#मनोरंजन

bolkar speaker

तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?

Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:03
बस वाले की तनु फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तो संडे फिल्म में दी देव देवी देवताओं को गलत तरीके से दिखाने का प्रयास किया गया है उन्होंने विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों की शिकायत के लिए तांडव फिल्म वेब सीरीज में हिंदू देवी देवता का उपवास किया गया है भाजपा सांसद मनोज को टिकने का है कि अभिनेता निर्माता निर्देशक वी भावना को आहत करने के लिए माफी मांगनी चाहिए उन्होंने जोड़कर को पत्र लिखकर भी या टीवी टावर कहा है कि कानूनी अभी तक आई नहीं है जो डिजिटल सामग्री को नींद करें ऐसे में प्लेटफार्म पर फिल्में सेक्स इंसाफ मादक पदार्थ दूसरा हार गए ना अश्लीलता से भरी होती हैं शासन ने कहा कभी-कभी यह जानवरों को भी चोट पहुंचाती हैं इसीलिए फिल्म कोबेन लगाए गए हैं धन्यवाद
Bas vaale kee tanu philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai to sande philm mein dee dev devee devataon ko galat tareeke se dikhaane ka prayaas kiya gaya hai unhonne vibhinn sangathanon aur vyaktiyon kee shikaayat ke lie taandav philm veb seereej mein hindoo devee devata ka upavaas kiya gaya hai bhaajapa saansad manoj ko tikane ka hai ki abhineta nirmaata nirdeshak vee bhaavana ko aahat karane ke lie maaphee maanganee chaahie unhonne jodakar ko patr likhakar bhee ya teevee taavar kaha hai ki kaanoonee abhee tak aaee nahin hai jo dijital saamagree ko neend karen aise mein pletaphaarm par philmen seks insaaph maadak padaarth doosara haar gae na ashleelata se bharee hotee hain shaasan ne kaha kabhee-kabhee yah jaanavaron ko bhee chot pahunchaatee hain iseelie philm koben lagae gae hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:36
जैसा कि मेरे प्रिय साथियों आपका प्रश्न है तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तो मेरे साथियों आपके सवाल का उत्तर यह है तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग इसलिए हो रही है क्योंकि तांडव फिल्म में धार्मिक भावनाओं को हाथ लगाने का करते है जो हिंदू देवताओं का मजाक उड़ाने का आरोप है इसलिए तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग हो रही है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Jaisa ki mere priy saathiyon aapaka prashn hai taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai to mere saathiyon aapake savaal ka uttar yah hai taandav philm par bain lagaane kee maang isalie ho rahee hai kyonki taandav philm mein dhaarmik bhaavanaon ko haath lagaane ka karate hai jo hindoo devataon ka majaak udaane ka aarop hai isalie taandav philm par bain lagaane kee maang ho rahee hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Siya Ram Dubey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Siya जी का जवाब
Youtuber, life coach, spiritual thinker, motivational speaker, social media influencer
2:19
नमस्कार आपका प्रश्न है कि तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है देखिए यह जितने भी वेब सीरीज आजकल बन रहे हैं सब कहीं ना कहीं हिंदू विरोधी वेब सीरीज बन रहे हैं यह सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए जो फिल्म के डायरेक्टर हैं हीरो हीरोइन है यह इतने गिर गए हैं कि हमारे हिंदू धर्म में देवी देवताओं का अपमान करने से भी बाज नहीं आ रहे हैं चाय लक्ष्मी बम हो तांडव हो या अन्य पिछले वेब सीरीज जितने भी आए हैं सब में किसी न किसी कारण से हिंदू देवी देवताओं का विरोध हिंदू समाज का विरोध दिखाया गया है 1 तारीख से जिसके कारण हमारी जो धार्मिक भावनाएं हैं वह आहत कहीं ना कहीं होती है और समाज में इसके लिए विरोध होता है और यह विरोध अभी काफी नहीं है इनका यदि मिल जाए तो इनको जितना हो सके पहले उठना चाहिए और कानून को भी ऐसा बनना चाहिए ताकि किसी भी धर्म का चाहे मुस्लिम धर्म को हिंदू धर्म हो चाय धर्म हो वैसे तो मैं जानता हूं कि हिंदू के अलावा किसी अन्य धर्म का मजाक फिल्म सीरीज में नहीं किया जा सकता क्योंकि आपने देखा होगा फ्रांस में जो घटना हुई थी उसके विरोध में भारत ने भी कितने प्रदर्शन हुए थे तो इन लोगों की ताकत नहीं है कि किसी दूसरे धर्म के प्रति इस प्रकार की भावनाओं को आहत कर सके लेकिन सरकार को भी चाहिए कानून को भी चाहिए कि स्पर्श शक्ति से करवाई हो चाहे कोई भी धर्म हो यदि किस कोई व्यक्ति उसके प्रति इस प्रकार ऐसा करता है तो उसकी भावनाओं को आहत करता है तो उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए थी नहीं करते इससे कई बार खून खराबा की भी नौबत आ सकते हैं और जिससे शांति व्यवस्था भंग हो सकती है तो यह पूरी की पूरी जिम्मेवारी जो वेब सीरीज बनाते हैं जो फिल्म बनाते हैं जो डायरेक्टर है जो हीरो है इनको ही होना चाहिए धन्यवाद आपके इस प्रश्न के लिए
Namaskaar aapaka prashn hai ki taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai dekhie yah jitane bhee veb seereej aajakal ban rahe hain sab kaheen na kaheen hindoo virodhee veb seereej ban rahe hain yah sastee lokapriyata haasil karane ke lie jo philm ke daayarektar hain heero heeroin hai yah itane gir gae hain ki hamaare hindoo dharm mein devee devataon ka apamaan karane se bhee baaj nahin aa rahe hain chaay lakshmee bam ho taandav ho ya any pichhale veb seereej jitane bhee aae hain sab mein kisee na kisee kaaran se hindoo devee devataon ka virodh hindoo samaaj ka virodh dikhaaya gaya hai 1 taareekh se jisake kaaran hamaaree jo dhaarmik bhaavanaen hain vah aahat kaheen na kaheen hotee hai aur samaaj mein isake lie virodh hota hai aur yah virodh abhee kaaphee nahin hai inaka yadi mil jae to inako jitana ho sake pahale uthana chaahie aur kaanoon ko bhee aisa banana chaahie taaki kisee bhee dharm ka chaahe muslim dharm ko hindoo dharm ho chaay dharm ho vaise to main jaanata hoon ki hindoo ke alaava kisee any dharm ka majaak philm seereej mein nahin kiya ja sakata kyonki aapane dekha hoga phraans mein jo ghatana huee thee usake virodh mein bhaarat ne bhee kitane pradarshan hue the to in logon kee taakat nahin hai ki kisee doosare dharm ke prati is prakaar kee bhaavanaon ko aahat kar sake lekin sarakaar ko bhee chaahie kaanoon ko bhee chaahie ki sparsh shakti se karavaee ho chaahe koee bhee dharm ho yadi kis koee vyakti usake prati is prakaar aisa karata hai to usakee bhaavanaon ko aahat karata hai to us par kadee se kadee kaarravaee honee chaahie thee nahin karate isase kaee baar khoon kharaaba kee bhee naubat aa sakate hain aur jisase shaanti vyavastha bhang ho sakatee hai to yah pooree kee pooree jimmevaaree jo veb seereej banaate hain jo philm banaate hain jo daayarektar hai jo heero hai inako hee hona chaahie dhanyavaad aapake is prashn ke lie

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:17
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग की हो रही है दोस्तों तांडव फिल्म के अंदर एक एक बहुत ही गजब का सीन दिखा दिया गया जहां पर राम इत्यादि को लेकर के और दूसरा बात को लेकर विवादित उसमें सीनरी दिखाइए गई है जिसको चलते इस को बैन करने की मांग की गई है
Taandav philm par bain lagaane kee maang kee ho rahee hai doston taandav philm ke andar ek ek bahut hee gajab ka seen dikha diya gaya jahaan par raam ityaadi ko lekar ke aur doosara baat ko lekar vivaadit usamen seenaree dikhaie gaee hai jisako chalate is ko bain karane kee maang kee gaee hai

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
1:24
सवाल पूछा गया तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तो देखिए तांडव वेब सीरीज है इस पर बैन लगाने की बात इसलिए हो रही है क्योंकि इसमें कुछ सींस और कुछ डायलॉग्स के जरिए हिंदू देवी देवताओं का एक तरह से अपमान किया गया है और देखिए किसी भी धर्म जिसे हम मानते हैं चाहे वह हिंदू हो मुस्लिम हो कोई भी यह बर्दाश्त नहीं कर पाएगा कि उसके धर्म के खिलाफ कुछ ऐसा बोला जाए इस तरीके की चीजें करी जाए और मतलब ईश्वर के खिलाफ कोई भी अगर पुणे का तो सीधी सी बात है चाहे वह हिंदू हो या मुसलमान 26 का जो है विरोध करेंगे चाहे हिंदू के भगवान का करे तो और यह मुसलमान के भगवान का मेरा तो यह मानना है कि अगर आप कुछ भी दिखाते हैं सिनेमा में या फिर आप कुछ भी टॉपिक पर कोई वेब सीरीज बनाते हैं फिर भी आपको इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि धर्म से लोग की भावनाएं जुड़ी होती है और आपको इस चीज का खास ख्याल रखना चाहिए कि आप ऐसा कुछ ना करें जिससे लोगों की भावनाएं आहत हो और यही कारण है कि तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग की गई है क्योंकि वहां पर काफी हद तक एक जो है इस धर्म का किसी के ईश्वर का जो अपमान किया गया है उम्मीद कर रही हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Savaal poochha gaya taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai to dekhie taandav veb seereej hai is par bain lagaane kee baat isalie ho rahee hai kyonki isamen kuchh seens aur kuchh daayalogs ke jarie hindoo devee devataon ka ek tarah se apamaan kiya gaya hai aur dekhie kisee bhee dharm jise ham maanate hain chaahe vah hindoo ho muslim ho koee bhee yah bardaasht nahin kar paega ki usake dharm ke khilaaph kuchh aisa bola jae is tareeke kee cheejen karee jae aur matalab eeshvar ke khilaaph koee bhee agar pune ka to seedhee see baat hai chaahe vah hindoo ho ya musalamaan 26 ka jo hai virodh karenge chaahe hindoo ke bhagavaan ka kare to aur yah musalamaan ke bhagavaan ka mera to yah maanana hai ki agar aap kuchh bhee dikhaate hain sinema mein ya phir aap kuchh bhee topik par koee veb seereej banaate hain phir bhee aapako is baat ka khyaal rakhana chaahie ki dharm se log kee bhaavanaen judee hotee hai aur aapako is cheej ka khaas khyaal rakhana chaahie ki aap aisa kuchh na karen jisase logon kee bhaavanaen aahat ho aur yahee kaaran hai ki taandav philm par bain lagaane kee maang kee gaee hai kyonki vahaan par kaaphee had tak ek jo hai is dharm ka kisee ke eeshvar ka jo apamaan kiya gaya hai ummeed kar rahee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:40
