#जीवन शैली

ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
1:48
बाल पूछा गया है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोगों के गुणों को सूचीबद्ध करें तो देखिए आत्मविश्वास होना बहुत ज्यादा जरूरी है क्योंकि अगर आपके पास नॉलेज है और आपके पास आत्म विश्वास नहीं है तो आप अपने नॉलेज को दूसरों के सामने देख कर पाएंगे और अपने ज्ञान को लोगों के सामने प्रस्तुत नहीं कर पाते हैं तो मतलब आपके ज्ञान का कोई पूरी तरीके से जो है सदुपयोग नहीं हो पाता है और यह चीज अच्छी नहीं है जब आप कोई चीज जानते हैं और आप उस में पारंगत है तो आपको अगर उसको लोगों तक पहुंचाया बाटे तो उससे आपके जो है ज्ञान में बढ़ोतरी होगी और उसके अलावा उस ज्ञान को सही उपयोग हो पाएगा तो इसीलिए आत्मविश्वास होना जरूरी है और अब बात करते हैं आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए रहे थे कि अगर आप अपना आत्म बढ़ाना चाहते हैं तो सबसे बेहतरीन उपाय जो है इसका यह है कि आप कोई भी चीज के बारे में आप मिरर के सामने खड़े होकर बोलिए या फिर आप अपने आपको जैसे इंट्रोड्यूस कराने के लिए ही सही ऐसी कुछ छोटे-छोटे टॉपिक पर मेरा के सामने खड़े होकर बोलिए और अपनी आन जवाब मेरठ के सामने बोलते तो आपका जो आत्मविश्वास और धीरे-धीरे बढ़ता जाता है उसके अलावा अपने फ्रेंड सर्कल को छोड़कर नए लोगों से दोस्ती करने की कोशिश कीजिए मैं लोगों से बात करने की कोशिश की इससे भी आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा और उसके अलावा आपका जो है सोशल नॉलेज है वह भी बढ़ेगा उम्मीद करती हूं यह तरीके आप अपना आएंगे और आपको इसका लाभ मिलेगा धन्यवाद
Baal poochha gaya hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee logon ke gunon ko soocheebaddh karen to dekhie aatmavishvaas hona bahut jyaada jarooree hai kyonki agar aapake paas nolej hai aur aapake paas aatm vishvaas nahin hai to aap apane nolej ko doosaron ke saamane dekh kar paenge aur apane gyaan ko logon ke saamane prastut nahin kar paate hain to matalab aapake gyaan ka koee pooree tareeke se jo hai sadupayog nahin ho paata hai aur yah cheej achchhee nahin hai jab aap koee cheej jaanate hain aur aap us mein paarangat hai to aapako agar usako logon tak pahunchaaya baate to usase aapake jo hai gyaan mein badhotaree hogee aur usake alaava us gyaan ko sahee upayog ho paega to iseelie aatmavishvaas hona jarooree hai aur ab baat karate hain aatmavishvaas badhaane ke lie kya karana chaahie rahe the ki agar aap apana aatm badhaana chaahate hain to sabase behatareen upaay jo hai isaka yah hai ki aap koee bhee cheej ke baare mein aap mirar ke saamane khade hokar bolie ya phir aap apane aapako jaise introdyoos karaane ke lie hee sahee aisee kuchh chhote-chhote topik par mera ke saamane khade hokar bolie aur apanee aan javaab merath ke saamane bolate to aapaka jo aatmavishvaas aur dheere-dheere badhata jaata hai usake alaava apane phrend sarkal ko chhodakar nae logon se dostee karane kee koshish keejie main logon se baat karane kee koshish kee isase bhee aapaka aatmavishvaas badhega aur usake alaava aapaka jo hai soshal nolej hai vah bhee badhega ummeed karatee hoon yah tareeke aap apana aaenge aur aapako isaka laabh milega dhanyavaad

और जवाब सुनें

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:58
आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए हम आत्मविश्वास से लोगों के घरों को आगे बढ़ाते दिखे आत्मविश्वास किसी चीज के विषय में जब जान लेंगे उसके नियमों को जान लेंगे उसको कुछ पहचान लेंगे और फिर उसको कार्य को करेंगे तो आपके अंदर मन में प्रसन्नता रहेगी और आपके अंदर भी भरोसा रहेगा कि उसको हम कर सकते हैं वहां पर आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा किसी विषय पर आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए दूरदर्शिता और उसके सतत अभ्यास की जरूरत होती है जब हम किसी विषय पर सतत अभ्यास कर लेते हैं तो सतत अभ्यास के माध्यम से हमें उसी तरह के समरूप कार्य करने में हमें काफी आनंद का अनुभव होता है इसलिए हाथ में विश्वास हमेशा गुणों के श्लोक एवं उसके सतत अभ्यास से ही प्राप्त होता है जो आप इसको आप अंदर आत्मविश्वास भी बढ़ा सकते हैं और अब विजय का मार्ग भी तलाश सकते हैं
Aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie ham aatmavishvaas se logon ke gharon ko aage badhaate dikhe aatmavishvaas kisee cheej ke vishay mein jab jaan lenge usake niyamon ko jaan lenge usako kuchh pahachaan lenge aur phir usako kaary ko karenge to aapake andar man mein prasannata rahegee aur aapake andar bhee bharosa rahega ki usako ham kar sakate hain vahaan par aapaka aatmavishvaas badhega kisee vishay par aatmavishvaas ko badhaane ke lie dooradarshita aur usake satat abhyaas kee jaroorat hotee hai jab ham kisee vishay par satat abhyaas kar lete hain to satat abhyaas ke maadhyam se hamen usee tarah ke samaroop kaary karane mein hamen kaaphee aanand ka anubhav hota hai isalie haath mein vishvaas hamesha gunon ke shlok evan usake satat abhyaas se hee praapt hota hai jo aap isako aap andar aatmavishvaas bhee badha sakate hain aur ab vijay ka maarg bhee talaash sakate hain

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:52
स्वागत है आपका आपका प्रश्न आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए और आत्मविश्वास ही लोगों के गुणों की सूची बंद करें तो फ्रेंड आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें जो काम कर रहे हैं उसे अपनी मन लगाकर करना चाहिए और अंदर से इच्छा को जागृत करते हुए अपनी ताकत को बढ़ाते हुए अंतर्मन से आंखें बंद करके भगवान को याद करना चाहिए और अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें अच्छे अच्छे प्रेरणादायक टीवी में सोच देखना चाहिए मोबाइल में आप अच्छी-अच्छी चीजें देखिए जिसे आपका आत्मविश्वास बढ़े आप ऐसे लोगों से बात करिए जिनसे आपको बात करने में अच्छा लगता है तो आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा और आप जो अपना काम कर रहे हैं उसके प्रति समर्पित रहिए तो आपका आत्मविश्वास जरूर ही आगे बढ़ेगा अगर आपको मेरे जवाब अच्छे लगे तो प्लीज लाइक करिएगा धन्यवाद
Svaagat hai aapaka aapaka prashn aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie aur aatmavishvaas hee logon ke gunon kee soochee band karen to phrend aatmavishvaas badhaane ke lie hamen jo kaam kar rahe hain use apanee man lagaakar karana chaahie aur andar se ichchha ko jaagrt karate hue apanee taakat ko badhaate hue antarman se aankhen band karake bhagavaan ko yaad karana chaahie aur apana aatmavishvaas badhaane ke lie hamen achchhe achchhe preranaadaayak teevee mein soch dekhana chaahie mobail mein aap achchhee-achchhee cheejen dekhie jise aapaka aatmavishvaas badhe aap aise logon se baat karie jinase aapako baat karane mein achchha lagata hai to aapaka aatmavishvaas badhega aur aap jo apana kaam kar rahe hain usake prati samarpit rahie to aapaka aatmavishvaas jaroor hee aage badhega agar aapako mere javaab achchhe lage to pleej laik kariega dhanyavaad

DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
0:37
क्या विश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए और वह आत्मविश्वास को लोग को गुणों को स्विच बंद कर देखिए आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें तो याद रखना चाहिए कि आप जो टारगेट करते हैं उस टारगेट का आखरी पर गेट का पूरी करें जो टारगेट बनाए लेकिन इस टारगेट को पूरा करने की कोशिश करें जब आप टारगेट को पूरा नहीं कर पाते तो वह क्या तुम विश्वास में क्यों आता है आपको अपने अंदर में डाउन फील होता है कल निभाओगे सफीदों के लिए जो भी छोटी मोटी छोटी छोटा गेट से करूं लेकिन छोटी क्रिकेट का चेक करो उसके बाद फिर थोड़ी सी मार्केट को बड़ा बना लूंगा प्यार कब करोगे करोगे तो टाइप होगा रात का
Kya vishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie aur vah aatmavishvaas ko log ko gunon ko svich band kar dekhie aatmavishvaas badhaane ke lie hamen to yaad rakhana chaahie ki aap jo taaraget karate hain us taaraget ka aakharee par get ka pooree karen jo taaraget banae lekin is taaraget ko poora karane kee koshish karen jab aap taaraget ko poora nahin kar paate to vah kya tum vishvaas mein kyon aata hai aapako apane andar mein daun pheel hota hai kal nibhaoge sapheedon ke lie jo bhee chhotee motee chhotee chhota get se karoon lekin chhotee kriket ka chek karo usake baad phir thodee see maarket ko bada bana loonga pyaar kab karoge karoge to taip hoga raat ka

J.P. Y👌g i Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए J.P. जी का जवाब
Unknown
2:28
प्रश्न आया हुआ है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए आत्मविश्वास का मतलब होता है कि क्या ज्ञान होता है तब विकास की शक्ति बढ़ते हैं ज्ञान के बिना और कुछ नहीं जान पाता है क्योंकि बाहरी विवेक जो उत्पीड़न और अस्मिता को बरकरार दर्शन में स्थापित कर दिया जिसमें हीनता की गुलामी भावना हैपन होती है याद में कि इनका है आत्मशक्ति खेलता है तो पहला यह है कि जीवन में आदर्श रूप में किसी ऐसे ज्ञान का पल्लू पकड़ना चाहिए जिससे यह लगे कि संरक्षण में बातचीत संभव है जो हमें कमी को महसूस कराती है उसका निदान होता है और वह सपोर्ट सिर्फ गुरु परंपरा के उपदेश से हम आत्मा ग्रह शिल्पा में लाते हैं यही जरूरी है कि अपने ज्ञान के लिए किसी भी प्रकार के कुछ इस तरह के अध्यात्मिक लोगों के संगठन है या उनको आदर्श रूप में अपने हृदय में स्थापित कर आदरणीय और सम्मान के साथ उनका ध्यान रखना चाहिए कि मेरे घर नहीं सपोर्ट के लिए यह सारी चीजें मौजूद है और उनके स्मरण के साथ ही अपने जो इन भावनाओं को भर सकते हैं वैसे भी रसीद नहीं की है लेकिन कहावत है कि आत्मा अजर अमर अविनाशी है तो उनकी शक्ति की कुछ परते होती हैं जहां पिचकारी फैक्ट होता है लेकिन जो इससे परे कुछ ज्ञान की उत्सर्ग में साक्षी करण करते हैं हड़ताल जान लेते हैं की प्रक्रिया में क्यों विघटित करती रहती है हर तरह से उन सारी चीजों से तो खैर दूसरा मामला था लेकिन फिलहाल के लिए चाहिए आत्मविश्वास के लिए किसी भी तत्वों के आदर्श में अपने आप को अनुबंधित करें निश्चित ही आत्मा पल भर का बीजेपी होगी धन्यवाद
Prashn aaya hua hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie aatmavishvaas ka matalab hota hai ki kya gyaan hota hai tab vikaas kee shakti badhate hain gyaan ke bina aur kuchh nahin jaan paata hai kyonki baaharee vivek jo utpeedan aur asmita ko barakaraar darshan mein sthaapit kar diya jisamen heenata kee gulaamee bhaavana haipan hotee hai yaad mein ki inaka hai aatmashakti khelata hai to pahala yah hai ki jeevan mein aadarsh roop mein kisee aise gyaan ka palloo pakadana chaahie jisase yah lage ki sanrakshan mein baatacheet sambhav hai jo hamen kamee ko mahasoos karaatee hai usaka nidaan hota hai aur vah saport sirph guru parampara ke upadesh se ham aatma grah shilpa mein laate hain yahee jarooree hai ki apane gyaan ke lie kisee bhee prakaar ke kuchh is tarah ke adhyaatmik logon ke sangathan hai ya unako aadarsh roop mein apane hrday mein sthaapit kar aadaraneey aur sammaan ke saath unaka dhyaan rakhana chaahie ki mere ghar nahin saport ke lie yah saaree cheejen maujood hai aur unake smaran ke saath hee apane jo in bhaavanaon ko bhar sakate hain vaise bhee raseed nahin kee hai lekin kahaavat hai ki aatma ajar amar avinaashee hai to unakee shakti kee kuchh parate hotee hain jahaan pichakaaree phaikt hota hai lekin jo isase pare kuchh gyaan kee utsarg mein saakshee karan karate hain hadataal jaan lete hain kee prakriya mein kyon vighatit karatee rahatee hai har tarah se un saaree cheejon se to khair doosara maamala tha lekin philahaal ke lie chaahie aatmavishvaas ke lie kisee bhee tatvon ke aadarsh mein apane aap ko anubandhit karen nishchit hee aatma pal bhar ka beejepee hogee dhanyavaad

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:39
जैसा कि मित्रों आपका सवाल है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोग के गुणों को सूचीबद्ध करें तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर है जीवन में सफलता पाने के लिए आत्मविश्वास का होना बहुत ही जरूरी है जिंदगी में किसी भी मुकाम पर पहुंच चुके हर एक व्यक्ति ने आपको यह गुणवत्ता दिख जाएगी जैसे क्रिकेटर या फिल्म स्टार शिक्षक कलेक्टर आज मैं आपके साथ कुछ ऐसी बातें शेयर करूंगा जो आपके आत्मविश्वास को बढ़ाने में मददगार हो सकती है ड्रेसिंग भावना कीजिए सुधार मैंने खुद इस बात को मैं अपनी सबसे अच्छी पोशाक में किया है हमारे अंदर संचालित रूप से आत्मविश्वास बढ़ जाता है सामने की सीट पर बैठी है कक्षा में और अन्य मौके पर सवाल पूछे और उत्तर दें और सेमिनार दीजिए तभी आवाज में मत बोलिए आंख से संपर्क कीजिए नजरें मत चलाइए उपलब्धियों को याद कीजिए और कल्पना करिए कि आप आश्वस्त है गलतियां करने से मत डरिए जो चीज आपको आत्मविश्वास घट आती हो उसे बार-बार कीजिए विशेष मौकों पर विशेष तैयारी कीजिए काम करने का निर्णय में लेट नहीं करना चाहिए जो यह प्रक्रिया आप अपनाएंगे तो आप में आत्मविश्वास की कमी नहीं रहेगी धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Jaisa ki mitron aapaka savaal hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee log ke gunon ko soocheebaddh karen to doston aapake savaal ka uttar hai jeevan mein saphalata paane ke lie aatmavishvaas ka hona bahut hee jarooree hai jindagee mein kisee bhee mukaam par pahunch chuke har ek vyakti ne aapako yah gunavatta dikh jaegee jaise kriketar ya philm staar shikshak kalektar aaj main aapake saath kuchh aisee baaten sheyar karoonga jo aapake aatmavishvaas ko badhaane mein madadagaar ho sakatee hai dresing bhaavana keejie sudhaar mainne khud is baat ko main apanee sabase achchhee poshaak mein kiya hai hamaare andar sanchaalit roop se aatmavishvaas badh jaata hai saamane kee seet par baithee hai kaksha mein aur any mauke par savaal poochhe aur uttar den aur seminaar deejie tabhee aavaaj mein mat bolie aankh se sampark keejie najaren mat chalaie upalabdhiyon ko yaad keejie aur kalpana karie ki aap aashvast hai galatiyaan karane se mat darie jo cheej aapako aatmavishvaas ghat aatee ho use baar-baar keejie vishesh maukon par vishesh taiyaaree keejie kaam karane ka nirnay mein let nahin karana chaahie jo yah prakriya aap apanaenge to aap mein aatmavishvaas kee kamee nahin rahegee dhanyavaad doston khush raho

Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
4:58
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास के लोगों के गुणों को सूचीबद्ध करें दोस्तों सबसे पहले हमें नकारात्मक विचार को पहचानना चाहिए आपका आत्मविश्वास तब कम होने लगता है जब आपके मन में अजीब अजीब नकारात्मक विचार आने लगते हैं जैसे यह मैं नहीं कर सकता सब मेरे बारे में गलत सोचते हैं ऐसे कई ख्याल आपके दिल और दिमाग को परेशान कर देते हैं इनके अलावा आपके जीवन में ऐसे कई अनुभव होते हैं जिसके कारण आपका आत्मविश्वास कम हो जाता है जैसे किसी भी प्रकार का नजदीकी रिश्ता टूटना बीमार रहना नौकरी छूट जाना ऐसे मामलों में अपने नकारात्मक विचारों सकारात्मक विचारों में बदल दे तो तू उदाहरण के तौर पर जो भी कार्य आपको मुश्किल लगता है उसे पूरा करने का विश्वास सिखाएं और खुद से हमेशा बोले कि आप हर कार्य बेहतर तरीके से कर सकते हैं आई कैन डू इट या आई कैन डू इट हम इसे कर सकते हैं दोस्तों ऐसे लोगों को एक साथ हमें या आपको रहना चाहिए जो आपका आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद कर सकते हैं दोस्तों इस तरह आप खुद के लिए अच्छा महसूस करेंगे और नकारात्मक विचारों से लड़ने में मदद मिलेगी इसके अलावा ऐसे लोगों से दूर रहे जिनके जिनके साथ आपको अच्छा महसूस नहीं होता दोस्तों कई लोग जिनमें आत्मविश्वास की कमी होती है उनके लिए किसी भी तरह की प्रशंसा को स्वीकार करना बेहद मुश्किल होता है उन्हें लगता है कि जो उनकी तारीफ कर रहा है उनके बारे में झूठ बोल रहा है इसलिए होता है क्योंकि अपने ऊपर विश्वास नहीं होता हमेशा कुछ भी करते समय अपने किसी भी तरह की प्रशंसा के समय दिल से सामने वाले व्यक्ति का शुक्रिया करें आप इस तरह की प्रशंसा को अपने सकारात्मक गुणों में शामिल कर सकते हैं और उसे अपना सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं दोस्तों अपने हुनर को पहचानना चाहिए किसी में भी अपना कोई न कोई हुनर होता है जैसे किसी का गाना गाने का डांस करने का तो कोई किसी के अंदर है पढ़ाई करने का अध्ययन अध्यापन का या कुछ और लेकिन अपने अंदर की खूबियों को बाहर निकाल ले और फिर उसे पूरा करने के लिए मेहनत करें आपने हुनर जिस भी तरह का हो उस पर गर्व महसूस होना चाहिए इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा दोस्तों को आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए खुद की तुलना कभी भी औरों से नहीं ऐसा करने से आपको जलन ज्यादा होगी और प्रगति कम होगी सिर्फ अपने संघर्ष के बारे में सोचें अपनी मेहनत करते रहे यह तो पता है आपको कि जितनी चाहता आप मेहनत करेंगे संघर्ष करेंगे तो सफलता भी उतनी अच्छाई से और इतनी पकाई से आपको मिले तो अपनी आपने जो गलती एक बार कर चुके होते हैं तो उनसे आप को सीख लेनी चाहिए आत्मविश्वास के लिए अपनी गलतियों से भी सीख लेना बहुत जरूरी होता है आराम से बातचीत करें सामने वाला व्यक्ति हो तो उनकी हर बातों को गौर से सुने नजरों में नजरें मिलाकर और आराम से सुन लेने के बाद में आराम से ही बातें करें चाहे मुद्दा कौनसा भी हो तू तो आप तब विश्वास खो देते हैं जब आपको महसूस होता है कि आपका वजन बहुत बड़ा हुआ है आप सुंदर नहीं है इन सब बातों पर ध्यान देना बेकार है क्योंकि आप जैसे हैं वैसे ही अच्छे लगते हैं लेकिन सेल्फ कॉन्फिडेंस कॉन्फिडेंस बढ़ाने के लिए आप ध्यान रखना आप का ध्यान रखना भी आप ना जरूरी हमेशा अपने बालों को अच्छे से बनाएं अच्छे दिखें अगर वजन बढ़ा हुआ है तो वजन को नियंत्रित करने की कोशिश करें कपड़े कैसे पहने जिसमें आप कॉन्फिडेंट महसूस करते हैं कुछ इस तरह भी आपके अपने सर्च को टिफिन ले कॉन्फिडेंस को बढ़ा सकते हैं दोस्तों जान का विकास भी होना चाहिए आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए जितना आ जाता आपके पास ज्ञान होगा आत्मविश्वास उतना ही ज्यादा होगा क्योंकि जब हमें कोई चीज आती नहीं है तो हमें उन पर आत्म विश्वास ही नहीं होता कि क्या पता मैं यह जानता हूं या नहीं जानता हूं तू असली जितना हो सके आप हमेशा सीखते रहिए और किसी भी काम को पर्फेक्ट तरीके से करने की ना सोचे दोस्तों आपको पता ही है आदमी गलतियों का पुतला होता है जैसे भी हो काम शुरू होना चाहिए तो काम शुरू होने के बाद में और काम खुद ब खुद हो जाता है तो यह नहीं सोचा कि काम को बसपा को की बार परफेक्ट कर ही डालूंगा नहीं
Namaskaar doston aapaka prashn hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas ke logon ke gunon ko soocheebaddh karen doston sabase pahale hamen nakaaraatmak vichaar ko pahachaanana chaahie aapaka aatmavishvaas tab kam hone lagata hai jab aapake man mein ajeeb ajeeb nakaaraatmak vichaar aane lagate hain jaise yah main nahin kar sakata sab mere baare mein galat sochate hain aise kaee khyaal aapake dil aur dimaag ko pareshaan kar dete hain inake alaava aapake jeevan mein aise kaee anubhav hote hain jisake kaaran aapaka aatmavishvaas kam ho jaata hai jaise kisee bhee prakaar ka najadeekee rishta tootana beemaar rahana naukaree chhoot jaana aise maamalon mein apane nakaaraatmak vichaaron sakaaraatmak vichaaron mein badal de to too udaaharan ke taur par jo bhee kaary aapako mushkil lagata hai use poora karane ka vishvaas sikhaen aur khud se hamesha bole ki aap har kaary behatar tareeke se kar sakate hain aaee kain doo it ya aaee kain doo it ham ise kar sakate hain doston aise logon ko ek saath hamen ya aapako rahana chaahie jo aapaka aatmavishvaas badhaane mein madad kar sakate hain doston is tarah aap khud ke lie achchha mahasoos karenge aur nakaaraatmak vichaaron se ladane mein madad milegee isake alaava aise logon se door rahe jinake jinake saath aapako achchha mahasoos nahin hota doston kaee log jinamen aatmavishvaas kee kamee hotee hai unake lie kisee bhee tarah kee prashansa ko sveekaar karana behad mushkil hota hai unhen lagata hai ki jo unakee taareeph kar raha hai unake baare mein jhooth bol raha hai isalie hota hai kyonki apane oopar vishvaas nahin hota hamesha kuchh bhee karate samay apane kisee bhee tarah kee prashansa ke samay dil se saamane vaale vyakti ka shukriya karen aap is tarah kee prashansa ko apane sakaaraatmak gunon mein shaamil kar sakate hain aur use apana selph konphidens badhaane ke lie istemaal kar sakate hain doston apane hunar ko pahachaanana chaahie kisee mein bhee apana koee na koee hunar hota hai jaise kisee ka gaana gaane ka daans karane ka to koee kisee ke andar hai padhaee karane ka adhyayan adhyaapan ka ya kuchh aur lekin apane andar kee khoobiyon ko baahar nikaal le aur phir use poora karane ke lie mehanat karen aapane hunar jis bhee tarah ka ho us par garv mahasoos hona chaahie isase aapaka aatmavishvaas badhega doston ko aatmavishvaas badhaane ke lie khud kee tulana kabhee bhee auron se nahin aisa karane se aapako jalan jyaada hogee aur pragati kam hogee sirph apane sangharsh ke baare mein sochen apanee mehanat karate rahe yah to pata hai aapako ki jitanee chaahata aap mehanat karenge sangharsh karenge to saphalata bhee utanee achchhaee se aur itanee pakaee se aapako mile to apanee aapane jo galatee ek baar kar chuke hote hain to unase aap ko seekh lenee chaahie aatmavishvaas ke lie apanee galatiyon se bhee seekh lena bahut jarooree hota hai aaraam se baatacheet karen saamane vaala vyakti ho to unakee har baaton ko gaur se sune najaron mein najaren milaakar aur aaraam se sun lene ke baad mein aaraam se hee baaten karen chaahe mudda kaunasa bhee ho too to aap tab vishvaas kho dete hain jab aapako mahasoos hota hai ki aapaka vajan bahut bada hua hai aap sundar nahin hai in sab baaton par dhyaan dena bekaar hai kyonki aap jaise hain vaise hee achchhe lagate hain lekin selph konphidens konphidens badhaane ke lie aap dhyaan rakhana aap ka dhyaan rakhana bhee aap na jarooree hamesha apane baalon ko achchhe se banaen achchhe dikhen agar vajan badha hua hai to vajan ko niyantrit karane kee koshish karen kapade kaise pahane jisamen aap konphident mahasoos karate hain kuchh is tarah bhee aapake apane sarch ko tiphin le konphidens ko badha sakate hain doston jaan ka vikaas bhee hona chaahie aatmavishvaas badhaane ke lie jitana aa jaata aapake paas gyaan hoga aatmavishvaas utana hee jyaada hoga kyonki jab hamen koee cheej aatee nahin hai to hamen un par aatm vishvaas hee nahin hota ki kya pata main yah jaanata hoon ya nahin jaanata hoon too asalee jitana ho sake aap hamesha seekhate rahie aur kisee bhee kaam ko parphekt tareeke se karane kee na soche doston aapako pata hee hai aadamee galatiyon ka putala hota hai jaise bhee ho kaam shuroo hona chaahie to kaam shuroo hone ke baad mein aur kaam khud ba khud ho jaata hai to yah nahin socha ki kaam ko basapa ko kee baar paraphekt kar hee daaloonga nahin

Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
1:08
क्वेश्चन है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोगों के गुणों को सूचीबद्ध करें सभी कि आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें सबसे पहले खुद को मोटिवेट करना होता है कि हम जो भी कर रहे हैं अपना किसी भी चीज में जब हम हंड्रेड परसेंट देंगे चाहे उसमें सफल हो या ना हो हंड्रेड परसेंट देना उन पर दबाव बढ़ जाता है कॉन्फिडेंस लेवल सकता है अगर आप किसी से भी कह रही है कोई भी काम कर रहे हैं तो उसमें सिर्फ और सिर्फ आपका लगन होनी चाहिए चाहे वह काम छोटा हो चाहे बड़ा हो गया तो विश्वास है वह पढ़ता है क्या बाबू तू है पानी के सामने खड़े होकर भी बोल रहे हैं कर रहे हैं तो आप खुद को देख रहे हैं वैसे भी आत्मविश्वास बढ़ता है और जी की सबसे अच्छी चीज है कि आप की लगन होनी चाहिए आपका एक कांत होना चाहिए चीज में क्या कैसे उसमें बंद के चल रहे हैं सबसे पहले आप मेरे तो यह कहना है कि आप मेडिटेशन करें जिससे आपका ध्यान है वह एक ही तरफ रहे वह ध्यान जो है वह एक ही तरफ केंद्रित रहे जिस आपका विश्वास जो है कहीं कहीं और दूसरी जगह जा ही नहीं सकता जवाब पसंद है तो लाइक करें सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Kveshchan hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee logon ke gunon ko soocheebaddh karen sabhee ki aatmavishvaas badhaane ke lie hamen sabase pahale khud ko motivet karana hota hai ki ham jo bhee kar rahe hain apana kisee bhee cheej mein jab ham handred parasent denge chaahe usamen saphal ho ya na ho handred parasent dena un par dabaav badh jaata hai konphidens leval sakata hai agar aap kisee se bhee kah rahee hai koee bhee kaam kar rahe hain to usamen sirph aur sirph aapaka lagan honee chaahie chaahe vah kaam chhota ho chaahe bada ho gaya to vishvaas hai vah padhata hai kya baaboo too hai paanee ke saamane khade hokar bhee bol rahe hain kar rahe hain to aap khud ko dekh rahe hain vaise bhee aatmavishvaas badhata hai aur jee kee sabase achchhee cheej hai ki aap kee lagan honee chaahie aapaka ek kaant hona chaahie cheej mein kya kaise usamen band ke chal rahe hain sabase pahale aap mere to yah kahana hai ki aap mediteshan karen jisase aapaka dhyaan hai vah ek hee taraph rahe vah dhyaan jo hai vah ek hee taraph kendrit rahe jis aapaka vishvaas jo hai kaheen kaheen aur doosaree jagah ja hee nahin sakata javaab pasand hai to laik karen sabsakraib karen dhanyavaad

Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:03
आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए वह आप विश्वास ही लोगों के गुणों को सूचीबद्ध करें आत्मविश्वास अपने अंदर से पैदा किया जाता है कहीं नहीं अपनी कार्यप्रणाली को देखकर अपने व्यवहार को अपने मानसिक स्थिति को और बहुत सारी चीज और ऐसा नहीं है कि आत्मविश्वास है आप सिर्फ सोच लीजिए घर आत्मविश्वास बढ़ जाए तो बढ़ जाएगा इसमें आपको अपने मेडिटेशन कीजिए एक्सरसाइज कीजिए जब तक आपका हेल्दी शरीफ नहीं रहेगा सकारात्मक पहलू नहीं रहेगा अपनी सोचने का जो तरीका है उसके अंदर एक जुझारू पर नहीं होगा तब तक वह विश्वास नहीं है पड़ सकता है तो निश्चित तौर पर आत्मविश्वास के लिए आपको सकारात्मक पहलू सकारात्मक विचार और अपने विचारों के प्रति आप को प्रेरणा और जब तक आप अभिप्रेरित नहीं होंगी और सही मंजिल सही रास्ता आप विश्वास आप पर जितना होगा जितना जुनून जज्बे हो और जितना आपके अंदर घूमते हैं कि की कहती होगी कुछ करने की व्यथा तभी आपका और दूसरा है कि आप स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और अच्छी माहौल में भी जरूरी है कि जो आप की संगत हो वह भी अच्छी हो ऐसे नहीं कि अगर आपको गलत संगत में आए सिम सामाजिक परिवेश में रहते हैं जहां पर इस तरह की बुराइयां रहती हो तो वहां पर आप विश्वास नहीं होगा तो वह जुनून होगा
Aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie vah aap vishvaas hee logon ke gunon ko soocheebaddh karen aatmavishvaas apane andar se paida kiya jaata hai kaheen nahin apanee kaaryapranaalee ko dekhakar apane vyavahaar ko apane maanasik sthiti ko aur bahut saaree cheej aur aisa nahin hai ki aatmavishvaas hai aap sirph soch leejie ghar aatmavishvaas badh jae to badh jaega isamen aapako apane mediteshan keejie eksarasaij keejie jab tak aapaka heldee shareeph nahin rahega sakaaraatmak pahaloo nahin rahega apanee sochane ka jo tareeka hai usake andar ek jujhaaroo par nahin hoga tab tak vah vishvaas nahin hai pad sakata hai to nishchit taur par aatmavishvaas ke lie aapako sakaaraatmak pahaloo sakaaraatmak vichaar aur apane vichaaron ke prati aap ko prerana aur jab tak aap abhiprerit nahin hongee aur sahee manjil sahee raasta aap vishvaas aap par jitana hoga jitana junoon jajbe ho aur jitana aapake andar ghoomate hain ki kee kahatee hogee kuchh karane kee vyatha tabhee aapaka aur doosara hai ki aap svaasthy achchha rahega aur achchhee maahaul mein bhee jarooree hai ki jo aap kee sangat ho vah bhee achchhee ho aise nahin ki agar aapako galat sangat mein aae sim saamaajik parivesh mein rahate hain jahaan par is tarah kee buraiyaan rahatee ho to vahaan par aap vishvaas nahin hoga to vah junoon hoga

arjun sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए arjun जी का जवाब
Motor mechanic
1:11
सवाल आपने पूछा है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास से ही लोगों के गुणों की सूची पर करें तो मैं बता दूं किनार आत्मक विचारों को पहचान ऐसे लोगों के साथ ना रहे हैं जो आपका आत्मविश्वास बढ़ाने मैं मदद कर सकते हैं प्रशंसा को स्वीकार करें अपने हुनर को पहचाने आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए खुद की तुलना और उसे ना करें आत्मविश्वास के लिए अपनी गलतियां से सीखे ऐसा अगर आप करते हैं तो निश्चित रूप से आप विश्वास आपका बढ़ेगा और गलत विचारधारा से दूर रहें जो हमेशा आप को नीचा दिखाने का प्रयास करें ऐसे व्यक्ति से हमेशा दूर रहना चाहिए जय हिंद जय भारत
Savaal aapane poochha hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas se hee logon ke gunon kee soochee par karen to main bata doon kinaar aatmak vichaaron ko pahachaan aise logon ke saath na rahe hain jo aapaka aatmavishvaas badhaane main madad kar sakate hain prashansa ko sveekaar karen apane hunar ko pahachaane aatmavishvaas badhaane ke lie khud kee tulana aur use na karen aatmavishvaas ke lie apanee galatiyaan se seekhe aisa agar aap karate hain to nishchit roop se aap vishvaas aapaka badhega aur galat vichaaradhaara se door rahen jo hamesha aap ko neecha dikhaane ka prayaas karen aise vyakti se hamesha door rahana chaahie jay hind jay bhaarat

