#जीवन शैली

bolkar speaker

मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है?

Mansik Avsad Par Kin Tareekon Se Kabu Paya Ja Sakta Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:06
स्वागत है आपका आपका प्रश्न मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है तो प्रिंस अगर किसी को मानसिक अवसाद है डिप्रेशन है तो अगर उस पर काबू पाना है तो आप लोग ऐसे लोगों से बात मत कर दी है जिन से बात करने से आपको टेंशन होती है या परेशानी होती है तो आप उनसे बात करना छोड़ दीजिए और आप ऐसे लोगों से बात करिए जिससे बात करने में आपको खुशी महसूस होती है तो आपको अच्छा लगेगा और आप लोग अपने पसंद के काम कर लिया खुलकर हंसी है टेलीविजन पर अपने पसंद के खेल देखिए मोबाइल में अपने पसंद के गाने सुनने डिटेल मंदिर जाइए भगवान में थोड़ा सा ध्यान लगाइए आपको बहुत अच्छा लगेगा और आप लोग अपनी पसंद का काम कीजिए जिसको करने से आपको खुशी मिलती हो तो इन सब कामों से आपको मानसिक अवसाद से काबू पा लेंगे बच्चे अच्छे काम कीजिए लिए मिली है सबसे हंसी है बोलिए बैठी है अपने आपको अकेला मत रखिए रखिए किसे आपकी मां के साथ-साथ देखा बप्पा सकेंगे धन्यवाद
Svaagat hai aapaka aapaka prashn maanasik avasaad par kin tareekon se kaaboo paaya ja sakata hai to prins agar kisee ko maanasik avasaad hai dipreshan hai to agar us par kaaboo paana hai to aap log aise logon se baat mat kar dee hai jin se baat karane se aapako tenshan hotee hai ya pareshaanee hotee hai to aap unase baat karana chhod deejie aur aap aise logon se baat karie jisase baat karane mein aapako khushee mahasoos hotee hai to aapako achchha lagega aur aap log apane pasand ke kaam kar liya khulakar hansee hai teleevijan par apane pasand ke khel dekhie mobail mein apane pasand ke gaane sunane ditel mandir jaie bhagavaan mein thoda sa dhyaan lagaie aapako bahut achchha lagega aur aap log apanee pasand ka kaam keejie jisako karane se aapako khushee milatee ho to in sab kaamon se aapako maanasik avasaad se kaaboo pa lenge bachche achchhe kaam keejie lie milee hai sabase hansee hai bolie baithee hai apane aapako akela mat rakhie rakhie kise aapakee maan ke saath-saath dekha bappa sakenge dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है?Mansik Avsad Par Kin Tareekon Se Kabu Paya Ja Sakta Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:49
वाले की मानसिक अवस्था तक किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है मानसिक अवसाद या मेंटल डिप्रेशन पूरे विश्व की समस्या है लेकिन दुखद है कि इस पर कोई बात नहीं करता कई बार तो हमें लंबे समय तक पता ही नहीं चलता कि हम एक साथ में कुछ तरीके हैं जिनसे आप अवसाद से निकल सकते हैं जैसे सबसे पहले अपनी रूटीन को सही करना आप पूरी कोशिश करी थी सुबह जागे और रात में जल्दी सोच मेडिटेशन सबसे जरूरी चीज अवसाद से निजात पानी माता सुबह उठकर 15 से 20 मिनट ध्यान लगाएं अनुलोम-विलोम भ्रामरी प्राणायाम मस्तिष्क की शांति के लिए बहुत आवश्यक है इससे आप पूरे दिन शांति का अनुभव करते हैं वह मुझे व्यक्तिगत तौर पर बेहद पसंद है रोज का गोल रखिए कि आपको कितने कदम चलना है जैसे 5000 कदम या फिर 10000 कदम भी वॉक से नींद भी अच्छी आती है अपना भोजन संतुलित रखें भोजन में ताजे फल एवं सब्जियां ज्यादा रखें अच्छा खाएंगे तो निश्चित ही अच्छा महसूस करें भोजन का समय नियमित रखें सोशल मीडिया से दूरी बना आजकल सोशल सोशल मीडिया पर दादा एक्टिव रहने से बहुत सारी मेंटल प्रॉब्लम लोगों में देखी जा रही फेसबुक इंस्टाग्राम जैसे आपसी व्यक्ति को मोको शिकार हो रहा है जो एक तरह के साथ लोगों से बिछड़ने का डर होता है अगर आप इन सोशल एप पर अच्छा नहीं फील करते तो तुरंत का प्रयोग बंद कर दीजिए अच्छी किताबें पढ़ी है अच्छी रीडिंग आपको बेहतर महसूस कर आइए अच्छा म्यूजिक सुनी और अच्छी मूवी है कि भले ही आपको आदत ना हो अगर तुम मुझसे ज्यादा है तो मेडिटेशन का कोई कोड साइन कर सकते हैं जब सेना का 10 दिन का शिव बहुत सारे शहरों में लगता है अमूमन यह फ्री ऑफ कॉस्ट ही होते हैं आप अपनी क्षमता अनुसार बाद में कंफ्यूज कर सकते हैं