आपका सवाल है कि तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है इसलिए करी जा रही है कि सनातन धर्म के अनुसार उच्च देवी-देवताओं पर गलत तरीके से प्रदर्शित किया गया है या टीका टिप्पणी करी गई है तो इस तरीके से लोगों का जो साधु संत है उनका मानना है कि यह चीज सही नहीं है वास्तविकता में किसी भी धर्म पर संप्रदाय पर या किसी ईश्वर की प्रभु के या किसी भी धर्म संप्रदाय की मान मान्यताओं के ऊपर किसी भी तरीके की टिकट पड़ी करना सही नहीं होता है और यही कारण है कि इस फिल्म पर बैन लगाने की मांग की जा रही है आपका दिन शुभ रहे थे नेपाल
Aapaka savaal hai ki taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai isalie karee ja rahee hai ki sanaatan dharm ke anusaar uchch devee-devataon par galat tareeke se pradarshit kiya gaya hai ya teeka tippanee karee gaee hai to is tareeke se logon ka jo saadhu sant hai unaka maanana hai ki yah cheej sahee nahin hai vaastavikata mein kisee bhee dharm par sampradaay par ya kisee eeshvar kee prabhu ke ya kisee bhee dharm sampradaay kee maan maanyataon ke oopar kisee bhee tareeke kee tikat padee karana sahee nahin hota hai aur yahee kaaran hai ki is philm par bain lagaane kee maang kee ja rahee hai aapaka din shubh rahe the nepaal

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:40
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मां क्यों हो रही है देखिए भाई तांडव फिल्म कहीं ना कहीं आप मानेंगे जिस तरह से इसमें फिल्माए गए हैं और कुछ दृश्य ऐसे हैं खास करके हमने एक छोटा सा दृश्य देखा था जिसमें उन्होंने बोला हुआ है कि किस तरह से भगवान राम के बालों को छोड़ रहे हैं और भी और जिस तरह का कमेंट किया गया है वह बड़ा ही दुर्भाग्यपूर्ण है और जिस तरह से जातिवाद का सूचक शब्दों का प्रयोग किया गया है धर्म के सूचक का किया गया है यह कहीं न कहीं हमारे देश में या धर्म के बीच में बैलेंस हो जाएगा द्वारा निश्चित तौर पर आगे भी इसका बहुत दुष्परिणाम होगा और इस तरह की घटनाएं जो होना एक दुर्भाग्यपूर्ण है और अगर ऐसा होता है तो हंड्रेड परसेंट कहीं-कहीं यह बहुत बुरा है औरत देखेंगे इस तरह की बातें होनी नहीं चाहिए अगर ऐसी होती हैं और फिल्में देखें वैसे तो ओटीटी प्लेटफॉर्म है पहले से ही इस तरह की चीजें दे रहा है बहुत दुख बात है तो किस करना तो सही सेंसरिंग होती है ना कुछ ऐसा है क्योंकि इतना तो सेंसरशिप है ना कुछ है इस तरह से और नतीजा क्या हुआ है कि यह खुल करके गलत ढंग से ऐसे प्लेटफार्म ऊपर आ रहे हैं और ऐसी चीजें परोस दी जा रही जो हमारे युवा भर के लिए बड़ा दुर्भाग्य पूर्ण है अगर इसको रोका नहीं गया आने वाले समय में तो हंड्रेड परसेंट आप मान कर चलिए की बहुत बुरा होगा और समाज का एक हिस्सा जो होगा उसमें एक नशा जाएगी कि नफरत आ जाएगी और उस नफरत के माध्यम से फिर समाज में विघटन हो जाएगा और जब विघटन हो जाएगा तो उसको करना सही नहीं और तांडव फिल्में जिस तरह से धर्म को जाति को और इस तरह से किया गया है और मैं समझता हूं कि यह देखने के बाद पड़ा कुछ दिनों को हमने देखा हुआ है और उन तीनों को देखने के बाद ऐसा लगता है कि यह जो किया गया है कि कहीं न कहीं हिंदू धर्म को बदनाम करने के लिए या जो भी साजिश समझते हो वह है और इस तरह का करना बिल्कुल गलत है और इस तरह से धर्म को जाति को जोड़ करके दिखाना ओके बिल्कुल गलत है और ऐसा नहीं होना चाहिए
Taandav philm par bain lagaane kee maan kyon ho rahee hai dekhie bhaee taandav philm kaheen na kaheen aap maanenge jis tarah se isamen philmae gae hain aur kuchh drshy aise hain khaas karake hamane ek chhota sa drshy dekha tha jisamen unhonne bola hua hai ki kis tarah se bhagavaan raam ke baalon ko chhod rahe hain aur bhee aur jis tarah ka kament kiya gaya hai vah bada hee durbhaagyapoorn hai aur jis tarah se jaativaad ka soochak shabdon ka prayog kiya gaya hai dharm ke soochak ka kiya gaya hai yah kaheen na kaheen hamaare desh mein ya dharm ke beech mein bailens ho jaega dvaara nishchit taur par aage bhee isaka bahut dushparinaam hoga aur is tarah kee ghatanaen jo hona ek durbhaagyapoorn hai aur agar aisa hota hai to handred parasent kaheen-kaheen yah bahut bura hai aurat dekhenge is tarah kee baaten honee nahin chaahie agar aisee hotee hain aur philmen dekhen vaise to oteetee pletaphorm hai pahale se hee is tarah kee cheejen de raha hai bahut dukh baat hai to kis karana to sahee sensaring hotee hai na kuchh aisa hai kyonki itana to sensaraship hai na kuchh hai is tarah se aur nateeja kya hua hai ki yah khul karake galat dhang se aise pletaphaarm oopar aa rahe hain aur aisee cheejen paros dee ja rahee jo hamaare yuva bhar ke lie bada durbhaagy poorn hai agar isako roka nahin gaya aane vaale samay mein to handred parasent aap maan kar chalie kee bahut bura hoga aur samaaj ka ek hissa jo hoga usamen ek nasha jaegee ki napharat aa jaegee aur us napharat ke maadhyam se phir samaaj mein vighatan ho jaega aur jab vighatan ho jaega to usako karana sahee nahin aur taandav philmen jis tarah se dharm ko jaati ko aur is tarah se kiya gaya hai aur main samajhata hoon ki yah dekhane ke baad pada kuchh dinon ko hamane dekha hua hai aur un teenon ko dekhane ke baad aisa lagata hai ki yah jo kiya gaya hai ki kaheen na kaheen hindoo dharm ko badanaam karane ke lie ya jo bhee saajish samajhate ho vah hai aur is tarah ka karana bilkul galat hai aur is tarah se dharm ko jaati ko jod karake dikhaana oke bilkul galat hai aur aisa nahin hona chaahie

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:19
सवाल यह है कि तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तो दरअसल वेब सीरीज तांडव को देखने के बाद आरोप लगाया गया है कि इसमें हिंदू देवी देवताओं का पाठ किया गया है भाजपा सांसद मनोज कोटक ने रविवार को कहा कि उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर अमेजॉन प्राइम वीडियो की सीरीज तांडव पर रोक लगाने का अनुरोध किया है भाजपा सांसद ने आरोप लगाया है कि हिंदू देवी देवताओं को गलत तरीके से दिखाने का प्रयास किया जाता है उन्होंने कहा कि विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों ने शिकायत की है कि तांडव वेब सीरीज में हिंदू देवी देवताओं का उपहास किया गया है कोटक ने कहा है कि अभिनेता और निर्माता और निर्देशक को भावनाओं को आहत करने के लिए माफी मांगनी चाहिए उन्होंने जावड़ेकर को पत्र लिखिए पत्र की तस्वीर ट्विटर पर साझा करते हुए हां की कोई कानून या स्वायत्त निकाय नहीं है जो डिजिटल सामग्री को नियंत्रित करें और ऐसे प्लेटफार्म ऊपर सेल में तथा मादक पदार्थ दुर्व्यवहार और अश्लीलता से भरी हुई होती है सांसद ने कहा कभी कभी भी धार्मिक मानव भावनाओं को भी चोट पहुंचाती है
Savaal yah hai ki taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai to darasal veb seereej taandav ko dekhane ke baad aarop lagaaya gaya hai ki isamen hindoo devee devataon ka paath kiya gaya hai bhaajapa saansad manoj kotak ne ravivaar ko kaha ki unhonne soochana evan prasaaran mantree prakaash jaavadekar ko patr likhakar amejon praim veediyo kee seereej taandav par rok lagaane ka anurodh kiya hai bhaajapa saansad ne aarop lagaaya hai ki hindoo devee devataon ko galat tareeke se dikhaane ka prayaas kiya jaata hai unhonne kaha ki vibhinn sangathanon aur vyaktiyon ne shikaayat kee hai ki taandav veb seereej mein hindoo devee devataon ka upahaas kiya gaya hai kotak ne kaha hai ki abhineta aur nirmaata aur nirdeshak ko bhaavanaon ko aahat karane ke lie maaphee maanganee chaahie unhonne jaavadekar ko patr likhie patr kee tasveer tvitar par saajha karate hue haan kee koee kaanoon ya svaayatt nikaay nahin hai jo dijital saamagree ko niyantrit karen aur aise pletaphaarm oopar sel mein tatha maadak padaarth durvyavahaar aur ashleelata se bharee huee hotee hai saansad ne kaha kabhee kabhee bhee dhaarmik maanav bhaavanaon ko bhee chot pahunchaatee hai

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:53
आपने प्रश्न किया है कि तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है कई बार क्या होता है कि जब हम बहुत ज्यादा सही हो जाते हैं बहुत ज्यादा सहनशील हो जाते हैं तो अक्सर लोग इसका लाभ उठाने लगते हैं या लोग इसको कमजोर ईमान ना कर देते हैं और ऐसा ही सनातन धर्म हिंदू धर्म के साथ हैं और यह जो तांडव फिल्म है चौकी अमेजॉन प्राइम पर आया है इसमें हिंदू धर्म के देवी-देवताओं का हिंदू धर्म की आस्था का बहुत अधिक अपमान किया गया है यकीन कीजिए अगर आप और मैं अपने धर्म को मानने वाले लोग हैं अपने धर्म में अपन हमारी आस्था है तो हम वह चित्र नहीं देख पाएंगे हमारे दिल को बहुत पीड़ा पहुंचाने वाले दृश्य है जो किस तांडव फिल्म में फिल्माए गए हैं बेशर्मी से फिल्माए गए हैं भगवान शिव का मजाक उड़ाया जा रहा है नारद जी का मजाक उड़ाया जा रहा है और हम लोग चुप चाप इन चीजों को देख लेते हैं पहले भी किसी कई फिल्में आई है और उन फिल्मों के अंदर हिंदू देवी देवताओं का बहुत गलत चित्रण किया गया है और यह बॉलीवुड के लोग पैसा कमाने के नाम पर जो की पूरी तरह से नशेड़ी हैं जिनका अपना कोई अस्तित्व नहीं है बोलो हमारे देवी देवताओं का इस तरह खुला अपमान करते हैं और हम उन लोगों की फिल्में देखते हैं और उससे वह पैसा भी कमा रहे हैं उनको पता है कि हिंदू धर्म के जो लोग हैं इमो सहिष्णु है बहुत सहनशील हैं हम इनके देवी देवताओं के बारे में कुछ भी लिखे बोले फिल्में दिखाएं मजाक उड़ाए हिंदू देवी देवताओं के नग्न चित्र बनाएं तुम्हें हिंदू तो बोलते नहीं है बर्दाश्त करते हैं तो बनाते जो आप ऐसा किसी दूसरे धर्म के साथ में करके देखो इनका हिम्मत नहीं होता क्योंकि वह लोग तुरंत आवाज उठाते और हिंदू सेंसिनॉर करके चुपचाप देखता रहता है तांडव फिल्म में बेहद घटिया शर्मनाक ना देख सकने वाले चित्रण उस फिल्म में किए गए हैं और वह हमारी आस्था को गहरी चोट आपको मेरे को हर उस व्यक्ति को सनातन धर्म में विश्वास रखता है उसको इस फिल्म पर बैन लगाने की मांग करनी चाहिए यही मेरा आपसे निवेदन है धन्यवाद
Aapane prashn kiya hai ki taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai kaee baar kya hota hai ki jab ham bahut jyaada sahee ho jaate hain bahut jyaada sahanasheel ho jaate hain to aksar log isaka laabh uthaane lagate hain ya log isako kamajor eemaan na kar dete hain aur aisa hee sanaatan dharm hindoo dharm ke saath hain aur yah jo taandav philm hai chaukee amejon praim par aaya hai isamen hindoo dharm ke devee-devataon ka hindoo dharm kee aastha ka bahut adhik apamaan kiya gaya hai yakeen keejie agar aap aur main apane dharm ko maanane vaale log hain apane dharm mein apan hamaaree aastha hai to ham vah chitr nahin dekh paenge hamaare dil ko bahut peeda pahunchaane vaale drshy hai jo kis taandav philm mein philmae gae hain besharmee se philmae gae hain bhagavaan shiv ka majaak udaaya ja raha hai naarad jee ka majaak udaaya ja raha hai aur ham log chup chaap in cheejon ko dekh lete hain pahale bhee kisee kaee philmen aaee hai aur un philmon ke andar hindoo devee devataon ka bahut galat chitran kiya gaya hai aur yah boleevud ke log paisa kamaane ke naam par jo kee pooree tarah se nashedee hain jinaka apana koee astitv nahin hai bolo hamaare devee devataon ka is tarah khula apamaan karate hain aur ham un logon kee philmen dekhate hain aur usase vah paisa bhee kama rahe hain unako pata hai ki hindoo dharm ke jo log hain imo sahishnu hai bahut sahanasheel hain ham inake devee devataon ke baare mein kuchh bhee likhe bole philmen dikhaen majaak udae hindoo devee devataon ke nagn chitr banaen tumhen hindoo to bolate nahin hai bardaasht karate hain to banaate jo aap aisa kisee doosare dharm ke saath mein karake dekho inaka himmat nahin hota kyonki vah log turant aavaaj uthaate aur hindoo sensinor karake chupachaap dekhata rahata hai taandav philm mein behad ghatiya sharmanaak na dekh sakane vaale chitran us philm mein kie gae hain aur vah hamaaree aastha ko gaharee chot aapako mere ko har us vyakti ko sanaatan dharm mein vishvaas rakhata hai usako is philm par bain lagaane kee maang karanee chaahie yahee mera aapase nivedan hai dhanyavaad

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
1:08
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करें पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तो मित्र तांडव फिल्म जो कि एक वेब सीरीज है तो इस पर बैन लगाने के पीछे कई कारण है क्योंकि इस वेब सीरीज में देवी-देवताओं के कथित अपमान के लिए वेब सीरीज तांडव तांडव के निर्देशकों और निर्माताओं और अभिनेताओं के खिलाफ देश के कई हिस्सों में f.i.r. और मुकदमे दर्ज किए गए हैं वहीं भाजपा ने सीरीज को तत्काल बंद करने की मांग की गई है क्योंकि इस सीरीज में कोई सेंसरशिप नहीं है और इस सीरीज में भगवान शिव का अपमान किया गया है यदि वेब सीरीज के निर्देशक या अन्य कोई इस चीज को प्रसारित कर के घटिया नफरत फैलाने की कोशिश कर रहा है तो ऐसी सीरीज को बैंक कर देने की लोग मांग कर रहे हैं मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करना ना भूलें धन्यवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr aapaka bol karen par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai to mitr taandav philm jo ki ek veb seereej hai to is par bain lagaane ke peechhe kaee kaaran hai kyonki is veb seereej mein devee-devataon ke kathit apamaan ke lie veb seereej taandav taandav ke nirdeshakon aur nirmaataon aur abhinetaon ke khilaaph desh ke kaee hisson mein f.i.r. aur mukadame darj kie gae hain vaheen bhaajapa ne seereej ko tatkaal band karane kee maang kee gaee hai kyonki is seereej mein koee sensaraship nahin hai aur is seereej mein bhagavaan shiv ka apamaan kiya gaya hai yadi veb seereej ke nirdeshak ya any koee is cheej ko prasaarit kar ke ghatiya napharat phailaane kee koshish kar raha hai to aisee seereej ko baink kar dene kee log maang kar rahe hain mitr yah javaab achchha laga ho to krpaya sabsakraib laik sheyar aur kament karana na bhoolen dhanyavaad

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:36
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तो फ्रेंड तांडव फिल्म पर जो हमारी हिंदू मान्यताएं हैं उनको बहुत ही गलत तरीके से दिखाया गया है और हमारी हिंदू मान्यताओं को धक्का पहुंचता है उससे इसलिए इसको सेंड करने की मांग करी जा रही है उसमें बहुत बुरी तरह से राजनीति दिखाई गई है पूरी राजनीति हो रही है इस फिल्म को बैन करने की मांग भरी जा रही है और हमारी हिंदी परंपराओं को उसमें बहुत ही मजाक उड़ाया गया है इसलिए इसको रोकने की मांग की जा रही है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai to phrend taandav philm par jo hamaaree hindoo maanyataen hain unako bahut hee galat tareeke se dikhaaya gaya hai aur hamaaree hindoo maanyataon ko dhakka pahunchata hai usase isalie isako send karane kee maang karee ja rahee hai usamen bahut buree tarah se raajaneeti dikhaee gaee hai pooree raajaneeti ho rahee hai is philm ko bain karane kee maang bharee ja rahee hai aur hamaaree hindee paramparaon ko usamen bahut hee majaak udaaya gaya hai isalie isako rokane kee maang kee ja rahee hai dhanyavaad

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Umesh Upaadyay Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Umesh जी का जवाब
Life Coach | Motivational Speaker
4:38
जी पिछले कुछ सालों से ओटीटी प्लेटफॉर्म भारत में नहीं भारत के बाहर भी बहुत प्रचलित हो रहा है और भारत में इसकी रफ्तार बहुत तेजी से बढ़ रही हैं अभी उठी थी क्या होता है वह तो आप यह प्लेटफॉर्म वह होता है जो आपके स्मार्ट टीवी में इंटरनेट के जरिए आप मूवीस देख सकते हैं वैसे तो अगर आपके पास मा टीवी है तो उसमें आप यूट्यूब वगैरह से चलाएं सकते हैं और जब यह ओटीटी प्लेटफॉर्म आफ सब्सक्राइब करते हैं अब ओटीटी प्लेटफॉर्म कौन से होते हैं जैसे अमेजॉन प्राइम नेटफ्लिक्स आदमी हॉटस्टार यह सारे आपके ओटीटी प्लेटफॉर्म है यह आपके नार्मल केबल की तरह नहीं आते मूवी की तरह नहीं आते हैं यह समझ यूट्यूब की तरह है जैसे यूट्यूब में आप प्ले पॉज कर सकते हैं ना बाद में देख सकते हैं वगैरह वगैरह तो इसमें स्विमिंग होती है मूवीस आती हैं सीरियल चाहते हैं चिड़िया वेब सीरीज बोलते हैं तो वह आती हैं और इंटरनेट के माध्यम से आती है स्मार्ट टीवी में तो क्या इनका प्रचलन खासतौर से इन दिनों में बहुत ज्यादा देखने को मिले और अब पढ़ने लगा है करुणा काल के बाद से तो इस ओटीटी प्लेटफॉर्म में अभिषेक लाखों में अमेजॉन प्राइम जिसे हमें अमेजॉन प्राइम वीडियो के नाम से भी जानते हैं जिसका अगर सब्सक्रिप्शन कैसे नहीं लिया है तो उस ओटीटी प्लेटफॉर्म पर एक मूवी रिलीज हुई थी पिछले हफ्ते 15 तारीख को शायद आज इसका नाम है तांडव इसका स्टार कास्ट बहुत बढ़िया था मैंने यह मूवी देखी है मूवी क्या यह वेब सीरीज है ओके यह मैंने देखी है और मुझे खुद बियर पसंद नहीं है जिस तरीके से हिंदू देवी देवता या समझ लीजिए आस्था जो है उस पर व्यंग कस आ गया है और वह सही नहीं है यह होता है ऐसा है कि एक कॉलेज से है एक यूनिवर्सिटी है इसमें यूनिवर्सिटी में कुछ छात्र योग्य थिएटर ऑस्ट्रेलिया जो भी है वह परफॉर्मेंस दे रहे हैं और जब वो 23 को प्रॉमिस देते हैं तो उसमें उनका शोक बैठक होता है उसमें वह तब से तो ऐसे दिखाते हैं कि वह हिंदू भगवान के उसमें हैं और पता चलता है कि वह हिंदू है भगवान के उसमें लेकिन जब बातें करते हैं तो बहुत अपशब्द यूज करते हैं जो कि सही नहीं है जो कि नहीं करना चाहिए था तो आपत्ति लोगों को और लोगों को क्या मुझे भी इसी बात पर आपत्ति है कि आप ऐसे नहीं क्या दर्शा सकते हैं ऐसे नहीं दिखा सकते आप होली आया गेट अप चौथा स्टेज परफॉर्मेंस में एक्टर का वह सही नहीं था जो भाषा का प्रयोग किया गया है वह अभी उदित था बहुत सही नहीं था और इसीलिए अभी जो आप देखेंगे तो थोड़ा बवाल मचा हुआ है और यह बात सही भी है अगर आप देखेंगे कि तो आपको लगेगा यह समझ जाएगा कि भाई हिंदू देवी देवता या मान्यता है या जो भी कुछ है हिंदू में उनके ऊपर मूवीस बन जाती है और उसमें या अलग तरीके से चित्रण हो जाते हैं जो कि सही नहीं है जानबूझकर कई बार ऐसा लगता है कि ऐसा दिखाया जाता है दर्शाया जाता है ऊपर से आप देखेंगे कि बहुत सारे हीरो स्टैंड अप कॉमेडियन जोगी स्टेज शो करते हैं परफॉर्मेंस कहते हैं लोग टिकट लेकर उनकी उनके शो देखने जाते हैं वह भी अपने मनमानी से लाते हैं और वह भी हिंदू देवी देवताओं के बारे में कुछ भी बोल सकते हैं बोल देते हैं बोल सकते नहीं है बोल देते हैं जो कि सही नहीं है गलत नहीं है गलत है इसी तरीके से आप देखेंगे सोशल मीडिया पर बहुत सारे लोग पता नहीं क्या-क्या पोस्ट करते रहते हैं जो भी सही नहीं है तो यह सारी बातें सही नहीं है और यह सही से भी नहीं है कि मैं हिंदू हूं इसलिए नहीं बोल रहा है भाई बड़ी सिंपल सी बात है कोई किसी भी धर्म को अगर सही तरीके से रिप्रेजेंट नहीं करें उसके बारे में नहीं जानता तो सही बात ना करें तो यह बात सही नहीं है लीवर साइड खाली हिंदू तो इसीलिए यह हर एक इंसान का दायित्व होता है कि भाई वह ऐसा कोई भी काम नहीं करें जिससे किसी और के धर्म की या उसके आस्था को ठेस पहुंचे तो ऐसा कोई भी काम किसी को भी नहीं करना चाहिए
Jee pichhale kuchh saalon se oteetee pletaphorm bhaarat mein nahin bhaarat ke baahar bhee bahut prachalit ho raha hai aur bhaarat mein isakee raphtaar bahut tejee se badh rahee hain abhee uthee thee kya hota hai vah to aap yah pletaphorm vah hota hai jo aapake smaart teevee mein intaranet ke jarie aap moovees dekh sakate hain vaise to agar aapake paas ma teevee hai to usamen aap yootyoob vagairah se chalaen sakate hain aur jab yah oteetee pletaphorm aaph sabsakraib karate hain ab oteetee pletaphorm kaun se hote hain jaise amejon praim netaphliks aadamee hotastaar yah saare aapake oteetee pletaphorm hai yah aapake naarmal kebal kee tarah nahin aate moovee kee tarah nahin aate hain yah samajh yootyoob kee tarah hai jaise yootyoob mein aap ple poj kar sakate hain na baad mein dekh sakate hain vagairah vagairah to isamen sviming hotee hai moovees aatee hain seeriyal chaahate hain chidiya veb seereej bolate hain to vah aatee hain aur intaranet ke maadhyam se aatee hai smaart teevee mein to kya inaka prachalan khaasataur se in dinon mein bahut jyaada dekhane ko mile aur ab padhane laga hai karuna kaal ke baad se to is oteetee pletaphorm mein abhishek laakhon mein amejon praim jise hamen amejon praim veediyo ke naam se bhee jaanate hain jisaka agar sabsakripshan kaise nahin liya hai to us oteetee pletaphorm par ek moovee rileej huee thee pichhale haphte 15 taareekh