#undefined

bolkar speaker

किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?

Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:21
किन लोगों को कोरोनावायरस इन नहीं लगनी चाहिए दोस्तों कोरोनावायरस इन हर एक भारतीय के लिए तैयार की गई है और इस वैक्सीन के ऊपर किस व्यक्ति का अधिकार नहीं होना चाहिए होना चाहिए तो मैं यह कहूंगा कि यह दोस्तों हर व्यक्ति को लगनी चाहिए और एक्शन उन लोगों को नहीं लगनी चाहिए जिन लोगों को वैक्सीन लगने से कुछ परेशानी ना हो जाए
Kin logon ko koronaavaayaras in nahin laganee chaahie doston koronaavaayaras in har ek bhaarateey ke lie taiyaar kee gaee hai aur is vaikseen ke oopar kis vyakti ka adhikaar nahin hona chaahie hona chaahie to main yah kahoonga ki yah doston har vyakti ko laganee chaahie aur ekshan un logon ko nahin laganee chaahie jin logon ko vaikseen lagane se kuchh pareshaanee na ho jae

और जवाब सुनें

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
KamalKishorAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए KamalKishorAwasthi जी का जवाब
घर पर ही रहता हूं बैटरी बनाने का कार्य करता हूं और मोबाइल रिचार्ज इत्यादि
1:54
सवाल है किन लोगों को कोरोनावायरस इन नहीं लगवानी चाहिए देखिए भारत में कोरोनावायरस से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो गया है अभी तक लगभग 600000 लोगों को कोरोनावायरस इन लग चुकी है इस वैक्सीन को लगाने के बाद बहुत से लोगों ने इसके साइड इफेक्ट की शिकायत की है ऐसे में बाकि जनता के मन में इस वैक्सीन को लेकर खौफ पैदा हो गया है लोगों की इसी कशमकश के बीच आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि किन लोगों को कोरोनावायरस ही नहीं लगानी चाहिए कोरोनावायरस इन बनाने वाली भारत बायोटेक ने कुछ लोगों को यह वैक्सीन ना लगाने की सलाह दी है जिसमें आते हैं लो इम्यूनिटी वाले लोग जो लोग ऐसी दवाई ले रहे हैं जिससे उनकी इम्यूनिटी पर असर पड़ता है ऐसे लोगों पूर्णा की बैटिंग नहीं लगानी चाहिए इसके अलावा प्रेग्नेंट महिलाओं को प्रेग्नेंट और ब्रेस्ट फीडिंग करवाने वाली महिलाओं को कोरोनावायरस नहीं लगानी चाहिए क्योंकि इन पर इस वैक्सीन की स्टडी नहीं की गई है साथ ही जिन लोगों ने भी दूसरी वैक्सीन लगाई है उन्हें भी करो ना कि कोरोनावायरस नहीं लगानी चाहिए जिन लोगों को भी कोविड-19 में मौजूद एक दीदी एंड एलर्जी है तो उन लोगों को को बिल्कुल नहीं लगानी चाहिए इसके साथ ही कोविड-19 की पहली रोज लगाने के बाद अगर आपको एलर्जी होती है तो आपको दूसरी बेड सीन बिल्कुल नहीं लगानी चाहिए धन्यवाद
Savaal hai kin logon ko koronaavaayaras in nahin lagavaanee chaahie dekhie bhaarat mein koronaavaayaras se ladane ke lie vaikseeneshan shuroo ho gaya hai abhee tak lagabhag 600000 logon ko koronaavaayaras in lag chukee hai is vaikseen ko lagaane ke baad bahut se logon ne isake said iphekt kee shikaayat kee hai aise mein baaki janata ke man mein is vaikseen ko lekar khauph paida ho gaya hai logon kee isee kashamakash ke beech aaj ham aapako bataane ja rahe hain ki kin logon ko koronaavaayaras hee nahin lagaanee chaahie koronaavaayaras in banaane vaalee bhaarat baayotek ne kuchh logon ko yah vaikseen na lagaane kee salaah dee hai jisamen aate hain lo imyoonitee vaale log jo log aisee davaee le rahe hain jisase unakee imyoonitee par asar padata hai aise logon poorna kee baiting nahin lagaanee chaahie isake alaava pregnent mahilaon ko pregnent aur brest pheeding karavaane vaalee mahilaon ko koronaavaayaras nahin lagaanee chaahie kyonki in par is vaikseen kee stadee nahin kee gaee hai saath hee jin logon ne bhee doosaree vaikseen lagaee hai unhen bhee karo na ki koronaavaayaras nahin lagaanee chaahie jin logon ko bhee kovid-19 mein maujood ek deedee end elarjee hai to un logon ko ko bilkul nahin lagaanee chaahie isake saath hee kovid-19 kee pahalee roj lagaane ke baad agar aapako elarjee hotee hai to aapako doosaree bed seen bilkul nahin lagaanee chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:48
प्रश्न है इन लोगों को कोरोनावायरस इन नहीं लगानी चाहिए कि प्रिंट क्या है कि जब से एक करो ना कि वैक्सीन का अभियान शुरू हो गया है टीकाकरण का तो लोगों में कोरोनावायरस इन को लेकर बहुत शंका बनी हुई है लोगों के मन में सवाल यह है कि आखिर किन लोगों को यह वैक्सीन लगवानी चाहिए यह किन लोगों को पैसे नहीं लगानी चाहिए जब से टीकाकरण का अभियान शुरू हो चुका है और 16 फरवरी को मनीष कुमार को दिल्ली में पहला टीका लगाया गया उसके अलावा दिखा जा 300000 सूरज स्वास्थ्य कर्मचारियों को कोरोनावायरस इन दी जाएगी और इसके अलावा देखा जाए तो किन लोगों को प्रश्न है कि लोगों को वैक्सीन नहीं लगानी चाहिए लेकिन स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी इस फैक्ट शीट में पड़ा हुआ है कि जो 18 साल से कम उम्र के बच्चे हैं उन्हें नहीं लगानी चाहिए क्योंकि यह बच्चों पर ट्रायल नहीं हुआ है और कोई भी व्यक्ति बच्चों के लिए स्टडी नहीं की गई है इस वजह से नहीं लगानी चाहिए उनके अलावा गर्भवती महिलाओं स्तनपान कराने वाली माताओं उन महिलाओं को वॉशिंग नहीं दी जाए जाएगी जो गर्भ अवस्था को लेकर सुनिश्चित नहीं दरअसल गर्भवती महिलाओं की कोरोनावायरस इन जो है इसका डाटा कलेक्ट नहीं किया गया ना अभी देखा जाए तो भी इसका कोई भी बेटा नहीं मिला है इसके अलावा लोगों को भी यह कोरोना वैक्सीन नहीं लगानी चाहिए जिसको जैसे पहली बार अगर कोरोनावायरस लगाई गई उसे ना प्लीज या एलर्जी रिएक्शन हो जाता है उन्हें भी दूसरी दूज नहीं दी जाएगी क्योंकि इन एप्लिक्स इस घातक साबित हो सकता है इसके अलावा एज इन टेबल थैरेपिया फरमाइश शिव टिकट प्रोडक्ट खाद्य पदार्थ के कारण आपकी शरीर में एलर्जी या रिएक्शन हो जा रहे हैं उनको भी वैक्सिंग नहीं देगी दी जाएगी और नहीं लगानी चाहिए और दूसरी बात है कि आपको साहस को भी टू के लक्षण अगर दिखाई देते हैं तो उन्हें भी एक कोरोनावायरस इन नहीं लगानी चाहिए या नहीं लगाई जाएगी उसके अलावा देखा जाए तो उन लोगों को लगाई जाएगी जिसे क्या होगा कि सिर दर्द थकान बुखार बदन दर्द या पेट दर्द उल्टी चक्कर आना इंजेक्शन लगाने के बाद ऐसा हो सकता है कभी कभी सूजन भी हो सकता है कि उसे घबराना नहीं चाहिए और घबराने की बात नहीं है तू इन लोगों को एक कोरोनावायरस इन नहीं लगानी चाहिए और सरकार की तरफ से स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से यह भी कहा गया है कि लोग लोगों को हम खुद ही नहीं लगाएंगे