Vaale kee maanasik avastha tak kin tareekon se kaaboo paaya ja sakata hai maanasik avasaad ya mental dipreshan poore vishv kee samasya hai lekin dukhad hai ki is par koee baat nahin karata kaee baar to hamen lambe samay tak pata hee nahin chalata ki ham ek saath mein kuchh tareeke hain jinase aap avasaad se nikal sakate hain jaise sabase pahale apanee rooteen ko sahee karana aap pooree koshish karee thee subah jaage aur raat mein jaldee soch mediteshan sabase jarooree cheej avasaad se nijaat paanee maata subah uthakar 15 se 20 minat dhyaan lagaen anulom-vilom bhraamaree praanaayaam mastishk kee shaanti ke lie bahut aavashyak hai isase aap poore din shaanti ka anubhav karate hain vah mujhe vyaktigat taur par behad pasand hai roj ka gol rakhie ki aapako kitane kadam chalana hai jaise 5000 kadam ya phir 10000 kadam bhee vok se neend bhee achchhee aatee hai apana bhojan santulit rakhen bhojan mein taaje phal evan sabjiyaan jyaada rakhen achchha khaenge to nishchit hee achchha mahasoos karen bhojan ka samay niyamit rakhen soshal meediya se dooree bana aajakal soshal soshal meediya par daada ektiv rahane se bahut saaree mental problam logon mein dekhee ja rahee phesabuk instaagraam jaise aapasee vyakti ko moko shikaar ho raha hai jo ek tarah ke saath logon se bichhadane ka dar hota hai agar aap in soshal ep par achchha nahin pheel karate to turant ka prayog band kar deejie achchhee kitaaben padhee hai achchhee reeding aapako behatar mahasoos kar aaie achchha myoojik sunee aur achchhee moovee hai ki bhale hee aapako aadat na ho agar tum mujhase jyaada hai to mediteshan ka koee kod sain kar sakate hain jab sena ka 10 din ka shiv bahut saare shaharon mein lagata hai amooman yah phree oph kost hee hote hain aap apanee kshamata anusaar baad mein kamphyooj kar sakate hain

bolkar speaker
मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है?Mansik Avsad Par Kin Tareekon Se Kabu Paya Ja Sakta Hai
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:41
हेलो फ्रेंड्स नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है मानसिक अवसाद होता है वह बहुत ही भयानक होती है यह डिप्रेशन में जब आप रहते हैं किसी को चीज को ज्यादा सोच लेते हैं अच्छी से ज्यादा जो है उसका अपने लाइफ में उपयोग मान लेते हैं जिसका कोई उपाय में उपयोगी नहीं होता किसी चीज को अपने माइंड भेजो है जवाब बहुत ज्यादा गहराई से सोच लेते हैं तो यह चीज जो है उत्पन्न होती है इसमें क्या होता है फ्रेंड आपकी मानसिक संतुलन बिगड़ जाती है आपके सोचने समझने की क्षमता जो है वह कम हो जाती है आप किस तरीके से सोच रहे हैं क्या सोच रहे हैं यह आपको समझ नहीं आएगा आपको किसी चीज का आपको कसम ऐसा लगा रहेगा कि आप किस बारे में सोच रहे हैं इसी क्या होता है कभी-कभी इंसान का जो है मानसिक संतुलन जो है फिर बिगड़ भी सकता है फिर इसे आप पर मेडिटेशन के नाम से भी जानते हैं टेंशन के नाम से भी जानते हैं तो फ्रेंड है इनसे बचने के लिए क्या करना होगा अपने घर का माहौल अपने खुद है पार्टी रखना होगा नीचे की बातें नहीं सोचती होगी है और हंसी खुशी से रहना होता है कोई भी काम हो कोई भी परेशानी हो उसे हंसी खुशी से जो है हिंदी करना होता है कर्मी किसी प्रकार की जो कर कुछ बोलते हैं कल हम बोलते हैं जो है वह नहीं होनी चाहिए क्योंकि जब आपके घर में कला होगी तो वह आप चाहकर भी खुश नहीं रह सकते फ्रेंड की खुशियां कहीं से बंद कर नहीं आती मैं आपको बोल दूं कि आप खुश रहिए ठीक है फिर तू वह बताने से नहीं होगा हम चाहते हैं हम खुश रहे तो वह हमारे अंदर नहीं आएगी जब तक कि वातावरण संतुलन नारे अगर हम किसी प्रकार की प्रॉब्लम नहीं है कि किसी प्रकार की प्रॉब्लम नहीं है तो हमें किसी के बताने की जरूरत नहीं हो रेंट क्या हम खुश रहे हम आटोमेटिक जो है खुश रहते हैं रीजन गिराता फ्रेंड की हमें किसी प्रकार की कोई प्रॉब्लम नहीं रहती तो कोई कारण भी नहीं रहता हमारे दुखी होने का लेकिन अगर हम दुखी हैं तो हमारे पास कोई कारण नहीं रहता क्या मैं खुश हुआ जाए तो आप इसे का सलूशन यही है कि आप बुखार ही ना आने दीजिए जो आपकी मुस्कुराहट को छीन रहा है आप अच्छे से रहिए बस तेरे घर में कोई प्रॉब्लम का सलूशन जो है ठंडे दिमाग से सोच समझ कर लीजिए सब ठीक हो जाएगा फिल्म आशा है आप सभी को आशीर्वाद पसंद है हुआ नमस्कार
Helo phrends namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai maanasik avasaad par kin tareekon se kaaboo paaya ja sakata hai maanasik avasaad hota hai vah bahut hee bhayaanak hotee hai yah dipreshan mein jab aap rahate hain kisee ko cheej ko jyaada soch lete hain achchhee se jyaada jo hai usaka apane laiph mein upayog maan lete hain jisaka koee upaay mein upayogee nahin hota kisee cheej ko apane maind bhejo hai javaab bahut jyaada gaharaee se soch lete hain to yah cheej jo hai utpann hotee hai isamen kya hota hai phrend aapakee maanasik santulan bigad jaatee hai aapake sochane samajhane kee kshamata jo hai vah kam ho jaatee hai aap kis tareeke se soch rahe hain kya soch rahe hain yah aapako samajh nahin aaega aapako kisee cheej ka aapako kasam aisa laga rahega ki aap kis baare mein soch rahe hain isee kya hota hai kabhee-kabhee insaan ka jo hai maanasik santulan jo hai phir bigad bhee sakata hai phir ise aap par mediteshan ke naam se bhee jaanate hain tenshan ke naam se bhee jaanate hain to phrend hai inase bachane ke lie kya karana hoga apane ghar ka maahaul apane khud hai paartee rakhana hoga neeche kee baaten nahin sochatee hogee hai aur hansee khushee se rahana hota hai koee bhee kaam ho koee bhee pareshaanee ho use hansee khushee se jo hai hindee karana hota hai karmee kisee prakaar kee jo kar kuchh bolate hain kal ham bolate hain jo hai vah nahin honee chaahie kyonki jab aapake ghar mein kala hogee to vah aap chaahakar bhee khush nahin rah sakate phrend kee khushiyaan kaheen se band kar nahin aatee main aapako bol doon ki aap khush rahie theek hai phir too vah bataane se nahin hoga ham chaahate hain ham khush rahe to vah hamaare andar nahin aaegee jab tak ki vaataavaran santulan naare agar ham kisee prakaar kee problam nahin hai ki kisee prakaar kee problam nahin hai to hamen kisee ke bataane kee jaroorat nahin ho rent kya ham khush rahe ham aatometik jo hai khush rahate hain reejan giraata phrend kee hamen kisee prakaar kee koee problam nahin rahatee to koee kaaran bhee nahin rahata hamaare dukhee hone ka lekin agar ham dukhee hain to hamaare paas koee kaaran nahin rahata kya main khush hua jae to aap ise ka salooshan yahee hai ki aap bukhaar hee na aane deejie jo aapakee muskuraahat ko chheen raha hai aap achchhe se rahie bas tere ghar mein koee problam ka salooshan jo hai thande dimaag se soch samajh kar leejie sab theek ho jaega philm aasha hai aap sabhee ko aasheervaad pasand hai hua namaskaar

bolkar speaker
मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है?Mansik Avsad Par Kin Tareekon Se Kabu Paya Ja Sakta Hai
Siya Ram Dubey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Siya जी का जवाब
Youtuber, life coach, spiritual thinker, motivational speaker, social media influencer
1:23
नमस्कार आपका प्रश्न है कि मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है तो देखी एक मानसिक और 7:00 पर काबू पाना इतना आसान नहीं है क्योंकि कोई भी मानसिक अवसाद तभी होता है जब किस बात को लेकर हम सोच विचार करने लगते हैं और गहराई में चले जाते हैं और उस गहराई को हम कितना भी चाहते हुए भी पीछा नहीं छुड़ा पाते हैं इसका एक ही उपाय है कि आप यदि किसी सोच से परेशान हैं तो उस चीज को धीरे-धीरे कोशिश करें कि बुलाएं और दूसरे काम में अपने आप को उलझा कर रखें ताकि वह चीज है जो है वह याद ना आए और यह अपने आप पर कभी हावी मत होने दें कि यह मैं नहीं कर सकता चाहे मत मेरा यह नुकसान हो गया यही चीजें होती है जो कि मानसिक अवसाद का कारण बनती है या फिर कोई कुछ आपसे कह देता है उल्टा सीधा बोल देता है उसके कारण भी कई बार और साथ हो जाते हैं तो यदि उन चीजों को भूल कर हम भविष्य में आगे बढ़ाने की बारे में सोचें और उस चीज को बुलाकर और अपने आप को किसी दूसरे काम में इंवॉल्व रखें तो मुझे नहीं लगता है कि अवसाद इतना हावी आप पर हो सकता है आपको इस प्रश्न के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद आपका दिन शुभ हो
Namaskaar aapaka prashn hai ki maanasik avasaad par kin tareekon se kaaboo paaya ja sakata hai to dekhee ek maanasik aur 7:00 par kaaboo paana itana aasaan nahin hai kyonki koee bhee maanasik avasaad tabhee hota hai jab kis baat ko lekar ham soch vichaar karane lagate hain aur gaharaee mein chale jaate hain aur us gaharaee ko ham kitana bhee chaahate hue bhee peechha nahin chhuda paate hain isaka ek hee upaay hai ki aap yadi kisee soch se pareshaan hain to us cheej ko dheere-dheere koshish karen ki bulaen aur doosare kaam mein apane aap ko ulajha kar rakhen taaki vah cheej hai jo hai vah yaad na aae aur yah apane aap par kabhee haavee mat hone den ki yah main nahin kar sakata chaahe mat mera yah nukasaan ho gaya yahee cheejen hotee hai jo ki maanasik avasaad ka kaaran banatee hai ya phir koee kuchh aapase kah deta hai ulta seedha bol deta hai usake kaaran bhee kaee baar aur saath ho jaate hain to yadi un cheejon ko bhool kar ham bhavishy mein aage badhaane kee baare mein sochen aur us cheej ko bulaakar aur apane aap ko kisee doosare kaam mein involv rakhen to mujhe nahin lagata hai ki avasaad itana haavee aap par ho sakata hai aapako is prashn ke lie bahut-bahut dhanyavaad aapaka din shubh ho

bolkar speaker
मानसिक अवसाद पर किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है?Mansik Avsad Par Kin Tareekon Se Kabu Paya Ja Sakta Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:44