ko shaayad aaj isaka naam hai taandav isaka staar kaast bahut badhiya tha mainne yah moovee dekhee hai moovee kya yah veb seereej hai oke yah mainne dekhee hai aur mujhe khud biyar pasand nahin hai jis tareeke se hindoo devee devata ya samajh leejie aastha jo hai us par vyang kas aa gaya hai aur vah sahee nahin hai yah hota hai aisa hai ki ek kolej se hai ek yoonivarsitee hai isamen yoonivarsitee mein kuchh chhaatr yogy thietar ostreliya jo bhee hai vah paraphormens de rahe hain aur jab vo 23 ko promis dete hain to usamen unaka shok baithak hota hai usamen vah tab se to aise dikhaate hain ki vah hindoo bhagavaan ke usamen hain aur pata chalata hai ki vah hindoo hai bhagavaan ke usamen lekin jab baaten karate hain to bahut apashabd yooj karate hain jo ki sahee nahin hai jo ki nahin karana chaahie tha to aapatti logon ko aur logon ko kya mujhe bhee isee baat par aapatti hai ki aap aise nahin kya darsha sakate hain aise nahin dikha sakate aap holee aaya get ap chautha stej paraphormens mein ektar ka vah sahee nahin tha jo bhaasha ka prayog kiya gaya hai vah abhee udit tha bahut sahee nahin tha aur iseelie abhee jo aap dekhenge to thoda bavaal macha hua hai aur yah baat sahee bhee hai agar aap dekhenge ki to aapako lagega yah samajh jaega ki bhaee hindoo devee devata ya maanyata hai ya jo bhee kuchh hai hindoo mein unake oopar moovees ban jaatee hai aur usamen ya alag tareeke se chitran ho jaate hain jo ki sahee nahin hai jaanaboojhakar kaee baar aisa lagata hai ki aisa dikhaaya jaata hai darshaaya jaata hai oopar se aap dekhenge ki bahut saare heero staind ap komediyan jogee stej sho karate hain paraphormens kahate hain log tikat lekar unakee unake sho dekhane jaate hain vah bhee apane manamaanee se laate hain aur vah bhee hindoo devee devataon ke baare mein kuchh bhee bol sakate hain bol dete hain bol sakate nahin hai bol dete hain jo ki sahee nahin hai galat nahin hai galat hai isee tareeke se aap dekhenge soshal meediya par bahut saare log pata nahin kya-kya post karate rahate hain jo bhee sahee nahin hai to yah saaree baaten sahee nahin hai aur yah sahee se bhee nahin hai ki main hindoo hoon isalie nahin bol raha hai bhaee badee simpal see baat hai koee kisee bhee dharm ko agar sahee tareeke se riprejent nahin karen usake baare mein nahin jaanata to sahee baat na karen to yah baat sahee nahin hai leevar said khaalee hindoo to iseelie yah har ek insaan ka daayitv hota hai ki bhaee vah aisa koee bhee kaam nahin karen jisase kisee aur ke dharm kee ya usake aastha ko thes pahunche to aisa koee bhee kaam kisee ko bhee nahin karana chaahie

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:24
अली खान की वेब सीरीज तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग इसलिए की जा रही है कि इस फिल्म में हिंदू देवी देवताओं का मजाक उड़ाया गया है जिसके तहत फुल मीडिया पर भी बैन लगाने के लिए लोगों ने बैन लगाने की मांग की
Alee khaan kee veb seereej taandav philm par bain lagaane kee maang isalie kee ja rahee hai ki is philm mein hindoo devee devataon ka majaak udaaya gaya hai jisake tahat phul meediya par bhee bain lagaane ke lie logon ne bain lagaane kee maang kee

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:42
प्रश्न तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग की हो रही है तो जाहिर सी बात है किसी के भी धर्म के प्रति चाहे वह हमारा धर्म हो मैं किसी और का अगर उसके प्रति कोई आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करता है तो व्यक्तियों का आक्रोश में आना स्वाभाविक है कि प्रकाश तांडव फिल्म में हिंदुओं के धर्म के प्रति कुछ ऐसे आपत्तिजनक शब्द प्रयोग किए गए हैं जो कि धर्म के प्रति उचित नहीं है इसीलिए तांडव फ्री पर बैन लगाया गया है धन्यवाद
Prashn taandav philm par bain lagaane kee maang kee ho rahee hai to jaahir see baat hai kisee ke bhee dharm ke prati chaahe vah hamaara dharm ho main kisee aur ka agar usake prati koee aapattijanak shabdon ka prayog karata hai to vyaktiyon ka aakrosh mein aana svaabhaavik hai ki prakaash taandav philm mein hinduon ke dharm ke prati kuchh aise aapattijanak shabd prayog kie gae hain jo ki dharm ke prati uchit nahin hai iseelie taandav phree par bain lagaaya gaya hai dhanyavaad

bolkar speaker
तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?Tandav Film Par Bain Lagane Ki Mang Kyun Ho Rahi Hai
Deepak Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Deepak जी का जवाब
संस्कृतप्रचारक, संस्कृतभारती जयपुरमहानगर प्रचारप्रमुख और सन्देशप्रमुख
3:22
नमस्कार मित्र आप ने प्रश्न किया है तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है मित्र यदि आपको पता हो अगर आपने अगर फिल्म देखी भी हो उसकी एक झलक भी देखी हो तो आपको पता चलेगा कि यह पूरी फिल्म जो है राजनीति को लेकर के बनाई गई है और राजनीति पर एक कथित फिल्म है यह जिसके अंदर एक जो अभी हमने खबर सुनी थी पहले की भी जेएनयू जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय जो दिल्ली में स्थित है उसके अंदर आजादी को लेकर के डेमोक्रेसी के ऊपर जो एक हमने वहां पर जो हंगामा किया गया था छात्रों के द्वारा तो वैसा ही कुछ दृश्य इसमें दिखाया गया है आजादी को लेकर के जो नारे लगे थे वैसा ही अग्रेषित फिल्म के अंदर है तो उस दृश्य को लेकर के और एक साथ में जो इसमें भगवान शिव एक नाटक चल रहा है बल्लभ कॉलेज के अंदर एक नाटक मंच पर हो रहा है उसके अंदर एक दो लड़के हैं जो एक तो शिवजी का रोल कर रहा है और एक शायद नारद का रोल कर रहे मुझे अच्छे से याद नहीं पर शिवजी का एक रोल कर रहा है जो उस लड़के के ऊपर यह थोड़ा सा हंगामा हो रहा है कि वह लड़का एक तो मुसलमान है जो शिवजी का रोल उस नाटक में कर रहा है दूसरी चीज यह कि उसने शिव के किरदार में रहते हुए अपशब्दों का प्रयोग किया मतलब कि उसने उस नाटक में जो लड़का शिव का रोल कर रहा था जो हीरो शिव भगवान का रोल कर रहा है वह गालियां बकते हुए मलक गालियां देते हुए इसमें दिखाया गया है यह जो चीज दिखाई गई है यह थोड़ी सी हमारे भारत देश को यूं कहे कि हिंदू परंपरा में यह बिल्कुल गलत है आप रोल करिए कितना भी वह दिखाइए उसमें गलत नहीं है पर अगर आप भगवान को अपशब्द कहते हुए दिखाते हैं तो यह बिल्कुल तरीके से गलत है क्योंकि यह हमारी संस्कृति में ऐसा कहीं भी नहीं लिखा है कि आप इस तरीके से भगवानों ने ऐसा कुछ कहा तो हम क्यों फिर ऐसा दिखाते हैं अब इसी चीज को लेकर के सभी लोग एकजुट हो चुके हैं और वह यही चाहते हैं कि इस फिल्म के ऊपर या तो मेल लगाई जाए या इन किरदारों को सजा दी जाए पर अमेजॉन की तरफ से थोड़ी सी कार्यवाही से की गई इससे पर असर को देखते हुए उन्होंने फिल्म से इस सीन को हटा दिया है जो सीन मैंने आपको बताया है नाटक में शिव जी का जो रोल कर रहा था हीरो और जिसने गालियां बकते हुए जो दिखाया गया है उसे सीन को उन्होंने वहां से हटा दिया है और अभी इसी सीन को लेकर के सबसे बड़ा विवाद लगातार बढ़ता जा रहा था उसके कारण फिल्म को बैन करने की मांग भी बढ़ती जा रही थी और जगह-जगह इनके ऊपर केस भी दर्ज किए गए हैं तो यही एक कारण है जिसके कारण तांडव फिल्म को बैन करने की मांग हो रही है धन्यवाद
Namaskaar mitr aap ne prashn kiya hai taandav philm par bain lagaane kee maang kyon ho rahee hai mitr yadi aapako pata ho agar aapane agar philm dekhee bhee ho usakee ek jhalak bhee dekhee ho to aapako pata chalega ki yah pooree philm jo hai raajaneeti ko lekar ke banaee gaee hai aur raajaneeti par ek kathit philm hai yah jisake andar ek jo abhee hamane khabar sunee thee pahale kee bhee jeenayoo javaaharalaal neharoo vishvavidyaalay jo dillee mein sthit hai usake andar aajaadee ko lekar ke demokresee ke oopar jo ek hamane vahaan par jo hangaama kiya gaya tha chhaatron ke dvaara to vaisa hee kuchh drshy isamen dikhaaya gaya hai aajaadee ko lekar ke jo naare lage the vaisa hee agreshit philm ke andar hai to us drshy ko lekar ke aur ek saath mein jo isamen bhagavaan shiv ek naatak chal raha hai ballabh kolej ke andar ek naatak manch par ho raha hai usake andar ek do ladake hain jo ek to shivajee ka rol kar raha hai aur ek shaayad naarad ka rol kar rahe mujhe achchhe se yaad nahin par shivajee ka ek rol kar raha hai jo us ladake ke oopar yah thoda sa hangaama ho raha hai ki vah ladaka ek to musalamaan hai jo shivajee ka rol us naatak mein kar raha hai doosaree cheej yah ki usane shiv ke kiradaar mein rahate hue apashabdon ka prayog kiya matalab ki usane us naatak mein jo ladaka shiv ka rol kar raha tha jo heero shiv bhagavaan ka rol kar raha hai vah gaaliyaan bakate hue malak gaaliyaan dete hue isamen dikhaaya gaya hai yah jo cheej dikhaee gaee hai yah thodee see hamaare bhaarat desh ko yoon kahe ki hindoo parampara mein yah bilkul galat hai aap rol karie kitana bhee vah dikhaie usamen galat nahin hai par agar aap bhagavaan ko apashabd kahate hue dikhaate hain to yah bilkul tareeke se galat hai kyonki yah hamaaree sanskrti mein aisa kaheen bhee nahin likha hai ki aap is tareeke se bhagavaanon ne aisa kuchh kaha to ham kyon phir aisa dikhaate hain ab isee cheej ko lekar ke sabhee log ekajut ho chuke hain aur vah yahee chaahate hain ki is philm ke oopar ya to mel lagaee jae ya in kiradaaron ko saja dee jae par amejon kee taraph se thodee see kaaryavaahee se kee gaee isase par asar ko dekhate hue unhonne philm se is seen ko hata diya hai jo seen mainne aapako bataaya hai naatak mein shiv jee ka jo rol kar raha tha heero aur jisane gaaliyaan bakate hue jo dikhaaya gaya hai use seen ko unhonne vahaan se hata diya hai aur abhee isee seen ko lekar ke sabase bada vivaad lagaataar badhata ja raha tha usake kaaran philm ko bain karane kee maang bhee badhatee ja rahee thee aur jagah-jagah inake oopar kes bhee darj kie gae hain to yahee ek kaaran hai jisake kaaran taandav philm ko bain karane kee maang ho rahee hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है तांडव फिल्म पर बैन लगाने की मांग
URL copied to clipboard