Prashn hai in logon ko koronaavaayaras in nahin lagaanee chaahie ki print kya hai ki jab se ek karo na ki vaikseen ka abhiyaan shuroo ho gaya hai teekaakaran ka to logon mein koronaavaayaras in ko lekar bahut shanka banee huee hai logon ke man mein savaal yah hai ki aakhir kin logon ko yah vaikseen lagavaanee chaahie yah kin logon ko paise nahin lagaanee chaahie jab se teekaakaran ka abhiyaan shuroo ho chuka hai aur 16 pharavaree ko maneesh kumaar ko dillee mein pahala teeka lagaaya gaya usake alaava dikha ja 300000 sooraj svaasthy karmachaariyon ko koronaavaayaras in dee jaegee aur isake alaava dekha jae to kin logon ko prashn hai ki logon ko vaikseen nahin lagaanee chaahie lekin svaasthy aur parivaar kalyaan mantraalay kee or se jaaree is phaikt sheet mein pada hua hai ki jo 18 saal se kam umr ke bachche hain unhen nahin lagaanee chaahie kyonki yah bachchon par traayal nahin hua hai aur koee bhee vyakti bachchon ke lie stadee nahin kee gaee hai is vajah se nahin lagaanee chaahie unake alaava garbhavatee mahilaon stanapaan karaane vaalee maataon un mahilaon ko voshing nahin dee jae jaegee jo garbh avastha ko lekar sunishchit nahin darasal garbhavatee mahilaon kee koronaavaayaras in jo hai isaka daata kalekt nahin kiya gaya na abhee dekha jae to bhee isaka koee bhee beta nahin mila hai isake alaava logon ko bhee yah korona vaikseen nahin lagaanee chaahie jisako jaise pahalee baar agar koronaavaayaras lagaee gaee use na pleej ya elarjee riekshan ho jaata hai unhen bhee doosaree dooj nahin dee jaegee kyonki in epliks is ghaatak saabit ho sakata hai isake alaava ej in tebal thairepiya pharamaish shiv tikat prodakt khaady padaarth ke kaaran aapakee shareer mein elarjee ya riekshan ho ja rahe hain unako bhee vaiksing nahin degee dee jaegee aur nahin lagaanee chaahie aur doosaree baat hai ki aapako saahas ko bhee too ke lakshan agar dikhaee dete hain to unhen bhee ek koronaavaayaras in nahin lagaanee chaahie ya nahin lagaee jaegee usake alaava dekha jae to un logon ko lagaee jaegee jise kya hoga ki sir dard thakaan bukhaar badan dard ya pet dard ultee chakkar aana injekshan lagaane ke baad aisa ho sakata hai kabhee kabhee soojan bhee ho sakata hai ki use ghabaraana nahin chaahie aur ghabaraane kee baat nahin hai too in logon ko ek koronaavaayaras in nahin lagaanee chaahie aur sarakaar kee taraph se svaasthy mantraalay kee taraph se yah bhee kaha gaya hai ki log logon ko ham khud hee nahin lagaenge

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:45
हेलो एवरीवन तो आज आप का सवाल है कि किन लोगों को कोरोनावायरस इन नहीं लगवाने चाहिए तो दिखे जितना भी रिपोर्ट्स और न्यूज़ में पता चला है जब आप 10 दिन लगवाने के लिए जाते हैं तो जो भी प्रॉब्लम है अगर आपको किसी तरह का एलर्जी है या फिर आप कोई मेडिसिन खाते हैं या फिर आप अगर पहले से कोरोनावायरस आपने कोई दवाई या या फिर कहीं से कोई व्यक्ति ने आपने लिया है या फिर आप प्रेग्नेंट है तो ऐसी जो भी आपके मतलब प्रॉब्लम है अगर आप मुझसे इसमें से कुछ भी बताती है तो आप को बैंक से नहीं दी जाएगी तो जिन लोगों के पास मतलब गलत जगह से एक भी चीज है जैसे प्रेग्नेंट एलर्जी या कोई भी तरह का मेडिसिन तो वैसे व्यक्ति अभी तक जितना पता चला या नहीं दी जाएगी
Helo evareevan to aaj aap ka savaal hai ki kin logon ko koronaavaayaras in nahin lagavaane chaahie to dikhe jitana bhee riports aur nyooz mein pata chala hai jab aap 10 din lagavaane ke lie jaate hain to jo bhee problam hai agar aapako kisee tarah ka elarjee hai ya phir aap koee medisin khaate hain ya phir aap agar pahale se koronaavaayaras aapane koee davaee ya ya phir kaheen se koee vyakti ne aapane liya hai ya phir aap pregnent hai to aisee jo bhee aapake matalab problam hai agar aap mujhase isamen se kuchh bhee bataatee hai to aap ko baink se nahin dee jaegee to jin logon ke paas matalab galat jagah se ek bhee cheej hai jaise pregnent elarjee ya koee bhee tarah ka medisin to vaise vyakti abhee tak jitana pata chala ya nahin dee jaegee

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:39
सवाल है कि किन लोगों को पूर्ण आवृत्ति नहीं लगवाने चाहिए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी इस फैक्ट शीट में दर्ज जानकारी के मुताबिक 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को ही दोनों वैक्सिंग दी जा सकती है दरअसल बच्चे में कोरोनावायरस इन की स्टडी नहीं की गई है इसलिए बच्चों को कोरोनावायरस इन देने की इजाजत नहीं दी गई है इसके अलावा गर्भवती महिलाओं तन पान कराने वाली माताओं या उन महिलाओं को भी व्यक्ति नहीं दी जाएगी जो अपनी गर्भावस्था को लेकर सुनिश्चित नहीं है दरअसल गर्भवती महिलाओं में कोरोना वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर कोई डाटा कलेक्ट नहीं किया गया है इसके अलावा जिन लोगों को कोरोनावायरस इन दी जा चुकी है और उनको एनाफायलैक्सिस या एलर्जी रिएक्शन हो जाता है तो उन्हें वैक्सीन की दूसरी दोष नहीं दी जाएगी एनफ्लेक्सिस घातक साबित हो सकती है इसके अलावा इंजेक्टबल थेरेपी फॉर एमएससी टिकल छोटा खाद पदार्थ आदि के कारण पहले यह बाद में एलर्जी या किसी भी प्रकार का रिएक्शन का सामना करना पड़ता है तो ऐसे लोगों को भी कोरोनावायरस इन नहीं दी जाएगी इसके अलावा जिन में आर एस टी यू वी 2 के लक्षण दिखाई देते हैं तो उन्हें व्यक्ति नहीं लगेगी वहीं किसी भी बीमार के मरीज या अस्पताल में भर्ती मरीज को भी व्यक्ति नहीं दी जाएगी व्यक्ति जिन लोगों को दी जाएगी उन्हें सर दर्द थकान बुखार बदन दर्द पेट दर्द उल्टी चक्कर आना खासी का इंजेक्शन लगा है वहां सूजन आना यह दर्द होने जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है लेकिन लक्ष्य से घबराने की जरूरत नहीं है
Savaal hai ki kin logon ko poorn aavrtti nahin lagavaane chaahie svaasthy aur parivaar kalyaan mantraalay kee or se jaaree is phaikt sheet mein darj jaanakaaree ke mutaabik 18 saal se jyaada umr ke logon ko hee donon vaiksing dee ja sakatee hai darasal bachche mein koronaavaayaras in kee stadee nahin kee gaee hai isalie bachchon ko koronaavaayaras in dene kee ijaajat nahin dee gaee hai isake alaava garbhavatee mahilaon tan paan karaane vaalee maataon ya un mahilaon ko bhee vyakti nahin dee jaegee jo apanee garbhaavastha ko lekar sunishchit nahin hai darasal garbhavatee mahilaon mein korona vaikseen kee suraksha ko lekar koee daata kalekt nahin kiya gaya hai isake alaava jin logon ko koronaavaayaras in dee ja chukee hai aur unako enaaphaayalaiksis ya elarjee riekshan ho jaata hai to unhen vaikseen kee doosaree dosh nahin dee jaegee enaphleksis ghaatak saabit ho sakatee hai isake alaava injektabal therepee phor emesasee tikal chhota khaad padaarth aadi ke kaaran pahale yah baad mein elarjee ya kisee bhee prakaar ka riekshan ka saamana karana padata hai to aise logon ko bhee koronaavaayaras in nahin dee jaegee isake alaava jin mein aar es tee yoo vee 2 ke lakshan dikhaee dete hain to unhen vyakti nahin lagegee vaheen kisee bhee beemaar ke mareej ya aspataal mein bhartee mareej ko bhee vyakti nahin dee jaegee vyakti jin logon ko dee jaegee unhen sar dard thakaan bukhaar badan dard pet dard ultee chakkar aana khaasee ka injekshan laga hai vahaan soojan aana yah dard hone jaisee samasya ka saamana karana pad sakata hai lekin lakshy se ghabaraane kee jaroorat nahin hai

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:52
बस वाले की किन लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने नहीं लगानी चाहिए तो जो 18 साल की उम्र के लोगों ने 21 सिंधी जा सकते हैं दरअसल बच्चों को बोलना वैक्सीन की स्टडी नहीं की गई इसलिए बच्चों को पढ़ाना एक सिम देने की इजाजत नहीं हो इसे दिल ना लगाना नहीं चाहिए दूसरा जो गर्भवती महिला या स्तनपान कराने वाली माताओं या इन महिलाओं को भी वैक्सिंग नहीं लगानी चाहिए गर्भावस्था को लेकर सुनिश्चित नहीं की दरअसल करो व्यवस्था मेला में पुराना एक्शन की सुरक्षा को लेकर कोविड-19 लाइक नहीं किया गया है तो इसलिए इन लोगों को पुराना सिम की दवाई नहीं लगानी चाहिए
Bas vaale kee kin logon ko korona vaikseen lagaane nahin lagaanee chaahie to jo 18 saal kee umr ke logon ne 21 sindhee ja sakate hain darasal bachchon ko bolana vaikseen kee stadee nahin kee gaee isalie bachchon ko padhaana ek sim dene kee ijaajat nahin ho ise dil na lagaana nahin chaahie doosara jo garbhavatee mahila ya stanapaan karaane vaalee maataon ya in mahilaon ko bhee vaiksing nahin lagaanee chaahie garbhaavastha ko lekar sunishchit nahin kee darasal karo vyavastha mela mein puraana ekshan kee suraksha ko lekar kovid-19 laik nahin kiya gaya hai to isalie in logon ko puraana sim kee davaee nahin lagaanee chaahie

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Rohit Soni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Journalism
1:14
भारत में बड़े स्केल पर बयान में कौन बड़े स्तर पर कोरोना वैक्सीन लगाने कार्यक्रम शुरु कर दिया है जिसके तहत बहुत से लोगों को शुरुआत में संतुलन वर्करों को इसे वैक्सीन लगाने का मौका दिया जा रहा है बहुत सी जगह सवार युवक ने किन-किन लोगों को ही व्यक्ति लगवानी चाहिए किन-किन लोगों पर व्यक्ति नहीं लगानी चाहिए जो महिला 60 साल से ऊपर की आयु की है या फिर जिस मिला है जिस पुरुष को तू ही गंभीर बीमारी की समस्याएं जैसे ब्लड प्रेशर लो बीपी की बीमारी है शुगर की बीमारी या कोई अन्य कोई ऐसी गंभीर समस्या है जो कि उसके शरीर के खून में मिश्रित है तो आप अभी इस व्यक्ति को ना लगाएं और आपसे मैं यह कहना चाहूंगा आप भी अभी समय सतर्क रहें क्योंकि के कोरोनावायरस है यह उन लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक है जिन लोगों को पहले स्कूल ब्लड प्रेशर और शुगर जैसी बीमारियां हैं या कोई ऑलरेडी बहुत ज्यादा बीमार है या कोई 60 साल से ऊपर का है इनके शरीर के अंदरूनी जो व्हाट्सएप सही से काम करना बंद कर गया पूरी तरह काम करना नहीं कर रहे उन लोगों के लिए खोना वायरस फॉर आपकी उम्र 60 साल से ज्यादा है और कोई व्यक्ति आपको फोन कर रहा है कौन है सिलवाने के लिए तो आपसे बिल्कुल मना कर दें आप अभी घर से बाहर मास्टर आगे निकले और जहां तक हो सके बनाए रखें