मानसिक अवसाद पर किन-किन तरीकों से काबू पाया जा सकता है लेकिन मानसिक अवसाद ही दिमागी फितूर के कारण उत्पन्न होता है जो नकारात्मक सोच अपने दिमाग में ज्यादा भर जाती है और हम तरह-तरह के बाद खोजने लगते हैं अपने ऊपर से विश्वास हट जाता दूसरे लोगों पर विश्वास करना बंद कर देते हैं और हमेशा भयभीत रहते कि हम आगे कुछ ऐसा हमारे साथ ना हो जाए कहीं ऐसा ना हो जाए कहीं कोई दुखद घटना ना हो जाए इन सब चीजों से जब मन परेशान हो जाता तब अवसाद की स्थिति आती है इससे बचने के लिए सबसे बड़ी चीज आप अपना थोड़ा सा योगा कीजिए प्राणायाम कीजिए संगीत सुनने का प्रयास कीजिए और तरह-तरह की बातें अपने दिमाग से निकाल दिए यह तो सबके साथ हो सकता जो भी घटनाएं होती हूं सबके साथ होती तो होगा उसे निपटा जाएगा अगर आदमी परिस्थितियों से डर कर के ही अवसाद में चला जाएगा तो उसका क्या परिणाम होगा इसलिए अधिक से अधिक सोचना बंद कीजिए जब आपके दिमाग में इस तरह की बातें आने लगे तो आप अपने दिमाग को अच्छी पुस्तकों के साथ लगाइए गीता पढ़िए थोड़ा सा रामायण पढ़ तो आपको थोड़ा सा दिमाग खुलेगा और अध्यात्म की ओर जाइए दुनिया भर की बातें जरूर सोचिए मत और अपने दिमाग से बात निकाल दीजिए कि 2 लोगों पर बात करते हैं तो और हम वह हमारी बुराई कर रहे होंगे हमारे खिलाफ कोविड-19 बना रहे होंगे यह प्रकार से यह विचित्र था दिमाग की होती है इसको रोल अभ्यास के द्वारा ही दूर किया जा सकता है और दूसरों पर भरोसा करना सीखे अपने आप भरोसा करना सीखिए और आप अपने आप यह मत सोचिए कि हम संसार के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं और हम जो करेंगे अच्छा ही करेंगे भगवान पर भरोसा रखिए और अपने अंदर का विश्वास हो नकारात्मकता को दूर करने का सफल प्रयास करना पड़ेगा आपको
Maanasik avasaad par kin-kin tareekon se kaaboo paaya ja sakata hai lekin maanasik avasaad hee dimaagee phitoor ke kaaran utpann hota hai jo nakaaraatmak soch apane dimaag mein jyaada bhar jaatee hai aur ham tarah-tarah ke baad khojane lagate hain apane oopar se vishvaas hat jaata doosare logon par vishvaas karana band kar dete hain aur hamesha bhayabheet rahate ki ham aage kuchh aisa hamaare saath na ho jae kaheen aisa na ho jae kaheen koee dukhad ghatana na ho jae in sab cheejon se jab man pareshaan ho jaata tab avasaad kee sthiti aatee hai isase bachane ke lie sabase badee cheej aap apana thoda sa yoga keejie praanaayaam keejie sangeet sunane ka prayaas keejie aur tarah-tarah kee baaten apane dimaag se nikaal die yah to sabake saath ho sakata jo bhee ghatanaen hotee hoon sabake saath hotee to hoga use nipata jaega agar aadamee paristhitiyon se dar kar ke hee avasaad mein chala jaega to usaka kya parinaam hoga isalie adhik se adhik sochana band keejie jab aapake dimaag mein is tarah kee baaten aane lage to aap apane dimaag ko achchhee pustakon ke saath lagaie geeta padhie thoda sa raamaayan padh to aapako thoda sa dimaag khulega aur adhyaatm kee or jaie duniya bhar kee baaten jaroor sochie mat aur apane dimaag se baat nikaal deejie ki 2 logon par baat karate hain to aur ham vah hamaaree buraee kar rahe honge hamaare khilaaph kovid-19 bana rahe honge yah prakaar se yah vichitr tha dimaag kee hotee hai isako rol abhyaas ke dvaara hee door kiya ja sakata hai aur doosaron par bharosa karana seekhe apane aap bharosa karana seekhie aur aap apane aap yah mat sochie ki ham sansaar ke sabase mahatvapoorn vyakti hain aur ham jo karenge achchha hee karenge bhagavaan par bharosa rakhie aur apane andar ka vishvaas ho nakaaraatmakata ko door karane ka saphal prayaas karana padega aapako

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard