#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?

Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:30
प्लांट की चेन में इतनी चौड़ी क्यों होती है वह इस वजह से होती है कि जो भी अंदर कार्य किया जा रहा है उसका जो भी दुआ है या जो बेटी रियाक्षण हो रहा है या जो भी चीज है ऑपरेशन के फॉर्म में वह तुरंत ही एनवायरनमेंट में बाहर चली जाए क्योंकि अगर उसकी चिमनी छोटी होगी तो वह उस स्पेस में फैक्ट्री के अंदर या उसे प्लांट में अंदर ही अंदर अगर वह क्यों इकट्ठा होने लगे तो भाग काम करने वाले लोगों के लिए वह हानिकारक हो सकती हैं आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Plaant kee chen mein itanee chaudee kyon hotee hai vah is vajah se hotee hai ki jo bhee andar kaary kiya ja raha hai usaka jo bhee dua hai ya jo betee riyaakshan ho raha hai ya jo bhee cheej hai opareshan ke phorm mein vah turant hee enavaayaranament mein baahar chalee jae kyonki agar usakee chimanee chhotee hogee to vah us spes mein phaiktree ke andar ya use plaant mein andar hee andar agar vah kyon ikattha hone lage to bhaag kaam karane vaale logon ke lie vah haanikaarak ho sakatee hain aapaka din shubh rahe dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:12
रियल पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों ध्यान में रखते हैं क्योंकि रेडियोएक्टिव तत्व होते हैं इन देशों को ज्यादा ऊर्जा निकलती है और दूसरा यह भी होता है कि पावर प्लांट जहां पर भी लगाए जाते हैं उसमें ऊष्मा होती और शायरी उस्मा का ही प्रयोग नहीं कर पाते हैं और सारा का सारा और लोग कन्वर्ट नहीं कर पाते हैं इलेक्ट्रिक में या एनर्जी दूसरे सोर्सेस में नतीजा क्या होता है आप देखेंगे और फ्रेंड के एक बहुत बड़ा स्रोत होता पानी में पानी भरा जाता है यदि क्या-क्या होता है कि जब उस्मा का स्रोत बहुत तेजी से निकलता है कि जमनिया खोलने लगने लगती है उसे पानी होता है तो नतीजा क्या होता है गुस्से निकलने वाला व्हाट्सएप जो होता है अधूरा होता है उसे रेडिएशन बहुत कम हो जाता है इन्हें आस पास नहीं है और उस पावर प्लांट से निश्चित तौर पर पूरा का पूरा पानी बड़ी तेजी से निकलता है वह बंद करके और दूसरा है कि जब व्हाट्सएप बंद करके आप देखेंगे वह ड्रॉपलेट बनता है और वही गिरता भी है तो निश्चित तौर पर बड़े-बड़े टरबाइन के माध्यम से इसको कन्वर्ट भी कर लिया जाता है यूज भी कर लिया जाता है और कई प्रोसेस से गुजरना पड़ता है और ऐसी पावर प्लांट के आसपास के वातावरण में इतनी गर्मी पड़ जाती है और इतना high-temperature हो जाता है तो निश्चित तौर पर इन सब चीजों को कंट्रोल करने के लिए ऐसा किया जाता है तो कहीं नहीं बनानी दृष्टिकोण से है कि हाई टेंपरेचर को कन्वर्ट करने के लिए या उस्मा को मिनिमाइज करने के लिए रेडिएशन कम करने के लिए और जो इर्द गिर्द वास बनता है उसको ज्यादा बड़े बड़े होते हैं बिजली कंटेन कर लिया जाता है और इसको यूटिलाइज कर लिया जाता है
Riyal paavar plaant kee chimanee itanee chaudee kyon dhyaan mein rakhate hain kyonki rediyoektiv tatv hote hain in deshon ko jyaada oorja nikalatee hai aur doosara yah bhee hota hai ki paavar plaant jahaan par bhee lagae jaate hain usamen ooshma hotee aur shaayaree usma ka hee prayog nahin kar paate hain aur saara ka saara aur log kanvart nahin kar paate hain ilektrik mein ya enarjee doosare sorses mein nateeja kya hota hai aap dekhenge aur phrend ke ek bahut bada srot hota paanee mein paanee bhara jaata hai yadi kya-kya hota hai ki jab usma ka srot bahut tejee se nikalata hai ki jamaniya kholane lagane lagatee hai use paanee hota hai to nateeja kya hota hai gusse nikalane vaala vhaatsep jo hota hai adhoora hota hai use redieshan bahut kam ho jaata hai inhen aas paas nahin hai aur us paavar plaant se nishchit taur par poora ka poora paanee badee tejee se nikalata hai vah band karake aur doosara hai ki jab vhaatsep band karake aap dekhenge vah dropalet banata hai aur vahee girata bhee hai to nishchit taur par bade-bade tarabain ke maadhyam se isako kanvart bhee kar liya jaata hai yooj bhee kar liya jaata hai aur kaee proses se gujarana padata hai aur aisee paavar plaant ke aasapaas ke vaataavaran mein itanee garmee pad jaatee hai aur itana high-taimpairaturai ho jaata hai to nishchit taur par in sab cheejon ko kantrol karane ke lie aisa kiya jaata hai to kaheen nahin banaanee drshtikon se hai ki haee temparechar ko kanvart karane ke lie ya usma ko minimaij karane ke lie redieshan kam karane ke lie aur jo ird gird vaas banata hai usako jyaada bade bade hote hain bijalee kanten kar liya jaata hai aur isako yootilaij kar liya jaata hai

bolkar speaker
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:46
जी आप का सवाल है कि न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी की जोड़ी क्यों होते हैं तो दरअसल आप का मतलब है आप का मतलब इससे है कि एक गुंबद के आकार का बनाया होता है उसे आप जिम नहीं बोलते हैं इससे जीवनी नेताओ टावर कहा जाता है वह बड़े पावर प्लांट बड़ी मात्रा में गर्मी का उत्पादन उत्पन्न करता है लेकिन उसका लगभग आधा ही प्रयोग करते हैं इसलिए पर गिरने से बचने के लिए शेष कर्म को छोड़ना जरूरी है इसलिए शिव पुराण में छोड़ देते हैं यदि आसपास कोई बड़ी नदी का पानी का प्रयोग करते हैं लेकिन यदि नहीं तो उसे वाटर द्वारा गर्म छोड़ने के लिए बड़ी चिमनी जैसे टावरों का निर्माण करते हैं यहां यह चिमनी बाप छोड़ती हैं ने जमाया वितरण और इतने बड़े टावर क्यों बनाए जाते हैं टावर के नीचे मैं गर्म पानी छोड़ने से वह गरम लगने लगते हैं और टावर के अंदर ऊपर उठाना शुरू कर देते हैं इसी तरह गर्म हवा का एक बार उठता है फिर नीचे की ओर खुली जिंग जिंग वाली जगह से ताजी हवा अंदर खींच आती है और वैश्वीकरण दोबारा पानी को ठंडा करता है टावर को इतनी बड़ी मात्रा में हवा की आवश्यकता है कि जितना गर्म पानी की बड़ी मात्रा को ठंडा करने के लिए आवश्यक है पानी को पानी जितना मात्रा में टावर प्लेट में प्रयोग होता है वह सस्ता नहीं है बल्कि वह अजीत अत्यधिक शुद्ध होता है धन्यवाद
Jee aap ka savaal hai ki nyookliyar paavar plaant kee chimanee kee jodee kyon hote hain to darasal aap ka matalab hai aap ka matalab isase hai ki ek gumbad ke aakaar ka banaaya hota hai use aap jim nahin bolate hain isase jeevanee netao taavar kaha jaata hai vah bade paavar plaant badee maatra mein garmee ka utpaadan utpann karata hai lekin usaka lagabhag aadha hee prayog karate hain isalie par girane se bachane ke lie shesh karm ko chhodana jarooree hai isalie shiv puraan mein chhod dete hain yadi aasapaas koee badee nadee ka paanee ka prayog karate hain lekin yadi nahin to use vaatar dvaara garm chhodane ke lie badee chimanee jaise taavaron ka nirmaan karate hain yahaan yah chimanee baap chhodatee hain ne jamaaya vitaran aur itane bade taavar kyon banae jaate hain taavar ke neeche main garm paanee chhodane se vah garam lagane lagate hain aur taavar ke andar oopar uthaana shuroo kar dete hain isee tarah garm hava ka ek baar uthata hai phir neeche kee or khulee jing jing vaalee jagah se taajee hava andar kheench aatee hai aur vaishveekaran dobaara paanee ko thanda karata hai taavar ko itanee badee maatra mein hava kee aavashyakata hai ki jitana garm paanee kee badee maatra ko thanda karane ke lie aavashyak hai paanee ko paanee jitana maatra mein taavar plet mein prayog hota hai vah sasta nahin hai balki vah ajeet atyadhik shuddh hota hai dhanyavaad

bolkar speaker
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
1:49
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करें पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चमड़ी क्यों होती है तो मित्र न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनिया चौड़ी होने के पीछे कई कारण होते हैं क्योंकि न्यूक्लियर पावर पावर प्लांट बहुत बड़ी मात्रा में गर्मी उत्पन्न करते हैं लेकिन सारी गर्मी का उपयोग नहीं कर पाते हैं और न्यूक्लियर पावर प्लांट में उत्पन ऊष्मा का लगभग आधा भाग प्रयुक्त रह जाता है लेकिन प्लांट को पिघलाने से बचाने के लिए अतिरिक्त उस्मा को रिलीज करना जरूरी हो जाता है तो यह चिनिया इस अतिरिक्त ऊष्मा का प्रयोग पानी को उबालकर इससे निकलने वाले धोने जैसी घनी भाग हुए जितनी ही खतरनाक कर देती हैं हर न्यूक्लियर पावर प्लांट के आसपास पानी का कोई बड़ा स्रोत होता है यदि ऐसा कोई स्रोत ना हो तो ऐसी विशाल चिमनिया बनाई जाती हैं बहुत सारे पानी को इन में भरकर प्लांट में उत्पन ऊष्मा से खिलाया जाता है और यह चिमनिया रेडिएशन नहीं निकालते हैं इन्हें इतना गुस्सा किस लिए बनाया जाता है कि ऊपर उठती भाप ठंडी होते-होते वापस चिमणु में ही गिर जाए इससे पानी की बचत होती है और यह पानी का मशीन और टरबाइन में फिर से इस्तेमाल किया जा सके इन प्लांट में इतने अधिक पानी का उपयोग होता है कि इसे फिर से प्रोसेस करके दोबारा उपयोग में लेना सस्ता पड़ता है पावर प्लांट के आसपास के वातावरण और मशीनरी को भी इस भाग की गर्मी से बचाने के लिए चमन यू को बहुत ऊंचा और चौड़ा बनाना जरूरी होता है जिन प्लांट में कोयले का प्रयोग किया जाता है वहां धीरे को रिलीज करने के लिए एक पतली लंबी चिमनी अलग से लगाई जाती है तो मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं नवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr aapaka bol karen par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai nyookliyar paavar plaant kee chimanee itanee chamadee kyon hotee hai to mitr nyookliyar paavar plaant kee chimaniya chaudee hone ke peechhe kaee kaaran hote hain kyonki nyookliyar paavar paavar plaant bahut badee maatra mein garmee utpann karate hain lekin saaree garmee ka upayog nahin kar paate hain aur nyookliyar paavar plaant mein utpan ooshma ka lagabhag aadha bhaag prayukt rah jaata hai lekin plaant ko pighalaane se bachaane ke lie atirikt usma ko rileej karana jarooree ho jaata hai to yah chiniya is atirikt ooshma ka prayog paanee ko ubaalakar isase nikalane vaale dhone jaisee ghanee bhaag hue jitanee hee khataranaak kar detee hain har nyookliyar paavar plaant ke aasapaas paanee ka koee bada srot hota hai yadi aisa koee srot na ho to aisee vishaal chimaniya banaee jaatee hain bahut saare paanee ko in mein bharakar plaant mein utpan ooshma se khilaaya jaata hai aur yah chimaniya redieshan nahin nikaalate hain inhen itana gussa kis lie banaaya jaata hai ki oopar uthatee bhaap thandee hote-hote vaapas chimanu mein hee gir jae isase paanee kee bachat hotee hai aur yah paanee ka masheen aur tarabain mein phir se istemaal kiya ja sake in plaant mein itane adhik paanee ka upayog hota hai ki ise phir se proses karake dobaara upayog mein lena sasta padata hai paavar plaant ke aasapaas ke vaataavaran aur masheenaree ko bhee is bhaag kee garmee se bachaane ke lie chaman yoo ko bahut ooncha aur chauda banaana jarooree hota hai jin plaant mein koyale ka prayog kiya jaata hai vahaan dheere ko rileej karane ke lie ek patalee lambee chimanee alag se lagaee jaatee hai to mitr yah javaab achchha laga ho to krpaya sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen navaad

bolkar speaker
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:57
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी के आसपास वातावरण को शुद्ध तथा मशीनरी को भी बाप की गर्मी से बचाने के लिए चिमनिया को बहुत ऊंचा बनाया जाता है जिसमें कोयले का प्रयोग किया जा सके को बाहर निकालने के लिए एक पतली चिमनी अलग होती है तथा हर न्यूक्लियर पावर प्लांट के आस पास आने का बड़ा स्त्रोत भी बना होता है तथा यहां पानी का स्त्रोत ना हो तो यहां चिमनिया बनाई जाती हैं तथा बहुत सारे पानी को प्लांट में भरकर उत्पन ऊष्मा से खोला जाता है चेक किए चिमने दुआ रेडिएशन नहीं फैलाते
Nyookliyar paavar plaant kee chimanee ke aasapaas vaataavaran ko shuddh tatha masheenaree ko bhee baap kee garmee se bachaane ke lie chimaniya ko bahut ooncha banaaya jaata hai jisamen koyale ka prayog kiya ja sake ko baahar nikaalane ke lie ek patalee chimanee alag hotee hai tatha har nyookliyar paavar plaant ke aas paas aane ka bada strot bhee bana hota hai tatha yahaan paanee ka strot na ho to yahaan chimaniya banaee jaatee hain tatha bahut saare paanee ko plaant mein bharakar utpan ooshma se khola jaata hai chek kie chimane dua redieshan nahin phailaate

bolkar speaker
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:17
फिर पावर प्लांट की चिमनी कितनी चौड़ी क्यों होते हैं दोस्तों इस से जुड़े होने का मजा यह है कि जब भी कोई उसके अंदर गैस बनती है दुआ निकालना होता है उसके लिए बड़ी तादाद में यह सारी चीजें निकलती है और इसी वजह से इसका चौड़ा किया जाता है
Phir paavar plaant kee chimanee kitanee chaudee kyon hote hain doston is se jude hone ka maja yah hai ki jab bhee koee usake andar gais banatee hai dua nikaalana hota hai usake lie badee taadaad mein yah saaree cheejen nikalatee hai aur isee vajah se isaka chauda kiya jaata hai

bolkar speaker
न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है?Neuclor Powerr Plant Ki Chimni Itni Chaudi Kyun Hoti Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:46
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपको देखने न्यूक्लियर पावर नहीं छोड़ी क्यों होती है तो फ्रेंड्स और लड़कों के लिए इसलिए थोड़ी लंबी और रूचि होती है क्योंकि उनसे जो गंदगी निकलती है उनसे जो वेस्टीज होता है वह बहुत ऊंचाई में जाकर वहीं पर खत्म हो जाए अगर उनकी चिड़िया नीचे होगी तो वह वहीं पर पूरा प्रदूषण फैला देंगे और वहां पर जो काम करते हैं और आसपास के जो लोग हैं तो उनको स्वस्थ संबंधी दिक्कतें होने लगेंगे सांस लेने में दिक्कत होगी और वह बहुत ज्यादा प्रदूषण महापर्व फेल आएंगे इसलिए उनकी कमियां काफी चौड़ी लंबी होती है कि उनकी गंदगी पूरी बहुत ऊंचाई से जा सके और वही खत्म हो जाए तो फ्रेंड्स जवाब पसंद आए तो लाइक कीजिए धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapako dekhane nyookliyar paavar nahin chhodee kyon hotee hai to phrends aur ladakon ke lie isalie thodee lambee aur roochi hotee hai kyonki unase jo gandagee nikalatee hai unase jo vesteej hota hai vah bahut oonchaee mein jaakar vaheen par khatm ho jae agar unakee chidiya neeche hogee to vah vaheen par poora pradooshan phaila denge aur vahaan par jo kaam karate hain aur aasapaas ke jo log hain to unako svasth sambandhee dikkaten hone lagenge saans lene mein dikkat hogee aur vah bahut jyaada pradooshan mahaaparv phel aaenge isalie unakee kamiyaan kaaphee chaudee lambee hotee hai ki unakee gandagee pooree bahut oonchaee se ja sake aur vahee khatm ho jae to phrends javaab pasand aae to laik keejie dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी इतनी चौड़ी क्यों होती है न्यूक्लियर पावर प्लांट की चिमनी
URL copied to clipboard