#पढ़ाई लिखाई

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
2:04
आपका जो सवाल है इसकी में जानकारी आपको देना चाहता हूं कि आप एमपीएससी करते हो यूपीएससी करते हो या कोई भी स्पर्धा परीक्षा का अभ्यास करते हो तो उसमें पदवीधर होना अनिवार्य रहता है उसके साथ-साथ आप फर्स्ट ईयर में पहले वर्ष में दूसरे वर्ष में और तीसरे वर्ष में जो भी आपका विषय रहता है यानी कि आप अगर पहले वर्ष में कोई विशेष करते हो और अगले साल वही रहता है तो आप फाइनल ईयर एंड लास्ट ईयर थर्ड ईयर में तृतीय वर्ष में अपना विषय बदल सकते हो से आपको कोई दिक्कत नहीं होगी यूपीएससी एमपीएससी करने में क्योंकि उन्हें आप की पदवी होना जरूरी होता है ना कि आप कौन सी विषय सब्जेक्ट लेकर पदवी उत्तीर्ण हुए हो उनको जो मान्यता प्राप्त विद्यापीठ रहता है जैसे कि मुंबई विद्यापीठ पुणे विद्यापीठ शिवाजी विद्यापीठ और उसी तरह हमारे महाराष्ट्र में और कहीं भी जो विद्यापीठ में के अंतर्गत आते हैं सरकार के अंदर आते हैं वह नामांकन प्राप्त रहते हैं उसको ईद का गायत्री यूनिवर्सिटी पर हम पदवी करके हमारा पूरा ग्रेजुएशन पोस्ट ग्रेजुएशन करके हमें जो चाहिए वह अगला एग्जाम दे सकते हैं पीसीएम पैसे के लिए कोई जरूरत नहीं है आपका कौन सा सब्जेक्ट फर्स्ट ईयर में था सेकंड ईयर में अलग है या थर्ड ईयर में अलग हो आप जो चाहे वह चूस कर सकते हो
Aapaka jo savaal hai isakee mein jaanakaaree aapako dena chaahata hoon ki aap emapeeesasee karate ho yoopeeesasee karate ho ya koee bhee spardha pareeksha ka abhyaas karate ho to usamen padaveedhar hona anivaary rahata hai usake saath-saath aap pharst eeyar mein pahale varsh mein doosare varsh mein aur teesare varsh mein jo bhee aapaka vishay rahata hai yaanee ki aap agar pahale varsh mein koee vishesh karate ho aur agale saal vahee rahata hai to aap phainal eeyar end laast eeyar thard eeyar mein trteey varsh mein apana vishay badal sakate ho se aapako koee dikkat nahin hogee yoopeeesasee emapeeesasee karane mein kyonki unhen aap kee padavee hona jarooree hota hai na ki aap kaun see vishay sabjekt lekar padavee utteern hue ho unako jo maanyata praapt vidyaapeeth rahata hai jaise ki mumbee vidyaapeeth pune vidyaapeeth shivaajee vidyaapeeth aur usee tarah hamaare mahaaraashtr mein aur kaheen bhee jo vidyaapeeth mein ke antargat aate hain sarakaar ke andar aate hain vah naamaankan praapt rahate hain usako eed ka gaayatree yoonivarsitee par ham padavee karake hamaara poora grejueshan post grejueshan karake hamen jo chaahie vah agala egjaam de sakate hain peeseeem paise ke lie koee jaroorat nahin hai aapaka kaun sa sabjekt pharst eeyar mein tha sekand eeyar mein alag hai ya thard eeyar mein alag ho aap jo chaahe vah choos kar sakate ho

और जवाब सुनें

BEBY SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए BEBY जी का जवाब
I am student
1:37
जैसा कि सवाल है कि क्या ग्रेजुएशन करने में अपना सब्जेक्ट बदला जा सकता है मैंने फर्स्ट ईयर में मैच लिया ऑफ है अब अपना सचिव बदल सकता इसे यूपीएससी में तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा अगर आप ग्रेजुएशन कर रहे हैं और आप फर्स्ट ईयर मैथ कर चुके हैं तो सेकंड ईयर के बहुत मुश्किल होता है कि मत होना सब्जेक्ट चेंज हो सके यह लगभग तो बहुत ज्यादा मुश्किल होता है सब्जेक्ट चेंज करना लेकिन अगर आप सब्जेक्ट चेंज करना चाहते हैं किसी भी चेंज हो जाता है कोई इससे आपको यूपीएससी में फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि यूपीएससी यह नहीं मानती है कि आप किस सब्जेक्ट में दर्शन किए हैं आप अपना परसेंटेज आपको कौन कौन सा सब्जेक्ट है किस लेवल का है जी आपसे यूपीएससी नहीं मानती युक्तियों से सिर्फ अपने स्टूडेंट्स के लिए एक अच्छी क्वालिटी होनी चाहिए जो कि अफसर या एक यूनिवर्सिटी एंड के साथ होना चाहिए सिर्फ यूपीएससी आपको योग्यता मानती है ना कि आप का सब्जेक्ट मांगती है परसेंटेज मांगते आपका नंबर मांगते नहीं इसलिए आपको यूनिवर्सिटी कोई फर्क नहीं पड़ेगा आप चाहे तो किसी भी सब्जेक्ट ग्रेजुएशन करके आप भी व्यक्ति का तैयारी कर सकते हैं यूपीएससी क्लियर कर सकते हैं यूपीएससी में ऐसा कोई रोक-टोक नहीं है या फिर नहीं पड़ेंगे आपको ही पड़ेगा आप किसी भी सब्जेक्ट को बेझिझक व्हाट्सएप रखते हैं और यू पी एस सी के एग्जाम दे
Jaisa ki savaal hai ki kya grejueshan karane mein apana sabjekt badala ja sakata hai mainne pharst eeyar mein maich liya oph hai ab apana sachiv badal sakata ise yoopeeesasee mein to koee phark nahin padega agar aap grejueshan kar rahe hain aur aap pharst eeyar maith kar chuke hain to sekand eeyar ke bahut mushkil hota hai ki mat hona sabjekt chenj ho sake yah lagabhag to bahut jyaada mushkil hota hai sabjekt chenj karana lekin agar aap sabjekt chenj karana chaahate hain kisee bhee chenj ho jaata hai koee isase aapako yoopeeesasee mein phark nahin padega kyonki yoopeeesasee yah nahin maanatee hai ki aap kis sabjekt mein darshan kie hain aap apana parasentej aapako kaun kaun sa sabjekt hai kis leval ka hai jee aapase yoopeeesasee nahin maanatee yuktiyon se sirph apane stoodents ke lie ek achchhee kvaalitee honee chaahie jo ki aphasar ya ek yoonivarsitee end ke saath hona chaahie sirph yoopeeesasee aapako yogyata maanatee hai na ki aap ka sabjekt maangatee hai parasentej maangate aapaka nambar maangate nahin isalie aapako yoonivarsitee koee phark nahin padega aap chaahe to kisee bhee sabjekt grejueshan karake aap bhee vyakti ka taiyaaree kar sakate hain yoopeeesasee kliyar kar sakate hain yoopeeesasee mein aisa koee rok-tok nahin hai ya phir nahin padenge aapako hee padega aap kisee bhee sabjekt ko bejhijhak vhaatsep rakhate hain aur yoo pee es see ke egjaam de

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • यूपीएससी, क्या ग्रेजुएशन करने में अपना सब्जेक्ट बदला जा सकता है
URL copied to clipboard