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
6:58
आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास इन लोगों के गुण कौन से घूम के सूचित किए जा सकते हैं ऐसा एक बहुत अच्छे सवाल पूछे गए हैं तो आत्मविश्वास जो है वह खींचतान कर रहे नहीं जा सकता उसकी एक प्रोसेस होती है वह बढ़ने की और तैयार होने की उस प्रोसेस से गुजरना पड़ता है उसके लिए थोड़ी बहुत मेहनत करनी पड़ती है मैं और मेरे कुछ पत्रकार मित्र अन्ना जी हजारे को मिलने को गए थे हमारे गांव के पास ही है तो उन्होंने हमको कहा था कि अपना चरित्र स्वच्छ रखो आपको कोई कुछ नहीं कर सकता अब इसी तरीके के सभी महापुरुषों के विचार रहे हैं हमारा आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें ज्यादा से ज्यादा पढ़ाई करनी चाहिए ग्रंथों का वाचन करना चाहिए ग्रंथ पढ़ना चाहिए महाराज महापुरुषों के जीवन चरित्र पढ़ना चाहिए चाहिए उस से हमें प्रेरणा मिलती है जरूर मिलती है दूसरी बात यह है कि हम खुद कोई गलत काम तो नहीं कर रहे हैं यह में निश्चित रूप से अपने आप को जांच कर हमारा चरित्र स्वच्छ रखना चाहिए चित्र के साथ ज्ञान महत्वपूर्ण ज्ञान के लिए महापुरुष या वैज्ञानिक या फिलोसॉफिया समाजसेवी व साहित्यकार बड़े उनके उच्च विचार रहे हो हमें आत्मसात करने चाहिए तो ज्ञान बढ़ता है तो आत्मविश्वास निश्चित रूप से बहुत ज्यादा होता है अगर पैसा भी कम हो तो भी ज्ञान कराकर भंडार हो तो पैसे वालों की तुलना में भी हमारा आत्मविश्वास बहुत ज्यादा होता है तीसरी बात यह है कि हमें किसी भी चीज पर केवल सकारात्मक या केवल नकारात्मक विचार नहीं करना चाहिए सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह के विचार करके किसी भी चीज का एनालिसिस करने की आदत हमें होनी चाहिए उसके बगैर हम अपना मत व्यक्त करना केवल किसी को फॉलो करना है अपनी-अपनी मत बननी चाहिए इतनी इतना कॉन्फ्रेंस में आना चाहिए एक जो निरपेक्ष भावना होती है सुन्नी स्वभाव प्रवृत्ति या वैराग्य की भावना अगर हमें ज्यादा हो तो भौतिक चीजों के मिले हम पागल नहीं होते भौतिक चीजों से आखिर स्ट्रेसी पैदा होता है तुझको एक मर्यादा तक हमें अपना मत चाहिए और जब हम किसी दूसरे को के लिए कुछ करते हैं कुछ त्याग करते हैं किसी की मदद करते हैं एक ही सत्य के साथ हम खड़े रहते हैं तो उसका जो आनंद मिलता है हमें उसका ₹100 का होता है उसमें एक ऊंचाई होती है उसका 1 शास्त्र होता है तो यह से गुण भी हमारे अंदर आने चाहिए हमें क्रिएटिव वर्क करने के लिए हमारे मन को तैयार करना चाहिए क्योंकि क्रिएटिव चीजें जो है वह हमारे मरने के बाद भी प्रीति नहीं तो ऐसा आया और ऐसा गया वह तुम करो तो सबका होता है लेकिन हम कुछ अलग करके जाएंगे ऐसे एक सोच जो है वह पक्की करनी चाहिए तो हम जैसा विचार करते हैं वह उसी तरफ हम जाते रहते हैं लॉ आफ अट्रैक्शन रुचि से भी हमारी तरफ आने लगती है यह मुझे आज कल मुझे अनुभव हो रहा है उससे भी हमारी तरह नहीं लगती
Aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas in logon ke gun kaun se ghoom ke soochit kie ja sakate hain aisa ek bahut achchhe savaal poochhe gae hain to aatmavishvaas jo hai vah kheenchataan kar rahe nahin ja sakata usakee ek proses hotee hai vah badhane kee aur taiyaar hone kee us proses se gujarana padata hai usake lie thodee bahut mehanat karanee padatee hai main aur mere kuchh patrakaar mitr anna jee hajaare ko milane ko gae the hamaare gaanv ke paas hee hai to unhonne hamako kaha tha ki apana charitr svachchh rakho aapako koee kuchh nahin kar sakata ab isee tareeke ke sabhee mahaapurushon ke vichaar rahe hain hamaara aatmavishvaas badhaane ke lie hamen jyaada se jyaada padhaee karanee chaahie granthon ka vaachan karana chaahie granth padhana chaahie mahaaraaj mahaapurushon ke jeevan charitr padhana chaahie chaahie us se hamen prerana milatee hai jaroor milatee hai doosaree baat yah hai ki ham khud koee galat kaam to nahin kar rahe hain yah mein nishchit roop se apane aap ko jaanch kar hamaara charitr svachchh rakhana chaahie chitr ke saath gyaan mahatvapoorn gyaan ke lie mahaapurush ya vaigyaanik ya philosophiya samaajasevee va saahityakaar bade unake uchch vichaar rahe ho hamen aatmasaat karane chaahie to gyaan badhata hai to aatmavishvaas nishchit roop se bahut jyaada hota hai agar paisa bhee kam ho to bhee gyaan karaakar bhandaar ho to paise vaalon kee tulana mein bhee hamaara aatmavishvaas bahut jyaada hota hai teesaree baat yah hai ki hamen kisee bhee cheej par keval sakaaraatmak ya keval nakaaraatmak vichaar nahin karana chaahie sakaaraatmak aur nakaaraatmak donon tarah ke vichaar karake kisee bhee cheej ka enaalisis karane kee aadat hamen honee chaahie usake bagair ham apana mat vyakt karana keval kisee ko pholo karana hai apanee-apanee mat bananee chaahie itanee itana konphrens mein aana chaahie ek jo nirapeksh bhaavana hotee hai sunnee svabhaav pravrtti ya vairaagy kee bhaavana agar hamen jyaada ho to bhautik cheejon ke mile ham paagal nahin hote bhautik cheejon se aakhir stresee paida hota hai tujhako ek maryaada tak hamen apana mat chaahie aur jab ham kisee doosare ko ke lie kuchh karate hain kuchh tyaag karate hain kisee kee madad karate hain ek hee saty ke saath ham khade rahate hain to usaka jo aanand milata hai hamen usaka ₹100 ka hota hai usamen ek oonchaee hotee hai usaka 1 shaastr hota hai to yah se gun bhee hamaare andar aane chaahie hamen krietiv vark karane ke lie hamaare man ko taiyaar karana chaahie kyonki krietiv cheejen jo hai vah hamaare marane ke baad bhee preeti nahin to aisa aaya aur aisa gaya vah tum karo to sabaka hota hai lekin ham kuchh alag karake jaenge aise ek soch jo hai vah pakkee karanee chaahie to ham jaisa vichaar karate hain vah usee taraph ham jaate rahate hain lo aaph atraikshan ruchi se bhee hamaaree taraph aane lagatee hai yah mujhe aaj kal mujhe anubhav ho raha hai usase bhee hamaaree tarah nahin lagatee

Christina KC Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Christina जी का जवाब
MBA Govt job in PSU/Assistant Manager (HR)
1:27
आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोग के गुणों को सचिव पद करें आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए आप अपने आप को अगर किसी चीज के लिए तैयार करना चाहते हो तो आपको क्या है सबसे पहले जो है आप अपने आप को मतलब आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए जो चीजें चल रही है जैसे कि आप किसी किसी के साथ जाए जब बात करते हो तो कैसे बात करते हो आप का मतलब डर डर के बात करता है या फिर एकदम आत्मविश्वास मतलब कौन फिर भी आपकी है आप बात करते हो उसके लिए क्या करना होगा आपको कि आप किसी से आप बात बात अगर करो तो वह मतलब दर्द है कि ना करें आप आपसे जब आप यह सोचे कि यह मतलब आप जो बोल रहे हैं आप जो कर रहे हैं वही मतलब सच है और सही है उससे क्या होगा कि आप को जो भी आप काम करते हो वह जितना से जितना हो पाता है आपसे वह सही तरीके से जो है जाएगा और आपने यह भी पूछा है कि एवं आत्मविश्वास ही लोगों के गुणों की सच्ची खुद हां जी हां बिल्कुल आत्मविश्वास बहुत जरूरी होती है इंसान की गुलामी तो यह एकदम एक अच्छी वाली कौन है क्योंकि यही आपको जिंदगी में काफी आगे तक ले जाएगी मैं किसी सवाल का जवाब
Aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee log ke gunon ko sachiv pad karen aatmavishvaas badhaane ke lie aap apane aap ko agar kisee cheej ke lie taiyaar karana chaahate ho to aapako kya hai sabase pahale jo hai aap apane aap ko matalab aatmavishvaas badhaane ke lie jo cheejen chal rahee hai jaise ki aap kisee kisee ke saath jae jab baat karate ho to kaise baat karate ho aap ka matalab dar dar ke baat karata hai ya phir ekadam aatmavishvaas matalab kaun phir bhee aapakee hai aap baat karate ho usake lie kya karana hoga aapako ki aap kisee se aap baat baat agar karo to vah matalab dard hai ki na karen aap aapase jab aap yah soche ki yah matalab aap jo bol rahe hain aap jo kar rahe hain vahee matalab sach hai aur sahee hai usase kya hoga ki aap ko jo bhee aap kaam karate ho vah jitana se jitana ho paata hai aapase vah sahee tareeke se jo hai jaega aur aapane yah bhee poochha hai ki evan aatmavishvaas hee logon ke gunon kee sachchee khud haan jee haan bilkul aatmavishvaas bahut jarooree hotee hai insaan kee gulaamee to yah ekadam ek achchhee vaalee kaun hai kyonki yahee aapako jindagee mein kaaphee aage tak le jaegee main kisee savaal ka javaab

T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:56
आपका जो प्रश्न है वह है कि आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास भी लोगों के गुणों को सूचीबद्ध करें बहुत ही उत्तम प्रश्न है देखी आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए उसके लिए मैं आपसे कुछ बातें साझा करना चाहता हूं एक तो यह कि आत्मविश्वास के लिए सबसे पहले तो अपनी तुलना दूसरों से करना हमेशा बंद करना होता क्या है कि चाहे आप अपने रंग रूप हो जाए आपका ज्ञान कौशल है या चाहे आपकी आर्थिक स्थिति है इसको लेकर के जब आप दूसरों से तुलना करते हैं तो आप में ईर्ष्या की भावना उत्पन्न होती है और ईर्ष्या की भावना के उत्पन्न होने के कारण आपका जीवन बर्बाद हो सकता है आपका आत्मविश्वास कमजोर हो इसलिए खुद की तुलना दूसरों से बंद कर दें और यह हमेशा मान करके चलिए कि हर व्यक्ति अपने आप में खास होता है आपके परिवार में भी 5 लोग एक जैसे नहीं हैं आपके समाज में आपके आस पड़ोस में भी सब लोग एक जैसे नहीं है तो संसार में हर व्यक्ति का रंग-रूप आर्थिक स्थिति ज्ञान कौशल अलग अलग हो सकता है उसको उसी रूप में स्वीकार करना दूसरा हमेशा अपने शरीर का अच्छे से ख्याल रखें जिसे आप अगर कम होते हैं आप जंक फूड पूरा खानदान अगर आप करते हैं अगर आप एक्सरसाइज नहीं करते हैं इससे भी आपके शरीर को नुकसान होता है पर आपका आत्मविश्वास कमजोर होता है तो इसलिए अपने को नियमित रूप से यह करना चाहिए अपने खुद के साथ अच्छा व्यवहार करें अगर आप किसी बात में असफल हो गए हैं खुद को तसल्ली दे खुद के साथ अच्छा व्यवहार करें और आत्मविश्वास के साथ में फिर से प्रयास करें आप सफल को अपने डर का सामना कीजिए अपने डर से मत डर से डर के किसी चीज से भागी मत अन्यथा अब बाद में विश्वास और कमजोर होगा और जब भी आप कहीं जा रहे हैं तो हमेशा ही मान के चलिए फिर खुद के विचार हमेशा सही ऐसा जरूरी नहीं है आलोचनाओं से घबराए नहीं और फिर भी आपको लगता है कि कुछ कमी है तो आप किसी मनोचिकित्सक की मदद ले सकते हैं अगर आपके अंदर आत्म विश्वास है मैं तो उसके गुण क्या हो सकते हैं आत्मविश्वास के बहुत फायदे हैं आप अपनी बात लोगों तक अच्छे से पहुंचा सकते हैं अब अपने अपने बात को आप अच्छे से ही लोगों के सामने कह सकते हैं सबसे मुख्य बातें हैं धन्यवाद
Aapaka jo prashn hai vah hai ki aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas bhee logon ke gunon ko soocheebaddh karen bahut hee uttam prashn hai dekhee aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie usake lie main aapase kuchh baaten saajha karana chaahata hoon ek to yah ki aatmavishvaas ke lie sabase pahale to apanee tulana doosaron se karana hamesha band karana hota kya hai ki chaahe aap apane rang roop ho jae aapaka gyaan kaushal hai ya chaahe aapakee aarthik sthiti hai isako lekar ke jab aap doosaron se tulana karate hain to aap mein eershya kee bhaavana utpann hotee hai aur eershya kee bhaavana ke utpann hone ke kaaran aapaka jeevan barbaad ho sakata hai aapaka aatmavishvaas kamajor ho isalie khud kee tulana doosaron se band kar den aur yah hamesha maan karake chalie ki har vyakti apane aap mein khaas hota hai aapake parivaar mein bhee 5 log ek jaise nahin hain aapake samaaj mein aapake aas pados mein bhee sab log ek jaise nahin hai to sansaar mein har vyakti ka rang-roop aarthik sthiti gyaan kaushal alag alag ho sakata hai usako usee roop mein sveekaar karana doosara hamesha apane shareer ka achchhe se khyaal rakhen jise aap agar kam hote hain aap jank phood poora khaanadaan agar aap karate hain agar aap eksarasaij nahin karate hain isase bhee aapake shareer ko nukasaan hota hai par aapaka aatmavishvaas kamajor hota hai to isalie apane ko niyamit roop se yah karana chaahie apane khud ke saath achchha vyavahaar karen agar aap kisee baat mein asaphal ho gae hain khud ko tasallee de khud ke saath achchha vyavahaar karen aur aatmavishvaas ke saath mein phir se prayaas karen aap saphal ko apane dar ka saamana keejie apane dar se mat dar se dar ke kisee cheej se bhaagee mat anyatha ab baad mein vishvaas aur kamajor hoga aur jab bhee aap kaheen ja rahe hain to hamesha hee maan ke chalie phir khud ke vichaar hamesha sahee aisa jarooree nahin hai aalochanaon se ghabarae nahin aur phir bhee aapako lagata hai ki kuchh kamee hai to aap kisee manochikitsak kee madad le sakate hain agar aapake andar aatm vishvaas hai main to usake gun kya ho sakate hain aatmavishvaas ke bahut phaayade hain aap apanee baat logon tak achchhe se pahuncha sakate hain ab apane apane baat ko aap achchhe se hee logon ke saamane kah sakate hain sabase mukhy baaten hain dhanyavaad

himanshu bansal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए himanshu जी का जवाब
Influencer, trainer,motivate speaker
2:26
नमस्कार सभी को यहां पर पढ़ने की आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोगों लोग के गुणों को सूचीबद्ध करें आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हम लोग बहुत सारी चीजें कर सकते हैं और इसमें यह है कि कोई हम लोगों को बताने नहीं आएगा कि हम लोगों को क्या करना है इसके ऊपर काम हम लोगों को खुद करना है आत्मविश्वास तक इंसान की सबसे बड़ी पूंजी होती है क्योंकि आत्मविश्वास अगर आपके अंदर नहीं है तो चाहे आपके पास कितनी भी बुड्ढी हो चाहे आप कितने भी सक्षम हो कोई काम करने में लेकिन अगर आपके पास आदमी विश्वास नहीं है तो आप में काम नहीं कर सकते आत्मविश्वास होना एक इंसान के अंदर बहुत जरूरी है अब बात आती है कि इसे बढ़ाया कैसे पैसे बढ़ाने का कोई मिटा निकल जाओ फिर कोई फिजिकल तरीका नहीं है इसमें आपको खुद अपने ऊपर काम करना पड़ेगा वह काम यह है कि अगर आपको कोई प्रश्न आता है अगर आपको कोई काम आता मैं तो अपने आप को गिरा यह बात अपने आप को यह मत सोचिए कि मैं यह नहीं कर सकता हूं यही अगर मैं ऐसा करूंगा तो ब्लॉक क्या सोचेंगे लोग क्या कहेंगे मेरे आस-पास वाले जितने भी हैं वह क्या सोचेंगे जब तक आप दूसरे के बारे में सोचेंगे आपका आत्मविश्वास के लिए दूसरे के बारे में सोचना छोड़ दीजिए जिसका में आपकी रुचि है जो काम आपको अच्छा लगता है वह करिए यह मत सोचें कि हमारे आसपास वाली क्या कहेंगे दूसरी बात यह कि 8:00 बजे स्वर आने के लिए सबसे बड़ी बात की है कि आपको अपने ऊपर भरोसा होना चाहिए आपको अगर कोई चीज आती है तो आप अपने ऊपर भरोसा रखिए की चौथी सबसे ज्यादा में स्टूडेंट्स लाइफ में लिखती है स्कूल में भी आप देखेंगे तो 30 बच्चों की क्लास होती है टीचर कोई क्वेश्चन पूछना है तो 1 बच्चे कौन सा आता भी होगा तो उनको नहीं बोल पाते पास कितने पैसा लगता है क्या दरमियान सा गलत हो गया तो मैं क्लास में एक ईमेल बन जाऊंगा तो उसमें क्या है कि आपके अंदर होती है आप सक्षम है वह काम करने के लिए बिना आत्मविश्वास ना होने की वजह से होकर नहीं कर पाए तो इस तरीके हैं पहला जो कि आप लोगों के बारे में ना सोचो सिर्फ और सिर्फ अपने बारे में सोचे और समझे कि मुझे यह काम करना है और मैं यह काम कर सकता हूं अपने आप पर भरोसा रखें ऐसे ही यह दो तरीके हैं जिससे आप अपना आत्मविश्वास नहीं सकते हैं आप विश्वास के बिना एक आदमी की कोई भी क्या बोलते हैं अपनी पहचान नहीं आप विश्वास होना बहुत जरूरी है धन्यवाद
Namaskaar sabhee ko yahaan par padhane kee aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee logon log ke gunon ko soocheebaddh karen aatmavishvaas badhaane ke lie ham log bahut saaree cheejen kar sakate hain aur isamen yah hai ki koee ham logon ko bataane nahin aaega ki ham logon ko kya karana hai isake oopar kaam ham logon ko khud karana hai aatmavishvaas tak insaan kee sabase badee poonjee hotee hai kyonki aatmavishvaas agar aapake andar nahin hai to chaahe aapake paas kitanee bhee buddhee ho chaahe aap kitane bhee saksham ho koee kaam karane mein lekin agar aapake paas aadamee vishvaas nahin hai to aap mein kaam nahin kar sakate aatmavishvaas hona ek insaan ke andar bahut jarooree hai ab baat aatee hai ki ise badhaaya kaise paise badhaane ka koee mita nikal jao phir koee phijikal tareeka nahin hai isamen aapako khud apane oopar kaam karana padega vah kaam yah hai ki agar aapako koee prashn aata hai agar aapako koee kaam aata main to apane aap ko gira yah baat apane aap ko yah mat sochie ki main yah nahin kar sakata hoon yahee agar main aisa karoonga to blok kya sochenge log kya kahenge mere aas-paas vaale jitane bhee hain vah kya sochenge jab tak aap doosare ke baare mein sochenge aapaka aatmavishvaas ke lie doosare ke baare mein sochana chhod deejie jisaka mein aapakee ruchi hai jo kaam aapako achchha lagata hai vah karie yah mat sochen ki hamaare aasapaas vaalee kya kahenge doosaree baat yah ki 8:00 baje svar aane ke lie sabase badee baat kee hai ki aapako apane oopar bharosa hona chaahie aapako agar koee cheej aatee hai to aap apane oopar bharosa rakhie kee chauthee sabase jyaada mein stoodents laiph mein likhatee hai skool mein bhee aap dekhenge to 30 bachchon kee klaas hotee hai teechar koee kveshchan poochhana hai to 1 bachche kaun sa aata bhee hoga to unako nahin bol paate paas kitane paisa lagata hai kya daramiyaan sa galat ho gaya to main klaas mein ek eemel ban jaoonga to usamen kya hai ki aapake andar hotee hai aap saksham hai vah kaam karane ke lie bina aatmavishvaas na hone kee vajah se hokar nahin kar pae to is tareeke hain pahala jo ki aap logon ke baare mein na socho sirph aur sirph apane baare mein soche aur samajhe ki mujhe yah kaam karana hai aur main yah kaam kar sakata hoon apane aap par bharosa rakhen aise hee yah do tareeke hain jisase aap apana aatmavishvaas nahin sakate hain aap vishvaas ke bina ek aadamee kee koee bhee kya bolate hain apanee pahachaan nahin aap vishvaas hona bahut jarooree hai dhanyavaad

Sandeep chhipa Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sandeep जी का जवाब
social worker (MSW)
3:53
विश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोग के गुणों को सूची बंद करें जीवन में कोई निश्चित लक्ष्य बनाना बनाना या इसे हासिल करने की योजना बनाने बनाना तब तक कारगर नहीं होती जब तक जब तक व्यक्ति में आत्मविश्वास न हो जिसके साथ वह इस योजना पर चलकर लक्ष्य पर पहुंचे वैसे तो हर इंसान मैं थोड़ा बहुत आत्मविश्वास होता है लेकिन चंद लोगों में ही उन खास तरह का आत्मविश्वास होता है जिसे हम सफलता की जादुई शिर्डी कहते हैं आत्मविश्वास है मानसिक अवस्था है इसे कोई कोई भी बहुत कम अवधि माशल कर सकता है लगभग 20 साल पहले में कोयल की खान में मजदूर का काम करता था मेरे पास कोई निश्चित लक्ष्य नहीं था और मेरे पास ऐसा लक्ष्य बनाने के लिए आवश्यक आत्मविश्वास भी नहीं था एक रात एक ऐसी घटना हुई जो मेरे जीवन का सबसे महत्वपूर्ण मोड बन गई खुली आंख के सामने बैठकर एक साथी कर्मचारी नियुक्त आ विरोध तथा अशांति की समस्या पर बातचीत कर रहा था मेरी एक बात से वह बड़ा प्रभावित हुआ उसकी प्रतिक्रिया ने मेरा आत्मविश्वास बढ़ाने की राह में पहला सबक दिया वह मेरे करीब आया मेरे कंधे को पकड़ा और मुझसे नजरें मिलाकर बोला आप बहुत बुद्धिमान है अगर आप पढ़ाई पूरी कर ले तो संसार का नाम रोशन कर देंगे उसके कहे गए शब्दों से ज्यादा दम तो उन्हें खेलने के अंदाज में था उसकी आंखों में चमकती बोलते समय उसने कश मेरा कंधा पकड़ा था और उससे इससे भी बड़ा प्रभावित हुआ जिंदगी में पहली बार किसी से मुझे बताया कि मैं बुद्धिमान हूं या संसार में अपना नाम रोशन कर सकता हूं मुझसे मुझे आशा कि आप पहली किरण और आत्मविश्वास की पहली किरण इक झलक मिली इस अवसर पर मेरे मस्तिष्क में आत्मविश्वास का बीज बोया गया बाद में व्हाट्सएप में बढ़ता गया मेरे मस्तिष्क आत्मविश्वास बीज बोने का पहला परिणाम यह हुआ कि इसकी वजह से मैंने खदानों से अपना नाता तोड़ लिया ज्यादा पैसे वाले काम करने लगा इसकी बदौलत मुझसे ज्ञान की ऐसी प्यास लगी कि हर साल ज्यादा कुशल विद्यार्थी बन रहा हूं कुछ साल पहले मुझे जितना समय लगता था अब मैं उससे भी तस्वीर से तथा तत्वों को इकट्ठा कर सकता हूं श्रेणी बंद कर सकता हूं और व्यवस्थित कर सकता हूं इसके अलावा आत्मविश्वास एक साहसिक गुण हैं जीवन में सफलता की कुंजी आत्मविश्वास आत्मविश्वास जीवन में सफलता की कुंजी है आत्मविश्वास आपका जीवन ही नहीं बल्कि आप का संपूर्ण व्यक्तित्व बदल देता है आत्मविश्वास की कमी वाला व्यक्ति जीवन में आने वाली छोटी सी परेशानी से घबराकर घबरा जाता है जबकि आत्मविश्वास से परिपूर्ण व्यक्ति कठोर से कठोर परिस्थितियों का सामना आसानी से कर लेता है इसीलिए हमें आत्मविश्वास से परिपूर्ण होना चाहिए तभी हमारा जीवन आगे बढ़ सकेगा इसके लिए आपको जरूर सूची गुण कमजोरियों को जाने विवाद को बदले गलतियों से सीख ले पहनावे पहनावे का विशेष ध्यान रखें उपलब्धियों को याद करते रहिए बॉडी लैंग्वेज को सुधारो एक्सरसाइज एक करें लक्ष्य निर्धारित करें खुद को पसंद करने वाले बड़े लक्ष्य बनाएंगे उन्होंने हासिल करेंगे भीड़ को प्रतिभाशाली व्यक्तियों के अनुशासन में रखना चाहिए समय धन है जिससे या तो खर्च किया जा सकता है या निवेश गलती अकेले में बताएं प्रशंसा सबके सामने लाए ऐसे छोटे-छोटे उसके आत्मविश्वास के गुण भी होते हैं कैसी लगी अदभुत जानकारी आप अपना कमेंट करें जय हिंद जय भारत सभी मित्रों को धन्यवाद
Vishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee log ke gunon ko soochee band karen jeevan mein koee nishchit lakshy banaana banaana ya ise haasil karane kee yojana banaane banaana tab tak kaaragar nahin hotee jab tak jab tak vyakti mein aatmavishvaas na ho jisake saath vah is yojana par chalakar lakshy par pahunche vaise to har insaan main thoda bahut aatmavishvaas hota hai lekin chand logon mein hee un khaas tarah ka aatmavishvaas hota hai jise ham saphalata kee jaaduee shirdee kahate hain aatmavishvaas hai maanasik avastha hai ise koee koee bhee bahut kam avadhi maashal kar sakata hai lagabhag 20 saal pahale mein koyal kee khaan mein majadoor ka kaam karata tha mere paas koee nishchit lakshy nahin tha aur mere paas aisa lakshy banaane ke lie aavashyak aatmavishvaas bhee nahin tha ek raat ek aisee ghatana huee jo mere jeevan ka sabase mahatvapoorn mod ban gaee khulee aankh ke saamane baithakar ek saathee karmachaaree niyukt aa virodh tatha ashaanti kee samasya par baatacheet kar raha tha meree ek baat se vah bada prabhaavit hua usakee pratikriya ne mera aatmavishvaas badhaane kee raah mein pahala sabak diya vah mere kareeb aaya mere kandhe ko pakada aur mujhase najaren milaakar bola aap bahut buddhimaan hai agar aap padhaee pooree kar le to sansaar ka naam roshan kar denge usake kahe gae shabdon se jyaada dam to unhen khelane ke andaaj mein tha usakee aankhon mein chamakatee bolate samay usane kash mera kandha pakada tha aur usase isase bhee bada prabhaavit hua jindagee mein pahalee baar kisee se mujhe bataaya ki main buddhimaan hoon ya sansaar mein apana naam roshan kar sakata hoon mujhase mujhe aasha ki aap pahalee kiran aur aatmavishvaas kee pahalee kiran ik jhalak milee is avasar par mere mastishk mein aatmavishvaas ka beej boya gaya baad mein vhaatsep mein badhata gaya mere mastishk aatmavishvaas beej bone ka pahala parinaam yah hua ki isakee vajah se mainne khadaanon se apana naata tod liya jyaada paise vaale kaam karane laga isakee badaulat mujhase gyaan kee aisee pyaas lagee ki har saal jyaada kushal vidyaarthee ban raha hoon kuchh saal pahale mujhe jitana samay lagata tha ab main usase bhee tasveer se tatha tatvon ko ikattha kar sakata hoon shrenee band kar sakata hoon aur vyavasthit kar sakata hoon isake alaava aatmavishvaas ek saahasik gun hain jeevan mein saphalata kee kunjee aatmavishvaas aatmavishvaas jeevan mein saphalata kee kunjee hai aatmavishvaas aapaka jeevan hee nahin balki aap ka sampoorn vyaktitv badal deta hai aatmavishvaas kee kamee vaala vyakti jeevan mein aane vaalee chhotee see pareshaanee se ghabaraakar ghabara jaata hai jabaki aatmavishvaas se paripoorn vyakti kathor se kathor paristhitiyon ka saamana aasaanee se kar leta hai iseelie hamen aatmavishvaas se paripoorn hona chaahie tabhee hamaara jeevan aage badh sakega isake lie aapako jaroor soochee gun kamajoriyon ko jaane vivaad ko badale galatiyon se seekh le pahanaave pahanaave ka vishesh dhyaan rakhen upalabdhiyon ko yaad karate rahie bodee laingvej ko sudhaaro eksarasaij ek karen lakshy nirdhaarit karen khud ko pasand karane vaale bade lakshy banaenge unhonne haasil karenge bheed ko pratibhaashaalee vyaktiyon ke anushaasan mein rakhana chaahie samay dhan hai jisase ya to kharch kiya ja sakata hai ya nivesh galatee akele mein bataen prashansa sabake saamane lae aise chhote-chhote usake aatmavishvaas ke gun bhee hote hain kaisee lagee adabhut jaanakaaree aap apana kament karen jay hind jay bhaarat sabhee mitron ko dhanyavaad

Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
2:04
मोटर ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करें पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए एवं आत्मविश्वास ही लोगों के घरों के बारे में बताएं तो मित्र आत्मविश्वास यानी सेल्फ कॉन्फिडेंस को बढ़ाने के लिए हम को अपने जीवन में अपने लक्ष्यों को निर्धारित करना चाहिए और किसी भी लक्ष्य को छोटा या बड़ा नहीं समझना चाहिए ना ही किसी लक्ष्य को प्राप्त करने के प्रति अपनी पराजित देखनी चाहिए क्योंकि अक्सर ऐसा होता है कि जब हम किसी लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास करते हैं और उस प्रयास में सफल नहीं हो पाते तो वह असफलता हमारे अंदर एक उदासी या हीन भावना को जागृत करने लगती है तो हमको उस हीन भावना या उस उदासी को दूर करते हुए उस लक्ष्य को प्राप्त न कर पाने के पीछे के तथ्यों को ढूंढना चाहिए जिन तथ्यों की कमी से हम उस लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाए और उन कमियों और उन तथ्यों को अपने जीवन में पूरा करते हुए हम उन्हें उन लक्ष्यों को प्राप्त करने का प्रयास करें और तब तक प्रयास करते रहे जब तक कि वह लक्ष्य हमको मिल ना जाए तो इस तरह हम अपने जीवन में अपने जीवन में आत्मविश्वास को बढ़ा पाएंगे और आत्मविश्वास ही व्यक्ति को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है इसके लिए हम को उन व्यक्तियों की जीवनी उन व्यक्तियों के प्रश्न पड़ने चाहिए जिन्होंने विभिन्न असफलताओं को जीवन में महसूस करते हुए भी अंत में सफलता प्राप्त की और उस सफलता के लिए उनका मुख्य आधार उनका आत्मविश्वास ही रहा है इस तरह हम अपने जीवन में आत्मविश्वास को बढ़ा पाएंगे तो मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद
Motar braham prakaash mishr aapaka bol karen par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai aatmavishvaas badhaane ke lie hamen kya karana chaahie evan aatmavishvaas hee logon ke gharon ke baare mein bataen to mitr aatmavishvaas yaanee selph konphidens ko badhaane ke lie ham ko apane jeevan mein apane lakshyon ko nirdhaarit karana chaahie aur kisee bhee lakshy ko chhota ya bada nahin samajhana chaahie na hee kisee lakshy ko praapt karane ke prati apanee paraajit dekhanee chaahie kyonki aksar aisa hota hai ki jab ham kisee lakshy ko praapt karane ka prayaas karate hain aur us prayaas mein saphal nahin ho paate to vah asaphalata hamaare andar ek udaasee ya heen bhaavana ko jaagrt karane lagatee hai to hamako us heen bhaavana ya us udaasee ko door karate hue us lakshy ko praapt na kar paane ke peechhe ke tathyon ko dhoondhana chaahie jin tathyon kee kamee se ham us lakshy ko praapt nahin kar pae aur un kamiyon aur un tathyon ko apane jeevan mein poora karate hue ham unhen un lakshyon ko praapt karane ka prayaas karen aur tab tak prayaas karate rahe jab tak ki vah lakshy hamako mil na jae to is tarah ham apane jeevan mein apane jeevan mein aatmavishvaas ko badha paenge aur aatmavishvaas hee vyakti ko aage badhane ke lie prerit karata hai isake lie ham ko un vyaktiyon kee jeevanee un vyaktiyon ke prashn padane chaahie jinhonne vibhinn asaphalataon ko jeevan mein mahasoos karate hue bhee ant mein saphalata praapt kee aur us saphalata ke lie unaka mukhy aadhaar unaka aatmavishvaas hee raha hai is tarah ham apane jeevan mein aatmavishvaas ko badha paenge to mitr yah javaab achchha laga ho to krpaya sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करना चाहिए आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें क्या करें
URL copied to clipboard