Bhaarat mein bade skel par bayaan mein kaun bade star par korona vaikseen lagaane kaaryakram shuru kar diya hai jisake tahat bahut se logon ko shuruaat mein santulan varkaron ko ise vaikseen lagaane ka mauka diya ja raha hai bahut see jagah savaar yuvak ne kin-kin logon ko hee vyakti lagavaanee chaahie kin-kin logon par vyakti nahin lagaanee chaahie jo mahila 60 saal se oopar kee aayu kee hai ya phir jis mila hai jis purush ko too hee gambheer beemaaree kee samasyaen jaise blad preshar lo beepee kee beemaaree hai shugar kee beemaaree ya koee any koee aisee gambheer samasya hai jo ki usake shareer ke khoon mein mishrit hai to aap abhee is vyakti ko na lagaen aur aapase main yah kahana chaahoonga aap bhee abhee samay satark rahen kyonki ke koronaavaayaras hai yah un logon ke lie jyaada khataranaak hai jin logon ko pahale skool blad preshar aur shugar jaisee beemaariyaan hain ya koee olaredee bahut jyaada beemaar hai ya koee 60 saal se oopar ka hai inake shareer ke andaroonee jo vhaatsep sahee se kaam karana band kar gaya pooree tarah kaam karana nahin kar rahe un logon ke lie khona vaayaras phor aapakee umr 60 saal se jyaada hai aur koee vyakti aapako phon kar raha hai kaun hai silavaane ke lie to aapase bilkul mana kar den aap abhee ghar se baahar maastar aage nikale aur jahaan tak ho sake banae rakhen

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:39
स्वागत है आपका आपका पुलिस ने किन लोगों को प्रणाम एक से नहीं लगानी चाहिए तो फ्रेंड से जो कोई गंभीर बीमारी से ग्रसित है कोई दवा खा रहा है या जो प्रेग्नेंट महिलाएं हैं गर्भवती स्त्रियां भी नहीं लगवा सकती और छोटे बच्चों को भी कोरोनावायरस इन नहीं लगेगी जो 10 साल से छोटे हैं 10 से 15 साल की उम्र में भी नहीं लगेगी कोरोनावायरस इन और जिन्हें किसी प्रकार की कोई एलर्जी हो वह लाइक भी नहीं लगवा सकते कोरोनावायरस इन यही सब कारण है जो पूरे नगर से
Svaagat hai aapaka aapaka pulis ne kin logon ko pranaam ek se nahin lagaanee chaahie to phrend se jo koee gambheer beemaaree se grasit hai koee dava kha raha hai ya jo pregnent mahilaen hain garbhavatee striyaan bhee nahin lagava sakatee aur chhote bachchon ko bhee koronaavaayaras in nahin lagegee jo 10 saal se chhote hain 10 se 15 saal kee umr mein bhee nahin lagegee koronaavaayaras in aur jinhen kisee prakaar kee koee elarjee ho vah laik bhee nahin lagava sakate koronaavaayaras in yahee sab kaaran hai jo poore nagar se

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
0:34
चल गया है किन लोगों को कोरोनावायरस नहीं लगवाने चाहिए तो देखिए जैसा कि कोरोनावायरस इन आ चुकी है परंतु कोरोनावायरस इन के जो बहुत जल्दी आने के वजह से हम इसके कुछ साइड इफेक्ट पर ज्यादा स्टडी नहीं कर पाए हैं तो इसीलिए प्रिकॉशन के तौर पर प्रेग्नेंट महिलाओं को दूध पिलाते हैं जो बच्चों को उन महिलाओं को कैंसर पीड़ितों को हार्ट पेशेंट्स को डायबिटीज पेशेंट्स को जो बोला गया है कि कोरोनावायरस इन नहीं लगवाने चाहिए उम्मीद करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Chal gaya hai kin logon ko koronaavaayaras nahin lagavaane chaahie to dekhie jaisa ki koronaavaayaras in aa chukee hai parantu koronaavaayaras in ke jo bahut jaldee aane ke vajah se ham isake kuchh said iphekt par jyaada stadee nahin kar pae hain to iseelie prikoshan ke taur par pregnent mahilaon ko doodh pilaate hain jo bachchon ko un mahilaon ko kainsar peediton ko haart peshents ko daayabiteej peshents ko jo bola gaya hai ki koronaavaayaras in nahin lagavaane chaahie ummeed karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:34
वैक्सीन केवल 18 वर्ष या उससे ऊपर की उम्र के लोगों को ही लगाई जाएगी तथा अगर किसी को किसी बीमारी की व्यक्ति लगानी है तो कॉमेडी एक्शन और अन्य बीमारी की वैक्सीन में 14 दिन का अंतर होना चाहिए तथा गर्भवती महिला और बच्चे को दूध पिलाने वाली महिला को भी एक्शन नहीं लगाई जाएगी क्योंकि यह उसके लिए हानिकारक हो सकता है
Vaikseen keval 18 varsh ya usase oopar kee umr ke logon ko hee lagaee jaegee tatha agar kisee ko kisee beemaaree kee vyakti lagaanee hai to komedee ekshan aur any beemaaree kee vaikseen mein 14 din ka antar hona chaahie tatha garbhavatee mahila aur bachche ko doodh pilaane vaalee mahila ko bhee ekshan nahin lagaee jaegee kyonki yah usake lie haanikaarak ho sakata hai

bolkar speaker
किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?Kin Logon Ko Corona Vaccine Nahin Lagvani Chaiye
Rishabh Sengar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rishabh जी का जवाब
Student
2:50
आप बस में पूछा गया है कि किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगानी चाहिए देखिए सरकार ने टीकाकरण प्रारंभ कर दिया है और टीकाकरण प्रारंभ में हेल्थ वर्कर सर फ्रंटलाइन वर्कर को यानी स्वास्थ्य कर्मियों और सफाई कर्मियों को लगाया जाएगा आपका प्रश्न है कि किन लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगानी चाहिए फिलहाल में दो व्यक्तियों को मंजूरी दी गई है टीके के लिए और जो भारतीय वैक्सीने को वैक्सीन उसको आपातकाल मंजूरी दी गई है जिसका निर्माण आप कैसे जानते हैं भारत बायोटेक और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च आईसीएमआर ने मिलकर मैन्युफैक्चर किया है उसको स्वदेशी है पूर्ण रूप से लेकिन कंपनी ने इसको लेकर अपनी चेतावनी भी जारी की है कि जिन लोगों की इम्युनिटी काम है या फिर जो लोग को बुखार है या जो लोग खून पतला करने की दवाई लेते हैं उनके ऊपर इसके एडवर्ड इसका एडवर्स रिएक्शन हो सकता है एलर्जी हो सकती हो उनको किसी भी प्रकार की तो उनको इस से परहेज करना चाहिए और हो सकता है कि उनका ब्लड प्रेशर 20 इनक्रीस हो जाए लेकिन ऐसा भी का कोई मामला सामने नहीं आया है किंतु संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता और यह जो प्रिकॉशनरी मेजर इंस्ट्रक्शन जारी किए हैं वह को वैक्सीन ने किए हैं जिसको भारत बायोटेक और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने मिलकर बना है और जो दूसरी वैक्सीन है को भी सीरियस का उत्पादन भारत में कब सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कर रहा है ऑक्सफोर्ड के साथ उसका करार है उस वैक्सीन को लेकर अभी कोई प्रिकॉशनरी मेजरस कंपनी की तरफ से दायर नहीं की गई तो अंत में आपके सवाल का केवल यही जवाब है कि जिन लोगों को जो लोग ऐसी मेडिसिंस ले रहे हैं हार्ट के पेशेंट का खून पतला होने की या जिन को फीवर है या जिनकी मिलिट्री कमजोर है यह जो किसी प्रकार की एलर्जी सिगरेट हैं उनको अपने चिकित्सक के परामर्श से यानी अपने डॉक्टर की सलाह से ही वैक्सीन लगवानी चाहिए और अभी तो सरकार ने कोई ऐसी बाध्यता नहीं दिखाई है कि वैक्सीन लगाना सभी के लिए बाध्य है जो व्यक्ति अपनी स्वेच्छा से वैक्सीन लगवाना चाहता है टीकाकरण कराना चाहता है वह करवा सकता है यह दो चरणों में होगा 1 वैक्सीन कुछ दिनों बाद इसकी डोस दी जाएगी बता दो प्राण 14 दिन के बाद दूसरी दोस्त के 14 दिन के बाद आपके अंदर एंटीबॉडी जब अलग हो जाएंगे यानी रोगों से रोग से लड़ने की जो एंटीबॉडीज है वह आपका शरीर विकसित कर लेगा तब तक आपको जो कोविड-19 प्रिय प्रोटोकॉल है उसको फॉलो करना होगा मार्क लगा कर रहना होगा और सैनिटाइज का नियमित रूप से इस्तेमाल करना होगा बहुत-बहुत धन्यवाद
Aap bas mein poochha gaya hai ki kin logon ko korona vaikseen nahin lagaanee chaahie dekhie sarakaar ne teekaakaran praarambh kar diya hai aur teekaakaran praarambh mein helth varkar sar phrantalain varkar ko yaanee svaasthy karmiyon aur saphaee karmiyon ko lagaaya jaega aapaka prashn hai ki kin logon ko korona vaikseen nahin lagaanee chaahie philahaal mein do vyaktiyon ko manjooree dee gaee hai teeke ke lie aur jo bhaarateey vaikseene ko vaikseen usako aapaatakaal manjooree dee gaee hai jisaka nirmaan aap kaise jaanate hain bhaarat baayotek aur indiyan kaunsil oph medikal risarch aaeeseeemaar ne milakar mainyuphaikchar kiya hai usako svadeshee hai poorn roop se lekin kampanee ne isako lekar apanee chetaavanee bhee jaaree kee hai ki jin logon kee imyunitee kaam hai ya phir jo log ko bukhaar hai ya jo log khoon patala karane kee davaee lete hain unake oopar isake edavard isaka edavars riekshan ho sakata hai elarjee ho sakatee ho unako kisee bhee prakaar kee to unako is se parahej karana chaahie aur ho sakata hai ki unaka blad preshar 20 inakrees ho jae lekin aisa bhee ka koee maamala saamane nahin aaya hai kintu sambhaavanaon se inakaar nahin kiya ja sakata aur yah jo prikoshanaree mejar instrakshan jaaree kie hain vah ko vaikseen ne kie hain jisako bhaarat baayotek aur indiyan kaunsil oph medikal risarch ne milakar bana hai aur jo doosaree vaikseen hai ko bhee seeriyas ka utpaadan bhaarat mein kab siram insteetyoot oph indiya kar raha hai oksaphord ke saath usaka karaar hai us vaikseen ko lekar abhee koee prikoshanaree mejaras kampanee kee taraph se daayar nahin kee gaee to ant mein aapake savaal ka keval yahee javaab hai ki jin logon ko jo log aisee medisins le rahe hain haart ke peshent ka khoon patala hone kee ya jin ko pheevar hai ya jinakee militree kamajor hai yah jo kisee prakaar kee elarjee sigaret hain unako apane chikitsak ke paraamarsh se yaanee apane doktar kee salaah se hee vaikseen lagavaanee chaahie aur abhee to sarakaar ne koee aisee baadhyata nahin dikhaee hai ki vaikseen lagaana sabhee ke lie baadhy hai jo vyakti apanee svechchha se vaikseen lagavaana chaahata hai teekaakaran karaana chaahata hai vah karava sakata hai yah do charanon mein hoga 1 vaikseen kuchh dinon baad isakee dos dee jaegee bata do praan 14 din ke baad doosaree dost ke 14 din ke baad aapake andar enteebodee jab alag ho jaenge yaanee rogon se rog se ladane kee jo enteebodeej hai vah aapaka shareer vikasit kar lega tab tak aapako jo kovid-19 priy protokol hai usako pholo karana hoga maark laga kar rahana hoga aur sainitaij ka niyamit roop se istemaal karana hoga bahut-bahut dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard