#undefined

DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
1:31
इमानदारी हो गई हुई है कि अब जो हो वैसा हो और आप दोस्तों के पास अंदर में भी खुद को झांक के देख पाते हो अर्थात कि आपको कुछ आपके सामने वाले और आप दूसरों की स्वास्थ्य उनकी जीवन के लिए भी आप रेस्पेक्ट करते हो उसके अंदर आप खुद को महसूस करते हो जैसे कि सपा जब मैं 1 टूथपेस्ट का दुकान दिया हूं तो स्पष्ट का कंपनी खोला हूं और मेरे को पता है कि सामने वाला टूथपेस्ट खरीद कर लेकर जाएगा लेकिन अगर मैं ईमानदार हूं तो मैं उठ पेस्ट को पूरी अच्छे से बना लूंगा जैसे कि मेरा खुद का बच्चों को तभी दुष्ट दुष्ट का यूज करेंगे लेकिन अगर नहीं मानता रहूंगा तो मैं दिमाग में लगाऊंगा की फोटो पेस्ट में भरा रहा हूं उसको के जाल बना लूंगा उसको बेकार तरीके से बनाऊंगा ठीक है तो जातक ईमेल को ज्यादा मुनाफा हो जब तक तो कोई दूसरा यूज़ करेगा मैं थोड़ी ना खुद ही उस करूंगा तो इसमें क्या कमी हो गया है कि वह जो टूथपेस्ट बनाने वाला मैं मैं दूसरे के अंदर में देख नहीं पाया कि दूसरा का स्वास्थ्य बोल रहा था तो ईमानदारी खा लो और इमानदार होने से याद रखिए कि हमेशा दुनिया का फिर करेगा और आप हमेशा आगे रहेंगे अगर आप ईमानदार है तो ईमानदार एक बात कहा गया है कि ईमानदार लोग के लिए कोई कंपटीशन नहीं है दुनिया में तो थोड़ी देर के लिए पीछे रह जाएगा लेकिन वो पीछे रहते हुए भी अपने आपको हमेशा आगे पाता है वही हमेशा आपको सेल्सियस पर रखेगा आपको आत्म संतुष्ट मिलेगा हमेशा भगवान के सामने अपनी मां को क्या कर दिखा पाएंगे और मैसेज याद रखे आपकी ईमानदारी आपको एक ना एक दिन आपको एक रिजल्ट जरूर देखें
Imaanadaaree ho gaee huee hai ki ab jo ho vaisa ho aur aap doston ke paas andar mein bhee khud ko jhaank ke dekh paate ho arthaat ki aapako kuchh aapake saamane vaale aur aap doosaron kee svaasthy unakee jeevan ke lie bhee aap respekt karate ho usake andar aap khud ko mahasoos karate ho jaise ki sapa jab main 1 toothapest ka dukaan diya hoon to spasht ka kampanee khola hoon aur mere ko pata hai ki saamane vaala toothapest khareed kar lekar jaega lekin agar main eemaanadaar hoon to main uth pest ko pooree achchhe se bana loonga jaise ki mera khud ka bachchon ko tabhee dusht dusht ka yooj karenge lekin agar nahin maanata rahoonga to main dimaag mein lagaoonga kee photo pest mein bhara raha hoon usako ke jaal bana loonga usako bekaar tareeke se banaoonga theek hai to jaatak eemel ko jyaada munaapha ho jab tak to koee doosara yooz karega main thodee na khud hee us karoonga to isamen kya kamee ho gaya hai ki vah jo toothapest banaane vaala main main doosare ke andar mein dekh nahin paaya ki doosara ka svaasthy bol raha tha to eemaanadaaree kha lo aur imaanadaar hone se yaad rakhie ki hamesha duniya ka phir karega aur aap hamesha aage rahenge agar aap eemaanadaar hai to eemaanadaar ek baat kaha gaya hai ki eemaanadaar log ke lie koee kampateeshan nahin hai duniya mein to thodee der ke lie peechhe rah jaega lekin vo peechhe rahate hue bhee apane aapako hamesha aage paata hai vahee hamesha aapako selsiyas par rakhega aapako aatm santusht milega hamesha bhagavaan ke saamane apanee maan ko kya kar dikha paenge aur maisej yaad rakhe aapakee eemaanadaaree aapako ek na ek din aapako ek rijalt jaroor dekhen

और जवाब सुनें

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:06
इमानदारी क्या है ईमानदारी कैसे रखें और इसके क्या फायदे नुकसान है फ्रेंड सकती है मगर किसी का तुम्हारे पास गलती से आ गया बता दें कि आपका सामान हमारे पास है मैं किसी के पैसे हमारे पास गलती से आ जाए तुमसे अगर इमानदारी से पैसे लौटा दे तो उसे ईमानदारी करते हैं हम अपने काम के प्रति समर्पित है सच्ची भावना से काम करें उसे ही इमानदारी कहा जाता है और इसके बहुत सारे फायदे होते हैं जो व्यक्ति इमानदार होता है उसकी समाज वधु निर्मित होती है बहुत बड़ाई मिलती है और इमानदारी रखने से जैसे हमारे पास किसी का कर दे सामान आग लगने से लौटा दिया ईमानदारी रखें तो हमारी मन को आत्मा को भी बहुत सुकून मिलता है और इसके बहुत सारे फायदे हैं मेरे हिसाब से हम गुस्सा नहीं है बेटी को ईमानदार होना ही चाहिए इमानदारी से हमारा देश की बहुत सारी बड़ी बहुत अच्छी चीज होती है अपने जीवन में ईमानदारी से रहना करना चाहिए
Imaanadaaree kya hai eemaanadaaree kaise rakhen aur isake kya phaayade nukasaan hai phrend sakatee hai magar kisee ka tumhaare paas galatee se aa gaya bata den ki aapaka saamaan hamaare paas hai main kisee ke paise hamaare paas galatee se aa jae tumase agar imaanadaaree se paise lauta de to use eemaanadaaree karate hain ham apane kaam ke prati samarpit hai sachchee bhaavana se kaam karen use hee imaanadaaree kaha jaata hai aur isake bahut saare phaayade hote hain jo vyakti imaanadaar hota hai usakee samaaj vadhu nirmit hotee hai bahut badaee milatee hai aur imaanadaaree rakhane se jaise hamaare paas kisee ka kar de saamaan aag lagane se lauta diya eemaanadaaree rakhen to hamaaree man ko aatma ko bhee bahut sukoon milata hai aur isake bahut saare phaayade hain mere hisaab se ham gussa nahin hai betee ko eemaanadaar hona hee chaahie imaanadaaree se hamaara desh kee bahut saaree badee bahut achchhee cheej hotee hai apane jeevan mein eemaanadaaree se rahana karana chaahie

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
6:59
ईमानदारी क्या है और इमानदारी कैसे रखें और इस से क्या फायदे होते और क्या नुकसान होता है ईमानदारी का मतलब होता है प्रमाणिकता सच्चाई अपने बोलने में अपने बर्ताव में अपने होने में अपने जीने में और अपने मरने में भी इमानदारी चाहिए अगर नहीं होती है तो उसको बेईमान कहते हैं देवी मंदिर का मतलब यह होता है कि अगर हम जो बोलते हैं वही हम करते हैं और वह अगर हम उसके ऊपर इतिहास तरीके से नहीं भरता कुर्ते तो हम ईमानदार व्यक्ति नहीं होते हम कुछ चीजें लेते हैं लेकिन लिया है यह मैंने नहीं करते यह भी एक बेईमानी वाली चीज होती है किसी भी तरह के फ्रॉड करना झूठे वायदे करना और बाद में पूरे ना करना यह बेईमानी वाली बात होती है ईमानदारी का मतलब होता है एक फिल्म में शायद वह फिल्म विधाता है दिलीप कुमार ने अपने स्टाइल में कहा था कहां है वह उसने वफादारी कुत्तों से सीखो वफादारी का मतलब ईमानदारी निष्ठा है पोर्न स्टार जो है असल में हम कहीं पर ढूंढना चाहते हैं या देखना चाहते हैं तो हमारी जो पालतू कुत्ते होते हैं वह अपने मालिक के प्रति किस तरह से व्यवहार करते हैं यह जरा ध्यान से देखने पर अपने आप ही पता चलेगा कि ईमानदारी क्या होते हैं वफादारी क्या होती और बेईमानी क्या इंसानों की कटिंग बात हो गई बहुत देर से सोच रहा हूं किसका उदाहरण दिया है लेकिन नाम सामने नहीं आया और जो है बताए जाते हैं वह हमसे कभी मिले नहीं वह महापुरुष है या अन्य महान व्यक्ति लेकिन व्यवहार में ऐसा व्यक्ति कभी मिला नहीं है और इसके लिए यह भी कहा जाता है कि ईमानदारी और आदर्श सच्चाई है ऐसी बातें पहले अपने आप से शुरू कर देनी चाहिए तब जाकर दुनिया बदलेगी और हम अपने आप से शुरू नहीं करते इसलिए दुनिया बदलती नहीं ऐसे ही चलती है ऐसे ही बेईमानी करती है उसी बेवफाई या करती है ऐसा नहीं कहा जा सकता है ईमानदारी के फायदे बहुत है ईमानदारी से हमें कोई भी मदद करने के लिए तैयार हो जाता है तो यार रहता है क्योंकि हम ईमानदार होते हैं यह बात उसको अच्छी लगती है अगर वह खुद भी बंदर नहीं हो तो भी ईमानदार व्यक्ति की इज्जत होती है इज्जत करते हैं उसका सम्मान करते हैं उसके कुछ काम अगर किसी के पास होते हैं तो वह काम भी किए जाते हैं उसे लोग प्यार करते हैं उसको लोग संरक्षण देते हैं हर एक चीज में ईमानदार व्यक्ति को अच्छे रिजल्ट मिलते हैं और इसके नुकसान भी कुछ है कुछ क्षेत्र ऐसे होते हैं कि यहां पर ईमानदारी करना बहुत गरीब वर्ग बात होती है जैसी खुफिया एजेंसी को बताया कि मैं ऐसा ईमानदारी से बताया तो आगे क्या होगा आप समझ सकते हैं ना कि राज होते हैं अगर ईमानदारी से बताएं तो दुश्मन तक पहुंच सकते हैं और जान का खतरा उसमें हो सकता है तुलसी अतिशय क्षेत्र में ईमानदारी जो है उसकी व्याख्या अलग है वैसे ही कल सापेक्ष है और व्यक्ति सापेक्ष भी हुए उसकी व्याख्या होती हैं कई लोगों को ऐसा लगता है कि मैं जो कर रहा हूं वही काम ईमानदारी का है और दूसरों का काम जो है वह भी मायने में मैंने एक मानसिक विकृति होती है या इसको स्वामी विवेकानंद ने स्वतंत्रता का समर्थन किया है आपने जो मत होते हैं विचार होते हैं उसके लिए वह अंधा अंधा होता है वैसे अभी मोदी भक्त मोदी भक्त ऐसा बताया जा रहा है वह इस बात के लिए कि जो अंधे होकर दिमाग से अंधे होकर मोदी पर विश्वास रखते हैं उनको मोदी भक्त अंधे भक्त भी कहा जा रहा है अभी और ऐसे कई नेताओं के अंधभक्त होते हैं तो इस तरीके से 1 जून में जीने के लिए महत्वपूर्ण चीज है इसका कोई अलग मत नहीं हो सकता जिंदगी अगर अच्छी तरह से जीनी है तो जिम्मेदारियों को समझ कर ईमानदारी एक अच्छा गुण होता है धन्यवाद
Eemaanadaaree kya hai aur imaanadaaree kaise rakhen aur is se kya phaayade hote aur kya nukasaan hota hai eemaanadaaree ka matalab hota hai pramaanikata sachchaee apane bolane mein apane bartaav mein apane hone mein apane jeene mein aur apane marane mein bhee imaanadaaree chaahie agar nahin hotee hai to usako beeemaan kahate hain devee mandir ka matalab yah hota hai ki agar ham jo bolate hain vahee ham karate hain aur vah agar ham usake oopar itihaas tareeke se nahin bharata kurte to ham eemaanadaar vyakti nahin hote ham kuchh cheejen lete hain lekin liya hai yah mainne nahin karate yah bhee ek beeemaanee vaalee cheej hotee hai kisee bhee tarah ke phrod karana jhoothe vaayade karana aur baad mein poore na karana yah beeemaanee vaalee baat hotee hai eemaanadaaree ka matalab hota hai ek philm mein shaayad vah philm vidhaata hai dileep kumaar ne apane stail mein kaha tha kahaan hai vah usane vaphaadaaree kutton se seekho vaphaadaaree ka matalab eemaanadaaree nishtha hai porn staar jo hai asal mein ham kaheen par dhoondhana chaahate hain ya dekhana chaahate hain to hamaaree jo paalatoo kutte hote hain vah apane maalik ke prati kis tarah se vyavahaar karate hain yah jara dhyaan se dekhane par apane aap hee pata chalega