होता है कि यह एक साइकोलॉजिकल बात है और यह जो सामने व्यक्ति कौन है उस पर डिपेंड करता है नहीं तो अनजान व्यक्ति के बारे में भी हो जाता इसमें ज्यादा कुछ कोई संशोधन तब तो नहीं है सिर्फ कई सर्वेक्षण धन्यवाद
Agar kisee ek vyakti ko jamaee aatee hai to doosare vyakti ko jamaee kyon aatee hai yah thodee saikolojikal baat bhee hai aur jab ek vyakti ko jamaee jaatee hai jo doosara bachchee hota hai skool ke prati sahaanubhooti dene ka ek sanket ke roop mein usako bhee jamaee aatee hai yah bhee jamaee jee par ek sarvekshan mein aisee baaten bataee gaee hai kya is tareeke se jyaada karake jo ham hamaare kareebee log hote hain aur unako jama jamaee aatee hai to ham usako sanchike jaanaboojh ko darshaane ke lie jamaee dete hain lekin agar anajaan vyakti koee ho to yah baat to aisee ghatatee nahin isaka matalab yah hota hai ki yah ek saikolojikal baat hai aur yah jo saamane vyakti kaun hai us par dipend karata hai nahin to anajaan vyakti ke baare mein bhee ho jaata isamen jyaada kuchh koee sanshodhan tab to nahin hai sirph kaee sarvekshan dhanyavaad

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:25
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है अगर किसी एक व्यक्ति को जब माई आती है तो दूसरे व्यक्ति को जम्हाई क्यों आती है तो फ्रेंड से यह एक नेचुरल है ऐसा होता है अगर एक व्यक्ति को जमाई जाती है यह कलेक्शन होता है तो उसको देखने से ही ऐसा हो जाता है अगर किसी को जमाई आ रही है तो हमें भी आने लगती है यह एहसास होता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai agar kisee ek vyakti ko jab maee aatee hai to doosare vyakti ko jamhaee kyon aatee hai to phrend se yah ek nechural hai aisa hota hai agar ek vyakti ko jamaee jaatee hai yah kalekshan hota hai to usako dekhane se hee aisa ho jaata hai agar kisee ko jamaee aa rahee hai to hamen bhee aane lagatee hai yah ehasaas hota hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard