#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का महत्व क्या है?

Bhartiya Sanskriti Vali Saree Ka Mahatv Kya Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:18
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का महत्व क्या है फ्रंट हमारी भारतीय संस्कृति में साड़ी का बहुत महत्व है हमारे यहां स्त्रियां साड़ी पहनती हैं और साड़ी पहनने में मैं बहुत ही अच्छी लगती है इसलिए साड़ी का बहुत महत्व है हमारे यहां साड़ी पारंपरिक हमारी ट्रेडिशनल ड्रेस है जो शादी के बाद तो लड़कियां साड़ी जो दूर है पहनती है और उस में बहुत खूबसूरत लगती है साड़ी के जितना सुंदर किसी भी ड्रेस में महिलाएं नहीं लगती है इसलिए साड़ी में मरी संस्कृति में साड़ी का बहुत महत्व है हर औरत शादी के बाद हमारे हिंदू समाज में तो शादी भी साड़ी पहनकर ही होती है विदाई साड़ी पहनकर होती है तो साड़ी का बहुत महत्व है साड़ी पहनने से बहुत सुंदर लगती है बहुत खूबसूरत लगती है और जब भी कोई तीज त्यौहार या व्रत होता है तुम लोग साड़ी पहनकर ही पूजा करते हैं और हम लोग और कोई अन्य वस्त्र नहीं पहनते साड़ी को शुभ मानते हैं साड़ी एंकर हम लोग पूजा पाठ करते हैं हमारी संस्कृति में साड़ी का बहुत महत्व है साड़ी पहन की औरत और पूजा पाठ में भाग लेती है बैठती है और साड़ी पहनने से ही बहुत अच्छी भी लगती है जो पसंद आए तो लाइक कीजिएगा धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai bhaarateey sanskrti vaalee sari ka mahatv kya hai phrant hamaaree bhaarateey sanskrti mein sari ka bahut mahatv hai hamaare yahaan striyaan sari pahanatee hain aur sari pahanane mein main bahut hee achchhee lagatee hai isalie sari ka bahut mahatv hai hamaare yahaan sari paaramparik hamaaree tredishanal dres hai jo shaadee ke baad to ladakiyaan sari jo door hai pahanatee hai aur us mein bahut khoobasoorat lagatee hai sari ke jitana sundar kisee bhee dres mein mahilaen nahin lagatee hai isalie sari mein maree sanskrti mein sari ka bahut mahatv hai har aurat shaadee ke baad hamaare hindoo samaaj mein to shaadee bhee sari pahanakar hee hotee hai vidaee sari pahanakar hotee hai to sari ka bahut mahatv hai sari pahanane se bahut sundar lagatee hai bahut khoobasoorat lagatee hai aur jab bhee koee teej tyauhaar ya vrat hota hai tum log sari pahanakar hee pooja karate hain aur ham log aur koee any vastr nahin pahanate sari ko shubh maanate hain sari enkar ham log pooja paath karate hain hamaaree sanskrti mein sari ka bahut mahatv hai sari pahan kee aurat aur pooja paath mein bhaag letee hai baithatee hai aur sari pahanane se hee bahut achchhee bhee lagatee hai jo pasand aae to laik keejiega dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का महत्व क्या है?Bhartiya Sanskriti Vali Saree Ka Mahatv Kya Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:18
माधुरी जी के द्वारा पूछा गया सवाल है भारतीय संस्कृत वाली साड़ी का महत्व क्या है माधुरी जी सवाल पूछने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद देखे भारतीय संस्कृति हिंदू परंपरा महिलाओं का प्रमुख परिधान साड़ी है जिसे कई क्षेत्रों में सारी के नाम से भी जाना जाता है प्राचीन समय से ही भारतीय परिधान में गिनी जाने वाली साड़ी सबसे लंबा वस्त्र माना गया है प्राचीन भारतीय ग्रंथों एवं वेदों में साड़ी शब्द का विशेष महत्व बताते हुए वर्णन किया गया है सर्वप्रथम आयुर्वेद में इसका वर्णन हुआ है तत्पश्चात यज्ञ हवन एवं पूजा भगवान की आराधना यह किसी विशेष त्योहार के मौके पर साड़ी पहनने का अत्यधिक महत्व बताया गया है इसीलिए प्राचीन इतिहास में साड़ी को पत्नी के लिए विशेष एवं शुभ परिधान माना गया है पौराणिक काल से वर्तमान काल तक प्रचलित यह भारतीय प्रधान भिन्न-भिन्न परिवर्तन को संजोए हुए सर्वाधिक लंबा यह भारतीय परिधान पौराणिक ग्रंथ महाभारत के समय से ही स्त्री की आत्मरक्षा का प्रतीक माना गया है धन्यवाद
Maadhuree jee ke dvaara poochha gaya savaal hai bhaarateey sanskrt vaalee sari ka mahatv kya hai maadhuree jee savaal poochhane ke lie bahut-bahut dhanyavaad dekhe bhaarateey sanskrti hindoo parampara mahilaon ka pramukh paridhaan sari hai jise kaee kshetron mein saaree ke naam se bhee jaana jaata hai praacheen samay se hee bhaarateey paridhaan mein ginee jaane vaalee sari sabase lamba vastr maana gaya hai praacheen bhaarateey granthon evan vedon mein sari shabd ka vishesh mahatv bataate hue varnan kiya gaya hai sarvapratham aayurved mein isaka varnan hua hai tatpashchaat yagy havan evan pooja bhagavaan kee aaraadhana yah kisee vishesh tyohaar ke mauke par sari pahanane ka atyadhik mahatv bataaya gaya hai iseelie praacheen itihaas mein sari ko patnee ke lie vishesh evan shubh paridhaan maana gaya hai pauraanik kaal se vartamaan kaal tak prachalit yah bhaarateey pradhaan bhinn-bhinn parivartan ko sanjoe hue sarvaadhik lamba yah bhaarateey paridhaan pauraanik granth mahaabhaarat ke samay se hee stree kee aatmaraksha ka prateek maana gaya hai dhanyavaad

bolkar speaker
भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का महत्व क्या है?Bhartiya Sanskriti Vali Saree Ka Mahatv Kya Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:45
सवाल है कि भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का क्या महत्व है प्राचीन समय से ही साड़ी को भारतीय महिलाओं के श्रंगार का हिस्सा माना गया है एवं कोई विशेष अवसरों पर साड़ी को पहनना शुभ भी माना गया है भारतीय साड़ी महिलाओं का पहनावा ही नहीं बल्कि उनके लिए भारतीय संस्कृति का प्रतीक भी है प्राचीन भारतीय ग्रंथ एवं वेदों में साड़ी शब्द का विशेषण महत्व बताते हुए वर्णन किया गया है सब प्रथम यजुर्वेद में इसका वर्णन हुआ है तत्पश्चात यज्ञ हवन एवं पूजा या किसी भी विशेष त्योहार के मौके पर भी साड़ी पहनने का अत्यधिक महत्व बताया गया है इसलिए प्राचीन इतिहास में साड़ी को पत्नी के लिए विशेष शुभ परिधान माना गया है
Savaal hai ki bhaarateey sanskrti vaalee sari ka kya mahatv hai praacheen samay se hee sari ko bhaarateey mahilaon ke shrangaar ka hissa maana gaya hai evan koee vishesh avasaron par sari ko pahanana shubh bhee maana gaya hai bhaarateey sari mahilaon ka pahanaava hee nahin balki unake lie bhaarateey sanskrti ka prateek bhee hai praacheen bhaarateey granth evan vedon mein sari shabd ka visheshan mahatv bataate hue varnan kiya gaya hai sab pratham yajurved mein isaka varnan hua hai tatpashchaat yagy havan evan pooja ya kisee bhee vishesh tyohaar ke mauke par bhee sari pahanane ka atyadhik mahatv bataaya gaya hai isalie praacheen itihaas mein sari ko patnee ke lie vishesh shubh paridhaan maana gaya hai

bolkar speaker
भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का महत्व क्या है?Bhartiya Sanskriti Vali Saree Ka Mahatv Kya Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:28
आपके सवाल है कि भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का क्या महत्व है तो प्राचीन समय से ही साड़ी को भारतीय महिलाओं के सिंगार का एक ही सामान आ गया भैंस की विशेष अवसरों पर साड़ी को पहनावा शुभ माना गया है साड़ी भर्ती महिलाओं का पहनावा ही नहीं बल्कि उनके लिए भारतीय संस्कृति का प्रतीक भी हैं धन्यवाद
Aapake savaal hai ki bhaarateey sanskrti vaalee sari ka kya mahatv hai to praacheen samay se hee sari ko bhaarateey mahilaon ke singaar ka ek hee saamaan aa gaya bhains kee vishesh avasaron par sari ko pahanaava shubh maana gaya hai sari bhartee mahilaon ka pahanaava hee nahin balki unake lie bhaarateey sanskrti ka prateek bhee hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारतीय संस्कृति वाली साड़ी का महत्व क्या है साड़ी का महत्व क्या है
URL copied to clipboard