#पढ़ाई लिखाई

Sreenivas Tutorials Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sreenivas जी का जवाब
Self employed, Computer teacher
2:59
राठी जी सिर क्लास 12th स्टूडेंट को ही नहीं बल्कि हर क्लास के स्टूडेंट को फॉलो करने चाहिए आजकल के स्टूडेंट में सबसे बड़ी कमी देखी गई है कि वे अपनी पढ़ाई में पूरा कंसंट्रेशन नहीं लगा पाते या कल चलते नहीं करते तो आप अपनी पढ़ाई नहीं कंसंट्रेट करने के लिए तो आपको जितने भी डिस्ट्रक्शन है उन सब को दूर करना चाहिए एग्जांपल आप ऐसे जगह पर पढ़ाई करें जहां पर कोई शोर शराबा ना हो चांद जवां हो और टीवी मोबाइल इन सब से दूर है पढ़ाई केवल हफ्ते में या पूरे दिन का एक टाइम टेबल बना लीजिए कि आपको कब क्या सब्जेक्ट पढ़ना है जो भी सभ्यता पढ़ते हैं उनका एक फ्लैश कार्ड बनाई है या फिर नोट्स बनाइए कुछ पढ़ाई को जो है करने के बाद में उसका रिवीजन उसी दिन एक या दो बार करिए अब आप पढ़ाई करते हैं तो कंटिनयसली आप लड़ाई ना करें बीच-बीच में शॉर्ट बाइक ले ले और इसके बाद में जब आपको याद हो जाए तो इसको जो है उसी टॉपिक को आप दो या तीन दिन तक कंटिन्यू प्ले स्टोर रिवाइस करते रहेंगे और उसके बाद इसे धीरे-धीरे कम करते रहेंगे या नहीं नंबर आफ टाइम्स जो आप रिवीजन कर रहे हैं उसके बाद में आपको कुछ अपने निजी जीवन की बातों का ध्यान रखना है जैसे कि आपको बहुत जल्दी सोना है और बहुत जल्दी उठ जाना है पानी का सेवन नियमित रूप से पानी लेते रहें दूसरी आप जितने भी तरह के और जो डिस्ट्रक्शन है उनसे दूर नहीं है यानी आपकी को किसी चीज का ऑडिशन नहीं होना चाहिए जैसे मोबाइल फोन का हुआ कंप्यूटर का फेसबुक व्हाट्सएप इन सारी चीजों से कुछ दिन के लिए आप दूर रहेंगे और वैसे आपने सिर्फ 1 महीने में ही पूछा है तो यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप की पिछले क्लास की पढ़ाई कैसी थी अगर किसी भी विषय को आप पढ़ेंगे तो उस वक्त उसके जितने भी मेन पॉइंट है उसको आप लिख ले दूसरी बार आप उस पॉइंट को देखकर फास्ट ट्रेडिंग करें उसके बाद फिर नेक्स्ट इसी तरह कंटिन्यू करते हो यह देखिए आपको जो है ना हो सका तो आपको चाहिए अच्छी सफलता मिल सकती है किंतु परिश्रम आपको करना है जब आप पढ़ाई करते हो किसी और विषय के बारे में सोचते हैं तो वह आप तो शायद उस पर आप कंसंट्रेशन नहीं कर पाएंगे और वह चीज आपको याद नहीं होगी कई लोगों की शिकायतें रहती है कि वह जो कुछ भी याद करते हैं वह सारी चीजें भूल जाती हैं तो आप अपने भोजन का भी ध्यान रखें धन्यवाद
Raathee jee sir klaas 12th stoodent ko hee nahin balki har klaas ke stoodent ko pholo karane chaahie aajakal ke stoodent mein sabase badee kamee dekhee gaee hai ki ve apanee padhaee mein poora kansantreshan nahin laga paate ya kal chalate nahin karate to aap apanee padhaee nahin kansantret karane ke lie to aapako jitane bhee distrakshan hai un sab ko door karana chaahie egjaampal aap aise jagah par padhaee karen jahaan par koee shor sharaaba na ho chaand javaan ho aur teevee mobail in sab se door hai padhaee keval haphte mein ya poore din ka ek taim tebal bana leejie ki aapako kab kya sabjekt padhana hai jo bhee sabhyata padhate hain unaka ek phlaish kaard banaee hai ya phir nots banaie kuchh padhaee ko jo hai karane ke baad mein usaka riveejan usee din ek ya do baar karie ab aap padhaee karate hain to kantinayasalee aap ladaee na karen beech-beech mein short baik le le aur isake baad mein jab aapako yaad ho jae to isako jo hai usee topik ko aap do ya teen din tak kantinyoo ple stor rivais karate rahenge aur usake baad ise dheere-dheere kam karate rahenge ya nahin nambar aaph taims jo aap riveejan kar rahe hain usake baad mein aapako kuchh apane nijee jeevan kee baaton ka dhyaan rakhana hai jaise ki aapako bahut jaldee sona hai aur bahut jaldee uth jaana hai paanee ka sevan niyamit roop se paanee lete rahen doosaree aap jitane bhee tarah ke aur jo distrakshan hai unase door nahin hai yaanee aapakee ko kisee cheej ka odishan nahin hona chaahie jaise mobail phon ka hua kampyootar ka phesabuk vhaatsep in saaree cheejon se kuchh din ke lie aap door rahenge aur vaise aapane sirph 1 maheene mein hee poochha hai to yah is baat par bhee nirbhar karata hai ki aap kee pichhale klaas kee padhaee kaisee thee agar kisee bhee vishay ko aap padhenge to us vakt usake jitane bhee men point hai usako aap likh le doosaree baar aap us point ko dekhakar phaast treding karen usake baad phir nekst isee tarah kantinyoo karate ho yah dekhie aapako jo hai na ho saka to aapako chaahie achchhee saphalata mil sakatee hai kintu parishram aapako karana hai jab aap padhaee karate ho kisee aur vishay ke baare mein sochate hain to vah aap to shaayad us par aap kansantreshan nahin kar paenge aur vah cheej aapako yaad nahin hogee kaee logon kee shikaayaten rahatee hai ki vah jo kuchh bhee yaad karate hain vah saaree cheejen bhool jaatee hain to aap apane bhojan ka bhee dhyaan rakhen dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्लास ट्वेल्थ का सिलेबस एक महीने में कैसे रिवाइज करे, क्लास 12 के रिवीजन के लिए बेस्ट स्ट्रेटजी
URL copied to clipboard