ki eemaanadaaree kya hote hain vaphaadaaree kya hotee aur beeemaanee kya insaanon kee kating baat ho gaee bahut der se soch raha hoon kisaka udaaharan diya hai lekin naam saamane nahin aaya aur jo hai batae jaate hain vah hamase kabhee mile nahin vah mahaapurush hai ya any mahaan vyakti lekin vyavahaar mein aisa vyakti kabhee mila nahin hai aur isake lie yah bhee kaha jaata hai ki eemaanadaaree aur aadarsh sachchaee hai aisee baaten pahale apane aap se shuroo kar denee chaahie tab jaakar duniya badalegee aur ham apane aap se shuroo nahin karate isalie duniya badalatee nahin aise hee chalatee hai aise hee beeemaanee karatee hai usee bevaphaee ya karatee hai aisa nahin kaha ja sakata hai eemaanadaaree ke phaayade bahut hai eemaanadaaree se hamen koee bhee madad karane ke lie taiyaar ho jaata hai to yaar rahata hai kyonki ham eemaanadaar hote hain yah baat usako achchhee lagatee hai agar vah khud bhee bandar nahin ho to bhee eemaanadaar vyakti kee ijjat hotee hai ijjat karate hain usaka sammaan karate hain usake kuchh kaam agar kisee ke paas hote hain to vah kaam bhee kie jaate hain use log pyaar karate hain usako log sanrakshan dete hain har ek cheej mein eemaanadaar vyakti ko achchhe rijalt milate hain aur isake nukasaan bhee kuchh hai kuchh kshetr aise hote hain ki yahaan par eemaanadaaree karana bahut gareeb varg baat hotee hai jaisee khuphiya ejensee ko bataaya ki main aisa eemaanadaaree se bataaya to aage kya hoga aap samajh sakate hain na ki raaj hote hain agar eemaanadaaree se bataen to dushman tak pahunch sakate hain aur jaan ka khatara usamen ho sakata hai tulasee atishay kshetr mein eemaanadaaree jo hai usakee vyaakhya alag hai vaise hee kal saapeksh hai aur vyakti saapeksh bhee hue usakee vyaakhya hotee hain kaee logon ko aisa lagata hai ki main jo kar raha hoon vahee kaam eemaanadaaree ka hai aur doosaron ka kaam jo hai vah bhee maayane mein mainne ek maanasik vikrti hotee hai ya isako svaamee vivekaanand ne svatantrata ka samarthan kiya hai aapane jo mat hote hain vichaar hote hain usake lie vah andha andha hota hai vaise abhee modee bhakt modee bhakt aisa bataaya ja raha hai vah is baat ke lie ki jo andhe hokar dimaag se andhe hokar modee par vishvaas rakhate hain unako modee bhakt andhe bhakt bhee kaha ja raha hai abhee aur aise kaee netaon ke andhabhakt hote hain to is tareeke se 1 joon mein jeene ke lie mahatvapoorn cheej hai isaka koee alag mat nahin ho sakata jindagee agar achchhee tarah se jeenee hai to jimmedaariyon ko samajh kar eemaanadaaree ek achchha gun hota hai dhanyavaad

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:51
ईमानदारी क्या है और इमानदारी कैसे रखें इससे क्या फायदे हैं और नुकसान है जो भी कार्य हम करते हैं उसमें सच्चाई का प्रदर्शन हो उसमें किसी भी प्रकार की मौलिकता को ह्रास ना किया जाए वह सच्चाई होती है जैसे हमारे पास ₹100 है और कोई आदमी को जवाब बस कितने पैसे हैं तो हम बढ़ा चढ़ाकर के ना बोलें जगत भाई मेरे पास ₹100 है तुम्हें आप हमारी क्या मदद करेंगे तो आईडी अगर आप उससे कह देते भाई मेरे पास ₹10000 दिन का भाई ₹5000 में अपना काम चल 5000 पर मुझे जरूरत मुझे दे दो जब ₹100 ही हैं तो आप उसको मना कर दे भाई मेरे घर के खर्च से अतिरिक्त नहीं इसलिए मैं उसको नहीं दे सकता सच्चाई में थोड़ा सा टूट कर के भी बोलना कभी कभी पड़ जाता है और सच्चाई हमेशा शुरू से अंत तक क्योंकि उसमें कोई परिवर्तन नहीं होता है वह एक जैसी हो लेकिन झूठ है कि अगर किसी से बढ़ा चढ़ा कर देते हैं तो किसी परिस्थिति में आप भूल सकते हैं तो आपको झूठ खुल सकता है सच्चाई में किसी प्रकार का अपमान नहीं होता और झूठ में सदैव आगे तो खुल जाता है तो सदैव अपमानित होते हैं और समाज में उसकी निंदा की जाती है झूठ बोलने पर कभी अब किसी कोई भरोसेमंद नहीं होता है सच्चाई ऐसी होती थी उस पर समय से सभी लोग बर्दाश्त को विश्वास करने जैसे आपने देखा होगा कि जब अश्वत्थामा मारा गया गुरु द्रोणाचार्य ने कहा कि अगर युधिष्ठिर कहते हैं तो हमारे सत्यवादी थे उनका हाथी का हत्था मारो नारायण कुंज अली का नक्शा थाना मर गए उन्होंने वहां पर झूठ नहीं बोला सही सही बोला तो सही कि यह पहचान होती है कि बिल्कुल आकाश के तारीख की बंदूक बल्कि चंद्रमा क्यों चमकता है
Eemaanadaaree kya hai aur imaanadaaree kaise rakhen isase kya phaayade hain aur nukasaan hai jo bhee kaary ham karate hain usamen sachchaee ka pradarshan ho usamen kisee bhee prakaar kee maulikata ko hraas na kiya jae vah sachchaee hotee hai jaise hamaare paas ₹100 hai aur koee aadamee ko javaab bas kitane paise hain to ham badha chadhaakar ke na bolen jagat bhaee mere paas ₹100 hai tumhen aap hamaaree kya madad karenge to aaeedee agar aap usase kah dete bhaee mere paas ₹10000 din ka bhaee ₹5000 mein apana kaam chal 5000 par mujhe jaroorat mujhe de do jab ₹100 hee hain to aap usako mana kar de bhaee mere ghar ke kharch se atirikt nahin isalie main usako nahin de sakata sachchaee mein thoda sa toot kar ke bhee bolana kabhee kabhee pad jaata hai aur sachchaee hamesha shuroo se ant tak kyonki usamen koee parivartan nahin hota hai vah ek jaisee ho lekin jhooth hai ki agar kisee se badha chadha kar dete hain to kisee paristhiti mein aap bhool sakate hain to aapako jhooth khul sakata hai sachchaee mein kisee prakaar ka apamaan nahin hota aur jhooth mein sadaiv aage to khul jaata hai to sadaiv apamaanit hote hain aur samaaj mein usakee ninda kee jaatee hai jhooth bolane par kabhee ab kisee koee bharosemand nahin hota hai sachchaee aisee hotee thee us par samay se sabhee log bardaasht ko vishvaas karane jaise aapane dekha hoga ki jab ashvatthaama maara gaya guru dronaachaary ne kaha ki agar yudhishthir kahate hain to hamaare satyavaadee the unaka haathee ka hattha maaro naaraayan kunj alee ka naksha thaana mar gae unhonne vahaan par jhooth nahin bola sahee sahee bola to sahee ki yah pahachaan hotee hai ki bilkul aakaash ke taareekh kee bandook balki chandrama kyon chamakata hai

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:05
अंदर क्या है और इमानदारी कैसे रखें और इसके क्या फायदे हैं और क्या नुकसान है दोस्तों ईमानदारी से तात्पर्य आपके मानते हैं कि आप जो आप कार्य कर दे उसको कितनी मेहनत के साथ कितने ईमान के साथ हो तो करते हैं ईमानदारी रखने की बहुत ज्यादा फायदे नुकसान तो कुछ भी नहीं है इमानदारी आपने किसी व्यक्ति के यहां पर आप काम कर रहे हैं और आपको आपके सिर्फ मेहनत आने से ही मतलब है ना ही किसी और चीज से उस व्यक्ति का कोई कीमती सामान आपके हाथ आता है वो कीमती सामान आप उस व्यक्ति को लौटा देते हैं आपकी ईमानदारी आपके काम से मतलब रखते हैं किसी और चीज से नहीं ईमानदारी जो है वह उसके बुक काफी फायदे आपको समाज के अंदर इज्जत देता है आपके समाज के अंदर आपका मान-सम्मान बढ़ाता है और समय आने पर लोग जो है एक इमानदार व्यक्ति की मदद भी काफी ज्यादा फायदे हैं
Andar kya hai aur imaanadaaree kaise rakhen aur isake kya phaayade hain aur kya nukasaan hai doston eemaanadaaree se taatpary aapake maanate hain ki aap jo aap kaary kar de usako kitanee mehanat ke saath kitane eemaan ke saath ho to karate hain eemaanadaaree rakhane kee bahut jyaada phaayade nukasaan to kuchh bhee nahin hai imaanadaaree aapane kisee vyakti ke yahaan par aap kaam kar rahe hain aur aapako aapake sirph mehanat aane se hee matalab hai na hee kisee aur cheej se us vyakti ka koee keematee saamaan aapake haath aata hai vo keematee saamaan aap us vyakti ko lauta dete hain aapakee eemaanadaaree aapake kaam se matalab rakhate hain kisee aur cheej se nahin eemaanadaaree jo hai vah usake buk kaaphee phaayade aapako samaaj ke andar ijjat deta hai aapake samaaj ke andar aapaka maan-sammaan badhaata hai aur samay aane par log jo hai ek imaanadaar vyakti kee madad bhee kaaphee jyaada phaayade hain

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:29
हेलो शिवांशु आज आप का सवाल है कि इमानदारी क्या है और इमानदारी कैसे रखे हैं और इसके क्या फायदे हैं और क्या नुकसान तो देखिए ईमानदार होना बहुत जरूरी होता है तू जब भी कोई भी कुछ भी चीज अगर हो रहा हूं आपसे पूछा जा रहा हूं कहीं पर भी कोई भी झगड़ा हो तो वहां पर आप सच और सच बोलेंगे जो सही है जो आपने देखा है जितना आपने देखा फिर आप इतना एक्यूरेट और कुछ भी चीज बताते तो आप ईमानदार कहलाते मतलब आपने कुछ भी मिलावटी या फिर आपका कोई दोस्त है आपका कोई शामिल किया कोई भी रिश्तेदार है तो आप उनकी फेवर में कुछ बोल रहे हैं झूठ बोल रहे हैं आप बातों को इधर-उधर हो जा रहे हैं आधा अधूरा कोई भी इंफॉर्मेशन दे रहे हैं झूठ ज्यादा से ज्यादा बोल देता इमानदार नहीं कहलाते तो यहां पर आपकी ईमानदारी मतलब नहीं दिखती है तो हमेशा इंसान ईमानदार अगर होता है तो उसका और शायद जो जितना जैसा रहता इंफॉर्मेशन वह उतना ही देता है तो जब भी अपने अंदर अगर मुझे मंदार बन्ना के अंदर यह जो गाना है हमें यह सोचना है कि नहीं तू जितना हमने देखा मैं तो नहीं बोलना अगर मतलब कोई से क्या होता है कि मैं नहीं तुम यह बोलो या वह बोलो या फिर बहुत बार हम कन्वींस भूल भी जाते कि नहीं हमारी रिश्तेदारी है हमारे दोस्त है लेकिन अब यह सोचिए कि अगर आप ऐसा बोल रहे हैं तो घर किसी का घर नुकसान हो जाए आपके बोलने से तो जिंदगी भर आप को माफ नहीं कर पाएंगे तो इसलिए सर्च ऑफ फैक्स बोलना बहुत जरूरी होता है तो ईमानदार बनने के लिए क्या फायदे क्या होते अगर आप सही बोलते बोलते हैं तो लोग आपकी बात सुनते हैं मतलब आंख बंद करके विश्वास करते कि नहीं इंसान ईमानदार है हमेशा सच और साक्षी बोलेगा यह कुछ मिलावट इधर उधर की बातें नहीं बोलेगा तो आप कैसे दोस्ती रिलेशन भी अच्छे बंदे लोग आपसे विश्वास करते नुकसान यह है कि बहुत आराम फूलों कन्वेंस करने की कोशिश करेंगे कि देखो यहां पर यह गलती पर तुमसे कुछ पूछा जाए तो तुम झूठ बोल देना ऐसे मैसेज लेकिन आप वहां पर सच बोलते हैं तो आपके बहुत सारे रिश्ते हैं जो मतलब छोड़ जाते हैं वह आपके साथ नहीं रहते क्योंकि आपने उनके हिसाब से नहीं बोला तो ऐसे अगर वह सिर्फ आपके एक सच बोलने से अगर जो रिश्ते चले जाते तो मेरे साथी रे का नहीं हूं ना ही ऐसा ही होता है तो आप जैसे हैं जो है आपको झूठ नहीं लगता जो सच झुकता हमेशा इंसान को वही बोलना चाहिए क्योंकि पैसे 24 तो इंसान हर एक कमा लेता लेकिन ईमानदारी और फिर इंसान की इज्जत सम्मान हर एक इंसान नहीं कमा पाता
Helo shivaanshu aaj aap ka savaal hai ki imaanadaaree kya hai aur imaanadaaree kaise rakhe hain aur isake kya phaayade hain aur kya nukasaan to dekhie eemaanadaar hona bahut jarooree hota hai too jab bhee koee bhee kuchh bhee cheej agar ho raha hoon aapase poochha ja raha hoon kaheen par bhee koee bhee jhagada ho to vahaan par aap sach aur sach bolenge jo sahee hai jo aapane dekha hai jitana aapane dekha phir aap itana ekyooret aur kuchh bhee cheej bataate to aap eemaanadaar kahalaate matalab aapane kuchh bhee milaavatee ya phir aapaka koee dost hai aapaka koee shaamil kiya koee bhee rishtedaar hai to aap unakee phevar mein kuchh bol rahe hain jhooth bol rahe hain aap baaton ko idhar-udhar ho ja rahe hain aadha adhoora koee bhee imphormeshan de rahe hain jhooth jyaada se jyaada bol deta imaanadaar nahin kahalaate to yahaan par aapakee eemaanadaaree matalab nahin dikhatee hai to hamesha insaan eemaanadaar agar hota hai to usaka aur shaayad jo jitana jaisa rahata imphormeshan vah utana hee deta hai to jab bhee apane andar agar mujhe mandaar banna ke andar yah jo gaana hai hamen yah sochana hai ki nahin too jitana hamane dekha main to nahin bolana agar matalab koee se kya hota hai ki main nahin tum yah bolo ya vah bolo ya phir bahut baar ham kanveens bhool bhee jaate ki nahin hamaaree rishtedaaree hai hamaare dost hai lekin ab yah sochie ki agar aap aisa bol rahe hain to ghar kisee ka ghar nukasaan ho jae aapake bolane se to jindagee bhar aap ko maaph nahin kar paenge to isalie sarch oph phaiks bolana bahut jarooree hota hai to eemaanadaar banane ke lie kya phaayade kya hote agar aap sahee bolate bolate hain to log aapakee baat sunate hain matalab aankh band karake vishvaas karate ki nahin insaan eemaanadaar hai hamesha sach aur saakshee bolega yah kuchh milaavat idhar udhar kee baaten nahin bolega to aap kaise dostee rileshan bhee achchhe bande log aapase vishvaas karate nukasaan yah hai ki bahut aaraam phoolon kanvens karane kee koshish karenge ki dekho yahaan par yah galatee par tumase kuchh poochha jae to tum jhooth bol dena aise maisej lekin aap vahaan par sach bolate hain to aapake bahut saare rishte hain jo matalab chhod jaate hain vah aapake saath nahin rahate kyonki aapane unake hisaab se nahin bola to aise agar vah sirph aapake ek sach bolane se agar jo rishte chale jaate to mere saathee re ka nahin hoon na hee aisa hee hota hai to aap jaise hain jo hai aapako jhooth nahin lagata jo sach jhukata hamesha insaan ko vahee bolana chaahie kyonki paise 24 to insaan har ek kama leta lekin eemaanadaaree aur phir insaan kee ijjat sammaan har ek insaan nahin kama paata

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • ईमानदारी क्या है ईमानदारी क्या होता है
URL copied to clipboard